tag_img

Threat


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी मुख्यमंत्री की पावर है, कि वह जो भी उसके राज्य में आपराधिक मामले चल रहे हैं| उनको वह चाहे तो वापस ले सकता है| क्योंकि जो मामले होते हैं| और राज्य सरकार के बिहाफ पर चलते हैं| और उसको वापस लेने का ...
जवाब पढ़िये
किसी मुख्यमंत्री की पावर है, कि वह जो भी उसके राज्य में आपराधिक मामले चल रहे हैं| उनको वह चाहे तो वापस ले सकता है| क्योंकि जो मामले होते हैं| और राज्य सरकार के बिहाफ पर चलते हैं| और उसको वापस लेने का कानूनी अधिकार है| लेकिन जिस तरीके से योगी आदित्यनाथ ने अपने खिलाफ जो मुकदमा वापस लिए, वह मेरे विचार से उचित नहीं है| कम से कम उनको जो अपने खिलाफ जो मुकदमें थे| उसके लिए या तो एक कमेटी बनानी चाहिए, जो कि जुडिशल कमेटी हो| कोई हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट का जज उसको हेड करें| या कोई रेस्पेक्टेबले पर्सन हेड करे और वो इसको रिकमेंड करे| तब वोह मामला वापस लेना चाहिए था | मेरे विचार से अपने ही खिलाफ मामले को वापस लेने से ये कोई अच्छा मैसेज डेमोक्रेसी में नहीं जाता है|Kisi Mukhyamantri Ki Power Hai Ki Wah Jo Bhi Uske Rajya Mein Apradhik Mamle Chal Rahe Hain Unko Wah Chahe To Wapas Le Sakta Hai Kyonki Jo Mamle Hote Hain Aur Rajya Sarkar Ke Behalf Par Chalte Hain Aur Usko Wapas Lene Ka Kanooni Adhikaar Hai Lekin Jis Tarike Se Yogi Adityanath Ne Apne Khilaf Jo Mukadma Wapas Liye Wah Mere Vichar Se Uchit Nahi Hai Kum Se Kum Unko Jo Apne Khilaf Jo Mukadamen The Uske Liye Ya To Ek Committee Banani Chahiye Jo Ki Judicial Committee Ho Koi Hi Court Supreme Court Ka Judge Usko Head Karen Ya Koi Respektebale Person Head Kare Aur Vo Isko Rikmend Kare Tab Wooh Maamla Wapas Lena Chahiye Tha | Mere Vichar Se Apne Hi Khilaf Mamle Ko Wapas Lene Se Ye Koi Accha Massage Democracy Mein Nahi Jata Hai
Likes  18  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बीजेपी के सांसद यशोधरा राजे सिंधिया के द्वारा मध्य प्रदेश असेंबली बाइपोलर इलेक्शन से पहले जो कि 24 तारीख को है 24 फरवरी को काफी कंट्रोवर्सियल स्टेटमेंट दिया गया उन्होंने अपने भाषण के दौरान यह कहा कि अ...
जवाब पढ़िये
बीजेपी के सांसद यशोधरा राजे सिंधिया के द्वारा मध्य प्रदेश असेंबली बाइपोलर इलेक्शन से पहले जो कि 24 तारीख को है 24 फरवरी को काफी कंट्रोवर्सियल स्टेटमेंट दिया गया उन्होंने अपने भाषण के दौरान यह कहा कि अगर आप लोग कांग्रेस को वोट देते हैं तो आपको प्रधानमंत्री उज्जवला गैस कनेक्शन के लिए जो भी आप को दिया जाता है जो फायदे वह नहीं मिलेंगे अगर आपको कमल को यानी कि BJP को वोट देते हैं तो यह फायदे आप ले सकते हैं पर यह काफी गलत है क्योंकि आप डायरेक्टली किसी को धमकी नहीं दे सकते हैं कि आप इस इस पार्टी को वोट करो तो आपको यह बेनिफिट मिलेगा अदर वाइज नहीं मिलेगा तो यह चुनाव प्रक्रिया का उल्लंघन भी है और इस चीज से BJP को काफी नुकसान भी होने वाला है क्योंकि वहां के लोग इस बात को ध्यान में तो रखेंगे क्योंकि यह डायरेक्ट धमकी आप अपने भाषण में नहीं बोल सकते हैं हां आप अपने भाषण में अपनी बात को रख सकते हैं अपने मेनिफेस्टो डिस्कस कर सकते हैं आप जो बेनिफिट लोगों को देंगे लेकिन आप उन्हें धमकी भरे लहजे में नहीं बोल सकते कि आप हमें वोट दो नहीं तो आपको यह नहीं मिलेगा वह नहीं मिलेगा तो यह काफी गलत बात है और BJP के सीनियर नेताओं को इस में पहल करनी चाहिए और उनको यह बोलना चाहिए कि यशोधरा राजे सिंधिया लोगों से माफी मांगे या नहीं नहीं तो इस बार चुनाव में वह सीधी मध्य प्रदेश में इस बार बीजेपी पूरे से खतरे में दिख रही है और सीनियर लीडर को इस में इंटरेस्ट करके लोगों को भेजा करना होगा नहीं तो बीजेपी इसका खामियाजा आने वाले इलेक्शन मेंBjp Ke Saansad Yashodhara Raje Sindhiya Ke Dwara Madhya Pradesh Assembly Bipolar Election Se Pehle Jo Ki 24 Tarikh Ko Hai 24 February Ko Kafi Kantrovarsiyal Statement Diya Gaya Unhone Apne Bhashan Ke Dauran Yeh Kaha Ki Agar Aap Log Congress Ko Vote Dete Hain To Aapko Pradhanmantri Ujjavala Gas Connection Ke Liye Jo Bhi Aap Ko Diya Jata Hai Jo Fayde Wah Nahi Milenge Agar Aapko Kamal Ko Yani Ki BJP Ko Vote Dete Hain To Yeh Fayde Aap Le Sakte Hain Par Yeh Kafi Galat Hai Kyonki Aap Directly Kisi Ko Dhamki Nahi De Sakte Hain Ki Aap Is Is Party Ko Vote Karo To Aapko Yeh Benefit Milega Other Wise Nahi Milega To Yeh Chunav Prakriya Ka Ullanghan Bhi Hai Aur Is Cheez Se BJP Ko Kafi Nuksan Bhi Hone Wala Hai Kyonki Wahan Ke Log Is Baat Ko Dhyan Mein To Rakhenge Kyonki Yeh Direct Dhamki Aap Apne Bhashan Mein Nahi Bol Sakte Hain Haan Aap Apne Bhashan Mein Apni Baat Ko Rakh Sakte Hain Apne Menifesto Discuss Kar Sakte Hain Aap Jo Benefit Logon Ko Denge Lekin Aap Unhen Dhamki Bhare Lahaje Mein Nahi Bol Sakte Ki Aap Hume Vote Do Nahi To Aapko Yeh Nahi Milega Wah Nahi Milega To Yeh Kafi Galat Baat Hai Aur BJP Ke Senior Netaon Ko Is Mein Pahal Karni Chahiye Aur Unko Yeh Bolna Chahiye Ki Yashodhara Raje Sindhiya Logon Se Maafi Mange Ya Nahi Nahi To Is Baar Chunav Mein Wah Sidhi Madhya Pradesh Mein Is Baar Bjp Poore Se Khatre Mein Dikh Rahi Hai Aur Senior Leader Ko Is Mein Interest Karke Logon Ko Bheja Karna Hoga Nahi To Bjp Iska Khamiyaja Aane Wale Election Mein
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसे इतनी प्रगतिशील चश्मे से देखने की जरूरत नहीं है हिंदू खतरे में है इस विषय से बेचैन होने की कोई आवश्यकता नहीं जरा कभी यह भी प्रश्न उठाइए इस्लाम खतरे में है के नाम पर छोटे-छोटे बच्चों को आत्मघाती दस...
जवाब पढ़िये
इसे इतनी प्रगतिशील चश्मे से देखने की जरूरत नहीं है हिंदू खतरे में है इस विषय से बेचैन होने की कोई आवश्यकता नहीं जरा कभी यह भी प्रश्न उठाइए इस्लाम खतरे में है के नाम पर छोटे-छोटे बच्चों को आत्मघाती दस्ता बनाना हाथ में खतरनाक हथियार देना निर्दोष लोगों की हत्या कर देना धर्म के नाम पर पूछ पूछ पर नैरोबी के मॉल में मुसलमानों को छोड़ना और अन्य धर्म वालों की हत्या कर देना वह नजर नहीं आता हिंदू खतरे में है अगर किसी ने कह दिया तो उसमें ज्यादा बुराई नजर आती ज्यादा कमी नजर आती है उसमें राजनीति दिखाई देती है अरे इस देश का बहुत बड़ा हिंदू जनमानस कश्मीर से 90 के दशक में मारकर भगा दिया गया कत्लेआम कर के भगा दिया गया वह खतरा नहीं नजर आता आसाम में हिंदुओं के ऊपर कत्लेआम हुआ बांग्लादेशियों के द्वारा को खतरा नहीं नजर आता गोवा में हिंदुओं को मारा गया वह नजर नहीं आता अरे हिंदू तो 13 साल से खतरे में है इस देश में और किसी तरह से उसका आत्म स्वाभिमान जागृत हुआ और धीरे-धीरे स्वतंत्रता के बाद पहली बार हिंदुओं ने अपनी पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई और हिंदुत्व कई जो मूल मूल श्रावस्ती है जो मूल मंत्र है सबको साथ लेकर के चलना उसी मंत्र पर यह सरकार काम कर रही है किसी प्रकार का कोई भेदभाव किए बगैर यह नजर नहीं आता हिंदू खतरे में है तो इसका प्रशिक्षण बनाना कि यह 2014 से ही शुरू हो गया है यह ठीक नहीं है तेरा बैलेंस तरीके से सोचने की आवश्यकता है सरकार बिना किसी भेदभाव के काम कर रही है और उसको काम करने दिया जाए इस देश में दंगों का व्यापार चलता था वह नजर नहीं आ रहा है हिंदू ही मारे जाते थे चाहे वह कहीं का दंगा हिंदू पहले कभी दंगा करने नहीं किया हैIse Itni Pragatisheel Chashme Se Dekhne Ki Zaroorat Nahi Hai Hindu Khatre Mein Hai Is Vishay Se Bechain Hone Ki Koi Avashyakta Nahi Jara Kabhi Yeh Bhi Prashna Uthaie Islam Khatre Mein Hai Ke Naam Par Chote Chote Bacchon Ko Aatmghaati Dasta Banana Hath Mein Khataranaak Hathiyar Dena Nirdosh Logon Ki Hatya Kar Dena Dharm Ke Naam Par Pooch Pooch Par Nairobi Ke Mall Mein Musalmano Ko Chodna Aur Anya Dharm Walon Ki Hatya Kar Dena Wah Nazar Nahi Aata Hindu Khatre Mein Hai Agar Kisi Ne Keh Diya To Usamen Zyada Burayi Nazar Aati Zyada Kami Nazar Aati Hai Usamen Rajneeti Dikhai Deti Hai Arre Is Desh Ka Bahut Bada Hindu Janmanas Kashmir Se 90 Ke Dashak Mein Marakar Bhaga Diya Gaya Katleam Kar Ke Bhaga Diya Gaya Wah Khatra Nahi Nazar Aata Aassam Mein Hinduon Ke Upar Katleam Hua Baanglaadeshiyon Ke Dwara Ko Khatra Nahi Nazar Aata Goa Mein Hinduon Ko Mara Gaya Wah Nazar Nahi Aata Arre Hindu To 13 Saal Se Khatre Mein Hai Is Desh Mein Aur Kisi Tarah Se Uska Aatm Swabhiman Jaagarrit Hua Aur Dhire Dhire Svatantrata Ke Baad Pehli Baar Hinduon Ne Apni Poorn Bahumat Ki Sarkar Banai Aur Hindutva Kai Jo Mul Mul Shravasti Hai Jo Mul Mantra Hai Sabko Saath Lekar Ke Chalna Ussi Mantra Par Yeh Sarkar Kaam Kar Rahi Hai Kisi Prakar Ka Koi Bhedbhav Kiye Bagair Yeh Nazar Nahi Aata Hindu Khatre Mein Hai To Iska Prashikshan Banana Ki Yeh 2014 Se Hi Shuru Ho Gaya Hai Yeh Theek Nahi Hai Tera Balance Tarike Se Sochne Ki Avashyakta Hai Sarkar Bina Kisi Bhedbhav Ke Kaam Kar Rahi Hai Aur Usko Kaam Karne Diya Jaye Is Desh Mein Dango Ka Vyapar Chalta Tha Wah Nazar Nahi Aa Raha Hai Hindu Hi Maare Jaate The Chahe Wah Kahin Ka Danga Hindu Pehle Kabhi Danga Karne Nahi Kiya Hai
Likes  48  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रसून जोशी जी का जयपुर साहित्य उत्सव में ना जाना करणी सेना का कारण नहीं है, उनका कारण यह है कि वह इस समय एक पद पर विराजमान है और उस पद की गरिमा रखने के लिए उन्हें वहां नहीं जाना चाहिए था| सबसे बड़ी ब...
जवाब पढ़िये
प्रसून जोशी जी का जयपुर साहित्य उत्सव में ना जाना करणी सेना का कारण नहीं है, उनका कारण यह है कि वह इस समय एक पद पर विराजमान है और उस पद की गरिमा रखने के लिए उन्हें वहां नहीं जाना चाहिए था| सबसे बड़ी बात यह है कि अगर कोई आदमी अगर आप को रोकता है तो इसका मतलब यह नहीं है कि अगर आप वो चीज़ फॉलो करें, तो उसी व्यक्ति के लिए किया है| करणी सेना तो आपको पता ही है क्या कर रही है लेकिन प्रसून जोशी जी बहुत इंटेलेक्चुअल आदमी है, बुद्धिमान व्यक्ति हैं, उन्हें पता है कि किस जगह जाकर उनसे किस तरह के सवाल पूछे जा सकते हैं? अगर वहां पर जाते जयपुर लिटरेचर में तो उनसे दो सवाल पूछे जाते कि उन्होंने क्यों पास की? पास कर दी तो उसके बाद ऐसा क्यों हो रहा है? या जिस तरह की डिप्लोमेटिक जवाब देने के लिए वह तैयार अभी थे नहीं इसलिए वहां नहीं गए| इंसान कभी न कभी अपनी लाइफ में थर्ड फ्रंट से निकलने की कोशिश करता है, तो प्रसून जोशी जी ने भी यही कोशिश की है| इसमें कोई बड़ी बात नहीं है और ना ही इतनी छोटी सी बात को माइंड करना चाहिए| नहीं गए तो नहीं गए, कोई दिक्कत नहीं है और बाकी जो साहित्यकार है या महान व्यक्ति है, नेता है, अभिनेता है, अच्छे-अच्छे लोग गए हुए वहां पर लिटरेचर में तो उनका भाषण भी काफी इंजॉय करने लायक रहा| तो मुझे लगता नहीं है प्रसून जोशी जी को आप लोगो को इस तरह के बारे में सोचना चाहिए कि करणी सेना से डर गए हैं, ऐसा कुछ नहीं है| हमारे संविधान ने हमें कॉफी राइट्स दे रखे है और वह जिस तरह के पद पर बैठे हैं, वहां चाहे करणी सेना आ जाए, चाहे कोई और नेता आ जाए उन्हें पद से हटाना और उन्हें किसी भी तरह की क्षति पहुंचाना लगभग असंभव है, धन्यवाद|Prasoon Joshi Ji Ka Jaipur Sahitya Utsav Mein Na Jana Karni Sena Ka Kaaran Nahi Hai Unka Kaaran Yeh Hai Ki Wah Is Samay Ek Pad Par Virajman Hai Aur Us Pad Ki Garima Rakhne Ke Liye Unhen Wahan Nahi Jana Chahiye Tha Sabse Badi Baat Yeh Hai Ki Agar Koi Aadmi Agar Aap Ko Rokta Hai To Iska Matlab Yeh Nahi Hai Ki Agar Aap Vo Cheez Follow Karen To Ussi Vyakti Ke Liye Kiya Hai Karni Sena To Aapko Pata Hi Hai Kya Kar Rahi Hai Lekin Prasoon Joshi Ji Bahut Intelekchual Aadmi Hai Buddhimaan Vyakti Hain Unhen Pata Hai Ki Kis Jagah Jaakar Unse Kis Tarah Ke Sawal Puche Ja Sakte Hain Agar Wahan Par Jaate Jaipur Literature Mein To Unse Do Sawal Puche Jaate Ki Unhone Kyun Paas Ki Paas Kar Di To Uske Baad Aisa Kyun Ho Raha Hai Ya Jis Tarah Ki Diplometik Jawab Dene Ke Liye Wah Taiyaar Abhi The Nahi Isliye Wahan Nahi Gaye Insaan Kabhi N Kabhi Apni Life Mein Third Frant Se Nikalne Ki Koshish Karta Hai To Prasoon Joshi Ji Ne Bhi Yahi Koshish Ki Hai Isme Koi Badi Baat Nahi Hai Aur Na Hi Itni Choti Si Baat Ko Mind Karna Chahiye Nahi Gaye To Nahi Gaye Koi Dikkat Nahi Hai Aur Baki Jo Sahityakaar Hai Ya Mahaan Vyakti Hai Neta Hai Abhineta Hai Acche Acche Log Gaye Hue Wahan Par Literature Mein To Unka Bhashan Bhi Kafi Enjoy Karne Layak Raha To Mujhe Lagta Nahi Hai Prasoon Joshi Ji Ko Aap Logo Ko Is Tarah Ke Baare Mein Sochna Chahiye Ki Karni Sena Se Dar Gaye Hain Aisa Kuch Nahi Hai Hamare Samvidhan Ne Hume Coffee Rights De Rakhe Hai Aur Wah Jis Tarah Ke Pad Par Baithey Hain Wahan Chahe Karni Sena Aa Jaye Chahe Koi Aur Neta Aa Jaye Unhen Pad Se Hatana Aur Unhen Kisi Bhi Tarah Ki Kshati Pahunchana Lagbhag Asambhav Hai Dhanyavad
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह भारतीय लोकतंत्र में हॉर्स ट्रेडिंग का खतरा जो है वह पहले से बना हुआ था लेकिन आज की तारीख में वह लगातार बढ़ता जा रहा पर देने के कारण जुड़े हुए हैं और एक पार्टी जो है वह अपनी सरकार बनाना चाहती है हर ...
जवाब पढ़िये
यह भारतीय लोकतंत्र में हॉर्स ट्रेडिंग का खतरा जो है वह पहले से बना हुआ था लेकिन आज की तारीख में वह लगातार बढ़ता जा रहा पर देने के कारण जुड़े हुए हैं और एक पार्टी जो है वह अपनी सरकार बनाना चाहती है हर जगह अपनी सरकार बनाने के लिए मूल नियम करें सब कुछ रंग देती है और एन केन प्रकारेण केवल हर कोशिश करती है सरकार बनाने की दुकानें हैं पैसे और लालच के दम पर जो है वह किया जा सकता है अगर आप किसी को पैसा बुला लेते हैं तो हर कोई आपकी मुट्ठी में आ सकता है यह बात काफी हद तक साथ है तो पैसा की कमी नहीं है राजनीतिक पार्टियों पर नियम-कायदों की कमी हमारे देश में उनके इंप्लीमेंटेशन की कमी हमारे देश में यह दौर पर ऐसी चीजें लगातार बढ़ रही है भर्ती जाएंगी और जिस प्रकार से राज नीतियों का जो प्रभाव पड़ा हुआ है राजनीतिक पार्टियों को सरकारी संस्थाओं पर उससे और ज्यादा नुकसान पहुंच रहा है क्योंकि गवर्नर यदि 15 दिन के पास वक्त दे रहे हैं कर्नाटक में खुद लाइसेंस दे रहे हैं कि आखरी पर्व की चोर हमें तो बता कर डाला कर दीजिएगा प्यारा पकड़ा गयाYeh Bharatiya Loktantra Mein Horse Trading Ka Khatra Jo Hai Wah Pehle Se Bana Hua Tha Lekin Aaj Ki Tarikh Mein Wah Lagatar Badhta Ja Raha Par Dene Ke Kaaran Jude Huye Hain Aur Ek Party Jo Hai Wah Apni Sarkar Banana Chahti Hai Har Jagah Apni Sarkar Banane Ke Liye Mul Niyam Karen Sab Kuch Rang Deti Hai Aur En Cane Prakaren Kewal Har Koshish Karti Hai Sarkar Banane Ki Dukane Hain Paise Aur Lalach Ke Dum Par Jo Hai Wah Kiya Ja Sakta Hai Agar Aap Kisi Ko Paisa Bula Lete Hain To Har Koi Aapki Mutthi Mein Aa Sakta Hai Yeh Baat Kafi Had Tak Saath Hai To Paisa Ki Kami Nahi Hai Raajnitik Partiyon Par Niyam Kayadon Ki Kami Hamare Desh Mein Unke Implementation Ki Kami Hamare Desh Mein Yeh Daur Par Aisi Cheezen Lagatar Badh Rahi Hai Bharti Jaengi Aur Jis Prakar Se Raj Nitiyon Ka Jo Prabhav Pada Hua Hai Raajnitik Partiyon Ko Sarkari Sasthaon Par Usse Aur Zyada Nuksan Pahunch Raha Hai Kyonki Governor Yadi 15 Din Ke Paas Waqt De Rahe Hain Karnataka Mein Khud License De Rahe Hain Ki Aakhri Parv Ki Chor Hume To Bata Kar Dala Kar Dijiyega Pyara Pakada Gaya
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं जानता हूं कि अधिकतर लोग इसका उत्तर देंगे कि चीन भारत के लिए बड़ा खतरा है परंतु मैं यह मानता हूं कि पाकिस्तान इस समय भारत के लिए बड़ा खतरा है जिस प्रकार से ट्रंप प्रशासन व अमेरिका ने पाकिस्तान को ह...
जवाब पढ़िये
मैं जानता हूं कि अधिकतर लोग इसका उत्तर देंगे कि चीन भारत के लिए बड़ा खतरा है परंतु मैं यह मानता हूं कि पाकिस्तान इस समय भारत के लिए बड़ा खतरा है जिस प्रकार से ट्रंप प्रशासन व अमेरिका ने पाकिस्तान को हाल ही में फटकार लगाई है तथा उसके ऊपर अनेक राजनीतिक व आर्थिक प्रतिबंध लगाए हैं पाकिस्तान के पास अब खोने के लिए कुछ भी नहीं है वह किस प्रकार से बेलगाम हो कर आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है भारत में आतंकवादियों की घुसपैठ भारत में करा रहा है तथा आतंकवादी गतिविधियों में अपने खुफिया एजेंसी तथा आतंकवादी संगठनों का जोश ने योगदान दिया है पिछले कुछ वर्षों में उससे मुझे लगता है कि पाकिस्तान इस समय भारत के लिए बड़ा खतरा है जिस प्रकार से भारत में घुसपैठ की गतिविधियां बढ़ रही है तथा बॉर्डर पर सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है पाकिस्तान ने व्यापारिक तथा आर्थिक दृष्टि से सब कुछ खोया है पिछले कुछ दशकों में तथा उसके पास एक ही ताकत है वह है उसकी सैन्य शक्ति व सामरिक शक्ति तो उसके बलबूते पर वह चाहता है कि अधिक से अधिक नुकसान भारत को तथा भारतीय सीमा को तथा सैनिकों को पहुंचाया जा सके मुझे लगता है पाकिस्तान इस कारण से भारत के लिए बड़ा खतरा है रही बात चीन की तो मुझे लगता है चीन आर्थिक दृष्टि से संपन्नता की ओर धीरे-धीरे बढ़ रहा है विश्व मंच पर उसकी एक साथ बनी हुई है तथा व उत्साह को खराब किसी भी हालत में नहीं करना चाहता है दक्षिण चीन सागर में जो विवाद हुआ उससे और उससे पहले ही उसकी बहुत ही फजीहत हो चुकी है अंतर्राष्ट्रीय मंच पर वह भारत के सीमा विवाद में तथा घुसपैठ तथा अन्य सीजफायर उल्लंघन करके भारत के लिए और कोई खतरा उत्पन्न नहीं करेगा जिससे कि उसकी अपनी साख के लिए वह अच्छा ना रहे तो मुझे लगता है चीन अपने जो नियंत्रण में रहेगा अपनी लिमिट में रहेगा परंतु पाकिस्तान ऐसा करने का उसे कोई फायदा नुकसान नहीं है तो पाकिस्तान के पास कुछ खोने को नहीं है इसलिए वह भारत के लिए एक बड़ा खतरा है चीन से धन्यवादMain Jaanta Hoon Qi Adhiktar Log Iska Uttar Denge Qi China Bharat K Lie Bada Khatara Hai Parantu Main Yeh Manta Hoon Qi Pakistan Is Samay Bharat K Lie Bada Khatara Hai Jisha Prakar Se Tramp Prashasan Va America Ne Pakistan Co Haal Hea Mein Phatkaar Lagaay Hai Tatha Uske Upar Aneka Raajnetik Va Arthik Pratibandh Lagae Hain Pakistan K Pass Aba Khone K Lie Kuch Bhi Nahin Hai Wah Kiss Prakar Se Belgaum Ho Car Aatankwad Co Badhava They Raha Hai Bharat Mein Aatankvadiyo Ki Ghuspaith Bharat Mein Korra Raha Hai Tatha Aatankwadi Gatividhiyon Mein Apne Khufiya Ajency Tatha Aatankwadi Sangathanon Ka Josh Ne Yogdan Diya Hai Pichle Kuch Varshon Mein Usase Mujhe Lagta Hai Qi Pakistan Is Samay Bharat K Lie Bada Khatara Hai Jisha Prakar Se Bharat Mein Ghuspaith Ki Gatividhiyan Badh Rahi Hai Tatha Border Per Sijfayar Ka Ullanghan Ho Raha Hai Pakistan Ne Wyaparik Tatha Arthik Drishti Se Sub Kuch Khoya Hai Pichle Kuch Dashko Mein Tatha Uske Pass Ek Hea Taakat Hai Wah Hai Uski Sainya Shakti Va Saamrik Shakti To Uske Balbute Per Wah Chahta Hai Qi Adhik Se Adhik Nuksaan Bharat Co Tatha Bhartiya Seema Co Tatha Sainikon Co Pahunchaya Ja Skye Mujhe Lagta Hai Pakistan Is Karan Se Bharat K Lie Bada Khatara Hai Rahi Baat China Ki To Mujhe Lagta Hai China Arthik Drishti Se Sampannata Ki Oar Dheere Dheere Badh Raha Hai Vishwa Munch Per Uski Ek Sathe Bani Hue Hai Tatha Va Utsaah Co Kharab Kisi Bhi Hallet Mein Nahin Krna Chahta Hai Dakshin China Sagar Mein Joe Vivad Hua Usase Aur Usase Pehle Hea Uski Bahut Hea Fajihat Ho Chukii Hai Antarrashtriya Munch Per Wah Bharat K Seema Vivad Mein Tatha Ghuspaith Tatha Anya Sijfayar Ullanghan Karake Bharat K Lie Aur Koi Khatara Utpanna Nahin Karega Jisase Qi Uski Apni Shaakh K Lie Wah Accha Na Rahe To Mujhe Lagta Hai China Apne Joe Niyatran Mein Rahega Apni Limit Mein Rahega Parantu Pakistan Aisa Karne Ka Usse Koi Fayda Nuksaan Nahin Hai To Pakistan K Pass Kuch Khone Co Nahin Hai Eeslie Wah Bharat K Lie Ek Bada Khatara Hai China Se Dhanyvaad
Likes  21  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डी के जैसा कि हम जानते हैं प्रवीण तोगड़िया जी विश्व हिंदू परिषद के एक जाने-माने नेता है उनके इंफ्लेमेटरी स्पीचेस को हमने बहुत बार सुनाएं मैं बस इतना ही कहना चाहूंगा कि तू बड़ी सादड़ी नेता है अगर इस तर...
जवाब पढ़िये
डी के जैसा कि हम जानते हैं प्रवीण तोगड़िया जी विश्व हिंदू परिषद के एक जाने-माने नेता है उनके इंफ्लेमेटरी स्पीचेस को हमने बहुत बार सुनाएं मैं बस इतना ही कहना चाहूंगा कि तू बड़ी सादड़ी नेता है अगर इस तरह की कोई बात होती है अगर हो सकता है कि भारतीय जनता पार्टी में तो उनकी कुछ मतभेद होते हैं तो मुझे लगता है कि उनको आपस में सो जाना चाहिए बाहर नहीं उसको या मीडिया में उसको लेकर नहीं जाना चाहिए दूसरी चीज में कहूंगा बहुत बड़े व्यक्ति है सम्मानीय व्यक्ति हैं अगर किसी तरह का महत्व देते तो आपस में समझाएं बजाएं मीडिया में जाने का दूसरा मैं कहना चाहूंगा कि क्या प्रवीण तोगड़िया हूं या विश्व हिंदू परिषद हुए भारतीय जनता पार्टी rss विश्व में बजरंग दल के सभी एक पेड़ की सारी शाखाएं हैं तो मुझे लगता है कि पेट की सारी शाखाएं अगर सारी शाखाएं आपस में इस तरह से लड़ेंगे तो मुझे लगता है खाली पेट जो होगा पेट को सफ़र करना पड़ेगा पेड़ को मुसीबत देखनी पड़ी ओपन क्या है कि वह हिंदू जिसको सफर करना पड़ेगा तो मुझे लगता है कि आपस में इस तरह की दिक्कतें होती तो आपस में बैठकर सो जाएं उसको बहाना लेकर जाएंD Ke Jaisa Ki Hum Jante Hain Praveen Togariya Ji Vishwa Hindu Parishad Ke Ek Jaane Mane Neta Hai Unke Imflemetri Spiches Ko Humne Bahut Baar Sunaen Main Bus Itna Hi Kehna Chahunga Ki Tu Badi Saddi Neta Hai Agar Is Tarah Ki Koi Baat Hoti Hai Agar Ho Sakta Hai Ki Bhartiya Janta Party Mein To Unki Kuch Matbhed Hote Hain To Mujhe Lagta Hai Ki Unko Aapas Mein So Jana Chahiye Bahar Nahi Usko Ya Media Mein Usko Lekar Nahi Jana Chahiye Dusri Cheez Mein Kahunga Bahut Bade Vyakti Hai Sammaniya Vyakti Hain Agar Kisi Tarah Ka Mahatva Dete To Aapas Mein Samjhayen Bajaen Media Mein Jaane Ka Doosra Main Kehna Chahunga Ki Kya Praveen Togariya Hoon Ya Vishwa Hindu Parishad Hue Bhartiya Janta Party Rss Vishwa Mein Bajrang Dal Ke Sabhi Ek Ped Ki Saree Sakhayen Hain To Mujhe Lagta Hai Ki Pet Ki Saree Sakhayen Agar Saree Sakhayen Aapas Mein Is Tarah Se Ladenge To Mujhe Lagta Hai Khaali Pet Jo Hoga Pet Ko Safar Karna Padega Ped Ko Musibat Dekhani Padi Open Kya Hai Ki Wah Hindu Jisko Safar Karna Padega To Mujhe Lagta Hai Ki Aapas Mein Is Tarah Ki Dikkaten Hoti To Aapas Mein Baithkar So Jayen Usko Bahana Lekar Jayen
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आर.एस.एस यानी कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, जो के लोगों के भले के लिए काम करता है | जब भी किसी को किसी तरह की आपत्ति होती है, किसी भी उस गरीब इंसान को या किसी भी आम आदमी को तो वह उस जगह पर पहुंच जाते है...
जवाब पढ़िये
आर.एस.एस यानी कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, जो के लोगों के भले के लिए काम करता है | जब भी किसी को किसी तरह की आपत्ति होती है, किसी भी उस गरीब इंसान को या किसी भी आम आदमी को तो वह उस जगह पर पहुंच जाते हैं | और कहीं पर अगर किसी तरह की नेचुरल कैलेमिटी याने की अर्थक्वेक, सुनामी या फिर कुछ ऐसा आता है तो वहां पर भी आर.एस.एस के लोग जाकर लोगों की सहायता करते हैं, अपना पूरा योगदान देते हैं, उनकी जिंदगी को वापस नॉर्मल बनाने के लिए | तो अगर वह लोग हमारे देश में लोगों की सहायता कर रहे हैं, तो मुझे नहीं लगता वह किसी भी तरह से हमारे देश के लिए खतरा हो सकते हैं| यह बात जरूर है कि कुछ लोग कहते हैं कि आर.एस.एस चाहता है कि देश को हिंदुत्व देश बनाया जाए और सारे लोग हिंदू धर्म का ही पालन करें | परंतु एक चीज हमे यह भी देखनी होगी कि जो लोग कहते हैं कि वह हमें देश को हिंदू बनाया, हिंदुत्व देश बनाया जा, वह कुछ लोग ही हैं | बाकी के जितने लोग आर.एस.एस में पूरे देश में फैले हुए हैं वह सब लोग कहीं ना कहीं किसी न किसी तरीके दूसरे लोगों की सहायता ही करते हैं और आर.एस.एस बहुत ही रेस्पेक्टेड संस्था बन चुकी है, संघ बन चुका है हमारे देश के लिए जिस पर लोग विश्वास करने लगे हैं तो मुझे नहीं लगता कि आर.एस.एस किसी भी तरह से हमारे देश के लिए खतरा है| R S S Yani Ki Rashtriya Svayansevak Sangh Jo Ke Logon Ke Bhale Ke Liye Kaam Karta Hai | Jab Bhi Kisi Ko Kisi Tarah Ki Apatti Hoti Hai Kisi Bhi Us Garib Insaan Ko Ya Kisi Bhi Aam Aadmi Ko To Wah Us Jagah Par Pahunch Jaate Hain | Aur Kahin Par Agar Kisi Tarah Ki Natural Kailemiti Yaane Ki Earthquake Tsunami Ya Phir Kuch Aisa Aata Hai To Wahan Par Bhi R S S Ke Log Jaakar Logon Ki Sahaayata Karte Hain Apna Pura Yogdan Dete Hain Unki Zindagi Ko Wapas Normal Banane Ke Liye | To Agar Wah Log Hamare Desh Mein Logon Ki Sahaayata Kar Rahe Hain To Mujhe Nahi Lagta Wah Kisi Bhi Tarah Se Hamare Desh Ke Liye Khatra Ho Sakte Hain Yeh Baat Jarur Hai Ki Kuch Log Kehte Hain Ki R S S Chahta Hai Ki Desh Ko Hindutva Desh Banaya Jaye Aur Sare Log Hindu Dharm Ka Hi Palan Karen | Parantu Ek Cheez Hume Yeh Bhi Dekhani Hogi Ki Jo Log Kehte Hain Ki Wah Hume Desh Ko Hindu Banaya Hindutva Desh Banaya Ja Wah Kuch Log Hi Hain | Baki Ke Jitne Log R S S Mein Poore Desh Mein Faile Hue Hain Wah Sab Log Kahin Na Kahin Kisi N Kisi Tarike Dusre Logon Ki Sahaayata Hi Karte Hain Aur R S S Bahut Hi Respekted Sanstha Ban Chuki Hai Sangh Ban Chuka Hai Hamare Desh Ke Liye Jis Par Log Vishwas Karne Lage Hain To Mujhe Nahi Lagta Ki R S S Kisi Bhi Tarah Se Hamare Desh Ke Liye Khatra Hai
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विदाउट न्यू धमकी दी है कि मुझे 93 मुंबई में जो विस्फोट हुआ था उससे बड़ा हमला करेंगे तो सरकार को तुरंत ही एक संदेश देना चाहिए इससे पहले कि तुरंत अनेक नागरिक अपनी जान गवा है...
जवाब पढ़िये
विदाउट न्यू धमकी दी है कि मुझे 93 मुंबई में जो विस्फोट हुआ था उससे बड़ा हमला करेंगे तो सरकार को तुरंत ही एक संदेश देना चाहिए इससे पहले कि तुरंत अनेक नागरिक अपनी जान गवा हैWithout New Dhamki Di Hai Ki Mujhe 93 Mumbai Mein Jo Visphot Hua Tha Usse Bada Hamla Karenge To Sarkar Ko Turant Hi Ek Sandesh Dena Chahiye Isse Pehle Ki Turant Anek Nagarik Apni Jaan Gawa Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल रोहिंग्या का भारत में आज से नहीं मिलना चाहिए और हमारे देश के लिए खतरा किस तरह मैं बताता हूं क्योंकि उनके मुसलमान है जो इस्लामी किताब कुरान को मानते हो कुरान में हम लोग को काफिर कहा गया है इ...
जवाब पढ़िये
जी बिल्कुल रोहिंग्या का भारत में आज से नहीं मिलना चाहिए और हमारे देश के लिए खतरा किस तरह मैं बताता हूं क्योंकि उनके मुसलमान है जो इस्लामी किताब कुरान को मानते हो कुरान में हम लोग को काफिर कहा गया है इसमें धर्म की कोई बात नहीं कही है और जहां भी स्थान के जो उन्हें आई है जहां भी जाते अपना वर्चस्व स्थापित करने की कोशिश करते हैं तो हमारे भारत देश के लिए खतरा हैG Bilkool Rohingya Ka Bharat Mein Aj Se Nahin Melina Chahie Aur Hamare Desh K Lie Khatara Kiss Turha Main Batata Hoon Kyonki Unke Musalman Hai Joe Islami Kitab Quran Co Maunte Ho Quran Mein Hum Log Co Kafir Kaha Gaya Hai Ismein Dharm Ki Koi Baat Nahin Kahii Hai Aur Jhan Bhi Sthan K Joe Unhein I Hai Jhan Bhi Jaate Apna Verchasva Sthapit Karne Ki Koshish Karte Hain To Hamare Bharat Desh K Lie Khatara Hai
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमने देखी है क्या तू गलत होगा कि बांग्लादेश देवी धमकी मिल रही हमारी कंट्री को मैसेज क्यों क्या होता है कि उसकी बात करते हैं पर बात करते हैं तो एक ही पिक्चर pk टंकी खत्म हो जाती है आपका पॉलिटिकल ट्रेन ...
जवाब पढ़िये
हमने देखी है क्या तू गलत होगा कि बांग्लादेश देवी धमकी मिल रही हमारी कंट्री को मैसेज क्यों क्या होता है कि उसकी बात करते हैं पर बात करते हैं तो एक ही पिक्चर pk टंकी खत्म हो जाती है आपका पॉलिटिकल ट्रेन स्टार्ट हो जाते हैं तो इंडियन पॉलिटिक्स पॉलिटिक्स चाइना से उनके पैर में छेद हो रही है इंडिया के साथ इंडियन नो डाउट है उनकी हेल्प करिए उनके साथ सेट होने में जब वह उनके डिफरेंट से ले कर रहे हैं जो सोचे थे कि उनकी एक्सपोर्ट पॉलिसी स्कोर वनडे में 2 मिनट करने की कोशिश किया उनकी फॉरेन पॉलिसी कोई पॉलिसी स्कोर इंडियन डाउनलोड करने की कोशिश करिए जिसमें कि उनको दूसरे से हेल्पलाइन रही है तो अपने वजूद को बचाने के लिए अपने अस्तित्व को बचाने के लिए आपकी कंट्री को बंद करने के लिए कुछ पॉलिटिकल रिजल्ट कुछ क्वालिटी को डिलीट की वजह से हो ऐसा कुछ बोल देते हैंHumne Dekhi Hai Kya Tu Galat Hoga Ki Bangladesh Devi Dhamki Mil Rahi Hamari Country Ko Massage Kyun Kya Hota Hai Ki Uski Baat Karte Hain Par Baat Karte Hain To Ek Hi Picture Pk Tanki Khatam Ho Jati Hai Aapka Political Train Start Ho Jaate Hain To Indian Politics Politics China Se Unke Pair Mein Chhed Ho Rahi Hai India Ke Saath Indian No Doubt Hai Unki Help Kariye Unke Saath Set Hone Mein Jab Wah Unke Different Se Le Kar Rahe Hain Jo Soche The Ki Unki Export Policy Score Oneday Mein 2 Minute Karne Ki Koshish Kiya Unki Foreign Policy Koi Policy Score Indian Download Karne Ki Koshish Kariye Jisme Ki Unko Dusre Se Helpline Rahi Hai To Apne Vajud Ko Bachane Ke Liye Apne Astitv Ko Bachane Ke Liye Aapki Country Ko Band Karne Ke Liye Kuch Political Result Kuch Quality Ko Delete Ki Wajah Se Ho Aisa Kuch Bol Dete Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी मुझे लगता है कि छोटी मोटी लड़ाइयां होना तो हमारे देश में आम बात हैं और ऐसी धमकियां भी रोज ही दी जाती हैं तो हर छोटी धमकी पर अगर इसे सजा होने लगी तो सब लोग ही जेल में बैठ जाएंगे और दूसरी तरफ में य...
जवाब पढ़िये
देखी मुझे लगता है कि छोटी मोटी लड़ाइयां होना तो हमारे देश में आम बात हैं और ऐसी धमकियां भी रोज ही दी जाती हैं तो हर छोटी धमकी पर अगर इसे सजा होने लगी तो सब लोग ही जेल में बैठ जाएंगे और दूसरी तरफ में यह भी कहना चाहूंगी एक उदाहरण के साथ कैसे पद्मावती मूवी जो है उसके रिलीज को लेकर इतने ज्यादा प्रदर्शन हो रहा है और धमकी दी गई है दीपिका पादुकोण के संजय लीला भंसाली के सिर काटने की तो ऐसे मामलों में मुझे लगा कि छोटी मोटी लड़ाई उनसे ज्यादा ध्यान ना देखूं तो ऐसे बड़े मामले हैं बड़े से मेरा मतलब सिर्फ और फेमस लोगों से नहीं है बल्कि ऐसे की लड़ाई बढ़ चुकी है लड़ाई बहुत ज्यादा है तो सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि ऐसे धमकी देने देने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई हो कि हम नहीं समझ सकते कि जो इंसान धमकी दे रहा है वह सेक्स मतलब आप डराने के लिए कर रहा है कि वह सच में मैं सटा मटाक कर सकता है तो अगर आज जिसके जिसको लेकर यह धमकी दी गई है जिस इंसान को एकदम से दिख रही है उससे पुलिस के पास जाना चाहिए और बोलना चाहिए कि उसकी जान को खतरा है और ऐसे ऐसे लोगों ने धमकी दी है और पुलिस को तक उस इंसान को पकड़कर उसे जरूर छोटी मोटी है बड़ी उसके उसके हिसाब से उस उस सिचुएशन की गंभीरता के हिसाब से उसे वह सजा देनी चाहिए ताकि सब धमकी धमकी अच्छाई में ना बदल जाएDekhi Mujhe Lagta Hai Ki Choti Moti Ladaiyan Hona To Hamare Desh Mein Aam Baat Hain Aur Aisi Dhamakiyan Bhi Roj Hi Di Jati Hain To Har Choti Dhamki Par Agar Ise Saja Hone Lagi To Sab Log Hi Jail Mein Baith Jaenge Aur Dusri Taraf Mein Yeh Bhi Kehna Chahungi Ek Udaharan Ke Saath Kaise Padmavati Movie Jo Hai Uske Release Ko Lekar Itne Jyada Pradarshan Ho Raha Hai Aur Dhamki Di Gayi Hai Deepika Padukone Ke Sanjay Leela Bhansali Ke Sir Katne Ki To Aise Mamlon Mein Mujhe Laga Ki Choti Moti Ladai Unse Jyada Dhyan Na Dekhu To Aise Bade Mamle Hain Bade Se Mera Matlab Sirf Aur Famous Logon Se Nahi Hai Balki Aise Ki Ladai Badh Chuki Hai Ladai Bahut Jyada Hai To Sarkar Ko Yeh Sunishchit Karna Chahiye Ki Aise Dhamki Dene Dene Wale Logon Par Sakht Karyawahi Ho Ki Hum Nahi Samajh Sakte Ki Jo Insaan Dhamki De Raha Hai Wah Sex Matlab Aap Darane Ke Liye Kar Raha Hai Ki Wah Sach Mein Main Sata Matak Kar Sakta Hai To Agar Aaj Jiske Jisko Lekar Yeh Dhamki Di Gayi Hai Jis Insaan Ko Ekdam Se Dikh Rahi Hai Usse Police Ke Paas Jana Chahiye Aur Bolna Chahiye Ki Uski Jaan Ko Khatra Hai Aur Aise Aise Logon Ne Dhamki Di Hai Aur Police Ko Tak Us Insaan Ko Pakadkar Use Jarur Choti Moti Hai Badi Uske Uske Hisab Se Us Us Situation Ki Gambhirta Ke Hisab Se Use Wah Saja Deni Chahiye Taki Sab Dhamki Dhamki Acchai Mein Na Badal Jaye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोकसभा में कांग्रेस की तो नेता है मल्लिकार्जुन खरगे उन्हें नहीं अभी खुलासा किया उनको जय फोन का मतलब धमकी आ रहा है धमकी वर्क फोन कौन सा रे तू प्ले स्टोर की कोई भी चीज अगर हो रही है तो वह कानूनन जुर्म ह...
जवाब पढ़िये
लोकसभा में कांग्रेस की तो नेता है मल्लिकार्जुन खरगे उन्हें नहीं अभी खुलासा किया उनको जय फोन का मतलब धमकी आ रहा है धमकी वर्क फोन कौन सा रे तू प्ले स्टोर की कोई भी चीज अगर हो रही है तो वह कानूनन जुर्म है किसी को नाराज़ करना भाई फोन जो मैं तो बिल्कुल इतने बड़े लीडर से एक दूसरे की चीजें हो रही है तो सबसे पहले गवर्नमेंट कुछ की जांच करनी चाहिए पर id पर से ताकि कोई नुकसान ना हो DJ स्कोर आज खाने में अपना कंप्लेंट दर्ज कराया दिल्ली की ओर से अच्छी राइटिंग और जल्दी से जल्दी + इस मामले को सुलझाया और जिस सबसे भी यह धमकी आ रहा है फोन कॉल्स को उन को कड़ी से कड़ी सजा मिलेLok Sabha Mein Congress Ki To Neta Hai Mallikarjun Kharage Unhen Nahi Abhi Khulasa Kiya Unko Jai Phone Ka Matlab Dhamki Aa Raha Hai Dhamki Work Phone Kaun Sa Ray Tu Play Store Ki Koi Bhi Cheez Agar Ho Rahi Hai To Wah Kanunan Jurm Hai Kisi Ko Naraz Karna Bhai Phone Jo Main To Bilkul Itne Bade Leader Se Ek Dusre Ki Cheezen Ho Rahi Hai To Sabse Pehle Government Kuch Ki Janch Karni Chahiye Par Id Par Se Taki Koi Nuksan Na Ho DJ Score Aaj Khane Mein Apna Complaint Darj Karaya Delhi Ki Oar Se Acchi Writing Aur Jaldi Se Jaldi + Is Mamle Ko Sulajhaya Aur Jis Sabse Bhi Yeh Dhamki Aa Raha Hai Phone Calls Ko Un Ko Kadi Se Kadi Saja Mile
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

DJ ट्रंप अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा है या नहीं है यह मुझे लगता है कि शायद वहां की जनता बहुत अच्छे से अपनी राय दे सकती है लेकिन हां वह एक ऐसे नेता है जो विवादों में रहे हैं इसके अलावा ...
जवाब पढ़िये
DJ ट्रंप अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा है या नहीं है यह मुझे लगता है कि शायद वहां की जनता बहुत अच्छे से अपनी राय दे सकती है लेकिन हां वह एक ऐसे नेता है जो विवादों में रहे हैं इसके अलावा सुने वह जनता के द्वारा ही गए हैं तो इस प्रकार की बात करना मुझे नहीं लगता कि ठीक होगा उसके दूसरी इसके अलावा दूसरी बात भी है कि जो व्यक्ति इतनी बड़ी पोजीशन पर होता है वहां का अमेरिका का प्रेसिडेंट है तो हमेशा देश के भले के बारे में सोचेगा देश की बुराई के बारे में और देश के बड़े के बारे में कभी नहीं सोच सकता चाहे कोई भी हो अंदर से कितना भी बुरा हो लेकिन देश के बारे में अच्छा ही सोचेगाDJ Tramp American Rashtriya Suraksha Ke Liye Gambhir Khatra Hai Ya Nahi Hai Yeh Mujhe Lagta Hai Ki Shayad Wahan Ki Janta Bahut Acche Se Apni Rai De Sakti Hai Lekin Haan Wah Ek Aise Neta Hai Jo Vivadon Mein Rahe Hain Iske Alava Sune Wah Janta Ke Dwara Hi Gaye Hain To Is Prakar Ki Baat Karna Mujhe Nahi Lagta Ki Theek Hoga Uske Dusri Iske Alava Dusri Baat Bhi Hai Ki Jo Vyakti Itni Badi Position Par Hota Hai Wahan Ka America Ka President Hai To Hamesha Desh Ke Bhale Ke Baare Mein Sochega Desh Ki Burayi Ke Baare Mein Aur Desh Ke Bade Ke Baare Mein Kabhi Nahi Soch Sakta Chahe Koi Bhi Ho Andar Se Kitna Bhi Bura Ho Lekin Desh Ke Baare Mein Accha Hi Sochega
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बात कहें तो कतरा तो होता है लेकिन मुझे लगता है कि खतरा ज्यादा अंदर से क्योंकि जो अंदर का माहौल ही गए हो कि किस प्रकार सुबह जब घर की घर यानी कि जो देश है वह मानो कि हमारे घर घर में औरतों के साथ ऐसे ...
जवाब पढ़िये
एक बात कहें तो कतरा तो होता है लेकिन मुझे लगता है कि खतरा ज्यादा अंदर से क्योंकि जो अंदर का माहौल ही गए हो कि किस प्रकार सुबह जब घर की घर यानी कि जो देश है वह मानो कि हमारे घर घर में औरतों के साथ ऐसे सुलूक हो जाए उन्हें जीने का हक नहीं मिल रहा है उन्हें कुछ कहने का अधिकार क्यों नहीं ठीक से सांस लेने का हक भी नहीं मिल गए और यहां पर हर व्यक्ति एक दूसरे का दुश्मन है तो यार बताओ बाहर से क्या बात है तो जान लेंगे लेकिन अंदर से तो यार एक दूसरों को तड़पा तड़पाकर बदनाम करके जान ले गए हैं एक दूसरे को चैन से जीने नहीं दिए गए हैं क्या आपस में ही भेदभाव कर रहे हैं तो यह क्या जब घर में ही जो इतनी बुरी स्थिति हो तो बाहर से क्या डरना यारEk Baat Kahen To Citra To Hota Hai Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Khatra Jyada Andar Se Kyonki Jo Andar Ka Maahaul Hi Gaye Ho Ki Kis Prakar Subah Jab Ghar Ki Ghar Yani Ki Jo Desh Hai Wah Maano Ki Hamare Ghar Ghar Mein Auraton Ke Saath Aise Sulook Ho Jaye Unhen Jeene Ka Haq Nahi Mil Raha Hai Unhen Kuch Kehne Ka Adhikaar Kyun Nahi Theek Se Saans Lene Ka Haq Bhi Nahi Mil Gaye Aur Yahan Par Har Vyakti Ek Dusre Ka Dushman Hai To Yaar Batao Bahar Se Kya Baat Hai To Jaan Lenge Lekin Andar Se To Yaar Ek Dusron Ko Tadapa Tadapakar Badnaam Karke Jaan Le Gaye Hain Ek Dusre Ko Chain Se Jeene Nahi Diye Gaye Hain Kya Aapas Mein Hi Bhedbhav Kar Rahe Hain To Yeh Kya Jab Ghar Mein Hi Jo Itni Buri Sthiti Ho To Bahar Se Kya Darna Yaar
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत कैसा देश है जहां पर हर एक धर्म एक जाति के लोगों को बराबर का अधिकार दिया गया है यहां पर चाहे वह हिंदू हो मुसलमान हो सिख हो इसाई हो कोई भी ध्यान दो उनको जिन्हें देश में जाने का बिल्कुल अधिकार है तू...
जवाब पढ़िये
भारत कैसा देश है जहां पर हर एक धर्म एक जाति के लोगों को बराबर का अधिकार दिया गया है यहां पर चाहे वह हिंदू हो मुसलमान हो सिख हो इसाई हो कोई भी ध्यान दो उनको जिन्हें देश में जाने का बिल्कुल अधिकार है तू मैं देश के लिए खतरा नहीं है हां कुछ लोग हैं ऐसे नहीं है नाम के व्यक्ति कि हम मुस्लिम समाज में कुछ लोग हैं जिनकी का रंजले कोई मुस्लिम कौम का मतलब होता है हम लोग क्या कहते हैं कि पूरे मुस्लिम कौम को बदनाम करके पैसा नहीं है किसी एक की गलती को सपोर्ट नहीं करते उनको सपोर्ट करते दूसरे कंट्री को बैठे हुए थे वही उसी कंजिया के पहले और भारत में जो भारत को प्यार करते हो अपना देश मानते होBharat Kaisa Desh Hai Jahan Par Har Ek Dharm Ek Jati Ke Logon Ko Barabar Ka Adhikaar Diya Gaya Hai Yahan Par Chahe Wah Hindu Ho Musalman Ho Sikh Ho Isai Ho Koi Bhi Dhyan Do Unko Jinhen Desh Mein Jaane Ka Bilkul Adhikaar Hai Tu Main Desh Ke Liye Khatra Nahi Hai Haan Kuch Log Hain Aise Nahi Hai Naam Ke Vyakti Ki Hum Muslim Samaaj Mein Kuch Log Hain Jinaki Ka Ranjale Koi Muslim Kaum Ka Matlab Hota Hai Hum Log Kya Kehte Hain Ki Poore Muslim Kaum Ko Badnaam Karke Paisa Nahi Hai Kisi Ek Ki Galti Ko Support Nahi Karte Unko Support Karte Dusre Country Ko Baithey Hue The Wahi Ussi Kaziyaa Ke Pehle Aur Bharat Mein Jo Bharat Ko Pyar Karte Ho Apna Desh Manate Ho
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर पाकिस्तान के पीएम भारत आए और उन्हें भारत में उनकी जान को लेकर कोई भी खतरा हो तो मुझे लगता है कि हमें उन को पूरी प्रोटेक्शन देनी चाहिए और इसका कारण यह है और क्या भारत में अगर कोई भी ऑफिशियल अथॉरिटी...
जवाब पढ़िये
अगर पाकिस्तान के पीएम भारत आए और उन्हें भारत में उनकी जान को लेकर कोई भी खतरा हो तो मुझे लगता है कि हमें उन को पूरी प्रोटेक्शन देनी चाहिए और इसका कारण यह है और क्या भारत में अगर कोई भी ऑफिशियल अथॉरिटी किसी और कंट्री की आती है और चाहे वह कोई प्राइम मिनिस्टर ऑफ प्रेसिडेंट हो या फिर कोई और हो तो हमारा पूरा जिम्मेदारी बनती है और हमारा फर्ज बनता है कि हम उनको पूरा प्रोटेक्शन दें और उनकी जान को जो भी खतरा हो या फिर उनको और जैसे भी हमारे देश में खतरा हो उससे उन्हें बचाएं क्योंकि अगर कोई इंसान हमारे देश में आ रहा है और हमारी ऑफिशियल अथॉरिटी से मिलने तो उनको महफूज रखना उनको हर चीज में अच्छे से रखना हमारी पूरी जिम्मेदारी बनती है और उसके अलावा हमारे देश में मेहमान को हमेशा भगवान के स्वरुप माना गया है तो वह चाहे वह पाकिस्तान के पीएम हो या किसी और की देश के तो सभी को बराबर का सम्मान देना चाहिए और उनको प्रोटेक्शन देना तो सबसे इंपोर्टेंट चीज़ है क्योंकि यह कोई भी ऑपरेशन होता मराठी अगर बाहर के देश की आती है तो उनकी भी उतना ही वैल्यू है हम उनके देश में जितने हमारे देश में हमारे प्राइम मिनिस्टर हमारे प्रेसिडेंट की है तो अगर हमारे प्राइम मिनिस्टर किसी और देश में जाएंगे और अगर उनको प्रोटेक्शन नहीं दी जाएगी तो हमें कितना दुख होगा इसीलिए अगर कोई और हमारे देश में आ रहा है चाहे वह पाकिस्तान के पीएम क्यों ना हो उनको पूरी प्रोटेक्शन देना हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण चीज है उसके अलावा हमारे देशों के बीच कितनी भी मतभेद क्यों न हो कितनी भी लड़ाई आंसू ना होती हो लेकिन अगर कोई हमारे देश में ऐसा ऑफिसर अथॉरिटी आ रहा है तो हमें उनको पूरा प्रोटेक्शन देना चाहिए और उनको बुरा महफूज रखना चाहिए अपने देश मेंAgar Pakistan Ke Pm Bharat Aaye Aur Unhen Bharat Mein Unki Jaan Ko Lekar Koi Bhi Khatra Ho To Mujhe Lagta Hai Ki Hume Un Ko Puri Protection Deni Chahiye Aur Iska Kaaran Yeh Hai Aur Kya Bharat Mein Agar Koi Bhi Official Authority Kisi Aur Country Ki Aati Hai Aur Chahe Wah Koi Prime Minister Of President Ho Ya Phir Koi Aur Ho To Hamara Pura Jimmedari Banti Hai Aur Hamara Farj Banta Hai Ki Hum Unko Pura Protection Dein Aur Unki Jaan Ko Jo Bhi Khatra Ho Ya Phir Unko Aur Jaise Bhi Hamare Desh Mein Khatra Ho Usse Unhen Bachaen Kyonki Agar Koi Insaan Hamare Desh Mein Aa Raha Hai Aur Hamari Official Authority Se Milne To Unko Mahfooz Rakhna Unko Har Cheez Mein Acche Se Rakhna Hamari Puri Jimmedari Banti Hai Aur Uske Alava Hamare Desh Mein Mehmaan Ko Hamesha Bhagwan Ke Swarup Mana Gaya Hai To Wah Chahe Wah Pakistan Ke Pm Ho Ya Kisi Aur Ki Desh Ke To Sabhi Ko Barabar Ka Samman Dena Chahiye Aur Unko Protection Dena To Sabse Important Cheese Hai Kyonki Yeh Koi Bhi Operation Hota Marathi Agar Bahar Ke Desh Ki Aati Hai To Unki Bhi Utana Hi Value Hai Hum Unke Desh Mein Jitne Hamare Desh Mein Hamare Prime Minister Hamare President Ki Hai To Agar Hamare Prime Minister Kisi Aur Desh Mein Jaenge Aur Agar Unko Protection Nahi Di Jayegi To Hume Kitna Dukh Hoga Isliye Agar Koi Aur Hamare Desh Mein Aa Raha Hai Chahe Wah Pakistan Ke Pm Kyun Na Ho Unko Puri Protection Dena Hamare Liye Bahut Mahatvapurna Cheez Hai Uske Alava Hamare Deshon Ke Beech Kitni Bhi Matbhed Kyun N Ho Kitni Bhi Ladai Aansu Na Hoti Ho Lekin Agar Koi Hamare Desh Mein Aisa Officer Authority Aa Raha Hai To Hume Unko Pura Protection Dena Chahiye Aur Unko Bura Mahfooz Rakhna Chahiye Apne Desh Mein
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमीर खुसरो का एक गाना गाने के वजह से सिंगर सोना महापात्रा को धमकियां मिल रही हैं या धमकी मदारिया फाउंडेशन ने सूफी गानों को गाने के वजह से दी हैं Quikr पर सोना महापात्रा ने मुंबई पुलिस को टैग करके मदद ...
जवाब पढ़िये
अमीर खुसरो का एक गाना गाने के वजह से सिंगर सोना महापात्रा को धमकियां मिल रही हैं या धमकी मदारिया फाउंडेशन ने सूफी गानों को गाने के वजह से दी हैं Quikr पर सोना महापात्रा ने मुंबई पुलिस को टैग करके मदद की गुहार लगाई है सोना महापात्रा ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि मदारिया सूफी फाउंडेशन ने उन्हें एक गाना गाने के लिए धमकी भरा मेल किया है इसके अलावा इस फाउंडेशन ने यह भी कहा कि आप एक रेगुलर ऑफेंडर हैं और हमेशा इस तरह की हरकतें करते रहती हैं साथ ही साथ एक उनका 5 वर्ष पुराना वीडियो भी पाया गया है जिसमें उन्होंने कोक स्टूडियो के लिए गाना गाया था और वहां पर उन्होंने छोटे कपड़े पहने थे तो इस फाउंडेशन का कहना है कि इस गाने में अपने छोटे कपड़े पहने हैं और इससे इस्लाम का अपमान होता है तो इस तरह की चीज है जो यह फाउंडेशन कर रहा है वह बिल्कुल नहीं होनी चाहिए और मुंबई पुलिस को जल्द से जल्द इसके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए क्योंकि यह फाउंडेशन पिछले 6 दिनों से उन्हें परेशान कर रहा है लेकिन अभी तक कोई भी कार्यवाही नहीं की गई है तो मुंबई पुलिस को जल्द इस मैटर में एक्शन लेना चाहिए और जो भी यह धमकियां दे रहा है उसे गिरफ्तार करके उचित कार्रवाई करनी चाहिए क्योंकि इस तरह की चीजें बिल्कुल होना सही नहीं है और अगर कोई सिंगर है तो उसकी अपनी पसंद है कि वह किस प्रकार के कपड़े पहनता है या फिर कौन से गाने गाता है अगर इससे किसी को तकलीफ हो रही है तो वह कानून की मदद ले सकता है ऐसा नहीं हो सकता है कि वह धमकियां दे दे किसी को या फिर उन्हें पर्सनली परेशान करने की कोशिश करें तो यह सारी चीजें गैरकानूनी है और पुलिस को जल्द से जल्द कार्रवाई करनी चाहिए भविष्य में भी अन्य सिंगरों के साथ भी इस तरह की चीजें हो सकती हैंAmir Khusaro Ka Ek Gaana Gaane Ke Wajah Se Singer Sona Mahapatra Ko Dhamakiyan Mil Rahi Hain Ya Dhamki Madaria Foundation Ne Sufi Gaano Ko Gaane Ke Wajah Se Di Hain Quikr Par Sona Mahapatra Ne Mumbai Police Ko Tag Karke Madad Ki Guhar Lagai Hai Sona Mahapatra Ne Apni Report Mein Bataya Ki Madaria Sufi Foundation Ne Unhen Ek Gaana Gaane Ke Liye Dhamki Bhara Mail Kiya Hai Iske Alava Is Foundation Ne Yeh Bhi Kaha Ki Aap Ek Regular Afendar Hain Aur Hamesha Is Tarah Ki Harkatein Karte Rehti Hain Saath Hi Saath Ek Unka 5 Varsh Purana Video Bhi Paya Gaya Hai Jisme Unhone Coke Studio Ke Liye Gaana Gaaya Tha Aur Wahan Par Unhone Chote Kapde Pahane The To Is Foundation Ka Kehna Hai Ki Is Gaane Mein Apne Chote Kapde Pahane Hain Aur Isse Islam Ka Apman Hota Hai To Is Tarah Ki Cheez Hai Jo Yeh Foundation Kar Raha Hai Wah Bilkul Nahi Honi Chahiye Aur Mumbai Police Ko Jald Se Jald Iske Khilaf Karyawahi Karni Chahiye Kyonki Yeh Foundation Pichle 6 Dinon Se Unhen Pareshan Kar Raha Hai Lekin Abhi Tak Koi Bhi Karyavahi Nahi Ki Gayi Hai To Mumbai Police Ko Jald Is Matter Mein Action Lena Chahiye Aur Jo Bhi Yeh Dhamakiyan De Raha Hai Use Giraftar Karke Uchit Karyawahi Karni Chahiye Kyonki Is Tarah Ki Cheezen Bilkul Hona Sahi Nahi Hai Aur Agar Koi Singer Hai To Uski Apni Pasand Hai Ki Wah Kis Prakar Ke Kapde Pehanta Hai Ya Phir Kaun Se Gaane Gaata Hai Agar Isse Kisi Ko Takleef Ho Rahi Hai To Wah Kanoon Ki Madad Le Sakta Hai Aisa Nahi Ho Sakta Hai Ki Wah Dhamakiyan De De Kisi Ko Ya Phir Unhen Personally Pareshan Karne Ki Koshish Karen To Yeh Saree Cheezen Gairkanuni Hai Aur Police Ko Jald Se Jald Karyawahi Karni Chahiye Bhavishya Mein Bhi Anya Singaron Ke Saath Bhi Is Tarah Ki Cheezen Ho Sakti Hain
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

RSS और बजरंग दल जैसे संगठन देश के लिए खतरा तब तक नहीं बन सकती जब तक जो है वह देश पर अपने दलों किया आपने जो है पॉलिटिकल सपोर्ट की फायदा ना उठाएं और लोगों या किसी और धर्म के लोगों को कोई भी ठेस नहीं पहु...
जवाब पढ़िये
RSS और बजरंग दल जैसे संगठन देश के लिए खतरा तब तक नहीं बन सकती जब तक जो है वह देश पर अपने दलों किया आपने जो है पॉलिटिकल सपोर्ट की फायदा ना उठाएं और लोगों या किसी और धर्म के लोगों को कोई भी ठेस नहीं पहुंचाएंगे तक तो यह संगठन जो है देश के हित में है अगर इन संगठनों के कारण किसी अन्य समुदाय या अन्य धर्म के लोगों को कोई भी दिक्कत आती है तो बिल्कुल यह संगठन जो है हमारे देश के लिए खतरा है क्योंकि आए दिन जो है हमारे समाज में लोग आपस में बढ़ते जा रहे हैं पहले धर्म के नाम पर किस जाति के नाम पर हम नहीं चाहते कि कोई ऐसा संगठन दिखाओ और हमारे देश का बंटवारा होRSS Aur Bajrang Dal Jaise Sangathan Desh Ke Liye Khatra Tab Tak Nahi Ban Sakti Jab Tak Jo Hai Wah Desh Par Apne Dalon Kiya Aapne Jo Hai Political Support Ki Fayda Na Uthaen Aur Logon Ya Kisi Aur Dharm Ke Logon Ko Koi Bhi Thes Nahi Pahunchaenge Tak To Yeh Sangathan Jo Hai Desh Ke Hit Mein Hai Agar In Sangathano Ke Kaaran Kisi Anya Samuday Ya Anya Dharm Ke Logon Ko Koi Bhi Dikkat Aati Hai To Bilkul Yeh Sangathan Jo Hai Hamare Desh Ke Liye Khatra Hai Kyonki Aaye Din Jo Hai Hamare Samaaj Mein Log Aapas Mein Badhte Ja Rahe Hain Pehle Dharm Ke Naam Par Kis Jati Ke Naam Par Hum Nahi Chahte Ki Koi Aisa Sangathan Dikhaao Aur Hamare Desh Ka Batwara Ho
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देसी लोकतंत्र को कोई खतरा नहीं है क्योंकि वह क्या क्या आप के हिसाब से लोकतंत्र से क्या खतरा हो सकता है अगर ज्यादातर राज्यों में बीजेपी की सरकार है तो कभी ऐसा भी तो हुआ करता था कि ज्यादातर राज्यों में ...
जवाब पढ़िये
देसी लोकतंत्र को कोई खतरा नहीं है क्योंकि वह क्या क्या आप के हिसाब से लोकतंत्र से क्या खतरा हो सकता है अगर ज्यादातर राज्यों में बीजेपी की सरकार है तो कभी ऐसा भी तो हुआ करता था कि ज्यादातर राज्यों में कांग्रेस की सरकार थी साउथ में तो कभी BJP की पहुंच रही ही नहीं थी तो ऐसा भी पहले था कि जब वह पूरे भारत में कांग्रेस की सरकार है सिर्फ हुआ करती थी इससे भारत ही फायदा है कि जो कंप्लीट आता है राज्य सरकार और केंद्र सरकार के बीच में किसी भी काम को लेकर वह घर जाता अगर दोनों जगह ही अगर एक ही पार्टी की सरकार हो तो कौन सी टीम से घर जाता काम आसानी से हो पाता है तो लोकतंत्र को खतरा है इस से मैं सहमत नहीं हूं लेकिन काम आसानी से होगा इस से मैं बिल्कुल सहमत हूंDesi Loktantra Ko Koi Khatra Nahi Hai Kyonki Wah Kya Kya Aap Ke Hisab Se Loktantra Se Kya Khatra Ho Sakta Hai Agar Jyadatar Rajyo Mein Bjp Ki Sarkar Hai To Kabhi Aisa Bhi To Hua Karta Tha Ki Jyadatar Rajyo Mein Congress Ki Sarkar Thi South Mein To Kabhi BJP Ki Pahunch Rahi Hi Nahi Thi To Aisa Bhi Pehle Tha Ki Jab Wah Poore Bharat Mein Congress Ki Sarkar Hai Sirf Hua Karti Thi Isse Bharat Hi Fayda Hai Ki Jo Complete Aata Hai Rajya Sarkar Aur Kendra Sarkar Ke Beech Mein Kisi Bhi Kaam Ko Lekar Wah Ghar Jata Agar Dono Jagah Hi Agar Ek Hi Party Ki Sarkar Ho To Kaun Si Team Se Ghar Jata Kaam Aasani Se Ho Pata Hai To Loktantra Ko Khatra Hai Is Se Main Sahmat Nahi Hoon Lekin Kaam Aasani Se Hoga Is Se Main Bilkul Sahmat Hoon
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं यह नहीं कहूंगा कि पश्चिमीकरण भारतीय संस्कृति के लिए पूरी तरह से खतरा है क्योंकि देखी है और पश्चिम में भी कई सारी ऐसी चीजें हैं यानी बेस्ट में भी कई सारी ऐसी चीजें हैं ऐसे कल्चर है जो कि हमारे देश ...
जवाब पढ़िये
मैं यह नहीं कहूंगा कि पश्चिमीकरण भारतीय संस्कृति के लिए पूरी तरह से खतरा है क्योंकि देखी है और पश्चिम में भी कई सारी ऐसी चीजें हैं यानी बेस्ट में भी कई सारी ऐसी चीजें हैं ऐसे कल्चर है जो कि हमारे देश को अपनाना चाहिए और देश की जो और थोड़ा सोच है उसको बदल कर आगे बढ़ना चाहिए और इसका एक उदाहरण आप ले सकते हैं कि हमारे देश में जो और महिलाओं के कपड़े पहनने का जो कल्चर हुआ करता था पहले के समय में वह बदल कर अब बस उसमें पश्चिमीकरण आने लगा है और आज कल की जो महिलाएं हैं वह अपने हिसाब से कपड़े पहनना चाहती हैं जो उनका मन है वह पहनना चाहती हैं तो मेरा मन नहीं है कि हर इंसान को और स्पेशली हर महिला को पूरा फ्रीडम होना चाहिए कि वह जो चाहे वह पहन सकती है चाहे वह पश्चिमी है देश की कोई पोशाक हो या फिर अपने देश का कोई पोशाकों क्योंकि उनकी उनकी मर्जी है उनकी पूरी बॉडी है कि वह क्या पहनना चाहती हैं क्या नहीं पहनना चाहती और इसको हमें किसी भी तरह से संस्कृति से नहीं जोड़ना चाहिए क्योंकि संस्कृति एक अलग चीज है और अपने आप के लिए कपड़े पसंद करना आप किसमें काम फटे भला आप क्या पहनना पसंद करते हैं वह सब चीज बिल्कुल अलग है तो मैं यह नहीं कहूंगी कि पश्चिमीकरण भारतीय संस्कृति के लिए पूरी तरह से खतरा है क्योंकि हमें कुछ चीजों में जरूर कहूंगी कि कुछ चीजें जो वैसे हमारा देश अपना रहा है वह सही नहीं है और इसमें आप उदाहरण नहीं सकते हैं कि हमारे देश में कई सारी ऐसी टेक्नोलॉजी आ रही है जो कि वेस्ट में यूज होती है परंतु हमारे देश के लिए पूरी तरह से सही से नहीं हमारे समाज हमारे देश के लोग उस चीज को ज्यादा अच्छे से जानते नहीं है तो जब उसका प्रयोग करेंगे तो उनके लिए वह खतरनाक हो सकती है तो पूरी तरह से पश्चिमीकरण को अपनाना सही नहीं है क्योंकि कई चीजें अपने देश की भी हमारी बहुत अच्छी हैं संस्कृति में परंतु कुछ चीजें ऐसी भी है जो मैं बाहर के देशों से सीखनी चाहिए और उन को अपनाना भी चाहिए तो मैं कहूंगी आदि तरह से पश्चिमीकरण संस्कृति को अपने देश में लाना खतरा है परंतु पूरी तरह से नहीं हैMain Yeh Nahi Kahunga Ki Pashchimikaran Bharatiya Sanskriti Ke Liye Puri Tarah Se Khatra Hai Kyonki Dekhi Hai Aur Paschim Mein Bhi Kai Saree Aisi Cheezen Hain Yani Best Mein Bhi Kai Saree Aisi Cheezen Hain Aise Culture Hai Jo Ki Hamare Desh Ko Apnana Chahiye Aur Desh Ki Jo Aur Thoda Soch Hai Usko Badal Kar Aage Badhana Chahiye Aur Iska Ek Udaharan Aap Le Sakte Hain Ki Hamare Desh Mein Jo Aur Mahilaon Ke Kapde Pahanne Ka Jo Culture Hua Karta Tha Pehle Ke Samay Mein Wah Badal Kar Ab Bus Usamen Pashchimikaran Aane Laga Hai Aur Aaj Kal Ki Jo Mahilaen Hain Wah Apne Hisab Se Kapde Pahanna Chahti Hain Jo Unka Man Hai Wah Pahanna Chahti Hain To Mera Man Nahi Hai Ki Har Insaan Ko Aur Speshli Har Mahila Ko Pura Freedom Hona Chahiye Ki Wah Jo Chahe Wah Pahan Sakti Hai Chahe Wah Pashchimi Hai Desh Ki Koi Poshak Ho Ya Phir Apne Desh Ka Koi Poshaakon Kyonki Unki Unki Marji Hai Unki Puri Body Hai Ki Wah Kya Pahanna Chahti Hain Kya Nahi Pahanna Chahti Aur Isko Hume Kisi Bhi Tarah Se Sanskriti Se Nahi Jodna Chahiye Kyonki Sanskriti Ek Alag Cheez Hai Aur Apne Aap Ke Liye Kapde Pasand Karna Aap Kisme Kaam Phate Bhala Aap Kya Pahanna Pasand Karte Hain Wah Sab Cheez Bilkul Alag Hai To Main Yeh Nahi Kahungi Ki Pashchimikaran Bharatiya Sanskriti Ke Liye Puri Tarah Se Khatra Hai Kyonki Hume Kuch Chijon Mein Jarur Kahungi Ki Kuch Cheezen Jo Waise Hamara Desh Apna Raha Hai Wah Sahi Nahi Hai Aur Isme Aap Udaharan Nahi Sakte Hain Ki Hamare Desh Mein Kai Saree Aisi Technology Aa Rahi Hai Jo Ki West Mein Use Hoti Hai Parantu Hamare Desh Ke Liye Puri Tarah Se Sahi Se Nahi Hamare Samaaj Hamare Desh Ke Log Us Cheez Ko Zyada Acche Se Jante Nahi Hai To Jab Uska Prayog Karenge To Unke Liye Wah Khataranaak Ho Sakti Hai To Puri Tarah Se Pashchimikaran Ko Apnana Sahi Nahi Hai Kyonki Kai Cheezen Apne Desh Ki Bhi Hamari Bahut Acchi Hain Sanskriti Mein Parantu Kuch Cheezen Aisi Bhi Hai Jo Main Bahar Ke Deshon Se Sekhani Chahiye Aur Un Ko Apnana Bhi Chahiye To Main Kahungi Aadi Tarah Se Pashchimikaran Sanskriti Ko Apne Desh Mein Lana Khatra Hai Parantu Puri Tarah Se Nahi Hai
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर आपका छोटा भाई परेशान कर रहे मां को प्रॉपर्टी को लेकर तो आपको मैं एक बात बता दूं कि अगर मां के नाम तो प्रॉपर्टी है तो अगर कभी किसी घर में वह औरत के अंदर प्रॉपर्टी होती तो उस पर किसी का हक नही...
जवाब पढ़िये
देखिए अगर आपका छोटा भाई परेशान कर रहे मां को प्रॉपर्टी को लेकर तो आपको मैं एक बात बता दूं कि अगर मां के नाम तो प्रॉपर्टी है तो अगर कभी किसी घर में वह औरत के अंदर प्रॉपर्टी होती तो उस पर किसी का हक नहीं होता अगर पौधे के नाम पर प्लॉट प्रॉपर्टी होती है तो सभी बच्चों को बराबर बराबर बढ़ती है मध्य मदद के नाम पर प्रॉपर्टी होती है तो वह किसी का हक नहीं होता मदद करो जब तक किसी को देना नहीं चाहे तो एक बात है तो आप इस पर कानूनी लीगल एक्शन ले सकते हैं दूसरी बात कि वह आपके छोटे भाई हैं अगर आप उनसे करेंगे तो वह आपको डर आएंगे जिस सांप में जहर भी नहीं होता वह अपना फोन जरूर उठाता है और लोगों को डराने के लिए अगर आपको डर लग रहा है तू भी आप उनके सामने डट कर खड़ा हूं जब तक आप ऐसा नहीं करेंगे तब तक वह आप को डराते ही रहेंगेDekhie Agar Aapka Chota Bhai Pareshan Kar Rahe Maa Ko Property Ko Lekar To Aapko Main Ek Baat Bata Doon Ki Agar Maa Ke Naam To Property Hai To Agar Kabhi Kisi Ghar Mein Wah Aurat Ke Andar Property Hoti To Us Par Kisi Ka Haq Nahi Hota Agar Paudhe Ke Naam Par Plot Property Hoti Hai To Sabhi Bacchon Ko Barabar Barabar Badhti Hai Madhya Madad Ke Naam Par Property Hoti Hai To Wah Kisi Ka Haq Nahi Hota Madad Karo Jab Tak Kisi Ko Dena Nahi Chahe To Ek Baat Hai To Aap Is Par Kanooni Legal Action Le Sakte Hain Dusri Baat Ki Wah Aapke Chote Bhai Hain Agar Aap Unse Karenge To Wah Aapko Dar Aayenge Jis Saamp Mein Zahar Bhi Nahi Hota Wah Apna Phone Jarur Uthaata Hai Aur Logon Ko Darane Ke Liye Agar Aapko Dar Lag Raha Hai Tu Bhi Aap Unke Samane Dat Kar Khada Hoon Jab Tak Aap Aisa Nahi Karenge Tab Tak Wah Aap Ko Daraate Hi Rahenge
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

PK अगर आपको जो भी कोई पत्रिका आज भी धमकी देता है तो पहले तो वह जिद मत न्यूज़ के पत्रकार है वहां पर व्यापक एक कंपनी में जमा करवाने के बाद भी उनके जो है जहां पर हूं वहां पर कभी टिका नहीं चाहिए...
जवाब पढ़िये
PK अगर आपको जो भी कोई पत्रिका आज भी धमकी देता है तो पहले तो वह जिद मत न्यूज़ के पत्रकार है वहां पर व्यापक एक कंपनी में जमा करवाने के बाद भी उनके जो है जहां पर हूं वहां पर कभी टिका नहीं चाहिएPK Agar Aapko Jo Bhi Koi Patrika Aaj Bhi Dhamki Deta Hai To Pehle To Wah Jid Mat News Ke Patrakar Hai Wahan Par Vyapak Ek Company Mein Jama Karwane Ke Baad Bhi Unke Jo Hai Jahan Par Hoon Wahan Par Kabhi Tika Nahi Chahiye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
हालांकि बीट्स स्टूडियो 3 हेडफ़ोन की एक अच्छी जोड़ी है, लेकिन एक मौका है कि आप अपने हिरन के लिए बेहतर धमाका कर सकते हैं, खासकर जब से आपको ऐप्पल की आसान जोड़ी का लाभ नहीं मिलता है सन की तरह ब्रांड Sennheiser, सैमसंग, बोस, और ऑडियो-टेक्निका सभी एक समान मूल्य सीमा में शोर रद्द करने वाले वायरलेसहेडफोन बनाते हैं।
Romanized Version
हालांकि बीट्स स्टूडियो 3 हेडफ़ोन की एक अच्छी जोड़ी है, लेकिन एक मौका है कि आप अपने हिरन के लिए बेहतर धमाका कर सकते हैं, खासकर जब से आपको ऐप्पल की आसान जोड़ी का लाभ नहीं मिलता है सन की तरह ब्रांड Sennheiser, सैमसंग, बोस, और ऑडियो-टेक्निका सभी एक समान मूल्य सीमा में शोर रद्द करने वाले वायरलेसहेडफोन बनाते हैं।Halanki Beats Studio 3 Headphone Ki Ek Acchi Jodi Hai Lekin Ek Mauka Hai Ki Aap Apne Hiran Ke Liye Behtar Dhamaaka Kar Sakte Hain Khaskar Jab Se Aapko Apple Ki Aasan Jodi Ka Labh Nahi Milta Hai Sun Ki Tarah Brand Sennheiser, Samsung Bose Aur Audio Technica Sabhi Ek Saman Mulya Seema Mein Shor Radd Karne Wale Vayaraleshedfon Banate Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
परिच' कार्मिकों का वह समूह है जिस पर प्रशासन का केंद्र आधारित है। प्रत्येक राष्ट्र का शासन व प्रशासन इन्हीं नौकरशाहों के इर्द–गिर्द घूर्णन करता दिखाई देता है। 'नौकरशाही' शब्द जहाँ एक ओर अपने नकारात्मक अर्थों में लालफीताशाही, भ्रष्टाचार, पक्षपात, अहंकार, अभिजात्यके लिए कुख्यात है तो दूसरी ओर प्रगति, कल्याण, सामाजिक परिवर्तन एवं कानून व्यवस्था व सुरक्षा के सं वाहक के रूप में भी जाना जाता है।शासन की धूरी इस नौकरशाही पर व्यापक रूप से शोध–अनुसंधान व विमर्श हुए हैं। वैबर , मार्क्स , बीग, ग्लैडन, पिफनर आदि विद्वानों ने इसको परिभाषित करते हुए इसकी अवधारणा अर्थ को समझाते हुए विश्लेषण अध्ययेताओं के समक्ष प्रस्तुत किया है।विश्व में नौकरशाही अलग–अलग शासनों में अलग–अलग रूपों में व्याप्त है। जैसे संरक्षक नौकरशाही, अभिभावक नौकरशाही, जाति नौकरशाही, गुणों पर आधारित आदि।
Romanized Version
परिच' कार्मिकों का वह समूह है जिस पर प्रशासन का केंद्र आधारित है। प्रत्येक राष्ट्र का शासन व प्रशासन इन्हीं नौकरशाहों के इर्द–गिर्द घूर्णन करता दिखाई देता है। 'नौकरशाही' शब्द जहाँ एक ओर अपने नकारात्मक अर्थों में लालफीताशाही, भ्रष्टाचार, पक्षपात, अहंकार, अभिजात्यके लिए कुख्यात है तो दूसरी ओर प्रगति, कल्याण, सामाजिक परिवर्तन एवं कानून व्यवस्था व सुरक्षा के सं वाहक के रूप में भी जाना जाता है।शासन की धूरी इस नौकरशाही पर व्यापक रूप से शोध–अनुसंधान व विमर्श हुए हैं। वैबर , मार्क्स , बीग, ग्लैडन, पिफनर आदि विद्वानों ने इसको परिभाषित करते हुए इसकी अवधारणा अर्थ को समझाते हुए विश्लेषण अध्ययेताओं के समक्ष प्रस्तुत किया है।विश्व में नौकरशाही अलग–अलग शासनों में अलग–अलग रूपों में व्याप्त है। जैसे संरक्षक नौकरशाही, अभिभावक नौकरशाही, जाति नौकरशाही, गुणों पर आधारित आदि।Parich Kamirko Ka Wah Samuh Hai Jis Par Prashasan Ka Kendra Aadharit Hai Pratyek Rashtra Ka Shasan V Prashasan Inhin Naukarashaho Ke Ird Gird Ghurnan Karta Dikhai Deta Hai Naukarshahi Shabdh Jahan Ek Oar Apne Nakaratmak Arthon Mein Lalfitashahi Bhrashtachar Pakshapat Ahankar Abhijatyake Liye Kukhyaat Hai To Dusri Oar Pragati Kalyan Samajik Pariwartan Evam Kanoon Vyavastha V Suraksha Ke San Vahak Ke Roop Mein Bhi Jana Jata Hai Shasan Ki Dhuri Is Naukarshahi Par Vyapak Roop Se Shodh Anusandhan V Vimarsh Huye Hain Vaibar , Marks , Big Glaidan Pifanar Aadi Vidvaano Ne Isko Paribhashit Karte Huye Iski Awdharna Arth Ko Smajhate Huye Vishleshan Adhyayetaon Ke Samaksh Prastut Kiya Hai Vishwa Mein Naukarshahi Alag Alag Shaasnon Mein Alag Alag Roopon Mein Vyapt Hai Jaise Sanrakshak Naukarshahi Abhibhavak Naukarshahi Jati Naukarshahi Gunon Par Aadharit Aadi
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
इसके उदाहरण भूकंप, ज्वालामुखीय विस्फोट, सुनामी, और भूस्खलन होंगे। हाइड्रोमेटोरोलॉजिकल खतरे जलवायु के कारण होते हैं। इसके उदाहरणों में तूफान की बढ़त शामिल है, उष्णकटिबंधीय चक्रवात, सैंडस्टॉर्म, समशीतोष्ण तूफान, सूखा, बाढ़ और तूफान।
Romanized Version
इसके उदाहरण भूकंप, ज्वालामुखीय विस्फोट, सुनामी, और भूस्खलन होंगे। हाइड्रोमेटोरोलॉजिकल खतरे जलवायु के कारण होते हैं। इसके उदाहरणों में तूफान की बढ़त शामिल है, उष्णकटिबंधीय चक्रवात, सैंडस्टॉर्म, समशीतोष्ण तूफान, सूखा, बाढ़ और तूफान।Iske Udaharan Bhukamp Jvaalaamukheey Visphot Tsunami Aur Bhuskhalan Honge Hydrometrovirological Khatre Jalvayu Ke Kaaran Hote Hain Iske Udaharanon Mein Toofan Ki Badhat Shamil Hai Ushnakatibandheey Chakrawat Sandstorm Samashitoshna Toofan Sukha Baadh Aur Toofan
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
चीन और भारत को एक ही समय में एक नई सरकार मिली। लेकिन चीन की अर्थव्यवस्था 1 9 78 में मुक्त हुई, जब भारत आपातकालीन डरावनी स्थिति से बाहर आया। चीन की खराब असफल अर्थव्यवस्था के साथ चीन अन्य एशियाई देशों की तुलना में 1 9 70 के दशक के अंत में एक बुरी स्थिति में था, और तत्कालीन नेता डेंग ज़ियाओपिंग ने 2013 तक अर्थव्यवस्था के लिए निजी क्षेत्र के 70% योगदान में खुले बाजार की अवधारणा को बढ़ा दिया।
Romanized Version
चीन और भारत को एक ही समय में एक नई सरकार मिली। लेकिन चीन की अर्थव्यवस्था 1 9 78 में मुक्त हुई, जब भारत आपातकालीन डरावनी स्थिति से बाहर आया। चीन की खराब असफल अर्थव्यवस्था के साथ चीन अन्य एशियाई देशों की तुलना में 1 9 70 के दशक के अंत में एक बुरी स्थिति में था, और तत्कालीन नेता डेंग ज़ियाओपिंग ने 2013 तक अर्थव्यवस्था के लिए निजी क्षेत्र के 70% योगदान में खुले बाजार की अवधारणा को बढ़ा दिया।Chin Aur Bharat Ko Ek Hi Samay Mein Ek Nayi Sarkar Mili Lekin Chin Ki Arthavyavastha 1 9 78 Mein Mukt Hui Jab Bharat Aapatkalin Daravni Sthiti Se Bahar Aaya Chin Ki Kharab Asafal Arthavyavastha Ke Saath Chin Anya Asia Deshon Ki Tulna Mein 1 9 70 Ke Dashak Ke Ant Mein Ek Buri Sthiti Mein Tha Aur Tatkalin Neta Deng Ziyaoping Ne 2013 Tak Arthavyavastha Ke Liye Niji Kshetra Ke 70% Yogdan Mein Khule Bazar Ki Awdharna Ko Badha Diya
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
2018 में, भारत उन खतरों से अधिक खतरा है जो अनियंत्रित आबादी में वृद्धि, प्रदूषण, व्यापार युद्ध, बेरोजगारी, आतंकवाद, अप्रशिक्षित मानव पूंजी, कठोर नौकरशाही आदि से लेकर हैं, लेकिन यह सब उनका मानना है कि भारत का अकाउंट सौदा करने वाले किसी भी व्यक्ति की तुलना में साजिश की सबसे बड़ी धमकियां हैं: सस्ते आयात और पुरानी तकनीक: सस्ते आयात और कम विरोधी डंपिंग कर्तव्य भारत के स्वदेशी एमएसएमई क्षेत्रों के विकास के लिए एक बड़ी समस्या क्षेत्र बन गया है। इस का हालिया उदाहरण केरल काजू प्रसंस्करण और निर्यात उद्योग में देखा गया था। इस उद्योग ने 700 से अधिक कारखानेों को रखा था, अब केवल 10 तक कम कर दिया गया है क्योंकि वैश्विक प्रतिस्पर्धा के कारण कंपनियों को बंद करने के लिए मजबूर किया गया था। लगभग, लगभग 1,50,000 श्रमिक अपनी नौकरी खोने के कगार पर हैं क्योंकि उद्योग वियतनाम से पुरानी मशीनरी और सस्ते आयात के कारण बंद होने के लिए ब्रिस्ट पर हैं। एंटीबायोटिक प्रतिरोध: यह आज भारत के लिए सबसे बड़ी चुनौती में से एक बन गया है। उच्च एंटीबायोटिक दवाओं और चिकित्सा लापरवाही के अनियंत्रित नुस्खे ने एंटीबायोटिक प्रतिरोध के उदाहरणों में वृद्धि की है। यह लोगों के समग्र स्वास्थ्य और साथ ही भारत के चिकित्सा पर्यटन क्षेत्र के लिए एक बड़ा झटका बन गया है। अमेरिकी सरकार ने पहले से ही उन लोगों के लिए चिंताओं को उठाया है जो भारत से चिकित्सा उपचार लेने के बाद और उच्च एंटीबायोटिक प्रतिरोध विकसित करते हैं। गरीब शैक्षिक और कौशल विकास बुनियादी ढांचे: "काम" आयु वर्ग (15-60 वर्ष) में अपनी महान आबादी के साथ भारत उचित कौशल विकास केंद्र और शैक्षिक ढांचे का अभाव है। यह ऐसा कुछ है जो भारत को अभी तक चिंतित होना चाहिए क्योंकि आगे की उपेक्षा करना भविष्य में एक बड़ी समस्या बन जाएगा। महान जनसांख्यिकीय लाभांश भविष्य में भारत के लिए एक अभिशाप बन जाएगा यदि यह कौशल विकास और शैक्षिक बुनियादी ढांचे में विजयी रूप से विजय नहीं करता है। खाद्य सुरक्षा और आय असमानता: भारत वैश्विक भूख इंडेक्स (अंतरराष्ट्रीय खाद्य नीति अनुसंधान संस्थान द्वारा प्रकाशित) पर 119 देशों में से 100 रन है, जो कि उत्तर कोरिया, बांग्लादेश और इराक जैसे कई देशों के पीछे है। यह कहकर कि भारत आज 68,800 करोड़ रुपये प्रति वर्ष खाद्य पदार्थों को कम करता है। यह भारत जैसे देश के लिए एक खतरनाक आंकड़े है, जो कि उच्च जनसंख्या वाले खाद्य पदार्थों की पोषक तत्व हैं। उचित रसद, खाद्य प्रसंस्करण और प्रबंधन भारत में खाद्य अपव्यय के उन्मूलन के लिए प्रमुख चिंता का होना चाहिए। भारतीय कृषि की पिछड़ेपन: यह चिंता का मामला है कि आज भी, 2018 में, भारतीय कृषि मानवाण पर निर्भर करती है और कई क्षेत्रों में उचित सिंचाई अभी तक विकसित नहीं हुई है। कई अन्य चिंताओं हैं जिनके पास इस क्षेत्र का ध्यान रखा गया है, जो कि फसल के नुकसान, सूखे भूमि खेती, पानी संरक्षण, अंतर-फसल, मिट्टी संरक्षण, जीएम कपास जैसे क्षेत्रों में स्थित है, बीटी कपास जैसे कि बीटी कपास की जांच करने के लिए बीटी कपास आदि। भारतीय मीडिया द्वारा जाति, धर्म और अल्पसंख्यक राजनीति: 21 वीं सदी में जब दुनिया व्यक्तिगत रूप से आगे बढ़ रही है, भारतीय मीडिया लोगों के बीच असुरक्षा की भावना पैदा करने के लिए जाति, धर्म, लिंग शिकार कार्ड खेलने में व्यस्त है। यह तुरंत बंद कर दिया जाना चाहिए क्योंकि यह भारत की विकास कहानी के सबसे भयानक पन्नों को लिख सकता है। कुल मिलाकर, भारत को आज की तलाश करने के लिए कई चुनौतियां हैं और इसे उस पर काम करना चाहिए। वर्तमान में सटीक योजना, अच्छा संसाधन प्रबंधन, ऊर्जा सुरक्षा और मानव पूंजी विकास की आवश्यकता है। यह प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य क्षेत्रों के विकास के लिए विवादास्पद निवेश करना होगा। भारत को टिकाऊ विकास और पर्यावरणीय मुद्दों के लिए भी काम करना होगा। यह बड़ी चुनौतियों जैसे आतंकवाद, जैव आतंकवाद और अवैध प्रवास को बेहद संभव तरीके से निपटने के लिए तैयार होना चाहिए। धन्यवाद :) चित्र क्रेडिट: 32.9 के विचार · · इस द्वारा अनुरोधित उत्तर। भारतीय मीडिया की संस्कृति की बहस आप प्राइम टाइम में किसी भी चैनल को फ्लिप करते हैं, आप उस दिन की घटनाओं के बारी-बारी से ब्याज के आधार पर विविध विषयों पर बहस वाले विभिन्न राजनीतिक दलों, स्तंभकार, सामाजिक कार्यकर्ताओं के प्रवक्ता सहित एक पैनल देख रहे हैं। हालांकि उनके पास अलग-अलग पहचान है, वे सभी एक ही करते हैं। चीख! मैं ऐसे शो के नायक को कैसे याद कर सकता हूं! एंकर जो मॉडरेटर वार्ता (शोर पढ़ना) दिखाने के लिए माना जाता है। जब आप शो पर रखे तर्कों पर विचार करते हैं तो द्रुता उत्पन्न होती है। मैं व्यक्तिगत रूप से इस तरह के बहस शो की एक बड़ी कट्टरपंथी हूँ लेकिन, चर्चा का प्रमुख हिस्सा एंकर द्वारा जिस तरह से वह इच्छा करता है, निर्देशित किया जाता है। कभी-कभी, यह स्पष्ट स्पष्ट है जब अटकलें एक गुट के प्रति पक्षपाती हैं। ऐसे प्रवचन उन विचारकों को बदलते हैं जो पहले से ही हमारे दिमाग में मौजूद हैं। हम कुछ धारणाओं को अप्रचलित करने पर भी समाप्त कर सकते हैं और इसे पागलपन से शुरू करना शुरू कर सकते हैं। 'भारतीय मीडिया की विश्वसनीयता' मैं भारत में सबसे बड़ा खतरा समझता हूं। छवि स्रोत: 4.2 के विचार · रिक्त गांवों भारत लगभग 6 लाख / गांवों के देश है। जनगणना 2011 के अनुसार, हमारी 69% आबादी ग्रामीण इलाके में रहते हैं। मुख्य रूप से ग्राम आर्थिक कृषि और कृषि संबंधी काम पर चल रहा है। आज, गांव गायब हो रहे हैं। मैं महाराष्ट्र के मराठवाड़ा क्षेत्र से आ रहा हूं, जिसने 2014-17 के सूखे के दौरान सबसे अधिक का सामना किया है। इस अवधि में, अधिकांश गांवों के बिना थे अगर लोग थे, तो वे बुजुर्ग और बच्चे थे अधिकांश कामकाजी युग में लोग आजीविका के लिए गांव छोड़ दिए हैं। यह भारत के अधिकांश हिस्से की स्थिति है ऐसा क्यों हो रहा है? कृषि अपने आकर्षण को खोदें अधिकांश ग्रामीणों ने आजीविका के लिए कृषि के रूप में नहीं देखा है। जलवायु विरोधियों, सरकारी नीति, मूल्य की दुर्घटना जैसे कई कारकों के कारण। बुनियादी जरूरतों की कोई उपलब्धता नहीं है यदि वे मौजूद हैं, तो वे अच्छी स्थिति में नहीं हैं शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं, पीने के पानी, बिजली अबीयत स्थिति में हैं। ग्रामीणों के पारंपरिक नौकरी वैश्वीकरण और कई अन्य कारकों के कारण महत्व खो रही है। क्या प्रभाव हैं? शहर की अनियोजित वृद्धि शहरी संसाधनों पर अतिरिक्त दबाव डालें झुग्गी में वृद्धि इसलिए, महामारी बीमारियों को फैलाने की संभावनाएं हैं इन क्षेत्रों में गरीब आजीविका की स्थिति अपशिष्ट प्रबंधन की समस्या अपराधों में वृद्धि आवागमन खराब सरकारी नीतियों को निर्देशित करता है क्या किया जाना चाहिए? सरकार को सबसे प्राथमिकता के पते से सवाल होना चाहिए। उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और कौशल जैसी बुनियादी, गुणवत्ता वाली सेवाएं प्रदान करने के प्रयासों को लेना चाहिए। इन विलेज को स्वयं स्थायी गांव अर्थव्यवस्था में परिवर्तित करने का प्रयास करें राष्ट्र के पिता महात्मा गांधी को गांव की स्थिति को समझते हैं, समस्या और इसलिए उन्होंने कहा, "गांवों की ओर जाता है" 3.8 के विचारों ·
Romanized Version
2018 में, भारत उन खतरों से अधिक खतरा है जो अनियंत्रित आबादी में वृद्धि, प्रदूषण, व्यापार युद्ध, बेरोजगारी, आतंकवाद, अप्रशिक्षित मानव पूंजी, कठोर नौकरशाही आदि से लेकर हैं, लेकिन यह सब उनका मानना है कि भारत का अकाउंट सौदा करने वाले किसी भी व्यक्ति की तुलना में साजिश की सबसे बड़ी धमकियां हैं: सस्ते आयात और पुरानी तकनीक: सस्ते आयात और कम विरोधी डंपिंग कर्तव्य भारत के स्वदेशी एमएसएमई क्षेत्रों के विकास के लिए एक बड़ी समस्या क्षेत्र बन गया है। इस का हालिया उदाहरण केरल काजू प्रसंस्करण और निर्यात उद्योग में देखा गया था। इस उद्योग ने 700 से अधिक कारखानेों को रखा था, अब केवल 10 तक कम कर दिया गया है क्योंकि वैश्विक प्रतिस्पर्धा के कारण कंपनियों को बंद करने के लिए मजबूर किया गया था। लगभग, लगभग 1,50,000 श्रमिक अपनी नौकरी खोने के कगार पर हैं क्योंकि उद्योग वियतनाम से पुरानी मशीनरी और सस्ते आयात के कारण बंद होने के लिए ब्रिस्ट पर हैं। एंटीबायोटिक प्रतिरोध: यह आज भारत के लिए सबसे बड़ी चुनौती में से एक बन गया है। उच्च एंटीबायोटिक दवाओं और चिकित्सा लापरवाही के अनियंत्रित नुस्खे ने एंटीबायोटिक प्रतिरोध के उदाहरणों में वृद्धि की है। यह लोगों के समग्र स्वास्थ्य और साथ ही भारत के चिकित्सा पर्यटन क्षेत्र के लिए एक बड़ा झटका बन गया है। अमेरिकी सरकार ने पहले से ही उन लोगों के लिए चिंताओं को उठाया है जो भारत से चिकित्सा उपचार लेने के बाद और उच्च एंटीबायोटिक प्रतिरोध विकसित करते हैं। गरीब शैक्षिक और कौशल विकास बुनियादी ढांचे: "काम" आयु वर्ग (15-60 वर्ष) में अपनी महान आबादी के साथ भारत उचित कौशल विकास केंद्र और शैक्षिक ढांचे का अभाव है। यह ऐसा कुछ है जो भारत को अभी तक चिंतित होना चाहिए क्योंकि आगे की उपेक्षा करना भविष्य में एक बड़ी समस्या बन जाएगा। महान जनसांख्यिकीय लाभांश भविष्य में भारत के लिए एक अभिशाप बन जाएगा यदि यह कौशल विकास और शैक्षिक बुनियादी ढांचे में विजयी रूप से विजय नहीं करता है। खाद्य सुरक्षा और आय असमानता: भारत वैश्विक भूख इंडेक्स (अंतरराष्ट्रीय खाद्य नीति अनुसंधान संस्थान द्वारा प्रकाशित) पर 119 देशों में से 100 रन है, जो कि उत्तर कोरिया, बांग्लादेश और इराक जैसे कई देशों के पीछे है। यह कहकर कि भारत आज 68,800 करोड़ रुपये प्रति वर्ष खाद्य पदार्थों को कम करता है। यह भारत जैसे देश के लिए एक खतरनाक आंकड़े है, जो कि उच्च जनसंख्या वाले खाद्य पदार्थों की पोषक तत्व हैं। उचित रसद, खाद्य प्रसंस्करण और प्रबंधन भारत में खाद्य अपव्यय के उन्मूलन के लिए प्रमुख चिंता का होना चाहिए। भारतीय कृषि की पिछड़ेपन: यह चिंता का मामला है कि आज भी, 2018 में, भारतीय कृषि मानवाण पर निर्भर करती है और कई क्षेत्रों में उचित सिंचाई अभी तक विकसित नहीं हुई है। कई अन्य चिंताओं हैं जिनके पास इस क्षेत्र का ध्यान रखा गया है, जो कि फसल के नुकसान, सूखे भूमि खेती, पानी संरक्षण, अंतर-फसल, मिट्टी संरक्षण, जीएम कपास जैसे क्षेत्रों में स्थित है, बीटी कपास जैसे कि बीटी कपास की जांच करने के लिए बीटी कपास आदि। भारतीय मीडिया द्वारा जाति, धर्म और अल्पसंख्यक राजनीति: 21 वीं सदी में जब दुनिया व्यक्तिगत रूप से आगे बढ़ रही है, भारतीय मीडिया लोगों के बीच असुरक्षा की भावना पैदा करने के लिए जाति, धर्म, लिंग शिकार कार्ड खेलने में व्यस्त है। यह तुरंत बंद कर दिया जाना चाहिए क्योंकि यह भारत की विकास कहानी के सबसे भयानक पन्नों को लिख सकता है। कुल मिलाकर, भारत को आज की तलाश करने के लिए कई चुनौतियां हैं और इसे उस पर काम करना चाहिए। वर्तमान में सटीक योजना, अच्छा संसाधन प्रबंधन, ऊर्जा सुरक्षा और मानव पूंजी विकास की आवश्यकता है। यह प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य क्षेत्रों के विकास के लिए विवादास्पद निवेश करना होगा। भारत को टिकाऊ विकास और पर्यावरणीय मुद्दों के लिए भी काम करना होगा। यह बड़ी चुनौतियों जैसे आतंकवाद, जैव आतंकवाद और अवैध प्रवास को बेहद संभव तरीके से निपटने के लिए तैयार होना चाहिए। धन्यवाद :) चित्र क्रेडिट: 32.9 के विचार · · इस द्वारा अनुरोधित उत्तर। भारतीय मीडिया की संस्कृति की बहस आप प्राइम टाइम में किसी भी चैनल को फ्लिप करते हैं, आप उस दिन की घटनाओं के बारी-बारी से ब्याज के आधार पर विविध विषयों पर बहस वाले विभिन्न राजनीतिक दलों, स्तंभकार, सामाजिक कार्यकर्ताओं के प्रवक्ता सहित एक पैनल देख रहे हैं। हालांकि उनके पास अलग-अलग पहचान है, वे सभी एक ही करते हैं। चीख! मैं ऐसे शो के नायक को कैसे याद कर सकता हूं! एंकर जो मॉडरेटर वार्ता (शोर पढ़ना) दिखाने के लिए माना जाता है। जब आप शो पर रखे तर्कों पर विचार करते हैं तो द्रुता उत्पन्न होती है। मैं व्यक्तिगत रूप से इस तरह के बहस शो की एक बड़ी कट्टरपंथी हूँ लेकिन, चर्चा का प्रमुख हिस्सा एंकर द्वारा जिस तरह से वह इच्छा करता है, निर्देशित किया जाता है। कभी-कभी, यह स्पष्ट स्पष्ट है जब अटकलें एक गुट के प्रति पक्षपाती हैं। ऐसे प्रवचन उन विचारकों को बदलते हैं जो पहले से ही हमारे दिमाग में मौजूद हैं। हम कुछ धारणाओं को अप्रचलित करने पर भी समाप्त कर सकते हैं और इसे पागलपन से शुरू करना शुरू कर सकते हैं। 'भारतीय मीडिया की विश्वसनीयता' मैं भारत में सबसे बड़ा खतरा समझता हूं। छवि स्रोत: 4.2 के विचार · रिक्त गांवों भारत लगभग 6 लाख / गांवों के देश है। जनगणना 2011 के अनुसार, हमारी 69% आबादी ग्रामीण इलाके में रहते हैं। मुख्य रूप से ग्राम आर्थिक कृषि और कृषि संबंधी काम पर चल रहा है। आज, गांव गायब हो रहे हैं। मैं महाराष्ट्र के मराठवाड़ा क्षेत्र से आ रहा हूं, जिसने 2014-17 के सूखे के दौरान सबसे अधिक का सामना किया है। इस अवधि में, अधिकांश गांवों के बिना थे अगर लोग थे, तो वे बुजुर्ग और बच्चे थे अधिकांश कामकाजी युग में लोग आजीविका के लिए गांव छोड़ दिए हैं। यह भारत के अधिकांश हिस्से की स्थिति है ऐसा क्यों हो रहा है? कृषि अपने आकर्षण को खोदें अधिकांश ग्रामीणों ने आजीविका के लिए कृषि के रूप में नहीं देखा है। जलवायु विरोधियों, सरकारी नीति, मूल्य की दुर्घटना जैसे कई कारकों के कारण। बुनियादी जरूरतों की कोई उपलब्धता नहीं है यदि वे मौजूद हैं, तो वे अच्छी स्थिति में नहीं हैं शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं, पीने के पानी, बिजली अबीयत स्थिति में हैं। ग्रामीणों के पारंपरिक नौकरी वैश्वीकरण और कई अन्य कारकों के कारण महत्व खो रही है। क्या प्रभाव हैं? शहर की अनियोजित वृद्धि शहरी संसाधनों पर अतिरिक्त दबाव डालें झुग्गी में वृद्धि इसलिए, महामारी बीमारियों को फैलाने की संभावनाएं हैं इन क्षेत्रों में गरीब आजीविका की स्थिति अपशिष्ट प्रबंधन की समस्या अपराधों में वृद्धि आवागमन खराब सरकारी नीतियों को निर्देशित करता है क्या किया जाना चाहिए? सरकार को सबसे प्राथमिकता के पते से सवाल होना चाहिए। उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और कौशल जैसी बुनियादी, गुणवत्ता वाली सेवाएं प्रदान करने के प्रयासों को लेना चाहिए। इन विलेज को स्वयं स्थायी गांव अर्थव्यवस्था में परिवर्तित करने का प्रयास करें राष्ट्र के पिता महात्मा गांधी को गांव की स्थिति को समझते हैं, समस्या और इसलिए उन्होंने कहा, "गांवों की ओर जाता है" 3.8 के विचारों ·2018 Mein Bharat Un Khataron Se Adhik Khatra Hai Jo Aniyantrit Aabadi Mein Vriddhi Pradushan Vyapar Yudh Berojgari Aatankwad Aprashikshit Manav Punji Kathor Naukarshahi Aadi Se Lekar Hain Lekin Yeh Sab Unka Manana Hai Ki Bharat Ka Account Sauda Karne Wale Kisi Bhi Vyakti Ki Tulna Mein Sajish Ki Sabse Badi Dhamkiyan Hain Saste Aayaat Aur Purani Takneek Saste Aayaat Aur Kam Virodhi Damping Kartavya Bharat Ke Swadeshi Msme Kshetro Ke Vikash Ke Liye Ek Badi Samasya Kshetra Ban Gaya Hai Is Ka Haliya Udaharan Kerala Kaju Prasanskaran Aur Niryat Udyog Mein Dekha Gaya Tha Is Udyog Ne 700 Se Adhik Karkhaneon Ko Rakha Tha Ab Kewal 10 Tak Kam Kar Diya Gaya Hai Kyonki Vaishvik Pratispardha Ke Kaaran Companion Ko Band Karne Ke Liye Majboor Kiya Gaya Tha Lagbhag Lagbhag 1,50,000 Shramik Apni Naukri Khone Ke Kagar Par Hain Kyonki Udyog Vietnam Se Purani Machinery Aur Saste Aayaat Ke Kaaran Band Hone Ke Liye Brist Par Hain Antibiotic Pratirodh Yeh Aaj Bharat Ke Liye Sabse Badi Chunauti Mein Se Ek Ban Gaya Hai Uccha Antibiotic Dawaon Aur Chikitsa Laparwahi Ke Aniyantrit Nuskhe Ne Antibiotic Pratirodh Ke Udaharanon Mein Vriddhi Ki Hai Yeh Logon Ke Samagra Swasthya Aur Saath Hi Bharat Ke Chikitsa Paryatan Kshetra Ke Liye Ek Bada Jhatka Ban Gaya Hai American Sarkar Ne Pehle Se Hi Un Logon Ke Liye Chintaon Ko Uthaya Hai Jo Bharat Se Chikitsa Upchaar Lene Ke Baad Aur Uccha Antibiotic Pratirodh Viksit Karte Hain Garib Shaikshik Aur Kaushal Vikash Buniyaadi Dhanche Kaam Aayu Varg (15-60 Varsh Mein Apni Mahaan Aabadi Ke Saath Bharat Uchit Kaushal Vikash Kendra Aur Shaikshik Dhanche Ka Abhaav Hai Yeh Aisa Kuch Hai Jo Bharat Ko Abhi Tak Chintit Hona Chahiye Kyonki Aage Ki Upeksha Karna Bhavishya Mein Ek Badi Samasya Ban Jayega Mahaan Jansankhiyakiya Labhansh Bhavishya Mein Bharat Ke Liye Ek Abhishap Ban Jayega Yadi Yeh Kaushal Vikash Aur Shaikshik Buniyaadi Dhanche Mein Vijayi Roop Se Vijay Nahi Karta Hai Khadya Suraksha Aur Aay Asamanta Bharat Vaishvik Bhukh Index Antararashtriya Khadya Niti Anusandhan Sansthan Dwara Prakashit Par 119 Deshon Mein Se 100 Run Hai Jo Ki Uttar Korea Bangladesh Aur Iraq Jaise Kai Deshon Ke Piche Hai Yeh Kahakar Ki Bharat Aaj 68,800 Crore Rupaye Prati Varsh Khadya Padarthon Ko Kam Karta Hai Yeh Bharat Jaise Desh Ke Liye Ek Khataranaak Aankde Hai Jo Ki Uccha Jansankhya Wale Khadya Padarthon Ki Poshak Tatva Hain Uchit Rasad Khadya Prasanskaran Aur Prabandhan Bharat Mein Khadya Apavyay Ke Unmulan Ke Liye Pramukh Chinta Ka Hona Chahiye Bhartiya Krishi Ki Pichdepan Yeh Chinta Ka Maamla Hai Ki Aaj Bhi 2018 Mein Bhartiya Krishi Manvan Par Nirbhar Karti Hai Aur Kai Kshetro Mein Uchit Sinchai Abhi Tak Viksit Nahi Hui Hai Kai Anya Chintaon Hain Jinke Paas Is Kshetra Ka Dhyan Rakha Gaya Hai Jo Ki Phasal Ke Nuksan Sukhe Bhoomi Kheti Pani Sanrakshan Antar Phasal Mitti Sanrakshan GM Kapaas Jaise Kshetro Mein Sthit Hai Biti Kapaas Jaise Ki Biti Kapaas Ki Janch Karne Ke Liye Biti Kapaas Aadi Bhartiya Media Dwara Jati Dharm Aur Alpsankhyak Rajneeti 21 Vi Sadi Mein Jab Duniya Vyaktigat Roop Se Aage Badh Rahi Hai Bhartiya Media Logon Ke Bich Asuraksha Ki Bhavna Paida Karne Ke Liye Jati Dharm Ling Shikar Card Khelne Mein Vyasta Hai Yeh Turant Band Kar Diya Jana Chahiye Kyonki Yeh Bharat Ki Vikash Kahani Ke Sabse Bhayaanak Pannon Ko Likh Sakta Hai Kul Milakar Bharat Ko Aaj Ki Talash Karne Ke Liye Kai Chunautiyaan Hain Aur Ise Us Par Kaam Karna Chahiye Vartaman Mein Sateek Yojana Accha Sansadhan Prabandhan Urja Suraksha Aur Manav Punji Vikash Ki Avashyakta Hai Yeh Prathmik Madhyamik Aur Tritiyak Swasthya Kshetro Ke Vikash Ke Liye Vivadaspad Nivesh Karna Hoga Bharat Ko Tikauu Vikash Aur Paryavaraniy Muddon Ke Liye Bhi Kaam Karna Hoga Yeh Badi Chunautiyon Jaise Aatankwad Jaiv Aatankwad Aur Awaidh Pravas Ko Behad Sambhav Tarike Se Nipatane Ke Liye Taiyaar Hona Chahiye Dhanyavad :) Chitra Credit 32.9 Ke Vichar · · Is Dwara Anurodhit Uttar Bhartiya Media Ki Sanskriti Ki Bahas Aap Prime Time Mein Kisi Bhi Channel Ko Flip Karte Hain Aap Us Din Ki Ghatnaon Ke Baari Baari Se Byaj Ke Aadhar Par Vividh Vishyon Par Bahas Wale Vibhinn Rajnitik Dalon Stambhakar Samajik Karyakartao Ke Pravakta Sahit Ek Painal Dekh Rahe Hain Halanki Unke Paas Alag Alag Pehchaan Hai Ve Sabhi Ek Hi Karte Hain Cheekh Main Aise Show Ke Nayak Ko Kaise Yaad Kar Sakta Hoon Anchor Jo Moderator Varta Shor Padhna Dikhane Ke Liye Mana Jata Hai Jab Aap Show Par Rakhe Tarkon Par Vichar Karte Hain To Druta Utpann Hoti Hai Main Vyaktigat Roop Se Is Tarah Ke Bahas Show Ki Ek Badi Kattarapanthi Hoon Lekin Charcha Ka Pramukh Hissa Anchor Dwara Jis Tarah Se Wah Icha Karta Hai Nirdeshit Kiya Jata Hai Kabhi Kabhi Yeh Spasht Spasht Hai Jab Atkalein Ek Gut Ke Prati Pakshapaati Hain Aise Pravachan Un Vicharko Ko Badalte Hain Jo Pehle Se Hi Hamare Dimag Mein Maujud Hain Hum Kuch Dharnaon Ko Aprachalit Karne Par Bhi Samapt Kar Sakte Hain Aur Ise Paagalpani Se Shuru Karna Shuru Kar Sakte Hain Bhartiya Media Ki Visvasaniyata Main Bharat Mein Sabse Bada Khatra Samajhata Hoon Chawi Srot 4.2 Ke Vichar · Rikt Gawon Bharat Lagbhag 6 Lakh / Gawon Ke Desh Hai Janganana 2011 Ke Anusar Hamari 69% Aabadi Gramin Ilake Mein Rehte Hain Mukhya Roop Se Gram Aarthik Krishi Aur Krishi Sambandhi Kaam Par Chal Raha Hai Aaj Gav Gayab Ho Rahe Hain Main Maharashtra Ke Marathwada Kshetra Se Aa Raha Hoon Jisne 2014-17 Ke Sukhe Ke Dauran Sabse Adhik Ka Samana Kiya Hai Is Avadhi Mein Adhikaansh Gawon Ke Bina The Agar Log The To Ve Bujurg Aur Bacche The Adhikaansh Kaamkaji Yug Mein Log Aajiwika Ke Liye Gav Chod Diye Hain Yeh Bharat Ke Adhikaansh Hisse Ki Sthiti Hai Aisa Kyon Ho Raha Hai Krishi Apne Aakarshan Ko Khoden Adhikaansh Gramenon Ne Aajiwika Ke Liye Krishi Ke Roop Mein Nahi Dekha Hai Jalvayu Virodhiyon Sarkari Niti Mulya Ki Durghatna Jaise Kai Kaarakon Ke Kaaran Buniyaadi Jaruraton Ki Koi Upalabdhata Nahi Hai Yadi Ve Maujud Hain To Ve Acchi Sthiti Mein Nahi Hain Shiksha Swasthya Dekhbhal Sevayen Peene Ke Pani Bijli Abiyat Sthiti Mein Hain Gramenon Ke Paramparik Naukri Vaishvikaran Aur Kai Anya Kaarakon Ke Kaaran Mahatva Kho Rahi Hai Kya Prabhav Hain Sheher Ki Aniyojit Vriddhi Shehari Sansadhanon Par Atirikt Dabaav Daalein Jhuggi Mein Vriddhi Isliye Mahamari Bimariyon Ko Phailane Ki Sambhavnaye Hain In Kshetro Mein Garib Aajiwika Ki Sthiti Apashisht Prabandhan Ki Samasya Apradho Mein Vriddhi Aavagaman Kharab Sarkari Nitiyon Ko Nirdeshit Karta Hai Kya Kiya Jana Chahiye Sarkar Ko Sabse Prathamikta Ke Pate Se Sawal Hona Chahiye Unhen Shiksha Swasthya Dekhbhal Aur Kaushal Jaisi Buniyaadi Gunavatta Wali Sevayen Pradan Karne Ke Prayaso Ko Lena Chahiye In Village Ko Swayam Sthayi Gav Arthavyavastha Mein Parivartit Karne Ka Prayas Karen Rashtra Ke Pita Mahatma Gandhi Ko Gav Ki Sthiti Ko Samajhte Hain Samasya Aur Isliye Unhone Kaha Gawon Ki Oar Jata Hai 3.8 Ke Vicharon ·
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए रोहिंगिया अभी इतना निश्चित है बताया नहीं जा सकता है कि देश को खतरा है या नहीं खतरा है लेकिन हमारे पास पहले ही इतनी पॉपुलेशन है जो हम एग्जिट स्टिंग ऑपरेशन है उसके बारे में कुछ कर नहीं पा रहे हैं ...
जवाब पढ़िये
देखिए रोहिंगिया अभी इतना निश्चित है बताया नहीं जा सकता है कि देश को खतरा है या नहीं खतरा है लेकिन हमारे पास पहले ही इतनी पॉपुलेशन है जो हम एग्जिट स्टिंग ऑपरेशन है उसके बारे में कुछ कर नहीं पा रहे हैं उन तक बिजली नहीं पहुंच पाए पर है तू इतनी बड़ी रोहिंग्या की पॉपुलेशन है वह हम अपने अंदर कहां से रख सकते हैं अभी तक तो बस यह समस्या है बाद में लेकिन हम यह भी नहीं पता कि शायद वह कंट्री क्लब बन जाए एक बार अगर वह कंट्री में रहने लगी ना कर नष्ट हो गया यहां के हम सिटीजनशिप मिल जाए तो बाद में खतरा भी बन सकते हैं तो यह तो पहली बात की बातें तो फिर निकाला कि नहीं जा रहा गवर्नमेंट जाए तुमको एक दिन में निकाल सकते लेकिन उसके लिए बहुत जनता का सपोर्ट चाहिए मुस्लिम वर्ग रोहिंग्या का जो है वह सपोर्ट कर रहे हैं कि नहीं वह हमारे भाई हैं उनको यह नहीं पता चल रहा है कि अगर कभी कुछ इस देश में होता है तो फिर उनका ही नाम बदनाम होने के कारण होता है तो पूरे मुसलमान जोक्स जाती हैं उनका नाम बदनाम होगा तुम ही नहीं समझ में आ रहा है अगर उनको खुद के देश निकाला जा रहा तो कोई ना कोई तो कारण होगा कोई गवर्नमेंट सिटीजन को ऐसे ही नहीं निकालती है तो यह बात समझनी चाहिए कि लोगों को अन्य पार्टी को जो विरोध में खड़ी है उसके बाद सरकार के खिलाफ विरोध करना चाहिएDekhie Rohingiya Abhi Itna Nishchit Hai Bataya Nahi Ja Sakta Hai Ki Desh Ko Khatra Hai Ya Nahi Khatra Hai Lekin Hamare Paas Pehle Hi Itni Population Hai Jo Hum Exit Sting Operation Hai Uske Bare Mein Kuch Kar Nahi Pa Rahe Hain Un Tak Bijli Nahi Pahunch Paye Par Hai Tu Itni Badi Rohingya Ki Population Hai Wah Hum Apne Andar Kahan Se Rakh Sakte Hain Abhi Tak To Bus Yeh Samasya Hai Baad Mein Lekin Hum Yeh Bhi Nahi Pata Ki Shayad Wah Country Club Ban Jaye Ek Bar Agar Wah Country Mein Rehne Lagi Na Kar Nasht Ho Gaya Yahan Ke Hum Citizenship Mil Jaye To Baad Mein Khatra Bhi Ban Sakte Hain To Yeh To Pehli Baat Ki Batein To Phir Nikaala Ki Nahi Ja Raha Government Jaye Tumko Ek Din Mein Nikal Sakte Lekin Uske Liye Bahut Janta Ka Support Chahiye Muslim Varg Rohingya Ka Jo Hai Wah Support Kar Rahe Hain Ki Nahi Wah Hamare Bhai Hain Unko Yeh Nahi Pata Chal Raha Hai Ki Agar Kabhi Kuch Is Desh Mein Hota Hai To Phir Unka Hi Naam Badnaam Hone Ke Kaaran Hota Hai To Poore Musalman Jokes Jati Hain Unka Naam Badnaam Hoga Tum Hi Nahi Samajh Mein Aa Raha Hai Agar Unko Khud Ke Desh Nikaala Ja Raha To Koi Na Koi To Kaaran Hoga Koi Government Citizen Ko Aise Hi Nahi Nikalati Hai To Yeh Baat Samajhni Chahiye Ki Logon Ko Anya Party Ko Jo Virodh Mein Khadi Hai Uske Baad Sarkar Ke Khilaf Virodh Karna Chahiye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon