देखिए इसका हम आपको क्या हाल बता सकते हैं आपके पास और कोई ऑप्शन बचा ही नहीं है देखे जैसे कि बहुत हमने देखा है कि जो ड्रेस बोर्ड एग्जाम 7 मार्च के साथ में शुरू हो जाते हैं और आपके पास बहुत ही कम टाइम है और अगर आप इस टाइप करने का मन नहीं कर रहा है तो आपको सिर्फ एक ही चीज की जरूरत है वह मोटिवेशन तो देखे आपको आपके मोटिवेशन अब मैं यह नहीं हुआ मैं देखे आपको यह तो नहीं कह सकते कि आप अगर आपका मन नहीं है तो मत पड़े क्योंकि आखिरकार यह ट्वेल्थ के बोर्ड के परीक्षा है जिसमें बहुत कुछ डिपेंड करता है आपके आप किस कॉलेज में जाते हैं आपको आगे क्या करें यूज करना है आप इस लाइन में जाते हैं तो कुछ और ट्वेल्थ बोर्ड के परीक्षा पर निर्भर करता है तो मैं तो आपको यही सलाह दे सकती हूं कि आपके पास बहुत कम टाइम बचा है पढ़ने के लिए और अपनी जी जान लगा दे पढ़ाई में बहुत ज्यादा पढ़ने की कोशिश की ट्राई करें क्या आप का मन कहीं और मत देना सिर्फ पढ़ाई में और इसके लिए मैं आपको मोटिवेशन देखिए आप अपना फ्यूचर सोचिए कि अगर आप पढ़ते नहीं है अगर आप फेल हो जाते हैं आपकी कंपार्टमेंटल चाहती है तो आप उस चीज को कैसे डील करेंगे आपके माता-पिता पर कैसे गुस्सा होंगे और उसके बाद आप को स्विच कैसे डिस्चार्ज हो सकता है सिर्फ एक मन की वजह से तो देखिए आप थोड़ा कोशिश करते हैं तो आप कितने अच्छे कॉलेज में जाएंगे अगर आपके पैसे दे तो अच्छा आ जाता है 9598 जाता है वह संदेश आपके माता-पिता कितने खुश होंगे आपके पास कितने अच्छे कॉलेज इसके ऑफिस होंगे और आपको पूछ लीजिए थोड़ा कैरियर बनाना मैं आपको थोड़ी आसानी होगी तो आगे की सोचेंगे दोनों ब्राइट साइड देखिए होने की डेट शीट देखी और अब हर कोई देखे अपने ब्राइट साइड ही यूज करता है तो उसे सबसे मन में नहीं पड़ने को जम के पढ़ाई कीजिएDekhie Iska Hum Aapko Kya Haal Bata Sakte Hain Aapke Paas Aur Koi Option Bacha Hi Nahi Hai Dekhe Jaise Ki Bahut Humne Dekha Hai Ki Jo Dress Board Exam 7 March Ke Saath Mein Shuru Ho Jaate Hain Aur Aapke Paas Bahut Hi Kum Time Hai Aur Agar Aap Is Type Karne Ka Man Nahi Kar Raha Hai To Aapko Sirf Ek Hi Cheez Ki Zaroorat Hai Wah Motivation To Dekhe Aapko Aapke Motivation Ab Main Yeh Nahi Hua Main Dekhe Aapko Yeh To Nahi Keh Sakte Ki Aap Agar Aapka Man Nahi Hai To Mat Pade Kyonki Aakhirkaar Yeh Twelfth Ke Board Ke Pariksha Hai Jisme Bahut Kuch Depend Karta Hai Aapke Aap Kis College Mein Jaate Hain Aapko Aage Kya Karen Use Karna Hai Aap Is Line Mein Jaate Hain To Kuch Aur Twelfth Board Ke Pariksha Par Nirbhar Karta Hai To Main To Aapko Yahi Salah De Sakti Hoon Ki Aapke Paas Bahut Kum Time Bacha Hai Padhne Ke Liye Aur Apni Ji Jaan Laga De Padhai Mein Bahut Jyada Padhne Ki Koshish Ki Try Karen Kya Aap Ka Man Kahin Aur Mat Dena Sirf Padhai Mein Aur Iske Liye Main Aapko Motivation Dekhie Aap Apna Future Sochie Ki Agar Aap Padhte Nahi Hai Agar Aap Fail Ho Jaate Hain Aapki Kampartamental Chahti Hai To Aap Us Cheez Ko Kaise Deal Karenge Aapke Mata Pita Par Kaise Gussa Honge Aur Uske Baad Aap Ko Switch Kaise Discharge Ho Sakta Hai Sirf Ek Man Ki Wajah Se To Dekhie Aap Thoda Koshish Karte Hain To Aap Kitne Acche College Mein Jaenge Agar Aapke Paise De To Accha Aa Jata Hai 9598 Jata Hai Wah Sandesh Aapke Mata Pita Kitne Khush Honge Aapke Paas Kitne Acche College Iske Office Honge Aur Aapko Pooch Lijiye Thoda Carrier Banana Main Aapko Thodi Aasani Hogi To Aage Ki Sochenge Dono Bright Side Dekhie Hone Ki Date Sheet Dekhi Aur Ab Har Koi Dekhe Apne Bright Side Hi Use Karta Hai To Use Sabse Man Mein Nahi Padane Ko Jam Ke Padhai Kijiye
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स जो स्टूडेंट आईएएस की प्रिपरेशन करते हैं उनके लिए मेरा सुझाव है कि सबसे पहले वह उसके सिलेबस को देखें परीक्षा पैटर्न को देखें और अगर ऐसा आप करते हैं उसमें आप पाएंगे तो उसका पूरा सिलेबस कवर...
जवाब पढ़िये
हेलो फ्रेंड्स जो स्टूडेंट आईएएस की प्रिपरेशन करते हैं उनके लिए मेरा सुझाव है कि सबसे पहले वह उसके सिलेबस को देखें परीक्षा पैटर्न को देखें और अगर ऐसा आप करते हैं उसमें आप पाएंगे तो उसका पूरा सिलेबस कवर करने में जैसे कि आप जानते हैं कि उसने डी के एग्जाम होगा नींद का एग्जाम होगा अगर आप मिंस में आप कोई ऑप्शन सब्जेक्ट भी रखना होगा और इन सब सब्जेक्ट ओं को पढ़ने के लिए आप को कम से कम डेढ़ साल का समय देना चाहिए 10 इंच डेढ़ साल में आपके दिमाग में सिर्फ आई एस आई एस आई एस ई आना चाहिए इसके अलावा और कोई नहीं हम आपको देना है और कोई बात नहीं सोचूंगी अगर आप ऐसा करेंगे तो यह हंड्रेड परसेंट कह सकते हैं कि आप आईएस बन जाएंगे थैंक यूHello Friends Jo Student IAS Ki Preparation Karte Hain Unke Liye Mera Sujhaav Hai Ki Sabse Pehle Wah Uske Syllabus Ko Dekhen Pariksha Pattern Ko Dekhen Aur Agar Aisa Aap Karte Hain Usamen Aap Payenge To Uska Pura Syllabus Cover Karne Mein Jaise Ki Aap Jante Hain Ki Usne D Ke Exam Hoga Neend Ka Exam Hoga Agar Aap Mins Mein Aap Koi Option Subject Bhi Rakhna Hoga Aur In Sab Subject On Ko Padhne Ke Liye Aap Ko Kam Se Kam Dedh Saal Ka Samay Dena Chahiye 10 Inch Dedh Saal Mein Aapke Dimag Mein Sirf I S I S I S Ee Aana Chahiye Iske Alava Aur Koi Nahi Hum Aapko Dena Hai Aur Koi Baat Nahi Sochungi Agar Aap Aisa Karenge To Yeh Hundred Percent Keh Sakte Hain Ki Aap Ias Ban Jaenge Thank You
Likes  12  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन जहां तक मुझे लगता है आपने यह सवाल सही तरीके से पूछा नहीं है क्योंकि जो सवाल की जो अभी क्यों युक्ति है उससे इस बात का परिवार मिलता है कि आप यह जानना चाह रहे हैं कि दो पैसे जो कि बिल्कुल भी एक दूस...
जवाब पढ़िये
लेकिन जहां तक मुझे लगता है आपने यह सवाल सही तरीके से पूछा नहीं है क्योंकि जो सवाल की जो अभी क्यों युक्ति है उससे इस बात का परिवार मिलता है कि आप यह जानना चाह रहे हैं कि दो पैसे जो कि बिल्कुल भी एक दूसरे से मिलना खाते हो उन्हें कौन सा बेहतर अगर आप आम और शेर की तुलना करेंगे तो कुछ व्यक्ति आम पसंद करेंगे कुछ व्यक्ति से पसंद करेंगे वैसा ही है इन दो यह जो दो पैसे हैं जो टाइप चार्टर्ड अकाउंटेंट है और इंजीनियर है जो दो पैसे की जो आप तुलना कर रहे हैं यह दो तुलनात्मक ही नहीं क्योंकि उनका कार्यक्षेत्र एक दूसरे से स्वतंत्र हैं चार्टर्ड अकाउंटेंट अर्थ से चार्टर्ड अकाउंटेंट का काम एप्स से संबंधित होता है अर्थ मतलब पैसा और इंजीनियर जो होता है जो अभियंता होता है अब नई नई चीजों की खोज करता है नई चीजों का आविष्कार करता है नहीं चीजें बनाता है दोनों दो चीजें हैं ऊपर 11 पैकेट देखे तो ऊपर के सतह पर देखे तो दोनों दो चीजें दोनों का आपस में कहीं कोई टकराव नहीं है अगर आपने इस पोस्ट के पीछे या जानने की कोशिश की है कि कौन सा पैसा मेरे लिए अच्छा है तो मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि कोई भी पैसा खराब नहीं होता अब कितना हिरदेश उसके काम करते हैं उस क्षेत्र में काम करते हैं इससे यह पता चलता है कि आप कितने सफल होंगे अगर आपकी रुचि बानी जी में है तो आप चार्टर्ड अकाउंटेंट बने और आपकी रुचि विज्ञान में तो इंजीनियर बने ज्यादातर लोगों को यह पता ही नहीं होता है कि वह विज्ञान क्यों पड़ रहे हैं वह सिर्फ इसलिए पा रहे हो थैंक यू की बगल वाला भी वही पढ़ रहा होता है मैं आपको बोलूंगा आप इससे बचें आप खुद की रुचि देखें और आगे का क्षेत्र चुनेंLekin Jhan Tak Mujhe Lagta Hai Aapne Yeh Sawal Sahi Tarike Se Pucha Nahin Hai Kyonki Joe Sawal Ki Joe Abhi Kio Yukti Hai Usase Is Baat Ka Parivar Milta Hai Qi Aap Yeh Janna Chah Rahe Hain Qi Though Paise Joe Qi Bilkool Bhi Ek Dusre Se Melina Khaute Ho Unhein Kaun Sa Behtar Agar Aap Am Aur Sher Ki Tulna Karenge To Kuch Vyakti Am Pasad Karenge Kuch Vyakti Se Pasad Karenge Waisa Hea Hai In Though Yeh Joe Though Paise Hain Joe Type Chartered Akauntent Hai Aur Engineer Hai Joe Though Paise Ki Joe Aap Tulna Car Rahe Hain Yeh Though Tulnaatmak Hea Nahin Kyonki Unka Karyakshetra Ek Dusre Se Swatantra Hain Chartered Akauntent Earth Se Chartered Akauntent Ka Kama Apps Se Sambadhit Hota Hai Earth Matlab Paisa Aur Engineer Joe Hota Hai Joe Abhiyanta Hota Hai Aba Nai Nai Chijon Ki Khoj Karata Hai Nai Chijon Ka Aviskar Karata Hai Nahin Chijen Banata Hai Donon Though Chijen Hain Upar 11 Packet Dekhe To Upar K Satath Per Dekhe To Donon Though Chijen Donon Ka Apsha Mein Kahin Koi Takraav Nahin Hai Agar Aapne Is Post K Pichhe Ya Janne Ki Koshish Ki Hai Qi Kaun Sa Paisa Mere Lie Accha Hai To Main Aapko Yeh Batana Chahta Hoon Qi Koi Bhi Paisa Kharab Nahin Hota Aba Kitna Hirdesh Uske Kama Karte Hain Oosh Kshetra Mein Kama Karte Hain Issase Yeh Patta Chalata Hai Qi Aap Kitne Safal Honge Agar Aapki Ruchi Bani G Mein Hai To Aap Chartered Akauntent Bane Aur Aapki Ruchi Vigyan Mein To Engineer Bane Jyadatar Logon Co Yeh Patta Hea Nahin Hota Hai Qi Wah Vigyan Kio Pad Rahe Hain Wah Sirf Eeslie PA Rahe Ho Thank You Ki Bagul Wala Bhi Whey Padh Raha Hota Hai Main Aapko Bolunga Aap Issase Bachen Aap Khud Ki Ruchi Dekhe Aur Aage Ka Kshetra Chunen
Likes  76  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस बारे में मेरी सलाह यह होगी कि आप साथ में तैयारी शुरू कीजिए UPSC कि और किसी दूसरे की जान कि जिसको आप बैकअप बोल रहे हैं क्योंकि अगर आप ऐसा करेंगे कि पहले वह बैकअप निकालता हूं फॉर example अगर वह बैंकि...
जवाब पढ़िये
इस बारे में मेरी सलाह यह होगी कि आप साथ में तैयारी शुरू कीजिए UPSC कि और किसी दूसरे की जान कि जिसको आप बैकअप बोल रहे हैं क्योंकि अगर आप ऐसा करेंगे कि पहले वह बैकअप निकालता हूं फॉर example अगर वह बैंकिंग एग्जाम है SSC के एग्जाम है तो आप उस में दो या तीन साल लगा देंगे बैंकिंग एसएससी की तैयारी में और एक बार आप जॉब में आ जाएंगे तो शायद आपको इतना टाइम ही नहीं मिलेगा कि आप फिर UPSC की जीरो से तैयारी प्रारंभ कर पाए इसलिए आपको करना क्या चाहिए कि अगर आप तैयारी शुरू कर रहे हैं तो आप UPSC की तैयारी शुरू कीजिए और साथ में दूसरे एग्जाम है SSC हो सकता है वह बैंकिंग हो सकता है और अगर आप बैंकिंग दे रहे तो उसमें आरबीआई ने वार्ड से 20 टाइप एग्जाम भी आ जाएंगे और साथ में आप स्टेट सिविल सर्विसेज जो होती है वह भी देंगे तो इन सब एग्जाम को आप आप मेन फोकस अपना UPSC रखिए और साथ में दूसरे एग्जाम की तैयारी कीजिए और एग्जाम से पहले पूजा बैंक का एग्जाम आने वाला है या लड़का एग्जाम आने वाला है उससे पहले एक महीना पहले अगर वह UPSC की डेट के आस पास नहीं है तो उसमें आप उस एग्जाम पर ज्यादा ध्यान दीजिए क्योंकि अगर UPSC के अभी शुरू नहीं करेंगे जॉब लगने के बाद शुरू करेंगे तो शायद आपको इतना टाइम ही नहीं रहेगा UPSC का सिलेबस बहुत फास्ट है फिर आप 0 से तैयारी शुरू नहीं कर पाएंगे तो आप साक्षात तैयारी कीजिएIs Baare Mein Meri Salah Yeh Hogi Qi Aap Sathe Mein Taiyari Shuru Kiijiye UPSC Qi Aur Kisi Dusre Ki Jaan Qi Jisko Aap Backup Bowl Rahe Hain Kyonki Agar Aap Aisa Karenge Qi Pehle Wah Backup Nikalata Hoon For Example Agar Wah Banking Egjam Hai SSC K Egjam Hai To Aap Oosh Mein Though Ya Tin Saul Laga Denge Banking SSC Ki Taiyari Mein Aur Ek Bar Aap Job Mein Aa Jaenge To Shayad Aapko Itna Time Hea Nahin Milega Qi Aap Phir UPSC Ki Ziro Se Taiyari Prarambh Car Pae Eeslie Aapko Krna Kya Chahie Qi Agar Aap Taiyari Shuru Car Rahe Hain To Aap UPSC Ki Taiyari Shuru Kiijiye Aur Sathe Mein Dusre Egjam Hai SSC Ho Sakta Hai Wah Banking Ho Sakta Hai Aur Agar Aap Banking They Rahe To Usme RBI Ne Waard Se 20 Type Egjam Bhi Aa Jaenge Aur Sathe Mein Aap State Civil Services Joe Hoti Hai Wah Bhi Denge To In Sub Egjam Co Aap Aap Men Focus Apna UPSC Rakhiye Aur Sathe Mein Dusre Egjam Ki Taiyari Kiijiye Aur Egjam Se Pehle Pooja Bank Ka Egjam Aane Wala Hai Ya Ladaka Egjam Aane Wala Hai Usase Pehle Ek Mahiinaa Pehle Agar Wah UPSC Ki Date K Ac Pass Nahin Hai To Usme Aap Oosh Egjam Per Jyada Dhyan Dijiye Kyonki Agar UPSC K Abhi Shuru Nahin Karenge Job Lagane K Baad Shuru Karenge To Shayad Aapko Itna Time Hea Nahin Rahega UPSC Ka Silebas Bahut Fast Hai Phir Aap 0 Se Taiyari Shuru Nahin Car Paenge To Aap Saakshaat Taiyari Kiijiye
Likes  12  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए पढ़ने के लिए आप सही पैसा तभी ले पाएंगे जब आपको पता रहेगा कि आप किस विषय में इंट्रस्ट है या दिलचस्पी रखते हैं या रुचि रखते हैं तभी आप पढ़ने के लिए इंटरेस्टेड होंगे और सबसे बड़ी बात भी की पढ़ाई के...
जवाब पढ़िये
देखिए पढ़ने के लिए आप सही पैसा तभी ले पाएंगे जब आपको पता रहेगा कि आप किस विषय में इंट्रस्ट है या दिलचस्पी रखते हैं या रुचि रखते हैं तभी आप पढ़ने के लिए इंटरेस्टेड होंगे और सबसे बड़ी बात भी की पढ़ाई के लिए में सबसे बड़ी बात बोलना चाहूंगा आप पढ़ते क्यों हैं आप को ही समझना पड़ेगा उस पढ़ाई से क्या होगा अगर आप उसके आने वाले परिणाम को आज से जोड़ नहीं पाएंगे तो आपको पढ़ाई में कभी भी इंटरेस्ट नहीं आएगा एक 10 वीं कक्षा के जो भी विद्यार्थी को जो बोर्ड देता है उसे अगर हम ना समझाएं कि दसवीं कक्षा का परीक्षा दसवीं कक्षा के बोर्ड के एग्जाम उसके लिए क्यों इतनी इंपॉर्टेंट है क्यों इतना मायने रखती है तो शायद वह इतनी कड़ी मेहनत दिन रात ना करें लेकिन अंत में 10वीं परीक्षा कक्षा की मांग बहुत इंपोर्टेंट होती है इसी तरह आप कोई भी पढ़ाई करें किसी भी विषय में भी रुचि हो लेकिन इस विषय TV जब आप पढ़े हैं उस पढ़ाई और के बाद रुक गया उसका ज्ञान हासिल करने के बाद आपको उसका परिणाम क्या हासिल होता है उसे क्या क्या अच्छी बात आपको समझ नहीं होंगी तभी आप अच्छे से मन लगाकर दिल लगाकर पढ़ाई कर पाएंगे क्योंकि मनुष्य की एक सबसे बड़ी पद्धति है या फिर आप कह सकते हैं कि परंपरा है कि जब तक मुझसे परिणाम का पता नहीं रहता है वह करंट सिचुएशन में उस पर उतरा फोकस नहीं कर पाता है जब उसे पता रहेगा कि इतनी मेहनत के बाद उसे यह फल मिलेगा उस पल के अपेक्षा में बात कर लेता है कि शायद कभी कभी ऊपर उसे उससे अधिक भी मिल जाए धन्यवादDekhie Padhne Ke Liye Aap Sahi Paisa Tabhi Le Payenge Jab Aapko Pata Rahega Ki Aap Kis Vishay Mein Interest Hai Ya Dilchaspi Rakhate Hain Ya Ruchi Rakhate Hain Tabhi Aap Padhne Ke Liye Interested Honge Aur Sabse Badi Baat Bhi Ki Padhai Ke Liye Mein Sabse Badi Baat Bolna Chahunga Aap Padhte Kyon Hain Aap Ko Hi Samajhna Padega Us Padhai Se Kya Hoga Agar Aap Uske Aane Wali Parinam Ko Aaj Se Jod Nahi Payenge To Aapko Padhai Mein Kabhi Bhi Interest Nahi Aaega Ek 10 Vi Kaksha Ke Jo Bhi Vidyarthi Ko Jo Board Deta Hai Use Agar Hum Na Samjhayen Ki Dasavi Kaksha Ka Pariksha Dasavi Kaksha Ke Board Ke Exam Uske Liye Kyon Itni Important Hai Kyon Itna Maayne Rakhti Hai To Shayad Wah Itni Kadi Mehnat Din Raat Na Karen Lekin Ant Mein Vi Pariksha Kaksha Ki Maang Bahut Important Hoti Hai Isi Tarah Aap Koi Bhi Padhai Karen Kisi Bhi Vishay Mein Bhi Ruchi Ho Lekin Is Vishay TV Jab Aap Padhe Hain Us Padhai Aur Ke Baad Ruk Gaya Uska Gyaan Hasil Karne Ke Baad Aapko Uska Parinam Kya Hasil Hota Hai Use Kya Kya Acchi Baat Aapko Samajh Nahi Hongi Tabhi Aap Acche Se Man Lagakar Dil Lagakar Padhai Kar Payenge Kyonki Manushya Ki Ek Sabse Badi Paddhatee Hai Ya Phir Aap Keh Sakte Hain Ki Parampara Hai Ki Jab Tak Mujhse Parinam Ka Pata Nahi Rehta Hai Wah Current Situation Mein Us Par Utara Focus Nahi Kar Pata Hai Jab Use Pata Rahega Ki Itni Mehnat Ke Baad Use Yeh Fal Milega Us Pal Ke Apeksha Mein Baat Kar Leta Hai Ki Shayad Kabhi Kabhi Upar Use Usse Adhik Bhi Mil Jaye Dhanyavad
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल दुनिया इतनी तेजी से तरक्की कर रही है कि आपका बच्चा जब बाहर जाएगा तो वह काफी सारी चीजे सीख कर आएगा और इससे पहले कि बच्चा बाहर से कुछ जाने बेहतर है कि आप अपने बच्चे को पहले ही इन्फॉर्म कर दें चीजों...
जवाब पढ़िये
आजकल दुनिया इतनी तेजी से तरक्की कर रही है कि आपका बच्चा जब बाहर जाएगा तो वह काफी सारी चीजे सीख कर आएगा और इससे पहले कि बच्चा बाहर से कुछ जाने बेहतर है कि आप अपने बच्चे को पहले ही इन्फॉर्म कर दें चीजों के बारे में क्योंकि वह तरीके गलत भी हो सकते हैं जिससे उनको जानकारी मिले तो अब बच्चों को आप सेक्स के बारे में शिक्षा कर देना चाहे तो 2 साल से आप शुरू करें क्योंकि 2 साल से 6 साल के बच्चे हैं उन्हें आप को समझाना जरूरी है कि यह बॉडी पार्ट्स जो है इंक्लूडिंग प्राइवेट बॉडी पार्ट्स अब क्या है गुड टच बैड टच क्या होता है और लड़का और लड़की में क्या फर्क होता है क्योंकि बच्चे जो होते हैं उन्हें हर चीज में जाने की बड़ी ललक होती है हमेशा उनको ही रहता है की चीजों के बारे में पूछते रहते सवाल करते रहते हैं तो आप घबराएं ना शर्मा इन और बच्चों के सवालों का सही जवाब भी देते जाए अच्छे से 10 साल के जो बच्चे होते हैं उनसे आप पर प्राइवेसी न्यूडिटी प्यूबर्टी और ह्यूमन रिप्रोडक्शन के बारे में बात करें यह बच्चे क्योंकि इस ऐज के हो जाते हैं उन्हें इतना मेंटल ग्रोथ होता है कि इन सारी चीजों के बारे में बच समझ पाए और वैसे भी आजकल प्यूबर्टी जो है वह बच्चों को जल्दी हिट कर रही है 12 साल के बच्चों से आपसे XX और कॉन्ट्रासेप्टिव के बारे में बात करें और टीनेजर जो होते हैं वह यू जूली बहुत ही प्राइवेट लोग हो जाते हैं जब टीनएज में बच्चे इंटर करते हैं तो वह ज्यादा डिस्कशन करना पसंद नहीं करते लेकिन अगर आप यह सारे प्रोसेस को फॉलो करेंगे शुरू से ही और इतनी क्लैरिटी रखेंगे अपनी फैमिली में अपने बच्चों के साथ तो बच्चे खुद-ब-खुद कल को जब उन्हें कोई प्रॉब्लम होगी अपने रिलेशनशिप आगे से आगे बढ़कर आपसे कुछ बात करेंगेAajkal Duniya Itni Teji Se Tarakki Kar Rahi Hai Ki Aapka Baccha Jab Bahar Jayega To Wah Kafi Saree Cheeje Seekh Kar Aayega Aur Isse Pehle Ki Baccha Bahar Se Kuch Jaane Behtar Hai Ki Aap Apne Bacche Ko Pehle Hi Inform Kar Dein Chijon Ke Baare Mein Kyonki Wah Tarike Galat Bhi Ho Sakte Hain Jisse Unko Jankari Mile To Ab Bacchon Ko Aap Sex Ke Baare Mein Shiksha Kar Dena Chahe To 2 Saal Se Aap Shuru Karen Kyonki 2 Saal Se 6 Saal Ke Bacche Hain Unhen Aap Ko Samajhana Zaroori Hai Ki Yeh Body Parts Jo Hai Inkluding Private Body Parts Ab Kya Hai Good Touch Bad Touch Kya Hota Hai Aur Ladka Aur Ladki Mein Kya Fark Hota Hai Kyonki Bacche Jo Hote Hain Unhen Har Cheez Mein Jaane Ki Badi Lalak Hoti Hai Hamesha Unko Hi Rehta Hai Ki Chijon Ke Baare Mein Poochte Rehte Sawal Karte Rehte Hain To Aap Ghabraaen Na Sharma In Aur Bacchon Ke Sawalon Ka Sahi Jawab Bhi Dete Jaye Acche Se 10 Saal Ke Jo Bacche Hote Hain Unse Aap Par Privacy Nyuditi Puberty Aur Human Riprodakshan Ke Baare Mein Baat Karen Yeh Bacche Kyonki Is Age Ke Ho Jaate Hain Unhen Itna Mental Growth Hota Hai Ki In Saree Chijon Ke Baare Mein Bach Samajh Paye Aur Waise Bhi Aajkal Puberty Jo Hai Wah Bacchon Ko Jaldi Hit Kar Rahi Hai 12 Saal Ke Bacchon Se Aapse XX Aur Kantraseptiv Ke Baare Mein Baat Karen Aur Teenager Jo Hote Hain Wah You Juilee Bahut Hi Private Log Ho Jaate Hain Jab Teenage Mein Bacche Inter Karte Hain To Wah Jyada Discussion Karna Pasand Nahi Karte Lekin Agar Aap Yeh Sare Process Ko Follow Karenge Shuru Se Hi Aur Itni Clarity Rakhenge Apni Family Mein Apne Bacchon Ke Saath To Bacche Khud B Khud Kal Ko Jab Unhen Koi Problem Hogi Apne Relationship Aage Se Aage Badhkar Aapse Kuch Baat Karenge
Likes  43  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप बात करें पढ़ाई की और तो पढ़ाई तो है देखिए आज के डेट में हर एक इंसान पढ़ा लिखा हो तो बेहतर होता है वह इसलिए नहीं कि वह कामयाब हो सके कामयाब होने के साथ-साथ वह अपनी फैमिली को भी बना सके मैं कितने ऐसे...
जवाब पढ़िये
आप बात करें पढ़ाई की और तो पढ़ाई तो है देखिए आज के डेट में हर एक इंसान पढ़ा लिखा हो तो बेहतर होता है वह इसलिए नहीं कि वह कामयाब हो सके कामयाब होने के साथ-साथ वह अपनी फैमिली को भी बना सके मैं कितने ऐसे लोग हैं अखिलेश एग्जांपल है जो ज्यादा पढ़े-लिखे ना होने के कारण भी आज के डेट में टॉप फाइव में मदद से रिचेस्ट पर्सन में आते हैं तो बिजनेस कर सकते हैं लेकिन बिजनेस सी जगह है पता करने के लिए आपको पढ़ाई लिखाई की जरूरत नहीं है आपको बस बिजनेस में कड़ी मेहनत और सब अगर आप असफल होना भेजो कड़ी मेहनत करना होता है तो आप पढ़ाई लिखाई नहीं करता बिल्कुल कामयाब हो सकते हैंAap Baat Karen Padhai Ki Aur To Padhai To Hai Dekhie Aaj Ke Date Mein Har Ek Insaan Padha Likha Ho To Behtar Hota Hai Wah Isliye Nahi Ki Wah Kamyab Ho Sake Kamyab Hone Ke Saath Saath Wah Apni Family Ko Bhi Bana Sake Main Kitne Aise Log Hain Akhilesh Example Hai Jo Jyada Padhe Likhe Na Hone Ke Kaaran Bhi Aaj Ke Date Mein Top Five Mein Madad Se Person Mein Aate Hain To Business Kar Sakte Hain Lekin Business Si Jagah Hai Pata Karne Ke Liye Aapko Padhai Likhai Ki Zaroorat Nahi Hai Aapko Bus Business Mein Kadi Mehnat Aur Sab Agar Aap Asafal Hona Bhejo Kadi Mehnat Karna Hota Hai To Aap Padhai Likhai Nahi Karta Bilkul Kamyab Ho Sakte Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदि के हिंदी मीडियम और इंग्लिश मीडियम में जो बेसिक डिफरेंस आ गए हैं आजकल वह सोशल एक्सेप्ट किया गई है ऐसा नहीं है कि हिंदी मीडियम के स्टूडेंट जो होते हैं वह उनकी आई क्यू लेवल या उनका उनका जो इंटेलिजेंस...
जवाब पढ़िये
आदि के हिंदी मीडियम और इंग्लिश मीडियम में जो बेसिक डिफरेंस आ गए हैं आजकल वह सोशल एक्सेप्ट किया गई है ऐसा नहीं है कि हिंदी मीडियम के स्टूडेंट जो होते हैं वह उनकी आई क्यू लेवल या उनका उनका जो इंटेलिजेंस है वह कम होता है ऐसा कुछ भी नहीं है लेकिन मैं इंग्लिश बोल लेते हैं और आजकल इंडिया में भी अगर हिंदी के अलावा अगर इंग्लिश नहीं जानते हैं तो आपको जॉब पाने में भी काफी मुश्किलात होगा क्योंकि सभी खासकर प्राइवेट सेक्टर में जॉब आपको इंग्लिश होना ही होना को किन-किन इंटरव्यू है या और भी जो वहां के बेसिक रिक्वायरमेंट इंग्लिश का होना काफी अनिवार्य है तो इसीलिए यहां पर इंग्लिश में भारी पड़ जाता है हिंदी पर तो इसलिए इंग्लिश में जानना उसके जरूरी सा हो गया है हमारे लिए जॉब मेरी हंसी को प्राथमिकता दी जाती है इंग्लिश चाहने वालों को तो यही वह बेसिक डिफरेंस है कि लोगों को जॉब पाना है आप पढ़ लिख कर भी जॉब तो करेंगे ही ना वहां पर आपको इंग्लिश नहीं आएगी तो फिर दिक्कत हो सकती है आजकल इंडिया में भी आप कहीं चले जाएं साउथ में चले जाए तो हिंदी जानने के बावजूद भी आप को इंग्लिश आना ही पड़ेगा क्योंकि वहां का माहौल कैसा है और वह आकर कमेंट आता है तो इसीलिए मैं तो यह सुझाव दूंगा के इंग्लिश भी जानकर रखें क्योंकि वैसे भी अगर कोई एक्स्ट्रा लैंग्वेज ऑप्शन रहे हैं तो उसमें कोई खराबी नहीं है क्या कि नॉलेज कहीं ना कहीं यूज़ होगा ही और खासकर इंग्लिश इंटरनेशनल लैंग्वेज है आप बाहर जाएंगे देश विदेश शहर फॉरेन कंट्रीस तो आपको इंग्लिश की जरूरत तो पड़ेगी ही तो इसलिए यही सभी डिफरेंस है जिस कारण से जोगिया क्रिएट हो गया हिंदी और इंग्लिश मीडियम मेंAadi Ke Hindi Medium Aur English Medium Mein Jo Basic Difference Aa Gaye Hain Aajkal Wah Social Except Kiya Gayi Hai Aisa Nahi Hai Ki Hindi Medium Ke Student Jo Hote Hain Wah Unki Eye Kyu Level Ya Unka Unka Jo Intelligence Hai Wah Kum Hota Hai Aisa Kuch Bhi Nahi Hai Lekin Main English Bol Lete Hain Aur Aajkal India Mein Bhi Agar Hindi Ke Alava Agar English Nahi Jante Hain To Aapko Job Pane Mein Bhi Kafi Mushkilat Hoga Kyonki Sabhi Khaskar Private Sector Mein Job Aapko English Hona Hi Hona Ko Kin Kin Interview Hai Ya Aur Bhi Jo Wahan Ke Basic Requirement English Ka Hona Kafi Anivarya Hai To Isliye Yahan Par English Mein Bhari Padh Jata Hai Hindi Par To Isliye English Mein Janana Uske Zaroori Sa Ho Gaya Hai Hamare Liye Job Meri Hansi Ko Prathamikta Di Jati Hai English Chahne Walon Ko To Yahi Wah Basic Difference Hai Ki Logon Ko Job Pana Hai Aap Padh Likh Kar Bhi Job To Karenge Hi Na Wahan Par Aapko English Nahi Aayegi To Phir Dikkat Ho Sakti Hai Aajkal India Mein Bhi Aap Kahin Chale Jayen South Mein Chale Jaye To Hindi Jaanne Ke Bawajud Bhi Aap Ko English Aana Hi Padega Kyonki Wahan Ka Maahaul Kaisa Hai Aur Wah Aakar Comment Aata Hai To Isliye Main To Yeh Sujhaav Dunga Ke English Bhi Jaankar Rakhen Kyonki Waise Bhi Agar Koi Extra Language Option Rahe Hain To Usamen Koi Kharabi Nahi Hai Kya Ki Knowledge Kahin Na Kahin Use Hoga Hi Aur Khaskar English International Language Hai Aap Bahar Jaenge Desh Videsh Sheher Foreign Kantris To Aapko English Ki Zaroorat To Padegi Hi To Isliye Yahi Sabhi Difference Hai Jis Kaaran Se Jogiya Create Ho Gaya Hindi Aur English Medium Mein
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी आप कभी स्कूल नहीं गई इसका मतलब यह नहीं कि या अपन फोटो हां आप यह कह सकती हो आप को किताबी ज्ञान नहीं मिला जो यह मत स्कूल में जाने के बाद आपको जो किताबों से ज्ञान मिलता है वह ज्ञान आपके पास नहीं पहु...
जवाब पढ़िये
विकी आप कभी स्कूल नहीं गई इसका मतलब यह नहीं कि या अपन फोटो हां आप यह कह सकती हो आप को किताबी ज्ञान नहीं मिला जो यह मत स्कूल में जाने के बाद आपको जो किताबों से ज्ञान मिलता है वह ज्ञान आपके पास नहीं पहुंच पाया बट किताबी ज्ञान और व्यवहारिक ज्ञान दोनों में बहुत फर्क है हम जरूर नहीं कि जो बंदा स्कूल गया को इंटेलिजेंट है जो लोग हमारे बुजुर्ग चोपड़ा बिना पढ़े लिखे थे तो इसका मतलब है कि स्कूल जाना जरूरी नहीं जान का होना जरूरी है अगर आप अपने परिवार को और अपने एक जीने के ढंग को या तरीकों के लेवल पर लेकर जाते हो तो वह मैं नहीं मानता कि किताब ज्ञान की जरूरत है मदद भेज सकते हो बिल गेट्स का स्टेटमेंट पड़ा था वह कभी स्कूल नहीं गए तो क्या इसका मतलब यह थोड़ी कम पड़े तो स्कूल जाने से इंपॉर्टेंट नहीं हैVikee Aap Kabhi School Nahi Gayi Iska Matlab Yeh Nahi Ki Ya Apan Photo Haan Aap Yeh Keh Sakti Ho Aap Ko Kitabi Gyaan Nahi Mila Jo Yeh Mat School Mein Jaane Ke Baad Aapko Jo Kitabon Se Gyaan Milta Hai Wah Gyaan Aapke Paas Nahi Pahunch Paya But Kitabi Gyaan Aur Vyavharik Gyaan Dono Mein Bahut Fark Hai Hum Jarur Nahi Ki Jo Banda School Gaya Ko Intelligent Hai Jo Log Hamare Bujurg Chopra Bina Padhe Likhe The To Iska Matlab Hai Ki School Jana Zaroori Nahi Jaan Ka Hona Zaroori Hai Agar Aap Apne Parivar Ko Aur Apne Ek Jeene Ke Dhang Ko Ya Trikon Ke Level Par Lekar Jaate Ho To Wah Main Nahi Manata Ki Kitab Gyaan Ki Zaroorat Hai Madad Bhej Sakte Ho Bill Gates Ka Statement Pada Tha Wah Kabhi School Nahi Gaye To Kya Iska Matlab Yeh Thodi Kum Pade To School Jaane Se Important Nahi Hai
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह जो यह जो सवाल है थोड़ा सही है पर मैं अपना राय है इसमें देना चाहती हूं कि देखिए 19 इयर्स में प्यार कीजिएगा मतलब प्यार की परिभाषा क्या है वह मैं नहीं जानती हो आप किस मतलब नजरिया से बोल रहे हैं सब से ...
जवाब पढ़िये
यह जो यह जो सवाल है थोड़ा सही है पर मैं अपना राय है इसमें देना चाहती हूं कि देखिए 19 इयर्स में प्यार कीजिएगा मतलब प्यार की परिभाषा क्या है वह मैं नहीं जानती हो आप किस मतलब नजरिया से बोल रहे हैं सब से प्यार से रहिए प्यार से रहिएगा पर यह जो प्यार की परिभाषा है वह जैसे ही मतलब हमारी उम्र जाती रहती है उसका कॉन्सेप्ट ही बदल जाता है हम लोग उसको एक में छोड़ती लेवल से सोचने लगते हैं तो मतलब सब के साथ प्यार के साथ रहिएगा पर सबसे ज्यादा इंपॉर्टेंट ऑफ कैरियर और पढ़ाई पढ़ाई और यह जो करियर है आपको वेट नहीं करूंगा आप उम्र उम्र है वह तो निकल निकल जाता है और एक बार टाइम निकल गई यह तो कभी वापस नहीं आएगी पढ़ाई भी ऐसी चीजें जिस समय में जो काम करना है आपको करना चाहिए पहला फोकस जो है आपको अपनी कैरियर पढ़ाई के ऊपर होना चाहिए हां प्यार सबसे प्यार रहेगा पर इतनी सीरियसली मत सोचिएगा प्यार के बारे में क्योंकि जैसे मैंने कहा था प्यार जैसे ही मतलब हमारी उम्र निकलती जाती है तो उसका जो परिभाषा ही अलग हो जाती क्योंकि आप मैच्योरिटी से सोचने लगते हो मेरा मगर आप मेरा मतलब पर्सनल राय कि मैं हमेशा तुमको व्यक्तियों को पहला इंपॉर्टेंट जो है अपना कैरियर और स्टडीस के ऊपर मतलब हमेशा कंसंट्रेट कीजिएगाYeh Jo Yeh Jo Sawal Hai Thoda Sahi Hai Par Main Apna Raya Hai Isme Dena Chahti Hoon Ki Dekhie 19 Years Mein Pyar Kijeeyegaa Matlab Pyar Ki Paribhasha Kya Hai Wah Main Nahi Jaanti Ho Aap Kis Matlab Najariya Se Bol Rahe Hain Sab Se Pyar Se Rahiye Pyar Se Rahiyegaa Par Yeh Jo Pyar Ki Paribhasha Hai Wah Jaise Hi Matlab Hamari Umar Jati Rehti Hai Uska Concept Hi Badal Jata Hai Hum Log Usko Ek Mein Chhodatee Level Se Sochne Lagte Hain To Matlab Sab Ke Saath Pyar Ke Saath Rahiyegaa Par Sabse Zyada Important Of Carrier Aur Padhai Padhai Aur Yeh Jo Career Hai Aapko Wait Nahi Karunga Aap Umar Umar Hai Wah To Nikal Nikal Jata Hai Aur Ek Baar Time Nikal Gayi Yeh To Kabhi Wapas Nahi Aaegi Padhai Bhi Aisi Cheezen Jis Samay Mein Jo Kaam Karna Hai Aapko Karna Chahiye Pehla Focus Jo Hai Aapko Apni Carrier Padhai Ke Upar Hona Chahiye Haan Pyar Sabse Pyar Rahega Par Itni Siriyasali Mat Sochiegaa Pyar Ke Bare Mein Kyonki Jaise Maine Kaha Tha Pyar Jaise Hi Matlab Hamari Umar Nikalti Jati Hai To Uska Jo Paribhasha Hi Alag Ho Jati Kyonki Aap Maichyoriti Se Sochne Lagte Ho Mera Magar Aap Mera Matlab Personal Raya Ki Main Hamesha Tumko Vyaktiyon Ko Pehla Important Jo Hai Apna Carrier Aur Stadis Ke Upar Matlab Hamesha Concentrate Kijeeyegaa
Likes  18  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस सवाल का जवाब जैक ऑफ ऑल अनुमान प्रश्न मेरा आंसर यह है कि हमारा एजुकेशन सिस्टम अगर आप देखेंगे बच्चे तो रट्टा करते रहते हैं मतलब उनका होमवर्क देखिए उनका प्रोजेक्ट देखिए इनमे से इतना बच्चे मेहनत करते ह...
जवाब पढ़िये
इस सवाल का जवाब जैक ऑफ ऑल अनुमान प्रश्न मेरा आंसर यह है कि हमारा एजुकेशन सिस्टम अगर आप देखेंगे बच्चे तो रट्टा करते रहते हैं मतलब उनका होमवर्क देखिए उनका प्रोजेक्ट देखिए इनमे से इतना बच्चे मेहनत करते हैं पर इससे क्या लाभ मिलेगा हमारे एजुकेशन सिस्टम कहीं पर भी यह नहीं सिखाते बच्चों को कि हम लोग अपना जोक लाइफ है उसको कैसे आगे बढ़ाए कैसे पेश करें अलग-अलग सिचुएशंस पर यह घटा करने वाली बात है मतलब सब रट्टा करेंगे लिखते जाएंगे प्रोजेक्ट पैसे देकर प्रोजेक्ट बनाया जाता है रिसर्च पर कॉपी पेस्ट होता है यही एक वजह है हमारे जो एजुकेशन सिस्टम है वह थोड़ा मतलब ऐसा होना चाहिए कि आप उसको पाक आपको आप बच्चों को हेल्प करें अपना लाइफ रीड करने में हम तो मतलब केवल मात्र देखिए कोई 11 मीटर को इतना इंपोर्टेंट दिया जाता है कुछ सब्जेक्ट में एजुकेशन सिस्टम को थोड़ा बहुत चेंज करना चाहिएIs Sawal Ka Jawab Jack Of All Anumaan Prashna Mera Answer Yeh Hai Ki Hamara Education System Agar Aap Dekhenge Bacche To Karte Rehte Hain Matlab Unka Homework Dekhie Unka Project Dekhie Inme Se Itna Bacche Mehnat Karte Hain Par Isse Kya Labh Milega Hamare Education System Kahin Par Bhi Yeh Nahi Sikhate Bacchon Ko Ki Hum Log Apna Joke Life Hai Usko Kaise Aage Badhae Kaise Pesh Karen Alag Alag Par Yeh Ghata Karne Wali Baat Hai Matlab Sab Karenge Likhte Jaenge Project Paise Dekar Project Banaya Jata Hai Research Par Copy Paste Hota Hai Yahi Ek Wajah Hai Hamare Jo Education System Hai Wah Thoda Matlab Aisa Hona Chahiye Ki Aap Usko Pak Aapko Aap Bacchon Ko Help Karen Apna Life Read Karne Mein Hum To Matlab Kewal Matra Dekhie Koi 11 Meter Ko Itna Important Diya Jata Hai Kuch Subject Mein Education System Ko Thoda Bahut Change Karna Chahiye
Likes  41  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

व्यक्तियों के व्यक्तित्व को शैक्षणिक सीमाओं डिग्री और सर्टिफिकेट की मानक में नहीं बांधा जा सकता उनका व्यवहार पर हम कि हम उनकी काबिलियत और उनकी क्षमता का आंकलन कर सकें भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरे...
जवाब पढ़िये
व्यक्तियों के व्यक्तित्व को शैक्षणिक सीमाओं डिग्री और सर्टिफिकेट की मानक में नहीं बांधा जा सकता उनका व्यवहार पर हम कि हम उनकी काबिलियत और उनकी क्षमता का आंकलन कर सकें भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी उन्हीं में से एक और सैकड़ों महापुरुष हमारे देश में हजारों महापुरुष ऐसे हुए जो ऐसे ही व्यक्तित्व के रहे संत रविदास सूरदास कालिदास वाल्मी नाम है किसी क्लास में गए नहीं पड़ने किसी विद्यालय में पढ़ने पढ़ने नहीं करता लेकिन आज भी हजारों वर्षों के बाद सैकड़ों वर्षो के बाद भी उनके ऊपर शोध किए जाते हैं उनकी लिखी हुई चीजों को का अध्ययन करके समाज में आगे की नीति बनती है आगे का मार्ग प्रशस्त करने का रास्ता उनके व्यक्तित्व से मिलता है उन्ही में से हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी है नरेंद्र मोदी जी के एक आव्हान पर 190 देशों ने योग करना शुरू कर दिया योग का अनुसरण किया आज विश्व के सर्वाधिक लोकप्रिय नेताओं में से देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं आज उनके ऊपर पुस्तकें लिखी जा रही है उनके ऊपर शोध किए जा रहे हैं इसलिए मुझे लगता है यह प्रश्न के लिए बिल्कुल संगीत है इसका कोई मायने नहीं है क्योंकि डिग्री क्या है हां कोई व्यक्ति अगर उनका अध्ययन करें कोई व्यक्ति उन पर कोई शोध प्रस्तुत करें उन पर उनकी किए हुए कामों पर उनकी उपलब्धियों पर किसी प्रकार से कोई समीक्षात्मक विषय लिखे तो वह अवश्य उस व्यक्ति की अपनी डिग्री हो सकती हैVyaktiyo K Vyaktitv Co Shaikshanik Seemao Degree Aur Certificate Ki Manak Mein Nahin Bandha Ja Sakta Unka Vyavahar Per Hum Qi Hum Unki Kabiliyat Aur Unki Kshamta Ka Aanklan Car Shukan Bharat K Yashasvi Pradhaanmatree Narendra Modi G Unheen Mein Se Ek Aur Saikadon Mahapurush Hamare Desh Mein Hajaron Mahapurush Aise Huye Joe Aise Hea Vyaktitv K Rahe Sant Ravidas Surdas Kalidas Valmi Naam Hai Kisi Class Mein Ge Nahin Padane Kisi Vidyalaya Mein Padhane Padhane Nahin Karata Lekin Aj Bhi Hajaron Varshon K Baad Saikadon Varsho K Baad Bhi Unke Upar Shodh Kiye Jaate Hain Unki Likhi Hue Chijon Co Ka Adhyayan Karake Samaj Mein Aage Ki Neeti Banati Hai Aage Ka Marg Prashast Karne Ka Rasta Unke Vyaktitv Se Milta Hai Unhi Mein Se Hamare Desh K Pradhaanmatree Narendra Modi Bhi Hai Narendra Modi G K Ek Avan Per 190 Deshon Ne Yog Krna Shuru Car Diya Yog Ka Anusaran Kiya Aj Vishwa K Sarvadhik Lokpriya Netaon Mein Se Desh K Yashasvi Pradhaanmatree Narendra Modi Hain Aj Unke Upar Pustkein Likhi Ja Rahi Hai Unke Upar Shodh Kiye Ja Rahe Hain Eeslie Mujhe Lagta Hai Yeh Prashn K Lie Bilkool Sangeet Hai Iska Koi Maine Nahin Hai Kyonki Degree Kya Hai Han Koi Vyakti Agar Unka Adhyayan Karein Koi Vyakti Un Per Koi Shodh Prastut Karein Un Per Unki Kiye Huye Kamo Per Unki Upalabdhiyo Per Kisi Prakar Se Koi Samikshatmak Vishya Likhe To Wah Awashya Oosh Vyakti Ki Apni Degree Ho Sakti Hai
Likes  30  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पढ़ाई करने के लिए हमें कुछ सामान तो चाहिए| इसमें हमारा पैसा लगता है लेकिन आज के टाइम में जिसके अंदर जो हम बोलते हैं वेयर देयर इज अ विल देयर इज अ वे| तो आज के टाइम में जिसके पास एक इच्छा शक्ति है कि जि...
जवाब पढ़िये
पढ़ाई करने के लिए हमें कुछ सामान तो चाहिए| इसमें हमारा पैसा लगता है लेकिन आज के टाइम में जिसके अंदर जो हम बोलते हैं वेयर देयर इज अ विल देयर इज अ वे| तो आज के टाइम में जिसके पास एक इच्छा शक्ति है कि जिंदगी में कुछ करना है तो वह उसका रास्ता ढूंढ लेगा| आप पढ़ते ही न्यूज़पेपर में एक रिक्शा वाले का बेटा IIT निकाल लिया, रिक्शा वाले का बेटा आईएएस निकाल लिया| क्योंकि हमारे देश में सरकारी नौकरियों में और सरकारी संस्थानों में जो शिक्षा संस्थान है वहां पर फ़ीस बहुत कम है| आपको IAS या IIT जैसे संस्थानों का फॉर्म भरने के लिए बहुत कम पैसे लगते हैं और वहां पर फीस माफ़ भी होती है| उसके अलावा बहुत सारी और हेल्प भी है जैसे एजुकेशन लोन मिल जाता है IIT जैसे संस्थानों में या IIM हम जैसे संस्थानों में| तो अगर आपके अंदर इच्छाशक्ति है आप मेहनत कर सकते हैं तो आप जम कर पढ़ाई कीजिए आप अपना कैरियर आपके हाथ में है| पढ़ाई करने के लिए आज तो इंटरनेट के माध्यम से लगभग हर ज्ञान आपको लगभग फ्री ली अवेलेबल है आपको कौन सी चीज ऐसी है जिसका सलूशन इंटरनेट पर नहीं मिलता है| आपको थोड़ा टाइम ज्यादा लगाना पड़ेगा और रिलायंस जिओ आने के बाद तो इंटरनेट भी इतना सस्ता हो गया है अगर आज आप वोकल पर पार्टिसिपेट करके ये क्वेश्चन पूछ रहे हैं इसका मतलब आप इंटरनेट यूज करते हैं मोबाइल पर तो आप मोबाइल पर ही इतनी नॉलेज ले सकते हैं कि आप कोई भी अच्छे एग्जाम को निकाल सकते हैं और अपना कैरियर बना सकते हैं|Padhai Karne Ke Liye Hume Kuch Saamaan To Chahiye Isme Hamara Paisa Lagta Hai Lekin Aaj Ke Time Mein Jiske Andar Jo Hum Bolte Hain Where Their Is A Will Their Is A Ve To Aaj Ke Time Mein Jiske Paas Ek Icha Shakti Hai Ki Zindagi Mein Kuch Karna Hai To Wah Uska Rasta Dhundh Lega Aap Padhte Hi Newspaper Mein Ek Riksha Wale Ka Beta IIT Nikal Liya Riksha Wale Ka Beta IAS Nikal Liya Kyonki Hamare Desh Mein Sarkari Naukriyon Mein Aur Sarkari Sansthano Mein Jo Shiksha Sansthan Hai Wahan Par Fees Bahut Kum Hai Aapko IAS Ya IIT Jaise Sansthano Ka Form Bharne Ke Liye Bahut Kum Paise Lagte Hain Aur Wahan Par Fees Maaf Bhi Hoti Hai Uske Alava Bahut Saree Aur Help Bhi Hai Jaise Education Loan Mil Jata Hai IIT Jaise Sansthano Mein Ya IIM Hum Jaise Sansthano Mein To Agar Aapke Andar Ichhaashakti Hai Aap Mehnat Kar Sakte Hain To Aap Jam Kar Padhai Kijiye Aap Apna Carrier Aapke Hath Mein Hai Padhai Karne Ke Liye Aaj To Internet Ke Maadhyam Se Lagbhag Har Gyaan Aapko Lagbhag Free Lee Available Hai Aapko Kaun Si Cheez Aisi Hai Jiska Salution Internet Par Nahi Milta Hai Aapko Thoda Time Jyada Lagana Padega Aur Reliance Jio Aane Ke Baad To Internet Bhi Itna Sasta Ho Gaya Hai Agar Aaj Aap Vocal Par Participate Karke Ye Question Pooch Rahe Hain Iska Matlab Aap Internet Use Karte Hain Mobile Par To Aap Mobile Par Hi Itni Knowledge Le Sakte Hain Ki Aap Koi Bhi Acche Exam Ko Nikal Sakte Hain Aur Apna Carrier Bana Sakte Hain
Likes  23  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सही है कि हमारे देश में जो बुजुर्ग और पुराने नेता है वह कम पढ़े लिखे हैं क्योंकि उनके जमाने में शिक्षा का इतना प्रचार और प्रसार नहीं था और उसे इतनी अहमियत नहीं दी जाती थी लेकिन आज 21वीं सदी में जो ...
जवाब पढ़िये
यह सही है कि हमारे देश में जो बुजुर्ग और पुराने नेता है वह कम पढ़े लिखे हैं क्योंकि उनके जमाने में शिक्षा का इतना प्रचार और प्रसार नहीं था और उसे इतनी अहमियत नहीं दी जाती थी लेकिन आज 21वीं सदी में जो कि विज्ञान तकनीकी मशीन ईयर नए नए आविष्कारों का युग है उसमें मुझे लगता है शिक्षा की अहमियत बहुत ज्यादा है और आज हम शिक्षा के प्रति थोड़ी जागरुक भी हुए हैं सचिन भी हुए हैं और शिक्षक करें बच्चे और शिक्षा में आगे बढ़े और शिक्षा उनको अनिवार्य करनी चाहिए इस पर हम + भी देते हो और मुझे लगता है जिस तरह से आम आदमी की तीन मूलभूत आवश्यकता है बताई जाती है कि रोटी कपड़ा और मकान की आवश्यक है उसी तरह शिक्षा को भी आवश्यक कर देना चाहिए ताकि हर तक का हर बच्चा हर इंसान शिक्षा ग्रहण करें और उच्च शिक्षा से आगे अपनी जिंदगी को सचYeh Sahi Hai Ki Hamare Desh Mein Jo Bujurg Aur Purane Neta Hai Wah Kum Padhe Likhe Hain Kyonki Unke Jamaane Mein Shiksha Ka Itna Prachar Aur Prasaar Nahi Tha Aur Use Itni Ahamiyat Nahi Di Jati Thi Lekin Aaj Vi Sadi Mein Jo Ki Vigyan Takniki Machine Year Naye Naye Aavishkaaro Ka Yug Hai Usamen Mujhe Lagta Hai Shiksha Ki Ahamiyat Bahut Jyada Hai Aur Aaj Hum Shiksha Ke Prati Thodi Jagaruk Bhi Hue Hain Sachin Bhi Hue Hain Aur Shikshak Karen Bacche Aur Shiksha Mein Aage Badhe Aur Shiksha Unko Anivarya Karni Chahiye Is Par Hum + Bhi Dete Ho Aur Mujhe Lagta Hai Jis Tarah Se Aam Aadmi Ki Teen Mulbhut Avashyakta Hai Batai Jati Hai Ki Roti Kapda Aur Makan Ki Aavashyak Hai Ussi Tarah Shiksha Ko Bhi Aavashyak Kar Dena Chahiye Taki Har Tak Ka Har Baccha Har Insaan Shiksha Grahan Karen Aur Uccha Shiksha Se Aage Apni Zindagi Ko Sach
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस बात में कोई शक नहीं है कि सरकारी स्कूलों में है जो है स्टूडेंट्स लगातार कम होते जा रहे हैं और प्राइवेट स्कूल में पढ़ते जा रहे हैं उसका मुख्य रूप से जो कारण है व्यवस्था है सरकारी स्कूल में स्कूल क्य...
जवाब पढ़िये
इस बात में कोई शक नहीं है कि सरकारी स्कूलों में है जो है स्टूडेंट्स लगातार कम होते जा रहे हैं और प्राइवेट स्कूल में पढ़ते जा रहे हैं उसका मुख्य रूप से जो कारण है व्यवस्था है सरकारी स्कूल में स्कूल क्यों जाता है कोई भी माता-पिता अपने बच्चे को स्कूल क्यों भेजता जिससे वह अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सके जिससे वह आगे बढ़ सके जिससे वह अच्छी शिक्षा प्राप्त करके लाइफ में कुछ काम कर सके अगर आप देखे हैं तो सरकारी स्कूल में हकीकत क्या है जमीन पर बैठकर बच्चा पड़ता है मुख्य तौर पर आमतौर पर जमीन पर बैठकर उसमें कोई बुराई नहीं है लेकिन टीचर आते नहीं है समय पर टीचर आते भी हैं तो बहुत ज्यादा पढ़ाते नहीं है जो सरकारी स्कूल है वहां पर वातावरण बिल्कुल नहीं है स्कूल का जिन्होंने मोना होता है डिसिप्लिन तो वहां पर डिस्ट्रिक्ट नाम की कोई चीज नहीं होती है शिक्षा पर जोर नहीं होता है प्राइवेट स्कूल में टीचर की फीस ज्यादा होती है लेकिन यदि किसी भी माता-पिता का बच्चा अच्छी शिक्षा प्राप्त करता है तो उनके लिए सब बड़ी कोई चीज नहीं हो सकती है इसलिए प्राइवेट स्कूल में लगातार बढ़ती जा रही है प्राइवेट स्कूल का इंफ्रास्ट्रक्चर तो बढ़िया है उसके अलावा जो पढ़ाई का स्तर है वह बहुत अच्छा है शिक्षा पर जोर दिया जाता है मेहनत की जाती है बच्चों पर यदि यही सरकारी स्कूल में डिसिप्लिन लागू कर दिया गया तो बेशक स्टूडेंट किस टाइम पड़ेगी दिल्ली की सरकार ने यही काम कर रही है उन्होंने सरकारी स्कूल को बहुत सुधार दिया वहां लगाता है सुरेंद्र बढ़ती जा रही है वरना आमतौर पर यह धारणा है जो भी मिडिल क्लास या हायर वर्ग होता है वह सरकारी स्कूल में नहीं भेजता है क्योंकि उससे उनका स्टेटस डाउन होता है स्टेटस डाउन होने की वजह भी है क्योंकि वहां माहौल नहीं है वातावरणIs Baat Mein Koi Shaq Nahi Hai Ki Sarkari Schoolon Mein Hai Jo Hai Students Lagatar Kum Hote Ja Rahe Hain Aur Private School Mein Padhte Ja Rahe Hain Uska Mukhya Roop Se Jo Kaaran Hai Vyavastha Hai Sarkari School Mein School Kyun Jata Hai Koi Bhi Mata Pita Apne Bacche Ko School Kyun Bhejta Jisse Wah Acchi Shiksha Prapt Kar Sake Jisse Wah Aage Badh Sake Jisse Wah Acchi Shiksha Prapt Karke Life Mein Kuch Kaam Kar Sake Agar Aap Dekhe Hain To Sarkari School Mein Haqiqat Kya Hai Jameen Par Baithkar Baccha Padata Hai Mukhya Taur Par Aamtaur Par Jameen Par Baithkar Usamen Koi Burayi Nahi Hai Lekin Teacher Aate Nahi Hai Samay Par Teacher Aate Bhi Hain To Bahut Jyada Padhate Nahi Hai Jo Sarkari School Hai Wahan Par Vatavaran Bilkul Nahi Hai School Ka Jinhone Mona Hota Hai Discipline To Wahan Par District Naam Ki Koi Cheez Nahi Hoti Hai Shiksha Par Jor Nahi Hota Hai Private School Mein Teacher Ki Fees Jyada Hoti Hai Lekin Yadi Kisi Bhi Mata Pita Ka Baccha Acchi Shiksha Prapt Karta Hai To Unke Liye Sab Badi Koi Cheez Nahi Ho Sakti Hai Isliye Private School Mein Lagatar Badhti Ja Rahi Hai Private School Ka Infrastructure To Badhiya Hai Uske Alava Jo Padhai Ka Sthar Hai Wah Bahut Accha Hai Shiksha Par Jor Diya Jata Hai Mehnat Ki Jati Hai Bacchon Par Yadi Yahi Sarkari School Mein Discipline Laagu Kar Diya Gaya To Beshak Student Kis Time Padegi Delhi Ki Sarkar Ne Yahi Kaam Kar Rahi Hai Unhone Sarkari School Ko Bahut Sudhaar Diya Wahan Lagaata Hai Surendra Badhti Ja Rahi Hai Varana Aamtaur Par Yeh Dharan Hai Jo Bhi Middle Class Ya Hire Varg Hota Hai Wah Sarkari School Mein Nahi Bhejta Hai Kyonki Usse Unka Status Down Hota Hai Status Down Hone Ki Wajah Bhi Hai Kyonki Wahan Maahaul Nahi Hai Vatavaran
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां बिल्कुल चुने जाते हैं आपने डॉल हिटलर और डॉनल्ड ट्रंप जैसे नाम जरूर सुने होंगे विश्वविद्यालय से डिग्री पाने के बाद भी लोग अनपढ़ हो सकते हैं...
जवाब पढ़िये
हां बिल्कुल चुने जाते हैं आपने डॉल हिटलर और डॉनल्ड ट्रंप जैसे नाम जरूर सुने होंगे विश्वविद्यालय से डिग्री पाने के बाद भी लोग अनपढ़ हो सकते हैंHan Bilkool Chaune Jaate Hain Aapne Doll Hitlar Aur Danald Tramp Jaise Naam Jarur Sune Honge Vishwavidyalaya Se Degree Payne K Baad Bhi Log Anapadh Ho Sakte Hain
Likes  56  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके क्षेत्र में आपकी योग्यता के अनुरूप कार्य मौजूद नहीं है तो स्थान परिवर्तन करना आवश्यक है जब जब हम स्थान बदलते हैं हमें अवश्य पर चुनौती मिलती है कोशिश कीजिए अगर आप की परिस्थितियां अनुकूल है और...
जवाब पढ़िये
अगर आपके क्षेत्र में आपकी योग्यता के अनुरूप कार्य मौजूद नहीं है तो स्थान परिवर्तन करना आवश्यक है जब जब हम स्थान बदलते हैं हमें अवश्य पर चुनौती मिलती है कोशिश कीजिए अगर आप की परिस्थितियां अनुकूल है और आप अपनी जगह को छोड़ सकते हैं तो जॉब आपको अवश्य मिलेगा वहीं दवे आपने यह नहीं बताया कि आप ने किस रेट में आईटीआई किया हुआ हैAgar Aapke Kshetra Mein Aapki Yogita K Anurupa Karya Maujood Nahin Hai To Sthan Parivartan Krna Aavashyak Hai Jab Jab Hum Sthan Badalte Hain Human Awashya Per Chunauti Milti Hai Koshish Kiijiye Agar Aap Ki Paristhitiyan Anukul Hai Aur Aap Apni Jagah Co Chod Sakte Hain To Job Aapko Awashya Milega Vahin Dove Aapne Yeh Nahin Bataya Qi Aap Ne Kiss Rate Mein ITI Kiya Hua Hai
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हैंड राइटिंग देखिए हैंडराइटिंग तो वैसे तो हम बचपन में बहुत प्रैक्टिस कराई जाती है इसी मारे करसिव राइटिंग करते हैं तमाम तरीके कोशिश करते हैं क्योंकि एक चीज होती है इंसान में कि जो चीज बचपन सीख ली जाती ...
जवाब पढ़िये
हैंड राइटिंग देखिए हैंडराइटिंग तो वैसे तो हम बचपन में बहुत प्रैक्टिस कराई जाती है इसी मारे करसिव राइटिंग करते हैं तमाम तरीके कोशिश करते हैं क्योंकि एक चीज होती है इंसान में कि जो चीज बचपन सीख ली जाती है जो चीज बन जाती है उस चीज को सुधारना बड़ी मुश्किल होती है तो इसीलिए हम लाइट कम था बचपन आदत डाली जाती है फिर भी आपको तो उसके लिए जरूरी है कि आप एक सिलेक्टेड टेक्स्ट थोड़ा सा सिलेक्ट कर ली एक पैराग्राफ एक भेज और उसको बिल्कुल साफ साफ थोड़ा टाइम लीजिए उसको लिखने में आराम आराम से प्रैक्टिस कीजिए लिखी है उस एक पन्ने को बहुत ही अच्छे से व्यस्त तरीके से जवाब लिख सकते हैं रोज की तरह नहीं आराम आराम से हल्के हल्के करके इस तरीके दिया ब्रूस करेंगे एक एक पीस भी लिखेंगे तो इस तरीके से आपकी राइटिंग में सुधार होगा और कोशिश करिए जल्दी बाजी में लिखने के बजाए आराम-आराम से लिखिए अपनी राइटिंग को तो आराम आराम से लिखकर चेंज कर देंगे जल्दी बाजी में लिखेंगे तेज लिखेंगे तो वापस से अपने पहली वाली हैंड राइटिंग पर आ जाएंगेHand Writing Dekhie Handwriting To Waise To Hum Bachpan Mein Bahut Practice Karai Jati Hai Isi Maare Karasiv Writing Karte Hain Tamam Tarike Koshish Karte Hain Kyonki Ek Cheez Hoti Hai Insaan Mein Ki Jo Cheez Bachpan Seekh Lee Jati Hai Jo Cheez Ban Jati Hai Us Cheez Ko Sudharna Badi Mushkil Hoti Hai To Isliye Hum Light Kum Tha Bachpan Aadat Dali Jati Hai Phir Bhi Aapko To Uske Liye Zaroori Hai Ki Aap Ek Selected Text Thoda Sa Select Kar Lee Ek Paragraph Ek Bhej Aur Usko Bilkul Saaf Saaf Thoda Time Lijiye Usko Likhne Mein Aaram Aaram Se Practice Kijiye Likhi Hai Us Ek Panne Ko Bahut Hi Acche Se Vyasta Tarike Se Jawab Likh Sakte Hain Roj Ki Tarah Nahi Aaram Aaram Se Halke Halke Karke Is Tarike Diya Brush Karenge Ek Ek Pis Bhi Likhenge To Is Tarike Se Aapki Writing Mein Sudhaar Hoga Aur Koshish Kariye Jaldi Busy Mein Likhne Ke Bajae Aaram Aaram Se Likhiye Apni Writing Ko To Aaram Aaram Se Likhkar Change Kar Denge Jaldi Busy Mein Likhenge Tez Likhenge To Wapas Se Apne Pehli Wali Hand Writing Par Aa Jaenge
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जनसंख्या और क्षेत्रफल दोनों के हिसाब से वेट कम सिटी विश्व का सबसे छोटा देश है या इटली की राजधानी रोम में स्थित है...
जवाब पढ़िये
जनसंख्या और क्षेत्रफल दोनों के हिसाब से वेट कम सिटी विश्व का सबसे छोटा देश है या इटली की राजधानी रोम में स्थित है
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गवर्मेंट स्कूल के अंदर पढ़ाई ना होने का कारण यह है कि वहां के लोगों को जानकारी नहीं होती वह अच्छे से जागरुक नहीं होते की पढ़ाई की वैल्यू क्या है उन लोगों को यह बताया नहीं जाता की पढ़ाई की वैल्यू क्या ...
जवाब पढ़िये
गवर्मेंट स्कूल के अंदर पढ़ाई ना होने का कारण यह है कि वहां के लोगों को जानकारी नहीं होती वह अच्छे से जागरुक नहीं होते की पढ़ाई की वैल्यू क्या है उन लोगों को यह बताया नहीं जाता की पढ़ाई की वैल्यू क्या है वहां के जो टीचर्स भी होते हैं ऐसा काफी बार देखा है कि वहां के जो अध्यापक की अध्यापिकाएं होती हैं वह भी वहां की पढ़ाई को इतना सीरियसली नहीं लेते हैं वह भी बच्चों को इतना सीरियस नहीं लेते हैं कभी भी छुट्टी ले लेते हैं कभी भी स्कूल नहीं आते कभी आते टाइम के लिए आते हैं ऐसा डिसिप्लिन टीचर्स से भी देखा क्या है वहीं दूसरी ओर जो पीरियड्स होते हैं वह बच्चों को रेगुलर ली रोज स्कूल नहीं भेजते बहुत उन्हें उन्हें पढ़ने में इतना उत्साह उनको उठा नहीं दिला तुम को सपोर्ट नहीं करते पढ़ने के लिए तो इन्हीं कारणों वश जो गांव में स्कूल की पढ़ाई है बेबसी नहीं हो पाती जैसे प्राइवेट स्कूल के अंदर होती है सबसे पहले तो इसको सही करने के लिए हमें पेरेंट्स को जागरुक करना होगा उन्हें बताना होगा कि पढ़ाई की क्या वैल्यू होती है और कितना ज्यादा जरूरी है उनके बच्चों का पढ़ना फिर टीचर्स के डिसिप्लिन के लिए काफी रूल्स और काफी जगह फाइन वगैरह लगाने चाहिए ताकि वह भी सीरियस और वह भी बच्चों को ढंग से पढ़ाई नहीं तीसरी और बच्चों को खुद भी स्कूल आने का मन करना चाहिए अगर बच्चों में खुद में प्रेरणा ही नहीं होगी कुछ सीखने की तो फिर कोई उन्हें कुछ सिखा नहीं सकता है तो बच्चों की और काफ़ी देखा है कि बच्चों के अंदर तो प्रेरणा होती है तो पहले दो कारणों की वजह से ही मैं ढंग से पढ़ नहीं पातेGoverment School Ke Andar Padhai Na Hone Ka Kaaran Yeh Hai Ki Wahan Ke Logon Ko Jankari Nahi Hoti Wah Acche Se Jagaruk Nahi Hote Ki Padhai Ki Value Kya Hai Un Logon Ko Yeh Bataya Nahi Jata Ki Padhai Ki Value Kya Hai Wahan Ke Jo Teachers Bhi Hote Hain Aisa Kafi Baar Dekha Hai Ki Wahan Ke Jo Adhyapak Ki Adhyapikaen Hoti Hain Wah Bhi Wahan Ki Padhai Ko Itna Siriyasali Nahi Lete Hain Wah Bhi Bacchon Ko Itna Serious Nahi Lete Hain Kabhi Bhi Chutti Le Lete Hain Kabhi Bhi School Nahi Aate Kabhi Aate Time Ke Liye Aate Hain Aisa Discipline Teachers Se Bhi Dekha Kya Hai Wahin Dusri Oar Jo Periods Hote Hain Wah Bacchon Ko Regular Lee Roj School Nahi Bhejate Bahut Unhen Unhen Padhne Mein Itna Utsaah Unko Utha Nahi Dila Tum Ko Support Nahi Karte Padhne Ke Liye To Inhin Kaarno Vash Jo Gav Mein School Ki Padhai Hai Bebasii Nahi Ho Pati Jaise Private School Ke Andar Hoti Hai Sabse Pehle To Isko Sahi Karne Ke Liye Hume Parents Ko Jagaruk Karna Hoga Unhen Batana Hoga Ki Padhai Ki Kya Value Hoti Hai Aur Kitna Jyada Zaroori Hai Unke Bacchon Ka Padhna Phir Teachers Ke Discipline Ke Liye Kafi Rules Aur Kafi Jagah Fine Vagairah Lagane Chahiye Taki Wah Bhi Serious Aur Wah Bhi Bacchon Ko Dhang Se Padhai Nahi Teesri Aur Bacchon Ko Khud Bhi School Aane Ka Man Karna Chahiye Agar Bacchon Mein Khud Mein Prerna Hi Nahi Hogi Kuch Seekhne Ki To Phir Koi Unhen Kuch Sikha Nahi Sakta Hai To Bacchon Ki Aur Kafi Dekha Hai Ki Bacchon Ke Andar To Prerna Hoti Hai To Pehle Do Kaarno Ki Wajah Se Hi Main Dhang Se Padh Nahi Paate
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब 2021 में जो भी यूपीएससी सीएसई देना है और आप हिंदी माध्यम के स्टूडेंट हैं अपने न्यू एनसीआरटी बुक किया ओल्ड एनसीआरटी बुक पढ़ना चाहिए बुक पढ़ लेने से क्या होता है कि कल शाम के बाद एग्जाम का तैयारी कर ...
जवाब पढ़िये
अब 2021 में जो भी यूपीएससी सीएसई देना है और आप हिंदी माध्यम के स्टूडेंट हैं अपने न्यू एनसीआरटी बुक किया ओल्ड एनसीआरटी बुक पढ़ना चाहिए बुक पढ़ लेने से क्या होता है कि कल शाम के बाद एग्जाम का तैयारी कर सकते हैं यूपी में केवल एनसीईआरटी बुक जी आपको आपकी सहायता के तौर पर देख सकते हैं और उसकी तैयारी कर सकते हैं बट एक बात ध्यान देगी यूपीएससी के झगरा को एग्जाम क्या करना था को लंबे समय तक पढ़ाई करना बजे 7 घंटे 8 घंटे का कोचिंग ज्वाइन कर सकते हैं जैसा कुछ ऑटिस्टिक पता चलेगा कि कैसे जो एग्जाम में क्वेश्चन को जल्द से जल्द स्वस्थ बनाए आसानी से निकाल सकेंगेAb 2021 Mein Jo Bhi Upsc Cse Dena Hai Aur Aap Hindi Maadhyam Ke Student Hain Apne New Nert Book Kiya Old Nert Book Padhna Chahiye Book Padh Lene Se Kya Hota Hai Ki Kal Shaam Ke Baad Exam Ka Taiyari Kar Sakte Hain Up Mein Kewal Ncert Book G Aapko Aapki Sahaayata Ke Taur Par Dekh Sakte Hain Aur Uski Taiyari Kar Sakte Hain But Ek Baat Dhyan Degi Upsc Ke Jhagara Ko Exam Kya Karna Tha Ko Lambe Samay Tak Padhai Karna Baje 7 Ghante 8 Ghante Ka Coaching Join Kar Sakte Hain Jaisa Kuch Autistic Pata Chalega Ki Kaise Jo Exam Mein Question Ko Jald Se Jald Swasth Banaye Aasani Se Nikal Sakenge
Likes  25  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह डिपेंड करता है कि आप करना क्या चाहते हैं अगर आप और आगे पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको फिर M.Com करना चाहिए या एमबीए करना चाहिए जिसमें आपकी यह बी कॉम की पढ़ाई काम आ जाएगी और अगर आपको जॉब करनी है उसमें...
जवाब पढ़िये
यह डिपेंड करता है कि आप करना क्या चाहते हैं अगर आप और आगे पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको फिर M.Com करना चाहिए या एमबीए करना चाहिए जिसमें आपकी यह बी कॉम की पढ़ाई काम आ जाएगी और अगर आपको जॉब करनी है उसमें आपके पास 2 ऑप्शन होंगे या तो आप प्राइवेट सेक्टर में जॉब कर लीजिए तो आप किसी एकाउंटिंग फॉर्म में या किसी प्राइवेट कंपनी में अकाउंटेंट के अंदर काम कर सकते हैं जिसमें आपको फाइनेंस टीम में कुछ रोल मिल सकता है और दूसरा ऑप्शन आपके पास ही हो सकता है कि आप कॉन्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी कीजिए अगर आपको गवर्मेंट जॉब जॉइन करनी है तो उसमें कॉन्पिटिटिव एग्जाम में सबसे भ्रष्ट जज एग्जाम UPSC होता है जो सिविल सर्विसेज है जिसमें आप आईएएस आईपीएस बनते हैं और उसके बाद सबसे ज्यादा वैकेंसी की जांच कल में निकलती वह बैंकिंग से कितने साल में 40 से 50 हजार तक वैकेंसी से निकलती है और सारे एग्जाम के लिए ग्रेजुएशन की क्वालिफिकेशन एफिशिएंट है और उसके अलावाYeh Depend Karta Hai Ki Aap Karna Kya Chahte Hain Agar Aap Aur Aage Padhai Karna Chahte Hain To Aapko Phir M.Com Karna Chahiye Ya Mba Karna Chahiye Jisme Aapki Yeh Be Com Ki Padhai Kaam Aa Jayegi Aur Agar Aapko Job Karni Hai Usamen Aapke Paas 2 Option Honge Ya To Aap Private Sector Mein Job Kar Lijiye To Aap Kisi Accounting Form Mein Ya Kisi Private Company Mein Accountant Ke Andar Kaam Kar Sakte Hain Jisme Aapko Finance Team Mein Kuch Roll Mil Sakta Hai Aur Doosra Option Aapke Paas Hi Ho Sakta Hai Ki Aap Competetive Exam Ki Taiyari Kijiye Agar Aapko Goverment Job Join Karni Hai To Usamen Competetive Exam Mein Sabse Bhrasht Judge Exam UPSC Hota Hai Jo Civil Services Hai Jisme Aap IAS Ips Bante Hain Aur Uske Baad Sabse Jyada Vacancy Ki Janch Kal Mein Nikalti Wah Banking Se Kitne Saal Mein 40 Se 50 Hazar Tak Vacancy Se Nikalti Hai Aur Sare Exam Ke Liye Graduation Ki Qualification Efficient Hai Aur Uske Alava
Likes  15  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो तो चाय पी एस पी ओ ओ जाने पर कलर को अच्छा IBPS स्पेशलिस्ट ऑफिसर का फॉर्म ठीक है क्या आरआरबी पीओ आरआरबी क्लर्क क्वालिफिकेशन है वह सिंपल ग्रेजुएशन है आपका चेक प्लेयर को चैंपियन जो आपके स्पेशलिस्ट ऑफ...
जवाब पढ़िये
देखो तो चाय पी एस पी ओ ओ जाने पर कलर को अच्छा IBPS स्पेशलिस्ट ऑफिसर का फॉर्म ठीक है क्या आरआरबी पीओ आरआरबी क्लर्क क्वालिफिकेशन है वह सिंपल ग्रेजुएशन है आपका चेक प्लेयर को चैंपियन जो आपके स्पेशलिस्ट ऑफिसर का उस में कुछ टेक्निकल मांगा जाता है अब तो बसंती और बेटे की डिग्री उस में अप्लाई कर सकते फॉर्म जो आपका आता है वह कल आएगा उसमें आता है एग्जाम आपका दिसंबर तक फाइनल हो जाता है दिसंबर में आपका कलर का एग्जाम होता है फ्री उज्जैन में आपका आपका मेल होता है ठीक है ब्लू का आपका नंबर में मेंस हो जाता है सितंबर में इसका प्रयोग होता है 1 साल में एक ही बार फॉर्म आएगा प्लीज बोलो अगर आपने ग्रेजुएशन किया है या फिर फाइनल ईयर रिंग ग्रेजुएशन उठी कब परसेंटेज मैटर नहीं करता है सिंपल पास होना चाहिए ठीक है कब कब फ्री होगा सोनम सो मच का उसका दाम कम इन मेंस होगा ठीक है अगर प्यार करते हो तो इंटरव्यू कॉलDekho To Chai P S P O O Jaane Par Color Ko Accha IBPS Specialist Officer Ka Form Theek Hai Kya Rrb Po Rrb Clerk Qualification Hai Wah Simple Graduation Hai Aapka Check Player Ko Champion Jo Aapke Specialist Officer Ka Us Mein Kuch Technical Manga Jata Hai Ab To Basanti Aur Bete Ki Degree Us Mein Apply Kar Sakte Form Jo Aapka Aata Hai Wah Kal Aayega Usamen Aata Hai Exam Aapka December Tak Final Ho Jata Hai December Mein Aapka Color Ka Exam Hota Hai Free Ujjain Mein Aapka Aapka Mail Hota Hai Theek Hai Blue Ka Aapka Number Mein Mains Ho Jata Hai September Mein Iska Prayog Hota Hai 1 Saal Mein Ek Hi Baar Form Aayega Please Bolo Agar Aapne Graduation Kiya Hai Ya Phir Final Year Ring Graduation Uthii Kab Percentage Matter Nahi Karta Hai Simple Paas Hona Chahiye Theek Hai Kab Kab Free Hoga Sonam So Mach Ka Uska Dam Kum In Mains Hoga Theek Hai Agar Pyar Karte Ho To Interview Call
Likes  19  Dislikes
WhatsApp_icon