tag_img

युद्ध

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल हो सकता है विश्व युद्ध क्योंकि विषय में आमतौर पर होता है जब किसी चीज की बहुत था कहीं पर कमी हो कहीं पर ज्यादा हो तो मिल सकता है आतंकवाद एक ऐसा मुद्दा है जो दिनों दिन बहुत ज्यादा बढ़ता जा रहा है और एक पानी की समस्या है जो दिनों दिन बढ़ती जा रही है पानी आजकल बिकने लग गया पीने का भी पानी भारत जैसे देश में भी पहले तो मेट्रो सिटी में ही हाल था दिल्ली में लेकिन अब उत्तर प्रदेश और बिहार के सभी जिलों में पानी बिकने लग गया है तो उधर 50 60 70 जब भी हो मुझे लगता है कि पानी को लेकर के विश्व युद्ध हो सकता है या आतंकवाद को लेकर के भी विश्व युद्ध हो सकता है
बिल्कुल हो सकता है विश्व युद्ध क्योंकि विषय में आमतौर पर होता है जब किसी चीज की बहुत था कहीं पर कमी हो कहीं पर ज्यादा हो तो मिल सकता है आतंकवाद एक ऐसा मुद्दा है जो दिनों दिन बहुत ज्यादा बढ़ता जा रहा है और एक पानी की समस्या है जो दिनों दिन बढ़ती जा रही है पानी आजकल बिकने लग गया पीने का भी पानी भारत जैसे देश में भी पहले तो मेट्रो सिटी में ही हाल था दिल्ली में लेकिन अब उत्तर प्रदेश और बिहार के सभी जिलों में पानी बिकने लग गया है तो उधर 50 60 70 जब भी हो मुझे लगता है कि पानी को लेकर के विश्व युद्ध हो सकता है या आतंकवाद को लेकर के भी विश्व युद्ध हो सकता है
Likes  9  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज हमारे पास एक्सीडेंट नहीं कि हमारे पास है ना उनका प्रभाव नहीं था
आज हमारे पास एक्सीडेंट नहीं कि हमारे पास है ना उनका प्रभाव नहीं था
Likes  14  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सीरिया में जो युद्ध चल रहा है वह विरोधी सेना और शिवसेना के बीच में चल रहा है पहले इराक भी इसकी चपेट में था बट इराक तकरीबन जो है आजाद हो चुका है और शीला के कुछ क्षेत्र हैं बहुत ही कम क्षेत्र बचे हैं जहां पर युद्ध की घटनाएं चल रही हैं तो इसमें सजा कि जो कहना है उसको कामयाबी मिल रही है और जो नाटक है और भी जो विभिन्न संगठन है वह सीरियस है ना को सपोर्ट कर रहे हैं कोई जी तो बहुत ही जल्दी खत्म होने वाला है और इसके पीछे ISIS की जरूरत पूरी की पूरी जयंती को पूरी की पूरी चेक बुक हो चुकी है तो इसमें जल्दी ही सीरियस है वह कामयाबी मिलेगी और एक शांतिपूर्ण राज्य के रूप में सीरिया में शांति आएगी
Romanized Version
सीरिया में जो युद्ध चल रहा है वह विरोधी सेना और शिवसेना के बीच में चल रहा है पहले इराक भी इसकी चपेट में था बट इराक तकरीबन जो है आजाद हो चुका है और शीला के कुछ क्षेत्र हैं बहुत ही कम क्षेत्र बचे हैं जहां पर युद्ध की घटनाएं चल रही हैं तो इसमें सजा कि जो कहना है उसको कामयाबी मिल रही है और जो नाटक है और भी जो विभिन्न संगठन है वह सीरियस है ना को सपोर्ट कर रहे हैं कोई जी तो बहुत ही जल्दी खत्म होने वाला है और इसके पीछे ISIS की जरूरत पूरी की पूरी जयंती को पूरी की पूरी चेक बुक हो चुकी है तो इसमें जल्दी ही सीरियस है वह कामयाबी मिलेगी और एक शांतिपूर्ण राज्य के रूप में सीरिया में शांति आएगीSyria Mein Jo Yudh Chal Raha Hai Wah Virodhi Sena Aur Shivsena Ke Beech Mein Chal Raha Hai Pehle Iraq Bhi Iski Chapet Mein Tha But Iraq Takareeban Jo Hai Azad Ho Chuka Hai Aur Shila Ke Kuch Kshetra Hain Bahut Hi Kum Kshetra Bache Hain Jahan Par Yudh Ki Ghatnaye Chal Rahi Hain To Isme Saja Ki Jo Kehna Hai Usko Kamyabi Mil Rahi Hai Aur Jo Natak Hai Aur Bhi Jo Vibhinn Sangathan Hai Wah Serious Hai Na Ko Support Kar Rahe Hain Koi Ji To Bahut Hi Jaldi Khatam Hone Wala Hai Aur Iske Piche ISIS Ki Zaroorat Puri Ki Puri Jayanti Ko Puri Ki Puri Check Book Ho Chuki Hai To Isme Jaldi Hi Serious Hai Wah Kamyabi Milegi Aur Ek Shantipurna Rajya Ke Roop Mein Syria Mein Shanti Aayegi
Likes  4  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

करंजी जो अपने क्वेश्चन डाला है वह मेरे हिसाब से जो लापरवाही कि अगर हम बात करें तो उसमें हॉस्पिटल पुलिस गवर्नमेंट इन सब की लापरवाही साफ साफ दिखती है अगर कोई गैंग रेप होता है तो सबसे पहले तो इसमें जो तृतीय पुलिस अथॉरिटी फंक्शन सही से काम नहीं कर रही थी तभी कहीं ना कहीं जाकर गैंगरेप होता है मगर जब गैंगरेप हो चुका तो उसके बाद उसको अच्छे से ठीक क्यों नहीं किया गया हॉस्पिटल में ऑपरेट क्यों नहीं किया गया तो इसमें हॉस्पिटल की प्लस गवर्नमेंट की फंक्शनिंग की दोनों की गलती है तो गवर्नमेंट को मेरे साथ इसके खिलाफ आवाज लेनी चाहिए और ऐसे जो हॉस्पिटल से जन्मे लोगों को ठीक ढंग से ट्रीटमेंट नहीं दिया जाता या जो कैसे होते हैं ऑन द स्पॉट ट्रीटमेंट की जरूरत है या अधिक ट्रीटमेंट की जरुरत है वह नहीं दिया जाता तो उसके खिलाफ एक्शन लिया जाना चाहिए और उनका जो लाइसेंस जरूरत भी किया जाना चाहिए और रही बात जो बेंगलुरु में आजकल व्यक्ति ज्यादा बढ़ रहे हैं इन चीजों के तो पुलिस अथॉरिटी को और गवर्नमेंट को उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी सजा Action लिए जाना चाहिए ताकि जोकेस हो रहे हैं वह कम हो और सुधार है
Romanized Version
करंजी जो अपने क्वेश्चन डाला है वह मेरे हिसाब से जो लापरवाही कि अगर हम बात करें तो उसमें हॉस्पिटल पुलिस गवर्नमेंट इन सब की लापरवाही साफ साफ दिखती है अगर कोई गैंग रेप होता है तो सबसे पहले तो इसमें जो तृतीय पुलिस अथॉरिटी फंक्शन सही से काम नहीं कर रही थी तभी कहीं ना कहीं जाकर गैंगरेप होता है मगर जब गैंगरेप हो चुका तो उसके बाद उसको अच्छे से ठीक क्यों नहीं किया गया हॉस्पिटल में ऑपरेट क्यों नहीं किया गया तो इसमें हॉस्पिटल की प्लस गवर्नमेंट की फंक्शनिंग की दोनों की गलती है तो गवर्नमेंट को मेरे साथ इसके खिलाफ आवाज लेनी चाहिए और ऐसे जो हॉस्पिटल से जन्मे लोगों को ठीक ढंग से ट्रीटमेंट नहीं दिया जाता या जो कैसे होते हैं ऑन द स्पॉट ट्रीटमेंट की जरूरत है या अधिक ट्रीटमेंट की जरुरत है वह नहीं दिया जाता तो उसके खिलाफ एक्शन लिया जाना चाहिए और उनका जो लाइसेंस जरूरत भी किया जाना चाहिए और रही बात जो बेंगलुरु में आजकल व्यक्ति ज्यादा बढ़ रहे हैं इन चीजों के तो पुलिस अथॉरिटी को और गवर्नमेंट को उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी सजा Action लिए जाना चाहिए ताकि जोकेस हो रहे हैं वह कम हो और सुधार हैKaranji Jo Apne Question Dala Hai Wah Mere Hisab Se Jo Laparwahi Ki Agar Hum Baat Karen To Usamen Hospital Police Government In Sab Ki Laparwahi Saaf Saaf Dikhti Hai Agar Koi Gang Rape Hota Hai To Sabse Pehle To Isme Jo Tritiye Police Authority Function Sahi Se Kaam Nahi Kar Rahi Thi Tabhi Kahin Na Kahin Jaakar Gangrape Hota Hai Magar Jab Gangrape Ho Chuka To Uske Baad Usko Acche Se Theek Kyun Nahi Kiya Gaya Hospital Mein Operate Kyun Nahi Kiya Gaya To Isme Hospital Ki Plus Government Ki FUNCTIONING Ki Dono Ki Galti Hai To Government Ko Mere Saath Iske Khilaf Aawaj Leni Chahiye Aur Aise Jo Hospital Se Janme Logon Ko Theek Dhang Se Treatment Nahi Diya Jata Ya Jo Kaise Hote Hain On D Spot Treatment Ki Zaroorat Hai Ya Adhik Treatment Ki Zaroorat Hai Wah Nahi Diya Jata To Uske Khilaf Action Liya Jana Chahiye Aur Unka Jo License Zaroorat Bhi Kiya Jana Chahiye Aur Rahi Baat Jo Bengaluru Mein Aajkal Vyakti Jyada Badh Rahe Hain In Chijon Ke To Police Authority Ko Aur Government Ko Uske Khilaf Kadi Se Kadi Saja Action Liye Jana Chahiye Taki Jokes Ho Rahe Hain Wah Kum Ho Aur Sudhaar Hai
Likes  2  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वामपंथियों का हमेशा यह मानना रहा है कि लोकतंत्र में उनका हिस्सा जो है वह बहुत कम रहता है उन्हें जो भी सरकार चाहिए वह ऐसी सरकार चाहिए जो समाजवाद की तरफ झुकी हुई हो और चीन जो है वह समाज वालों की तरह समझ झुका हुआ था हमने 1947 में आजादी के समय कह दिया था कि हम लोकतंत्र हो गए गणराज्य है हम सब कोई क्वालिटी देंगे लेकिन समाजवाद की तरफ जाएंगे तो जब 1962 में चीन ने हमला किया था तब कोलकाता मिठाई मिठाईयां बांटी गई थी यह बात बिल्कुल सच है वामपंथियों ने इस हमले को जायज ठहराया था और कहा था कि जो जमीन है लीगल है आप उसे ले जाइए और समाधान अपने असली असली चेहरा दिखाया था वह अपने आप को किसान की सरकार गरीबों की सरकार मानते हैं और खुद काला शासन की मांग हमेशा से करते रहते हैं लेकिन भारतीय संविधान में साफ-साफ लिखा हुआ है कि जो सरकार होगी वही केवल देश के प्रति से मिला रहेगी और उसके अलावा किसी और चीज़ को चाहे वो नक्सलाइट हो जाए वामपंथियों को नहीं माना तो फिर उसके बाद जून की पार्टी थी उन्होंने पार्टी बनाकर इस तरह के काम करना शुरू कर दिए जो देश विरोधी काम वर्णन करना शुरू कर दिया अभी भी जेएनयू में जो कांड हुआ था उसमें भी वामपंथियों गीता की सरकार है तू कन्याकुमारी वामपंथी से दिल से ही थे तो मुझे लगता है कि ऐसे लोगों को इग्नोर करना आवश्यक है और चीन के हमला 1962 बहुत पुरानी बात हो गई अब मैं आगे क्या देखना चाहिए कि आगे हमें क्या करना है चाहिए और हमें 9 कैसे टेकल करना चाहिए सबसे अच्छी बात यह है कि इस समय हम लोग काफी एजुकेटेड है समाज काफी पढ़ा-लिखा जानता है कि किसे वोट करना किसे नहीं लगता भविष्य में बदल जाएंगे अभी तो हमें काफी आगे रास्ता तय करना है थैंक यू
Romanized Version
वामपंथियों का हमेशा यह मानना रहा है कि लोकतंत्र में उनका हिस्सा जो है वह बहुत कम रहता है उन्हें जो भी सरकार चाहिए वह ऐसी सरकार चाहिए जो समाजवाद की तरफ झुकी हुई हो और चीन जो है वह समाज वालों की तरह समझ झुका हुआ था हमने 1947 में आजादी के समय कह दिया था कि हम लोकतंत्र हो गए गणराज्य है हम सब कोई क्वालिटी देंगे लेकिन समाजवाद की तरफ जाएंगे तो जब 1962 में चीन ने हमला किया था तब कोलकाता मिठाई मिठाईयां बांटी गई थी यह बात बिल्कुल सच है वामपंथियों ने इस हमले को जायज ठहराया था और कहा था कि जो जमीन है लीगल है आप उसे ले जाइए और समाधान अपने असली असली चेहरा दिखाया था वह अपने आप को किसान की सरकार गरीबों की सरकार मानते हैं और खुद काला शासन की मांग हमेशा से करते रहते हैं लेकिन भारतीय संविधान में साफ-साफ लिखा हुआ है कि जो सरकार होगी वही केवल देश के प्रति से मिला रहेगी और उसके अलावा किसी और चीज़ को चाहे वो नक्सलाइट हो जाए वामपंथियों को नहीं माना तो फिर उसके बाद जून की पार्टी थी उन्होंने पार्टी बनाकर इस तरह के काम करना शुरू कर दिए जो देश विरोधी काम वर्णन करना शुरू कर दिया अभी भी जेएनयू में जो कांड हुआ था उसमें भी वामपंथियों गीता की सरकार है तू कन्याकुमारी वामपंथी से दिल से ही थे तो मुझे लगता है कि ऐसे लोगों को इग्नोर करना आवश्यक है और चीन के हमला 1962 बहुत पुरानी बात हो गई अब मैं आगे क्या देखना चाहिए कि आगे हमें क्या करना है चाहिए और हमें 9 कैसे टेकल करना चाहिए सबसे अच्छी बात यह है कि इस समय हम लोग काफी एजुकेटेड है समाज काफी पढ़ा-लिखा जानता है कि किसे वोट करना किसे नहीं लगता भविष्य में बदल जाएंगे अभी तो हमें काफी आगे रास्ता तय करना है थैंक यूVamapanthiyon Ka Hamesha Yeh Manana Raha Hai Ki Loktantra Mein Unka Hissa Jo Hai Wah Bahut Kum Rehta Hai Unhen Jo Bhi Sarkar Chahiye Wah Aisi Sarkar Chahiye Jo Samajavad Ki Taraf Jhuki Hui Ho Aur Chin Jo Hai Wah Samaaj Walon Ki Tarah Samajh Jhuka Hua Tha Humne 1947 Mein Azadi Ke Samay Keh Diya Tha Ki Hum Loktantra Ho Gaye Ganrajya Hai Hum Sab Koi Quality Denge Lekin Samajavad Ki Taraf Jaenge To Jab 1962 Mein Chin Ne Hamla Kiya Tha Tab Kolkata Mithai Mithaiyan Banti Gayi Thi Yeh Baat Bilkul Sach Hai Vamapanthiyon Ne Is Hamle Ko Jayaj Thahraya Tha Aur Kaha Tha Ki Jo Jameen Hai Legal Hai Aap Use Le Jaiye Aur Samadhan Apne Asli Asli Chehra Dikhaya Tha Wah Apne Aap Ko Kisan Ki Sarkar Garibon Ki Sarkar Manate Hain Aur Khud Kala Shasan Ki Maang Hamesha Se Karte Rehte Hain Lekin Bhartiya Samvidhan Mein Saaf Saaf Likha Hua Hai Ki Jo Sarkar Hogi Wahi Kewal Desh Ke Prati Se Mila Rahegi Aur Uske Alava Kisi Aur Cheese Ko Chahe Vo Naksalait Ho Jaye Vamapanthiyon Ko Nahi Mana To Phir Uske Baad June Ki Party Thi Unhone Party Banakar Is Tarah Ke Kaam Karna Shuru Kar Diye Jo Desh Virodhi Kaam Vernon Karna Shuru Kar Diya Abhi Bhi Jnu Mein Jo Kaand Hua Tha Usamen Bhi Vamapanthiyon Geeta Ki Sarkar Hai Tu Kanyakumari Vampanthi Se Dil Se Hi The To Mujhe Lagta Hai Ki Aise Logon Ko Ignore Karna Aavashyak Hai Aur Chin Ke Hamla 1962 Bahut Purani Baat Ho Gayi Ab Main Aage Kya Dekhna Chahiye Ki Aage Hume Kya Karna Hai Chahiye Aur Hume 9 Kaise Tekal Karna Chahiye Sabse Acchi Baat Yeh Hai Ki Is Samay Hum Log Kafi Educated Hai Samaaj Kafi Padha Likha Jaanta Hai Ki Kise Vote Karna Kise Nahi Lagta Bhavishya Mein Badal Jaenge Abhi To Hume Kafi Aage Rasta Tay Karna Hai Thank You
Likes  4  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दो देशों के मध्य युद्ध व्यस्त का केवल और केवल यह लक्ष्य होता है कि किसी भी आपातकालीन परिस्थिति में युद्ध की स्थिति में जब मित्र देश या वह दोनों देश एक तरफ होंगे तो वह किस तरह से हमला करेंगे या युद्ध करेंगे इसके अलावा आपात स्थिति में किस तरह से बाढ़ में या सुखी में या भूकंप में सुनामी में किस तरह से आप जनसामान्य का जीवन बचा सकते हैं इसकी भी प्रेक्टिस युद्ध अभ्यास के दौरान की जाती है हर बार युद्ध अभ्यास क्रम अर्थ केवल लड़ाई करना यह दूसरे को परास्त करने की रणनीति नहीं होता कई बार इंटरनेशनल प्रेशर क्रिएट करने के लिए भी युद्ध अभ्यास किया जाता है जैसे कि भारत हमेशा चीन के दुश्मन जैसे कि आसीन कंट्री सिंगापुर मलेशिया इनके साथ इंडोनेशिया इन लोगों के साथ हमेशा एक दिवस करने की कोशिश करता है इसी तरह पाकिस्तान हमेशा चीन और सिया के साथ दिवस करने की कोशिश करता रहता है अमेरिका इंडिया के साथ और जापान के जापान इंडिया के साथ मालाबार ज्वेलर्स करता रहता है तो इंटरनेशनल सर्किट करने के लिए भी लोग युद्ध अभ्यास करते हैं इस बार मालाबार का युद्धाभ्यास हुआ था वह साउथ चाइना सी में हुआ था जिसमें अमेरिका जापान और इंडिया ने भाग लिया था ऑस्ट्रेलिया विभाग लेने वाला था लेकिन चीन की कूटनीति के कारण उसने भाग नहीं लिया और अंतिम समय पर पैर खींच लिए तो इंटरनेशनल क्रिकेट करने के लिए जाते थे बस किए जाते हैं और जोर कमीनी चीज होती है वह टारगेट को ऐड करना तथा आपातकालीन परिस्थिति में बात करना होता है धन्यवाद
Romanized Version
दो देशों के मध्य युद्ध व्यस्त का केवल और केवल यह लक्ष्य होता है कि किसी भी आपातकालीन परिस्थिति में युद्ध की स्थिति में जब मित्र देश या वह दोनों देश एक तरफ होंगे तो वह किस तरह से हमला करेंगे या युद्ध करेंगे इसके अलावा आपात स्थिति में किस तरह से बाढ़ में या सुखी में या भूकंप में सुनामी में किस तरह से आप जनसामान्य का जीवन बचा सकते हैं इसकी भी प्रेक्टिस युद्ध अभ्यास के दौरान की जाती है हर बार युद्ध अभ्यास क्रम अर्थ केवल लड़ाई करना यह दूसरे को परास्त करने की रणनीति नहीं होता कई बार इंटरनेशनल प्रेशर क्रिएट करने के लिए भी युद्ध अभ्यास किया जाता है जैसे कि भारत हमेशा चीन के दुश्मन जैसे कि आसीन कंट्री सिंगापुर मलेशिया इनके साथ इंडोनेशिया इन लोगों के साथ हमेशा एक दिवस करने की कोशिश करता है इसी तरह पाकिस्तान हमेशा चीन और सिया के साथ दिवस करने की कोशिश करता रहता है अमेरिका इंडिया के साथ और जापान के जापान इंडिया के साथ मालाबार ज्वेलर्स करता रहता है तो इंटरनेशनल सर्किट करने के लिए भी लोग युद्ध अभ्यास करते हैं इस बार मालाबार का युद्धाभ्यास हुआ था वह साउथ चाइना सी में हुआ था जिसमें अमेरिका जापान और इंडिया ने भाग लिया था ऑस्ट्रेलिया विभाग लेने वाला था लेकिन चीन की कूटनीति के कारण उसने भाग नहीं लिया और अंतिम समय पर पैर खींच लिए तो इंटरनेशनल क्रिकेट करने के लिए जाते थे बस किए जाते हैं और जोर कमीनी चीज होती है वह टारगेट को ऐड करना तथा आपातकालीन परिस्थिति में बात करना होता है धन्यवादDo Deshon Ke Madhya Yudh Vyasta Ka Kewal Aur Kewal Yeh Lakshya Hota Hai Ki Kisi Bhi Aapatkalin Paristhiti Mein Yudh Ki Sthiti Mein Jab Mitra Desh Ya Wah Dono Desh Ek Taraf Honge To Wah Kis Tarah Se Hamla Karenge Ya Yudh Karenge Iske Alava Aapat Sthiti Mein Kis Tarah Se Baadh Mein Ya Sukhi Mein Ya Bhukamp Mein Tsunami Mein Kis Tarah Se Aap Janasamanya Ka Jeevan Bacha Sakte Hain Iski Bhi Practice Yudh Abhyas Ke Dauran Ki Jati Hai Har Baar Yudh Abhyas Kram Arth Kewal Ladai Karna Yeh Dusre Ko Parast Karne Ki Rananiti Nahi Hota Kai Baar International Pressure Create Karne Ke Liye Bhi Yudh Abhyas Kiya Jata Hai Jaise Ki Bharat Hamesha Chin Ke Dushman Jaise Ki Aaseen Country Singapore Malaysia Inke Saath Indonesia In Logon Ke Saath Hamesha Ek Divas Karne Ki Koshish Karta Hai Isi Tarah Pakistan Hamesha Chin Aur Siya Ke Saath Divas Karne Ki Koshish Karta Rehta Hai America India Ke Saath Aur Japan Ke Japan India Ke Saath Malabar Jewellers Karta Rehta Hai To International Circuit Karne Ke Liye Bhi Log Yudh Abhyas Karte Hain Is Baar Malabar Ka Yudhabhyas Hua Tha Wah South China Si Mein Hua Tha Jisme America Japan Aur India Ne Bhag Liya Tha Austrailia Vibhag Lene Wala Tha Lekin Chin Ki Kutneeti Ke Kaaran Usne Bhag Nahi Liya Aur Antim Samay Par Pair Khinch Liye To International Cricket Karne Ke Liye Jaate The Bus Kiye Jaate Hain Aur Jor Kamini Cheez Hoti Hai Wah Target Ko Aid Karna Tatha Aapatkalin Paristhiti Mein Baat Karna Hota Hai Dhanyavad
Likes  2  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे लगता है कि जो आपने प्रश्न किया कि कुछ राजनीतिक टीपू सुल्तान के चित्र के साथ एक शीत युद्ध क्यों कर रहे हैं तो इसका सबसे बड़ा कारण यही है कि बोर्ड में और कुछ राजनीतिक दल ने केवल एक ही धन है जो भारतीय जनता पार्टी हुई इस तरह के काम कर रही हो मैं ऐसा नहीं कि भारतीय जनता पार्टी में हर व्यक्ति ऐसा है लेकिन कुछ भारतीय जनता पार्टी के लिए बस ऐसे हैं जो दिखाना चाहते कि उनसे बड़ा नेशनलिस्ट कोई नहीं है उनसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं है और उसका उसके पीछे एक जब के उनके अंदर एक परसेंट भी देशभक्ति नहीं हुई लेकिन जो आप इतना ज्यादा होता है अशोक का सबसे बड़ा कारण यह है क्योंकि वह वोटों को पोलेराइड करना चाहते हैं ताकि के बहुसंख्यक वोट बैंक है वह उनको पूरा वोट दे दें क्योंकि वह जानता है अगर वह चमके अंग बोर्ड पर उनकी मोनोपोली हो जाएगी तो मुस्लिम वोट उनको मिलेगा वह सरकार में रहेंगे अब जब पैरालाइज कर देंगे वोट को तो कोई व्यक्ति गवर्नमेंट की बात नहीं करेगा कोई व्यक्ति इंफ्रास्ट्रक्चर की बात नहीं करेगा एजुकेशन की बात कोई नहीं करेगा एंप्लॉयमेंट की बात कोई नहीं करेगा केवल रिलीजन के नाम पर फोटो देखा तो उनका तो यह शुरू से ही काम रहा है ठीक है अब मैं भारतीय जनता पार्टी के सारे लेटेस्ट को नहीं कहता लेकिन कुछ वीडियो जरूर ऐसे हैं जो मुझे लगता है कि अब बंद होना चाहिए लोगों को डिसाइड करना है कि उनको बोलो राइज होना है या नहीं होना है उनको वोट डेवलपमेंट के ऊपर देना या ना देना है विकास तो क्रिएट के नाम पर तो पता नहीं कितने सालों से वोट मांगते आए हर पार्टी वोट मांगे लेकिन अब मुझे नहीं लगता कि इस तरह का होना चाहिए टाइट हम को ही करना है
Romanized Version
लेकिन मुझे लगता है कि जो आपने प्रश्न किया कि कुछ राजनीतिक टीपू सुल्तान के चित्र के साथ एक शीत युद्ध क्यों कर रहे हैं तो इसका सबसे बड़ा कारण यही है कि बोर्ड में और कुछ राजनीतिक दल ने केवल एक ही धन है जो भारतीय जनता पार्टी हुई इस तरह के काम कर रही हो मैं ऐसा नहीं कि भारतीय जनता पार्टी में हर व्यक्ति ऐसा है लेकिन कुछ भारतीय जनता पार्टी के लिए बस ऐसे हैं जो दिखाना चाहते कि उनसे बड़ा नेशनलिस्ट कोई नहीं है उनसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं है और उसका उसके पीछे एक जब के उनके अंदर एक परसेंट भी देशभक्ति नहीं हुई लेकिन जो आप इतना ज्यादा होता है अशोक का सबसे बड़ा कारण यह है क्योंकि वह वोटों को पोलेराइड करना चाहते हैं ताकि के बहुसंख्यक वोट बैंक है वह उनको पूरा वोट दे दें क्योंकि वह जानता है अगर वह चमके अंग बोर्ड पर उनकी मोनोपोली हो जाएगी तो मुस्लिम वोट उनको मिलेगा वह सरकार में रहेंगे अब जब पैरालाइज कर देंगे वोट को तो कोई व्यक्ति गवर्नमेंट की बात नहीं करेगा कोई व्यक्ति इंफ्रास्ट्रक्चर की बात नहीं करेगा एजुकेशन की बात कोई नहीं करेगा एंप्लॉयमेंट की बात कोई नहीं करेगा केवल रिलीजन के नाम पर फोटो देखा तो उनका तो यह शुरू से ही काम रहा है ठीक है अब मैं भारतीय जनता पार्टी के सारे लेटेस्ट को नहीं कहता लेकिन कुछ वीडियो जरूर ऐसे हैं जो मुझे लगता है कि अब बंद होना चाहिए लोगों को डिसाइड करना है कि उनको बोलो राइज होना है या नहीं होना है उनको वोट डेवलपमेंट के ऊपर देना या ना देना है विकास तो क्रिएट के नाम पर तो पता नहीं कितने सालों से वोट मांगते आए हर पार्टी वोट मांगे लेकिन अब मुझे नहीं लगता कि इस तरह का होना चाहिए टाइट हम को ही करना हैLekin Mujhe Lagta Hai Ki Jo Aapne Prashna Kiya Ki Kuch Rajnitik Tipu Sultan Ke Chitra Ke Saath Ek Sheet Yudh Kyun Kar Rahe Hain To Iska Sabse Bada Kaaran Yahi Hai Ki Board Mein Aur Kuch Rajnitik Dal Ne Kewal Ek Hi Dhan Hai Jo Bhartiya Janta Party Hui Is Tarah Ke Kaam Kar Rahi Ho Main Aisa Nahi Ki Bhartiya Janta Party Mein Har Vyakti Aisa Hai Lekin Kuch Bhartiya Janta Party Ke Liye Bus Aise Hain Jo Dikhana Chahte Ki Unse Bada Neshanalist Koi Nahi Hai Unse Bada Deshbhakt Koi Nahi Hai Aur Uska Uske Piche Ek Jab Ke Unke Andar Ek Percent Bhi Deshbhakti Nahi Hui Lekin Jo Aap Itna Jyada Hota Hai Ashok Ka Sabse Bada Kaaran Yeh Hai Kyonki Wah Voton Ko Poleraid Karna Chahte Hain Taki Ke Nahusankhya Vote Bank Hai Wah Unko Pura Vote De Dein Kyonki Wah Jaanta Hai Agar Wah Chamake Ang Board Par Unki Monopoly Ho Jayegi To Muslim Vote Unko Milega Wah Sarkar Mein Rahenge Ab Jab Pairalaij Kar Denge Vote Ko To Koi Vyakti Government Ki Baat Nahi Karega Koi Vyakti Infrastructure Ki Baat Nahi Karega Education Ki Baat Koi Nahi Karega Employment Ki Baat Koi Nahi Karega Kewal Rilijan Ke Naam Par Photo Dekha To Unka To Yeh Shuru Se Hi Kaam Raha Hai Theek Hai Ab Main Bhartiya Janta Party Ke Sare Latest Ko Nahi Kahata Lekin Kuch Video Jarur Aise Hain Jo Mujhe Lagta Hai Ki Ab Band Hona Chahiye Logon Ko Decide Karna Hai Ki Unko Bolo Roiz Hona Hai Ya Nahi Hona Hai Unko Vote Development Ke Upar Dena Ya Na Dena Hai Vikash To Create Ke Naam Par To Pata Nahi Kitne Salon Se Vote Mangate Aaye Har Party Vote Mange Lekin Ab Mujhe Nahi Lagta Ki Is Tarah Ka Hona Chahiye Tight Hum Ko Hi Karna Hai
Likes  5  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यार यह आरक्षण आरक्षण का सभी हल्ला कर रहे आरक्षण प्यार कभी खत्म नहीं हो सकता है आरक्षण खत्म तभी होगा जब इंसान यहां पर सारी इंक्वारी हो जाएगा जाती कोई जाति नहीं रहेगा कोई अमीर गरीब नहीं रहेगा तब जाकर आरक्षण खत्म होगा सिंपल सी बात है और जो चिल्ला रहे हैं आरक्षण के लिए आरक्षण क्यों दिया जाता है इसके पीछे क्या रीजन है वह पहले समझें और उसके बाद में सब जलाएं एक चीज एक चीज है जो कि आरक्षण स्कोर नहीं मिला जो लिखते कास्ट के हैं जिसका प्रियांशी कंडीशन सही हो गया है या कोई भी डिस्क आरक्षण का फायदा उसको आज नहीं करती और मैंट कॉल करना पड़ेगा यह कैसे पॉसिबल है और यही चीज है सही है मुझे कोई दूसरा व्याकरण गवर्नमेंट अपनाता है आज या कोई चिल्लाता है उसे बस से देश में यही गिरी यूज़ हो सकता है उसे कुछ आगे कुछ नहीं हो सकता है बस झगड़े होंगे दंगे आओगे उससे ज्यादा कुछ नहीं बनी हम कभी चेंज नहीं हो सकता कि वह गलत भी है वह उज्जैन जिले में क्या रेट दिखाएं करके आप को अलग करना पड़ेगा और क्या मैं कोई और भी है जिससे मां जिसको बोलते हैं कि मत भेजो जिस का फैन एयर कंडीशन थोड़ा बहुत गलत है उसको थोड़ा और इंतजार करके उसको जरा शुरू किया जाएगा क्योंकि आप भी जानते हैं कि पहले जो इसलिए कास्ट के अकॉर्डिंग दिया गया था आरक्षण क्योंकि काम के अकॉर्डिंग ही पहले कार्यकाल टी-शर्ट था जो मतलब कि जो जिस का स्कोर दाता सब का देखने का मन लगता पर अब धीरे-धीरे क्या हुआ क्या कर के पैसे वह सब भी वह काम छोड़ के अलग-अलग काम करने लगा है सबका अलग अलग अपना काम हो गया है तो यह चीज है सब को समझना पड़ेगा बाड़ी की से और तभी जाकर के यह जो झगड़े पड़ेगा भावना जो भी चीज होती है जो तुझे कम होगा आप जानते हैं कि उसको इसलिए हटाया गया था कि आरक्षण नहीं दिया गया क्योंकि वह सब पहले हजारों साल तक इन सब का शोषण किया था अलग अलग तरीके से 20 साल के लगभग हुआ भी नहीं है इन सब को दिक्कत होने लगा है तो वह उन सब को भी समझना चाहिए और जिसको नहीं लेने के लायक है उसको भी सुना था कि अब हम लोग आरक्षण का फायदा नहीं ले और धीरे-धीरे जो और भी है उसको आगे
Romanized Version
यार यह आरक्षण आरक्षण का सभी हल्ला कर रहे आरक्षण प्यार कभी खत्म नहीं हो सकता है आरक्षण खत्म तभी होगा जब इंसान यहां पर सारी इंक्वारी हो जाएगा जाती कोई जाति नहीं रहेगा कोई अमीर गरीब नहीं रहेगा तब जाकर आरक्षण खत्म होगा सिंपल सी बात है और जो चिल्ला रहे हैं आरक्षण के लिए आरक्षण क्यों दिया जाता है इसके पीछे क्या रीजन है वह पहले समझें और उसके बाद में सब जलाएं एक चीज एक चीज है जो कि आरक्षण स्कोर नहीं मिला जो लिखते कास्ट के हैं जिसका प्रियांशी कंडीशन सही हो गया है या कोई भी डिस्क आरक्षण का फायदा उसको आज नहीं करती और मैंट कॉल करना पड़ेगा यह कैसे पॉसिबल है और यही चीज है सही है मुझे कोई दूसरा व्याकरण गवर्नमेंट अपनाता है आज या कोई चिल्लाता है उसे बस से देश में यही गिरी यूज़ हो सकता है उसे कुछ आगे कुछ नहीं हो सकता है बस झगड़े होंगे दंगे आओगे उससे ज्यादा कुछ नहीं बनी हम कभी चेंज नहीं हो सकता कि वह गलत भी है वह उज्जैन जिले में क्या रेट दिखाएं करके आप को अलग करना पड़ेगा और क्या मैं कोई और भी है जिससे मां जिसको बोलते हैं कि मत भेजो जिस का फैन एयर कंडीशन थोड़ा बहुत गलत है उसको थोड़ा और इंतजार करके उसको जरा शुरू किया जाएगा क्योंकि आप भी जानते हैं कि पहले जो इसलिए कास्ट के अकॉर्डिंग दिया गया था आरक्षण क्योंकि काम के अकॉर्डिंग ही पहले कार्यकाल टी-शर्ट था जो मतलब कि जो जिस का स्कोर दाता सब का देखने का मन लगता पर अब धीरे-धीरे क्या हुआ क्या कर के पैसे वह सब भी वह काम छोड़ के अलग-अलग काम करने लगा है सबका अलग अलग अपना काम हो गया है तो यह चीज है सब को समझना पड़ेगा बाड़ी की से और तभी जाकर के यह जो झगड़े पड़ेगा भावना जो भी चीज होती है जो तुझे कम होगा आप जानते हैं कि उसको इसलिए हटाया गया था कि आरक्षण नहीं दिया गया क्योंकि वह सब पहले हजारों साल तक इन सब का शोषण किया था अलग अलग तरीके से 20 साल के लगभग हुआ भी नहीं है इन सब को दिक्कत होने लगा है तो वह उन सब को भी समझना चाहिए और जिसको नहीं लेने के लायक है उसको भी सुना था कि अब हम लोग आरक्षण का फायदा नहीं ले और धीरे-धीरे जो और भी है उसको आगेYaar Yeh Aarakshan Aarakshan Ka Sabhi Halla Kar Rahe Aarakshan Pyar Kabhi Khatam Nahi Ho Sakta Hai Aarakshan Khatam Tabhi Hoga Jab Insaan Yahan Par Saree Inkwari Ho Jayega Jati Koi Jati Nahi Rahega Koi Amir Garib Nahi Rahega Tab Jaakar Aarakshan Khatam Hoga Simple Si Baat Hai Aur Jo Chilla Rahe Hain Aarakshan Ke Liye Aarakshan Kyun Diya Jata Hai Iske Piche Kya Reason Hai Wah Pehle Samajhe Aur Uske Baad Mein Sab Jalaaen Ek Cheez Ek Cheez Hai Jo Ki Aarakshan Score Nahi Mila Jo Likhte Caste Ke Hain Jiska Priyanshi Condition Sahi Ho Gaya Hai Ya Koi Bhi Disk Aarakshan Ka Fayda Usko Aaj Nahi Karti Aur Maint Call Karna Padega Yeh Kaise Possible Hai Aur Yahi Cheez Hai Sahi Hai Mujhe Koi Doosra Vyakaran Government Apanaata Hai Aaj Ya Koi Chillata Hai Use Bus Se Desh Mein Yahi Giri Use Ho Sakta Hai Use Kuch Aage Kuch Nahi Ho Sakta Hai Bus Jhagde Honge Denge Aaoge Usse Jyada Kuch Nahi Bani Hum Kabhi Change Nahi Ho Sakta Ki Wah Galat Bhi Hai Wah Ujjain Jile Mein Kya Rate Dikhaen Karke Aap Ko Alag Karna Padega Aur Kya Main Koi Aur Bhi Hai Jisse Maa Jisko Bolte Hain Ki Mat Bhejo Jis Ka Fan Air Condition Thoda Bahut Galat Hai Usko Thoda Aur Intejar Karke Usko Jara Shuru Kiya Jayega Kyonki Aap Bhi Jante Hain Ki Pehle Jo Isliye Caste Ke According Diya Gaya Tha Aarakshan Kyonki Kaam Ke According Hi Pehle Karyakal T Shirt Tha Jo Matlab Ki Jo Jis Ka Score Data Sab Ka Dekhne Ka Man Lagta Par Ab Dhire Dhire Kya Hua Kya Kar Ke Paise Wah Sab Bhi Wah Kaam Chod Ke Alag Alag Kaam Karne Laga Hai Sabka Alag Alag Apna Kaam Ho Gaya Hai To Yeh Cheez Hai Sab Ko Samajhna Padega Badi Ki Se Aur Tabhi Jaakar Ke Yeh Jo Jhagde Padega Bhavna Jo Bhi Cheez Hoti Hai Jo Tujhe Kum Hoga Aap Jante Hain Ki Usko Isliye Hataya Gaya Tha Ki Aarakshan Nahi Diya Gaya Kyonki Wah Sab Pehle Hajaron Saal Tak In Sab Ka Shoshan Kiya Tha Alag Alag Tarike Se 20 Saal Ke Lagbhag Hua Bhi Nahi Hai In Sab Ko Dikkat Hone Laga Hai To Wah Un Sab Ko Bhi Samajhna Chahiye Aur Jisko Nahi Lene Ke Layak Hai Usko Bhi Suna Tha Ki Ab Hum Log Aarakshan Ka Fayda Nahi Le Aur Dhire Dhire Jo Aur Bhi Hai Usko Aage
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जी नहीं मैं आपकी इस बात से सहमत नहीं हूं कि जब तक भारत में जातिवाद रहेगा तब तक आरक्षण रहेगा मुझे लगता है जब तक आरक्षण रहेगा तब तक जातिवाद ज्यादा पर क्योंकि जातिवाद हमारे देश में सदियों से है दशकों पहले वर्ण व्यवस्था लागू की गई थी और वर्ण व्यवस्था में चार वर्ण बनाए गए थे लेकिन वह वर्ण व्यवस्था भी विकृत रूप लेती गई और धोनी की जाति के लोग थे वह नीचे काम कर कर के और अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत नहीं बना पाए जबकि जो उच्च वर्ग था उसने धन है वह अपने आप को मालूम मालामाल कर लिया और शूद्र लोगों को नीची जाति के लोगों को और कमतर और नीचे उतरते चले गए इसीलिए आरक्षण का मुद्दा उठाया था और इसी लिए आरक्षण शुरू किया गया था कि जो निम्न जाति के लोग हैं उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो वह स्वावलंबी बनने लेकिन उनको एक सहारा देने के लिए था लेकिन यह भी सही तरह से नहीं उन लोगों तक आरक्षण का लाभ नहीं पहुंचा जो वाकई में इसके लिए जरूरतमंद थे और जिनको वाकई में इसका लाभ मिलना चाहिए था किसी एक परिवार के सदस्य को ही लाभ मिला वह अच्छी पद पर पहुंच गया उसने बहुत पैसा कमाया वह धनवान बन गया उसके बच्चे पढ़ लिख गए लेकिन उसकी परिवार के बच्चे अच्छी स्थिति में पहुंचने के बाद भी आरक्षण का लाभ उठा रहे हैं तो यह गलत है आर्थिक स्थिति के हिसाब से आरक्षण दिया जाना चाहिए जो वाकई में इसके लिए लायक है उनको आरक्षण मिलना चाहिए न कि जातियों को अपने बराबर बनाने के लिए आरक्षण जरूरी है लेकिन यह जातिवाद फैला रहा है और लोग बांट रहे हैं सांप्रदायिक दंगे हो रहे हैं इसलिए आरक्षण को सुधारना चाहिए उन लोगों को ऊंचा उठाना चाहिए और उसके बाद आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए कम से कम जातिगत आरक्षण तो बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए और उसे एक आर्थिक स्थिति पर करJi Nahi Main Aapki Is Baat Se Sahmat Nahi Hoon Ki Jab Tak Bharat Mein Jaatiwad Rahega Tab Tak Aarakshan Rahega Mujhe Lagta Hai Jab Tak Aarakshan Rahega Tab Tak Jaatiwad Jyada Par Kyonki Jaatiwad Hamare Desh Mein Sadiyon Se Hai Dashakon Pehle Varn Vyavastha Laagu Ki Gayi Thi Aur Varn Vyavastha Mein Char Varn Banaye Gaye The Lekin Wah Varn Vyavastha Bhi Vikrit Roop Leti Gayi Aur Dhoni Ki Jati Ke Log The Wah Neeche Kaam Kar Kar Ke Aur Apni Aarthik Sthiti Ko Mazboot Nahi Bana Paye Jabki Jo Uccha Varg Tha Usne Dhan Hai Wah Apne Aap Ko Maloom Malamaal Kar Liya Aur Shudra Logon Ko Nichi Jati Ke Logon Ko Aur Kamtar Aur Neeche Utarate Chale Gaye Isliye Aarakshan Ka Mudda Uthaya Tha Aur Isi Liye Aarakshan Shuru Kiya Gaya Tha Ki Jo Nimn Jati Ke Log Hain Unki Aarthik Sthiti Mazboot Ho Wah Svaavlambi Banane Lekin Unko Ek Sahara Dene Ke Liye Tha Lekin Yeh Bhi Sahi Tarah Se Nahi Un Logon Tak Aarakshan Ka Labh Nahi Pahuncha Jo Vaakai Mein Iske Liye Jaruratmand The Aur Jinako Vaakai Mein Iska Labh Milna Chahiye Tha Kisi Ek Parivar Ke Sadasya Ko Hi Labh Mila Wah Acchi Pad Par Pahunch Gaya Usne Bahut Paisa Kamaya Wah Dhanwan Ban Gaya Uske Bacche Padh Likh Gaye Lekin Uski Parivar Ke Bacche Acchi Sthiti Mein Pahuchne Ke Baad Bhi Aarakshan Ka Labh Utha Rahe Hain To Yeh Galat Hai Aarthik Sthiti Ke Hisab Se Aarakshan Diya Jana Chahiye Jo Vaakai Mein Iske Liye Layak Hai Unko Aarakshan Milna Chahiye N Ki Jaatiyo Ko Apne Barabar Banane Ke Liye Aarakshan Zaroori Hai Lekin Yeh Jaatiwad Faila Raha Hai Aur Log Baant Rahe Hain Sampradayik Denge Ho Rahe Hain Isliye Aarakshan Ko Sudharna Chahiye Un Logon Ko Uncha Uthaana Chahiye Aur Uske Baad Aarakshan Ko Khatam Kar Dena Chahiye Kum Se Kum Jaatigat Aarakshan To Bilkul Bhi Nahi Hona Chahiye Aur Use Ek Aarthik Sthiti Par Kar
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

थर्ड वर्ल्ड वॉर हो सकती है यह नहीं हो सकती यह तो कहना बहुत मुश्किल हो चुकी है एक ऐसी चीज है जिस पर जो के प्रश्न लगाती है कि अगर किसी भी देश में किसी भी देश पर आक्रमण कर दिया तो था लेकिन जहां तक मैं समझता मेरी नॉलेज कहती है कि कोई भी देश इतनी ऐसा नहीं करेगी क्योंकि 31 अगस्त को शुरू होता है तो सारे के सारे सृष्टि नष्ट हो जाएगी क्योंकि पिछले 2 वर्षों से लोगों ने सीख लिया है और समझ नहीं आया कि उसके एवज बुधवार पेठ होते हैं वह बहुत ज्यादा होते हैं तो उन सभी देश कोशिश करेंगे कि वोट वोट ना छोड़ें और उस चीज को करने के लिए सभी जैसे यूएन में हनी सिटी किया जा रहा है सभी देश निश्चय कर ले रही हैं तो बर्बाद नहीं पीनी चाहिए नहीं होनी चाहिए हम पॉलिटिक्स पर और भविष्य पर भरोसा नहीं कर सकते किसी भी कीमत पर तो यह याद है यह एक प्रश्न है कि नहीं होनी चाहिए
Romanized Version
थर्ड वर्ल्ड वॉर हो सकती है यह नहीं हो सकती यह तो कहना बहुत मुश्किल हो चुकी है एक ऐसी चीज है जिस पर जो के प्रश्न लगाती है कि अगर किसी भी देश में किसी भी देश पर आक्रमण कर दिया तो था लेकिन जहां तक मैं समझता मेरी नॉलेज कहती है कि कोई भी देश इतनी ऐसा नहीं करेगी क्योंकि 31 अगस्त को शुरू होता है तो सारे के सारे सृष्टि नष्ट हो जाएगी क्योंकि पिछले 2 वर्षों से लोगों ने सीख लिया है और समझ नहीं आया कि उसके एवज बुधवार पेठ होते हैं वह बहुत ज्यादा होते हैं तो उन सभी देश कोशिश करेंगे कि वोट वोट ना छोड़ें और उस चीज को करने के लिए सभी जैसे यूएन में हनी सिटी किया जा रहा है सभी देश निश्चय कर ले रही हैं तो बर्बाद नहीं पीनी चाहिए नहीं होनी चाहिए हम पॉलिटिक्स पर और भविष्य पर भरोसा नहीं कर सकते किसी भी कीमत पर तो यह याद है यह एक प्रश्न है कि नहीं होनी चाहिएThird World War Ho Sakti Hai Yeh Nahi Ho Sakti Yeh To Kehna Bahut Mushkil Ho Chuki Hai Ek Aisi Cheez Hai Jis Par Jo Ke Prashna Lagati Hai Ki Agar Kisi Bhi Desh Mein Kisi Bhi Desh Par Aakraman Kar Diya To Tha Lekin Jahan Tak Main Samajhata Meri Knowledge Kahti Hai Ki Koi Bhi Desh Itni Aisa Nahi Karegi Kyonki 31 August Ko Shuru Hota Hai To Sare Ke Sare Shrishti Nasht Ho Jayegi Kyonki Pichle 2 Varshon Se Logon Ne Seekh Liya Hai Aur Samajh Nahi Aaya Ki Uske Evaj Budhavar Peth Hote Hain Wah Bahut Jyada Hote Hain To Un Sabhi Desh Koshish Karenge Ki Vote Vote Na Choodey Aur Us Cheez Ko Karne Ke Liye Sabhi Jaise Un Mein Honey City Kiya Ja Raha Hai Sabhi Desh Nishchay Kar Le Rahi Hain To Barbad Nahi Pini Chahiye Nahi Honi Chahiye Hum Politics Par Aur Bhavishya Par Bharosa Nahi Kar Sakte Kisi Bhi Kimat Par To Yeh Yaad Hai Yeh Ek Prashna Hai Ki Nahi Honi Chahiye
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अमेरिका एशिया में दक्षिणी कोरिया और जापान का सहयोगी है और नाटो संगठन का एक महत्वपूर्ण सदस्य है उत्तरी कोरिया अपना अस्तित्व बनाए रखने के लिए परमाणु मिसाइलों पर निर्भर है और लगातार परमाणु परीक्षण कर रहा है अगर आप उत्तर कोरिया को देखोगे तो वहां की जो जीवन शैली है बहुत ही रास्ते में है और किम जोंग यह विश्वास करता है कि अपना अस्तित्व बनाए रखने के लिए वह परमाणु शक्ति पर डिपेंड जातक अमेरिका की बात है अमेरिका को यह लगता है कि अमेरिका जो की एक महाशक्ति है उसको उत्तरी कोरिया एक चुनौती है तो और भेज दे रहा है अमेरिका अमेरिका के पास बहुत सारे हथियार है लेकिन वह परमाणु हथियारों से बहुत डरता है इसलिए वह बातचीत के जरिए किम जोंग से कुछ समझौते करना चाहता है आपको यह पता उत्तरी कोरिया का सहयोगी चाइना भी है लेकिन चाइना यहां पर ट्रस्ट भूमिका निभा रहा है वह उत्तरी कोरिया को चेतावनी भी देता है और पीठ पीछे मदद करता है तो यह पॉलिटिक्स है राजनीति है उत्तरी कोरिया को जो पब्लिसिटी मिल रही है उससे यह सब मालूम होता है उत्तरी कोरिया विश्व में अपना एक प्रभाव बनाए रखना चाहता है ताकि अन्य देश उसको मदद करें और उत्तरी कोरिया जो हथियार बना रहा है उसके पीछे एक मकसद यह भी हो सकते की उत्तरी कोरिया विश्व में एक हथियार बेचने वाला देश बने तब दूसरे देशों को भी हथियार भेज सके तो वह खुद को एक महाशक्ति के तौर पर देखना चाहता लेकिन मैं फिर भी यह कहूंगा कि उत्तर कोरिया में आज भी लोगों की हालत काफी खराब है तो दुनिया को इस ओर ध्यान देना चाहिए और जहां तक अमेरिका की बात है तो अमेरिका के साथ को कहना कर एक नुकसान पहुंचा है तो देखना दिलचस्प होगा कि आगे क्या होता है हम वेट जरुर करेंगे
Romanized Version
देखिए अमेरिका एशिया में दक्षिणी कोरिया और जापान का सहयोगी है और नाटो संगठन का एक महत्वपूर्ण सदस्य है उत्तरी कोरिया अपना अस्तित्व बनाए रखने के लिए परमाणु मिसाइलों पर निर्भर है और लगातार परमाणु परीक्षण कर रहा है अगर आप उत्तर कोरिया को देखोगे तो वहां की जो जीवन शैली है बहुत ही रास्ते में है और किम जोंग यह विश्वास करता है कि अपना अस्तित्व बनाए रखने के लिए वह परमाणु शक्ति पर डिपेंड जातक अमेरिका की बात है अमेरिका को यह लगता है कि अमेरिका जो की एक महाशक्ति है उसको उत्तरी कोरिया एक चुनौती है तो और भेज दे रहा है अमेरिका अमेरिका के पास बहुत सारे हथियार है लेकिन वह परमाणु हथियारों से बहुत डरता है इसलिए वह बातचीत के जरिए किम जोंग से कुछ समझौते करना चाहता है आपको यह पता उत्तरी कोरिया का सहयोगी चाइना भी है लेकिन चाइना यहां पर ट्रस्ट भूमिका निभा रहा है वह उत्तरी कोरिया को चेतावनी भी देता है और पीठ पीछे मदद करता है तो यह पॉलिटिक्स है राजनीति है उत्तरी कोरिया को जो पब्लिसिटी मिल रही है उससे यह सब मालूम होता है उत्तरी कोरिया विश्व में अपना एक प्रभाव बनाए रखना चाहता है ताकि अन्य देश उसको मदद करें और उत्तरी कोरिया जो हथियार बना रहा है उसके पीछे एक मकसद यह भी हो सकते की उत्तरी कोरिया विश्व में एक हथियार बेचने वाला देश बने तब दूसरे देशों को भी हथियार भेज सके तो वह खुद को एक महाशक्ति के तौर पर देखना चाहता लेकिन मैं फिर भी यह कहूंगा कि उत्तर कोरिया में आज भी लोगों की हालत काफी खराब है तो दुनिया को इस ओर ध्यान देना चाहिए और जहां तक अमेरिका की बात है तो अमेरिका के साथ को कहना कर एक नुकसान पहुंचा है तो देखना दिलचस्प होगा कि आगे क्या होता है हम वेट जरुर करेंगेDekhie America Asia Mein Dakshini Korea Aur Japan Ka Sahayogi Hai Aur Naato Sangathan Ka Ek Mahatvapurna Sadasya Hai Uttari Korea Apna Astitv Banaye Rakhne Ke Liye Parmanu Misailon Par Nirbhar Hai Aur Lagatar Parmanu Parikshan Kar Raha Hai Agar Aap Uttar Korea Ko Dekhoge To Wahan Ki Jo Jeevan Shaili Hai Bahut Hi Raste Mein Hai Aur Kim Jong Yeh Vishwas Karta Hai Ki Apna Astitv Banaye Rakhne Ke Liye Wah Parmanu Shakti Par Depend Jatak America Ki Baat Hai America Ko Yeh Lagta Hai Ki America Jo Ki Ek Mahashakti Hai Usko Uttari Korea Ek Chunauti Hai To Aur Bhej De Raha Hai America America Ke Paas Bahut Sare Hathiyar Hai Lekin Wah Parmanu Hathiyaron Se Bahut Darta Hai Isliye Wah Batchit Ke Jariye Kim Jong Se Kuch Samjhaute Karna Chahta Hai Aapko Yeh Pata Uttari Korea Ka Sahayogi China Bhi Hai Lekin China Yahan Par Trust Bhumika Nibha Raha Hai Wah Uttari Korea Ko Chetavani Bhi Deta Hai Aur Peeth Piche Madad Karta Hai To Yeh Politics Hai Rajneeti Hai Uttari Korea Ko Jo Publicity Mil Rahi Hai Usse Yeh Sab Maloom Hota Hai Uttari Korea Vishwa Mein Apna Ek Prabhav Banaye Rakhna Chahta Hai Taki Anya Desh Usko Madad Karen Aur Uttari Korea Jo Hathiyar Bana Raha Hai Uske Piche Ek Maksad Yeh Bhi Ho Sakte Ki Uttari Korea Vishwa Mein Ek Hathiyar Bechne Wala Desh Bane Tab Dusre Deshon Ko Bhi Hathiyar Bhej Sake To Wah Khud Ko Ek Mahashakti Ke Taur Par Dekhna Chahta Lekin Main Phir Bhi Yeh Kahunga Ki Uttar Korea Mein Aaj Bhi Logon Ki Halat Kafi Kharab Hai To Duniya Ko Is Oar Dhyan Dena Chahiye Aur Jahan Tak America Ki Baat Hai To America Ke Saath Ko Kehna Kar Ek Nuksan Pahuncha Hai To Dekhna Dilchasp Hoga Ki Aage Kya Hota Hai Hum Wait Zaroor Karenge
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक समय था जब की रुत दुनिया में अपनी प्रभाव कम कारी भूमिका से पीछे हट गया था लेकिन आज वह फिर से दुनिया में अपनी खोई हुई है सियत को वापस पाने चाहता है पश्चिम के अपमान का बदला लेने का इच्छुक है रूस और पश्चिम के देश एक अलग तरह का रिश्ता बनाने में नाम कामयाब रहे हैं क्या अमेरिका असंवेदनशील और महत्वकांक्षी था यह रू0 जमाने की महानता के विचार से कभी निकल ही नहीं पाया क्यों स्थितियां इतनी बिगड़ गई क्यों आज मौजूदा हालात एक नहीं शीत युद्ध की शुरुआत लग रहे हैं CID अफसर कॉल हॉस्पिटल का मानना है कि शुरुआती गलतियां पश्चिमी देशों ने की है और उसके साथ संबंध गलत दिशा में उस वक़्त चले गए जब पश्चिम के देशों ने सोवियत संघ के विघटन के बाद रूप को एक राष्ट्र के तौर पर सम्मान नहीं दिया इसके वजह से सोवियत संघ के उत्तराधिकार के तौर पर देखा गया जो कि पश्चिमी देशों के अविश्वास की मुख्य वजह रही है नाटक के विस्तार के नाम पर पोलैंड चेक रिपब्लिक और होंगी जैसे देशों को शामिल किया और यह और गहरा हो गया इसकी बात ना टू में तीन बाल्टिक राज्य को भी जोड़ा गया जो सोवियत संघ के चेहरे चुके हैं आलोचक कहते हैं कि रूप पुजारी आया यूक्रेन के पश्चिमी बिरादरी में शामिल होने का विरोध करना चाहिए संक्षेप में कहें तो रूस मानता है कि किस युद्ध के बाद से उसके साथ ज्यादती की गई है अमेरिकी थिंक टैंक को के बीच इस बात को लेकर देश तक बहस चल रही है कि कौन सा पक्ष सही है और कौन सा पक्ष गलत है क्या पश्चिमी देशों की शुरुआती गलतियों को तवज्जो देनी चाहिए रूस ने हाल ही में जाट जाति रियाया यूक्रेन को लेकर जो रुक गया है उसकी बात करनी चाहिए हाल ही में बीबीसी के साथ इंटरव्यू में पश्चिम के देशों ने पिछले 8 सालों में रूस के साथ अपने रणनीतिक संबंधों पर पर्याप्त ध्यान नहीं दिया है कई विशेषज्ञों का मानना है कि ओबामा सरकार की सपाट कूटनीति और इन हालातों
Romanized Version
एक समय था जब की रुत दुनिया में अपनी प्रभाव कम कारी भूमिका से पीछे हट गया था लेकिन आज वह फिर से दुनिया में अपनी खोई हुई है सियत को वापस पाने चाहता है पश्चिम के अपमान का बदला लेने का इच्छुक है रूस और पश्चिम के देश एक अलग तरह का रिश्ता बनाने में नाम कामयाब रहे हैं क्या अमेरिका असंवेदनशील और महत्वकांक्षी था यह रू0 जमाने की महानता के विचार से कभी निकल ही नहीं पाया क्यों स्थितियां इतनी बिगड़ गई क्यों आज मौजूदा हालात एक नहीं शीत युद्ध की शुरुआत लग रहे हैं CID अफसर कॉल हॉस्पिटल का मानना है कि शुरुआती गलतियां पश्चिमी देशों ने की है और उसके साथ संबंध गलत दिशा में उस वक़्त चले गए जब पश्चिम के देशों ने सोवियत संघ के विघटन के बाद रूप को एक राष्ट्र के तौर पर सम्मान नहीं दिया इसके वजह से सोवियत संघ के उत्तराधिकार के तौर पर देखा गया जो कि पश्चिमी देशों के अविश्वास की मुख्य वजह रही है नाटक के विस्तार के नाम पर पोलैंड चेक रिपब्लिक और होंगी जैसे देशों को शामिल किया और यह और गहरा हो गया इसकी बात ना टू में तीन बाल्टिक राज्य को भी जोड़ा गया जो सोवियत संघ के चेहरे चुके हैं आलोचक कहते हैं कि रूप पुजारी आया यूक्रेन के पश्चिमी बिरादरी में शामिल होने का विरोध करना चाहिए संक्षेप में कहें तो रूस मानता है कि किस युद्ध के बाद से उसके साथ ज्यादती की गई है अमेरिकी थिंक टैंक को के बीच इस बात को लेकर देश तक बहस चल रही है कि कौन सा पक्ष सही है और कौन सा पक्ष गलत है क्या पश्चिमी देशों की शुरुआती गलतियों को तवज्जो देनी चाहिए रूस ने हाल ही में जाट जाति रियाया यूक्रेन को लेकर जो रुक गया है उसकी बात करनी चाहिए हाल ही में बीबीसी के साथ इंटरव्यू में पश्चिम के देशों ने पिछले 8 सालों में रूस के साथ अपने रणनीतिक संबंधों पर पर्याप्त ध्यान नहीं दिया है कई विशेषज्ञों का मानना है कि ओबामा सरकार की सपाट कूटनीति और इन हालातोंEk Samay Tha Jab Ki Rut Duniya Mein Apni Prabhav Kum Kaari Bhumika Se Piche Hut Gaya Tha Lekin Aaj Wah Phir Se Duniya Mein Apni Khoi Hui Hai Siyat Ko Wapas Pane Chahta Hai Paschim Ke Apman Ka Badla Lene Ka Icchuk Hai Rus Aur Paschim Ke Desh Ek Alag Tarah Ka Rishta Banane Mein Naam Kamyab Rahe Hain Kya America Asanvedanashil Aur Mahatvakanshi Tha Yeh Ru Jamaane Ki Mahanata Ke Vichar Se Kabhi Nikal Hi Nahi Paya Kyun Sthitiyan Itni Bigad Gayi Kyun Aaj Maujuda Halaat Ek Nahi Sheet Yudh Ki Shuruvat Lag Rahe Hain CID Afsar Call Hospital Ka Manana Hai Ki Suruaati Galtiya Pashchimi Deshon Ne Ki Hai Aur Uske Saath Sambandh Galat Disha Mein Us Waqt Chale Gaye Jab Paschim Ke Deshon Ne Soviet Sangh Ke Vighatan Ke Baad Roop Ko Ek Rashtra Ke Taur Par Samman Nahi Diya Iske Wajah Se Soviet Sangh Ke Utaraadhikaar Ke Taur Par Dekha Gaya Jo Ki Pashchimi Deshon Ke Avishvaas Ki Mukhya Wajah Rahi Hai Natak Ke Vistar Ke Naam Par Poland Check Republic Aur Hongi Jaise Deshon Ko Shamil Kiya Aur Yeh Aur Gehra Ho Gaya Iski Baat Na To Mein Teen Baltik Rajya Ko Bhi Joda Gaya Jo Soviet Sangh Ke Chehrey Chuke Hain Alochak Kehte Hain Ki Roop "pujari " Aaya Ukrain Ke Pashchimi Biradari Mein Shamil Hone Ka Virodh Karna Chahiye Sanchep Mein Kahen To Rus Manata Hai Ki Kis Yudh Ke Baad Se Uske Saath Jyadati Ki Gayi Hai American Think Tank Ko Ke Beech Is Baat Ko Lekar Desh Tak Bahas Chal Rahi Hai Ki Kaun Sa Paksh Sahi Hai Aur Kaun Sa Paksh Galat Hai Kya Pashchimi Deshon Ki Suruaati Galatiyon Ko Tavajjo Deni Chahiye Rus Ne Haal Hi Mein Jaat Jati Riyaya Ukrain Ko Lekar Jo Ruk Gaya Hai Uski Baat Karni Chahiye Haal Hi Mein Bbc Ke Saath Interview Mein Paschim Ke Deshon Ne Pichle 8 Salon Mein Rus Ke Saath Apne Radnitik Sambandho Par Paryapt Dhyan Nahi Diya Hai Kai Vishesagyon Ka Manana Hai Ki Obama Sarkar Ki Sapat Kutneeti Aur In Halaton
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लड़की जहां प्यार होता है वहां हमेशा लड़ाई क्यों होती है ऐसा तो नहीं होता कि जहां प्यार होता है वहां हमेशा लड़ाई हुई होती है लेकिन जहां प्यार होता है वहां लड़ाई हो सकती है कि प्यार जाऊंगा यह प्यार हमारा किसी के प्रति हो सकता है हमारी फैमिली की पढ़ते हो सकता है फ्रेंड का फ्रेंड के प्रति हो सकता है किसी के प्रति हमारा ही प्यार हो सकता है इस प्यार में हम यह महसूस करते हैं कि हमारा जो हो सामने वाला है इसके साथ हमारा एक रिलेशनशिप है जिससे रिलेशनशिप से बने हुए एक दूसरे से इसका मतलब आप मुझ से लड़ाई भी करते हो और प्यार भी करते हो लेकिन लड़ाई एक चीज को प्यार होता है ना एक बार तुम्हारा लड़ाई जरूरी है कोई दिक्कत नहीं हुई लड़ाई आप अगर एक दूसरी कमी नहीं बताऊंगी अगर आप एक दूसरे की कमी नहीं बताऊंगी कि आप में यह कमी है आप में एक कमी है आप वह आप दूसरे वाले की गलती बताऊंगी कि आप में यह कमी थी आपने गलत क्या था और वह आपको कुछ बताएगा तुझसे दोनों का फायदा है क्योंकि देखिए लड़ाई भी होती है वहां प्यार होता है तो वह भी बात तो फिट बैठती है आप पर कि आप एक दूसरे की केयर करते हो तो आपको एक दूसरे की गलती बताऊंगी और प्यार भी करोगे तो वही चीज है कि प्यार में लड़ाई भी जायज है ठीक है थैंक यू
Romanized Version
लड़की जहां प्यार होता है वहां हमेशा लड़ाई क्यों होती है ऐसा तो नहीं होता कि जहां प्यार होता है वहां हमेशा लड़ाई हुई होती है लेकिन जहां प्यार होता है वहां लड़ाई हो सकती है कि प्यार जाऊंगा यह प्यार हमारा किसी के प्रति हो सकता है हमारी फैमिली की पढ़ते हो सकता है फ्रेंड का फ्रेंड के प्रति हो सकता है किसी के प्रति हमारा ही प्यार हो सकता है इस प्यार में हम यह महसूस करते हैं कि हमारा जो हो सामने वाला है इसके साथ हमारा एक रिलेशनशिप है जिससे रिलेशनशिप से बने हुए एक दूसरे से इसका मतलब आप मुझ से लड़ाई भी करते हो और प्यार भी करते हो लेकिन लड़ाई एक चीज को प्यार होता है ना एक बार तुम्हारा लड़ाई जरूरी है कोई दिक्कत नहीं हुई लड़ाई आप अगर एक दूसरी कमी नहीं बताऊंगी अगर आप एक दूसरे की कमी नहीं बताऊंगी कि आप में यह कमी है आप में एक कमी है आप वह आप दूसरे वाले की गलती बताऊंगी कि आप में यह कमी थी आपने गलत क्या था और वह आपको कुछ बताएगा तुझसे दोनों का फायदा है क्योंकि देखिए लड़ाई भी होती है वहां प्यार होता है तो वह भी बात तो फिट बैठती है आप पर कि आप एक दूसरे की केयर करते हो तो आपको एक दूसरे की गलती बताऊंगी और प्यार भी करोगे तो वही चीज है कि प्यार में लड़ाई भी जायज है ठीक है थैंक यूLadki Jahan Pyar Hota Hai Wahan Hamesha Ladai Kyun Hoti Hai Aisa To Nahi Hota Ki Jahan Pyar Hota Hai Wahan Hamesha Ladai Hui Hoti Hai Lekin Jahan Pyar Hota Hai Wahan Ladai Ho Sakti Hai Ki Pyar Jaunga Yeh Pyar Hamara Kisi Ke Prati Ho Sakta Hai Hamari Family Ki Padhte Ho Sakta Hai Friend Ka Friend Ke Prati Ho Sakta Hai Kisi Ke Prati Hamara Hi Pyar Ho Sakta Hai Is Pyar Mein Hum Yeh Mahsus Karte Hain Ki Hamara Jo Ho Samane Wala Hai Iske Saath Hamara Ek Relationship Hai Jisse Relationship Se Bane Hue Ek Dusre Se Iska Matlab Aap Mujh Se Ladai Bhi Karte Ho Aur Pyar Bhi Karte Ho Lekin Ladai Ek Cheez Ko Pyar Hota Hai Na Ek Baar Tumhara Ladai Zaroori Hai Koi Dikkat Nahi Hui Ladai Aap Agar Ek Dusri Kami Nahi Bataungi Agar Aap Ek Dusre Ki Kami Nahi Bataungi Ki Aap Mein Yeh Kami Hai Aap Mein Ek Kami Hai Aap Wah Aap Dusre Wale Ki Galti Bataungi Ki Aap Mein Yeh Kami Thi Aapne Galat Kya Tha Aur Wah Aapko Kuch Batayega Tujhse Dono Ka Fayda Hai Kyonki Dekhie Ladai Bhi Hoti Hai Wahan Pyar Hota Hai To Wah Bhi Baat To Fit Baithti Hai Aap Par Ki Aap Ek Dusre Ki Care Karte Ho To Aapko Ek Dusre Ki Galti Bataungi Aur Pyar Bhi Karoge To Wahi Cheez Hai Ki Pyar Mein Ladai Bhi Jayaj Hai Theek Hai Thank You
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पिछले 8 दिन में सीरिया में 530 के करीब जाने गई है और उनमें से 130 जाने मासूम बच्चों की है जो दिल तिलहन दहलाने वाली खबर है 2017 में सीरिया से आतंकवादी संगठन आईएसआईएस का अंत का ऐलान कर दिया गया था ऐसे में सिरसिया में यह खून खराबा क्यूं हो रहा है यह कौन कर रहा है यह सब कब रुकेगा यह तूने ऐसे ही सभी सवालों की उठने से इनके जवाबों का पता करना जरूरी हो गया है क्योंकि बच्चों के मासूम सवाल की जवाब इंसानों के पास तो है नहीं वह भगवान के पास जाकर अपनी सवालों के जवाब मांगने की आशा कर रहे हैं कि शायद उनकी मौत के बाद उन्हें अपने सवालों के जवाब भगवान से मिल जाए सीरिया में मौत की बारिश आसमान से हो रही है और जिस इलाके में हो रही है वहां की आबादी करीब चार लाख है जिनमें से आधी आबादी 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की है इस इलाके में रहने का मतलब है कि किसी भी वक्त मोड
Romanized Version
पिछले 8 दिन में सीरिया में 530 के करीब जाने गई है और उनमें से 130 जाने मासूम बच्चों की है जो दिल तिलहन दहलाने वाली खबर है 2017 में सीरिया से आतंकवादी संगठन आईएसआईएस का अंत का ऐलान कर दिया गया था ऐसे में सिरसिया में यह खून खराबा क्यूं हो रहा है यह कौन कर रहा है यह सब कब रुकेगा यह तूने ऐसे ही सभी सवालों की उठने से इनके जवाबों का पता करना जरूरी हो गया है क्योंकि बच्चों के मासूम सवाल की जवाब इंसानों के पास तो है नहीं वह भगवान के पास जाकर अपनी सवालों के जवाब मांगने की आशा कर रहे हैं कि शायद उनकी मौत के बाद उन्हें अपने सवालों के जवाब भगवान से मिल जाए सीरिया में मौत की बारिश आसमान से हो रही है और जिस इलाके में हो रही है वहां की आबादी करीब चार लाख है जिनमें से आधी आबादी 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की है इस इलाके में रहने का मतलब है कि किसी भी वक्त मोडPichle 8 Din Mein Syria Mein 530 Ke Karib Jaane Gayi Hai Aur Unmen Se 130 Jaane Masoom Bacchon Ki Hai Jo Dil Tilhan Dahalane Wali Khabar Hai 2017 Mein Syria Se Aatankwadi Sangathan ISIS Ka Ant Ka Elan Kar Diya Gaya Tha Aise Mein Sirsiya Mein Yeh Khoon Kharaba Kyu Ho Raha Hai Yeh Kaun Kar Raha Hai Yeh Sab Kab Rukega Yeh Tune Aise Hi Sabhi Sawalon Ki Uthane Se Inke Javaabon Ka Pata Karna Zaroori Ho Gaya Hai Kyonki Bacchon Ke Masoom Sawal Ki Jawab Insanon Ke Paas To Hai Nahi Wah Bhagwan Ke Paas Jaakar Apni Sawalon Ke Jawab Mangane Ki Asha Kar Rahe Hain Ki Shayad Unki Maut Ke Baad Unhen Apne Sawalon Ke Jawab Bhagwan Se Mil Jaye Syria Mein Maut Ki Barish Aasman Se Ho Rahi Hai Aur Jis Ilake Mein Ho Rahi Hai Wahan Ki Aabadi Karib Char Lakh Hai Jinmein Se Aadhi Aabadi 18 Varsh Se Kum Umar Ke Bacchon Ki Hai Is Ilake Mein Rehne Ka Matlab Hai Ki Kisi Bhi Waqt Mode
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐश्वर्या में यूज होने का एक मेन रीजन यह है कि अभी फिलहाल कुछ दिनों में जो सऊदी अरब सऊदी अरबिया के खिलाफ जो बना ली है उन्होंने स्टार लिया और वह चीज देख कर बहुत सारे आरोपी पुलिस की सीरियल जो भी लोग हैं उन्होंने भी जो क्राफ्ट डीलक्स है उनके खिलाफ का मतलब को टेस्ट करना शुरू किया पूरे ना सुनने सुनने और वहां के जो अभी रिलीज करने वाले अल-असद है उन्होंने जो भी पोस्ट कर रहा था हर एक कोटेशन का मतलब गोलीबारी टांग और जी की आरती जिस तरह कि जो चीज है जो बहुत ही खतरनाक हथियार होती और डाइटिंग में चलाना शुरु कर दिया उन्होंने अब मतलब जो टेस्ट हुआ था उसके खिलाफ
Romanized Version
ऐश्वर्या में यूज होने का एक मेन रीजन यह है कि अभी फिलहाल कुछ दिनों में जो सऊदी अरब सऊदी अरबिया के खिलाफ जो बना ली है उन्होंने स्टार लिया और वह चीज देख कर बहुत सारे आरोपी पुलिस की सीरियल जो भी लोग हैं उन्होंने भी जो क्राफ्ट डीलक्स है उनके खिलाफ का मतलब को टेस्ट करना शुरू किया पूरे ना सुनने सुनने और वहां के जो अभी रिलीज करने वाले अल-असद है उन्होंने जो भी पोस्ट कर रहा था हर एक कोटेशन का मतलब गोलीबारी टांग और जी की आरती जिस तरह कि जो चीज है जो बहुत ही खतरनाक हथियार होती और डाइटिंग में चलाना शुरु कर दिया उन्होंने अब मतलब जो टेस्ट हुआ था उसके खिलाफAishwarya Mein Use Hone Ka Ek Main Reason Yeh Hai Ki Abhi Filhal Kuch Dinon Mein Jo Saudi Arab Saudi Arabia Ke Khilaf Jo Bana Lee Hai Unhone Star Liya Aur Wah Cheez Dekh Kar Bahut Sare Aaropi Police Ki Serial Jo Bhi Log Hain Unhone Bhi Jo Craft Deluxe Hai Unke Khilaf Ka Matlab Ko Test Karna Shuru Kiya Poore Na Sunane Sunane Aur Wahan Ke Jo Abhi Release Karne Wale Al Asad Hai Unhone Jo Bhi Post Kar Raha Tha Har Ek Quotation Ka Matlab Golibari Taang Aur Ji Ki Aarti Jis Tarah Ki Jo Cheez Hai Jo Bahut Hi Khatarnak Hathiyar Hoti Aur Dieting Mein Chalana Shuru Kar Diya Unhone Ab Matlab Jo Test Hua Tha Uske Khilaf
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी कि जिस प्रकार से एरिया में पिछले 7 साल से जो है यह सिविल वॉर या फिर हम कह सकते हैं एक प्रकार का जन्म जो चल रहा है जिसमें आम आदमी हम कह सकते बच्चे मर रहे तो खाना कहां पर इसकी शुरुआत जो है खुद सीरिया के रूलिंग पार्टी या फिर हम कह सकते सीरिया के प्रेसिडेंट का आल्हा साथ में जो है शुरू की है और खाना कब जिस प्रकार से पोजीशन पार्टी से डिमांड कर रही थी कि ऐसा जो है अपना रेसिग्नेशन दे दे अपना इस्तीफा दे दें क्योंकि जिस प्रकार से करप्शन चल रहा था सीरिया में तो खाना कहां पर अपोजिशन पार्टी जो है बहुत आगे तक प्रैक्टिस कर रही थी बहुत ज्यादा प्रेक्टिस कर रही थी और यही चीज जो है अल्लाह को पसंद नहीं आई और उसके लिए जो उन्होंने किया दिलबर जो है वह स्टार्ट कर दिया गया तो खाना खाओ पर उस एरिया में अभी जो हो रहा है उसके लिए हम साथ जो जिम्मेदार और सिर्फ यही नहीं जिस प्रकार से रोशनी भी जो है अल्लाह साथ
Romanized Version
मोदी कि जिस प्रकार से एरिया में पिछले 7 साल से जो है यह सिविल वॉर या फिर हम कह सकते हैं एक प्रकार का जन्म जो चल रहा है जिसमें आम आदमी हम कह सकते बच्चे मर रहे तो खाना कहां पर इसकी शुरुआत जो है खुद सीरिया के रूलिंग पार्टी या फिर हम कह सकते सीरिया के प्रेसिडेंट का आल्हा साथ में जो है शुरू की है और खाना कब जिस प्रकार से पोजीशन पार्टी से डिमांड कर रही थी कि ऐसा जो है अपना रेसिग्नेशन दे दे अपना इस्तीफा दे दें क्योंकि जिस प्रकार से करप्शन चल रहा था सीरिया में तो खाना कहां पर अपोजिशन पार्टी जो है बहुत आगे तक प्रैक्टिस कर रही थी बहुत ज्यादा प्रेक्टिस कर रही थी और यही चीज जो है अल्लाह को पसंद नहीं आई और उसके लिए जो उन्होंने किया दिलबर जो है वह स्टार्ट कर दिया गया तो खाना खाओ पर उस एरिया में अभी जो हो रहा है उसके लिए हम साथ जो जिम्मेदार और सिर्फ यही नहीं जिस प्रकार से रोशनी भी जो है अल्लाह साथModi Ki Jis Prakar Se Area Mein Pichle 7 Saal Se Jo Hai Yeh Civil War Ya Phir Hum Keh Sakte Hain Ek Prakar Ka Janm Jo Chal Raha Hai Jisme Aam Aadmi Hum Keh Sakte Bacche Mar Rahe To Khana Kahan Par Iski Shuruvat Jo Hai Khud Syria Ke Ruling Party Ya Phir Hum Keh Sakte Syria Ke President Ka Aalha Saath Mein Jo Hai Shuru Ki Hai Aur Khana Kab Jis Prakar Se Position Party Se Demand Kar Rahi Thi Ki Aisa Jo Hai Apna Resigneshan De De Apna Istifa De Dein Kyonki Jis Prakar Se Corruption Chal Raha Tha Syria Mein To Khana Kahan Par Opposition Party Jo Hai Bahut Aage Tak Practice Kar Rahi Thi Bahut Jyada Practice Kar Rahi Thi Aur Yahi Cheez Jo Hai Allah Ko Pasand Nahi Eye Aur Uske Liye Jo Unhone Kiya Dilbar Jo Hai Wah Start Kar Diya Gaya To Khana Khao Par Us Area Mein Abhi Jo Ho Raha Hai Uske Liye Hum Saath Jo Zimmedar Aur Sirf Yahi Nahi Jis Prakar Se Roshni Bhi Jo Hai Allah Saath
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्रिकेट ट्रंप महाशय कब क्या कह दे उनकी बातों पर आधा विश्वास नहीं करना चाहिए 4 दिन पहले वह मोदी का मजाक उड़ा रहे थे हार्ले डेविडसन बाइक के प्राइस को लेकर और अब वह कह रहे हैं कि भारत बहुत सहयोगी आत्मा को मिटाने के लिए तो उनको छोड़कर अपने काम पर भारत को ध्यान देना चाहिए जो अक्षर में प्रॉब्लम सेट अलार्म को लेकर उस पर बात करनी चाहिए और अगर अगर आप हमारे कहने से ठीक पहले भी रहा है तो जरूर हम सपोर्ट करने को रेडी हैं लेकिन भारतीय भारत को या फिर भारत खुद में ही काफी सिग्निफिकेंट काली पावरफुल है और वह लड़ने में सक्षम है हर किसी तरह की बाधा से तो एक बार अमेरिका को जरूर अपना पक्ष पक्ष कर लेना चाहिए कि वह भारत का मजाक उड़ाने वाला अच्छा आ रहे हैं या फिर वह भारत को सच में बहुमूल्य सहयोगी मानते हैं लेकिन हां अगर भारत भारत और अमेरिका मिल जाए
Romanized Version
क्रिकेट ट्रंप महाशय कब क्या कह दे उनकी बातों पर आधा विश्वास नहीं करना चाहिए 4 दिन पहले वह मोदी का मजाक उड़ा रहे थे हार्ले डेविडसन बाइक के प्राइस को लेकर और अब वह कह रहे हैं कि भारत बहुत सहयोगी आत्मा को मिटाने के लिए तो उनको छोड़कर अपने काम पर भारत को ध्यान देना चाहिए जो अक्षर में प्रॉब्लम सेट अलार्म को लेकर उस पर बात करनी चाहिए और अगर अगर आप हमारे कहने से ठीक पहले भी रहा है तो जरूर हम सपोर्ट करने को रेडी हैं लेकिन भारतीय भारत को या फिर भारत खुद में ही काफी सिग्निफिकेंट काली पावरफुल है और वह लड़ने में सक्षम है हर किसी तरह की बाधा से तो एक बार अमेरिका को जरूर अपना पक्ष पक्ष कर लेना चाहिए कि वह भारत का मजाक उड़ाने वाला अच्छा आ रहे हैं या फिर वह भारत को सच में बहुमूल्य सहयोगी मानते हैं लेकिन हां अगर भारत भारत और अमेरिका मिल जाएCricket Tramp Mahashay Kab Kya Keh De Unki Baaton Par Aadha Vishwas Nahi Karna Chahiye 4 Din Pehle Wah Modi Ka Mazak Uda Rahe The Harle Davidson Bike Ke Price Ko Lekar Aur Ab Wah Keh Rahe Hain Ki Bharat Bahut Sahayogi Aatma Ko Mitaane Ke Liye To Unko Chodkar Apne Kaam Par Bharat Ko Dhyan Dena Chahiye Jo Akshar Mein Problem Set Alarm Ko Lekar Us Par Baat Karni Chahiye Aur Agar Agar Aap Hamare Kehne Se Theek Pehle Bhi Raha Hai To Jarur Hum Support Karne Ko Ready Hain Lekin Bhartiya Bharat Ko Ya Phir Bharat Khud Mein Hi Kafi Significant Kali Powerful Hai Aur Wah Ladane Mein Saksham Hai Har Kisi Tarah Ki Badha Se To Ek Baar America Ko Jarur Apna Paksh Paksh Kar Lena Chahiye Ki Wah Bharat Ka Mazak Udane Wala Accha Aa Rahe Hain Ya Phir Wah Bharat Ko Sach Mein Bahumulya Sahayogi Manate Hain Lekin Haan Agar Bharat Bharat Aur America Mil Jaye
Likes  2  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा तो कोई विश्व युद्ध होने की संभावना नहीं है मेरे ख्याल से तो होना भी नहीं चाहिए युद्ध जो है मतलब भारत की या कोई भी ऑल कंट्री के साथ किसी भी युद्ध होता है तो स्थिति जो है शायद इसके गुणों में कर ले ज्वेलर्स द फाइनेंसियल कंडीशन सब कुछ जो है बिखर जाता है तो मैं सब से बिल्कुल वैसा कोई उम्मीद नहीं है अब भगवान ना करे कभी इस तरह कोई भी विश्व युद्ध हो
Romanized Version
ऐसा तो कोई विश्व युद्ध होने की संभावना नहीं है मेरे ख्याल से तो होना भी नहीं चाहिए युद्ध जो है मतलब भारत की या कोई भी ऑल कंट्री के साथ किसी भी युद्ध होता है तो स्थिति जो है शायद इसके गुणों में कर ले ज्वेलर्स द फाइनेंसियल कंडीशन सब कुछ जो है बिखर जाता है तो मैं सब से बिल्कुल वैसा कोई उम्मीद नहीं है अब भगवान ना करे कभी इस तरह कोई भी विश्व युद्ध होAisa To Koi Vishwa Yudh Hone Ki Sambhavna Nahi Hai Mere Khayal Se To Hona Bhi Nahi Chahiye Yudh Jo Hai Matlab Bharat Ki Ya Koi Bhi All Country Ke Saath Kisi Bhi Yudh Hota Hai To Sthiti Jo Hai Shayad Iske Gunon Mein Kar Le Jewellers D Financial Condition Sab Kuch Jo Hai Bikhar Jata Hai To Main Sab Se Bilkul Waisa Koi Ummid Nahi Hai Ab Bhagwan Na Kare Kabhi Is Tarah Koi Bhi Vishwa Yudh Ho
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखित डोकलाम में जो सेनाओं का वर्ल्ड कप हो रहा था और अभी भी हो रहा है चाइना द्वारा अभी और इंडिया द्वारा भी वह जो है वह चलता रहेगा वह मुझे असमीना वह बहुत ही क्रिटिकल जमीन है वही एक पाठ है जहां पर पहाड़ नहीं है और भारत और चाइना के बीच में जो बॉर्डर है वह फ्लाइट लाइन पर है वह प्लेन से पार नहीं है तो मतलब एक ही जगह जहां से भारत और चाइना में क्रॉस किया जा सकता है उस एरिया में मकान में तो यहां पर दोनों दोनों देशों की दोनों देश जाएंगे अपनी सेना को आप रखने का और और बढ़ाने का भी बर्थडे अंकित कब तक चलेगा यह तो चलता ही रहेगा कैसे रुकेगा नहीं पड़ती दो देशों को यह भी पता है कि दोनों की भलाई इसी में है कि वह भी युद्ध ना करें तो हंसी यही रहेगी कि यह और बड़ा इशू ना बन जाए
Romanized Version
लिखित डोकलाम में जो सेनाओं का वर्ल्ड कप हो रहा था और अभी भी हो रहा है चाइना द्वारा अभी और इंडिया द्वारा भी वह जो है वह चलता रहेगा वह मुझे असमीना वह बहुत ही क्रिटिकल जमीन है वही एक पाठ है जहां पर पहाड़ नहीं है और भारत और चाइना के बीच में जो बॉर्डर है वह फ्लाइट लाइन पर है वह प्लेन से पार नहीं है तो मतलब एक ही जगह जहां से भारत और चाइना में क्रॉस किया जा सकता है उस एरिया में मकान में तो यहां पर दोनों दोनों देशों की दोनों देश जाएंगे अपनी सेना को आप रखने का और और बढ़ाने का भी बर्थडे अंकित कब तक चलेगा यह तो चलता ही रहेगा कैसे रुकेगा नहीं पड़ती दो देशों को यह भी पता है कि दोनों की भलाई इसी में है कि वह भी युद्ध ना करें तो हंसी यही रहेगी कि यह और बड़ा इशू ना बन जाएLikhit Doklam Mein Jo Senaoon Ka World Cup Ho Raha Tha Aur Abhi Bhi Ho Raha Hai China Dwara Abhi Aur India Dwara Bhi Wah Jo Hai Wah Chalta Rahega Wah Mujhe Asmina Wah Bahut Hi Critical Jameen Hai Wahi Ek Path Hai Jahan Par Pahad Nahi Hai Aur Bharat Aur China Ke Beech Mein Jo Border Hai Wah Flight Line Par Hai Wah Plane Se Par Nahi Hai To Matlab Ek Hi Jagah Jahan Se Bharat Aur China Mein Cross Kiya Ja Sakta Hai Us Area Mein Makan Mein To Yahan Par Dono Dono Deshon Ki Dono Desh Jaenge Apni Sena Ko Aap Rakhne Ka Aur Aur Badhane Ka Bhi Birthday Ankit Kab Tak Chalega Yeh To Chalta Hi Rahega Kaise Rukega Nahi Padhti Do Deshon Ko Yeh Bhi Pata Hai Ki Dono Ki Bhalai Isi Mein Hai Ki Wah Bhi Yudh Na Karen To Hansi Yahi Rahegi Ki Yeh Aur Bada Issue Na Ban Jaye
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सीरिया का युद्ध हुआ अभी चल रहा है एक-दो साल तक मुझे लगता है कि वह चलेगा और जो अभी तक जो है उसका निष्कर्ष जो अभी तक कुछ नहीं निकला है
Romanized Version
सीरिया का युद्ध हुआ अभी चल रहा है एक-दो साल तक मुझे लगता है कि वह चलेगा और जो अभी तक जो है उसका निष्कर्ष जो अभी तक कुछ नहीं निकला हैSyria Ka Yudh Hua Abhi Chal Raha Hai Ek Do Saal Tak Mujhe Lagta Hai Ki Wah Chalega Aur Jo Abhi Tak Jo Hai Uska Nishkarsh Jo Abhi Tak Kuch Nahi Nikla Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरे क्या कर फ्यूचर में कोई खास बात होता है तो बिल्कुल शेयर करना चाहती तो बहुत ही असर पड़ता है हल्दी का बैठक होता है तो वर्ल्ड वर्ल्ड वर्ल्ड तो नहीं होगा कुछ होने वाला है किस लाना चाहती है
Romanized Version
अरे क्या कर फ्यूचर में कोई खास बात होता है तो बिल्कुल शेयर करना चाहती तो बहुत ही असर पड़ता है हल्दी का बैठक होता है तो वर्ल्ड वर्ल्ड वर्ल्ड तो नहीं होगा कुछ होने वाला है किस लाना चाहती हैArre Kya Kar Future Mein Koi Khas Baat Hota Hai To Bilkul Share Karna Chahti To Bahut Hi Asar Padata Hai Haldi Ka Baithak Hota Hai To World World World To Nahi Hoga Kuch Hone Wala Hai Kis Lana Chahti Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अजी हां नॉर्थ कोरिया के लिए प्लीज टूरिस्ट वीजा मिलता है रे बहुत ही डिस्ट्रिक्ट प्रोसेस होता है मतलब वह पहले बहुत ज्यादा डिटेल में आपकी आप का बैकग्राउंड और आप कौन हैं क्यों इधर आना चाहते हैं यह बहुत अच्छे सेट करेंगे बन जाएंगे उसके बाद ही आप को जाने की इजाजत मिल सकती है वीजा मिल सकता है और वहां पर भी जाकर मतलब आप को अकेले घूमने नहीं जाएगा आपके साइड होगा 12 पूरा टाइम होते हैं जो आपको मतलब जगह दिखाएंगे कुछ 55 + ही होंगे जो आप जा सकते हैं वही दिखाएंगे आपको बहुत सारी चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा जैसे एक एग्जांपल के तौर पर बता रहा हूं जैसे लीडर है उनका कहीं अगर Star चूहा चूहा तो उसका स्टेच्यू जो कभी अपना तो उसकी फोटो भी ले रहे हैं तो कभी आज की फोटो नहीं ले सकते हैं फुल स्टॉप चोटी ऊपर से लेकर सर से लेकर पांव तक की फोटो भेजो दोहा टूरिस्टर जाया जा सकता है पर बहुत सारे नियमों और नियमों का पालन करके हो सकता है क्या वहां पर
Romanized Version
अजी हां नॉर्थ कोरिया के लिए प्लीज टूरिस्ट वीजा मिलता है रे बहुत ही डिस्ट्रिक्ट प्रोसेस होता है मतलब वह पहले बहुत ज्यादा डिटेल में आपकी आप का बैकग्राउंड और आप कौन हैं क्यों इधर आना चाहते हैं यह बहुत अच्छे सेट करेंगे बन जाएंगे उसके बाद ही आप को जाने की इजाजत मिल सकती है वीजा मिल सकता है और वहां पर भी जाकर मतलब आप को अकेले घूमने नहीं जाएगा आपके साइड होगा 12 पूरा टाइम होते हैं जो आपको मतलब जगह दिखाएंगे कुछ 55 + ही होंगे जो आप जा सकते हैं वही दिखाएंगे आपको बहुत सारी चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा जैसे एक एग्जांपल के तौर पर बता रहा हूं जैसे लीडर है उनका कहीं अगर Star चूहा चूहा तो उसका स्टेच्यू जो कभी अपना तो उसकी फोटो भी ले रहे हैं तो कभी आज की फोटो नहीं ले सकते हैं फुल स्टॉप चोटी ऊपर से लेकर सर से लेकर पांव तक की फोटो भेजो दोहा टूरिस्टर जाया जा सकता है पर बहुत सारे नियमों और नियमों का पालन करके हो सकता है क्या वहां परAji Haan North Korea Ke Liye Please Tourist Visa Milta Hai Ray Bahut Hi District Process Hota Hai Matlab Wah Pehle Bahut Jyada Detail Mein Aapki Aap Ka Background Aur Aap Kaun Hain Kyun Idhar Aana Chahte Hain Yeh Bahut Acche Set Karenge Ban Jaenge Uske Baad Hi Aap Ko Jaane Ki Ijajat Mil Sakti Hai Visa Mil Sakta Hai Aur Wahan Par Bhi Jaakar Matlab Aap Ko Akele Ghoomne Nahi Jayega Aapke Side Hoga 12 Pura Time Hote Hain Jo Aapko Matlab Jagah Dikhaenge Kuch 55 + Hi Honge Jo Aap Ja Sakte Hain Wahi Dikhaenge Aapko Bahut Saree Chijon Ka Dhyan Rakhna Padega Jaise Ek Example Ke Taur Par Bata Raha Hoon Jaise Leader Hai Unka Kahin Agar Star Chuha Chuha To Uska Statue Jo Kabhi Apna To Uski Photo Bhi Le Rahe Hain To Kabhi Aaj Ki Photo Nahi Le Sakte Hain Full Stop Choti Upar Se Lekar Sar Se Lekar Panv Tak Ki Photo Bhejo Doha Tourister Jaaya Ja Sakta Hai Par Bahut Sare Niyamon Aur Niyamon Ka Palan Karke Ho Sakta Hai Kya Wahan Par
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंडिया और पाकिस्तान के बीच ऐसे बहुत सारे अवार्ड हुए जिससे कि पहला वर्ष हुआ था 1947 में हुआ था तो यह सबसे पहला वर्ड माना जाता है उसका 1965 में हुआ इंडिया इंडिया और पाकिस्तान के बीच हुआ था उसके बाद 1971 में हुआ इंडिया पाकिस्तान के बीच ऑफिस 1988 में हुआ
Romanized Version
इंडिया और पाकिस्तान के बीच ऐसे बहुत सारे अवार्ड हुए जिससे कि पहला वर्ष हुआ था 1947 में हुआ था तो यह सबसे पहला वर्ड माना जाता है उसका 1965 में हुआ इंडिया इंडिया और पाकिस्तान के बीच हुआ था उसके बाद 1971 में हुआ इंडिया पाकिस्तान के बीच ऑफिस 1988 में हुआIndia Aur Pakistan K Beach Aise Bahut Saare Award Huye Jisase Qi Pehla Varsh Hua Thaa 1947 Mein Hua Thaa To Yeh Sabse Pehla Word Mana Jaata Hai Uska 1965 Mein Hua India India Aur Pakistan K Beach Hua Thaa Uske Baad 1971 Mein Hua India Pakistan K Beach Office 1988 Mein Hua
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
vokalandroid