tag_img

Ravana


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ऐसे MLA जो है वह सिर्फ ऐसा बयान देना है चाटुकारिता की श्रेणी में आता है जो चाहते हैं कि हम ऐसे व्यंग व्यंग कमेंट करके आ व्यंग बयान देकर हम जो है पार्टी के नजरों में एक अभिनेता की तरह रहेंगे तो ...
जवाब पढ़िये
देखिए ऐसे MLA जो है वह सिर्फ ऐसा बयान देना है चाटुकारिता की श्रेणी में आता है जो चाहते हैं कि हम ऐसे व्यंग व्यंग कमेंट करके आ व्यंग बयान देकर हम जो है पार्टी के नजरों में एक अभिनेता की तरह रहेंगे तो ऐसा कुछ है नहीं पार्टी इससे नाराज ही होती है क्योंकि मीडिया में जो है मीडिया छोटी-छोटी बातों को बडा बडा बना देती है तो कुल मिलाकर देखिए अभी योगी जी योगी जी का जो है यह फूलपुर उपचुनाव में जो है नंदी जी ने ऐसे सभी पार्टी को मुलायम सिंह यादव लगभग सभी को लपेटे हुए किसी को मेघनाथ किसी को रावण की उपाधि दी थी और सपना ख्वाब मायावती जी को तो कुल मिलाकर बात यह है कि यह जादू करता की श्रेणी में आता है यह सरासर गलत है इसका पुरजोर विरोध होना चाहिएDekhie Aise MLA Jo Hai Wah Sirf Aisa Bayan Dena Hai Chaatukaarita Ki Shrenee Mein Aata Hai Jo Chahte Hain Ki Hum Aise Vyang Vyang Comment Karke Aa Vyang Bayan Dekar Hum Jo Hai Party Ke Najaron Mein Ek Abhineta Ki Tarah Rahenge To Aisa Kuch Hai Nahi Party Isse Naaraj Hi Hoti Hai Kyonki Media Mein Jo Hai Media Choti Choti Baaton Ko Bada Bada Bana Deti Hai To Kul Milakar Dekhie Abhi Yogi Ji Yogi Ji Ka Jo Hai Yeh Phoolpur Upchunav Mein Jo Hai Nandi Ji Ne Aise Sabhi Party Ko Mulayam Singh Yadav Lagbhag Sabhi Ko Lapete Hue Kisi Ko Meghnath Kisi Ko Ravan Ki Upadhi Di Thi Aur Sapna Khwab Mayawati Ji Ko To Kul Milakar Baat Yeh Hai Ki Yeh Jadu Karta Ki Shrenee Mein Aata Hai Yeh Sarasar Galat Hai Iska Purjor Virodh Hona Chahiye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शतानंद शायद मेरे ख्याल से मात पिता ने किया अगर आई एम सॉरी मेरा आंसर रॉन्ग हो तो मुझे करेक्ट करें प्लीज...
जवाब पढ़िये
शतानंद शायद मेरे ख्याल से मात पिता ने किया अगर आई एम सॉरी मेरा आंसर रॉन्ग हो तो मुझे करेक्ट करें प्लीजShatanand Shayad Mere Khayal Se Maat Pita Ne Kiya Agar Eye Em Sorry Mera Answer Wrong Ho To Mujhe Correct Karen Please
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज की रामायण या महाभारत जो भी लिखा गया है क्योंकि जीरो की खोज है लगभग 224 से 383 वर्ष मतलब बिल्कुल हुई थी तो पहले बात नहीं है कुछ चीजें सही है अगर आप उचित को मानते हैं विश्वास करते हैं तो मानिए कुछ ऐस...
जवाब पढ़िये
आज की रामायण या महाभारत जो भी लिखा गया है क्योंकि जीरो की खोज है लगभग 224 से 383 वर्ष मतलब बिल्कुल हुई थी तो पहले बात नहीं है कुछ चीजें सही है अगर आप उचित को मानते हैं विश्वास करते हैं तो मानिए कुछ ऐसे तत्व है जो कि लगता है कि रामायण महाभारत के अंदर ही हुआ होगा और काउंटिंग माजीसा की बातें हैं अगर विश्वास है तो विश्वास कीजिएAaj Ki Ramayana Ya Mahabharat Jo Bhi Likha Gaya Hai Kyonki Zero Ki Khoj Hai Lagbhag 224 Se 383 Varsh Matlab Bilkul Hui Thi To Pehle Baat Nahi Hai Kuch Cheezen Sahi Hai Agar Aap Uchit Ko Manate Hain Vishwas Karte Hain To Maaniye Kuch Aise Tatva Hai Jo Ki Lagta Hai Ki Ramayana Mahabharat Ke Andar Hi Hua Hoga Aur Kaunting Majisa Ki Batein Hain Agar Vishwas Hai To Vishwas Kijiye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
शब्द मूल रूप से ईराईवन का संस्कृतकरण हो सकता है, जो भगवान या राजा के लिए तमिल नाम है। रावणहास कई अन्य लोकप्रिय नाम जैसे दासिस रावण, दासिस सक्विती महारवाना, दशाणन, रावुला, लंकेश्वर, लंकेश्वरन, रावणसुरा, रावणेश्वरन, एला वेंधर।
Romanized Version
शब्द मूल रूप से ईराईवन का संस्कृतकरण हो सकता है, जो भगवान या राजा के लिए तमिल नाम है। रावणहास कई अन्य लोकप्रिय नाम जैसे दासिस रावण, दासिस सक्विती महारवाना, दशाणन, रावुला, लंकेश्वर, लंकेश्वरन, रावणसुरा, रावणेश्वरन, एला वेंधर।Shabdh Mul Roop Se Iraivan Ka Sanskritkaran Ho Sakta Hai Jo Bhagwan Ya Raja Ke Liye Tamil Naam Hai Rawanahas Kai Anya Lokpriya Naam Jaise Dasis Ravan Dasis Sakwiti Maharvana Dashanan Rawula Lankeshwar Lankeshwaran Rawanasura Rawaneshwaran Ela Vendhar
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
रावण का प्राचीन नाम दशानन भी थाl रावण शक्तिशाली राजा था l रावण शिव भक्त था l रावण का दशानन नाम इसके 10 सिर ओके आधार पर रखा थाl रावण लंका में रहता थाl
Romanized Version
रावण का प्राचीन नाम दशानन भी थाl रावण शक्तिशाली राजा था l रावण शिव भक्त था l रावण का दशानन नाम इसके 10 सिर ओके आधार पर रखा थाl रावण लंका में रहता थाlRavan Ka Prachin Naam Dashaanan Bhi Thaa Ravan Shaktishaali Raja Thaa L Ravan Shiv Bhakta Thaa L Ravan Ka Dashaanan Naam Iske 10 Sheer Ok Aadhaar Per Rakhaa Thaa Ravan Lanka Mein Rehta Thaa
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखे रावण के कितने नाम है यह पूरा कहीं पर भी नहीं दिया हुआ मैंने आपका इंटरनेट पर सर्च किया तो रावण की कुछ ना मैं आपको बताता हूं यह तो रावण है दूसरा जो नाम है वह लंकापति है लंकापति का अर्थ क्या होता है...
जवाब पढ़िये
दिखे रावण के कितने नाम है यह पूरा कहीं पर भी नहीं दिया हुआ मैंने आपका इंटरनेट पर सर्च किया तो रावण की कुछ ना मैं आपको बताता हूं यह तो रावण है दूसरा जो नाम है वह लंकापति है लंकापति का अर्थ क्या होता है या की लंका का राजा है तीसरा नाम जो है दशानन है दशानन मतलब कि जिस किधर हो उसे दशानन कहते हैं कि यह कुछ जो राम रावण के नाम है और उनके मतलबDikhe Ravan Ke Kitne Naam Hai Yeh Pura Kahin Par Bhi Nahi Diya Hua Maine Aapka Internet Par Search Kiya To Ravan Ki Kuch Na Main Aapko Batata Hoon Yeh To Ravan Hai Doosra Jo Naam Hai Wah Lankapati Hai Lankapati Ka Arth Kya Hota Hai Ya Ki Lanka Ka Raja Hai Teesra Naam Jo Hai Dashanan Hai Dashanan Matlab Ki Jis Kidhar Ho Use Dashanan Kehte Hain Ki Yeh Kuch Jo Ram Ravan Ke Naam Hai Aur Unke Matlab
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
चौदहवें वर्ष में निर्वासन के अंतिम वर्ष। तब सियाराम ने अपनी योजना को अंजाम दिया और इसलिए चीजें उस जगह गिरने लगीं जहां शूरपंका आशीर्वाद के रूप में आए थे।रावत के उन्मूलन के सीता के अपहरण के दिन से, राम-सीता संघ के लिए लगभग नौ महीने लग गए।
Romanized Version
चौदहवें वर्ष में निर्वासन के अंतिम वर्ष। तब सियाराम ने अपनी योजना को अंजाम दिया और इसलिए चीजें उस जगह गिरने लगीं जहां शूरपंका आशीर्वाद के रूप में आए थे।रावत के उन्मूलन के सीता के अपहरण के दिन से, राम-सीता संघ के लिए लगभग नौ महीने लग गए।Chaudahaven Varsh Mein Nirvaasan Ke Antim Varsh Tab Siyaram Ne Apni Yojana Ko Anjaam Diya Aur Isliye Cheezen Us Jagah Girne Leggin Jahan Shurapanka Ashirvaad Ke Roop Mein Aaye The Rawat Ke Unmulan Ke Sita Ke Apharan Ke Din Se Ram Sita Sangh Ke Liye Lagbhag Nau Mahine Lag Gaye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विभीषण राम के विरोध क्यों किया था क्योंकि अधिवेशन जो था वह एक ज्ञानी पुरुष का विशेषण को नॉलेज थी कि वह किसके साथ रावण जो है बाहर ले रहा है उसे पता था कि जो भगवान श्रीराम ने को श्री हरि विष्णु के रूप ह...
जवाब पढ़िये
विभीषण राम के विरोध क्यों किया था क्योंकि अधिवेशन जो था वह एक ज्ञानी पुरुष का विशेषण को नॉलेज थी कि वह किसके साथ रावण जो है बाहर ले रहा है उसे पता था कि जो भगवान श्रीराम ने को श्री हरि विष्णु के रूप है तो इसलिए रावण विभीषण विद्रोही की यात्रा 179 समझाने की कोशिश की थी लेकिन राहुल उनकी बात नहीं मानीVibhishan Ram Ke Virodh Kyon Kiya Tha Kyonki Adhiveshan Jo Tha Wah Ek Gyani Purush Ka Visheshan Ko Knowledge Thi Ki Wah Kiske Saath Ravan Jo Hai Bahar Le Raha Hai Use Pata Tha Ki Jo Bhagwan Shriram Ne Ko Shri Hari Vishnu Ke Roop Hai To Isliye Ravan Vibhishan Vidrohi Ki Yatra 179 Samjhaane Ki Koshish Ki Thi Lekin Rahul Unki Baat Nahi Maani
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
रावण हिंदू महाकाव्य रामायण में एक चरित्र है जहां उन्हें कुंभकर्ण - हिंदू इतिहास में सबसे अधिक आकर्षक राक्षसों में से एक के रूप में चित्रित किया गया है।
Romanized Version
रावण हिंदू महाकाव्य रामायण में एक चरित्र है जहां उन्हें कुंभकर्ण - हिंदू इतिहास में सबसे अधिक आकर्षक राक्षसों में से एक के रूप में चित्रित किया गया है। Ravan Hindu Mahakavya Ramayana Mein Ek Charitra Hai Jahan Unhen Kumbhakarn - Hindu Itihas Mein Sabse Adhik Aakarshak Rakshason Mein Se Ek Ke Roop Mein Chitrit Kiya Gaya Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
रावण लंका का राजा था वह अपने 10 सिरों से भी जाना जाता था।जिसके कारण उसका नाम दशानन यानी (दश+आनन) था।
Romanized Version
रावण लंका का राजा था वह अपने 10 सिरों से भी जाना जाता था।जिसके कारण उसका नाम दशानन यानी (दश+आनन) था।Ravan Lanka Ka Raja Tha Wah Apne 10 Siron Se Bhi Jana Jata Tha Jiske Kaaran Uska Naam Dashanan Yani Tha
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
रावण रामायण का एक प्रमुख प्रतिचरित्र है रावण लंका का राजा था वह अपने दस सिरों के कारण भी जाना जाता था, जिसके कारण उसका नाम दशानन (दश = दस + आनन = मुख) भी था। किसी भी कृति के लिये नायक के साथ ही सशक्त खलनायक का होना अति आवश्यक है रामकथा में रावण ऐसा पात्र है, जो राम के उज्ज्वल चरित्र को उभारने काम करता है किंचित मान्यतानुसार रावण में अनेक गुण भी थे सारस्वत ब्राह्मण पुलस्त्य ऋषि का पौत्र और विश्रवा का पुत्र रावण एक परम शिव भक्त, उद्भट राजनीतिज्ञ , महापराक्रमी योद्धा , अत्यन्त बलशाली , शास्त्रों का प्रखर ज्ञाता ,प्रकान्ड विद्वान पंडित एवं महाज्ञानी था रावण के शासन काल में लंका का वैभव अपने चरम पर था इसलिये उसकी लंकानगरी को सोने की लंका अथवा सोने की नगरी भी कहा जाता है।
रावण रामायण का एक प्रमुख प्रतिचरित्र है रावण लंका का राजा था वह अपने दस सिरों के कारण भी जाना जाता था, जिसके कारण उसका नाम दशानन (दश = दस + आनन = मुख) भी था। किसी भी कृति के लिये नायक के साथ ही सशक्त खलनायक का होना अति आवश्यक है रामकथा में रावण ऐसा पात्र है, जो राम के उज्ज्वल चरित्र को उभारने काम करता है किंचित मान्यतानुसार रावण में अनेक गुण भी थे सारस्वत ब्राह्मण पुलस्त्य ऋषि का पौत्र और विश्रवा का पुत्र रावण एक परम शिव भक्त, उद्भट राजनीतिज्ञ , महापराक्रमी योद्धा , अत्यन्त बलशाली , शास्त्रों का प्रखर ज्ञाता ,प्रकान्ड विद्वान पंडित एवं महाज्ञानी था रावण के शासन काल में लंका का वैभव अपने चरम पर था इसलिये उसकी लंकानगरी को सोने की लंका अथवा सोने की नगरी भी कहा जाता है।
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी कि आपने पूछा रावण का खजाना कहां पर छुपा हुआ है तू बिलकुल रावण को सोने का नगरी बोला जाता तो बिल्कुल लव सोने का नगी जब दो ब्याने के बाद बदल जब खत्म हो गया तो उसका जाना है कहां तू कुछ जो वस्त्र विज्...
जवाब पढ़िये
किसी कि आपने पूछा रावण का खजाना कहां पर छुपा हुआ है तू बिलकुल रावण को सोने का नगरी बोला जाता तो बिल्कुल लव सोने का नगी जब दो ब्याने के बाद बदल जब खत्म हो गया तो उसका जाना है कहां तू कुछ जो वस्त्र विज्ञान के लोग हैं उन्होंने कुछ ढूंढ है और धुलने के बाद में तो कुछ अवशेष मिले हैं कि और कुछ ऐसा माना जाता है कि पहाड़ है उसके नीचे खजाना दबा पर है टिकट BSF मारना है लोग का अभी तक कोई ठोस पुख्ता सबूत नहीं मिला है कुछ लोग तेजी से नहीं मिली है लेकिन ऐसी चीज ऐसी जो है लोगों का मानना हैKisi Ki Aapne Poocha Ravan Ka Khajana Kahan Par Chhupa Hua Hai Tu Bilkul Ravan Ko Sone Ka Nagari Bola Jata To Bilkul Love Sone Ka Nagi Jab Do Byane Ke Baad Badal Jab Khatam Ho Gaya To Uska Jana Hai Kahan Tu Kuch Jo Vastra Vigyan Ke Log Hain Unhone Kuch Dhundh Hai Aur Dhulane Ke Baad Mein To Kuch Avshesh Mile Hain Ki Aur Kuch Aisa Mana Jata Hai Ki Pahad Hai Uske Neeche Khajana Daba Par Hai Ticket BSF Maarna Hai Log Ka Abhi Tak Koi Thos Pukhta Sabut Nahi Mila Hai Kuch Log Teji Se Nahi Mili Hai Lekin Aisi Cheez Aisi Jo Hai Logon Ka Manana Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम ने रावण को मारा वास्तव में हीरो कौन था तो हमारे देश में राम की भी पूजा होती है मूसली तो राम की पूजा होती है और रावण की भी कोई जगह पर होती है तो परसेंट हो पसंद वही करता है क्योंकि पूजा दोनों की होत...
जवाब पढ़िये
राम ने रावण को मारा वास्तव में हीरो कौन था तो हमारे देश में राम की भी पूजा होती है मूसली तो राम की पूजा होती है और रावण की भी कोई जगह पर होती है तो परसेंट हो पसंद वही करता है क्योंकि पूजा दोनों की होती है जो लोग रावण की पूजा करते हैं जैसे श्रीलंका हो गया साउथ साउथ में भी रावण की पूजा होती है बिहार की कुछ गांव है कुछ ऐसी जगह है जहां रावण की पूजा होती तो जाहिर सी बात है उनके लिए हीरो तो रावण होगा और राम उनके लिए हीरो होंगे जो अपने आप को आदर्श मानते हैं राम के फॉल और मानते हैं उनके लिए राम हीरो है कुछ जगह ऐसी है जहां रावण को नहीं चलाया था उसको बहुत सम्मान दिया जाता है लेकिन हर नॉलेज की बात की जाए तो रावण को बहुत ज्यादा ज्ञान था एक बहुत ज्ञानी ब्राह्मण था और शायद हमारा नाम को इतना ज्ञान नहीं था जितना गिरावट को था उसकी गलती यह रही कि उसने सीता मां को अपहरण किया लेकिन उसमें एक अच्छाई जरूर दें कि सीता को अपहरण तो कुछ नहीं किया लेकिन कभी उन को टच नहीं किया लेकिन आज कल देखेंगे किसी लड़की का फ्रेंड हो जाता है तो उसके साथ गैंगरेप हो जाते हैं तो वैसे देखा जाए तो रावण एक बहुत अच्छा चरित्रवान व्यक्ति था उसके चरित्र था लेकिन उसने कभी अपहरण किया है उसने गलत कार्य किया लेकिन कविता को टच नहीं किया तो मुझे लगता है सम्मान दोनों का होना चाहिए राम का भी होना चाहिए रावण का भी होना चाहिएRam Ne Ravan Ko Mara Vaastav Mein Hero Kaun Tha To Hamare Desh Mein Ram Ki Bhi Puja Hoti Hai Muesli To Ram Ki Puja Hoti Hai Aur Ravan Ki Bhi Koi Jagah Par Hoti Hai To Percent Ho Pasand Wahi Karta Hai Kyonki Puja Dono Ki Hoti Hai Jo Log Ravan Ki Puja Karte Hain Jaise Sri Lanka Ho Gaya South South Mein Bhi Ravan Ki Puja Hoti Hai Bihar Ki Kuch Gav Hai Kuch Aisi Jagah Hai Jahan Ravan Ki Puja Hoti To Jaahir Si Baat Hai Unke Liye Hero To Ravan Hoga Aur Ram Unke Liye Hero Honge Jo Apne Aap Ko Adarsh Manate Hain Ram Ke Fall Aur Manate Hain Unke Liye Ram Hero Hai Kuch Jagah Aisi Hai Jahan Ravan Ko Nahi Chalaya Tha Usko Bahut Samman Diya Jata Hai Lekin Har Knowledge Ki Baat Ki Jaye To Ravan Ko Bahut Jyada Gyaan Tha Ek Bahut Gyani Brahman Tha Aur Shayad Hamara Naam Ko Itna Gyaan Nahi Tha Jitna Giraavat Ko Tha Uski Galti Yeh Rahi Ki Usne Sita Maa Ko Apharan Kiya Lekin Usamen Ek Acchai Jarur Dein Ki Sita Ko Apharan To Kuch Nahi Kiya Lekin Kabhi Un Ko Touch Nahi Kiya Lekin Aaj Kal Dekhenge Kisi Ladki Ka Friend Ho Jata Hai To Uske Saath Gangrape Ho Jaate Hain To Waise Dekha Jaye To Ravan Ek Bahut Accha Charitravaan Vyakti Tha Uske Charitra Tha Lekin Usne Kabhi Apharan Kiya Hai Usne Galat Karya Kiya Lekin Kavita Ko Touch Nahi Kiya To Mujhe Lagta Hai Samman Dono Ka Hona Chahiye Ram Ka Bhi Hona Chahiye Ravan Ka Bhi Hona Chahiye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बी के अंदर राजू रावण को जलाया जाता है हिंदू धर्म में तू कैसे जलाया जाता है वह बताया जाता है कि किस तरीके से जो है राम जी ने रावण को अंतिम खत्म कर दिया था या फिर उसका जो है विनाश कर दिया था तू उससे इसक...
जवाब पढ़िये
बी के अंदर राजू रावण को जलाया जाता है हिंदू धर्म में तू कैसे जलाया जाता है वह बताया जाता है कि किस तरीके से जो है राम जी ने रावण को अंतिम खत्म कर दिया था या फिर उसका जो है विनाश कर दिया था तू उससे इसका यह प्रतीत है कि जो बुराई पर अच्छाई की जीत होती है तो उसका पति की है रावण को जलाना तो यह आखिरी हद तक सही भी है क्योंकि अगर हम चलाते हैं तो हमको ध्यान रहता है कि इस पर्व पर या फिर उस दिन जो है हमारे जो हिंदू महिलाओं देश में कोई बहुत बड़ा कामB K Andorra Raju Ravan Co Jalaaya Jaata Hai Hindu Dharm Mein Tu Kaise Jalaaya Jaata Hai Wah Bataya Jaata Hai Qi Kiss Tarike Se Joe Hai Ram G Ne Ravan Co Antim Khatma Car Diya Thaa Ya Phir Uska Joe Hai Vinaash Car Diya Thaa Tu Usase Iska Yeh Prateet Hai Qi Joe Burai Per Acchai Ki Jeet Hoti Hai To Uska Pati Ki Hai Ravan Co Jalaana To Yeh Akhiri Hada Tak Sahi Bhi Hai Kyonki Agar Hum Chalaate Hain To Humko Dhyan Rehta Hai Qi Is Parv Per Ya Phir Oosh Din Joe Hai Hamare Joe Hindu Mahilao Desh Mein Koi Bahut Bada Kama
Likes  12  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निखिल रावण पापी क्यों था कल विजयदशमी थी और पूरे भारत में विजयदशमी जो है असत्य पर सत्य का बोल सकते हैं जी विजय के लिए मनाया जाता है पापी होने के कारण किया था उनको पापी कि नहीं आज वे लोग सोचते हैं उनके...
जवाब पढ़िये
निखिल रावण पापी क्यों था कल विजयदशमी थी और पूरे भारत में विजयदशमी जो है असत्य पर सत्य का बोल सकते हैं जी विजय के लिए मनाया जाता है पापी होने के कारण किया था उनको पापी कि नहीं आज वे लोग सोचते हैं उनके बारे में गजलें मतलब समझा कि उनका इलाज पाठ बिल्कुलNikhil Ravan Papi Kio Thaa Kal Vijayadashami Thi Aur Poore Bharat Mein Vijayadashami Joe Hai Asatya Per Satya Ka Bowl Sakte Hain G Vijay K Lie Manaaya Jaata Hai Papi Hone K Karan Kiya Thaa Unko Papi Qi Nahin Aj Whey Log Sochte Hain Unke Baare Mein Gajlen Matlab Samjha Qi Unka Ilaj Patha Bilkool
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दी कि कल जो दशहरा पर हादसा हुआ है अमृतसर में वह काफी दुख दायक है और जहां तक बात करें कि इस हादसे इस घटना के पीछे कौन जिम्मेदार है तु लगता है कि कहीं ना कहीं पुलिस प्रशासन को जिम्मेदार है देखिए कहां जा...
जवाब पढ़िये
दी कि कल जो दशहरा पर हादसा हुआ है अमृतसर में वह काफी दुख दायक है और जहां तक बात करें कि इस हादसे इस घटना के पीछे कौन जिम्मेदार है तु लगता है कि कहीं ना कहीं पुलिस प्रशासन को जिम्मेदार है देखिए कहां जा रहा है कि जो भी दशहरा की जो कमेटी होती है उन्होंने परमिशन ली थी पुलिस प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने भी परमिशन दे दी थी दशहरा बनाने के लिए यह बात साबित हो चुकी है तू कहने का मतलब यह है कि पुलिस प्रशासन ने इस बात की मंजूरी कैसे दे दी कि इतने छोटे से मैदान में दैनिक दशहरा के रावण का आयोजन किया जा सकता है पहली बार दूसरी बात इतनी छोटे मैदान में क्या कहते आपको बताओ नवजोत सिंह सिद्धू की वाइफ ने भाषण दिया था तो अब ऐसी बातें भीड़ तो मरेगी तो यह कैसे लागू किया गया और अगली बात यह है कि ना ही कोई मां पर सिक्योरिटी थी खास नहीं सही तरीके से आयोजन किया गया था यह दिखाता है कि हमारा कहीं ना कहीं सिस्टम खराब है और अगर सिस्टम अपना जिम्मेदारी सही से उठाता तो शायद वहां पर दशहरा के प्रोग्राम की आयोजन के लिए परमिशन ही नहीं देता तो इस पर जांच पड़ताल की जानी चाहिए हालांकि जांच की बात की जा चुकी है ऑलरेडी तो काफी दुख की बात है और इसके पीछे जो जिम्मेदार मुझे लगता है वह अथॉरिटी अथॉरिटीज लगती है जिन्होंने परमिशन दे दी थी यह दशहरा मनाने के लिए उस छोटे से मैदान में जो कि धोबी घाट मैदान के नाम से जाना जाता हैThey Qi Kal Joe Dussehra Per Haadasaa Hua Hai Amritsar Mein Wah Kaafi Dukh Daayak Hai Aur Jhan Tak Baat Karein Qi Is Haadse Is Ghatna K Pichhe Kaun Jimmedar Hai Tu Lagta Hai Qi Kahin Na Kahin Police Prashasan Co Jimmedar Hai Dekhiye Kahan Ja Raha Hai Qi Joe Bhi Dussehra Ki Joe Kameti Hoti Hai Unhonne Paramishan Li Thi Police Prashasan Aur Police Prashasan Ne Bhi Paramishan They They Thi Dussehra Banaane K Lie Yeh Baat Sabith Ho Chukii Hai Tu Kahane Ka Matlab Yeh Hai Qi Police Prashasan Ne Is Baat Ki Manjuri Kaise They They Qi Itne Chhote Se Maidan Mein Dainik Dussehra K Ravan Ka Ayojan Kiya Ja Sakta Hai Pehli Bar Dusri Baat Itni Chhote Maidan Mein Kya Kehte Aapko Batao Navjot Singh Siddhu Ki Wife Ne Bhaashan Diya Thaa To Aba Aisi Batein Bhid To Maregi To Yeh Kaise Laghu Kiya Gaya Aur Agli Baat Yeh Hai Qi Na Hea Koi Man Per Sikyoriti Thi Khas Nahin Sahi Tarike Se Ayojan Kiya Gaya Thaa Yeh Dikhaata Hai Qi Hamara Kahin Na Kahin System Kharab Hai Aur Agar System Apna Jimmedari Sahi Se Uthaataa To Shayad Vahan Per Dussehra K Program Ki Ayojan K Lie Paramishan Hea Nahin Deta To Is Per Janch Padtal Ki Jani Chahie Halanki Janch Ki Baat Ki Ja Chukii Hai Already To Kaafi Dukh Ki Baat Hai Aur Iske Pichhe Joe Jimmedar Mujhe Lagta Hai Wah Athariti Atharitij Lagati Hai Jinhonne Paramishan They They Thi Yeh Dussehra Manane K Lie Oosh Chhote Se Maidan Mein Joe Qi Dhobi Ghat Maidan K Naam Se Jaana Jaata Hai
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज कि आप झूठ बोल रहे हैं कि उनकी हालत सही है तो बहुत अच्छा लगता है सुनने में लेकिन दूसरी चीज जब यह भी देखें कि क्राइम कर रहे हैं बिल्कुल ठीक है उस आदिशक्ति ऑफिस लिए जो है लोकतंत्र को कहीं न कहीं अलग क...
जवाब पढ़िये
आज कि आप झूठ बोल रहे हैं कि उनकी हालत सही है तो बहुत अच्छा लगता है सुनने में लेकिन दूसरी चीज जब यह भी देखें कि क्राइम कर रहे हैं बिल्कुल ठीक है उस आदिशक्ति ऑफिस लिए जो है लोकतंत्र को कहीं न कहीं अलग करता है लोकतंत्र को ठोकर पहुंचाता है एक बजा है कि जब तक एक चीज होती है मानवता के अनुसार सी सजा मिलनी चाहिए किसी को जिंदा जला देना कहीं का भी नया नहीं है कोई कहीं मानवता नहीं है तो इस चीज को भी ध्यान रखना बहुत जरूरी है ठीक है अब मैं इस बात से पूरी तरह सहमत नहीं हूं कि अब तो चौराहे पर जला रही कि मानवता पर कानून व्यवस्था और सृष्टि की सजा मिलनी चाहिए पूरी पूरी तरह से स्ट्रिक्ट एक्शन लीजिए सही सजा मिलनी चाहिए कि ना जिंदा जलाना इस वक्त मैं पूरी तरह सहमतAj Qi Aap Jhuth Bowl Rahe Hain Qi Unki Hallet Sahi Hai To Bahut Accha Lagta Hai Sunane Mein Lekin Dusri Chij Jab Yeh Bhi Dekhe Qi Crime Car Rahe Hain Bilkool Thik Hai Oosh Aadishakti Office Lie Joe Hai Lokatantra Co Kahin Na Kahin Eluga Karata Hai Lokatantra Co Thokar Pahunchata Hai Ek Baja Hai Qi Jab Tak Ek Chij Hoti Hai Manvata K Anusar C Saja Milani Chahie Kisi Co Jinda Jalla Dena Kahin Ka Bhi Naya Nahin Hai Koi Kahin Manvata Nahin Hai To Is Chij Co Bhi Dhyan Rakhna Bahut Zaroori Hai Thik Hai Aba Main Is Baat Se Poori Turha Sahmat Nahin Hoon Qi Aba To Chorahe Per Jalla Rahi Qi Manvata Per Kanun Vyavastha Aur Shrushti Ki Saja Milani Chahie Poori Poori Turha Se Strict Action Lijiye Sahi Saja Milani Chahie Qi Na Jinda Jalaana Is Vakt Main Poori Turha Sahmat
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस देश में दो चीज हो सकती है रावण से भक्त हो सकता है लेकिन राम ने मतलब रावण का वध किया था जिसमें की बोला जाता है की बुराई से बदलाव की जो नकारात्मक सोच से छुटकारा पाते हैं बुराई पर अच्छाई की जीत होती ...
जवाब पढ़िये
किस देश में दो चीज हो सकती है रावण से भक्त हो सकता है लेकिन राम ने मतलब रावण का वध किया था जिसमें की बोला जाता है की बुराई से बदलाव की जो नकारात्मक सोच से छुटकारा पाते हैं बुराई पर अच्छाई की जीत होती है तो इसलिए रावण का दहन क्यों किया जाता हैKis Desh Mein Do Cheez Ho Sakti Hai Ravan Se Bhakt Ho Sakta Hai Lekin Ram Ne Matlab Ravan Kangaroo Vadh Kiya Tha Jisme Ki Bola Jata Hai Ki Burayi Se Badlav Ki Jo Nakaratmak Soch Se Chhutkara Paate Hain Burayi Par Acchai Ki Jeet Hoti Hai To Isliye Ravan Kangaroo Dahan Kyon Kiya Jata Hai
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रावण के बारे में हम सब यही जानते हैं कि ब्राह्मण कुल के जन्मा एक राक्षस प्रवृत्ति का राक्षसी प्रवृत्ति का व्यक्ति था बहरहाल रावण के पिछले जन्म के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं पूर्व जन्म में एक आदर्श...
जवाब पढ़िये
रावण के बारे में हम सब यही जानते हैं कि ब्राह्मण कुल के जन्मा एक राक्षस प्रवृत्ति का राक्षसी प्रवृत्ति का व्यक्ति था बहरहाल रावण के पिछले जन्म के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं पूर्व जन्म में एक आदर्श राजा था लेकिन फिर ऐसा कुछ हुआ कि ब्राह्मणों के श्राप से जन्म में राक्षस के रूप में जन्म लेना पड़ा पड़े रावण के पूर्व जन्म की पूरी कहानी है कि रावण में उल्लेख है कि कई देश में सत्यकेतु नामक राजा था वह धर्म नीति पर चलने वाला तेजस्वी प्रताप और बलशाली राजा था उसके दो पुत्र थे पहला भानु प्रताप और दूसरा अली मर्दन तो दोनों भाई बहुत प्रतिभाशाली थे और मेल मिलाप से रहने वाले थे मनु प्रतापी अगले जन्म में रावण बना है तो पिता के निधन के बाद भानु प्रताप ने राज्यसभा लाहौर अपने राज्य के विस्तार के लिए युद्ध शुरू कर दी है उसका कई राजाओं को हराया और उनके राज्य पर कब्जा कर लिया पूरी धरती पर भानु प्रताप के चर्चा होने लगे उसके राज्य प्रजा बहुत खुश थीRavan Ke Bare Mein Hum Sab Yahi Jante Hain Ki Brahman Kul Ke Janma Ek Rakshas Pravritti Ka Raakshasee Pravritti Ka Vyakti Tha Baharahal Ravan Ke Pichhle Janm Ke Bare Mein Bahut Kam Log Jante Hain Purv Janm Mein Ek Adarsh Raja Tha Lekin Phir Aisa Kuch Hua Ki Brahmanon Ke Shraap Se Janm Mein Rakshas Ke Roop Mein Janm Lena Pada Pade Ravan Ke Purv Janm Ki Puri Kahani Hai Ki Ravan Mein Ullekh Hai Ki Kai Desh Mein Satyaketu Namak Raja Tha Wah Dharm Niti Par Chalne Vala Tejaswi Pratap Aur Balashaalee Raja Tha Uske Do Putr The Pehla Bhanu Pratap Aur Doosra Ali Mardana To Dono Bhai Bahut Pratibhashali The Aur Mail Milap Se Rehne Wali The Manu Prataapee Agle Janm Mein Ravan Bana Hai To Pita Ke Nidhan Ke Baad Bhanu Pratap Ne Rajya Sabha Lahore Apne Rajya Ke Vistar Ke Liye Yudh Shuru Kar Di Hai Uska Kai Rajao Ko Haraya Aur Unke Rajya Par Kabja Kar Liya Puri Dharti Par Bhanu Pratap Ke Charcha Hone Lage Uske Rajya Praja Bahut Khush Thi
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मध्य प्रदेश के अंजोरिया विदिशा जिला है वहां पर रावण का एक मंदिर है जहां पर वह पूछा पूरा जो गांव है जिसका नाम रावण ग्राम में जो गांव में रावण की पूजा करता है और रावण के माने जाते हैं क्योंकि रावण ने का...
जवाब पढ़िये
मध्य प्रदेश के अंजोरिया विदिशा जिला है वहां पर रावण का एक मंदिर है जहां पर वह पूछा पूरा जो गांव है जिसका नाम रावण ग्राम में जो गांव में रावण की पूजा करता है और रावण के माने जाते हैं क्योंकि रावण ने काफी बड़ा रशीदा ब्राह्मण था पहले के जमाने में और उसने भगवान शिव के शिव की भोंसड़ी तपस्या की थी और वह काफी बड़ा भक्त शिव जी काMadhya Pradesh Ke Anjoriya Vidisha Jila Hai Wahan Par Ravan Ka Ek Mandir Hai Jahan Par Wah Poocha Pura Jo Gav Hai Jiska Naam Ravan Gram Mein Jo Gav Mein Ravan Ki Puja Karta Hai Aur Ravan Ke Mane Jaate Hain Kyonki Ravan Ne Kafi Bada Rasheeda Brahman Tha Pehle Ke Jamaane Mein Aur Usne Bhagwan Shiv Ke Shiv Ki Bhonsadi Tapasya Ki Thi Aur Wah Kafi Bada Bhakt Shiv G Ka
Likes  13  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

काफी काय करने की कोशिश करी लेकिन मैं से कनेक्ट हो तब तक पहुंच नहीं पा रहा हूं आप मुझे बताएंगे तो मुझे बहुत खुशी होगी जान के...
जवाब पढ़िये
काफी काय करने की कोशिश करी लेकिन मैं से कनेक्ट हो तब तक पहुंच नहीं पा रहा हूं आप मुझे बताएंगे तो मुझे बहुत खुशी होगी जान केKafi Kaya Karne Ki Koshish Kari Lekin Main Se Connect Ho Tab Tak Pahunch Nahi Pa Raha Hoon Aap Mujhe Batayenge To Mujhe Bahut Khushi Hogi Jaan Ke
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राक्षस उसे भी नहीं किया था परशुराम में उन्होंने 617 बार से जो है 17 बार टोटल मिलाके जो भी राजपूत हैं उनको जब धरती से भिन्न किया था...
जवाब पढ़िये
राक्षस उसे भी नहीं किया था परशुराम में उन्होंने 617 बार से जो है 17 बार टोटल मिलाके जो भी राजपूत हैं उनको जब धरती से भिन्न किया थाRakshas Use Bhi Nahi Kiya Tha Parshuram Mein Unhone 617 Baar Se Jo Hai 17 Baar Total Milake Jo Bhi Rajput Hain Unko Jab Dharti Se Bhinn Kiya Tha
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रावण की बेटी कौन थी तो संतोष आ जाए ना भजनों का महीना जो है उसमें और अद्भुत रामायण उसमें जो है माना माना गया है कि सीता जी उनकी बेटी...
जवाब पढ़िये
रावण की बेटी कौन थी तो संतोष आ जाए ना भजनों का महीना जो है उसमें और अद्भुत रामायण उसमें जो है माना माना गया है कि सीता जी उनकी बेटीRavan Ki Beti Kaon Thi To Santosh Aa Jaye Na Bhajanon Ka Mahina Jo Hai Usamen Aur Adbhut Ramayana Usamen Jo Hai Mana Mana Gaya Hai Ki Sita G Unki Beti
Likes  18  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रावण के पिता का नाम विश्रम था...
जवाब पढ़िये
रावण के पिता का नाम विश्रम थाRavan Ke Pita Ka Naam Vishram Tha
Likes  18  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रावण का जन्म जो है वह विश्वनाथ में विश रावत कुटिया में हुआ था...
जवाब पढ़िये
रावण का जन्म जो है वह विश्वनाथ में विश रावत कुटिया में हुआ था
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर बात करें कि रावण को क्यों मारा गया रावण तो है बोला जाता है कि सबसे बड़े शिव भक्त रावण ही था बहुत ज्यादा चीजो का ज्ञान उनको था क्योंकि उनके पिता जो खुद जाना नहीं थे उनकी मां राक्षस की थी तो कुल डोर...
जवाब पढ़िये
अगर बात करें कि रावण को क्यों मारा गया रावण तो है बोला जाता है कि सबसे बड़े शिव भक्त रावण ही था बहुत ज्यादा चीजो का ज्ञान उनको था क्योंकि उनके पिता जो खुद जाना नहीं थे उनकी मां राक्षस की थी तो कुल डोरेमोन का राक्षस का ही था पर बोला जाता है कि वह याद आ गया ना मन में था और इसी कारण से जो है वह बाद में उनको घमंड हो गया था फिर अपनी मेहर बहन के बोलने पर हीरो है वह कहां जाता है रावण ने सीता को चुरा जिसके कारण के राम ने उनका व्रत कर दिया तो देखे यह सब जो है वह पहले से ही लिखा हुआ होता है घमंड का सर हमेशा नीचा होता है अगर वह दुष्कर्म करता है तो उसका कभी भी फल उसको नहीं मिल सकता है अच्छा उसको हमेशा बुरा ही फल मिलता है जिस कारण की राम ने रावण का वध कर दिया था और रावण की जो है यह दुष्कर्म ही था जिसके कारण कि उनका खुद का भाई विभीषण ने उनका साथ छोड़ दिया और जाकर राम को उनकी सारी बातें बताई थी
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी रावण और राम बिल्कुल दोनों महान थे बोला जाता है कि राम तो भगवान थे और रावण जैसा विद्वान ब्राह्मण पूरे वर्ल्ड में कोई नहीं था पूरी दुनिया में कोई नहीं दोगे तो बहुत ही विद्वान व्यक्ति बहुत ही महान व...
जवाब पढ़िये
विकी रावण और राम बिल्कुल दोनों महान थे बोला जाता है कि राम तो भगवान थे और रावण जैसा विद्वान ब्राह्मण पूरे वर्ल्ड में कोई नहीं था पूरी दुनिया में कोई नहीं दोगे तो बहुत ही विद्वान व्यक्ति बहुत ही महान व्यक्ति थे लोग भगवान को राम को जो भगवान मानते क्योंकि राम एक भगवान की पर रावण ने ऐसी गलती उन्होंने जो है सीता का हरण क्यों है इसका मतलब रूप में राक्षस रूप में जाना था कि जो भी इंसान जो गलत काम करता है जो गलत काम को सपोर्ट करता हुआ इंसान दिखा जाता है और अपने जीवन को सफल करना चाहते थेVikee Ravan Aur Ram Bilkul Dono Mahaan The Bola Jata Hai Ki Ram To Bhagwan The Aur Ravan Jaisa Vidwan Brahman Poore World Mein Koi Nahi Tha Puri Duniya Mein Koi Nahi Doge To Bahut Hi Vidwan Vyakti Bahut Hi Mahaan Vyakti The Log Bhagwan Ko Ram Ko Jo Bhagwan Manate Kyonki Ram Ek Bhagwan Ki Par Ravan Ne Aisi Galti Unhone Jo Hai Sita Ka Haran Kyun Hai Iska Matlab Roop Mein Rakshas Roop Mein Jana Tha Ki Jo Bhi Insaan Jo Galat Kaam Karta Hai Jo Galat Kaam Ko Support Karta Hua Insaan Dikha Jata Hai Aur Apne Jeevan Ko Safal Karna Chahte The
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
रावण का दूसरा नाम दशानन या इनको लंकेश भी बोल सकते हैं रावण एक महान विद्वान ब्राह्मण था जो शिव का परम भक्त था।
Romanized Version
रावण का दूसरा नाम दशानन या इनको लंकेश भी बोल सकते हैं रावण एक महान विद्वान ब्राह्मण था जो शिव का परम भक्त था।Ravan Ka Doosra Naam Dashanan Ya Inko Lankesh Bhi Bol Sakte Hain Ravan Ek Mahaan Vidwan Brahman Tha Jo Shiv Ka Param Bhakt Tha
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रावण की तलवार का नाम चंद्र खासा था जो कि उनको भगवान शिव ने गिफ्ट की थी क्योंकि वह बहुत बड़े रावण एक बहुत बड़ा तपस्वी था तो इसलिए उन्होंने बहुत ज्यादा तपस्या की थी तो इसलिए लॉर्ड शिवा ने उनको अपनी तलवा...
जवाब पढ़िये
रावण की तलवार का नाम चंद्र खासा था जो कि उनको भगवान शिव ने गिफ्ट की थी क्योंकि वह बहुत बड़े रावण एक बहुत बड़ा तपस्वी था तो इसलिए उन्होंने बहुत ज्यादा तपस्या की थी तो इसलिए लॉर्ड शिवा ने उनको अपनी तलवार चंद्र खासा गिफ्ट की थीRavan Ki Talwar Karne Naam Chandra Khasa Tha Jo Ki Unko Bhagwan Shiv Ne Gift Ki Thi Kyonki Wah Bahut Bade Ravan Ek Bahut Bada Tapaswi Tha To Isliye Unhone Bahut Zyada Tapasya Ki Thi To Isliye Lord Shiva Ne Unko Apni Talwar Chandra Khasa Gift Ki Thi
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शराफत था जो है एक म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट है जो की एकता से सारंगी या फिर भी ना की तरह होता है...
जवाब पढ़िये
शराफत था जो है एक म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट है जो की एकता से सारंगी या फिर भी ना की तरह होता हैSharafat Tha Jo Hai Ek Musical Instrument Hai Jo Ki Ekta Se Sarangi Ya Phir Bhi Na Ki Tarah Hota Hai
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon