tag_img

मानव आचरण

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए पढ़ने के लिए आप सही पैसा तभी ले पाएंगे जब आपको पता रहेगा कि आप किस विषय में इंट्रस्ट है या दिलचस्पी रखते हैं या रुचि रखते हैं तभी आप पढ़ने के लिए इंटरेस्टेड होंगे और सबसे बड़ी बात भी की पढ़ाई के लिए में सबसे बड़ी बात बोलना चाहूंगा आप पढ़ते क्यों हैं आप को ही समझना पड़ेगा उस पढ़ाई से क्या होगा अगर आप उसके आने वाले परिणाम को आज से जोड़ नहीं पाएंगे तो आपको पढ़ाई में कभी भी इंटरेस्ट नहीं आएगा एक 10 वीं कक्षा के जो भी विद्यार्थी को जो बोर्ड देता है उसे अगर हम ना समझाएं कि दसवीं कक्षा का परीक्षा दसवीं कक्षा के बोर्ड के एग्जाम उसके लिए क्यों इतनी इंपॉर्टेंट है क्यों इतना मायने रखती है तो शायद वह इतनी कड़ी मेहनत दिन रात ना करें लेकिन अंत में 10वीं परीक्षा कक्षा की मांग बहुत इंपोर्टेंट होती है इसी तरह आप कोई भी पढ़ाई करें किसी भी विषय में भी रुचि हो लेकिन इस विषय TV जब आप पढ़े हैं उस पढ़ाई और के बाद रुक गया उसका ज्ञान हासिल करने के बाद आपको उसका परिणाम क्या हासिल होता है उसे क्या क्या अच्छी बात आपको समझ नहीं होंगी तभी आप अच्छे से मन लगाकर दिल लगाकर पढ़ाई कर पाएंगे क्योंकि मनुष्य की एक सबसे बड़ी पद्धति है या फिर आप कह सकते हैं कि परंपरा है कि जब तक मुझसे परिणाम का पता नहीं रहता है वह करंट सिचुएशन में उस पर उतरा फोकस नहीं कर पाता है जब उसे पता रहेगा कि इतनी मेहनत के बाद उसे यह फल मिलेगा उस पल के अपेक्षा में बात कर लेता है कि शायद कभी कभी ऊपर उसे उससे अधिक भी मिल जाए धन्यवाद
Romanized Version
देखिए पढ़ने के लिए आप सही पैसा तभी ले पाएंगे जब आपको पता रहेगा कि आप किस विषय में इंट्रस्ट है या दिलचस्पी रखते हैं या रुचि रखते हैं तभी आप पढ़ने के लिए इंटरेस्टेड होंगे और सबसे बड़ी बात भी की पढ़ाई के लिए में सबसे बड़ी बात बोलना चाहूंगा आप पढ़ते क्यों हैं आप को ही समझना पड़ेगा उस पढ़ाई से क्या होगा अगर आप उसके आने वाले परिणाम को आज से जोड़ नहीं पाएंगे तो आपको पढ़ाई में कभी भी इंटरेस्ट नहीं आएगा एक 10 वीं कक्षा के जो भी विद्यार्थी को जो बोर्ड देता है उसे अगर हम ना समझाएं कि दसवीं कक्षा का परीक्षा दसवीं कक्षा के बोर्ड के एग्जाम उसके लिए क्यों इतनी इंपॉर्टेंट है क्यों इतना मायने रखती है तो शायद वह इतनी कड़ी मेहनत दिन रात ना करें लेकिन अंत में 10वीं परीक्षा कक्षा की मांग बहुत इंपोर्टेंट होती है इसी तरह आप कोई भी पढ़ाई करें किसी भी विषय में भी रुचि हो लेकिन इस विषय TV जब आप पढ़े हैं उस पढ़ाई और के बाद रुक गया उसका ज्ञान हासिल करने के बाद आपको उसका परिणाम क्या हासिल होता है उसे क्या क्या अच्छी बात आपको समझ नहीं होंगी तभी आप अच्छे से मन लगाकर दिल लगाकर पढ़ाई कर पाएंगे क्योंकि मनुष्य की एक सबसे बड़ी पद्धति है या फिर आप कह सकते हैं कि परंपरा है कि जब तक मुझसे परिणाम का पता नहीं रहता है वह करंट सिचुएशन में उस पर उतरा फोकस नहीं कर पाता है जब उसे पता रहेगा कि इतनी मेहनत के बाद उसे यह फल मिलेगा उस पल के अपेक्षा में बात कर लेता है कि शायद कभी कभी ऊपर उसे उससे अधिक भी मिल जाए धन्यवादDekhie Padhne Ke Liye Aap Sahi Paisa Tabhi Le Payenge Jab Aapko Pata Rahega Ki Aap Kis Vishay Mein Interest Hai Ya Dilchaspi Rakhate Hain Ya Ruchi Rakhate Hain Tabhi Aap Padhne Ke Liye Interested Honge Aur Sabse Badi Baat Bhi Ki Padhai Ke Liye Mein Sabse Badi Baat Bolna Chahunga Aap Padhte Kyon Hain Aap Ko Hi Samajhna Padega Us Padhai Se Kya Hoga Agar Aap Uske Aane Wali Parinam Ko Aaj Se Jod Nahi Payenge To Aapko Padhai Mein Kabhi Bhi Interest Nahi Aaega Ek 10 Vi Kaksha Ke Jo Bhi Vidyarthi Ko Jo Board Deta Hai Use Agar Hum Na Samjhayen Ki Dasavi Kaksha Ka Pariksha Dasavi Kaksha Ke Board Ke Exam Uske Liye Kyon Itni Important Hai Kyon Itna Maayne Rakhti Hai To Shayad Wah Itni Kadi Mehnat Din Raat Na Karen Lekin Ant Mein Vi Pariksha Kaksha Ki Maang Bahut Important Hoti Hai Isi Tarah Aap Koi Bhi Padhai Karen Kisi Bhi Vishay Mein Bhi Ruchi Ho Lekin Is Vishay TV Jab Aap Padhe Hain Us Padhai Aur Ke Baad Ruk Gaya Uska Gyaan Hasil Karne Ke Baad Aapko Uska Parinam Kya Hasil Hota Hai Use Kya Kya Acchi Baat Aapko Samajh Nahi Hongi Tabhi Aap Acche Se Man Lagakar Dil Lagakar Padhai Kar Payenge Kyonki Manushya Ki Ek Sabse Badi Paddhatee Hai Ya Phir Aap Keh Sakte Hain Ki Parampara Hai Ki Jab Tak Mujhse Parinam Ka Pata Nahi Rehta Hai Wah Current Situation Mein Us Par Utara Focus Nahi Kar Pata Hai Jab Use Pata Rahega Ki Itni Mehnat Ke Baad Use Yeh Fal Milega Us Pal Ke Apeksha Mein Baat Kar Leta Hai Ki Shayad Kabhi Kabhi Upar Use Usse Adhik Bhi Mil Jaye Dhanyavad
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिये, जब से २००० रुपये का नोट छपा है तब से लगभग यह क्लियर है कि यह नोट बंद हो जाएगा क्योंकि २००० रुपये का नोट गवर्नमेंट ने इशू इसलिए किया कम टाइम में कम नोट प्रिंट कर के ही ज्यादा मनी ज्यादा करेंसी सप्लाई की जा सके मार्केट में जब डिमोनेटाइजेशन एनाउंस किया गवर्नमेंट ने| जब गवर्मेंट का अल्टीमेटम यह है कि लोग कॅश को ब्लैक मनी में यूज़ ना करें तो हाई diनॉमिनेशन करेंसी जो होती है बड़े डीनोमिनेशन की करेंसी वह तो ब्लैक मनी में हेल्प करती हैं| तो तभी से यह क्लियर है कि २००० का नोट तो बंद होगा ही| इसलिए आरबीआई का जो डिसीजन है कि इसकी प्रिंटिंग रोक दे| ठीक है और फ्यूचर में हो सकता है आरबीआई और गवर्नमेंट ऑफ इंडिया २००० के नोट को सरकुलेशन से विथड्रॉ ही कर ले| क्योंकि अल्टीमेटम डिमोनेटाइजेशन का ब्लैक मनी रोकना है तो २००० का नोट कहीं भी ब्लैक मनी रोकने में हेल्प नहीं करता है लेकिन लोगों को एक्चुअली सुविधा देता है कि वह हाई वैल्यू ट्रांजैक्शन कर सके हाई डीनोमिनेशन नोट से|
Romanized Version
देखिये, जब से २००० रुपये का नोट छपा है तब से लगभग यह क्लियर है कि यह नोट बंद हो जाएगा क्योंकि २००० रुपये का नोट गवर्नमेंट ने इशू इसलिए किया कम टाइम में कम नोट प्रिंट कर के ही ज्यादा मनी ज्यादा करेंसी सप्लाई की जा सके मार्केट में जब डिमोनेटाइजेशन एनाउंस किया गवर्नमेंट ने| जब गवर्मेंट का अल्टीमेटम यह है कि लोग कॅश को ब्लैक मनी में यूज़ ना करें तो हाई diनॉमिनेशन करेंसी जो होती है बड़े डीनोमिनेशन की करेंसी वह तो ब्लैक मनी में हेल्प करती हैं| तो तभी से यह क्लियर है कि २००० का नोट तो बंद होगा ही| इसलिए आरबीआई का जो डिसीजन है कि इसकी प्रिंटिंग रोक दे| ठीक है और फ्यूचर में हो सकता है आरबीआई और गवर्नमेंट ऑफ इंडिया २००० के नोट को सरकुलेशन से विथड्रॉ ही कर ले| क्योंकि अल्टीमेटम डिमोनेटाइजेशन का ब्लैक मनी रोकना है तो २००० का नोट कहीं भी ब्लैक मनी रोकने में हेल्प नहीं करता है लेकिन लोगों को एक्चुअली सुविधा देता है कि वह हाई वैल्यू ट्रांजैक्शन कर सके हाई डीनोमिनेशन नोट से|Dekhiye Jab Se 2000 Rupaye Ka Note Chapa Hai Tab Se Lagbhag Yeh Clear Hai Ki Yeh Note Band Ho Jayega Kyonki 2000 Rupaye Ka Note Government Ne Issue Isliye Kiya Kum Time Mein Kum Note Print Kar Ke Hi Jyada Money Jyada Currency Supply Ki Ja Sake Market Mein Jab Dimonetaijeshan Enauns Kiya Government Ne Jab Goverment Ka Ultimatum Yeh Hai Ki Log Kash Ko Black Money Mein Use Na Karen To Hi Nomination Currency Jo Hoti Hai Bade Dinomineshan Ki Currency Wah To Black Money Mein Help Karti Hain To Tabhi Se Yeh Clear Hai Ki 2000 Ka Note To Band Hoga Hi Isliye Rbi Ka Jo Decision Hai Ki Iski Printing Rok De Theek Hai Aur Future Mein Ho Sakta Hai Rbi Aur Government Of India 2000 Ke Note Ko Circulation Se Vithadra Hi Kar Le Kyonki Ultimatum Dimonetaijeshan Ka Black Money Rokna Hai To 2000 Ka Note Kahin Bhi Black Money Rokne Mein Help Nahi Karta Hai Lekin Logon Ko Actually Suvidha Deta Hai Ki Wah Hi Value Transaction Kar Sake Hi Dinomineshan Note Se
Likes  12  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग अपने आपको लगता फील करते हैं जब बिना उनके साथ अच्छा होता रहता है और सामने वाली से वह किसी चीज के लिए चाहते हैं या फिर उससे कुछ भावना रखते हैं वह उनको मिलती है तो तब भी वह अपनी लकी फील करते हैं और जो चीज को पाना चाहते हैं वह से बड़ी आसानी से मिल जाती है इंसान की कट जाते हैं वह उसका टोकरी तरीके से पॉजिटिव बातें हैं और उसको बहुत ही ज्यादा लगी सील करवाते हैं और वह बहुत ज्यादा खुश भी रहते हैं एंड डिफाइन नहीं करता कि आप कितने लकी हो कितने अनलकी हो आप हमेशा पॉजिटिव सोचो यह नहीं कि आप के साथ ऐसा हुआ तो बंद क्यों हुआ वह उसके साथ कुछ और हुआ क्या उसके साथ लकी हुआ तो आप ऐसा मत सोचो क्योंकि जो भी होता है किसी आगे जोक्स फ्यूचर है उसको वोट कंट्रोल करने के लिए बैलेंस करने के लिए वह हमारे साथ आज हो जो हो रहा है ना वह फ्यूचर को कंट्रोल करने के लिए होता है बैलेंस बनाने के लिए होता है ना कि वह बस हम नाम दे देते हैं कि हां मेरे साथ अच्छा हुआ यह नहीं हुआ कि नहीं तो मैं अनलकी हो जाता या अन्य की हूं मेरे साथ ऐसा हुआ या फिर मेरे साथ इतना अच्छा हुआ तो मैं लकी हूं तो हमें ऐसा नहीं सोचना चाहिए एकदम पॉजिटिव सोच को चोदना चाहिए नहीं क्योंकि हम जब सोचते हैं ना कि हम अनलकी है तो हमारे धर्म एटीट्यूटस बहुत ज्यादा क्रिएट होने लग जाता है जिसकी वजह से कुछ भी हो हमें सब में अल्लाह की लाइन लकी अनलकी ही दिखता है तो इससे आप पॉजिटिव थॉट सोचे जितना हो सके वैसे लकी अनलकी वह आपके डिपेंड करता है लक के ऊपर फिर भी आप कोशिश करें तो उसे 2 तरीके से सोचिए बिल्कुल पॉजिटिव एकदम फ्रेश फ्रेश
लोग अपने आपको लगता फील करते हैं जब बिना उनके साथ अच्छा होता रहता है और सामने वाली से वह किसी चीज के लिए चाहते हैं या फिर उससे कुछ भावना रखते हैं वह उनको मिलती है तो तब भी वह अपनी लकी फील करते हैं और जो चीज को पाना चाहते हैं वह से बड़ी आसानी से मिल जाती है इंसान की कट जाते हैं वह उसका टोकरी तरीके से पॉजिटिव बातें हैं और उसको बहुत ही ज्यादा लगी सील करवाते हैं और वह बहुत ज्यादा खुश भी रहते हैं एंड डिफाइन नहीं करता कि आप कितने लकी हो कितने अनलकी हो आप हमेशा पॉजिटिव सोचो यह नहीं कि आप के साथ ऐसा हुआ तो बंद क्यों हुआ वह उसके साथ कुछ और हुआ क्या उसके साथ लकी हुआ तो आप ऐसा मत सोचो क्योंकि जो भी होता है किसी आगे जोक्स फ्यूचर है उसको वोट कंट्रोल करने के लिए बैलेंस करने के लिए वह हमारे साथ आज हो जो हो रहा है ना वह फ्यूचर को कंट्रोल करने के लिए होता है बैलेंस बनाने के लिए होता है ना कि वह बस हम नाम दे देते हैं कि हां मेरे साथ अच्छा हुआ यह नहीं हुआ कि नहीं तो मैं अनलकी हो जाता या अन्य की हूं मेरे साथ ऐसा हुआ या फिर मेरे साथ इतना अच्छा हुआ तो मैं लकी हूं तो हमें ऐसा नहीं सोचना चाहिए एकदम पॉजिटिव सोच को चोदना चाहिए नहीं क्योंकि हम जब सोचते हैं ना कि हम अनलकी है तो हमारे धर्म एटीट्यूटस बहुत ज्यादा क्रिएट होने लग जाता है जिसकी वजह से कुछ भी हो हमें सब में अल्लाह की लाइन लकी अनलकी ही दिखता है तो इससे आप पॉजिटिव थॉट सोचे जितना हो सके वैसे लकी अनलकी वह आपके डिपेंड करता है लक के ऊपर फिर भी आप कोशिश करें तो उसे 2 तरीके से सोचिए बिल्कुल पॉजिटिव एकदम फ्रेश फ्रेश
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां पर आपको यह याद रखना है कि आप जिस चीज को दोहराते हैं वही आपका हकीकत बन जाता है आप जिस चीज को बिलीव करते हैं जिस चीज को आप पावर करते जिस सोच को आप इमोशंस को देते हैं उसको आप बढ़ावा देते हैं वही आपकी जिंदगी की हकीकत बन जाती है तो मैं कहना चाहूंगी कि आप अपने शब्दों को अपनी सोच को काफी सोच-समझकर कहें या फिर अपने मन में रखे क्योंकि जो चीज किस चीज के बारे में हम सोचते हैं और उसके बारे में उसको पावर देते हैं वही हम बन जाते हैं तो आप प्लीज मत सोचिए कि आप मंदबुद्धि है हो सकता है कि आप थोड़े आलसी रहे हो आपने अपने पूरे दिमाग का इस्तेमाल नहीं किया हो तो कभी भी आप कर सकते हैं कभी भी आप अपने मेंटल इंटेलिजेंस को टाइप कर सकते हैं और अपनी असली इंटेलिजेंस को बाहर ला सकते हैं अगर अभी तक आप थोड़े से शुरू हो रहे हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि जिंदगी में आप हमेशा ऐसे रहेंगे आपको चाहिए कि आप अपना अटेंशन कंसंट्रेशन और फोकस यह तीन चीजों को इंप्रूव करें अपनी जो ऑब्जर्वेशन की प्रतिक्रिया है आप चीजों पर ध्यान देना या फिर फोकस अटेंशन करना उसको तेज करें और आपको चाहिए भी चाहिए कि आप क्या पूरे दिन चर्या को देखेंगे कहां पर आप टाइम वेस्ट कर रहे हैं कैसे गलत चीजों को आप सीख रहे हैं उन्हें चेतन के बारे में सोचिए करिए या ध्यान दीजिए जो पॉजिटिव है जो आपके लाइफ को अच्छा बनाएंगे बाकी चीजों से परहेज कीजिए क्योंकि जिस चीज को हम अपने दिमाग में लेकर आते हैं उसके बारे में सोचते हैं हम वहीं पर अपना पूरा समय बिताते हैं तो आपको चाहिए कि फिलहाल आप ऐसे इंसान बनी है जहां पर आप अपने पूरे इंटेलिजेंस का फायदा उठाया जहां पर लोग आपका फायदा ना उठाएं आपको बाउंड्री बना लेनी चाहिए और लोगों को उस एक्रॉस नहीं करना चाहिए आपको कहना चाहिए कि आपको क्या पसंद है क्या पसंद नहीं है और उसके मुताबिक आपको अपनी जिंदगी जीनी चाहिए तो भी वेरी क्लियर कि आप की बाउंड्री क्या है और लोगों को यह बात समझ आने चाहिए
यहां पर आपको यह याद रखना है कि आप जिस चीज को दोहराते हैं वही आपका हकीकत बन जाता है आप जिस चीज को बिलीव करते हैं जिस चीज को आप पावर करते जिस सोच को आप इमोशंस को देते हैं उसको आप बढ़ावा देते हैं वही आपकी जिंदगी की हकीकत बन जाती है तो मैं कहना चाहूंगी कि आप अपने शब्दों को अपनी सोच को काफी सोच-समझकर कहें या फिर अपने मन में रखे क्योंकि जो चीज किस चीज के बारे में हम सोचते हैं और उसके बारे में उसको पावर देते हैं वही हम बन जाते हैं तो आप प्लीज मत सोचिए कि आप मंदबुद्धि है हो सकता है कि आप थोड़े आलसी रहे हो आपने अपने पूरे दिमाग का इस्तेमाल नहीं किया हो तो कभी भी आप कर सकते हैं कभी भी आप अपने मेंटल इंटेलिजेंस को टाइप कर सकते हैं और अपनी असली इंटेलिजेंस को बाहर ला सकते हैं अगर अभी तक आप थोड़े से शुरू हो रहे हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि जिंदगी में आप हमेशा ऐसे रहेंगे आपको चाहिए कि आप अपना अटेंशन कंसंट्रेशन और फोकस यह तीन चीजों को इंप्रूव करें अपनी जो ऑब्जर्वेशन की प्रतिक्रिया है आप चीजों पर ध्यान देना या फिर फोकस अटेंशन करना उसको तेज करें और आपको चाहिए भी चाहिए कि आप क्या पूरे दिन चर्या को देखेंगे कहां पर आप टाइम वेस्ट कर रहे हैं कैसे गलत चीजों को आप सीख रहे हैं उन्हें चेतन के बारे में सोचिए करिए या ध्यान दीजिए जो पॉजिटिव है जो आपके लाइफ को अच्छा बनाएंगे बाकी चीजों से परहेज कीजिए क्योंकि जिस चीज को हम अपने दिमाग में लेकर आते हैं उसके बारे में सोचते हैं हम वहीं पर अपना पूरा समय बिताते हैं तो आपको चाहिए कि फिलहाल आप ऐसे इंसान बनी है जहां पर आप अपने पूरे इंटेलिजेंस का फायदा उठाया जहां पर लोग आपका फायदा ना उठाएं आपको बाउंड्री बना लेनी चाहिए और लोगों को उस एक्रॉस नहीं करना चाहिए आपको कहना चाहिए कि आपको क्या पसंद है क्या पसंद नहीं है और उसके मुताबिक आपको अपनी जिंदगी जीनी चाहिए तो भी वेरी क्लियर कि आप की बाउंड्री क्या है और लोगों को यह बात समझ आने चाहिए
Likes  74  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे ख्याल से सबसे पहले आप अपने आप को हाराव इंसान कहना बंद करें आप तो जरा अपने बचपन के बारे में सोचें जब आपने जस्ट चलना सीखा ही था या पहला कदम रखा था आपको पता है इस दुनिया में सबसे मुश्किल काम कौन सा है सबसे मुश्किल काम है बच्चे का चलना साइंटिफिकली प्रूवन है क्योंकि कितने बैलेंस बनाना होता है कितनी सारी मतलब का यूज़ होता है कितना कोआर्डिनेशन होता है दिमाग से और बाकी बॉडी पार्ट्स के अंदर तब जाकर एक बच्चा दो कदम बढ़ा कर अपने आप को आगे की तरफ ले जाता है और वह बच्चा चाहे आप पूछे मैं हूं सभी बच्चे ऐसे करते हैं जब हम ले चलना सीखा था हम 2 कदम बढ़ाए और हम गिर गए तो क्या कभी बच्चे ने सोचा कि मैं तो हार गया नहीं चल सकता है ना तू ऐसा कोई भी बच्चा नहीं सोचता उसको होता है उसको क्या चाहिए होता है बच्चा यह सोच रहा था अपने दिमाग नहीं की बस मुझे चलना है आकर मेरे आस-पास के लोग चल रहे हैं तो मैं भी चल सकता हूं तो आपको भी यही सोच कभी भी हाल से डरना नहीं है हार गए कोई बात नहीं से ज़िप की तैयारी करो
मेरे ख्याल से सबसे पहले आप अपने आप को हाराव इंसान कहना बंद करें आप तो जरा अपने बचपन के बारे में सोचें जब आपने जस्ट चलना सीखा ही था या पहला कदम रखा था आपको पता है इस दुनिया में सबसे मुश्किल काम कौन सा है सबसे मुश्किल काम है बच्चे का चलना साइंटिफिकली प्रूवन है क्योंकि कितने बैलेंस बनाना होता है कितनी सारी मतलब का यूज़ होता है कितना कोआर्डिनेशन होता है दिमाग से और बाकी बॉडी पार्ट्स के अंदर तब जाकर एक बच्चा दो कदम बढ़ा कर अपने आप को आगे की तरफ ले जाता है और वह बच्चा चाहे आप पूछे मैं हूं सभी बच्चे ऐसे करते हैं जब हम ले चलना सीखा था हम 2 कदम बढ़ाए और हम गिर गए तो क्या कभी बच्चे ने सोचा कि मैं तो हार गया नहीं चल सकता है ना तू ऐसा कोई भी बच्चा नहीं सोचता उसको होता है उसको क्या चाहिए होता है बच्चा यह सोच रहा था अपने दिमाग नहीं की बस मुझे चलना है आकर मेरे आस-पास के लोग चल रहे हैं तो मैं भी चल सकता हूं तो आपको भी यही सोच कभी भी हाल से डरना नहीं है हार गए कोई बात नहीं से ज़िप की तैयारी करो
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कॉमन सेंस कुछ ऐसा नहीं है कि वह अपने दिमाग में कहीं और कुछ और रोड इंफॉर्मेशन की और जब टाइम आएगा तब आप निकाल लेंगे नहीं ऐसा नहीं है और कुछ ऐसी है कि क्या आप प्रेजेंट में प्रेजेंट है जब जिस टाइम पर जो हो रहा है जो आप कार्य कर रहे हैं क्या आप उस में संलग्न इन वर्ल्ड इन गेट है या नहीं है जब आप एंगेश होंगे तो जितना भी आपका वेलकम है आपका नॉलेज है आपका तजुर्बा है एक्सपीरियंस है उसके हिसाब से आबू सिचुएशन को डील करेंगे ब्राइटनेस डीलिंग में आप तभी अच्छा डील कर सकते हैं जब आप उसमें प्रेजेंट रहेंगे और आपको पता है वह काम क्या हो रहा है या सामने वाला क्या बात कर रहा है आप उस प्रक्रिया में इन बोल रहे हैं तो आप की डीलिंग भी एक हद तक सीमित ही रहेगी क्यों क्योंकि अगर आपकी नॉलेज और आपका एक्सपीरियंस वगैरह काम है उस टॉपिक पर उस काम पर तो आपका जो रिस्पांस हो गया जो एक्शन होगा वह थोड़ा रिस्ट्रिक्टेड होगा तो इसमें कॉमन सेंस का कोई बात नहीं है इसमें बात यह है कि आपके पास जब इंफॉर्मेशन नहीं है उसके बारे में आपको पता ही नहीं है तो ज्यादा कुछ नहीं कर सकते लेकिन फिर भी उस स्थिति को आप मैनेज कर सकते हैं अरे कॉमन सेंस यह बताता है लेकिन अगर आपके पास इंफॉर्मेशन एक्सपीरियंस ए आपने काम किया हुआ है पता किया हुआ है आप काम कर सकते हैं आप उसके बारे में बात कर सकते हैं तो उसमें इन्वॉल्व फोन आएंगे थोड़ा बात करना बस यही करने की जरूरत है अलग से कुछ और उपचार करने की जरूरत नहीं अलग से कुछ और काम करने की जरूरत नहीं है आपको बस तो बस प्रेजेंट में प्रेजेंट रहना है और उस वार्तालाप याहू सेक्शन को सही अंजाम देना बस बस इतना ही करना है
Romanized Version
कॉमन सेंस कुछ ऐसा नहीं है कि वह अपने दिमाग में कहीं और कुछ और रोड इंफॉर्मेशन की और जब टाइम आएगा तब आप निकाल लेंगे नहीं ऐसा नहीं है और कुछ ऐसी है कि क्या आप प्रेजेंट में प्रेजेंट है जब जिस टाइम पर जो हो रहा है जो आप कार्य कर रहे हैं क्या आप उस में संलग्न इन वर्ल्ड इन गेट है या नहीं है जब आप एंगेश होंगे तो जितना भी आपका वेलकम है आपका नॉलेज है आपका तजुर्बा है एक्सपीरियंस है उसके हिसाब से आबू सिचुएशन को डील करेंगे ब्राइटनेस डीलिंग में आप तभी अच्छा डील कर सकते हैं जब आप उसमें प्रेजेंट रहेंगे और आपको पता है वह काम क्या हो रहा है या सामने वाला क्या बात कर रहा है आप उस प्रक्रिया में इन बोल रहे हैं तो आप की डीलिंग भी एक हद तक सीमित ही रहेगी क्यों क्योंकि अगर आपकी नॉलेज और आपका एक्सपीरियंस वगैरह काम है उस टॉपिक पर उस काम पर तो आपका जो रिस्पांस हो गया जो एक्शन होगा वह थोड़ा रिस्ट्रिक्टेड होगा तो इसमें कॉमन सेंस का कोई बात नहीं है इसमें बात यह है कि आपके पास जब इंफॉर्मेशन नहीं है उसके बारे में आपको पता ही नहीं है तो ज्यादा कुछ नहीं कर सकते लेकिन फिर भी उस स्थिति को आप मैनेज कर सकते हैं अरे कॉमन सेंस यह बताता है लेकिन अगर आपके पास इंफॉर्मेशन एक्सपीरियंस ए आपने काम किया हुआ है पता किया हुआ है आप काम कर सकते हैं आप उसके बारे में बात कर सकते हैं तो उसमें इन्वॉल्व फोन आएंगे थोड़ा बात करना बस यही करने की जरूरत है अलग से कुछ और उपचार करने की जरूरत नहीं अलग से कुछ और काम करने की जरूरत नहीं है आपको बस तो बस प्रेजेंट में प्रेजेंट रहना है और उस वार्तालाप याहू सेक्शन को सही अंजाम देना बस बस इतना ही करना हैCommon Sense Kuch Aisa Nahi Hai Ki Wah Apne Dimag Mein Kahin Aur Kuch Aur Road Information Ki Aur Jab Time Aaega Tab Aap Nikal Lenge Nahi Aisa Nahi Hai Aur Kuch Aisi Hai Ki Kya Aap Present Mein Present Hai Jab Jis Time Par Jo Ho Raha Hai Jo Aap Karya Kar Rahe Hain Kya Aap Us Mein Sanlagn In World In Get Hai Ya Nahi Hai Jab Aap Engesh Honge To Jitna Bhi Aapka Welcome Hai Aapka Knowledge Hai Aapka Tajurba Hai Experience Hai Uske Hisab Se Aabu Situation Ko Deal Karenge Braitanes Dealing Mein Aap Tabhi Accha Deal Kar Sakte Hain Jab Aap Usamen Present Rahenge Aur Aapko Pata Hai Wah Kaam Kya Ho Raha Hai Ya Samane Vala Kya Baat Kar Raha Hai Aap Us Prakriya Mein In Bol Rahe Hain To Aap Ki Dealing Bhi Ek Had Tak Simith Hi Rahegi Kyon Kyonki Agar Aapki Knowledge Aur Aapka Experience Vagairah Kaam Hai Us Topic Par Us Kaam Par To Aapka Jo Response Ho Gaya Jo Action Hoga Wah Thoda Registered Hoga To Isme Common Sense Ka Koi Baat Nahi Hai Isme Baat Yeh Hai Ki Aapke Paas Jab Information Nahi Hai Uske Bare Mein Aapko Pata Hi Nahi Hai To Zyada Kuch Nahi Kar Sakte Lekin Phir Bhi Us Sthiti Ko Aap Manage Kar Sakte Hain Arre Common Sense Yeh Batata Hai Lekin Agar Aapke Paas Information Experience A Aapne Kaam Kiya Hua Hai Pata Kiya Hua Hai Aap Kaam Kar Sakte Hain Aap Uske Bare Mein Baat Kar Sakte Hain To Usamen Involve Phone Aayenge Thoda Baat Karna Bus Yahi Karne Ki Zaroorat Hai Alag Se Kuch Aur Upchaar Karne Ki Zaroorat Nahi Alag Se Kuch Aur Kaam Karne Ki Zaroorat Nahi Hai Aapko Bus To Bus Present Mein Present Rehna Hai Aur Us Vartalaap Yahoo Section Ko Sahi Anjaam Dena Bus Bus Itna Hi Karna Hai
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजनीतिक दृष्टि से देखा जाए तो भारत के जो प्रधानमंत्री हैं उनका लगभग हर कदम सराहनीय है | आर्थिक दृष्टि से देखा जाए तो उनके बहुत से ऐसे कदम है जिनसे जनता को सीधे तौर पर नुकसान हुआ है, अथवा जनता जो है उत्पीड़ित सा अनुभव कर रही है| उदाहरण के तौर पर जीएसटी को जिस प्रकार से पूरे भारत पर लाद दिया गया तथा इससे संबंधित सामाजिक व आर्थिक विवेचना तक नहीं करी गयी जनता के साथ, रायशुमारी नहीं की गयी , उससे जनता खासी नाराज है | साथ ही साथ नोटबंदी का जिस प्रकार से फैसला आनन-फानन में लिया गया उससे भी जनता में भारी आक्रोश देखा जा रहा था परंतु अब आने वाले समय में इसका सीधा फायदा भारतीय अर्थव्यवस्था को होने की संभावनाएं है, ऐसा सब बड़े बड़े राजनीतिक तथा आर्थिक विश्लेषकों की राय है, यह मेरी निजी राय नहीं है | अब आती है बात जिस प्रकार से उनके कूटनीतिक कदम है तो उन्होंने जिस प्रकार से भारत में विभिन्न प्रकार से कूटनीतिक रास्ता अपनाया है तथा विदेशों में जिस प्रकार से उनकी बैठक फोन कीपैड बड़ी है तो ऐसे आने वाले समय में मुझे ऐसा लगता है कि उनकी भारी संभावनाएं हैं कि वह आने वाले समय में भारत के प्रधानमंत्री बने | पूरे विश्व में भारत का डंका बज रहा है | भारत के विभिन्न प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जा रहा है| मोदी जी को स्वयं विश्व के अनेक देशों में आमंत्रित किया जा रहा है | और साथ ही साथ यह भी संभावनाएं नजर आती है कि वह इस पूरे भारत का ही नहीं पूरे एशिया का प्रतिनिधित्व आने वाले समय में अनेक सम्मेलनों में तथा अनेक मंत्र जिस प्रकार के सेमीनार होते हैं उनमें करेंगे | तो एक बहुत ही भारत के लिए गर्व की बात है कि भारत को इतने लंबे समय बाद, यहां तक कि मैं कहूं कि पूरे 70 साल बाद भारत को इस प्रकार का प्रधानमंत्री मिला है तो उसमें कोई दो राय नहीं होगी | हालांकि कुछ कमियां है जिन को सुधारा जाना बाकी है परंतु कुल मिलाकर के देखा जाए तो भारतीय प्रधानमंत्री हर क्षेत्र में अच्छा कार्य कर रहे हैं|
Romanized Version
राजनीतिक दृष्टि से देखा जाए तो भारत के जो प्रधानमंत्री हैं उनका लगभग हर कदम सराहनीय है | आर्थिक दृष्टि से देखा जाए तो उनके बहुत से ऐसे कदम है जिनसे जनता को सीधे तौर पर नुकसान हुआ है, अथवा जनता जो है उत्पीड़ित सा अनुभव कर रही है| उदाहरण के तौर पर जीएसटी को जिस प्रकार से पूरे भारत पर लाद दिया गया तथा इससे संबंधित सामाजिक व आर्थिक विवेचना तक नहीं करी गयी जनता के साथ, रायशुमारी नहीं की गयी , उससे जनता खासी नाराज है | साथ ही साथ नोटबंदी का जिस प्रकार से फैसला आनन-फानन में लिया गया उससे भी जनता में भारी आक्रोश देखा जा रहा था परंतु अब आने वाले समय में इसका सीधा फायदा भारतीय अर्थव्यवस्था को होने की संभावनाएं है, ऐसा सब बड़े बड़े राजनीतिक तथा आर्थिक विश्लेषकों की राय है, यह मेरी निजी राय नहीं है | अब आती है बात जिस प्रकार से उनके कूटनीतिक कदम है तो उन्होंने जिस प्रकार से भारत में विभिन्न प्रकार से कूटनीतिक रास्ता अपनाया है तथा विदेशों में जिस प्रकार से उनकी बैठक फोन कीपैड बड़ी है तो ऐसे आने वाले समय में मुझे ऐसा लगता है कि उनकी भारी संभावनाएं हैं कि वह आने वाले समय में भारत के प्रधानमंत्री बने | पूरे विश्व में भारत का डंका बज रहा है | भारत के विभिन्न प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जा रहा है| मोदी जी को स्वयं विश्व के अनेक देशों में आमंत्रित किया जा रहा है | और साथ ही साथ यह भी संभावनाएं नजर आती है कि वह इस पूरे भारत का ही नहीं पूरे एशिया का प्रतिनिधित्व आने वाले समय में अनेक सम्मेलनों में तथा अनेक मंत्र जिस प्रकार के सेमीनार होते हैं उनमें करेंगे | तो एक बहुत ही भारत के लिए गर्व की बात है कि भारत को इतने लंबे समय बाद, यहां तक कि मैं कहूं कि पूरे 70 साल बाद भारत को इस प्रकार का प्रधानमंत्री मिला है तो उसमें कोई दो राय नहीं होगी | हालांकि कुछ कमियां है जिन को सुधारा जाना बाकी है परंतु कुल मिलाकर के देखा जाए तो भारतीय प्रधानमंत्री हर क्षेत्र में अच्छा कार्य कर रहे हैं| Rajnitik Drishti Se Dekha Jaye To Bharat Ke Jo Pradhanmantri Hain Unka Lagbhag Har Kadam Sarahniya Hai | Aarthik Drishti Se Dekha Jaye To Unke Bahut Se Aise Kadam Hai Jinse Janta Ko Seedhe Taur Par Nuksan Hua Hai Athwa Janta Jo Hai Utpidit Sa Anubhav Kar Rahi Hai Udaharan Ke Taur Par Gst Ko Jis Prakar Se Poore Bharat Par Lad Diya Gaya Tatha Isse Sambandhit Samajik V Aarthik Vivechna Tak Nahi Kari Gayi Janta Ke Saath Rayshumari Nahi Ki Gayi , Usse Janta Khasee Naaraj Hai | Saath Hi Saath Notebandi Ka Jis Prakar Se Faisla Aanan Fanan Mein Liya Gaya Usse Bhi Janta Mein Bhari Aakrosh Dekha Ja Raha Tha Parantu Ab Aane Wale Samay Mein Iska Sidhaa Fayda Bhartiya Arthavyavastha Ko Hone Ki Sambhavnaye Hai Aisa Sab Bade Bade Rajnitik Tatha Aarthik Vishleshakon Ki Rai Hai Yeh Meri Niji Rai Nahi Hai | Ab Aati Hai Baat Jis Prakar Se Unke Kutanitik Kadam Hai To Unhone Jis Prakar Se Bharat Mein Vibhinn Prakar Se Kutanitik Rasta Apnaya Hai Tatha Videshon Mein Jis Prakar Se Unki Baithak Phone Keypad Badi Hai To Aise Aane Wale Samay Mein Mujhe Aisa Lagta Hai Ki Unki Bhari Sambhavnaye Hain Ki Wah Aane Wale Samay Mein Bharat Ke Pradhanmantri Bane | Poore Vishwa Mein Bharat Ka Danka Baj Raha Hai | Bharat Ke Vibhinn Pratinidhiyo Ko Aamantrit Kiya Ja Raha Hai Modi Ji Ko Swayam Vishwa Ke Anek Deshon Mein Aamantrit Kiya Ja Raha Hai | Aur Saath Hi Saath Yeh Bhi Sambhavnaye Nazar Aati Hai Ki Wah Is Poore Bharat Ka Hi Nahi Poore Asia Ka Pratinidhitva Aane Wale Samay Mein Anek Sammelanon Mein Tatha Anek Mantra Jis Prakar Ke Seminar Hote Hain Unmen Karenge | To Ek Bahut Hi Bharat Ke Liye Garv Ki Baat Hai Ki Bharat Ko Itne Lambe Samay Baad Yahan Tak Ki Main Kahun Ki Poore 70 Saal Baad Bharat Ko Is Prakar Ka Pradhanmantri Mila Hai To Usamen Koi Do Rai Nahi Hogi | Halanki Kuch Kamiyan Hai Jin Ko Sudhara Jana Baki Hai Parantu Kul Milakar Ke Dekha Jaye To Bhartiya Pradhanmantri Har Kshetra Mein Accha Karya Kar Rahe Hain
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज के दौर में हम इतने स्वार्थी इसलिए हो गए हैं क्योंकि अगर एक भी स्वार्थी व्यक्ति किसी इंसान की मदद करेगा बिना किसी स्वार्थ के तो अगला इंसान उस का अच्छे से इस्तेमाल करेगा जैसे ही उस इंसान का काम निकल जाएगा 1 सालों से छोड़कर चला जाएगा ना तक कि उसे भूल भी जाएगा इस बात से उसने स्वार्थी व्यक्ति को सिर्फ दुख होगा और इसी दुख की वजह से वह स्वार्थी बन जाता है हम कोई भी दुखी एक बार जेल लेंगे दो बार जन्म लेंगे लेकिन अगर बार-बार हमारे साथ वही होगा तो हम नहीं सेंड कर पाएंगे पर हम भी औरों की तरह हो जाएंगे उनके कुछ नहीं स्वार्थी लोगों की वजह से जो अच्छे लोग हैं वह भी इंसानियत भूलते जा रहे हैं उन्हें भी आप लोगों से मतलब नहीं है और वह भी स्वार्थी बनते जा रहे हैं
Romanized Version
आज के दौर में हम इतने स्वार्थी इसलिए हो गए हैं क्योंकि अगर एक भी स्वार्थी व्यक्ति किसी इंसान की मदद करेगा बिना किसी स्वार्थ के तो अगला इंसान उस का अच्छे से इस्तेमाल करेगा जैसे ही उस इंसान का काम निकल जाएगा 1 सालों से छोड़कर चला जाएगा ना तक कि उसे भूल भी जाएगा इस बात से उसने स्वार्थी व्यक्ति को सिर्फ दुख होगा और इसी दुख की वजह से वह स्वार्थी बन जाता है हम कोई भी दुखी एक बार जेल लेंगे दो बार जन्म लेंगे लेकिन अगर बार-बार हमारे साथ वही होगा तो हम नहीं सेंड कर पाएंगे पर हम भी औरों की तरह हो जाएंगे उनके कुछ नहीं स्वार्थी लोगों की वजह से जो अच्छे लोग हैं वह भी इंसानियत भूलते जा रहे हैं उन्हें भी आप लोगों से मतलब नहीं है और वह भी स्वार्थी बनते जा रहे हैंAaj Ke Daur Mein Hum Itne Swaarthi Isliye Ho Gaye Hain Kyonki Agar Ek Bhi Swaarthi Vyakti Kisi Insaan Ki Madad Karega Bina Kisi Swartha Ke To Agla Insaan Us Ka Acche Se Istemal Karega Jaise Hi Us Insaan Ka Kaam Nikal Jayega 1 Salon Se Chodkar Chala Jayega Na Tak Ki Use Bhul Bhi Jayega Is Baat Se Usne Swaarthi Vyakti Ko Sirf Dukh Hoga Aur Isi Dukh Ki Wajah Se Wah Swaarthi Ban Jata Hai Hum Koi Bhi Dukhi Ek Baar Jail Lenge Do Baar Janm Lenge Lekin Agar Baar Baar Hamare Saath Wahi Hoga To Hum Nahi Send Kar Paenge Par Hum Bhi Auron Ki Tarah Ho Jaenge Unke Kuch Nahi Swaarthi Logon Ki Wajah Se Jo Acche Log Hain Wah Bhi Insaniyat Bhultey Ja Rahe Hain Unhen Bhi Aap Logon Se Matlab Nahi Hai Aur Wah Bhi Swaarthi Bante Ja Rahe Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीदी के जवाब पेश में बैठते हैं और एग्जाम का पेपर आपके पास आता है आप जब पन्ना पलटते हैं देखते हैं कि कौन-कौन से क्वेश्चन आते हैं तभी आपको एक आईडिया लग जाता है कि यह पेपर कैसा है मेरे को कितना आता है कि नहीं आता जब आप ही पर कंप्लीट करते हैं और हैंडल करते हैं जिन इनविजीलेटर को और घर आते हैं तब तक आप को बड़ा क्लियर हो जाते हो गया होता है कि मेरे को तो टेस्ट में कितने नंबर आने वाले अच्छा उसके बाद आप वेट करते हैं रिजल्ट आने का लेकिन मोटा-मोटा आपको पता होता है कि मेरा पेपर अच्छा गया और मेरा रिजल्ट कुछ ऐसा आने वाले राइट ओं वेटिंग पीरियड हैं यह वेटिंग पीरियड अपने आप में एक पेड़ है जिसमें आप समझ जाते हैं और क्लियर होते हैं आपको कि मेरा देश को तो ऐसे ही आने वाले नंबर तो इतनी आने वाले हैं तो कायदे से देखा जाए तो आपको घबराहट नहीं होनी चाहिए क्योंकि आपको पता है मेरा आशियाना आप अपने आप को मेंटली प्रिपेयर कर सकते हैं तो सबसे पहली बारी आती है इसमें क्या होता है आधे से ज्यादा आप की घबराहट या चिंता या परेशानी चली जाती है ओके आपको दादर घबराहट होती अवध रिजल्ट कैसे आएगा या आने वाला है तो मैं क्या करूं तू लाजमी है कि ऐसा आप सोच सकते हैं ऐसे विचार आपके अंदर आ सकते हैं तो उसके लिए बात ज्यादा कुछ कर नहीं सकते जो होना था वह हो गया अब आपको यह देखने की आदत मुझे लगता है कि मेरे रिजल्ट ऐसे आ रहे हैं तो शायद मुझे अगर यह नहीं मिलेगा तो मुझे क्या करना है तो आप उस दिशा में सोचना शुरू कर सकते हैं कि मेरे को अब इसके बाद ऐसा करना कि मुझे ऐसा करना चाहिए क्योंकि मेरा रिजल्ट एयरलाइंस प्यार है वैसा नहीं आ रहा जैसा मैंने सोचा था अगर वैसा हो जाती तो बहुत अच्छी बात है आप तो बहुत एक्साइटेड हो जाएंगे लेकिन अब मोटा मोटा आपको पता किया था आने वाले तो आप बल की तैयारी कर लीजिए यह रिग्रेट या यह अफसोस या अपने आप को शांत करने की कोई जरूरत नहीं है कि आप तो बेकार हो गया तो कुछ हो नहीं सकता आप क्या आने वाला वगैरह वगैरह सब छोड़ दीजिए आप यह देखें कि मुझे क्या करना है ताकि आप मेंटली प्रिपेयर हूं आपको कोई झटका न लगे झटका वैसे ही नहीं लगना चाहिए और आप उस दिशा में काम पहले से शुरू कर दें
Romanized Version
दीदी के जवाब पेश में बैठते हैं और एग्जाम का पेपर आपके पास आता है आप जब पन्ना पलटते हैं देखते हैं कि कौन-कौन से क्वेश्चन आते हैं तभी आपको एक आईडिया लग जाता है कि यह पेपर कैसा है मेरे को कितना आता है कि नहीं आता जब आप ही पर कंप्लीट करते हैं और हैंडल करते हैं जिन इनविजीलेटर को और घर आते हैं तब तक आप को बड़ा क्लियर हो जाते हो गया होता है कि मेरे को तो टेस्ट में कितने नंबर आने वाले अच्छा उसके बाद आप वेट करते हैं रिजल्ट आने का लेकिन मोटा-मोटा आपको पता होता है कि मेरा पेपर अच्छा गया और मेरा रिजल्ट कुछ ऐसा आने वाले राइट ओं वेटिंग पीरियड हैं यह वेटिंग पीरियड अपने आप में एक पेड़ है जिसमें आप समझ जाते हैं और क्लियर होते हैं आपको कि मेरा देश को तो ऐसे ही आने वाले नंबर तो इतनी आने वाले हैं तो कायदे से देखा जाए तो आपको घबराहट नहीं होनी चाहिए क्योंकि आपको पता है मेरा आशियाना आप अपने आप को मेंटली प्रिपेयर कर सकते हैं तो सबसे पहली बारी आती है इसमें क्या होता है आधे से ज्यादा आप की घबराहट या चिंता या परेशानी चली जाती है ओके आपको दादर घबराहट होती अवध रिजल्ट कैसे आएगा या आने वाला है तो मैं क्या करूं तू लाजमी है कि ऐसा आप सोच सकते हैं ऐसे विचार आपके अंदर आ सकते हैं तो उसके लिए बात ज्यादा कुछ कर नहीं सकते जो होना था वह हो गया अब आपको यह देखने की आदत मुझे लगता है कि मेरे रिजल्ट ऐसे आ रहे हैं तो शायद मुझे अगर यह नहीं मिलेगा तो मुझे क्या करना है तो आप उस दिशा में सोचना शुरू कर सकते हैं कि मेरे को अब इसके बाद ऐसा करना कि मुझे ऐसा करना चाहिए क्योंकि मेरा रिजल्ट एयरलाइंस प्यार है वैसा नहीं आ रहा जैसा मैंने सोचा था अगर वैसा हो जाती तो बहुत अच्छी बात है आप तो बहुत एक्साइटेड हो जाएंगे लेकिन अब मोटा मोटा आपको पता किया था आने वाले तो आप बल की तैयारी कर लीजिए यह रिग्रेट या यह अफसोस या अपने आप को शांत करने की कोई जरूरत नहीं है कि आप तो बेकार हो गया तो कुछ हो नहीं सकता आप क्या आने वाला वगैरह वगैरह सब छोड़ दीजिए आप यह देखें कि मुझे क्या करना है ताकि आप मेंटली प्रिपेयर हूं आपको कोई झटका न लगे झटका वैसे ही नहीं लगना चाहिए और आप उस दिशा में काम पहले से शुरू कर देंDidi Ke Jawab Pesh Mein Baithate Hain Aur Exam Ka Paper Aapke Paas Aata Hai Aap Jab Panna Palatate Hain Dekhte Hain Ki Kaon Kaon Se Question Aate Hain Tabhi Aapko Ek Idea Lag Jata Hai Ki Yeh Paper Kaisa Hai Mere Ko Kitna Aata Hai Ki Nahi Aata Jab Aap Hi Par Complete Karte Hain Aur Handle Karte Hain Jin Inavijiletar Ko Aur Ghar Aate Hain Tab Tak Aap Ko Bada Clear Ho Jaate Ho Gaya Hota Hai Ki Mere Ko To Test Mein Kitne Number Aane Wali Accha Uske Baad Aap Wait Karte Hain Result Aane Ka Lekin Mota Mota Aapko Pata Hota Hai Ki Mera Paper Accha Gaya Aur Mera Result Kuch Aisa Aane Wali Right On Waiting Period Hain Yeh Waiting Period Apne Aap Mein Ek Ped Hai Jisme Aap Samajh Jaate Hain Aur Clear Hote Hain Aapko Ki Mera Desh Ko To Aise Hi Aane Wali Number To Itni Aane Wali Hain To Kayade Se Dekha Jaye To Aapko Ghabarahat Nahi Honi Chahiye Kyonki Aapko Pata Hai Mera Aashiyana Aap Apne Aap Ko Mentally Pripeyar Kar Sakte Hain To Sabse Pehli Baari Aati Hai Isme Kya Hota Hai Aadhe Se Zyada Aap Ki Ghabarahat Ya Chinta Ya Pareshani Chali Jati Hai Ok Aapko Dadar Ghabarahat Hoti Avadh Result Kaise Aaega Ya Aane Vala Hai To Main Kya Karun Tu Lajmi Hai Ki Aisa Aap Soch Sakte Hain Aise Vichar Aapke Andar Aa Sakte Hain To Uske Liye Baat Zyada Kuch Kar Nahi Sakte Jo Hona Tha Wah Ho Gaya Ab Aapko Yeh Dekhne Ki Aadat Mujhe Lagta Hai Ki Mere Result Aise Aa Rahe Hain To Shayad Mujhe Agar Yeh Nahi Milega To Mujhe Kya Karna Hai To Aap Us Disha Mein Sochna Shuru Kar Sakte Hain Ki Mere Ko Ab Iske Baad Aisa Karna Ki Mujhe Aisa Karna Chahiye Kyonki Mera Result Airlines Pyar Hai Waisa Nahi Aa Raha Jaisa Maine Socha Tha Agar Waisa Ho Jati To Bahut Acchi Baat Hai Aap To Bahut Excited Ho Jaenge Lekin Ab Mota Mota Aapko Pata Kiya Tha Aane Wali To Aap Bal Ki Taiyari Kar Lijiye Yeh Regret Ya Yeh Afasos Ya Apne Aap Ko Shaant Karne Ki Koi Zaroorat Nahi Hai Ki Aap To Bekar Ho Gaya To Kuch Ho Nahi Sakta Aap Kya Aane Vala Vagairah Vagairah Sab Chod Dijiye Aap Yeh Dekhen Ki Mujhe Kya Karna Hai Taki Aap Mentally Pripeyar Hoon Aapko Koi Jhatka N Lage Jhatka Waise Hi Nahi Lagna Chahiye Aur Aap Us Disha Mein Kaam Pehle Se Shuru Kar Dein
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखित चतुर लोगों को डील करने के लिए आपको जो है उनसे ज्यादा चतुर बनना पड़ेगा कुल मिलाकर आप अगर वह शेर है तो आप को सवा शेर बनना पड़ेगा और आपकी एक-एक बात को आप को बहुत तोल के मूल के बोलनी पड़ेगी ताकि आप अपनी कही हुई किसी बात से फंसना जाए अगर आपको लगता है कि सामने वाला आपसे ज्यादा होशियार है तो आपको एक एक कदम फूंक-फूंक कर रखना पड़ेगा और अगर वह अगर वह 19 है तो आप को 20 तो बनना ही पड़ेगा तभी आप उसके साथ डील कर सकते हैं
Romanized Version
दिखित चतुर लोगों को डील करने के लिए आपको जो है उनसे ज्यादा चतुर बनना पड़ेगा कुल मिलाकर आप अगर वह शेर है तो आप को सवा शेर बनना पड़ेगा और आपकी एक-एक बात को आप को बहुत तोल के मूल के बोलनी पड़ेगी ताकि आप अपनी कही हुई किसी बात से फंसना जाए अगर आपको लगता है कि सामने वाला आपसे ज्यादा होशियार है तो आपको एक एक कदम फूंक-फूंक कर रखना पड़ेगा और अगर वह अगर वह 19 है तो आप को 20 तो बनना ही पड़ेगा तभी आप उसके साथ डील कर सकते हैंDikhit Chatur Logon Ko Deal Karne Ke Liye Aapko Jo Hai Unse Jyada Chatur Banana Padega Kul Milakar Aap Agar Wah Sher Hai To Aap Ko Sava Sher Banana Padega Aur Aapki Ek Ek Baat Ko Aap Ko Bahut Tol Ke Mul Ke Bolani Padegi Taki Aap Apni Kahi Hui Kisi Baat Se Fansnaa Jaye Agar Aapko Lagta Hai Ki Samane Wala Aapse Jyada Hosiyar Hai To Aapko Ek Ek Kadam Phoonk Phoonk Kar Rakhna Padega Aur Agar Wah Agar Wah 19 Hai To Aap Ko 20 To Banana Hi Padega Tabhi Aap Uske Saath Deal Kar Sakte Hain
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग जो है वह बेवफ़ाई इसलिए करते हैं जान की बहुत सारी कारण है जैसे जिनके लिए वह कर सकते हैं जैसे कि पैसों के लिए कर सकते हैं जो आप को इस्तेमाल करने के लिए कर सकते हैं कुछ ऐसी चीजें हैं इनके लिए वह बेवफाई कर सकते हैं
Romanized Version
लोग जो है वह बेवफ़ाई इसलिए करते हैं जान की बहुत सारी कारण है जैसे जिनके लिए वह कर सकते हैं जैसे कि पैसों के लिए कर सकते हैं जो आप को इस्तेमाल करने के लिए कर सकते हैं कुछ ऐसी चीजें हैं इनके लिए वह बेवफाई कर सकते हैंLog Jo Hai Wah Bevafai Isliye Karte Hain Jaan Ki Bahut Saree Kaaran Hai Jaise Jinke Liye Wah Kar Sakte Hain Jaise Ki Paison Ke Liye Kar Sakte Hain Jo Aap Ko Istemal Karne Ke Liye Kar Sakte Hain Kuch Aisi Cheezen Hain Inke Liye Wah Bewafai Kar Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सही कहा आपने सर्दी के मौसम में पढ़ाई करते वक्त बड़ा आलसी आता है तो 3 तरीके में बताऊंगा आप अपनी ओर से जो आप फॉलो कर सकते हैं नंबर 1 बिस्तर में बैठ कर पढ़ाई ना करें बिस्तर में बैठ किया कंबल ओढ़ के रजाई ओढ़ के पढ़ाई करने से आपको नींद आने की पूरी संभावना है गर्म कपड़े पहन के कुर्सी टेबल पर बैठे हैं चाय आपको फॉक्स भी पहनने मुझे भी पहनने अगर पैर की उंगली में ठंड लगती है तो पहन ले लेकिन गर्म कपड़े पहन कर बिस्तर से दूर बैठे कुर्सी टेबल पर या जमीन पर बैठकर JCB आप पढ़ाई करते हैं नंबर 2 टाइम टेबल के साथ पढ़ाई करें आप हर दिन अपना टाइम निर्धारित करने की इतनी घंटे पढ़ाई करनी है और उसको फॉलो करें नंबर 3 आप सुबह या शाम किसी एक टाइम वॉक करने जरुर जाएगा कुछ XX सेट करें जिससे कि आपका एनर्जी लेवल बना रहे
Romanized Version
बिल्कुल सही कहा आपने सर्दी के मौसम में पढ़ाई करते वक्त बड़ा आलसी आता है तो 3 तरीके में बताऊंगा आप अपनी ओर से जो आप फॉलो कर सकते हैं नंबर 1 बिस्तर में बैठ कर पढ़ाई ना करें बिस्तर में बैठ किया कंबल ओढ़ के रजाई ओढ़ के पढ़ाई करने से आपको नींद आने की पूरी संभावना है गर्म कपड़े पहन के कुर्सी टेबल पर बैठे हैं चाय आपको फॉक्स भी पहनने मुझे भी पहनने अगर पैर की उंगली में ठंड लगती है तो पहन ले लेकिन गर्म कपड़े पहन कर बिस्तर से दूर बैठे कुर्सी टेबल पर या जमीन पर बैठकर JCB आप पढ़ाई करते हैं नंबर 2 टाइम टेबल के साथ पढ़ाई करें आप हर दिन अपना टाइम निर्धारित करने की इतनी घंटे पढ़ाई करनी है और उसको फॉलो करें नंबर 3 आप सुबह या शाम किसी एक टाइम वॉक करने जरुर जाएगा कुछ XX सेट करें जिससे कि आपका एनर्जी लेवल बना रहेBilkul Sahi Kaha Aapne Sardi Ke Mausam Mein Padhai Karte Waqt Bada Aalsi Aata Hai To 3 Tarike Mein Bataunga Aap Apni Oar Se Jo Aap Follow Kar Sakte Hain Number 1 Bistar Mein Baith Kar Padhai Na Karen Bistar Mein Baith Kiya Kambal Odh Ke Rajai Odh Ke Padhai Karne Se Aapko Neend Aane Ki Puri Sambhavna Hai Garam Kapde Pahan Ke Kursi Table Par Baithey Hain Chai Aapko Fox Bhi Pahanne Mujhe Bhi Pahanne Agar Pair Ki Ungali Mein Thand Lagti Hai To Pahan Le Lekin Garam Kapde Pahan Kar Bistar Se Dur Baithey Kursi Table Par Ya Jameen Par Baithkar JCB Aap Padhai Karte Hain Number 2 Time Table Ke Saath Padhai Karen Aap Har Din Apna Time Nirdharit Karne Ki Itni Ghante Padhai Karni Hai Aur Usko Follow Karen Number 3 Aap Subah Ya Shaam Kisi Ek Time Walk Karne Zaroor Jayega Kuch XX Set Karen Jisse Ki Aapka Energy Level Bana Rahe
Likes  18  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिस लड़की से आपकी सगाई हुई है आप उसके बारे में पूरे दिन सोचते रहते हैं कभी-कभी होता है कि शादी से पहले मतलब हमारी सगाई हो जाती है तो हम अपने पार्टनर के बारे में बहुत ही ज्यादा सोचते हैं उनके बारे में कुछ न कुछ सोचते थे कि लाइफ में आने वाले होते हैं उनको जानते तक नहीं है तुम्हें बेहतर सुझाव दूंगा कि अगर आपका आपके पास उनका नंबर है तो आप उनसे बात कर एक बार की बात करने से आपको बहुत अच्छा लगेगा और आप ज्यादा सोचने उनके बारे में उससे आपको काम में भी होने लगा तुमसे कोई बात कर ले मैसेज करो कि वो जल्दी आपकी शादी हो जाएगी तो बेस्ट है करके अपने काम पर ध्यान दें क्योंकि काम बेस्ट है अभी आप का जो है परिवार बढ़ने वाला है तो अपनी जिम्मेदारियां बढ़ेगी उससे अच्छा है कि आप काम पर भी ध्यान दे साथी साथ शादी का लाइव लाइव लाइव को इतना लाएं भैया अब मैं भी हो सकता है आप उनको पहली नजर में देखकर प्यार कर बैठे हो यह भी हो सकता है
Romanized Version
जिस लड़की से आपकी सगाई हुई है आप उसके बारे में पूरे दिन सोचते रहते हैं कभी-कभी होता है कि शादी से पहले मतलब हमारी सगाई हो जाती है तो हम अपने पार्टनर के बारे में बहुत ही ज्यादा सोचते हैं उनके बारे में कुछ न कुछ सोचते थे कि लाइफ में आने वाले होते हैं उनको जानते तक नहीं है तुम्हें बेहतर सुझाव दूंगा कि अगर आपका आपके पास उनका नंबर है तो आप उनसे बात कर एक बार की बात करने से आपको बहुत अच्छा लगेगा और आप ज्यादा सोचने उनके बारे में उससे आपको काम में भी होने लगा तुमसे कोई बात कर ले मैसेज करो कि वो जल्दी आपकी शादी हो जाएगी तो बेस्ट है करके अपने काम पर ध्यान दें क्योंकि काम बेस्ट है अभी आप का जो है परिवार बढ़ने वाला है तो अपनी जिम्मेदारियां बढ़ेगी उससे अच्छा है कि आप काम पर भी ध्यान दे साथी साथ शादी का लाइव लाइव लाइव को इतना लाएं भैया अब मैं भी हो सकता है आप उनको पहली नजर में देखकर प्यार कर बैठे हो यह भी हो सकता हैJis Ladki Se Aapki Sagaai Hui Hai Aap Uske Bare Mein Poore Din Sochte Rehte Hain Kabhi Kabhi Hota Hai Ki Shadi Se Pehle Matlab Hamari Sagaai Ho Jati Hai To Hum Apne Partner Ke Bare Mein Bahut Hi Zyada Sochte Hain Unke Bare Mein Kuch N Kuch Sochte The Ki Life Mein Aane Wali Hote Hain Unko Jante Tak Nahi Hai Tumhein Behtar Sujhaav Dunga Ki Agar Aapka Aapke Paas Unka Number Hai To Aap Unse Baat Kar Ek Baar Ki Baat Karne Se Aapko Bahut Accha Lagega Aur Aap Zyada Sochne Unke Bare Mein Usse Aapko Kaam Mein Bhi Hone Laga Tumse Koi Baat Kar Le Massage Karo Ki Vo Jaldi Aapki Shadi Ho Jayegi To Best Hai Karke Apne Kaam Par Dhyan Dein Kyonki Kaam Best Hai Abhi Aap Ka Jo Hai Parivar Badhne Vala Hai To Apni Jimmedariya Badhegi Usse Accha Hai Ki Aap Kaam Par Bhi Dhyan De Sathi Saath Shadi Ka Live Live Live Ko Itna Laen Bhaiya Ab Main Bhi Ho Sakta Hai Aap Unko Pehli Nazar Mein Dekhkar Pyar Kar Baithey Ho Yeh Bhi Ho Sakta Hai
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए बात करें अनफिट होने की और बीमारी की तो आपको याद दिला दूं कि जोधपुर जेल में आसाराम बापू जी जो थे उन्होंने भी कहा था कि हम फिट है और बीमार हैं तो कुछ लिख दें लेकिन नहीं दी थी और आज तक वह भगवान की दया से हैं स्वास्थ्य हैं तो लालू जी भी स्वस्थ रहेंगे चिंता मत कीजिए क्योंकि भारत की न्यायपालिका साथ साथ में सिर्फ न्यायपालिका दंड विधान ही नहीं देती उसका ख्याल भी बहुत अच्छी तरह कैसे लगती है उसकी खातिरदारी भी बहुत अच्छी तरीके से करती है सारा ध्यान रखा जाएगा चिंता नहीं करनी है और रही बात वास्तव में बीमार है तो कोई ब्लड प्रेशर वगैरह हो गया होगा तो मैं जहां तक मानता हूं यह सिर्फ और सिर्फ 1 लोगों को दिखाना और एक दयालु दयालु बनकर एक दया का पात्र बनना और उस पात्र के जरिए राजनीति करने के अलावा कुछ नहीं है सिर्फ यह स्टंट है जो यह लालू जी कर रहे हैं बाकि इसमें कोई सत्यता नहीं है
Romanized Version
देखिए बात करें अनफिट होने की और बीमारी की तो आपको याद दिला दूं कि जोधपुर जेल में आसाराम बापू जी जो थे उन्होंने भी कहा था कि हम फिट है और बीमार हैं तो कुछ लिख दें लेकिन नहीं दी थी और आज तक वह भगवान की दया से हैं स्वास्थ्य हैं तो लालू जी भी स्वस्थ रहेंगे चिंता मत कीजिए क्योंकि भारत की न्यायपालिका साथ साथ में सिर्फ न्यायपालिका दंड विधान ही नहीं देती उसका ख्याल भी बहुत अच्छी तरह कैसे लगती है उसकी खातिरदारी भी बहुत अच्छी तरीके से करती है सारा ध्यान रखा जाएगा चिंता नहीं करनी है और रही बात वास्तव में बीमार है तो कोई ब्लड प्रेशर वगैरह हो गया होगा तो मैं जहां तक मानता हूं यह सिर्फ और सिर्फ 1 लोगों को दिखाना और एक दयालु दयालु बनकर एक दया का पात्र बनना और उस पात्र के जरिए राजनीति करने के अलावा कुछ नहीं है सिर्फ यह स्टंट है जो यह लालू जी कर रहे हैं बाकि इसमें कोई सत्यता नहीं हैDekhie Baat Karen Anafit Hone Ki Aur Bimari Ki To Aapko Yaad Dila Doon Ki Jodhpur Jail Mein Aasaram Bapu Ji Jo The Unhone Bhi Kaha Tha Ki Hum Fit Hai Aur Bimar Hain To Kuch Likh Dein Lekin Nahi Di Thi Aur Aaj Tak Wah Bhagwan Ki Daya Se Hain Swasthya Hain To Lalu Ji Bhi Swasth Rahenge Chinta Mat Kijiye Kyonki Bharat Ki Nyaypalika Saath Saath Mein Sirf Nyaypalika Dand Vidhan Hi Nahi Deti Uska Khayal Bhi Bahut Acchi Tarah Kaise Lagti Hai Uski Khatirdari Bhi Bahut Acchi Tarike Se Karti Hai Saara Dhyan Rakha Jayega Chinta Nahi Karni Hai Aur Rahi Baat Vaastav Mein Bimar Hai To Koi Blood Pressure Vagairah Ho Gaya Hoga To Main Jahan Tak Manata Hoon Yeh Sirf Aur Sirf 1 Logon Ko Dikhana Aur Ek Dayaalu Dayaalu Bankar Ek Daya Ka Patra Banana Aur Us Patra Ke Jariye Rajneeti Karne Ke Alava Kuch Nahi Hai Sirf Yeh Stunt Hai Jo Yeh Lalu Ji Kar Rahe Hain Baki Isme Koi Satyata Nahi Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
देखेगा आपको भी शर्म को दूर करना है तो उसके लिए आपको खुद बनना चाहिए जो आप खुद हैं आप लोगों को वह दिखाइए आपके अपने आप ही शर्म दूर होती है जाएगी अगर आप कुछ और बनने की कोशिश करेंगे तो आप लोगों को फूल बनना चाहेंगे तो आप नहीं है अच्छा बनने की कोशिश करेंगे तो अपने आप को यह पता चलेगा कि कहीं ना कहीं आप बिंदास नहीं बन रहे हैं आप अपने खुद का तो नहीं है लोगों को वह दिखाइए आप अपना बिंदास बनी है कि जो लोग बदमाश बनने की कोशिश करते हैं और अंदर से नहीं होते हैं वह बहुत अजीब लगते हैं दूसरे लोगों को बिंदास नहीं बल्कि लोगों ने पसंद नहीं करते अपने आसपास रखनाDekhega Aapko Bhi Sharm Ko Dur Karna Hai To Uske Liye Aapko Khud Banana Chahiye Jo Aap Khud Hain Aap Logon Ko Wah Dikhaaiye Aapke Apne Aap Hi Sharm Dur Hoti Hai Jayegi Agar Aap Kuch Aur Banane Ki Koshish Karenge To Aap Logon Ko Fool Banana Chahenge To Aap Nahi Hai Accha Banane Ki Koshish Karenge To Apne Aap Ko Yeh Pata Chalega Ki Kahin Na Kahin Aap Bindas Nahi Ban Rahe Hain Aap Apne Khud Ka To Nahi Hai Logon Ko Wah Dikhaaiye Aap Apna Bindas Bani Hai Ki Jo Log Badamash Banane Ki Koshish Karte Hain Aur Andar Se Nahi Hote Hain Wah Bahut Ajib Lagte Hain Dusre Logon Ko Bindas Nahi Balki Logon Ne Pasand Nahi Karte Apne Aaspass Rakhna
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल के लोगों का सेल्फ सोना ऐसी बात को दर्शाता है कि हर कोई लोग अपनी आवश्यकता की पूर्ति करना चाहता हर कोई फेमस होना चाहता है तो उसके लिए मैं कुछ ना कुछ दूसरों की ना सोच कर अपने कार्य में लगा रहता है तो या नहीं है वह खुद की जरूरतों और आवश्यकताओं के लिए बाय इतना सेल्फिश हो गया है
Romanized Version
आजकल के लोगों का सेल्फ सोना ऐसी बात को दर्शाता है कि हर कोई लोग अपनी आवश्यकता की पूर्ति करना चाहता हर कोई फेमस होना चाहता है तो उसके लिए मैं कुछ ना कुछ दूसरों की ना सोच कर अपने कार्य में लगा रहता है तो या नहीं है वह खुद की जरूरतों और आवश्यकताओं के लिए बाय इतना सेल्फिश हो गया हैAajkal Ke Logon Ka Self Sona Aisi Baat Ko Darshaata Hai Ki Har Koi Log Apni Avashyakta Ki Purti Karna Chahta Har Koi Famous Hona Chahta Hai To Uske Liye Main Kuch Na Kuch Dusron Ki Na Soch Kar Apne Karya Mein Laga Rehta Hai To Ya Nahi Hai Wah Khud Ki Jaruraton Aur Avashayaktao Ke Liye By Itna Selfish Ho Gaya Hai
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए कभी-कभी हम लोग दूसरों से बहुत ज्यादा उम्मीद रखते हैं और जब दूसरे उस उम्मीद पर खरा नहीं उतरते हैं तो हमारा दिल टूट जाता है हम अपने आप में टूट जाते हैं तो आपको किसी दूसरे से ज्यादा उम्मीद नहीं रखनी चाहिए आप जो काम दूसरों से उम्मीद रखते हैं करवाने के लिए अब कुछ करने की कोशिश करिए क्योंकि आप जब दूसरों से उम्मीद रखेंगे वह अगर काम करेगा नहीं तो आपका दिल टूट जाएगा आपकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ होगा और आप बहुत ही आपके अंदर नेगेटिव थिंकिंग आ जाएगी तो जिससे आप उबरने में आपको बहुत टाइम लगेगा तो आप दूसरों से उम्मीद ज्यादा मत रखिए आप जो भी काम करना है खुद से करने की कोशिश करिए जब आप खुद से करेंगे तो आपको हो सकता है उस में फैले और प्राप्त हो प्राप्त होगा तब भी आप को कुछ सीखने को मिलेगा जब आप सीखेंगे तो एक न एक दिन आप जरूर सफल होंगे और आपसे लोग फिर उम्मीद करेंगे धन्यवाद
Romanized Version
देखिए कभी-कभी हम लोग दूसरों से बहुत ज्यादा उम्मीद रखते हैं और जब दूसरे उस उम्मीद पर खरा नहीं उतरते हैं तो हमारा दिल टूट जाता है हम अपने आप में टूट जाते हैं तो आपको किसी दूसरे से ज्यादा उम्मीद नहीं रखनी चाहिए आप जो काम दूसरों से उम्मीद रखते हैं करवाने के लिए अब कुछ करने की कोशिश करिए क्योंकि आप जब दूसरों से उम्मीद रखेंगे वह अगर काम करेगा नहीं तो आपका दिल टूट जाएगा आपकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ होगा और आप बहुत ही आपके अंदर नेगेटिव थिंकिंग आ जाएगी तो जिससे आप उबरने में आपको बहुत टाइम लगेगा तो आप दूसरों से उम्मीद ज्यादा मत रखिए आप जो भी काम करना है खुद से करने की कोशिश करिए जब आप खुद से करेंगे तो आपको हो सकता है उस में फैले और प्राप्त हो प्राप्त होगा तब भी आप को कुछ सीखने को मिलेगा जब आप सीखेंगे तो एक न एक दिन आप जरूर सफल होंगे और आपसे लोग फिर उम्मीद करेंगे धन्यवादDekhie Kabhi Kabhi Hum Log Dusron Se Bahut Zyada Ummid Rakhate Hain Aur Jab Dusre Us Ummid Par Khara Nahi Utarate Hain To Hamara Dil Toot Jata Hai Hum Apne Aap Mein Toot Jaate Hain To Aapko Kisi Dusre Se Zyada Ummid Nahi Rakhni Chahiye Aap Jo Kaam Dusron Se Ummid Rakhate Hain Karwane Ke Liye Ab Kuch Karne Ki Koshish Kariye Kyonki Aap Jab Dusron Se Ummid Rakhenge Wah Agar Kaam Karega Nahi To Aapka Dil Toot Jayega Aapki Bhavnao Ke Saath Khilwad Hoga Aur Aap Bahut Hi Aapke Andar Negative Thinking Aa Jayegi To Jisse Aap Ubarane Mein Aapko Bahut Time Lagega To Aap Dusron Se Ummid Zyada Mat Rakhiye Aap Jo Bhi Kaam Karna Hai Khud Se Karne Ki Koshish Kariye Jab Aap Khud Se Karenge To Aapko Ho Sakta Hai Us Mein Faile Aur Prapt Ho Prapt Hoga Tab Bhi Aap Ko Kuch Seekhne Ko Milega Jab Aap Sikhenge To Ek N Ek Din Aap Jarur Safal Honge Aur Aapse Log Phir Ummid Karenge Dhanyavad
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह तो मतलब परसेंट पूजन विधि करता है इसमें किसी के कुछ मतलब यह सब क्यों नहीं पहुंचा चॉइस है कि उन्हें अपना होने वाला हस्बैंड मतलब कैसे सही है ना अभी उन्हें कोई प्रॉब्लम है आपकी वजन होने से या ना होने से यह आपको अवश्य लड़की बता सकती है जिंदाबाद स्टार्ट करें और जानें अपनी पत्नी बनाना बनाना चाहते हो मैं इस पर कुछ अपना भी नहीं रख सकती की नार्मल एक इंसान को फर्क पड़ेगा या नहीं पड़ेगा क्योंकि सबकी अपनी अपनी चॉइस होती है सबका अपना अपना माइंड सेट हो सबकी अपनी पर्सनालिटी होती है तो मैं मुझे नहीं पता कि दो मुझे नहीं पता कि आपकी होने वाली पत्नी जो आपको किसी वेबसाइट पर मिलेगी उससे आपके वजन होने या ना होने से फर्क पड़ेगा या नहीं
Romanized Version
देखिए यह तो मतलब परसेंट पूजन विधि करता है इसमें किसी के कुछ मतलब यह सब क्यों नहीं पहुंचा चॉइस है कि उन्हें अपना होने वाला हस्बैंड मतलब कैसे सही है ना अभी उन्हें कोई प्रॉब्लम है आपकी वजन होने से या ना होने से यह आपको अवश्य लड़की बता सकती है जिंदाबाद स्टार्ट करें और जानें अपनी पत्नी बनाना बनाना चाहते हो मैं इस पर कुछ अपना भी नहीं रख सकती की नार्मल एक इंसान को फर्क पड़ेगा या नहीं पड़ेगा क्योंकि सबकी अपनी अपनी चॉइस होती है सबका अपना अपना माइंड सेट हो सबकी अपनी पर्सनालिटी होती है तो मैं मुझे नहीं पता कि दो मुझे नहीं पता कि आपकी होने वाली पत्नी जो आपको किसी वेबसाइट पर मिलेगी उससे आपके वजन होने या ना होने से फर्क पड़ेगा या नहींDekhie Yeh To Matlab Percent Pujan Vidhi Karta Hai Isme Kisi Ke Kuch Matlab Yeh Sab Kyun Nahi Pahuncha Choice Hai Ki Unhen Apna Hone Wala Husband Matlab Kaise Sahi Hai Na Abhi Unhen Koi Problem Hai Aapki Wajan Hone Se Ya Na Hone Se Yeh Aapko Avashya Ladki Bata Sakti Hai Jindabad Start Karen Aur Janein Apni Patni Banana Banana Chahte Ho Main Is Par Kuch Apna Bhi Nahi Rakh Sakti Ki Normal Ek Insaan Ko Fark Padega Ya Nahi Padega Kyonki Sabaki Apni Apni Choice Hoti Hai Sabka Apna Apna Mind Set Ho Sabaki Apni Personality Hoti Hai To Main Mujhe Nahi Pata Ki Do Mujhe Nahi Pata Ki Aapki Hone Wali Patni Jo Aapko Kisi Website Par Milegi Usse Aapke Wajan Hone Ya Na Hone Se Fark Padega Ya Nahi
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धूप में संवाद जो है कपड़े पहन कर आने से कोई फायदा नहीं होगा आप संभाल लेना चाहते हैं तो कपड़े को निकालकर आप जाए उसे क्या होता है जब सूरज की किरणें निकले आपके बॉडी पर पड़ती है तो उससे जो हर 1 + ईश होती है हर एक गरीब का अलग-अलग फायदा होता है यह सूरज किसी की इस में इंसल्ट होती है अब तक वर्ल्ड ट्रेड होती है इंसान क्या करता है ऐसे कि आपकी जो स्क्रीन पर जो हॉस्पिटल में होता है वही आपको इलाज करने में जोर से मत उसके दुश्मन है उसको सपोर्ट करता है जो लिंग को कम करता है पेन को कम करता है तो यह काफी ठंड के मौसम में होता है उसको बिलकुल लेना चाहिए साजन का बर्थडे है जो कि आपको विटामिन डी होता है उसमें दो जब जब बाहर जाते हैं तो बेस्ट सोर्स ऑफ विटामिन डी का जो सन कि केंद्र व प्रेतबाधा चालीसा भाषण बीमारी से बस स्टैंड से हड्डी कौन सी थी जो भिमानी होती है इसे कि देखकर स्कोर कुछ बताया टेंशन देता है मजबूर देता है बालों के लिए अच्छा होता है तो आप उसे चैट निकालकर जाए तो बेहतर रहेगा
Romanized Version
धूप में संवाद जो है कपड़े पहन कर आने से कोई फायदा नहीं होगा आप संभाल लेना चाहते हैं तो कपड़े को निकालकर आप जाए उसे क्या होता है जब सूरज की किरणें निकले आपके बॉडी पर पड़ती है तो उससे जो हर 1 + ईश होती है हर एक गरीब का अलग-अलग फायदा होता है यह सूरज किसी की इस में इंसल्ट होती है अब तक वर्ल्ड ट्रेड होती है इंसान क्या करता है ऐसे कि आपकी जो स्क्रीन पर जो हॉस्पिटल में होता है वही आपको इलाज करने में जोर से मत उसके दुश्मन है उसको सपोर्ट करता है जो लिंग को कम करता है पेन को कम करता है तो यह काफी ठंड के मौसम में होता है उसको बिलकुल लेना चाहिए साजन का बर्थडे है जो कि आपको विटामिन डी होता है उसमें दो जब जब बाहर जाते हैं तो बेस्ट सोर्स ऑफ विटामिन डी का जो सन कि केंद्र व प्रेतबाधा चालीसा भाषण बीमारी से बस स्टैंड से हड्डी कौन सी थी जो भिमानी होती है इसे कि देखकर स्कोर कुछ बताया टेंशन देता है मजबूर देता है बालों के लिए अच्छा होता है तो आप उसे चैट निकालकर जाए तो बेहतर रहेगाDhoop Mein Sanvaad Jo Hai Kapde Pahan Kar Aane Se Koi Fayda Nahi Hoga Aap Sambhaala Lena Chahte Hain To Kapde Ko Nikalakar Aap Jaye Use Kya Hota Hai Jab Suraj Ki Kirne Nikale Aapke Body Par Padhti Hai To Usse Jo Har 1 + Eisha Hoti Hai Har Ek Garib Ka Alag Alag Fayda Hota Hai Yeh Suraj Kisi Ki Is Mein Insult Hoti Hai Ab Tak World Trade Hoti Hai Insaan Kya Karta Hai Aise Ki Aapki Jo Screen Par Jo Hospital Mein Hota Hai Wahi Aapko Ilaj Karne Mein Jor Se Mat Uske Dushman Hai Usko Support Karta Hai Jo Ling Ko Kum Karta Hai Pen Ko Kum Karta Hai To Yeh Kafi Thand Ke Mausam Mein Hota Hai Usko Bilkul Lena Chahiye Sajan Ka Birthday Hai Jo Ki Aapko Vitamin D Hota Hai Usamen Do Jab Jab Bahar Jaate Hain To Best Source Of Vitamin D Ka Jo Sun Ki Kendra V Pretabadha Chalisa Bhashan Bimari Se Bus Stand Se Haddi Kaun Si Thi Jo Bhimani Hoti Hai Ise Ki Dekhkar Score Kuch Bataya Tension Deta Hai Majboor Deta Hai Balon Ke Liye Accha Hota Hai To Aap Use Chat Nikalakar Jaye To Behtar Rahega
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लुक दादा दादी का रिस्पेक्ट नहीं करते हैं कि आज ज्यादा देखने को मिलता है लेकिन उनका मेन रीजन है कि अगर पैरंट्स को मैं रिस्पेक्ट नहीं दूंगा मेरे पैरंट्स को तो जो बच्चे देखेंगे वही करेंगे बच्चे की भाषा समझते हैं वह अनुकरण कि अगर मैं मेरे पैरंट्स को बहुत रिश्वत देता हूं उनको पूछ कर सब कुछ करता हूं उनके साथ बैठता हूं तो मेरे बच्चे भी उनके दादा दादी के साथ बैठेंगे और उनको सुनेंगे उनके कुछ चला लेंगे लेकिन उसकी सबसे पहले हमको हमारे पेरेंट्स के साथ बहुत अच्छा व्यवहार करना जरूरी है दूसरा दादा दादी को भी अपनी पुरानी मान्यताओं को छोड़ कर अभी के बच्चे के क्या रिक्वायरमेंट है उनको फ्रीडम देना उनको जिस चीज में इंटरेस्ट है उसमें हमको कृष्ण लीला बर्बाद टुकटुक नहीं करना ऐसा मत करो ऐसा मत करो उनको पॉजिटिविटी में रखना उनको या प्रेषित करना उनके साथ बच्चा बनकर जीना तो वह जरूर दादा दादी को रिस्पेक्ट करेंगे दोनों पक्ष में सावधानी की जरूरत है
Romanized Version
लुक दादा दादी का रिस्पेक्ट नहीं करते हैं कि आज ज्यादा देखने को मिलता है लेकिन उनका मेन रीजन है कि अगर पैरंट्स को मैं रिस्पेक्ट नहीं दूंगा मेरे पैरंट्स को तो जो बच्चे देखेंगे वही करेंगे बच्चे की भाषा समझते हैं वह अनुकरण कि अगर मैं मेरे पैरंट्स को बहुत रिश्वत देता हूं उनको पूछ कर सब कुछ करता हूं उनके साथ बैठता हूं तो मेरे बच्चे भी उनके दादा दादी के साथ बैठेंगे और उनको सुनेंगे उनके कुछ चला लेंगे लेकिन उसकी सबसे पहले हमको हमारे पेरेंट्स के साथ बहुत अच्छा व्यवहार करना जरूरी है दूसरा दादा दादी को भी अपनी पुरानी मान्यताओं को छोड़ कर अभी के बच्चे के क्या रिक्वायरमेंट है उनको फ्रीडम देना उनको जिस चीज में इंटरेस्ट है उसमें हमको कृष्ण लीला बर्बाद टुकटुक नहीं करना ऐसा मत करो ऐसा मत करो उनको पॉजिटिविटी में रखना उनको या प्रेषित करना उनके साथ बच्चा बनकर जीना तो वह जरूर दादा दादी को रिस्पेक्ट करेंगे दोनों पक्ष में सावधानी की जरूरत हैLook Dada Dadi Ka Respect Nahi Karte Hain Ki Aaj Zyada Dekhne Ko Milta Hai Lekin Unka Main Reason Hai Ki Agar Parents Ko Main Respect Nahi Dunga Mere Parents Ko To Jo Bacche Dekhenge Wahi Karenge Bacche Ki Bhasha Samajhte Hain Wah Anukaran Ki Agar Main Mere Parents Ko Bahut Rishwat Deta Hoon Unko Pooch Kar Sab Kuch Karta Hoon Unke Saath Baithta Hoon To Mere Bacche Bhi Unke Dada Dadi Ke Saath Baitheange Aur Unko Sunenge Unke Kuch Chala Lenge Lekin Uski Sabse Pehle Hamko Hamare Parents Ke Saath Bahut Accha Vyavhar Karna Zaroori Hai Doosra Dada Dadi Ko Bhi Apni Purani Manyataon Ko Chod Kar Abhi Ke Bacche Ke Kya Requirement Hai Unko Freedom Dena Unko Jis Cheez Mein Interest Hai Usamen Hamko Krishan Leela Barbad Tuktuk Nahi Karna Aisa Mat Karo Aisa Mat Karo Unko Pajitiviti Mein Rakhna Unko Ya Preshit Karna Unke Saath Baccha Bankar Jeena To Wah Jarur Dada Dadi Ko Respect Karenge Dono Paksh Mein Savadhani Ki Zaroorat Hai
Likes  17  Dislikes
WhatsApp_icon
गाना देखा जाए तो नार्मल गाली के भी अलग-अलग तरीके होते हैं जैसे कि अकाली अगर आप दोस्तों के बीच में किसी भी कॉमन लैंग्वेज होती है गाली देना उनके टाइप कर देते हैं हंसी मजाक में देते हैं कि आप गाली गंदी गाली दे रहे हैं और साथ ही साथ आपको लगता है क्या बहुत ही महान है यह बहुत ही गलत है तो आइए जो सोच है यह जो हमारे अंदर मतलब कि एक विचार है कि हम गाली देकर किसी से जीत जाते हैं हमारे यह बिल्कुल से दूर करनी चाहिए तभी हमारी युवा पीढ़ी सुधर पाएगी कि कमाई हुई है जिसमेंGaana Dekha Jaye To Normal Gaali Ke Bhi Alag Alag Tarike Hote Hain Jaise Ki Akali Agar Aap Doston Ke Beech Mein Kisi Bhi Common Language Hoti Hai Gaali Dena Unke Type Kar Dete Hain Hansi Mazak Mein Dete Hain Ki Aap Gaali Gandi Gaali De Rahe Hain Aur Saath Hi Saath Aapko Lagta Hai Kya Bahut Hi Mahaan Hai Yeh Bahut Hi Galat Hai To Aaiye Jo Soch Hai Yeh Jo Hamare Andar Matlab Ki Ek Vichar Hai Ki Hum Gaali Dekar Kisi Se Jeet Jaate Hain Hamare Yeh Bilkul Se Dur Karni Chahiye Tabhi Hamari Yuva Pidhi Sudhar Payegi Ki Kamai Hui Hai Jisme
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इतिहास चक्र उठाकर देखें तो हमेशा से ही लोगों ने राजनीति में रुचि दिखाई है परंतु पहले जमाने में जो राजा हुआ करते थे उनका आदेश ही सर्वोच्च हुआ करता था और लोगों को अधिकार नहीं था कि उनका विरोध करें आदेश की अवहेलना करें लेकिन आज के जो लोग हैं वह बहुत ज्यादा पढ़े-लिखे और समझदार हो गए हैं और हर कोई इंसान राजनीति में कृषि एक रुझान रखता है रोग राजनीति के बारे में पढ़ते हैं समझते हैं कौन क्या कर रहा है यह चीजें देखते हैं और इसी वजह से और लोगों की रुचि बढ़ गई है और इसी वजह से जो पोलिटिकल पार्टीज है वह भी कहीं ना कहीं अच्छा करने के लिए देश के आदेश को और विकास विकसित करने के लिए कोशिश करती हैं वरना हम को पता है जो 5 साल जब कंप्लीट होंगे तो दोबारा और लोगों को वोट नहीं देंगे उनको समर्थन नहीं देंगे इसी वजह से लोगों की राजनीति में रुचि है वह इस तरह से अच्छी साबित हुई है और वह क्यों रखते हैं जो इस तरह की रूचि क्योंकि और जो पहले के लोग थे उनको अधिकार नहीं थे लेकिन आज के लोगों को अधिकार है तो वह पूरी तरह से उनका रिक्वायरमेंट जो भी है उन को फुल फील कर रहे हैं और उन्हें अपने अधिकारों का पूरी तरह से फायदा उठा रहे हैं ताकि जो देश में हो उनकी मर्जी से हो अगर कुछ भी ऐसा हो रहा है जो गलत है तो उसके खिलाफ विरोध कर सकें और आवाज उठा कर उसको खत्म कर सके
Romanized Version
इतिहास चक्र उठाकर देखें तो हमेशा से ही लोगों ने राजनीति में रुचि दिखाई है परंतु पहले जमाने में जो राजा हुआ करते थे उनका आदेश ही सर्वोच्च हुआ करता था और लोगों को अधिकार नहीं था कि उनका विरोध करें आदेश की अवहेलना करें लेकिन आज के जो लोग हैं वह बहुत ज्यादा पढ़े-लिखे और समझदार हो गए हैं और हर कोई इंसान राजनीति में कृषि एक रुझान रखता है रोग राजनीति के बारे में पढ़ते हैं समझते हैं कौन क्या कर रहा है यह चीजें देखते हैं और इसी वजह से और लोगों की रुचि बढ़ गई है और इसी वजह से जो पोलिटिकल पार्टीज है वह भी कहीं ना कहीं अच्छा करने के लिए देश के आदेश को और विकास विकसित करने के लिए कोशिश करती हैं वरना हम को पता है जो 5 साल जब कंप्लीट होंगे तो दोबारा और लोगों को वोट नहीं देंगे उनको समर्थन नहीं देंगे इसी वजह से लोगों की राजनीति में रुचि है वह इस तरह से अच्छी साबित हुई है और वह क्यों रखते हैं जो इस तरह की रूचि क्योंकि और जो पहले के लोग थे उनको अधिकार नहीं थे लेकिन आज के लोगों को अधिकार है तो वह पूरी तरह से उनका रिक्वायरमेंट जो भी है उन को फुल फील कर रहे हैं और उन्हें अपने अधिकारों का पूरी तरह से फायदा उठा रहे हैं ताकि जो देश में हो उनकी मर्जी से हो अगर कुछ भी ऐसा हो रहा है जो गलत है तो उसके खिलाफ विरोध कर सकें और आवाज उठा कर उसको खत्म कर सकेItihas Chakra Uthaakar Dekhen To Hamesha Se Hi Logon Ne Rajneeti Mein Ruchi Dikhai Hai Parantu Pehle Jamaane Mein Jo Raja Hua Karte The Unka Aadesh Hi Sarvoch Hua Karta Tha Aur Logon Ko Adhikaar Nahi Tha Ki Unka Virodh Karen Aadesh Ki Avahelana Karen Lekin Aaj Ke Jo Log Hain Wah Bahut Jyada Padhe Likhe Aur Samajhdar Ho Gaye Hain Aur Har Koi Insaan Rajneeti Mein Krishi Ek Rujhan Rakhta Hai Rog Rajneeti Ke Baare Mein Padhte Hain Samajhte Hain Kaun Kya Kar Raha Hai Yeh Cheezen Dekhte Hain Aur Isi Wajah Se Aur Logon Ki Ruchi Badh Gayi Hai Aur Isi Wajah Se Jo Political Parties Hai Wah Bhi Kahin Na Kahin Accha Karne Ke Liye Desh Ke Aadesh Ko Aur Vikash Viksit Karne Ke Liye Koshish Karti Hain Varana Hum Ko Pata Hai Jo 5 Saal Jab Complete Honge To Dobara Aur Logon Ko Vote Nahi Denge Unko Samarthan Nahi Denge Isi Wajah Se Logon Ki Rajneeti Mein Ruchi Hai Wah Is Tarah Se Acchi Saabit Hui Hai Aur Wah Kyun Rakhate Hain Jo Is Tarah Ki Ruchi Kyonki Aur Jo Pehle Ke Log The Unko Adhikaar Nahi The Lekin Aaj Ke Logon Ko Adhikaar Hai To Wah Puri Tarah Se Unka Requirement Jo Bhi Hai Un Ko Full Feel Kar Rahe Hain Aur Unhen Apne Adhikaaro Ka Puri Tarah Se Fayda Utha Rahe Hain Taki Jo Desh Mein Ho Unki Marji Se Ho Agar Kuch Bhi Aisa Ho Raha Hai Jo Galat Hai To Uske Khilaf Virodh Kar Saken Aur Aawaj Utha Kar Usko Khatam Kar Sake
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह आपकी आपकी गर्लफ्रेंड का एक दूसरे को बहुत प्यार करते हैं ठीक है यह अच्छी बात है मगर दूसरों की बातों में आकर जो एक दूसरे को प्यार करते हैं तो दूसरा कोई बात बताएं तो थोड़ा सा शक हो जाता है मगर उसको नाराज नहीं होना चाहिए बात कपड़े पागल खाना चाहिए क्योंकि एक दूसरे पर ट्रस्ट जो है वह बहुत इंपोर्टेंट रिलेशनशिप में आपको एक दूसरे पर ट्रस्ट गाना चाहिए आपको प्यार होना चाहिए बीच में तो ऐसा ही होगा तभी लेकिन चलेगा उसको प्यार से समझाओ कि किसी पर किसी की बातों पर नहीं आया करो अब अगर आप मुझसे प्यार करते तो आपको मेरे पर ट्रस्ट होना चाहिए ऐसी वैसी चीज है बोलो कि जिससे वह ठीक हो जाए
Romanized Version
यह आपकी आपकी गर्लफ्रेंड का एक दूसरे को बहुत प्यार करते हैं ठीक है यह अच्छी बात है मगर दूसरों की बातों में आकर जो एक दूसरे को प्यार करते हैं तो दूसरा कोई बात बताएं तो थोड़ा सा शक हो जाता है मगर उसको नाराज नहीं होना चाहिए बात कपड़े पागल खाना चाहिए क्योंकि एक दूसरे पर ट्रस्ट जो है वह बहुत इंपोर्टेंट रिलेशनशिप में आपको एक दूसरे पर ट्रस्ट गाना चाहिए आपको प्यार होना चाहिए बीच में तो ऐसा ही होगा तभी लेकिन चलेगा उसको प्यार से समझाओ कि किसी पर किसी की बातों पर नहीं आया करो अब अगर आप मुझसे प्यार करते तो आपको मेरे पर ट्रस्ट होना चाहिए ऐसी वैसी चीज है बोलो कि जिससे वह ठीक हो जाएYeh Aapki Aapki Girlfriend Ka Ek Dusre Ko Bahut Pyar Karte Hain Theek Hai Yeh Acchi Baat Hai Magar Dusron Ki Baaton Mein Aakar Jo Ek Dusre Ko Pyar Karte Hain To Doosra Koi Baat Bataen To Thoda Sa Shaq Ho Jata Hai Magar Usko Naaraj Nahi Hona Chahiye Baat Kapde Pagal Khana Chahiye Kyonki Ek Dusre Par Trust Jo Hai Wah Bahut Important Relationship Mein Aapko Ek Dusre Par Trust Gaana Chahiye Aapko Pyar Hona Chahiye Beech Mein To Aisa Hi Hoga Tabhi Lekin Chalega Usko Pyar Se Samjhao Ki Kisi Par Kisi Ki Baaton Par Nahi Aaya Karo Ab Agar Aap Mujhse Pyar Karte To Aapko Mere Par Trust Hona Chahiye Aisi Waisi Cheez Hai Bolo Ki Jisse Wah Theek Ho Jaye
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बहुत अच्छी बात है कि आप दूसरों के लिए बहुत कुछ सोचते हैं उनके लिए अच्छा करते हैं लेकिन आपने यह तो सुना ही होगा नेकी कर दरिया में डाल एक न एक दिन आपको अपने परिश्रम का फल अवश्य मिलेगा आप दूसरों के लिए अच्छा करते रहिए अच्छा सोचते रहिए और लोगों को भी अंदर ही अंदर यह अवश्य पता होगा कि आप कितने अच्छे हैं कि आप उनके लिए इतना कुछ सोचते हैं 1 दिन मैं जरुर आपके लिए कुछ ना कुछ करेंगे आप इस बात की टेंशन मत लीजिए कि आप औरों के लिए सोच रहे हैं लेकिन वह आपका नहीं सोचते हर व्यक्ति को पता होता है कि दूसरा व्यक्ति हमारे लिए कितना कुछ कर रहा होता है शायद वह सब कुछ सही पल का इंतजार कर रहे हो जब वह आपके लिए कुछ कर पाए तो आप बस उस पल का इंतजार करिए और जैसे हैं वैसे ही रहिए
Romanized Version
यह बहुत अच्छी बात है कि आप दूसरों के लिए बहुत कुछ सोचते हैं उनके लिए अच्छा करते हैं लेकिन आपने यह तो सुना ही होगा नेकी कर दरिया में डाल एक न एक दिन आपको अपने परिश्रम का फल अवश्य मिलेगा आप दूसरों के लिए अच्छा करते रहिए अच्छा सोचते रहिए और लोगों को भी अंदर ही अंदर यह अवश्य पता होगा कि आप कितने अच्छे हैं कि आप उनके लिए इतना कुछ सोचते हैं 1 दिन मैं जरुर आपके लिए कुछ ना कुछ करेंगे आप इस बात की टेंशन मत लीजिए कि आप औरों के लिए सोच रहे हैं लेकिन वह आपका नहीं सोचते हर व्यक्ति को पता होता है कि दूसरा व्यक्ति हमारे लिए कितना कुछ कर रहा होता है शायद वह सब कुछ सही पल का इंतजार कर रहे हो जब वह आपके लिए कुछ कर पाए तो आप बस उस पल का इंतजार करिए और जैसे हैं वैसे ही रहिएYeh Bahut Acchi Baat Hai Ki Aap Dusron Ke Liye Bahut Kuch Sochte Hain Unke Liye Accha Karte Hain Lekin Aapne Yeh To Suna Hi Hoga Neki Kar Dariya Mein Dal Ek N Ek Din Aapko Apne Parishram Ka Fal Avashya Milega Aap Dusron Ke Liye Accha Karte Rahiye Accha Sochte Rahiye Aur Logon Ko Bhi Andar Hi Andar Yeh Avashya Pata Hoga Ki Aap Kitne Acche Hain Ki Aap Unke Liye Itna Kuch Sochte Hain 1 Din Main Zaroor Aapke Liye Kuch Na Kuch Karenge Aap Is Baat Ki Tension Mat Lijiye Ki Aap Auron Ke Liye Soch Rahe Hain Lekin Wah Aapka Nahi Sochte Har Vyakti Ko Pata Hota Hai Ki Doosra Vyakti Hamare Liye Kitna Kuch Kar Raha Hota Hai Shayad Wah Sab Kuch Sahi Pal Ka Intejar Kar Rahe Ho Jab Wah Aapke Liye Kuch Kar Paye To Aap Bus Us Pal Ka Intejar Kariye Aur Jaise Hain Waise Hi Rahiye
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आज का ऐसा जमाना है कि जो अपने आप को आगे बढ़ाने का जमाना है कि अगर आप अपने आप को आगे बढ़ाएं बढ़ाएं नहीं जो आप में हो या लाइफ में हो तो आप पीछे रह जाते हो वहां तू इस बात में तो सोचो तो आप सोचोगे कि स्वार्थी होना सहमत है कि अच्छी बात है मैं लक्ष्मी में गलत है क्योंकि स्वार्थ में लोग बहुत गलत गलत काम कर कर देते हैं जो उठता है उनको एक जाति पूरा समझ में नहीं आता है वह उस टाइम वह सही लगता है फिर बाद में वह पछताए पछताते हैं क्योंकि यह गलत है क्योंकि वह आपको कौन सी थी आपको पता है कि यह बात गलत रहता है और फिर भी उसके सिचुएशन में आप सही कर पाते हो उसको कर लेते हो क्योंकि वह आपको आपके दिमाग में उस टाइम सही लगता है बट बाद में आपको इस बात का पछतावा होगा
Romanized Version
देखिए आज का ऐसा जमाना है कि जो अपने आप को आगे बढ़ाने का जमाना है कि अगर आप अपने आप को आगे बढ़ाएं बढ़ाएं नहीं जो आप में हो या लाइफ में हो तो आप पीछे रह जाते हो वहां तू इस बात में तो सोचो तो आप सोचोगे कि स्वार्थी होना सहमत है कि अच्छी बात है मैं लक्ष्मी में गलत है क्योंकि स्वार्थ में लोग बहुत गलत गलत काम कर कर देते हैं जो उठता है उनको एक जाति पूरा समझ में नहीं आता है वह उस टाइम वह सही लगता है फिर बाद में वह पछताए पछताते हैं क्योंकि यह गलत है क्योंकि वह आपको कौन सी थी आपको पता है कि यह बात गलत रहता है और फिर भी उसके सिचुएशन में आप सही कर पाते हो उसको कर लेते हो क्योंकि वह आपको आपके दिमाग में उस टाइम सही लगता है बट बाद में आपको इस बात का पछतावा होगाDekhie Aaj Ka Aisa Jamana Hai Ki Jo Apne Aap Ko Aage Badhane Ka Jamana Hai Ki Agar Aap Apne Aap Ko Aage Badhaye Badhaye Nahi Jo Aap Mein Ho Ya Life Mein Ho To Aap Piche Rah Jaate Ho Wahan Tu Is Baat Mein To Socho To Aap Sochoge Ki Swaarthi Hona Sahmat Hai Ki Acchi Baat Hai Main Laxmi Mein Galat Hai Kyonki Swartha Mein Log Bahut Galat Galat Kaam Kar Kar Dete Hain Jo Uthata Hai Unko Ek Jati Pura Samajh Mein Nahi Aata Hai Wah Us Time Wah Sahi Lagta Hai Phir Baad Mein Wah Pachataye Pachhtaate Hain Kyonki Yeh Galat Hai Kyonki Wah Aapko Kaun Si Thi Aapko Pata Hai Ki Yeh Baat Galat Rehta Hai Aur Phir Bhi Uske Situation Mein Aap Sahi Kar Paate Ho Usko Kar Lete Ho Kyonki Wah Aapko Aapke Dimag Mein Us Time Sahi Lagta Hai But Baad Mein Aapko Is Baat Ka Pachtava Hoga
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां आज के समय में भी बहुत से अच्छे और ईमानदार लोग मौजूद हैं आप इन लोगों को देखना चाहोगे तो आपको ऐसे ही ऐसे लोग दिखने शुरू हो जाएंगे
Romanized Version
जी हां आज के समय में भी बहुत से अच्छे और ईमानदार लोग मौजूद हैं आप इन लोगों को देखना चाहोगे तो आपको ऐसे ही ऐसे लोग दिखने शुरू हो जाएंगेG Haan Aaj Ke Samay Mein Bhi Bahut Se Acche Aur Imandar Log Maujud Hain Aap In Logon Ko Dekhna Chahoge To Aapko Aise Hi Aise Log Dikhne Shuru Ho Jaenge
Likes  64  Dislikes
WhatsApp_icon
vokalandroid