चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरुणा बिल्कुल मैं आज ही कार्य कोई पढ़ रही थी और उसके अंदर मैंने यह पढ़ा की फर्स्ट वर्ल्ड वॉर से पहले जेंडर सिलेक्शन हुआ था विक्टोरियन इसमें इंडस्ट्री से नुकसान है वह फर्स्ट वर्ल्ड वॉर में देखने को मिला फर्स्ट वर्ल्ड वॉर में पहली बार साजन की आंखों एयरप्लेन एयरप्लेन सवेरा यूज किए गए थे फोन में यूज करने के लिए अगर वह दिन नहीं होती तो फरवरी से कम बोलो में कितना नुकसान हुआ था वह सब नहीं हुआ होता उस तरीके से आज भी जो यह साइंटिफिक अचीवमेंट ऑफ टेक्नॉलॉजी हमारे विश्व में हुई है उसके फायदे तुम बहुत सारे हैं बट पूर्ण नुकसान भी उससे बहुत ज्यादा है और फ़ायदे चाहे कितने भी हो लेकिन किसी भी देश का एक एक्सेस यूज़ होता है तो उसके नुकसान अपने आप बन जाते हैं और जो यूज़ करने वाला व्यक्ति है उसके हाथ में होता है कि वह उस चीज को पॉलिटेक्निक का नेगेटिव नेगेटिव करने के लिए कितने लोग मारे जा रहे हैं दोस्तों
Romanized Version
अरुणा बिल्कुल मैं आज ही कार्य कोई पढ़ रही थी और उसके अंदर मैंने यह पढ़ा की फर्स्ट वर्ल्ड वॉर से पहले जेंडर सिलेक्शन हुआ था विक्टोरियन इसमें इंडस्ट्री से नुकसान है वह फर्स्ट वर्ल्ड वॉर में देखने को मिला फर्स्ट वर्ल्ड वॉर में पहली बार साजन की आंखों एयरप्लेन एयरप्लेन सवेरा यूज किए गए थे फोन में यूज करने के लिए अगर वह दिन नहीं होती तो फरवरी से कम बोलो में कितना नुकसान हुआ था वह सब नहीं हुआ होता उस तरीके से आज भी जो यह साइंटिफिक अचीवमेंट ऑफ टेक्नॉलॉजी हमारे विश्व में हुई है उसके फायदे तुम बहुत सारे हैं बट पूर्ण नुकसान भी उससे बहुत ज्यादा है और फ़ायदे चाहे कितने भी हो लेकिन किसी भी देश का एक एक्सेस यूज़ होता है तो उसके नुकसान अपने आप बन जाते हैं और जो यूज़ करने वाला व्यक्ति है उसके हाथ में होता है कि वह उस चीज को पॉलिटेक्निक का नेगेटिव नेगेटिव करने के लिए कितने लोग मारे जा रहे हैं दोस्तोंAroona Bilkul Main Aaj Hi Karya Koi Padh Rahi Thi Aur Uske Andar Maine Yeh Padha Ki First World War Se Pehle Gender Selection Hua Tha Victoriyan Isme Industry Se Nuksan Hai Wah First World War Mein Dekhne Ko Mila First World War Mein Pehli Baar Sajan Ki Aakhon Airplane Airplane Savera Use Kiye Gaye The Phone Mein Use Karne Ke Liye Agar Wah Din Nahi Hoti To February Se Kam Bolo Mein Kitna Nuksan Hua Tha Wah Sab Nahi Hua Hota Us Tarike Se Aaj Bhi Jo Yeh Scientific Achievement Of Technology Hamare Vishwa Mein Hui Hai Uske Fayde Tum Bahut Sare Hain But Poorn Nuksan Bhi Usse Bahut Zyada Hai Aur Fayade Chahe Kitne Bhi Ho Lekin Kisi Bhi Desh Ka Ek Access Use Hota Hai To Uske Nuksan Apne Aap Ban Jaate Hain Aur Jo Use Karne Vala Vyakti Hai Uske Hath Mein Hota Hai Ki Wah Us Cheez Ko Polytechnic Ka Negative Negative Karne Ke Liye Kitne Log Maare Ja Rahe Hain Doston
Likes  115  Dislikes
WhatsApp_icon
लेकिन प्यार एक ऐसी चीज है जो कि इंसान करता नहीं लेकिन इंसान को हो जाती है अगर आप का मतलब प्यार और दूसरे इंसान को प्यार करना है तो खाना खाकर थोड़ा बहुत गलत है क्योंकि इंसान जो है इसे दूसरे इंसान से ही प्यार नहीं करते वह कोई भी वस्तु अपनी आंख पर किस चीज वातावरण से खुद से फिर से कैसे रहेंगे प्रकार की चीजें जिससे वह प्यार करता है तू का नाका पर प्यार एक ऐसी चीज है जो कि दुनिया का कोई भी इंसान जैसे बचने सकता है आप चाहे आदमी हो या औरत हो या नपुसंक रखो तो खाना कहां पर आप जो है कोई ना कोई वस्तु से तो प्यार करती अपनी पूरी जिंदगी में इंसान से प्यार नहीं कर सकते हो लेकिन आप मेरे हिसाब से अब कोई भी चीज से प्यार कर सकते कोई भी वस्तु से प्यार कर सकते कोई भी वातावरण से प्यार कर सकते हो और प्यार एक ऐसी चीज है जो खाई नहीं जाती है प्यार मतलबी होता है आपको बस एक चीज अच्छी लग ना आपको वह चीज में मजा आना अगर आपको ऐसा लगता है तो कहो ना कपूर आपको उस चीज से प्यार है जैसे मुझे फुटबॉल देखना अच्छा लगता फुटबॉल से प्यार है और यह बात सच है दुनिया में इंसान प्यार क्यों करता है क्योंकि प्यार से इंसान को खुशी मिलती है अब चाहे जानवरों को प्यार करो आप चाय इंसान को प्यार करो आप खाने को प्यार करो या फिर आप कोई भी वस्तु को प्यार करे कोई भी चेक करो आपको खुशी मिलती हो क्योंकि कोई भी दूसरी खुशियां को खुशी नहीं दे सकता कि कोई भी तस्वीर चाहिए जो को खुशी नहीं दे सकते तो इंसान इसलिए प्यार करते हैं ताकि उसे वोट मिली जो पी ली है उसे वह मिले तो खाना खाने की इंसान जो है वह प्यार करता हैLekin Pyar Ek Aisi Cheez Hai Jo Ki Insaan Karta Nahi Lekin Insaan Ko Ho Jati Hai Agar Aap Ka Matlab Pyar Aur Dusre Insaan Ko Pyar Karna Hai To Khana Khakar Thoda Bahut Galat Hai Kyonki Insaan Jo Hai Ise Dusre Insaan Se Hi Pyar Nahi Karte Wah Koi Bhi Vastu Apni Aankh Par Kis Cheez Vatavaran Se Khud Se Phir Se Kaise Rahenge Prakar Ki Cheezen Jisse Wah Pyar Karta Hai Tu Ka Naka Par Pyar Ek Aisi Cheez Hai Jo Ki Duniya Ka Koi Bhi Insaan Jaise Bachane Sakta Hai Aap Chahe Aadmi Ho Ya Aurat Ho Ya Napunsak Rakho To Khana Kahan Par Aap Jo Hai Koi Na Koi Vastu Se To Pyar Karti Apni Puri Zindagi Mein Insaan Se Pyar Nahi Kar Sakte Ho Lekin Aap Mere Hisab Se Ab Koi Bhi Cheez Se Pyar Kar Sakte Koi Bhi Vastu Se Pyar Kar Sakte Koi Bhi Vatavaran Se Pyar Kar Sakte Ho Aur Pyar Ek Aisi Cheez Hai Jo Khai Nahi Jati Hai Pyar Matlabi Hota Hai Aapko Bus Ek Cheez Acchi Lag Na Aapko Wah Cheez Mein Maza Aana Agar Aapko Aisa Lagta Hai To Kaho Na Kapur Aapko Us Cheez Se Pyar Hai Jaise Mujhe Football Dekhna Accha Lagta Football Se Pyar Hai Aur Yeh Baat Sach Hai Duniya Mein Insaan Pyar Kyun Karta Hai Kyonki Pyar Se Insaan Ko Khushi Milti Hai Ab Chahe Jaanvaro Ko Pyar Karo Aap Chai Insaan Ko Pyar Karo Aap Khane Ko Pyar Karo Ya Phir Aap Koi Bhi Vastu Ko Pyar Kare Koi Bhi Check Karo Aapko Khushi Milti Ho Kyonki Koi Bhi Dusri Khushiyan Ko Khushi Nahi De Sakta Ki Koi Bhi Tasveer Chahiye Jo Ko Khushi Nahi De Sakte To Insaan Isliye Pyar Karte Hain Taki Use Vote Mili Jo P Lee Hai Use Wah Mile To Khana Khane Ki Insaan Jo Hai Wah Pyar Karta Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2 किलोमीटर दूर चलना स्वस्थ के लिए बहुत लाभदायक होता है इससे आपको कोई बीमारी नहीं होती है और आपका शरीर भी होता है वह फिट हो जाता है और रोज चलना चाहिए इतना
Romanized Version
2 किलोमीटर दूर चलना स्वस्थ के लिए बहुत लाभदायक होता है इससे आपको कोई बीमारी नहीं होती है और आपका शरीर भी होता है वह फिट हो जाता है और रोज चलना चाहिए इतना2 Kilometre Dur Chalna Swasth Ke Liye Bahut Labhdayak Hota Hai Isse Aapko Koi Bimari Nahi Hoti Hai Aur Aapka Sharir Bhi Hota Hai Wah Fit Ho Jata Hai Aur Roj Chalna Chahiye Itna
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखिए मनुष्य को अगर अपनी सोच बदलनी है तो सबसे पहले अपनी फीलिंग उसको बदलनी होगी क्योंकि 108 कई फिलिंग्स के बाद एक सोच क्रिएट होता है जाम पर लगा आपका कोई निर्भर है जो आपके साथ अच्छे से बर्ताव नहीं करता तो पहले बार आप कुछ नहीं कहेंगे दूसरी बार आप माफ कर देंगे तीसरे बार आप सोशल लगेंगे और चौथी बार आप ज्यादा सोचेंगे और आप क्यों सोचेंगे क्योंकि आपको अच्छा नहीं लग रहा है आपको डिस्कंफर्ट है तो इसी फीलिंग से आप हो सोच क्रिएट करेंगे कि नहीं यह पता नहीं है यह मेरे को तकलीफ दे रहा है तो इससे दूर रहते हैं तो क्या हुआ फ्री लिंक क्रिएट थॉट्स ओं अगर इंसान को अपनी सोच बदलनी है तो अपनी फिल्म को बदलना हो आपको एक न्यूट्रल एटीट्यूड लेना होगा लाइफ में कुछ अच्छा हो या बुरा हो तो अपर्याप्त नहीं करेंगे हर खुशी और हर दुख में आप सिर्फ न्यूट्रल उसको देखेंगे बाकी आपकी सोच है वह बरकरार रहेगी हर दिन आपके लाइफ में कोई ना कोई चैलेंज तो आएगा ही अगर आपको उसको कंस्ट्रक्ट न ही सॉल्व करना है तो अपनी फीलिंग और थॉट्स को साथ में लेकर चलना है अगर दोनों को एक ही लेवल पर रहना है तो आपको न्यूट्रल देना है नॉन रिएक्टिव रहना है कि कुछ हो गया तो फटाफट जाकर रिएक्शन दें कहीं पर कुछ आप ही कुछ शुरू करें ऐसा सब नहीं करके अपने इमोशंस एनके अपनी इंद्रियों को वश में रखें अपनी फीलिंग को अगर आप कंट्रोल करेंगे तो थॉट्स आपकी इतनी जल्दी नहीं बनेंगे तो पहले अपनी फीलिंग जरा कबुल जमाई है और उसके बाद देखिए कि थॉट्स बिकम क्रिएट होगी और एकदम न्यूट्रल रहेंगे और जब न्यूट्रल रहेंगे तो आप अपनी सोच पर काबू पर पकड़ पाएंगे और अपनी सोच को बदल पाएंगे और इसे बदलेंगे कि वह आपको तकलीफ में कभी लेकर नहीं आएगा आप कभी गलत रास्ते पर जाएंगे नहीं और कुछ गलत होगा नहीं आपके साथ
Romanized Version
लिखिए मनुष्य को अगर अपनी सोच बदलनी है तो सबसे पहले अपनी फीलिंग उसको बदलनी होगी क्योंकि 108 कई फिलिंग्स के बाद एक सोच क्रिएट होता है जाम पर लगा आपका कोई निर्भर है जो आपके साथ अच्छे से बर्ताव नहीं करता तो पहले बार आप कुछ नहीं कहेंगे दूसरी बार आप माफ कर देंगे तीसरे बार आप सोशल लगेंगे और चौथी बार आप ज्यादा सोचेंगे और आप क्यों सोचेंगे क्योंकि आपको अच्छा नहीं लग रहा है आपको डिस्कंफर्ट है तो इसी फीलिंग से आप हो सोच क्रिएट करेंगे कि नहीं यह पता नहीं है यह मेरे को तकलीफ दे रहा है तो इससे दूर रहते हैं तो क्या हुआ फ्री लिंक क्रिएट थॉट्स ओं अगर इंसान को अपनी सोच बदलनी है तो अपनी फिल्म को बदलना हो आपको एक न्यूट्रल एटीट्यूड लेना होगा लाइफ में कुछ अच्छा हो या बुरा हो तो अपर्याप्त नहीं करेंगे हर खुशी और हर दुख में आप सिर्फ न्यूट्रल उसको देखेंगे बाकी आपकी सोच है वह बरकरार रहेगी हर दिन आपके लाइफ में कोई ना कोई चैलेंज तो आएगा ही अगर आपको उसको कंस्ट्रक्ट न ही सॉल्व करना है तो अपनी फीलिंग और थॉट्स को साथ में लेकर चलना है अगर दोनों को एक ही लेवल पर रहना है तो आपको न्यूट्रल देना है नॉन रिएक्टिव रहना है कि कुछ हो गया तो फटाफट जाकर रिएक्शन दें कहीं पर कुछ आप ही कुछ शुरू करें ऐसा सब नहीं करके अपने इमोशंस एनके अपनी इंद्रियों को वश में रखें अपनी फीलिंग को अगर आप कंट्रोल करेंगे तो थॉट्स आपकी इतनी जल्दी नहीं बनेंगे तो पहले अपनी फीलिंग जरा कबुल जमाई है और उसके बाद देखिए कि थॉट्स बिकम क्रिएट होगी और एकदम न्यूट्रल रहेंगे और जब न्यूट्रल रहेंगे तो आप अपनी सोच पर काबू पर पकड़ पाएंगे और अपनी सोच को बदल पाएंगे और इसे बदलेंगे कि वह आपको तकलीफ में कभी लेकर नहीं आएगा आप कभी गलत रास्ते पर जाएंगे नहीं और कुछ गलत होगा नहीं आपके साथLikhiye Manusya Co Agar Apni Soch Badlani Hai To Sabse Pehle Apni Feeling Usko Badlani Hogi Kyonki 108 Kai Filings K Baad Ek Soch Create Hota Hai Jam Per Laga Aapka Koi Nirbhar Hai Joe Aapke Sathe Achchhe Se Bartaav Nahin Karata To Pehle Bar Aap Kuch Nahin Kahenge Dusri Bar Aap Maf Car Denge Tisare Bar Aap Social Lagenge Aur Chauthi Bar Aap Jyada Sochenge Aur Aap Kio Sochenge Kyonki Aapko Accha Nahin Lag Raha Hai Aapko Diskamfart Hai To Isi Feeling Se Aap Ho Soch Create Karenge Qi Nahin Yeh Patta Nahin Hai Yeh Mere Co Taklif They Raha Hai To Issase Dur Rahate Hain To Kya Hua Free Link Create Thoughts On Agar Insaan Co Apni Soch Badlani Hai To Apni Film Co Badlana Ho Aapko Ek Neutral Etityud Lena Hoga Life Mein Kuch Accha Ho Ya Bura Ho To Aparyaapt Nahin Karenge Her Khushi Aur Her Dukh Mein Aap Sirf Neutral Usko Dekhenge Baaki Aapki Soch Hai Wah Barkaraar Rahegi Her Din Aapke Life Mein Koi Na Koi Challenge To Aega Hea Agar Aapko Usko Construct Na Hea Solve Krna Hai To Apni Feeling Aur Thoughts Co Sathe Mein Lycra Chalana Hai Agar Donon Co Ek Hea Level Per Rahna Hai To Aapko Neutral Dena Hai Non Riektiv Rahna Hai Qi Kuch Ho Gaya To Fataafat Jaakar Reaction Dein Kahin Per Kuch Aap Hea Kuch Shuru Karein Aisa Sub Nahin Karake Apne Imoshans Anche Apni Indriyon Co Wash Mein Rekhain Apni Feeling Co Agar Aap Control Karenge To Thoughts Aapki Itni Jaldi Nahin Banenge To Pehle Apni Feeling Zara Kabul Jamaai Hai Aur Uske Baad Dekhiye Qi Thoughts Become Create Hogi Aur Ekdam Neutral Rahenge Aur Jab Neutral Rahenge To Aap Apni Soch Per Kabu Per Pakad Paenge Aur Apni Soch Co Badal Paenge Aur Isse Badlenge Qi Wah Aapko Taklif Mein Kabhi Lycra Nahin Aega Aap Kabhi Galat Raste Per Jaenge Nahin Aur Kuch Galat Hoga Nahin Aapke Sathe
Likes  52  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ज्यादा अच्छा होना क्या है अच्छे होने की तो परिभाषा ही अलग है लेकिन पब्लिक परसेप्शन है एक सोसाइटी में सोच है कि ज्यादा अच्छा वही होता है जो सीधा हो और काफी ईमानदार हो और वह काफी भावुक हो इमोशनल हो सारे फैसले दिल से लेता हूं सारी फैसले इमोशनल हो कर लेता हूं ताकि ऐसे लोग जो सीधे सरल होते हैं उन्हें सोसाइटी ज्यादा अच्छा कहती है कि वह लोग ज्यादा अच्छे हैं तो ऐसे लोग ही धोखे का शिकार भी होते हैं जो कि सोसाइटी उनके बारे में जानती है कि जो यह इस तरह का है भावुक है तू ऐसे लोगों को वह बेवकूफ बनाती है उनका फायदा उठाती है उनके साथ धोखा करती है लेकिन हमें ज्यादा अच्छे बनने की बजाए परफेक्शन की ओर जाना चाहिए हम परफेक्ट बनने की तरफ ध्यान देना चाहिए वैसे तो परफेक्ट कोई नहीं होता लेकिन हम परफेक्ट बनने की कोशिश तो कर ही सकते हैं पर सेट कैसे बना जाए आप परफेक्ट वह है जो जिसके अंदर जो थोड़ा सा समझ जाओ समझदार हो चालाक हो जिसके अंदर लॉजिक हो जिस तरह से काम लेता हूं जो दिल की बजाय बुद्धि से फैसला लेता हूं और इस तरह कि हमें मिक्स DJ फोटो इमोशनल ना हो तो ऐसे तो यह दोनों पक्ष जो हैं वह हमें जो बुद्धि से फैसला लेता हूं और दिल से फैसला लेता दोनों का ही मैं जो एप्लीकेशन है वह होना चाहिए तभी हम
Romanized Version
देखिए ज्यादा अच्छा होना क्या है अच्छे होने की तो परिभाषा ही अलग है लेकिन पब्लिक परसेप्शन है एक सोसाइटी में सोच है कि ज्यादा अच्छा वही होता है जो सीधा हो और काफी ईमानदार हो और वह काफी भावुक हो इमोशनल हो सारे फैसले दिल से लेता हूं सारी फैसले इमोशनल हो कर लेता हूं ताकि ऐसे लोग जो सीधे सरल होते हैं उन्हें सोसाइटी ज्यादा अच्छा कहती है कि वह लोग ज्यादा अच्छे हैं तो ऐसे लोग ही धोखे का शिकार भी होते हैं जो कि सोसाइटी उनके बारे में जानती है कि जो यह इस तरह का है भावुक है तू ऐसे लोगों को वह बेवकूफ बनाती है उनका फायदा उठाती है उनके साथ धोखा करती है लेकिन हमें ज्यादा अच्छे बनने की बजाए परफेक्शन की ओर जाना चाहिए हम परफेक्ट बनने की तरफ ध्यान देना चाहिए वैसे तो परफेक्ट कोई नहीं होता लेकिन हम परफेक्ट बनने की कोशिश तो कर ही सकते हैं पर सेट कैसे बना जाए आप परफेक्ट वह है जो जिसके अंदर जो थोड़ा सा समझ जाओ समझदार हो चालाक हो जिसके अंदर लॉजिक हो जिस तरह से काम लेता हूं जो दिल की बजाय बुद्धि से फैसला लेता हूं और इस तरह कि हमें मिक्स DJ फोटो इमोशनल ना हो तो ऐसे तो यह दोनों पक्ष जो हैं वह हमें जो बुद्धि से फैसला लेता हूं और दिल से फैसला लेता दोनों का ही मैं जो एप्लीकेशन है वह होना चाहिए तभी हमDekhiye Jyada Accha Hona Kya Hai Achchhe Hone Ki To Paribhaasaa Hea Eluga Hai Lekin Public Parasepshan Hai Ek Society Mein Soch Hai Qi Jyada Accha Whey Hota Hai Joe Seedha Ho Aur Kaafi Imandar Ho Aur Wah Kaafi Bhavuk Ho Emotional Ho Saare Faisle Dil Se Lata Hoon Sari Faisle Emotional Ho Car Lata Hoon Taki Aise Log Joe Sidhe Saral Hote Hain Unhein Society Jyada Accha Kahti Hai Qi Wah Log Jyada Achchhe Hain To Aise Log Hea Dhokhe Ka Shikaar Bhi Hote Hain Joe Qi Society Unke Baare Mein Jaanati Hai Qi Joe Yeh Is Turha Ka Hai Bhavuk Hai Tu Aise Logon Co Wah Bewakoof Banaatee Hai Unka Fayda Uthaati Hai Unke Sathe Dhokha Karti Hai Lekin Human Jyada Achchhe Banane Ki Bazaae Parafekshan Ki Oar Jaana Chahie Hum Prefect Banane Ki Tarf Dhyan Dena Chahie Vaise To Prefect Koi Nahin Hota Lekin Hum Prefect Banane Ki Koshish To Car Hea Sakte Hain Per Set Kaise Banna Jae Aap Prefect Wah Hai Joe Jiske Andorra Joe Thoda Sa Samajh Jao Samajhdar Ho Chaalaak Ho Jiske Andorra Logic Ho Jisha Turha Se Kama Lata Hoon Joe Dil Ki Bajay Budhi Se Faisla Lata Hoon Aur Is Turha Qi Human Mix DJ Photo Emotional Na Ho To Aise To Yeh Donon Pax Joe Hain Wah Human Joe Budhi Se Faisla Lata Hoon Aur Dil Se Faisla Lata Donon Ka Hea Main Joe Eplikeshan Hai Wah Hona Chahie Tabhi Hum
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मनुष्य के रक्त में लगभग 55% प्लाज्मा होता है
Romanized Version
मनुष्य के रक्त में लगभग 55% प्लाज्मा होता हैManusya K Rakta Mein Lagbhag 55% Plasma Hota Hai
Likes  15  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपकी बात से सहमत हूं की सख्त लौंडा के जो अभी ट्रेन हमारी जाकिर जी के द्वारा आप काफी चल रहा है तू ही हो ना कहीं कहीं जगह पर सही है कहीं न कहीं जगह पर गलत क्योंकि देखेंगे जब मैं आज तक बताया गया है कि लड़की को ऐसा होना चाहिए जो किसी के द्वारा भी मैंने प्लेटेड ना हो जैसे कि कोई भी लड़की या कोई भी जो आपको पैंफलेट ना करता ही सही जगह पर ज्यादा बंद है तू दिक्कत वाली बात भी आ सकती है तो यह डिपेंड करता है कि क्या है आपका सामने से जा रही हो तब आप अपना जो है आप बताओ जो अपने साथ लाने का बताओ है आपको कर सकते हैं यहां पर आपको लगे कि नहीं आप नाम भी बताओ कि कृपया अपना काम चला सकते आप हमें बताओ कर सकते हैं
Romanized Version
मैं आपकी बात से सहमत हूं की सख्त लौंडा के जो अभी ट्रेन हमारी जाकिर जी के द्वारा आप काफी चल रहा है तू ही हो ना कहीं कहीं जगह पर सही है कहीं न कहीं जगह पर गलत क्योंकि देखेंगे जब मैं आज तक बताया गया है कि लड़की को ऐसा होना चाहिए जो किसी के द्वारा भी मैंने प्लेटेड ना हो जैसे कि कोई भी लड़की या कोई भी जो आपको पैंफलेट ना करता ही सही जगह पर ज्यादा बंद है तू दिक्कत वाली बात भी आ सकती है तो यह डिपेंड करता है कि क्या है आपका सामने से जा रही हो तब आप अपना जो है आप बताओ जो अपने साथ लाने का बताओ है आपको कर सकते हैं यहां पर आपको लगे कि नहीं आप नाम भी बताओ कि कृपया अपना काम चला सकते आप हमें बताओ कर सकते हैंMain Aapki Baat Se Sahmat Hoon Ki Sakht Launda Ke Jo Abhi Train Hamari Zakir Ji Ke Dwara Aap Kafi Chal Raha Hai Tu Hi Ho Na Kahin Kahin Jagah Par Sahi Hai Kahin N Kahin Jagah Par Galat Kyonki Dekhenge Jab Main Aaj Tak Bataya Gaya Hai Ki Ladki Ko Aisa Hona Chahiye Jo Kisi Ke Dwara Bhi Maine Plated Na Ho Jaise Ki Koi Bhi Ladki Ya Koi Bhi Jo Aapko Paimfalet Na Karta Hi Sahi Jagah Par Jyada Band Hai Tu Dikkat Wali Baat Bhi Aa Sakti Hai To Yeh Depend Karta Hai Ki Kya Hai Aapka Samane Se Ja Rahi Ho Tab Aap Apna Jo Hai Aap Batao Jo Apne Saath Lane Ka Batao Hai Aapko Kar Sakte Hain Yahan Par Aapko Lage Ki Nahi Aap Naam Bhi Batao Ki Kripya Apna Kaam Chala Sakte Aap Hume Batao Kar Sakte Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट मतलब होता है किसी भी कंपनी में या किसी भी ओर्गनाइजेशन में जो मानव रिसोर्स है| जो हमारे मैन पॉवर है| उसको हम कैसे इफेक्टिवली मैनेज करें| तो आपको पहले यह बहुत समझना जरूरी है कि ह्यूमन रिसोर्स किसी भी ओर्गनाइजेशन का किसी भी कंपनी का बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है| और स्पेशली अगर आप बात करें, सर्विस सेक्टर की| तो सर्विस सेक्टर कंपनी क्या होती है? जैसे कि बैंक, जैसे कि कोई आईटी कंपनी सपोस इंफोसिस जो सर्विस कंपनी है, टीसीएस और इस टाइप की जो कंपनीज है| वहां पर अगर आप देखें तो उनका सब कुछ तो ह्यूमन रिसोर्स ही है| किसी भी बैंकिंग सिस्टम के पास कोई फैक्टरी नहीं है या कोई इंफोसिस के पास कोई फैक्टरी नहीं है| वहां पर जो भी काम हो रहा है| इवन फेसबुक है, गूगल है| तो उनके पास कोई फैक्टरी नहीं है| कि वहां पर बहुत बड़ा प्लांट या मशीनरी लगाई हुई है| जिसके बेसिस पर वह अपना प्रोडक्शन कर रहे हैं| यहां पर सारा ही काम ह्यूमन रिसोर्स कर रहे हैं| और जहां पर फैक्ट्री भी लगी हुई है| वैसी कंपनी है माना मारुती है| जो कार कंपनी है| वहां फैक्टरी भी है| तो उस फैक्ट्री को चलाने के लिए ह्यूमन रिसोर्स लगा हुआ है| वो चाहे लेबर्स है सुपरवाइजर है या सीनियर मैनेजमेंट है| तो किसी भी कंपनी का जो फंक्शन है| वह इस पर डिपेंड करता है| कि वहां का ह्यूमन रिसोर्स कैसा है? कितना प्रोडक्टिव है? कैसे उसको मैंनेज किया जा रहा है? किस तरीके से उसको मोटिवेट किया जा रहा है अच्छा काम करने के लिए? तो ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट में हम यह सब चीजें पढ़ते हैं| कि कैसे मैनपावर को, ह्यूमन रिसोर्स को एफिशिएंट और इफेक्टिव बनाया जाए? फॉर हायर प्रोडक्टिविटी ऑफ द कंपनी| कंपनी की ग्रोथ के लिए और प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए, या आउटपुट बढ़ाने के लिए, कैसे ह्यूमन रिसोर्स को हम अच्छे से इस्तेमाल करें| यह हम एच आर में सीखते हैं|
Romanized Version
ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट मतलब होता है किसी भी कंपनी में या किसी भी ओर्गनाइजेशन में जो मानव रिसोर्स है| जो हमारे मैन पॉवर है| उसको हम कैसे इफेक्टिवली मैनेज करें| तो आपको पहले यह बहुत समझना जरूरी है कि ह्यूमन रिसोर्स किसी भी ओर्गनाइजेशन का किसी भी कंपनी का बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है| और स्पेशली अगर आप बात करें, सर्विस सेक्टर की| तो सर्विस सेक्टर कंपनी क्या होती है? जैसे कि बैंक, जैसे कि कोई आईटी कंपनी सपोस इंफोसिस जो सर्विस कंपनी है, टीसीएस और इस टाइप की जो कंपनीज है| वहां पर अगर आप देखें तो उनका सब कुछ तो ह्यूमन रिसोर्स ही है| किसी भी बैंकिंग सिस्टम के पास कोई फैक्टरी नहीं है या कोई इंफोसिस के पास कोई फैक्टरी नहीं है| वहां पर जो भी काम हो रहा है| इवन फेसबुक है, गूगल है| तो उनके पास कोई फैक्टरी नहीं है| कि वहां पर बहुत बड़ा प्लांट या मशीनरी लगाई हुई है| जिसके बेसिस पर वह अपना प्रोडक्शन कर रहे हैं| यहां पर सारा ही काम ह्यूमन रिसोर्स कर रहे हैं| और जहां पर फैक्ट्री भी लगी हुई है| वैसी कंपनी है माना मारुती है| जो कार कंपनी है| वहां फैक्टरी भी है| तो उस फैक्ट्री को चलाने के लिए ह्यूमन रिसोर्स लगा हुआ है| वो चाहे लेबर्स है सुपरवाइजर है या सीनियर मैनेजमेंट है| तो किसी भी कंपनी का जो फंक्शन है| वह इस पर डिपेंड करता है| कि वहां का ह्यूमन रिसोर्स कैसा है? कितना प्रोडक्टिव है? कैसे उसको मैंनेज किया जा रहा है? किस तरीके से उसको मोटिवेट किया जा रहा है अच्छा काम करने के लिए? तो ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट में हम यह सब चीजें पढ़ते हैं| कि कैसे मैनपावर को, ह्यूमन रिसोर्स को एफिशिएंट और इफेक्टिव बनाया जाए? फॉर हायर प्रोडक्टिविटी ऑफ द कंपनी| कंपनी की ग्रोथ के लिए और प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए, या आउटपुट बढ़ाने के लिए, कैसे ह्यूमन रिसोर्स को हम अच्छे से इस्तेमाल करें| यह हम एच आर में सीखते हैं|Human Resource Management Matlab Hota Hai Kisi Bhi Company Mein Ya Kisi Bhi Organization Mein Jo Manav Resource Hai Jo Hamare Man Power Hai Usko Hum Kaise Effectively Manage Karen To Aapko Pehle Yeh Bahut Samajhna Zaroori Hai Ki Human Resource Kisi Bhi Organization Ka Kisi Bhi Company Ka Bahut Hi Mahatvapurna Hissa Hai Aur Speshli Agar Aap Baat Karen Service Sector Ki To Service Sector Company Kya Hoti Hai Jaise Ki Bank Jaise Ki Koi It Company Sapos Infosys Jo Service Company Hai TCS Aur Is Type Ki Jo Companies Hai Wahan Par Agar Aap Dekhen To Unka Sab Kuch To Human Resource Hi Hai Kisi Bhi Banking System Ke Paas Koi Factory Nahi Hai Ya Koi Infosys Ke Paas Koi Factory Nahi Hai Wahan Par Jo Bhi Kaam Ho Raha Hai Even Facebook Hai Google Hai To Unke Paas Koi Factory Nahi Hai Ki Wahan Par Bahut Bada Plant Ya Machinery Lagai Hui Hai Jiske Basis Par Wah Apna Production Kar Rahe Hain Yahan Par Saara Hi Kaam Human Resource Kar Rahe Hain Aur Jahan Par Factory Bhi Lagi Hui Hai Waisi Company Hai Mana Maruti Hai Jo Car Company Hai Wahan Factory Bhi Hai To Us Factory Ko Chalane Ke Liye Human Resource Laga Hua Hai Vo Chahe Labours Hai Supervisor Hai Ya Senior Management Hai To Kisi Bhi Company Ka Jo Function Hai Wah Is Par Depend Karta Hai Ki Wahan Ka Human Resource Kaisa Hai Kitna Productive Hai Kaise Usko Mainnej Kiya Ja Raha Hai Kis Tarike Se Usko Motivate Kiya Ja Raha Hai Accha Kaam Karne Ke Liye To Human Resource Management Mein Hum Yeh Sab Cheezen Padhte Hain Ki Kaise Manpower Ko Human Resource Ko Efficient Aur Effective Banaya Jaye For Hire Productivity Of D Company Company Ki Growth Ke Liye Aur Production Badhane Ke Liye Ya Output Badhane Ke Liye Kaise Human Resource Ko Hum Acche Se Istemal Karen Yeh Hum H R Mein Sikhate Hain
Likes  26  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ईश्वर इसी क्वेश्चन को ढूंढते हुए मुझे 17 साल हो गए हैं कि इंसान इंसान में इतना फर्क क्यों है क्यों इंसान एक दूसरे से इतनी घृणा करता है क्यों इंसान इंसान को एक समान नहीं मानता है जब जानवर जानवर मैसेज नहीं करता है तो इंसान इंसान में क्यों यह सब कुछ इंसान की घिनौनी मानसिकता का परिणाम है इंसान एक दलदल में फंसा हुआ जिससे वह बना ही नहीं चाहता
Romanized Version
ईश्वर इसी क्वेश्चन को ढूंढते हुए मुझे 17 साल हो गए हैं कि इंसान इंसान में इतना फर्क क्यों है क्यों इंसान एक दूसरे से इतनी घृणा करता है क्यों इंसान इंसान को एक समान नहीं मानता है जब जानवर जानवर मैसेज नहीं करता है तो इंसान इंसान में क्यों यह सब कुछ इंसान की घिनौनी मानसिकता का परिणाम है इंसान एक दलदल में फंसा हुआ जिससे वह बना ही नहीं चाहताIshwar Isi Question Co Dhundhate Huye Mujhe 17 Saul Ho Ge Hain Qi Insaan Insaan Mein Itna Fark Kio Hai Kio Insaan Ek Dusre Se Itni Ghrina Karata Hai Kio Insaan Insaan Co Ek Saman Nahin Manta Hai Jab Zanwar Zanwar Maisej Nahin Karata Hai To Insaan Insaan Mein Kio Yeh Sub Kuch Insaan Ki Ghinaunee Maanasikata Ka Parinam Hai Insaan Ek Deldal Mein Fansa Hua Jisase Wah Banna Hea Nahin Chahta
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बुक और एक मन में यही मिलिट्री रहती है कि जो बुक है वह अप टू डेट नहीं रहती और एक इंसान है जो वह अप टू डेट रहता है जैसे की एक बुक है जो कि 2 साल पहले लिखी गई है तो वह जिंदगी भर जब तक वह खराब फट नहीं जाया जाता कुछ नहीं हो जाए वह वही वार्ड से लेकर आएंगे और एग्जांपल जीएसटी के आने से पहले इनकम टैक्स की जो बुक्स कि वह अलग तरह से लिखी गई थी जैसी जीएसटी आई तो पूरी इनकम टैक्स की बुक हैं सब चेंज हो गई ऐसे इंसान को तो अप टू डेट है तो यह मुझे बताइए क्वेश्चन कोई पूछने वाला भी था
Romanized Version
एक बुक और एक मन में यही मिलिट्री रहती है कि जो बुक है वह अप टू डेट नहीं रहती और एक इंसान है जो वह अप टू डेट रहता है जैसे की एक बुक है जो कि 2 साल पहले लिखी गई है तो वह जिंदगी भर जब तक वह खराब फट नहीं जाया जाता कुछ नहीं हो जाए वह वही वार्ड से लेकर आएंगे और एग्जांपल जीएसटी के आने से पहले इनकम टैक्स की जो बुक्स कि वह अलग तरह से लिखी गई थी जैसी जीएसटी आई तो पूरी इनकम टैक्स की बुक हैं सब चेंज हो गई ऐसे इंसान को तो अप टू डेट है तो यह मुझे बताइए क्वेश्चन कोई पूछने वाला भी थाEk Book Aur Ek Mana Mein Yahi Militri Rehti Hai Qi Joe Book Hai Wah Up Two Date Nahin Rehti Aur Ek Insaan Hai Joe Wah Up Two Date Rehta Hai Jaise Ki Ek Book Hai Joe Qi 2 Saul Pehle Likhi Gi Hai To Wah Jindagi Bhora Jab Tak Wah Kharab Ft Nahin Jaya Jaata Kuch Nahin Ho Jae Wah Whey Waard Se Lycra Aenge Aur Egjampal GST K Aane Se Pehle Income Tax Ki Joe Books Qi Wah Eluga Turha Se Likhi Gi Thi Jaisi GST I To Poori Income Tax Ki Book Hain Sub Change Ho Gi Aise Insaan Co To Up Two Date Hai To Yeh Mujhe Bataaeeye Question Koi Puchhne Wala Bhi Thaa
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरे क्या करने से इंसान की सोच में परिवर्तन आ सकता है तो मुझे लगता है ऐसा कि अगर कोई भी व्यक्ति हो उस जो भी चीज गलती कर रहे हैं या उसकी सोच है सोच में क्या बुराई है बुराई से क्या प्रभाव हो सकता है वह ही सही तरीके से समझा दी जाए तो शायद उस व्यक्ति की सोच में बदलाव आ सकता है क्योंकि बहुत लोग चल रही होती उसको फॉलो कर रहे हो तुमको पता नहीं है क्या इजाजत ली क्या है क्या नहीं है यह तो उनको बता दिया है
Romanized Version
अरे क्या करने से इंसान की सोच में परिवर्तन आ सकता है तो मुझे लगता है ऐसा कि अगर कोई भी व्यक्ति हो उस जो भी चीज गलती कर रहे हैं या उसकी सोच है सोच में क्या बुराई है बुराई से क्या प्रभाव हो सकता है वह ही सही तरीके से समझा दी जाए तो शायद उस व्यक्ति की सोच में बदलाव आ सकता है क्योंकि बहुत लोग चल रही होती उसको फॉलो कर रहे हो तुमको पता नहीं है क्या इजाजत ली क्या है क्या नहीं है यह तो उनको बता दिया हैArre Kya Karne Se Insaan Ki Soch Mein Pariwartan Aa Sakta Hai To Mujhe Lagta Hai Aisa Ki Agar Koi Bhi Vyakti Ho Us Jo Bhi Cheez Galti Kar Rahe Hain Ya Uski Soch Hai Soch Mein Kya Burayi Hai Burayi Se Kya Prabhav Ho Sakta Hai Wah Hi Sahi Tarike Se Samjha Di Jaye To Shayad Us Vyakti Ki Soch Mein Badlav Aa Sakta Hai Kyonki Bahut Log Chal Rahi Hoti Usko Follow Kar Rahe Ho Tumko Pata Nahi Hai Kya Ijajat Lee Kya Hai Kya Nahi Hai Yeh To Unko Bata Diya Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंसान को वही करिए या फिर वही फील्ड अपने लिए चुनना चाहिए जिसमें उनका इंटरेस्ट हो क्योंकि अगर दूसरे के कहने पर हम एक ऐसे फील्ड का चुनाव कर लेते हैं जिसमें हमारी रूचि ना हो तो हो सकता है आगे चलकर उसमें हमारा मन ना लगे और फिर हम बहुत जल्दी ही उस चीजों से उठ जाएं और फिर किसी अन्य फील्ड की तलाश करने लगे तो कभी भी अपने करियर का चुनाव करते वक्त हमें यह डिसाइड कर लेना चाहिए कि क्या यह फील्ड हमारे लिए सही रहेगी या फिर नहीं क्या उसमें हम सक्सेस हासिल कर सकते हैं या फिर नहीं इसीलिए अगर किसी को स्पोर्ट्स में रूचि है तो फिर उसे स्पोर्ट्स में ही ध्यान देना चाहिए लेकिन अगर किसी को पढ़ाई लिखाई में ज्यादा इंटरेस्ट है तो उसे फिर एकेडमिक्स पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए इसीलिए अगर आपसे कोई कुछ बनने को कहता है तो आपको सबसे पहले अपने आप से पूछना चाहिए कि आप क्या बनना चाहते हैं आपको कौन सी चीजें अच्छी लगती है और उसी के हिसाब से आपको अपना करियर डिसाइड करना चाहिए
Romanized Version
इंसान को वही करिए या फिर वही फील्ड अपने लिए चुनना चाहिए जिसमें उनका इंटरेस्ट हो क्योंकि अगर दूसरे के कहने पर हम एक ऐसे फील्ड का चुनाव कर लेते हैं जिसमें हमारी रूचि ना हो तो हो सकता है आगे चलकर उसमें हमारा मन ना लगे और फिर हम बहुत जल्दी ही उस चीजों से उठ जाएं और फिर किसी अन्य फील्ड की तलाश करने लगे तो कभी भी अपने करियर का चुनाव करते वक्त हमें यह डिसाइड कर लेना चाहिए कि क्या यह फील्ड हमारे लिए सही रहेगी या फिर नहीं क्या उसमें हम सक्सेस हासिल कर सकते हैं या फिर नहीं इसीलिए अगर किसी को स्पोर्ट्स में रूचि है तो फिर उसे स्पोर्ट्स में ही ध्यान देना चाहिए लेकिन अगर किसी को पढ़ाई लिखाई में ज्यादा इंटरेस्ट है तो उसे फिर एकेडमिक्स पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए इसीलिए अगर आपसे कोई कुछ बनने को कहता है तो आपको सबसे पहले अपने आप से पूछना चाहिए कि आप क्या बनना चाहते हैं आपको कौन सी चीजें अच्छी लगती है और उसी के हिसाब से आपको अपना करियर डिसाइड करना चाहिएInsaan Co Whey Kariye Ya Phir Whey Field Apne Lie Chunana Chahie Jisamein Unka Interest Ho Kyonki Agar Dusre K Kahane Per Hum Ek Aise Field Ka Chunav Car Lete Hain Jisamein Hamari Ruchi Na Ho To Ho Sakta Hai Aage Challekara Usme Hamara Mana Na Lage Aur Phir Hum Bahut Jaldi Hea Oosh Chijon Se Uth Jaen Aur Phir Kisi Anya Field Ki Talash Karne Lage To Kabhi Bhi Apne Career Ka Chunav Karte Vakt Human Yeh Decide Car Lena Chahie Qi Kya Yeh Field Hamare Lie Sahi Rahegi Ya Phir Nahin Kya Usme Hum Success Hashil Car Sakte Hain Ya Phir Nahin Isiliye Agar Kisi Co Sports Mein Ruchi Hai To Phir Usse Sports Mein Hea Dhyan Dena Chahie Lekin Agar Kisi Co Padhai Likhai Mein Jyada Interest Hai To Usse Phir Academic Per Jyada Dhyan Dena Chahie Isiliye Agar Aapse Koi Kuch Banane Co Kehta Hai To Aapko Sabse Pehle Apne Aap Se Puchhnaa Chahie Qi Aap Kya Banana Chahte Hain Aapko Kaun C Chijen Achchhee Lagati Hai Aur Ussi K Hisaab Se Aapko Apna Career Decide Krna Chahie
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सही है कि हर इंसान को यही महसूस होता है कि वह एक अच्छा इंसान है और वह अपने आप को अच्छा ही मांगता है उसकी कमियां उसे पता होती है लेकिन उन कमियों को कमी नहीं मानता है उसे लगता है कि वह जो कुछ भी है बहुत अच्छा है वह जो कुछ भी करता है सही करता है लेकिन कहीं ना कहीं उसका मन इस बात को जानता है कि उसकी जो भी कमियां हैं चाहे उसे गुस्सा आता हो चाहे वह थोड़ा घमंडी हो चाहे वह लोगों से चलता हो चाहे वह अपने आप को कुछ ज्यादा समझता हूं यह सभी बातें उसे पता होती है और उसे मालूम होता है कि उसकी कमियां है लेकिन कभी-कभी करता है हमेशा किसी ना किसी की कोशिश करता है किसी को बहुत गुस्सा आता है तो वह चीज मानेगा नहीं खुद पर इस बात को नहीं मानेगा कि हां मुझे गुस्सा आता है और मैं इसे सुधारने की कोशिश करूं कई लोग जब अपने आप को बहुत ज्यादा पढ़ लेते हैं अपने आप को बहुत ज्यादा समझ लेते हैं और उन्हें लगता है कि अपनी कमियां हैं तो उन कमियों को सुधारने की कोशिश करते हैं और इस तरह से दूसरों के माथे भी डालते ज्यादातर लोग ही मानते हैं परफेक्ट इंसान हैं वह बहुत अच्छे इंसान हैं और बाकी दुनिया में उनके जैसा कोई नहीं है उनकी जो भी कमियां हैं उन्हें लगता है कि लोगों को पता ही नहीं है उन्हें महसूस हो रही है और वह एक अच्छे इंसान बहुत बुरा लगता है कि मैं तो ऐसा
Romanized Version
यह सही है कि हर इंसान को यही महसूस होता है कि वह एक अच्छा इंसान है और वह अपने आप को अच्छा ही मांगता है उसकी कमियां उसे पता होती है लेकिन उन कमियों को कमी नहीं मानता है उसे लगता है कि वह जो कुछ भी है बहुत अच्छा है वह जो कुछ भी करता है सही करता है लेकिन कहीं ना कहीं उसका मन इस बात को जानता है कि उसकी जो भी कमियां हैं चाहे उसे गुस्सा आता हो चाहे वह थोड़ा घमंडी हो चाहे वह लोगों से चलता हो चाहे वह अपने आप को कुछ ज्यादा समझता हूं यह सभी बातें उसे पता होती है और उसे मालूम होता है कि उसकी कमियां है लेकिन कभी-कभी करता है हमेशा किसी ना किसी की कोशिश करता है किसी को बहुत गुस्सा आता है तो वह चीज मानेगा नहीं खुद पर इस बात को नहीं मानेगा कि हां मुझे गुस्सा आता है और मैं इसे सुधारने की कोशिश करूं कई लोग जब अपने आप को बहुत ज्यादा पढ़ लेते हैं अपने आप को बहुत ज्यादा समझ लेते हैं और उन्हें लगता है कि अपनी कमियां हैं तो उन कमियों को सुधारने की कोशिश करते हैं और इस तरह से दूसरों के माथे भी डालते ज्यादातर लोग ही मानते हैं परफेक्ट इंसान हैं वह बहुत अच्छे इंसान हैं और बाकी दुनिया में उनके जैसा कोई नहीं है उनकी जो भी कमियां हैं उन्हें लगता है कि लोगों को पता ही नहीं है उन्हें महसूस हो रही है और वह एक अच्छे इंसान बहुत बुरा लगता है कि मैं तो ऐसाYeh Sahi Hai Qi Her Insaan Co Yahi Mehsoos Hota Hai Qi Wah Ek Accha Insaan Hai Aur Wah Apne Aap Co Accha Hea Mangata Hai Uski Kamiyan Usse Patta Hoti Hai Lekin Un Kamiyon Co Kami Nahin Manta Hai Usse Lagta Hai Qi Wah Joe Kuch Bhi Hai Bahut Accha Hai Wah Joe Kuch Bhi Karata Hai Sahi Karata Hai Lekin Kahin Na Kahin Uska Mana Is Baat Co Jaanta Hai Qi Uski Joe Bhi Kamiyan Hain Chahe Usse Gussa Aata Ho Chahe Wah Thoda Ghamandi Ho Chahe Wah Logon Se Chalata Ho Chahe Wah Apne Aap Co Kuch Jyada Samajhataa Hoon Yeh Sabhi Batein Usse Patta Hoti Hai Aur Usse Maaloom Hota Hai Qi Uski Kamiyan Hai Lekin Kabhi Kabhi Karata Hai Hamesha Kisi Na Kisi Ki Koshish Karata Hai Kisi Co Bahut Gussa Aata Hai To Wah Chij Maanega Nahin Khud Per Is Baat Co Nahin Maanega Qi Han Mujhe Gussa Aata Hai Aur Main Isse Sudhaarne Ki Koshish Karoon Kai Log Jab Apne Aap Co Bahut Jyada Padh Lete Hain Apne Aap Co Bahut Jyada Samajh Lete Hain Aur Unhein Lagta Hai Qi Apni Kamiyan Hain To Un Kamiyon Co Sudhaarne Ki Koshish Karte Hain Aur Is Turha Se Dusro K Mathe Bhi Daalte Jyadatar Log Hea Maunte Hain Prefect Insaan Hain Wah Bahut Achchhe Insaan Hain Aur Baaki Duniya Mein Unke Jaisa Koi Nahin Hai Unki Joe Bhi Kamiyan Hain Unhein Lagta Hai Qi Logon Co Patta Hea Nahin Hai Unhein Mehsoos Ho Rahi Hai Aur Wah Ek Achchhe Insaan Bahut Bura Lagta Hai Qi Main To Aisa
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बनी मैक्सिमम को एक इंग्लिश में कहावत है मतलब पैसा ही दुनिया को चलाता है और कई लोग पैसे को एक नेगेटिव चीज मांगते हैं कि कोई अगर पैसा कमाना चाहता है तो वह गलत है अगर आप ऐसे सोचते कि आप कुछ भी चीज खरीदते हैं अगर आप सपोर्ट आप अपने परिवार के साथ रहना चाहते हैं तो उसके लिए आपको पैसा चाहिए आपको घर बनाना है उसके लिए पैसा चाहिए आप उनके मेंबर से बनता है तू प्राप्ति के लिए सोचिए तो पैसा आपको हर चीज में जरूरत है आप अपने मां-बाप से कितना प्यार करते हो आप का इलाज कराना चाहिए आपको घूमना है आपको शादी करनी है हर चीज के लिए आपको पैसा चाहिए उस चीज के लिए ऑफ टेस्ट होना कि नहीं मुझे बहुत ज्यादा चाहिए या उससे कुछ खरीदना की दृष्टि खरीदना मुझसे शादी करोगी कि मैं बहुत पैसे वाला हूं वह चीज गलत है रिश्ते में पैसे की बहुत आती है आप चाहे कुछ भी करना चाहे आप लोग जाना चाहे उसके लिए आपको गाड़ी तो चाहिए ना पेट्रोल चाहिए ना उन सब के लिए आपको पैसे देने पड़ेंगे हां कई लोग अगर आप ऐसे देखेंगे तो अपनों में रहते हैं बहुत कुछ कहते हैं वह भी क्योंकि उन्हें उतना लालच नहीं है पर जाओ और पैसे नहीं कमाना चाहते क्या हो और बेटर लाइफ नहीं रहना चाहते क्या वह अपने बच्चों को अच्छे से पढ़ाना नहीं चाहते हर कोई चाहता है पैसे को आप गलत सेंस बना लीजिए कहीं कोई भी एडिक्शन कोई भी ऑपरेशन गलत होता है पैसे का भी गलत है पर पैसे रिक्वायरमेंट जो है इंप्रूवमेंट कि वह कोई गलत बात नहीं है
Romanized Version
बनी मैक्सिमम को एक इंग्लिश में कहावत है मतलब पैसा ही दुनिया को चलाता है और कई लोग पैसे को एक नेगेटिव चीज मांगते हैं कि कोई अगर पैसा कमाना चाहता है तो वह गलत है अगर आप ऐसे सोचते कि आप कुछ भी चीज खरीदते हैं अगर आप सपोर्ट आप अपने परिवार के साथ रहना चाहते हैं तो उसके लिए आपको पैसा चाहिए आपको घर बनाना है उसके लिए पैसा चाहिए आप उनके मेंबर से बनता है तू प्राप्ति के लिए सोचिए तो पैसा आपको हर चीज में जरूरत है आप अपने मां-बाप से कितना प्यार करते हो आप का इलाज कराना चाहिए आपको घूमना है आपको शादी करनी है हर चीज के लिए आपको पैसा चाहिए उस चीज के लिए ऑफ टेस्ट होना कि नहीं मुझे बहुत ज्यादा चाहिए या उससे कुछ खरीदना की दृष्टि खरीदना मुझसे शादी करोगी कि मैं बहुत पैसे वाला हूं वह चीज गलत है रिश्ते में पैसे की बहुत आती है आप चाहे कुछ भी करना चाहे आप लोग जाना चाहे उसके लिए आपको गाड़ी तो चाहिए ना पेट्रोल चाहिए ना उन सब के लिए आपको पैसे देने पड़ेंगे हां कई लोग अगर आप ऐसे देखेंगे तो अपनों में रहते हैं बहुत कुछ कहते हैं वह भी क्योंकि उन्हें उतना लालच नहीं है पर जाओ और पैसे नहीं कमाना चाहते क्या हो और बेटर लाइफ नहीं रहना चाहते क्या वह अपने बच्चों को अच्छे से पढ़ाना नहीं चाहते हर कोई चाहता है पैसे को आप गलत सेंस बना लीजिए कहीं कोई भी एडिक्शन कोई भी ऑपरेशन गलत होता है पैसे का भी गलत है पर पैसे रिक्वायरमेंट जो है इंप्रूवमेंट कि वह कोई गलत बात नहीं हैBani Maximum Ko Ek English Mein Kahaavat Hai Matlab Paisa Hi Duniya Ko Chalata Hai Aur Kai Log Paise Ko Ek Negative Cheez Mangate Hain Ki Koi Agar Paisa Kamana Chahta Hai To Wah Galat Hai Agar Aap Aise Sochte Ki Aap Kuch Bhi Cheez Kharidte Hain Agar Aap Support Aap Apne Parivar Ke Saath Rehna Chahte Hain To Uske Liye Aapko Paisa Chahiye Aapko Ghar Banana Hai Uske Liye Paisa Chahiye Aap Unke Member Se Banta Hai Tu Prapti Ke Liye Sochie To Paisa Aapko Har Cheez Mein Zaroorat Hai Aap Apne Maa Baap Se Kitna Pyar Karte Ho Aap Ka Ilaj Krana Chahiye Aapko Ghumana Hai Aapko Shadi Karni Hai Har Cheez Ke Liye Aapko Paisa Chahiye Us Cheez Ke Liye Of Test Hona Ki Nahi Mujhe Bahut Zyada Chahiye Ya Usse Kuch Kharidna Ki Drishti Kharidna Mujhse Shadi Karogi Ki Main Bahut Paise Vala Hoon Wah Cheez Galat Hai Rishte Mein Paise Ki Bahut Aati Hai Aap Chahe Kuch Bhi Karna Chahe Aap Log Jana Chahe Uske Liye Aapko Gaadi To Chahiye Na Petrol Chahiye Na Un Sab Ke Liye Aapko Paise Dene Padenge Haan Kai Log Agar Aap Aise Dekhenge To Apnon Mein Rehte Hain Bahut Kuch Kehte Hain Wah Bhi Kyonki Unhen Utana Lalach Nahi Hai Par Jao Aur Paise Nahi Kamana Chahte Kya Ho Aur Better Life Nahi Rehna Chahte Kya Wah Apne Bacchon Ko Acche Se Padhana Nahi Chahte Har Koi Chahta Hai Paise Ko Aap Galat Sense Bana Lijiye Kahin Koi Bhi Addiction Koi Bhi Operation Galat Hota Hai Paise Ka Bhi Galat Hai Par Paise Requirement Jo Hai Improvement Ki Wah Koi Galat Baat Nahi Hai
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सही है आप इंसान की सहायता कर करना चाहते हैं तो उसको पैसे की बजाए खाने की कोई चीज है और एक चीज और मैं यहां पर आपसे शेयर करना चाहूंगा और रिक्वेस्ट करुंगा कि आप भी शेयर करें लोगों से अगर किसी भी रास्ते पर यह किसी सिग्नल पर या किसी भी रोड पर आपको कोई छोटा बच्चा जब भीख मांगता हुआ दिखे उसको पैसे देने की बजाय उसकी पूरी फोटो खींच ली थी और उसको मेहरबानी करके एक वेबसाइट है नो मोर मिसिंग मिस की स्पेलिंग बता देता हूं यह n o m o r e n i s s i n g डॉट कॉम यह आप Facebook पर भी है इस पर मेहरबानी करके उस फोटो को लोकेशन के साथ अपलोड कर दे और जल्दी तीन उसके पीछे कुछ न कुछ करेगी और उस बच्चे को उसके मां-बाप से मिलाने की कोशिश की जाएगी क्योंकि अगर आप किसी भी बच्चे को देखते हैं रोड पर जाते हुए तो समझ ले और अगर आप ऐसा
Romanized Version
बिल्कुल सही है आप इंसान की सहायता कर करना चाहते हैं तो उसको पैसे की बजाए खाने की कोई चीज है और एक चीज और मैं यहां पर आपसे शेयर करना चाहूंगा और रिक्वेस्ट करुंगा कि आप भी शेयर करें लोगों से अगर किसी भी रास्ते पर यह किसी सिग्नल पर या किसी भी रोड पर आपको कोई छोटा बच्चा जब भीख मांगता हुआ दिखे उसको पैसे देने की बजाय उसकी पूरी फोटो खींच ली थी और उसको मेहरबानी करके एक वेबसाइट है नो मोर मिसिंग मिस की स्पेलिंग बता देता हूं यह n o m o r e n i s s i n g डॉट कॉम यह आप Facebook पर भी है इस पर मेहरबानी करके उस फोटो को लोकेशन के साथ अपलोड कर दे और जल्दी तीन उसके पीछे कुछ न कुछ करेगी और उस बच्चे को उसके मां-बाप से मिलाने की कोशिश की जाएगी क्योंकि अगर आप किसी भी बच्चे को देखते हैं रोड पर जाते हुए तो समझ ले और अगर आप ऐसाBilkul Sahi Hai Aap Insaan Ki Sahaayata Kar Karna Chahte Hain To Usko Paise Ki Bajae Khane Ki Koi Cheez Hai Aur Ek Cheez Aur Main Yahan Par Aapse Share Karna Chahunga Aur Request Karunga Ki Aap Bhi Share Karen Logon Se Agar Kisi Bhi Raste Par Yeh Kisi Signal Par Ya Kisi Bhi Road Par Aapko Koi Chota Baccha Jab Bhik Mangta Hua Dikhe Usko Paise Dene Ki Bajay Uski Puri Photo Khinch Lee Thi Aur Usko Meharbaani Karke Ek Website Hai No More Missing Miss Ki Spelling Bata Deta Hoon Yeh N O M O R E N I S S I N G Dot Com Yeh Aap Facebook Par Bhi Hai Is Par Meharbaani Karke Us Photo Ko Location Ke Saath Upload Kar De Aur Jaldi Teen Uske Piche Kuch N Kuch Karegi Aur Us Bacche Ko Uske Maa Baap Se Milaane Ki Koshish Ki Jayegi Kyonki Agar Aap Kisi Bhi Bacche Ko Dekhte Hain Road Par Jaate Hue To Samajh Le Aur Agar Aap Aisa
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी के टाइम के हिसाब से अभी के दुनिया जो भी चल रही है तो इस दुनिया में क्या है कि पैसे एक बहुत ही इंपॉर्टेंट चीज हो चुकी है क्योंकि पैसे के बगैर हम लोग कुछ नहीं कर सकते अगर घर से निकलते हैं हमें कहीं जाने के लिए कोई सवारी साधारण का इस्तेमाल करना होता है हर जगह पर कहीं भी जाओ आपको कुछ खाने के लिए पीने के लिए कुछ चाहिए अगर आपको कुछ दवा भी लेना चाहते हो या फिर आप पढ़ाई भी करना चाहते हो हर जगह हर कही पर आपको पैसा चाहिए होता है क्योंकि अब पैसे के बगैर कुछ नहीं कर सकते हम लोग मान लो कि कोई बंदा बीमार है और उसके पास पैसों की कमी है वह डॉक्टर के पास जाएगा तो डॉक्टर भी उसको नहीं देखा फिर अगर हमें एग्जाम के लिए जाना है मेरे पास पैसे नहीं है तो मेरे पास पैसे नहीं है पैसे के बगैर जा रहा फूलगोभी हमें गाड़ी पर जाने नहीं देगा तो पैसे ही ऐसी चीज हो चुकी है जिस के बगेर बोला जाए तो जिंदगी बहुत अधूरी सी हो गई है लेकिन क्या है कि पैसे कम है या ज्यादा की बात आई तो अपनाओ तो हम पर डिपेंड करता है कि हम कैसे रहते हैं और पैसे कैसे इस्तेमाल करते हैं अपना जिंदगी कैसे हो आप ने कितने पैसे के साथ हम लोग खुश रह सकते हैं अपना जिंदगी कैसे गुजार सकते हैं वह हम पर डिपेंड करता है अब पैसे तो सबके पास होते ही है कुछ ना कुछ किसी के पास कम किसी के पास ज्यादा होते हैं किसी इंसान के पास कम पैसे है उसमें भी हो खुश रहता है किसी इंसान के पास बहुत ज्यादा पैसे फिर भी डिसाइड नहीं रहता और पैसे और कैसे बोलता है तो पैसे इंपॉर्टेंट है हम सब के लिए चाहिए लेकिन यह भी बात तो जरूरत है कि हम पैसे को इस्तेमाल कैसे करते हैं और कैसे खुश रहना पसंद करते हैं तो पैसे इंपॉर्टेंट है यह बात तो हम मानते हैं
Romanized Version
अभी के टाइम के हिसाब से अभी के दुनिया जो भी चल रही है तो इस दुनिया में क्या है कि पैसे एक बहुत ही इंपॉर्टेंट चीज हो चुकी है क्योंकि पैसे के बगैर हम लोग कुछ नहीं कर सकते अगर घर से निकलते हैं हमें कहीं जाने के लिए कोई सवारी साधारण का इस्तेमाल करना होता है हर जगह पर कहीं भी जाओ आपको कुछ खाने के लिए पीने के लिए कुछ चाहिए अगर आपको कुछ दवा भी लेना चाहते हो या फिर आप पढ़ाई भी करना चाहते हो हर जगह हर कही पर आपको पैसा चाहिए होता है क्योंकि अब पैसे के बगैर कुछ नहीं कर सकते हम लोग मान लो कि कोई बंदा बीमार है और उसके पास पैसों की कमी है वह डॉक्टर के पास जाएगा तो डॉक्टर भी उसको नहीं देखा फिर अगर हमें एग्जाम के लिए जाना है मेरे पास पैसे नहीं है तो मेरे पास पैसे नहीं है पैसे के बगैर जा रहा फूलगोभी हमें गाड़ी पर जाने नहीं देगा तो पैसे ही ऐसी चीज हो चुकी है जिस के बगेर बोला जाए तो जिंदगी बहुत अधूरी सी हो गई है लेकिन क्या है कि पैसे कम है या ज्यादा की बात आई तो अपनाओ तो हम पर डिपेंड करता है कि हम कैसे रहते हैं और पैसे कैसे इस्तेमाल करते हैं अपना जिंदगी कैसे हो आप ने कितने पैसे के साथ हम लोग खुश रह सकते हैं अपना जिंदगी कैसे गुजार सकते हैं वह हम पर डिपेंड करता है अब पैसे तो सबके पास होते ही है कुछ ना कुछ किसी के पास कम किसी के पास ज्यादा होते हैं किसी इंसान के पास कम पैसे है उसमें भी हो खुश रहता है किसी इंसान के पास बहुत ज्यादा पैसे फिर भी डिसाइड नहीं रहता और पैसे और कैसे बोलता है तो पैसे इंपॉर्टेंट है हम सब के लिए चाहिए लेकिन यह भी बात तो जरूरत है कि हम पैसे को इस्तेमाल कैसे करते हैं और कैसे खुश रहना पसंद करते हैं तो पैसे इंपॉर्टेंट है यह बात तो हम मानते हैंAbhi Ke Time Ke Hisab Se Abhi Ke Duniya Jo Bhi Chal Rahi Hai To Is Duniya Mein Kya Hai Ki Paise Ek Bahut Hi Important Cheez Ho Chuki Hai Kyonki Paise Ke Bagair Hum Log Kuch Nahi Kar Sakte Agar Ghar Se Nikalte Hain Hume Kahin Jaane Ke Liye Koi Sawaari Sadhaaran Ka Istemal Karna Hota Hai Har Jagah Par Kahin Bhi Jao Aapko Kuch Khane Ke Liye Peene Ke Liye Kuch Chahiye Agar Aapko Kuch Dawa Bhi Lena Chahte Ho Ya Phir Aap Padhai Bhi Karna Chahte Ho Har Jagah Har Kahi Par Aapko Paisa Chahiye Hota Hai Kyonki Ab Paise Ke Bagair Kuch Nahi Kar Sakte Hum Log Maan Lo Ki Koi Banda Bimar Hai Aur Uske Paas Paison Ki Kami Hai Wah Doctor Ke Paas Jayega To Doctor Bhi Usko Nahi Dekha Phir Agar Hume Exam Ke Liye Jana Hai Mere Paas Paise Nahi Hai To Mere Paas Paise Nahi Hai Paise Ke Bagair Ja Raha Fulgobhi Hume Gaadi Par Jaane Nahi Dega To Paise Hi Aisi Cheez Ho Chuki Hai Jis Ke Bager Bola Jaye To Zindagi Bahut Adhuri Si Ho Gayi Hai Lekin Kya Hai Ki Paise Kum Hai Ya Jyada Ki Baat Eye To Apanao To Hum Par Depend Karta Hai Ki Hum Kaise Rehte Hain Aur Paise Kaise Istemal Karte Hain Apna Zindagi Kaise Ho Aap Ne Kitne Paise Ke Saath Hum Log Khush Rah Sakte Hain Apna Zindagi Kaise Gujar Sakte Hain Wah Hum Par Depend Karta Hai Ab Paise To Sabke Paas Hote Hi Hai Kuch Na Kuch Kisi Ke Paas Kum Kisi Ke Paas Jyada Hote Hain Kisi Insaan Ke Paas Kum Paise Hai Usamen Bhi Ho Khush Rehta Hai Kisi Insaan Ke Paas Bahut Jyada Paise Phir Bhi Decide Nahi Rehta Aur Paise Aur Kaise Bolta Hai To Paise Important Hai Hum Sab Ke Liye Chahiye Lekin Yeh Bhi Baat To Zaroorat Hai Ki Hum Paise Ko Istemal Kaise Karte Hain Aur Kaise Khush Rehna Pasand Karte Hain To Paise Important Hai Yeh Baat To Hum Manate Hain
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल के लोगों का सेल्फ सोना ऐसी बात को दर्शाता है कि हर कोई लोग अपनी आवश्यकता की पूर्ति करना चाहता हर कोई फेमस होना चाहता है तो उसके लिए मैं कुछ ना कुछ दूसरों की ना सोच कर अपने कार्य में लगा रहता है तो या नहीं है वह खुद की जरूरतों और आवश्यकताओं के लिए बाय इतना सेल्फिश हो गया है
Romanized Version
आजकल के लोगों का सेल्फ सोना ऐसी बात को दर्शाता है कि हर कोई लोग अपनी आवश्यकता की पूर्ति करना चाहता हर कोई फेमस होना चाहता है तो उसके लिए मैं कुछ ना कुछ दूसरों की ना सोच कर अपने कार्य में लगा रहता है तो या नहीं है वह खुद की जरूरतों और आवश्यकताओं के लिए बाय इतना सेल्फिश हो गया हैAajkal Ke Logon Ka Self Sona Aisi Baat Ko Darshaata Hai Ki Har Koi Log Apni Avashyakta Ki Purti Karna Chahta Har Koi Famous Hona Chahta Hai To Uske Liye Main Kuch Na Kuch Dusron Ki Na Soch Kar Apne Karya Mein Laga Rehta Hai To Ya Nahi Hai Wah Khud Ki Jaruraton Aur Avashayaktao Ke Liye By Itna Selfish Ho Gaya Hai
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पूछा मानव अंग में उड़िया का उत्पन्न होती है तो आपको बता चाहता हूं जो मानव अंग में जो एक्साइटमेंट उत्पन्न होती है वह उनके प्राइवेट पार्ट में होती है तुझे बॉडी के प्राइवेट पार्ट बनाए जाते हैं उसमें एक्साइटमेंट बेसिकली उत्पन्न होती है
Romanized Version
आपका पूछा मानव अंग में उड़िया का उत्पन्न होती है तो आपको बता चाहता हूं जो मानव अंग में जो एक्साइटमेंट उत्पन्न होती है वह उनके प्राइवेट पार्ट में होती है तुझे बॉडी के प्राइवेट पार्ट बनाए जाते हैं उसमें एक्साइटमेंट बेसिकली उत्पन्न होती हैAapka Pucha Manav Amg Mein Udiya Ka Utpanna Hoti Hai To Aapko Bata Chahta Hoon Joe Manav Amg Mein Joe Excitement Utpanna Hoti Hai Wah Unke PVT Part Mein Hoti Hai Tujhe Body K PVT Part Banae Jaate Hain Usme Excitement Basically Utpanna Hoti Hai
Likes  7  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब भारत में समलैंगिकता को अपराध इसलिए मानते हैं क्योंकि अभी तक स्कोर भारत में लीगल आई नहीं करा गया है या नीस को एक मान्यता नहीं दी गई है लोगों को अलाउड नहीं है कि वह चीज करें क्योंकि अब भारत के कल्चर के हिसाब से इस चीज को सही नहीं बताया गया है इसीलिए इस पर किसी तरह क्या गली गली गली नहीं किया गया इस को मान्यता भी नहीं मिली है अभी तक तो इसीलिए आज अगर कोई ऐसा इंसान देखता है कि इस तरह के लोगों को तो वह हमको पसंद नहीं करते हो कहीं ना कहीं से उनको सुसायटी की तरफ से एक तरह से यह सम्मान विभाग जिला पड़ता है ऐसे लोगों को क्योंकि भारत में स्थित चीज को एक अपराध खुद ही बना लिया गया है और गवर्नमेंट और एडमिनिस्ट्रेशन ने कुछ भी इसके बारे में नहीं है परंतु लोगों और सोसाइटी ने आशीष को अपराध मान के स्कोर अपराध बना लिया है और इसको अपराध की तरह ट्रीट करते हैं तो जो लोग समलैंगिता लैंगिक कथा में होते हैं समाज बहुत अलग तरह से देखता है और उनको अलग तरह से ट्रीट करता है लोगों से अपना रिश्ता तोड़ लेते हैं बात तक नहीं करना पसंद करते तो ऐसा नहीं है कि भारत में से अपराध मानते हैं परंतु अभी से नहीं किया गया है इस वजह से लोग इस अपराध की तरह ही लेते हैं और हमारे कल्चर के भी खिलाफ कुछ लोग कहते हैं कि हमारे कल्चर के खिलाफ है इंडियन कल्चर में यह सब नहीं है निवेदन है इसी वजह से कुछ लोग उसका अपराध मानते हैं लेकिन भारत में ऐसा नहीं है इसको सिर्फ लिखना ही नहीं किया गया इसका मतलब यह नहीं है कि अपराध है
Romanized Version
अब भारत में समलैंगिकता को अपराध इसलिए मानते हैं क्योंकि अभी तक स्कोर भारत में लीगल आई नहीं करा गया है या नीस को एक मान्यता नहीं दी गई है लोगों को अलाउड नहीं है कि वह चीज करें क्योंकि अब भारत के कल्चर के हिसाब से इस चीज को सही नहीं बताया गया है इसीलिए इस पर किसी तरह क्या गली गली गली नहीं किया गया इस को मान्यता भी नहीं मिली है अभी तक तो इसीलिए आज अगर कोई ऐसा इंसान देखता है कि इस तरह के लोगों को तो वह हमको पसंद नहीं करते हो कहीं ना कहीं से उनको सुसायटी की तरफ से एक तरह से यह सम्मान विभाग जिला पड़ता है ऐसे लोगों को क्योंकि भारत में स्थित चीज को एक अपराध खुद ही बना लिया गया है और गवर्नमेंट और एडमिनिस्ट्रेशन ने कुछ भी इसके बारे में नहीं है परंतु लोगों और सोसाइटी ने आशीष को अपराध मान के स्कोर अपराध बना लिया है और इसको अपराध की तरह ट्रीट करते हैं तो जो लोग समलैंगिता लैंगिक कथा में होते हैं समाज बहुत अलग तरह से देखता है और उनको अलग तरह से ट्रीट करता है लोगों से अपना रिश्ता तोड़ लेते हैं बात तक नहीं करना पसंद करते तो ऐसा नहीं है कि भारत में से अपराध मानते हैं परंतु अभी से नहीं किया गया है इस वजह से लोग इस अपराध की तरह ही लेते हैं और हमारे कल्चर के भी खिलाफ कुछ लोग कहते हैं कि हमारे कल्चर के खिलाफ है इंडियन कल्चर में यह सब नहीं है निवेदन है इसी वजह से कुछ लोग उसका अपराध मानते हैं लेकिन भारत में ऐसा नहीं है इसको सिर्फ लिखना ही नहीं किया गया इसका मतलब यह नहीं है कि अपराध हैAb Bharat Mein Samlaingikta Ko Apradh Isliye Manate Hain Kyonki Abhi Tak Score Bharat Mein Legal Eye Nahi Kra Gaya Hai Ya Niece Ko Ek Manyata Nahi Di Gayi Hai Logon Ko Allowed Nahi Hai Ki Wah Cheez Karen Kyonki Ab Bharat Ke Culture Ke Hisab Se Is Cheez Ko Sahi Nahi Bataya Gaya Hai Isliye Is Par Kisi Tarah Kya Gali Gali Gali Nahi Kiya Gaya Is Ko Manyata Bhi Nahi Mili Hai Abhi Tak To Isliye Aaj Agar Koi Aisa Insaan Dekhta Hai Ki Is Tarah Ke Logon Ko To Wah Hamko Pasand Nahi Karte Ho Kahin Na Kahin Se Unko Susayati Ki Taraf Se Ek Tarah Se Yeh Samman Vibhag Jila Padata Hai Aise Logon Ko Kyonki Bharat Mein Sthit Cheez Ko Ek Apradh Khud Hi Bana Liya Gaya Hai Aur Government Aur Administration Ne Kuch Bhi Iske Baare Mein Nahi Hai Parantu Logon Aur Society Ne Aashish Ko Apradh Maan Ke Score Apradh Bana Liya Hai Aur Isko Apradh Ki Tarah Treat Karte Hain To Jo Log Samalaingita Laingik Katha Mein Hote Hain Samaaj Bahut Alag Tarah Se Dekhta Hai Aur Unko Alag Tarah Se Treat Karta Hai Logon Se Apna Rishta Tod Lete Hain Baat Tak Nahi Karna Pasand Karte To Aisa Nahi Hai Ki Bharat Mein Se Apradh Manate Hain Parantu Abhi Se Nahi Kiya Gaya Hai Is Wajah Se Log Is Apradh Ki Tarah Hi Lete Hain Aur Hamare Culture Ke Bhi Khilaf Kuch Log Kehte Hain Ki Hamare Culture Ke Khilaf Hai Indian Culture Mein Yeh Sab Nahi Hai Nivedan Hai Isi Wajah Se Kuch Log Uska Apradh Manate Hain Lekin Bharat Mein Aisa Nahi Hai Isko Sirf Likhna Hi Nahi Kiya Gaya Iska Matlab Yeh Nahi Hai Ki Apradh Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी हमारा शरीर हमारी बॉडी ऐसे एक मशीन की तरह जिस तरह मशीन को चलाने के लिए हमें उसमें ऊर्जा की आवश्यकता पड़ती है जिस तरह किसी मशीन को चलाने के लिए उसमें पेट्रोल फ्यूल वगैरा हम डालते हैं तो उसी तरह हमारा शरीर भी हमारे शरीर भी एक इंजन की तरह है जो कि हमें खींचता है तो इस तरह इस इंजन को भी काम करने के लिए हमारी बॉडी को भी काम करने के लिए ऊर्जा की आवश्यकता होती है वह ऊर्जा कहां से आएगी बोर्ड जब भोजन से आएगी तो इसी कारण हम लोग को भोजन करना अत्यंत आवश्यक है गर्म भोजन नहीं करेंगे तो हमारे शरीर को पोषक तत्व उर्जा विटामिंस वगैरह नहीं मिलेंगे और हमारा शरीर सुचारु रुप से काम नहीं कर पाएगा इसीलिए हमारे शरीर में ऊर्जा की आवश्यकता को पूर्ण करने हेतु हमें भोजन की अति आवश्यकता होती है
Romanized Version
विकी हमारा शरीर हमारी बॉडी ऐसे एक मशीन की तरह जिस तरह मशीन को चलाने के लिए हमें उसमें ऊर्जा की आवश्यकता पड़ती है जिस तरह किसी मशीन को चलाने के लिए उसमें पेट्रोल फ्यूल वगैरा हम डालते हैं तो उसी तरह हमारा शरीर भी हमारे शरीर भी एक इंजन की तरह है जो कि हमें खींचता है तो इस तरह इस इंजन को भी काम करने के लिए हमारी बॉडी को भी काम करने के लिए ऊर्जा की आवश्यकता होती है वह ऊर्जा कहां से आएगी बोर्ड जब भोजन से आएगी तो इसी कारण हम लोग को भोजन करना अत्यंत आवश्यक है गर्म भोजन नहीं करेंगे तो हमारे शरीर को पोषक तत्व उर्जा विटामिंस वगैरह नहीं मिलेंगे और हमारा शरीर सुचारु रुप से काम नहीं कर पाएगा इसीलिए हमारे शरीर में ऊर्जा की आवश्यकता को पूर्ण करने हेतु हमें भोजन की अति आवश्यकता होती हैVikee Hamara Sharir Hamari Body Aise Ek Machine Ki Tarah Jis Tarah Machine Ko Chalane Ke Liye Hume Usamen Urja Ki Avashyakta Padhti Hai Jis Tarah Kisi Machine Ko Chalane Ke Liye Usamen Petrol Fuel Vagaira Hum Daalte Hain To Ussi Tarah Hamara Sharir Bhi Hamare Sharir Bhi Ek Engine Ki Tarah Hai Jo Ki Hume Khinchata Hai To Is Tarah Is Engine Ko Bhi Kaam Karne Ke Liye Hamari Body Ko Bhi Kaam Karne Ke Liye Urja Ki Avashyakta Hoti Hai Wah Urja Kahan Se Aayegi Board Jab Bhojan Se Aayegi To Isi Kaaran Hum Log Ko Bhojan Karna Atyant Aavashyak Hai Garam Bhojan Nahi Karenge To Hamare Sharir Ko Poshak Tatva Urja Vitamins Vagairah Nahi Milenge Aur Hamara Sharir Sucharu Roop Se Kaam Nahi Kar Payega Isliye Hamare Sharir Mein Urja Ki Avashyakta Ko Poorn Karne Hetu Hume Bhojan Ki Ati Avashyakta Hoti Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon
मानव शरीर एक इंसान की पूरी संरचना है। यह कई अलग-अलग प्रकार की कोशिकाओं से बना है जो एक साथ ऊतक बनाते हैं और बाद में अंग प्रणाली बनाते हैं। वे होमियोस्टेसिस और मानव शरीर की व्यवहार्यता सुनिश्चित करते हैं !
Romanized Version
मानव शरीर एक इंसान की पूरी संरचना है। यह कई अलग-अलग प्रकार की कोशिकाओं से बना है जो एक साथ ऊतक बनाते हैं और बाद में अंग प्रणाली बनाते हैं। वे होमियोस्टेसिस और मानव शरीर की व्यवहार्यता सुनिश्चित करते हैं !Manav Sharir Ek Insaan Ki Poori Sarchana Hai Yeh Kai Eluga Eluga Prakar Ki Koshikaaon Se Banna Hai Joe Ek Sathe Utka Banaate Hain Aur Baad Mein Amg Pranali Banaate Hain Whey Homiyostesis Aur Manav Sharir Ki Vyavaharyata Sunishchit Karte Hain !
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दुखी इंसान का सबसे बड़ा कमजोरी तू सबसे बड़ा कमजोरी तो यही है कि जिससे वह बहुत ज्यादा प्यार करता हूं प्यार करने का मतलब चाहिए वह पैसा भी हो सकता है वह आदमी भी हो सकता है वह कुछ भी हो सकता है जिससे वह बहुत ज्यादा प्यार करता है जिसके जिसके वजह से वह वह कुछ भी कर सकता है अगर वह उसको नहीं मिला तो वह कुछ भी कर सकता है पैसा वाला जो होता है वह कमजोरी होता है इंसान का वह नशा भी हो सकता है जब इंसान को नशा नहीं मिले तो उसके लिए वह कुछ भी कर सकता है वह भी उसका एक कमजोरी हो सकता है
Romanized Version
दुखी इंसान का सबसे बड़ा कमजोरी तू सबसे बड़ा कमजोरी तो यही है कि जिससे वह बहुत ज्यादा प्यार करता हूं प्यार करने का मतलब चाहिए वह पैसा भी हो सकता है वह आदमी भी हो सकता है वह कुछ भी हो सकता है जिससे वह बहुत ज्यादा प्यार करता है जिसके जिसके वजह से वह वह कुछ भी कर सकता है अगर वह उसको नहीं मिला तो वह कुछ भी कर सकता है पैसा वाला जो होता है वह कमजोरी होता है इंसान का वह नशा भी हो सकता है जब इंसान को नशा नहीं मिले तो उसके लिए वह कुछ भी कर सकता है वह भी उसका एक कमजोरी हो सकता हैDukhi Insaan Ka Sabse Bada Kamjori Tu Sabse Bada Kamjori To Yahi Hai Ki Jisse Wah Bahut Jyada Pyar Karta Hoon Pyar Karne Ka Matlab Chahiye Wah Paisa Bhi Ho Sakta Hai Wah Aadmi Bhi Ho Sakta Hai Wah Kuch Bhi Ho Sakta Hai Jisse Wah Bahut Jyada Pyar Karta Hai Jiske Jiske Wajah Se Wah Wah Kuch Bhi Kar Sakta Hai Agar Wah Usko Nahi Mila To Wah Kuch Bhi Kar Sakta Hai Paisa Wala Jo Hota Hai Wah Kamjori Hota Hai Insaan Ka Wah Nasha Bhi Ho Sakta Hai Jab Insaan Ko Nasha Nahi Mile To Uske Liye Wah Kuch Bhi Kar Sakta Hai Wah Bhi Uska Ek Kamjori Ho Sakta Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आदमी को पैर इसलिए होते हैं कि वह चल पर बैलेंस बनाकर बनाकर चलता हकीकत कोई नहीं चल सकता या तो 365 विचार हो सकते थे लेकिन जो इंसान है वह दुपहर नहीं हुआ फिर से दोपहर हुए पहले पूछा तारों से चला करता था धीरे-धीरे दूसरे चलने लगा दो बात बन गई
Romanized Version
क्या आदमी को पैर इसलिए होते हैं कि वह चल पर बैलेंस बनाकर बनाकर चलता हकीकत कोई नहीं चल सकता या तो 365 विचार हो सकते थे लेकिन जो इंसान है वह दुपहर नहीं हुआ फिर से दोपहर हुए पहले पूछा तारों से चला करता था धीरे-धीरे दूसरे चलने लगा दो बात बन गईKya Aadmi Ko Pair Isliye Hote Hain Ki Wah Chal Par Balance Banakar Banakar Chalta Haqiqat Koi Nahi Chal Sakta Ya To 365 Vichar Ho Sakte The Lekin Jo Insaan Hai Wah Dupahar Nahi Hua Phir Se Dopahar Huye Pehle Poocha Taaron Se Chala Karta Tha Dhire Dhire Dusre Chalne Laga Do Baat Ban Gayi
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जहां तक मैंने सुना है और एक्सपीरियंस किया है जो शरीर में दाद होती है अचानक से वह होली होती है मिली जब हम लोग को कोई गिला कपड़ा पहनते हैं और सबसे बड़ी चीज जब हम गंदे कपड़े पहनते हैं जब भी कोई ऐसा कोई सबसे गंदा सबसे जब हमारे बॉडी में स्क्रीन पर अट्रैक्ट हो जाता है तो हमारी बॉडी कॉन्ट्रैक्ट होती रहती है जिसकी वजह से हमें मीटिंग होती है और रेड स्पोर्ट्स पर जाते हैं जिसको बोलते डर्मेटाइटिस तो मुझे ऐसा लगता है और मैं आपको यही सजेस्ट करूंगा कि आप सबसे पहले तो गीले कपड़े पहनना दूर करें क्योंकि एक रीजन होता है और दो ही चीज है कि आप साफ कपड़े पहने ताकि कोई एलर्जी आपको नहीं हो और जो टॉक्सिक सत्संग सोते हैं वह आपकी बॉडी से दूर रहें और जब भी आप पोस्ट करते हैं और नहाते हैं तो आप अच्छे से लाइए और अच्छे से क्लीन करिए अपनी बॉडी को और कोई भी चीज केमिकल वाली चीज ज्यादा ना लगाए अपने बॉडी पर
Romanized Version
देखिए जहां तक मैंने सुना है और एक्सपीरियंस किया है जो शरीर में दाद होती है अचानक से वह होली होती है मिली जब हम लोग को कोई गिला कपड़ा पहनते हैं और सबसे बड़ी चीज जब हम गंदे कपड़े पहनते हैं जब भी कोई ऐसा कोई सबसे गंदा सबसे जब हमारे बॉडी में स्क्रीन पर अट्रैक्ट हो जाता है तो हमारी बॉडी कॉन्ट्रैक्ट होती रहती है जिसकी वजह से हमें मीटिंग होती है और रेड स्पोर्ट्स पर जाते हैं जिसको बोलते डर्मेटाइटिस तो मुझे ऐसा लगता है और मैं आपको यही सजेस्ट करूंगा कि आप सबसे पहले तो गीले कपड़े पहनना दूर करें क्योंकि एक रीजन होता है और दो ही चीज है कि आप साफ कपड़े पहने ताकि कोई एलर्जी आपको नहीं हो और जो टॉक्सिक सत्संग सोते हैं वह आपकी बॉडी से दूर रहें और जब भी आप पोस्ट करते हैं और नहाते हैं तो आप अच्छे से लाइए और अच्छे से क्लीन करिए अपनी बॉडी को और कोई भी चीज केमिकल वाली चीज ज्यादा ना लगाए अपने बॉडी परDekhie Jahan Tak Maine Suna Hai Aur Experience Kiya Hai Jo Sharir Mein Dad Hoti Hai Achanak Se Wah Holi Hoti Hai Mili Jab Hum Log Ko Koi Gila Kapda Pehente Hain Aur Sabse Badi Cheez Jab Hum Gande Kapde Pehente Hain Jab Bhi Koi Aisa Koi Sabse Ganda Sabse Jab Hamare Body Mein Screen Par Attract Ho Jata Hai To Hamari Body Contracts Hoti Rehti Hai Jiski Wajah Se Hume Meeting Hoti Hai Aur Red Sports Par Jaate Hain Jisko Bolte Darmetaitis To Mujhe Aisa Lagta Hai Aur Main Aapko Yahi Suggest Karunga Ki Aap Sabse Pehle To Gile Kapde Pahanna Dur Karen Kyonki Ek Reason Hota Hai Aur Do Hi Cheez Hai Ki Aap Saaf Kapde Pahane Taki Koi Allergy Aapko Nahi Ho Aur Jo Toxic Satsang Sote Hain Wah Aapki Body Se Dur Rahen Aur Jab Bhi Aap Post Karte Hain Aur Nahate Hain To Aap Acche Se Laiye Aur Acche Se Clean Kariye Apni Body Ko Aur Koi Bhi Cheez Chemical Wali Cheez Jyada Na Lagaye Apne Body Par
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन एक परमात्मा के द्वारा दिया गया उपहार है परमात्मा ने जो आपको दिया है वाह बहुत ही कम लोगों को मिलता है पृथ्वी पर 8400000 योनियों में से मनुष्य की योन ही सबसे श्रेष्ठ है आप इस फोन का दुरुपयोग मत कीजिए आप इस मनुष्य के शरीर का दुरुपयोग मत कीजिए जो यह आपको शरीर मिला है इसका प्रयोग सार्थकता के लिए के लिए एक दूसरे के प्रति सद्भावना का भाव जागृत कीजिए किसी के फ्रॉक किसी एक दूसरे के ऊपर आरोप मत होती किसी से झगड़ा मत कीजिए और अपने जीवन को सादा जीवन उच्च विचार के नजरिए से देखिए और इस राष्ट्र को और ऊपर तक ले जाने में आप क्या कर सकते हैं इस चीज पर चिंतन कीजिए क्योंकि अगर जो आपके द्वारा कोई अच्छे कार्य किए गए कोई अच्छे कार्य से इस देश का उत्थान हो सकता है तो आप ही वह मनुष्य है जो इस देश को ऊंचाइयों के शिखर तक ले जा सकते हैं तो आपको अपने जीवन में प्रतिदिन चाय हारे या जीते चुनौतियां चुनौतियां लेनी पड़ेगी और उन चुनौतियों का डटकर सामना भी करना पड़ेगा
जीवन एक परमात्मा के द्वारा दिया गया उपहार है परमात्मा ने जो आपको दिया है वाह बहुत ही कम लोगों को मिलता है पृथ्वी पर 8400000 योनियों में से मनुष्य की योन ही सबसे श्रेष्ठ है आप इस फोन का दुरुपयोग मत कीजिए आप इस मनुष्य के शरीर का दुरुपयोग मत कीजिए जो यह आपको शरीर मिला है इसका प्रयोग सार्थकता के लिए के लिए एक दूसरे के प्रति सद्भावना का भाव जागृत कीजिए किसी के फ्रॉक किसी एक दूसरे के ऊपर आरोप मत होती किसी से झगड़ा मत कीजिए और अपने जीवन को सादा जीवन उच्च विचार के नजरिए से देखिए और इस राष्ट्र को और ऊपर तक ले जाने में आप क्या कर सकते हैं इस चीज पर चिंतन कीजिए क्योंकि अगर जो आपके द्वारा कोई अच्छे कार्य किए गए कोई अच्छे कार्य से इस देश का उत्थान हो सकता है तो आप ही वह मनुष्य है जो इस देश को ऊंचाइयों के शिखर तक ले जा सकते हैं तो आपको अपने जीवन में प्रतिदिन चाय हारे या जीते चुनौतियां चुनौतियां लेनी पड़ेगी और उन चुनौतियों का डटकर सामना भी करना पड़ेगा
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी जो इंसान के हाथ कहना तो व्यक्ति है ना जो टिक पाया वह बहुत ऊंचाइयों को छू जाए तो व्यक्ति बस ज्यादा खुश हो जाता है और अच्छे समय तभी होता है जब हमारी स्थिति ना हमारे अनुकूल है नीचे काम कर रहे हैं वैसा ही तुम्हारे अकॉर्डिंग टू वह समय है ना वह बहुत है
Romanized Version
देखी जो इंसान के हाथ कहना तो व्यक्ति है ना जो टिक पाया वह बहुत ऊंचाइयों को छू जाए तो व्यक्ति बस ज्यादा खुश हो जाता है और अच्छे समय तभी होता है जब हमारी स्थिति ना हमारे अनुकूल है नीचे काम कर रहे हैं वैसा ही तुम्हारे अकॉर्डिंग टू वह समय है ना वह बहुत हैDekhi Jo Insaan Ke Hath Kehna To Vyakti Hai Na Jo Tick Paya Wah Bahut Unchaiyon Ko Chu Jaye To Vyakti Bus Jyada Khush Ho Jata Hai Aur Acche Samay Tabhi Hota Hai Jab Hamari Sthiti Na Hamare Anukul Hai Neeche Kaam Kar Rahe Hain Waisa Hi Tumhare According To Wah Samay Hai Na Wah Bahut Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपकी सवाल की सराहना करती हूं आपने बहुत ही सुंदर सवाल पूछा है कि अगर हम धरती पर मनुष्य के रूप में आए हैं तो हमारे जीवन का क्या उद्देश्य होना चाहिए जैसा कि हम सब जानते हैं कि मनुष्य सभी प्राणियों में सबसे ज्यादा ताकतवर दिमाग के हिसाब से और उसके पास सबसे ज्यादा कैपेसिटीज है काम करने की तौफीक मनुष्य की जिम्मेदारियों की सबसे ज्यादा होती है और एक बात कि हर मनुष्य एक दूसरे से अलग है तो उसी तरह उसके जीवन का उद्देश्य भी सब का अलग अलग होता है शाहरुख के अंदर एक कॉमन बात यह होती है कि जब हमारे पास इतनी ताकत है सोचने की समझने की और हम जो चाहे उसको रियालिटी में लाने की तो हमारे काम में जो हमारे जीवन का उद्देश्य है उसमें कुछ बातों का होना जरूरी है कि उसने सारी जनजाति जीव जंतु पर्यावरण सब का कुछ ना कुछ फायदा जरूर होना चाहिए हमारा काम है जगह सफाई और सुंदरता बनाना और हम सिर्फ अपने लिए ना जी हम अपने जीवन को दूसरों के लिए भी यूज़फुल बनाए तो यह मेरा मानना है इस तरीके से आप सोचेंगे तो आपको भी अपने जीवन का उद्देश्य मिलेगा लेकिन आपके जीवन का उद्देश्य सिर्फ आपको पता हो सकता है और उसको अगर आप इस तरीके से सोचते रहोगे तो धीरे-धीरे थोड़े दिन में आपको पता चल जाएगा एक समय ऐसा था मुझे भी पता नहीं था जब मैंने पहली बार इस बात के बारे में सोचा तो मुझे ऐसा लगा मैं तो एक नॉर्मल सी हाउसवाइफ हूं मेरे जीवन का भला क्या उद्देश्य हो सकता है लेकिन मुझे काफी टाइम लगा चीज को समझने में और जानने में लेकिन आज मुझे अच्छे से पता है कि मुझे मेरे जीवन का उद्देश्य क्या है और इस बात से मैं बहुत खुश हूं
मैं आपकी सवाल की सराहना करती हूं आपने बहुत ही सुंदर सवाल पूछा है कि अगर हम धरती पर मनुष्य के रूप में आए हैं तो हमारे जीवन का क्या उद्देश्य होना चाहिए जैसा कि हम सब जानते हैं कि मनुष्य सभी प्राणियों में सबसे ज्यादा ताकतवर दिमाग के हिसाब से और उसके पास सबसे ज्यादा कैपेसिटीज है काम करने की तौफीक मनुष्य की जिम्मेदारियों की सबसे ज्यादा होती है और एक बात कि हर मनुष्य एक दूसरे से अलग है तो उसी तरह उसके जीवन का उद्देश्य भी सब का अलग अलग होता है शाहरुख के अंदर एक कॉमन बात यह होती है कि जब हमारे पास इतनी ताकत है सोचने की समझने की और हम जो चाहे उसको रियालिटी में लाने की तो हमारे काम में जो हमारे जीवन का उद्देश्य है उसमें कुछ बातों का होना जरूरी है कि उसने सारी जनजाति जीव जंतु पर्यावरण सब का कुछ ना कुछ फायदा जरूर होना चाहिए हमारा काम है जगह सफाई और सुंदरता बनाना और हम सिर्फ अपने लिए ना जी हम अपने जीवन को दूसरों के लिए भी यूज़फुल बनाए तो यह मेरा मानना है इस तरीके से आप सोचेंगे तो आपको भी अपने जीवन का उद्देश्य मिलेगा लेकिन आपके जीवन का उद्देश्य सिर्फ आपको पता हो सकता है और उसको अगर आप इस तरीके से सोचते रहोगे तो धीरे-धीरे थोड़े दिन में आपको पता चल जाएगा एक समय ऐसा था मुझे भी पता नहीं था जब मैंने पहली बार इस बात के बारे में सोचा तो मुझे ऐसा लगा मैं तो एक नॉर्मल सी हाउसवाइफ हूं मेरे जीवन का भला क्या उद्देश्य हो सकता है लेकिन मुझे काफी टाइम लगा चीज को समझने में और जानने में लेकिन आज मुझे अच्छे से पता है कि मुझे मेरे जीवन का उद्देश्य क्या है और इस बात से मैं बहुत खुश हूं
Likes  63  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्योंकि मनुष्य असत्य से भरा हुआ है जिससे मनुष्य जन्म से मोह माया के चम्मच से मुक्त नहीं हो सकता जिसमें इस जहां बाहर की दुनिया मायाजाल से भरी हुई है जिसने इस जहां में बड़ा होता जाता है तब आदमी का मांस उसे असत्य से भरा हुआ रहता है इसलिए मनुष्य आवश्यकता कभी पूरी नहीं इसका सलूशन यही है कि समाधान इससे इंसान रहे तो अच्छा होता है
Romanized Version
क्योंकि मनुष्य असत्य से भरा हुआ है जिससे मनुष्य जन्म से मोह माया के चम्मच से मुक्त नहीं हो सकता जिसमें इस जहां बाहर की दुनिया मायाजाल से भरी हुई है जिसने इस जहां में बड़ा होता जाता है तब आदमी का मांस उसे असत्य से भरा हुआ रहता है इसलिए मनुष्य आवश्यकता कभी पूरी नहीं इसका सलूशन यही है कि समाधान इससे इंसान रहे तो अच्छा होता हैKyonki Manusya Asatya Se Bharya Hua Hai Jisase Manusya Janm Se Moh Maya K Chammach Se Mukta Nahin Ho Sakta Jisamein Is Jhan Baahar Ki Duniya Mayajal Se Bhari Hue Hai Jisne Is Jhan Mein Bada Hota Jaata Hai Taba Aadmi Ka Mams Usse Asatya Se Bharya Hua Rehta Hai Eeslie Manusya Aavshyakata Kabhi Poori Nahin Iska Salushan Yahi Hai Qi Samadhan Issase Insaan Rahe To Accha Hota Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon
vokalandroid