tag_img

ज्ञान गंगा

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिसे मैं समझता हूं कि यह जो शिवसेना द्वारा अगर बात भी कही नहीं है तो बिल्कुल ही तथ्यहीन है और इसमें कोई सत्य होने की मुझे संभावना नजर नहीं आ रही है और बाजपेई जी जो है वह एम्स में थे और उनकी जो निगरानी करने वाले डॉक्टर थे मैं नहीं समझता कि वह चीजों को एक दिन चुप आएंगे और इस तरीके की कोई पोस्ट प्रेषित की जाएगी जिससे कि जो है वह प्रधानमंत्री का भाषण में सेट हो और इससे कर्म की डेट को एक दिन डिलीट किया जाए तो यह तो मैं समझता हूं कि यह बड़े ही वह ही टाइप की राजनीति है और यह हमारे राजनीति का एक ही बहुत ही खराब चेहरा है जो एक्सीडेंट हुआ है इस बात में मुझे कोई तथ्य होने की संभावना नजर नहीं आती है
Romanized Version
जिसे मैं समझता हूं कि यह जो शिवसेना द्वारा अगर बात भी कही नहीं है तो बिल्कुल ही तथ्यहीन है और इसमें कोई सत्य होने की मुझे संभावना नजर नहीं आ रही है और बाजपेई जी जो है वह एम्स में थे और उनकी जो निगरानी करने वाले डॉक्टर थे मैं नहीं समझता कि वह चीजों को एक दिन चुप आएंगे और इस तरीके की कोई पोस्ट प्रेषित की जाएगी जिससे कि जो है वह प्रधानमंत्री का भाषण में सेट हो और इससे कर्म की डेट को एक दिन डिलीट किया जाए तो यह तो मैं समझता हूं कि यह बड़े ही वह ही टाइप की राजनीति है और यह हमारे राजनीति का एक ही बहुत ही खराब चेहरा है जो एक्सीडेंट हुआ है इस बात में मुझे कोई तथ्य होने की संभावना नजर नहीं आती हैJise Main Samajhataa Hoon Qi Yeh Joe Shivsena Dwara Agar Baat Bhi Kahii Nahin Hai To Bilkool Hea Tathyahin Hai Aur Ismein Koi Satya Hone Ki Mujhe Sambhavana Nazar Nahin Aa Rahi Hai Aur Bajpei G Joe Hai Wah AIMS Mein The Aur Unki Joe Nigrani Karne Wale Doctor The Main Nahin Samajhataa Qi Wah Chijon Co Ek Din Chup Aenge Aur Is Tarike Ki Koi Post Preshit Ki Jaaegi Jisase Qi Joe Hai Wah Pradhaanmatree Ka Bhaashan Mein Set Ho Aur Issase Karma Ki Date Co Ek Din Delete Kiya Jae To Yeh To Main Samajhataa Hoon Qi Yeh Bade Hea Wah Hea Type Ki Rajniti Hai Aur Yeh Hamare Rajniti Ka Ek Hea Bahut Hea Kharab Chehra Hai Joe Eksident Hua Hai Is Baat Mein Mujhe Koi Tathya Hone Ki Sambhavana Nazar Nahin Auti Hai
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महिलाओं को समय इसलिए ज्यादा लगता है क्योंकि वह समझ नहीं पाते कि कौन सा कपड़ा पहना जाए आधे टाइम तो इसी में ही चला जाता है
Romanized Version
महिलाओं को समय इसलिए ज्यादा लगता है क्योंकि वह समझ नहीं पाते कि कौन सा कपड़ा पहना जाए आधे टाइम तो इसी में ही चला जाता हैMahilaon Ko Samay Isliye Zyada Lagta Hai Kyonki Wah Samajh Nahi Paate Ki Kaon Sa Kapda Pahana Jaye Aadhe Time To Isi Mein Hi Chala Jata Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लॉर्ड माउंटबेटन जो कि इंडिया के लास्ट ब्रिटिश वायसराय थे उनको ब्रिटिश सरकार ने यह काम दिया गया क्योंकि जब यह तय हो गया कि भारत को आजादी देनी है तो उन्होंने बोला कि आप भारत को जून 1939 तक आजाद कर दीजिए लेकिन लॉर्ड माउंटबेटन ने देखा कि देश में हालात बहुत अच्छे नहीं है हिंदू मुस्लिम आपस में भी लड़ रहे हैं तो उन्होंने गीतो दंगे हो रहे थे देश के अंदर जो आपस में झगड़े हो रहे थे उन्होंने सोचा इसमें ज्यादा अच्छा यह है कि अंग्रेज इस देश से जल्दी चले जाएं तो उन्होंने 15 अगस्त 1947 की डेट निर्धारित और बच्चों की 15 अगस्त 2 साल पहले यानी कि 1945 में जापान ने वर्ल्ड वॉर में सरेंडर किया था तो यह उसकी दूसरी वर्षगांठ की थी तो इसलिए उन्हें 15 अगस्त की डेट डिसाइड की और इसीलिए 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस इंडिपेंडेंस डे मनाया जाता है और उस दिन भारत को आजादी दे दी गई
Romanized Version
लॉर्ड माउंटबेटन जो कि इंडिया के लास्ट ब्रिटिश वायसराय थे उनको ब्रिटिश सरकार ने यह काम दिया गया क्योंकि जब यह तय हो गया कि भारत को आजादी देनी है तो उन्होंने बोला कि आप भारत को जून 1939 तक आजाद कर दीजिए लेकिन लॉर्ड माउंटबेटन ने देखा कि देश में हालात बहुत अच्छे नहीं है हिंदू मुस्लिम आपस में भी लड़ रहे हैं तो उन्होंने गीतो दंगे हो रहे थे देश के अंदर जो आपस में झगड़े हो रहे थे उन्होंने सोचा इसमें ज्यादा अच्छा यह है कि अंग्रेज इस देश से जल्दी चले जाएं तो उन्होंने 15 अगस्त 1947 की डेट निर्धारित और बच्चों की 15 अगस्त 2 साल पहले यानी कि 1945 में जापान ने वर्ल्ड वॉर में सरेंडर किया था तो यह उसकी दूसरी वर्षगांठ की थी तो इसलिए उन्हें 15 अगस्त की डेट डिसाइड की और इसीलिए 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस इंडिपेंडेंस डे मनाया जाता है और उस दिन भारत को आजादी दे दी गईLord Mauntabetan Joe Qi India K Last British Vayasray The Unko British Sarkar Ne Yeh Kama Diya Gaya Kyonki Jab Yeh Taya Ho Gaya Qi Bharat Co Aazadi DENNY Hai To Unhonne Bolla Qi Aap Bharat Co Jun 1939 Tak Ajad Car Dijiye Lekin Lord Mauntabetan Ne Dekha Qi Desh Mein Haalaat Bahut Achchhe Nahin Hai Hindu Muslim Apsha Mein Bhi Lad Rahe Hain To Unhonne Gito Dange Ho Rahe The Desh K Andorra Joe Apsha Mein Jhagade Ho Rahe The Unhonne Soocha Ismein Jyada Accha Yeh Hai Qi Angrej Is Desh Se Jaldi Chale Jaen To Unhonne 15 Agust 1947 Ki Date Nirdharit Aur Bachcho Ki 15 Agust 2 Saul Pehle Yaanee Qi 1945 Mein Japan Ne World War Mein Surrender Kiya Thaa To Yeh Uski Dusri Varshaganth Ki Thi To Eeslie Unhein 15 Agust Ki Date Decide Ki Aur Isiliye 15 Agust Co Swatantrata DIVAS Indipendens Day Manaaya Jaata Hai Aur Oosh Din Bharat Co Aazadi They They Gi
Likes  17  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी पोर्न देखने के बाद हम सभी जानते हैं कि क्या करते हैं वह जो होता है वह दुनिया का सबसे बेहतरीन फीलिंग में से एक है तो यह आपके और भी क्षमता कम कर देता है दुनिया में अजीब करने के लिए क्योंकि आपको तो वह साइक्लोजिकल खुशी मिल गई तो आप और हार्ड वर्क क्यों करेंगे और और आपकी मर्जी पर पर पर क्या आप स्कूल में पढ़ रहे हैं और आपका एग्जाम है और आपने पूरे दिन पढ़ाई की है पूरे दिन पढ़ाई करके अपने एग्जाम में अपीयर किया है और आपको अच्छे मार्क्स मिले हैं जो काफी तारीफ है पर वही आप दूसरा एक मोर सोचिए कि जब आप पढ़ रहे हैं आपको पढ़ने का मन नहीं कर रहा बस ऑन द वे टू द एग्जामिनेशन हॉल आपने कुछ पढ़ा और आप को बेहतरीन माल मिल गया तो आप पूरा दिन क्यों पड़ेंगे वैसे ही जो फीलिंग एक हो गया SIM जनरेट करता है वह फीलिंग बहुत सारी फिल्म को मार देता है कि आप को बाहर जाकर वह अचीवमेंट और महसूस ना हो क्योंकि आपको तो वह तो मिल गया ना जो चाहिए था तो बाहर देखी और क्यों हट गया तो इसलिए मेरे हिसाब से ₹1 बहुत कम देखी और तभी देखे जब आप खुद उसको ढूंढ रही पर्वत से एक आदत ना बनाएं क्योंकि अगर आप उसको आदत बना लेंगे तो आपको यह छोटी-छोटी खुशी आपको अपने ही जगह पर मिल जाएगी आपको बाहर जाकर अचीव करने की जरूरत नहीं पड़ेगी
Romanized Version
विकी पोर्न देखने के बाद हम सभी जानते हैं कि क्या करते हैं वह जो होता है वह दुनिया का सबसे बेहतरीन फीलिंग में से एक है तो यह आपके और भी क्षमता कम कर देता है दुनिया में अजीब करने के लिए क्योंकि आपको तो वह साइक्लोजिकल खुशी मिल गई तो आप और हार्ड वर्क क्यों करेंगे और और आपकी मर्जी पर पर पर क्या आप स्कूल में पढ़ रहे हैं और आपका एग्जाम है और आपने पूरे दिन पढ़ाई की है पूरे दिन पढ़ाई करके अपने एग्जाम में अपीयर किया है और आपको अच्छे मार्क्स मिले हैं जो काफी तारीफ है पर वही आप दूसरा एक मोर सोचिए कि जब आप पढ़ रहे हैं आपको पढ़ने का मन नहीं कर रहा बस ऑन द वे टू द एग्जामिनेशन हॉल आपने कुछ पढ़ा और आप को बेहतरीन माल मिल गया तो आप पूरा दिन क्यों पड़ेंगे वैसे ही जो फीलिंग एक हो गया SIM जनरेट करता है वह फीलिंग बहुत सारी फिल्म को मार देता है कि आप को बाहर जाकर वह अचीवमेंट और महसूस ना हो क्योंकि आपको तो वह तो मिल गया ना जो चाहिए था तो बाहर देखी और क्यों हट गया तो इसलिए मेरे हिसाब से ₹1 बहुत कम देखी और तभी देखे जब आप खुद उसको ढूंढ रही पर्वत से एक आदत ना बनाएं क्योंकि अगर आप उसको आदत बना लेंगे तो आपको यह छोटी-छोटी खुशी आपको अपने ही जगह पर मिल जाएगी आपको बाहर जाकर अचीव करने की जरूरत नहीं पड़ेगीVikee Porn Dekhne Ke Baad Hum Sabhi Jante Hain Ki Kya Karte Hain Wah Jo Hota Hai Wah Duniya Ka Sabse Behtareen Feeling Mein Se Ek Hai To Yeh Aapke Aur Bhi Kshamta Kam Kar Deta Hai Duniya Mein Ajib Karne Ke Liye Kyonki Aapko To Wah Saiklojikal Khushi Mil Gayi To Aap Aur Hard Work Kyon Karenge Aur Aur Aapki Marji Par Par Par Kya Aap School Mein Padh Rahe Hain Aur Aapka Exam Hai Aur Aapne Poore Din Padhai Ki Hai Poore Din Padhai Karke Apne Exam Mein Apiyar Kiya Hai Aur Aapko Acche Marks Mile Hain Jo Kafi Tarif Hai Par Wahi Aap Doosra Ek More Sochie Ki Jab Aap Padh Rahe Hain Aapko Padhne Ka Man Nahi Kar Raha Bus On The Ve To The Examination Hall Aapne Kuch Padha Aur Aap Ko Behtareen Maal Mil Gaya To Aap Pura Din Kyon Padenge Waise Hi Jo Feeling Ek Ho Gaya SIM Generate Karta Hai Wah Feeling Bahut Saree Film Ko Maar Deta Hai Ki Aap Ko Bahar Jaakar Wah Achievement Aur Mahsus Na Ho Kyonki Aapko To Wah To Mil Gaya Na Jo Chahiye Tha To Bahar Dekhi Aur Kyon Hut Gaya To Isliye Mere Hisab Se ₹ Bahut Kam Dekhi Aur Tabhi Dekhe Jab Aap Khud Usko Dhundh Rahi Parvat Se Ek Aadat Na Banaye Kyonki Agar Aap Usko Aadat Bana Lenge To Aapko Yeh Choti Choti Khushi Aapko Apne Hi Jagah Par Mil Jayegi Aapko Bahar Jaakar Achieve Karne Ki Zaroorat Nahi Padegi
Likes  76  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत और पाकिस्तान दोनों को जो आजादी मिली वह 15 अगस्त 1947 को ही मिली लेकिन पाकिस्तान अपना इंडिपेंडेंस डे 14 अगस्त को मनाता है इसके पीछे दो कारण हैं पहला कारण तो यह कि जो माउंट बेटेन थे उनको फंक्शन अटेंड करना था इंडिया में भी और पाकिस्तान में भी इसलिए उन्होंने डिसाइड किया कि वह पाकिस्तान में 14 तारीख को फंक्शन अटेंड कर लेंगे और इंडिया वाला फंक्शन न्यू दिल्ली में 15 तारीख को अटेंड कर लेंगे और दूसरा कारण यह था कि कोई भी एंट्री 14 अगस्त 1947 को रमदान पड़ा तो रमदान एक ऑस्पीशियस दिन है मुस्लिम फेस्टिवल है तो उन्होंने अगली बार से फर्स्ट टाइम तो उन्होंने भी 15 अगस्त को ही अपना इंडिपेंडेंस डे मनाया था बट अगली बार से उन्होंने 14 अगस्त को क्योंकि वह रमदान भी पढ़ा था उसे पिछले साल पढ़ा था ऐसा नहीं है कि हर साल वह 14 अगस्त को ही पड़ेगा लेकिन 14 अगस्त 1970 रामधन पड़ा था और क्योंकि माउंटबेटन ने फंक्शन अटेंड करने के लिए वहां पर 14 अगस्त को फंक्शन अटेंड किया था पाकिस्तान ने 14 अगस्त को अपना इंडिपेंडेंस डे मनाना शुरू किया
Romanized Version
भारत और पाकिस्तान दोनों को जो आजादी मिली वह 15 अगस्त 1947 को ही मिली लेकिन पाकिस्तान अपना इंडिपेंडेंस डे 14 अगस्त को मनाता है इसके पीछे दो कारण हैं पहला कारण तो यह कि जो माउंट बेटेन थे उनको फंक्शन अटेंड करना था इंडिया में भी और पाकिस्तान में भी इसलिए उन्होंने डिसाइड किया कि वह पाकिस्तान में 14 तारीख को फंक्शन अटेंड कर लेंगे और इंडिया वाला फंक्शन न्यू दिल्ली में 15 तारीख को अटेंड कर लेंगे और दूसरा कारण यह था कि कोई भी एंट्री 14 अगस्त 1947 को रमदान पड़ा तो रमदान एक ऑस्पीशियस दिन है मुस्लिम फेस्टिवल है तो उन्होंने अगली बार से फर्स्ट टाइम तो उन्होंने भी 15 अगस्त को ही अपना इंडिपेंडेंस डे मनाया था बट अगली बार से उन्होंने 14 अगस्त को क्योंकि वह रमदान भी पढ़ा था उसे पिछले साल पढ़ा था ऐसा नहीं है कि हर साल वह 14 अगस्त को ही पड़ेगा लेकिन 14 अगस्त 1970 रामधन पड़ा था और क्योंकि माउंटबेटन ने फंक्शन अटेंड करने के लिए वहां पर 14 अगस्त को फंक्शन अटेंड किया था पाकिस्तान ने 14 अगस्त को अपना इंडिपेंडेंस डे मनाना शुरू कियाBharat Aur Pakistan Dono Ko Jo Azadi Mili Wah 15 August 1947 Ko Hi Mili Lekin Pakistan Apna Independence Day 14 August Ko Manata Hai Iske Piche Do Kaaran Hain Pehla Kaaran To Yeh Ki Jo Mount Beten The Unko Function Attend Karna Tha India Mein Bhi Aur Pakistan Mein Bhi Isliye Unhone Decide Kiya Ki Wah Pakistan Mein 14 Tarikh Ko Function Attend Kar Lenge Aur India Wala Function New Dilli Mein 15 Tarikh Ko Attend Kar Lenge Aur Doosra Kaaran Yeh Tha Ki Koi Bhi Entry 14 August 1947 Ko Ramdan Pada To Ramdan Ek Aspishiyas Din Hai Muslim Festival Hai To Unhone Agli Bar Se First Time To Unhone Bhi 15 August Ko Hi Apna Independence Day Manaya Tha But Agli Bar Se Unhone 14 August Ko Kyonki Wah Ramdan Bhi Padha Tha Use Pichhle Saal Padha Tha Aisa Nahi Hai Ki Har Saal Wah 14 August Ko Hi Padega Lekin 14 August 1970 Ramadhan Pada Tha Aur Kyonki Mountbatten Ne Function Attend Karne Ke Liye Wahan Par 14 August Ko Function Attend Kiya Tha Pakistan Ne 14 August Ko Apna Independence Day Manana Shuru Kiya
Likes  26  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल इतना खेड़ा आप मुझे बताइए कहां लिखा गया है कि मर्द को घर के काम नहीं करना चाहिए और तो को बाहर का काम नहीं करना चाहिए घर का भी काम करना चाहिए बच्चे को पैदा करना चाहिए यह कहां लिखा हुआ मर्द अगर घर के काम करेंगे तो औरत का हेल्प नहीं करते अपनी रिस्पांसिबिलिटी को निभाना कहते हैं आप समझ रहे थे डिफरेंस क्या है मर्द जब धात बताना नहीं चाहिए मर्दों का कौन से बनती है व्हाट यू मीन बाय ना बताना घर में रहते नहीं है क्या जिस घर में एक सामने रहता है वहां के मर्द बच्चे बूढ़े सब को हेल्प करना चाहिए सारा का सारा काम घर की औरतों पर नहीं करना चाहिए यही कारण है कि आज शादियों में तनाव है और प्रॉब्लम्स है यह कैसा सवाल है आपका मर्द अगर घर में काम करेंगे तो वह उनके रिस्पांसिबिलिटी को आधा करेंगे हाथ बढ़ाना है बांटना क्या कर रहा है क्या लेडी पर काम करके किस पर किस पर आप एहसान करना चाहते हैं अपनी वाइफ पर कैसा है शान तो इसका मतलब यह है कि आपके लिए खाना बना कर आकर कपड़े धोकर धोकर साफ रखे आपकी बीवी आप पहचान तो क्या आप उसको सैलरी देंगे क्या आप उसको इसके पैसे देंगे अपनी बीवी को क्या आप महीना महीना यह हफ्ता हफ्ता है दिन का पैसा दे सकते हैं और उनके सर्विसेज के लिए नहीं ना तो वैसे ही आप अगर घर में काम करते हैं तो अपनी रिस्पांसिबिलिटी को अदा करते हैं जो कि आपका ड्यूटी है इट्स राइट रिमांड पर ड्यूटी पर आपको करना चाहिए यह कोई हाथ बढ़ाना है बांटने वाली बात नहीं है यह बिंदास आपका काम है और आपको घर घर के सभी लोगों को काम करना चाहिए सारा का सारा बोझ अभी भी पर नहीं आना चाहिए घर की औरत पसारा बॉस नहीं आ रहा है ऐसा आपको सबसे पहले समझना चाहिए कि मर जो है बाहर अगर काम करता है तो औरत भी बाहर काम करती हो और घर के भी करती है आपको चाहिए कि आप घर की औरत को सपोर्ट करें
Romanized Version
आपका सवाल इतना खेड़ा आप मुझे बताइए कहां लिखा गया है कि मर्द को घर के काम नहीं करना चाहिए और तो को बाहर का काम नहीं करना चाहिए घर का भी काम करना चाहिए बच्चे को पैदा करना चाहिए यह कहां लिखा हुआ मर्द अगर घर के काम करेंगे तो औरत का हेल्प नहीं करते अपनी रिस्पांसिबिलिटी को निभाना कहते हैं आप समझ रहे थे डिफरेंस क्या है मर्द जब धात बताना नहीं चाहिए मर्दों का कौन से बनती है व्हाट यू मीन बाय ना बताना घर में रहते नहीं है क्या जिस घर में एक सामने रहता है वहां के मर्द बच्चे बूढ़े सब को हेल्प करना चाहिए सारा का सारा काम घर की औरतों पर नहीं करना चाहिए यही कारण है कि आज शादियों में तनाव है और प्रॉब्लम्स है यह कैसा सवाल है आपका मर्द अगर घर में काम करेंगे तो वह उनके रिस्पांसिबिलिटी को आधा करेंगे हाथ बढ़ाना है बांटना क्या कर रहा है क्या लेडी पर काम करके किस पर किस पर आप एहसान करना चाहते हैं अपनी वाइफ पर कैसा है शान तो इसका मतलब यह है कि आपके लिए खाना बना कर आकर कपड़े धोकर धोकर साफ रखे आपकी बीवी आप पहचान तो क्या आप उसको सैलरी देंगे क्या आप उसको इसके पैसे देंगे अपनी बीवी को क्या आप महीना महीना यह हफ्ता हफ्ता है दिन का पैसा दे सकते हैं और उनके सर्विसेज के लिए नहीं ना तो वैसे ही आप अगर घर में काम करते हैं तो अपनी रिस्पांसिबिलिटी को अदा करते हैं जो कि आपका ड्यूटी है इट्स राइट रिमांड पर ड्यूटी पर आपको करना चाहिए यह कोई हाथ बढ़ाना है बांटने वाली बात नहीं है यह बिंदास आपका काम है और आपको घर घर के सभी लोगों को काम करना चाहिए सारा का सारा बोझ अभी भी पर नहीं आना चाहिए घर की औरत पसारा बॉस नहीं आ रहा है ऐसा आपको सबसे पहले समझना चाहिए कि मर जो है बाहर अगर काम करता है तो औरत भी बाहर काम करती हो और घर के भी करती है आपको चाहिए कि आप घर की औरत को सपोर्ट करेंAapka Sawal Itna Kheda Aap Mujhe Bataaeeye Kahan Likha Gaya Hai Qi Marda Co Ghar K Kama Nahin Krna Chahie Aur To Co Baahar Ka Kama Nahin Krna Chahie Ghar Ka Bhi Kama Krna Chahie Bacche Co Paida Krna Chahie Yeh Kahan Likha Hua Marda Agar Ghar K Kama Karenge To Aurat Ka Help Nahin Karte Apni Rispansibiliti Co Nibhaana Kehte Hain Aap Samajh Rahe The Difarens Kya Hai Marda Jab Dhat Batana Nahin Chahie Mardon Ka Kaun Se Banati Hai What You Mean By Na Batana Ghar Mein Rahate Nahin Hai Kya Jisha Ghar Mein Ek Samne Rehta Hai Vahan K Marda Bacche Budhe Sub Co Help Krna Chahie Saara Ka Saara Kama Ghar Ki Orton Per Nahin Krna Chahie Yahi Karan Hai Qi Aj Shadiyon Mein Tanav Hai Aur Problems Hai Yeh Kaisa Sawal Hai Aapka Marda Agar Ghar Mein Kama Karenge To Wah Unke Rispansibiliti Co Adhau Karenge Hatha Badhana Hai Bantana Kya Car Raha Hai Kya Lady Per Kama Karake Kiss Per Kiss Per Aap Ehsan Krna Chahte Hain Apni Wife Per Kaisa Hai San To Iska Matlab Yeh Hai Qi Aapke Lie Khana Banna Car Aakar Kapade Dhokar Dhokar Saf Rakhe Aapki Beevee Aap Pehchan To Kya Aap Usko Salary Denge Kya Aap Usko Iske Paise Denge Apni Beevee Co Kya Aap Mahiinaa Mahiinaa Yeh Hafta Hafta Hai Din Ka Paisa They Sakte Hain Aur Unke Services K Lie Nahin Na To Vaise Hea Aap Agar Ghar Mein Kama Karte Hain To Apni Rispansibiliti Co Ada Karte Hain Joe Qi Aapka Duty Hai Its Right Rimand Per Duty Per Aapko Krna Chahie Yeh Koi Hatha Badhana Hai Bantane Wali Baat Nahin Hai Yeh Bindas Aapka Kama Hai Aur Aapko Ghar Ghar K Sabhi Logon Co Kama Krna Chahie Saara Ka Saara Bojh Abhi Bhi Per Nahin Aana Chahie Ghar Ki Aurat Pasaaraa Boss Nahin Aa Raha Hai Aisa Aapko Sabse Pehle Samajhanaa Chahie Qi Mar Joe Hai Baahar Agar Kama Karata Hai To Aurat Bhi Baahar Kama Karti Ho Aur Ghar K Bhi Karti Hai Aapko Chahie Qi Aap Ghar Ki Aurat Co Support Karein
Likes  58  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां मल्टीटास्किंग बिल्कुल संभव है लेकिन उसका मुख्य-मंत्री कौन से स्टेशन होता है अगर हम किसी काम में ध्यान दे रहे हैं तो हम हमें उस काम में हंड्रेड परसेंट ध्यान देना चाहिए मल्टीटास्किंग करना कुछ लोगों को अच्छा लगता है और कुछ लोगों को अच्छा नहीं लगता है मुझे बहुत अच्छा लगता है
Romanized Version
हां मल्टीटास्किंग बिल्कुल संभव है लेकिन उसका मुख्य-मंत्री कौन से स्टेशन होता है अगर हम किसी काम में ध्यान दे रहे हैं तो हम हमें उस काम में हंड्रेड परसेंट ध्यान देना चाहिए मल्टीटास्किंग करना कुछ लोगों को अच्छा लगता है और कुछ लोगों को अच्छा नहीं लगता है मुझे बहुत अच्छा लगता हैHaan Multitasking Bilkul Sambhav Hai Lekin Uska Mukhya Mantri Kaun Se Station Hota Hai Agar Hum Kisi Kaam Mein Dhyan De Rahe Hain To Hum Hume Us Kaam Mein Hundred Percent Dhyan Dena Chahiye Multitasking Karna Kuch Logon Ko Accha Lagta Hai Aur Kuch Logon Ko Accha Nahi Lagta Hai Mujhe Bahut Accha Lagta Hai
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फेसबुक से आपका क्या मतलब है सुख अगर ऐशो आराम है तो डेफिनटली उसके लिए पैसे की जरूरत पड़ेगी लेकिन अगर सुख आनंद है आपस में रहने का है चाहे कुछ कम हो गया खाने के लिए एक टाइम का खाना हो और रात का खाना ना हो अगर उसमें ही भी आपको खुशी मिलती है तो वह उसके लिए आपको शायद कम पैसे कमाने की आवश्यकता होगी लेकिन अगर आप का मतलब सुख जो सांसारिक सुख है तो डेफिनिटी उसके लिए पैसा कमाने की जरूरत है क्योंकि चाहे वह मेडिकल फैसिलिटी उसको आपको भी बाहर खाने जाना हो कुछ खरीदना हो या कुछ भी करना हो उसके लिए आपको पैसों की जरूरत तो पढ़ने वाले ही है तो सुख पाने के लिए पैसा कमाना जरूरी है क्योंकि एक वक्त के बाद जो प्यार जिस पर आप डिपेंड करते हैं वह इतने कठिनाइयों देखने के बाद वह प्यार भी विंडो से बाहर चला जाता है क्योंकि कठिनाई जो होती है वह इमोशंस को चेंज कर देती है तो जो होता है वह सुकून के लिए थोड़े से आराम के लिए जरूरी होता है थोड़ी तो कंप्यूटर के लाइफ में मिल जाते हैं तो थोड़ी खुशी मिलती है थोड़ी मोस्ट इन पॉजिटिव लगते हैं और थोड़ा अच्छा लगता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आप ग्रीडी होंगे और इतना पैसा कमाएंगे और जो फीलिंग है जो रिश्ते हैं उन पर आप कॉटन रेट नहीं करेंगे ऐसा भी नहीं है आपको ध्यान देना है कि एक बैलेंस हो ऐसा भी हो रिश्ते भी हो आपको बैलेंस लेकर चलना है तो हां पैसा जरूरी है जिसने भी जरूरी है प्यार भी जरूरी है लेकिन हाउस सुख पाने के लिए पैसा कमाना जरूरी है
Romanized Version
फेसबुक से आपका क्या मतलब है सुख अगर ऐशो आराम है तो डेफिनटली उसके लिए पैसे की जरूरत पड़ेगी लेकिन अगर सुख आनंद है आपस में रहने का है चाहे कुछ कम हो गया खाने के लिए एक टाइम का खाना हो और रात का खाना ना हो अगर उसमें ही भी आपको खुशी मिलती है तो वह उसके लिए आपको शायद कम पैसे कमाने की आवश्यकता होगी लेकिन अगर आप का मतलब सुख जो सांसारिक सुख है तो डेफिनिटी उसके लिए पैसा कमाने की जरूरत है क्योंकि चाहे वह मेडिकल फैसिलिटी उसको आपको भी बाहर खाने जाना हो कुछ खरीदना हो या कुछ भी करना हो उसके लिए आपको पैसों की जरूरत तो पढ़ने वाले ही है तो सुख पाने के लिए पैसा कमाना जरूरी है क्योंकि एक वक्त के बाद जो प्यार जिस पर आप डिपेंड करते हैं वह इतने कठिनाइयों देखने के बाद वह प्यार भी विंडो से बाहर चला जाता है क्योंकि कठिनाई जो होती है वह इमोशंस को चेंज कर देती है तो जो होता है वह सुकून के लिए थोड़े से आराम के लिए जरूरी होता है थोड़ी तो कंप्यूटर के लाइफ में मिल जाते हैं तो थोड़ी खुशी मिलती है थोड़ी मोस्ट इन पॉजिटिव लगते हैं और थोड़ा अच्छा लगता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आप ग्रीडी होंगे और इतना पैसा कमाएंगे और जो फीलिंग है जो रिश्ते हैं उन पर आप कॉटन रेट नहीं करेंगे ऐसा भी नहीं है आपको ध्यान देना है कि एक बैलेंस हो ऐसा भी हो रिश्ते भी हो आपको बैलेंस लेकर चलना है तो हां पैसा जरूरी है जिसने भी जरूरी है प्यार भी जरूरी है लेकिन हाउस सुख पाने के लिए पैसा कमाना जरूरी हैFacebook Se Aapka Kya Matlab Hai Sukh Agar Aisho Aroma Hai To Definatali Uske Lie Paise Ki Jarurat Padegi Lekin Agar Sukh Anand Hai Apsha Mein Rahane Ka Hai Chahe Kuch Come Ho Gaya Khaane K Lie Ek Time Ka Khana Ho Aur Raat Ka Khana Na Ho Agar Usme Hea Bhi Aapko Khushi Milti Hai To Wah Uske Lie Aapko Shayad Come Paise Kamane Ki Aavshyakata Hogi Lekin Agar Aap Ka Matlab Sukh Joe Sansaarik Sukh Hai To Definiti Uske Lie Paisa Kamane Ki Jarurat Hai Kyonki Chahe Wah Medical Faisiliti Usko Aapko Bhi Baahar Khaane Jaana Ho Kuch Kharidana Ho Ya Kuch Bhi Krna Ho Uske Lie Aapko Paiso Ki Jarurat To Padhane Wale Hea Hai To Sukh Payne K Lie Paisa Kumana Zaroori Hai Kyonki Ek Vakt K Baad Joe Pyaar Jisha Per Aap Depend Karte Hain Wah Itne Kathinaaiyon Dakhane K Baad Wah Pyaar Bhi Window Se Baahar Challa Jaata Hai Kyonki Kathinai Joe Hoti Hai Wah Imoshans Co Change Car Deti Hai To Joe Hota Hai Wah Sukun K Lie Thode Se Aroma K Lie Zaroori Hota Hai Thodi To Kampyutar K Life Mein Mill Jaate Hain To Thodi Khushi Milti Hai Thodi Most In Positive Lagate Hain Aur Thoda Accha Lagta Hai Lekin Iska Matlab Yeh Nahin Qi Aap Gouredi Honge Aur Itna Paisa Kamaenge Aur Joe Feeling Hai Joe Rishte Hain Un Per Aap Cotton Rate Nahin Karenge Aisa Bhi Nahin Hai Aapko Dhyan Dena Hai Qi Ek Bailens Ho Aisa Bhi Ho Rishte Bhi Ho Aapko Bailens Lycra Chalana Hai To Han Paisa Zaroori Hai Jisne Bhi Zaroori Hai Pyaar Bhi Zaroori Hai Lekin House Sukh Payne K Lie Paisa Kumana Zaroori Hai
Likes  127  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इस आजकल बहुत ही कॉमन हो गया है ऐसा बहुत से लोगों के साथ हो जाता है तो मैं आपको सजेशन देना चाहूंगी कि आप जिंदगी की जो जन्म से जुड़े हुए हैं या कुछ भी है आप उनसे कोई दूर हो सके तो यह अच्छी बात होगी अगर आप परमानेंट ही दूर हो सके तो यह बहुत ज्यादा अच्छा होगा इसके इलावा अपने ही लोगों से मिले उनसे घुले-मिले उनसे जान पहचान बढ़ाएं यह आपके लिए बहुत ही मददगार होगा क्योंकि आपको यह शुरु शुरु में तो मुश्किल लगेगा पर धीरे-धीरे आपको इस चीज की आदत होने लगेगी इसके अलावा मैं आपको कहना चाहूंगी कि आप अपनी सॉन्ग को आगे लेकर अगर आपको कोई सॉन्ग है किस चीज को करने का शौक है आप कोशिश करें क्योंकि अगर आप सारा दिन उसी में बिजी रहेंगे या कोई और चीज में बिजी रहेंगे तो आपके पास सोचने का टाइम नहीं होगा अगर आप सोचेंगे नहीं तो आपको डिप्रेशन नहीं होगा तो मुझे लगता है कि सबसे मेन चीज है कि आपके सॉन्ग है या कुछ ऐसा करें जिससे आप बिजी रहे हैं यह बहुत ही जरूरी है इसके अलावा कोई जानवर पाल सकते हैं अगर आपको डर नहीं लगता तो आप कुत्ते सकते हैं क्योंकि मेरा यह पर्सनल एक्सपीरियंस है कि कुत्ते पालने से या कोई और भी जानवर पालने से आपका डिप्रेशन आपका अकेलापन बहुत ही जल्दी ठीक हो सकता है और दूसरी बात आप बुक्स पढ़ सकते हैं आप और कोई सी कहीं घूमने जा सकते हैं कुछ भी ऐसा कर सकते हैं पर आपको अपने आपको बिजी रखना पड़ेगा अगर आप बैठे रहेंगे और सोचते रहेंगे उनके बारे में तो आपको डिप्रेशन जरूर होगा और उसने साफ नहीं निकल पाएंगे तो आप थोड़ा बाहर निकली है घूमिए फिर यह थोड़ा सा समझिए कि इनके अलावा भी आपकी जिंदगी है आप बहुत कुछ है आपकी जिंदगी में करने के लिए तो थोड़ी पॉजिटिव सोच के पोस्टर लोगों से मिले या आपके लिए बहुत अच्छा होगा शुक्रिया
Romanized Version
देखिए इस आजकल बहुत ही कॉमन हो गया है ऐसा बहुत से लोगों के साथ हो जाता है तो मैं आपको सजेशन देना चाहूंगी कि आप जिंदगी की जो जन्म से जुड़े हुए हैं या कुछ भी है आप उनसे कोई दूर हो सके तो यह अच्छी बात होगी अगर आप परमानेंट ही दूर हो सके तो यह बहुत ज्यादा अच्छा होगा इसके इलावा अपने ही लोगों से मिले उनसे घुले-मिले उनसे जान पहचान बढ़ाएं यह आपके लिए बहुत ही मददगार होगा क्योंकि आपको यह शुरु शुरु में तो मुश्किल लगेगा पर धीरे-धीरे आपको इस चीज की आदत होने लगेगी इसके अलावा मैं आपको कहना चाहूंगी कि आप अपनी सॉन्ग को आगे लेकर अगर आपको कोई सॉन्ग है किस चीज को करने का शौक है आप कोशिश करें क्योंकि अगर आप सारा दिन उसी में बिजी रहेंगे या कोई और चीज में बिजी रहेंगे तो आपके पास सोचने का टाइम नहीं होगा अगर आप सोचेंगे नहीं तो आपको डिप्रेशन नहीं होगा तो मुझे लगता है कि सबसे मेन चीज है कि आपके सॉन्ग है या कुछ ऐसा करें जिससे आप बिजी रहे हैं यह बहुत ही जरूरी है इसके अलावा कोई जानवर पाल सकते हैं अगर आपको डर नहीं लगता तो आप कुत्ते सकते हैं क्योंकि मेरा यह पर्सनल एक्सपीरियंस है कि कुत्ते पालने से या कोई और भी जानवर पालने से आपका डिप्रेशन आपका अकेलापन बहुत ही जल्दी ठीक हो सकता है और दूसरी बात आप बुक्स पढ़ सकते हैं आप और कोई सी कहीं घूमने जा सकते हैं कुछ भी ऐसा कर सकते हैं पर आपको अपने आपको बिजी रखना पड़ेगा अगर आप बैठे रहेंगे और सोचते रहेंगे उनके बारे में तो आपको डिप्रेशन जरूर होगा और उसने साफ नहीं निकल पाएंगे तो आप थोड़ा बाहर निकली है घूमिए फिर यह थोड़ा सा समझिए कि इनके अलावा भी आपकी जिंदगी है आप बहुत कुछ है आपकी जिंदगी में करने के लिए तो थोड़ी पॉजिटिव सोच के पोस्टर लोगों से मिले या आपके लिए बहुत अच्छा होगा शुक्रियाDekhie Is Aajkal Bahut Hi Common Ho Gaya Hai Aisa Bahut Se Logon Ke Saath Ho Jata Hai To Main Aapko Suggestion Dena Chahungi Ki Aap Zindagi Ki Jo Janm Se Jude Huye Hain Ya Kuch Bhi Hai Aap Unse Koi Dur Ho Sake To Yeh Acchi Baat Hogi Agar Aap Permanent Hi Dur Ho Sake To Yeh Bahut Zyada Accha Hoga Iske Ilava Apne Hi Logon Se Mile Unse Ghule Mile Unse Jaan Pehchaan Badhaye Yeh Aapke Liye Bahut Hi Madadgaar Hoga Kyonki Aapko Yeh Shuru Shuru Mein To Mushkil Lagega Par Dhire Dhire Aapko Is Cheez Ki Aadat Hone Lagegi Iske Alava Main Aapko Kehna Chahungi Ki Aap Apni Song Ko Aage Lekar Agar Aapko Koi Song Hai Kis Cheez Ko Karne Ka Shauk Hai Aap Koshish Karen Kyonki Agar Aap Saara Din Ussi Mein Busy Rahenge Ya Koi Aur Cheez Mein Busy Rahenge To Aapke Paas Sochne Ka Time Nahi Hoga Agar Aap Sochenge Nahi To Aapko Depression Nahi Hoga To Mujhe Lagta Hai Ki Sabse Main Cheez Hai Ki Aapke Song Hai Ya Kuch Aisa Karen Jisse Aap Busy Rahe Hain Yeh Bahut Hi Zaroori Hai Iske Alava Koi Janwar Pal Sakte Hain Agar Aapko Dar Nahi Lagta To Aap Kutte Sakte Hain Kyonki Mera Yeh Personal Experience Hai Ki Kutte Palne Se Ya Koi Aur Bhi Janwar Palne Se Aapka Depression Aapka Akelapan Bahut Hi Jaldi Theek Ho Sakta Hai Aur Dusri Baat Aap Books Padh Sakte Hain Aap Aur Koi Si Kahin Ghoomne Ja Sakte Hain Kuch Bhi Aisa Kar Sakte Hain Par Aapko Apne Aapko Busy Rakhna Padega Agar Aap Baithey Rahenge Aur Sochte Rahenge Unke Bare Mein To Aapko Depression Jarur Hoga Aur Usne Saaf Nahi Nikal Payenge To Aap Thoda Bahar Nikli Hai Ghumiye Phir Yeh Thoda Sa Samajhie Ki Inke Alava Bhi Aapki Zindagi Hai Aap Bahut Kuch Hai Aapki Zindagi Mein Karne Ke Liye To Thodi Positive Soch Ke Poster Logon Se Mile Ya Aapke Liye Bahut Accha Hoga Shukriya
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में जातिवाद समाप्त करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि जो डिफरेंट जो रिजर्वेशन है जो आरक्षण है वह आरक्षण जातिवाद के तौर पर नहीं बल्कि एक हसीना से स्टेटस के द्वार पर होना चाहिए जो बिना इसलिए इतने सक्षम नहीं हो पा रहे हैं एडिकेशन या कुछ भी अपूर्ण करने के लिए तो उससे सरकार की सहायता करनी चाहिए कि ना कि वह फूट कर पाए अब अच्छी शिक्षा ग्रहण करना कि 1 मार्क्स के तौर पर आज जातिवाद जाट आरक्षण को बढ़ावा देना चाहिए बिकॉज मार्क्स ऐसा चीज है जो मेहनत पर आता है तो मार्क्स वर्ग आरक्षण देना आरक्षण देना है तो आर्थिक स्थिति के दीजिए किसी की जो सपोर्ट नहीं कर पा रहे हैं इस तरह से हम जातिवाद समाप्त करने का सबसे अच्छा तरीका है
Romanized Version
भारत में जातिवाद समाप्त करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि जो डिफरेंट जो रिजर्वेशन है जो आरक्षण है वह आरक्षण जातिवाद के तौर पर नहीं बल्कि एक हसीना से स्टेटस के द्वार पर होना चाहिए जो बिना इसलिए इतने सक्षम नहीं हो पा रहे हैं एडिकेशन या कुछ भी अपूर्ण करने के लिए तो उससे सरकार की सहायता करनी चाहिए कि ना कि वह फूट कर पाए अब अच्छी शिक्षा ग्रहण करना कि 1 मार्क्स के तौर पर आज जातिवाद जाट आरक्षण को बढ़ावा देना चाहिए बिकॉज मार्क्स ऐसा चीज है जो मेहनत पर आता है तो मार्क्स वर्ग आरक्षण देना आरक्षण देना है तो आर्थिक स्थिति के दीजिए किसी की जो सपोर्ट नहीं कर पा रहे हैं इस तरह से हम जातिवाद समाप्त करने का सबसे अच्छा तरीका हैBharat Mein Jaatiwad Samapt Karne Ka Sabse Accha Tarika Yeh Hai Ki Jo Different Jo Reservation Hai Jo Aarakshan Hai Wah Aarakshan Jaatiwad Ke Taur Par Nahi Balki Ek Hasina Se Status Ke Dwar Par Hona Chahiye Jo Bina Isliye Itne Saksham Nahi Ho Pa Rahe Hain Edikeshan Ya Kuch Bhi Apurn Karne Ke Liye To Usse Sarkar Ki Sahaayata Karni Chahiye Ki Na Ki Wah Foot Kar Paye Ab Acchi Shiksha Grahan Karna Ki 1 Marks Ke Taur Par Aaj Jaatiwad Jaat Aarakshan Ko Badhawa Dena Chahiye Because Marks Aisa Cheez Hai Jo Mehnat Par Aata Hai To Marks Varg Aarakshan Dena Aarakshan Dena Hai To Aarthik Sthiti Ke Dijiye Kisi Ki Jo Support Nahi Kar Pa Rahe Hain Is Tarah Se Hum Jaatiwad Samapt Karne Ka Sabse Accha Tarika Hai
Likes  75  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मेरे जैसे आदमी जो है YouTube पर है और सोशल मीडिया पर काफी काम करता है इंटरनेट तो देख लेना हो तो ही एक अच्छी बात होगी कि हम अपने आप पर और सोचेंगे और यह टाइप करेंगे अपने अंदर कि हम क्या कर रहे हैं कैसे कर रहे हैं लाइफ का एक का एडवांस प्लान बनाएंगे क्योंकि इंटरनेट बहुत बड़ा डिस्ट्रक्शन है और बहुत बड़ा टूल है कैसे आप इस्तेमाल करते हैं वह जरूरी है पर रेड रोज परिचय नाटक महीने में अखिलेश 2 दिन आपको अपने फोन और अपने क्या जब से दूर हटकर अपने टाइम स्पेंड करना चाहिए कि आपके में बढ़ रहे हैं और राधिका गोरी क्या होना चाहिए और और अगले महीने अब वही करें 2 दिन को इंटरनेट ऑफ करके अपने फोन से दूर हट के यह देखें कि आपको बोल पहुंचे हैं या नहीं पहुंच पाए हैं
Romanized Version
लेकिन मेरे जैसे आदमी जो है YouTube पर है और सोशल मीडिया पर काफी काम करता है इंटरनेट तो देख लेना हो तो ही एक अच्छी बात होगी कि हम अपने आप पर और सोचेंगे और यह टाइप करेंगे अपने अंदर कि हम क्या कर रहे हैं कैसे कर रहे हैं लाइफ का एक का एडवांस प्लान बनाएंगे क्योंकि इंटरनेट बहुत बड़ा डिस्ट्रक्शन है और बहुत बड़ा टूल है कैसे आप इस्तेमाल करते हैं वह जरूरी है पर रेड रोज परिचय नाटक महीने में अखिलेश 2 दिन आपको अपने फोन और अपने क्या जब से दूर हटकर अपने टाइम स्पेंड करना चाहिए कि आपके में बढ़ रहे हैं और राधिका गोरी क्या होना चाहिए और और अगले महीने अब वही करें 2 दिन को इंटरनेट ऑफ करके अपने फोन से दूर हट के यह देखें कि आपको बोल पहुंचे हैं या नहीं पहुंच पाए हैंLekin Mere Jaise Aadmi Jo Hai YouTube Par Hai Aur Social Media Par Kafi Kaam Karta Hai Internet To Dekh Lena Ho To Hi Ek Acchi Baat Hogi Ki Hum Apne Aap Par Aur Sochenge Aur Yeh Type Karenge Apne Andar Ki Hum Kya Kar Rahe Hain Kaise Kar Rahe Hain Life Ka Ek Ka Advance Plan Banayenge Kyonki Internet Bahut Bada Destruction Hai Aur Bahut Bada Tool Hai Kaise Aap Istemal Karte Hain Wah Zaroori Hai Par Red Roj Parichay Natak Mahine Mein Akhilesh 2 Din Aapko Apne Phone Aur Apne Kya Jab Se Dur Hatakar Apne Time Spend Karna Chahiye Ki Aapke Mein Badh Rahe Hain Aur Radhika Gori Kya Hona Chahiye Aur Aur Agle Mahine Ab Wahi Karen 2 Din Ko Internet Of Karke Apne Phone Se Dur Hut Ke Yeh Dekhen Ki Aapko Bol Pahuche Hain Ya Nahi Pahunch Paye Hain
Likes  54  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की संस्कृति विविधता में एकता और रंग बिरंगे त्यौहार पहली चीज है जो इसे बाकी देशों से कुछ हद तक अलग दिखाती हैं भारतीय सेना का जीवन भारतीय सॉफ्टवेयर प्रोफेशनल की सारी दुनिया में परचम लहराना और भारतीय राजनीति का पूरे विश्व पर प्रभाव इसे अलग बनाते हैं मेरे विचार से भारत ही ऐसा देश है जहां मोहम्मद की अवहेलना कर सकती है और अल्पसंख्यक होते हुए भी बहुसंख्यकवाद के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद कर सकते हैं भारत में मीडिया सत्ताधारी दलों की नीतियों की धज्जियां रोज अपने प्राइम टाइम पर उड़ आती है सलमान आमिर और शाहरुख की फिल्में हजार करोड़ कम आती है और भारत की करो कि जनता रोज भूखे पेट हो जाती है आर्थिक असमानता का जो दृश्य भारत में दिखेगा तो शायद ही कहीं दिखे इन सबके बावजूद भारत कभी तारा छाई नहीं हुआ हां यही उसको सबसे अलग बनाती है लड़खड़ाया कई भारत और भारतीयता और भारत की आत्मा यानी भारतीय संस्कृति में इसे दोबारा खड़ा होने की प्रेरणा दी और आज भारत वर्ष विश्व गुरु बन कर विश्व के न जाने कितने ही देशों को मार्गदर्शन दे रहा है एक सही दिशा दिखा रहा है जय हिंद
Romanized Version
भारत की संस्कृति विविधता में एकता और रंग बिरंगे त्यौहार पहली चीज है जो इसे बाकी देशों से कुछ हद तक अलग दिखाती हैं भारतीय सेना का जीवन भारतीय सॉफ्टवेयर प्रोफेशनल की सारी दुनिया में परचम लहराना और भारतीय राजनीति का पूरे विश्व पर प्रभाव इसे अलग बनाते हैं मेरे विचार से भारत ही ऐसा देश है जहां मोहम्मद की अवहेलना कर सकती है और अल्पसंख्यक होते हुए भी बहुसंख्यकवाद के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद कर सकते हैं भारत में मीडिया सत्ताधारी दलों की नीतियों की धज्जियां रोज अपने प्राइम टाइम पर उड़ आती है सलमान आमिर और शाहरुख की फिल्में हजार करोड़ कम आती है और भारत की करो कि जनता रोज भूखे पेट हो जाती है आर्थिक असमानता का जो दृश्य भारत में दिखेगा तो शायद ही कहीं दिखे इन सबके बावजूद भारत कभी तारा छाई नहीं हुआ हां यही उसको सबसे अलग बनाती है लड़खड़ाया कई भारत और भारतीयता और भारत की आत्मा यानी भारतीय संस्कृति में इसे दोबारा खड़ा होने की प्रेरणा दी और आज भारत वर्ष विश्व गुरु बन कर विश्व के न जाने कितने ही देशों को मार्गदर्शन दे रहा है एक सही दिशा दिखा रहा है जय हिंदBharat Ki Sanskriti Vividhata Mein Ekta Aur Rang Birange Tyohar Pehli Cheez Hai Jo Ise Baki Deshon Se Kuch Had Tak Alag Dikhaati Hain Bhartiya Sena Ka Jeevan Bhartiya Software Professional Ki Saree Duniya Mein Parcham Laharana Aur Bhartiya Rajneeti Ka Poore Vishwa Par Prabhav Ise Alag Banate Hain Mere Vichar Se Bharat Hi Aisa Desh Hai Jahan Mohammed Ki Avahelana Kar Sakti Hai Aur Alpsankhyak Hote Hue Bhi Bahusankhyakvad Ke Viruddha Apni Aawaj Buland Kar Sakte Hain Bharat Mein Media Sattadhari Dalon Ki Nitiyon Ki Dhajjiya Roj Apne Prime Time Par Ud Aati Hai Salman Aamir Aur Shahrukh Ki Filme Hazar Crore Kum Aati Hai Aur Bharat Ki Karo Ki Janta Roj Bhukhe Pet Ho Jati Hai Aarthik Asamanta Ka Jo Drishya Bharat Mein Dikhega To Shayad Hi Kahin Dikhe In Sabke Bawajud Bharat Kabhi Tara Chhai Nahi Hua Haan Yahi Usko Sabse Alag Banati Hai Ladakhadaya Kai Bharat Aur Bhartiyata Aur Bharat Ki Aatma Yani Bhartiya Sanskriti Mein Ise Dobara Khada Hone Ki Prerna Di Aur Aaj Bharat Varsh Vishwa Guru Ban Kar Vishwa Ke N Jaane Kitne Hi Deshon Ko Margdarshan De Raha Hai Ek Sahi Disha Dikha Raha Hai Jai Hind
Likes  26  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महिलाओं के सम्मान का सबसे ज्यादा ध्यान नवरात्रि में रखना चाहिए नवरात्रि नहीं हमेशा रखना चाहिए
Romanized Version
महिलाओं के सम्मान का सबसे ज्यादा ध्यान नवरात्रि में रखना चाहिए नवरात्रि नहीं हमेशा रखना चाहिएMahilaon Ke Samman Ka Sabse Zyada Dhyan Navaratri Mein Rakhna Chahiye Navaratri Nahi Hamesha Rakhna Chahiye
Likes  13  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमेरिका जैसा देश या उससे और भी तेजी से विकसित है उनमें और हम में फर्क क्या है बहुत बुनियादी फर्क है वह सबसे पहले तो अपनों की कीमत अपनों का कदमों की पहचान उनमें है तो क्षमता 1 लोग हैं जो तेज दिमाग के लोग हैं जो सक्षम लोग हैं उनका वह कद्र करते हैं उनकी सबसे बेहतर उपयोगिता उनके देश के लिए कैसे हो सके उसका प्रबंध करते हैं इतना ही नहीं दुनिया के अन्य देश के तेज दिमाग के लोग सक्षम लोग गर्म थी लोग किस प्रकार से उनके देश में उनकी उनके संसद संसाधनों का प्रयोग करके बेहतर संभावनाएं उनके देश के लिए प्रस्तुत कर सके उस पर उनका ज्यादा फोकस रहता है यही कारण है कि भारत जैसे देश के सर्वाधिक डॉक्टर इन जीनी एयरोनॉटिक से जुड़े हुए इंजिनियर्स साइंटिस्ट अमेरिकन के लिए काम करते हैं या यूरोप के अन्य देशों के लिए काम करते हैं आज हमारे यहां से निकला हुआ ब्रेन उनके लिए विज्ञान की नई नई चुनौतियों को स्वीकार करता है उस पर विजय प्राप्त करता है नई-नई खोजें करता है इसलिए वह हमसे आगे जबकि हमारे यहां उसके विपरीत हमारे यहां क्षमता महान व्यक्तियों की क्षमता को दबाने का प्रयास किया जाता है हमारे यहां आरक्षण जैसी बीमारी है जिसके बल पर समाज में क्षमता 1 व्यक्तियों का अनादर होता है उन्हें पलायन पर मजबूर होना पड़ता है तो इस तरह की विसंगतियों के रहते हुए हमारा देश कभी भी उस श्रेणी में कभी नहीं खड़ा हो सकता जिस श्रेणी में विकसित देश आते हैं
Romanized Version
अमेरिका जैसा देश या उससे और भी तेजी से विकसित है उनमें और हम में फर्क क्या है बहुत बुनियादी फर्क है वह सबसे पहले तो अपनों की कीमत अपनों का कदमों की पहचान उनमें है तो क्षमता 1 लोग हैं जो तेज दिमाग के लोग हैं जो सक्षम लोग हैं उनका वह कद्र करते हैं उनकी सबसे बेहतर उपयोगिता उनके देश के लिए कैसे हो सके उसका प्रबंध करते हैं इतना ही नहीं दुनिया के अन्य देश के तेज दिमाग के लोग सक्षम लोग गर्म थी लोग किस प्रकार से उनके देश में उनकी उनके संसद संसाधनों का प्रयोग करके बेहतर संभावनाएं उनके देश के लिए प्रस्तुत कर सके उस पर उनका ज्यादा फोकस रहता है यही कारण है कि भारत जैसे देश के सर्वाधिक डॉक्टर इन जीनी एयरोनॉटिक से जुड़े हुए इंजिनियर्स साइंटिस्ट अमेरिकन के लिए काम करते हैं या यूरोप के अन्य देशों के लिए काम करते हैं आज हमारे यहां से निकला हुआ ब्रेन उनके लिए विज्ञान की नई नई चुनौतियों को स्वीकार करता है उस पर विजय प्राप्त करता है नई-नई खोजें करता है इसलिए वह हमसे आगे जबकि हमारे यहां उसके विपरीत हमारे यहां क्षमता महान व्यक्तियों की क्षमता को दबाने का प्रयास किया जाता है हमारे यहां आरक्षण जैसी बीमारी है जिसके बल पर समाज में क्षमता 1 व्यक्तियों का अनादर होता है उन्हें पलायन पर मजबूर होना पड़ता है तो इस तरह की विसंगतियों के रहते हुए हमारा देश कभी भी उस श्रेणी में कभी नहीं खड़ा हो सकता जिस श्रेणी में विकसित देश आते हैंAmerica Jaisa Desh Ya Usase Aur Bhi Teji Se Viksit Hai Unme Aur Hum Mein Fark Kya Hai Bahut Buniyadi Fark Hai Wah Sabse Pehle To Apanon Ki Kimat Apanon Ka Kadmon Ki Pehchan Unme Hai To Kshamta 1 Log Hain Joe Tej Dimag K Log Hain Joe Saksham Log Hain Unka Wah Kadra Karte Hain Unki Sabse Behtar Upyogita Unke Desh K Lie Kaise Ho Skye Uska Prabandh Karte Hain Itna Hea Nahin Duniya K Anya Desh K Tej Dimag K Log Saksham Log Germa Thi Log Kiss Prakar Se Unke Desh Mein Unki Unke Sansad Sansadhanon Ka Prayog Karake Behtar Sambhavanaen Unke Desh K Lie Prastut Car Skye Oosh Per Unka Jyada Focus Rehta Hai Yahi Karan Hai Qi Bharat Jaise Desh K Sarvadhik Doctor In Jini Eyaronatik Se Jude Huye Engineers Saintist American K Lie Kama Karte Hain Ya Europe K Anya Deshon K Lie Kama Karte Hain Aj Hamare Yahaan Se Nikla Hua Brain Unke Lie Vigyan Ki Nai Nai Chunautiyo Co Sweekar Karata Hai Oosh Per Vijay Prapt Karata Hai Nai Nai Khojein Karata Hai Eeslie Wah Humse Aage Jbki Hamare Yahaan Uske Viprit Hamare Yahaan Kshamta Mahan Vyaktiyo Ki Kshamta Co Dubaane Ka Prayas Kiya Jaata Hai Hamare Yahaan Aarkshan Jaisi Bimari Hai Jiske Bal Per Samaj Mein Kshamta 1 Vyaktiyo Ka Anadar Hota Hai Unhein Palayan Per Majboor Hona Padata Hai To Is Turha Ki Visangatiyon K Rahate Huye Hamara Desh Kabhi Bhi Oosh Shrenee Mein Kabhi Nahin Khada Ho Sakta Jisha Shrenee Mein Viksit Desh Aate Hain
Likes  51  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यक्षा प्रश्न है उस देश के प्रत्येक नागरिक को ही जानना चाहे के प्रधानमंत्री द्वारा उनकी यात्राओं पर उनकी विदेश यात्राओं पर जो खर्च होता है वह उसका वाहन कौन करता है कौन उठाता है उसका स्कोर देश के जो नागरिक हैं जो कर देते हैं चाहे वह सीधे इनकम टैक्स आयकर के माध्यम से हो या फिर अन्य माध्यमों से हो चाहे वह सर्विस टैक्स हो या फिर व्यापार जीएसटी का टैक्स को जो कर दिया जाता है उसी करके राजेश उसे ही सरकार के विभिन्न प्रकार के खर्चे की भरपाई की जाती है चाहे वह प्रधानमंत्री हो या फिर कोई और राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति हो केंद्रीय मंत्री हो सरकारी अधिकारी हो सेना के लोगों जो भी विदेश यात्राएं होती है वह किसी के अपने निजी पैसे नहीं होती बल्कि देश के नागरिकों के द्वारा दिए गए टैक्सों के ही आए थे उनका चुका बहन किया जाता है यहां यह जानना बहुत जरूरी है कि प्रधानमंत्री मोदी जी अब तक 52 देशों की यात्रा कर चुके हैं और इन 52 देशों की यात्रा में लगभग साढे 300 करोड़ का खर्च आया है लेकिन इसका देश के हित में प्रतिफल लाभ क्या मिला है उसको भी जानना बहुत जरूरी है अब तक लगभग 15 लाख करोड़ का विभिन्न क्षेत्रों में निवेश भारत के उद्देश्यों से आ चुका है विनिर्माण का क्षेत्र हो या फिर उद्योग का क्षेत्र हो या फिर सर्विसेस का क्षेत्र हो लगभग सभी क्षेत्रों में कुल निवेश को यदि जोड़ा जाए तो यह लगभग 15 लाख करोड़ के आस पास बैठता है तो यह कह सकते हैं कि अब तक के प्रधानमंत्रियों की तुलना में धानमंत्री मोदी जी की विदेश यात्राओं पर किया गया खर्च बहुत बड़े लाभ और बहुत बड़े प्रतिफल के साथ वापस आया है और जिसका आने वाले समय में आने वाले वर्षों में देश के विकास में भरपूर लाभ देखने को मिलेगा
यक्षा प्रश्न है उस देश के प्रत्येक नागरिक को ही जानना चाहे के प्रधानमंत्री द्वारा उनकी यात्राओं पर उनकी विदेश यात्राओं पर जो खर्च होता है वह उसका वाहन कौन करता है कौन उठाता है उसका स्कोर देश के जो नागरिक हैं जो कर देते हैं चाहे वह सीधे इनकम टैक्स आयकर के माध्यम से हो या फिर अन्य माध्यमों से हो चाहे वह सर्विस टैक्स हो या फिर व्यापार जीएसटी का टैक्स को जो कर दिया जाता है उसी करके राजेश उसे ही सरकार के विभिन्न प्रकार के खर्चे की भरपाई की जाती है चाहे वह प्रधानमंत्री हो या फिर कोई और राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति हो केंद्रीय मंत्री हो सरकारी अधिकारी हो सेना के लोगों जो भी विदेश यात्राएं होती है वह किसी के अपने निजी पैसे नहीं होती बल्कि देश के नागरिकों के द्वारा दिए गए टैक्सों के ही आए थे उनका चुका बहन किया जाता है यहां यह जानना बहुत जरूरी है कि प्रधानमंत्री मोदी जी अब तक 52 देशों की यात्रा कर चुके हैं और इन 52 देशों की यात्रा में लगभग साढे 300 करोड़ का खर्च आया है लेकिन इसका देश के हित में प्रतिफल लाभ क्या मिला है उसको भी जानना बहुत जरूरी है अब तक लगभग 15 लाख करोड़ का विभिन्न क्षेत्रों में निवेश भारत के उद्देश्यों से आ चुका है विनिर्माण का क्षेत्र हो या फिर उद्योग का क्षेत्र हो या फिर सर्विसेस का क्षेत्र हो लगभग सभी क्षेत्रों में कुल निवेश को यदि जोड़ा जाए तो यह लगभग 15 लाख करोड़ के आस पास बैठता है तो यह कह सकते हैं कि अब तक के प्रधानमंत्रियों की तुलना में धानमंत्री मोदी जी की विदेश यात्राओं पर किया गया खर्च बहुत बड़े लाभ और बहुत बड़े प्रतिफल के साथ वापस आया है और जिसका आने वाले समय में आने वाले वर्षों में देश के विकास में भरपूर लाभ देखने को मिलेगा
Likes  65  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे तमाम बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल बहुत ही दिलचस्प है कि क्या होगा यदि सारे मनुष्य एक दिन पृथ्वी से गायब हो जाए अब मुझे नहीं पता परमानेंटली गायब किया है या फिर बहुत ही टेंपरेरी बेसिस पर लेकिन मैं इसका आंसर टेंपरेचर लेवल पर भी अगर देना चाहूं कि 1 दिन के लिए मैं मान लूं कि सारे मनुष्य पृथ्वी से गायब हो जाएंगे तो क्या आलम होगा मुझे लगता है कि आज हम इंसान के रूप में आज प्रकृति को बहुत नुकसान पहुंचा रहे हैं तो कम से कम 1 दिन के लिए कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा और प्रकृति अपने आप में परिपूर्ण रहेगी और चलेगी खुलेगी और जो जंगल के जीव जंतु हैं या और भी जानवर हैं वह भी बहुत खुश महसूस करेंगे अपने आपको धन्य महसूस करेंगे क्योंकि उनका भी जीना इन्हीं मनुष्य ने आज मुहाल कर दिया है आज उनके लिए जंगल ही नहीं रही वह कहां जाएं आज आपने देखा होगा कि शहरों में ही बहुत सारे जंगली जानवर निकल जाते हैं सड़कों पर तो शहरों में कोहराम मच जाता है लेकिन हमने जो जंगलों को काटकर वृक्षों को काटकर उनकी जिंदगी को बद से बदतर कर दिया है उस कोहराम के बारे में हम सोचना भी नहीं चाहते और ना ही हमें सोचने की फुर्सत है इसलिए कुछ गजब नहीं होगा अच्छा ही होगा अगर 1 दिन के लिए पृथ्वी से मनुष्य गायब हो जाए तो कम से कम पशु पक्षी जीव जंतु तो एंजॉय कर लेंगे 1 दिन के लिए सही अगर ऐसा होता है तो यह बहुत ही खूबसूरत परी कल्पना होगी लेकिन यह काल्पनिक बात है इसलिए मैंने इसका काल्पनिक ही उत्तर दिया है असल में ना तो ऐसा संभव है वरना ऐसा होगा धन्यवाद
नमस्कार दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे तमाम बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल बहुत ही दिलचस्प है कि क्या होगा यदि सारे मनुष्य एक दिन पृथ्वी से गायब हो जाए अब मुझे नहीं पता परमानेंटली गायब किया है या फिर बहुत ही टेंपरेरी बेसिस पर लेकिन मैं इसका आंसर टेंपरेचर लेवल पर भी अगर देना चाहूं कि 1 दिन के लिए मैं मान लूं कि सारे मनुष्य पृथ्वी से गायब हो जाएंगे तो क्या आलम होगा मुझे लगता है कि आज हम इंसान के रूप में आज प्रकृति को बहुत नुकसान पहुंचा रहे हैं तो कम से कम 1 दिन के लिए कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा और प्रकृति अपने आप में परिपूर्ण रहेगी और चलेगी खुलेगी और जो जंगल के जीव जंतु हैं या और भी जानवर हैं वह भी बहुत खुश महसूस करेंगे अपने आपको धन्य महसूस करेंगे क्योंकि उनका भी जीना इन्हीं मनुष्य ने आज मुहाल कर दिया है आज उनके लिए जंगल ही नहीं रही वह कहां जाएं आज आपने देखा होगा कि शहरों में ही बहुत सारे जंगली जानवर निकल जाते हैं सड़कों पर तो शहरों में कोहराम मच जाता है लेकिन हमने जो जंगलों को काटकर वृक्षों को काटकर उनकी जिंदगी को बद से बदतर कर दिया है उस कोहराम के बारे में हम सोचना भी नहीं चाहते और ना ही हमें सोचने की फुर्सत है इसलिए कुछ गजब नहीं होगा अच्छा ही होगा अगर 1 दिन के लिए पृथ्वी से मनुष्य गायब हो जाए तो कम से कम पशु पक्षी जीव जंतु तो एंजॉय कर लेंगे 1 दिन के लिए सही अगर ऐसा होता है तो यह बहुत ही खूबसूरत परी कल्पना होगी लेकिन यह काल्पनिक बात है इसलिए मैंने इसका काल्पनिक ही उत्तर दिया है असल में ना तो ऐसा संभव है वरना ऐसा होगा धन्यवाद
Likes  17  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत एक धर्मनिरपेक्ष राज्य है, सर्कुलर राष्ट्र है, और भारत को धर्मनिरपेक्ष ही रहना चाहिए| हिंदुत्ववादी राष्ट्र होना भारत के लिए अच्छा नहीं है| सबसे बड़ी बात यह है कि हिंदू अपने में ही हजारों पार्ट में डिवाइडेड है| यहां पर हिंदू के अंदर जो है, फिर जातिवाद हैं और अप्पर कास्ट, लोअर कास्ट, उसके अंदर सब कास्ट है| तो यह जो हिंदूवादी जो मानसिकता है, यह बिल्कुल ही गलत मानसिकता है| हमें सारे धर्मों को सही और सारे धर्मों को बराबर अहमियत देनी चाहिए| और अगर इसको हिंदूवादी राष्ट्र अगर इसको बनाने का प्रयत्न किया जाएगा तो मेरे विचार से अनुचित है, और इससे देश का नुकसान होगा|
Romanized Version
भारत एक धर्मनिरपेक्ष राज्य है, सर्कुलर राष्ट्र है, और भारत को धर्मनिरपेक्ष ही रहना चाहिए| हिंदुत्ववादी राष्ट्र होना भारत के लिए अच्छा नहीं है| सबसे बड़ी बात यह है कि हिंदू अपने में ही हजारों पार्ट में डिवाइडेड है| यहां पर हिंदू के अंदर जो है, फिर जातिवाद हैं और अप्पर कास्ट, लोअर कास्ट, उसके अंदर सब कास्ट है| तो यह जो हिंदूवादी जो मानसिकता है, यह बिल्कुल ही गलत मानसिकता है| हमें सारे धर्मों को सही और सारे धर्मों को बराबर अहमियत देनी चाहिए| और अगर इसको हिंदूवादी राष्ट्र अगर इसको बनाने का प्रयत्न किया जाएगा तो मेरे विचार से अनुचित है, और इससे देश का नुकसान होगा|Bharat Ek Dharmanirapeksh Rajya Hai Circular Rashtra Hai Aur Bharat Ko Dharmanirapeksh Hi Rehna Chahiye Hindutvawadi Rashtra Hona Bharat Ke Liye Accha Nahi Hai Sabse Badi Baat Yeh Hai Ki Hindu Apne Mein Hi Hajaron Part Mein Divided Hai Yahan Par Hindu Ke Andar Jo Hai Phir Jaatiwad Hain Aur Upper Caste Lower Caste Uske Andar Sab Caste Hai To Yeh Jo Hinduvadi Jo Mansikta Hai Yeh Bilkul Hi Galat Mansikta Hai Hume Sare Dharmon Ko Sahi Aur Sare Dharmon Ko Barabar Ahamiyat Deni Chahiye Aur Agar Isko Hinduvadi Rashtra Agar Isko Banane Ka Prayatn Kiya Jayega To Mere Vichar Se Anuchit Hai Aur Isse Desh Ka Nuksan Hoga
Likes  31  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे पेड़ के पत्ते गिर जाते हैं कुछ समय के बाद वैसा ही हमारे शरीर भी कुछ साल बाद ही उसने सो जाता है और कमजोर भी हमारे अंदर की आत्मा को एक दूसरा शरीर चाहिए जैसे कपड़े पुराने होते हैं हम नए कपड़े लेकर पहनते हैं इसी तरह हमारे शरीर भी होता है और हमारे आत्मा के लिए एक दूसरे शरीर जैसे की फ्रेश हो वह वाला चाहिए होगा
Romanized Version
जैसे पेड़ के पत्ते गिर जाते हैं कुछ समय के बाद वैसा ही हमारे शरीर भी कुछ साल बाद ही उसने सो जाता है और कमजोर भी हमारे अंदर की आत्मा को एक दूसरा शरीर चाहिए जैसे कपड़े पुराने होते हैं हम नए कपड़े लेकर पहनते हैं इसी तरह हमारे शरीर भी होता है और हमारे आत्मा के लिए एक दूसरे शरीर जैसे की फ्रेश हो वह वाला चाहिए होगाJaise Ped Ke Patte Gir Jaate Hain Kuch Samay Ke Baad Waisa Hi Hamare Sharir Bhi Kuch Saal Baad Hi Usne So Jata Hai Aur Kamjor Bhi Hamare Andar Ki Aatma Ko Ek Doosra Sharir Chahiye Jaise Kapde Purane Hote Hain Hum Naye Kapde Lekar Pehente Hain Isi Tarah Hamare Sharir Bhi Hota Hai Aur Hamare Aatma Ke Liye Ek Dusre Sharir Jaise Ki Fresh Ho Wah Wala Chahiye Hoga
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में अगर मुसलमानों की जनसंख्या देखे तो वह कहीं 18.2 पर्सेंट आती है पूरी पॉपुलेशन के अकॉर्डिंग और ज्यादातर लोग हैं भारत में सबसे ज्यादा परसेंटेज है भारत में वह हिंदुओं की है और हिंदू लोग ही ज्यादा मिलते हैं भारत में इसीलिए आप भारत को मुसलमानों का देश नहीं कहा जाता है और ऐसा नहीं है कि भारत को हिंदुओं का देश कहा जाता है क्योंकि अगर हम कॉन्स्टिट्यूशन में देखे तो भारत को ऐसा नेशन किसी भी जाति के हिसाब से या किसी भी धर्म के हिसाब से नहीं कहा गया है वह सिर्फ यह कहता है कि भारत एक सेकुलर देश है अनेक से क्यों ना नेशन है जिसमें जो इंसान जो भी धर्म फॉलो करना चाहता है वह आराम से कर सकता है उनको पूरी पूरी और फ्रीडम होती है किसी भी धर्म को मानने की और उसको फॉलो करने की इसीलिए भारत को ना तो मुसलमानों का देश कहा जाता है और ना ही हिंदुओं का देश कहा जाता है और बाकी जितनी भी और रिलीजियस माइनॉरिटी हमारे देश में चाहे वह क्रिश्चियन हो सिख हो जैन हो बुद्धिज्म हो तो उन सब को भी एक स्टेटस दिया गया मेरे देश में और किसी भी जाति को या किसी भी धर्म को भारत देश में नहीं ऐसे स्थापित किया गया है कि भारत को उसी धर्म जाति के नाम से जाना जाए इसीलिए भारत को मुस्लिमों का देश नहीं कहा जाता है और उसको सिर्फ एक से क्यों नेशन कहा जाता है जहां पर सभी जाति के लोग सभी धर्म के लोग एक साथ आराम से रह सकते हैं और कोई किसी को यह हक या फिर किसी के ऊपर फोर्स नहीं कर सकता किसी भी दूसरे धर्म को फॉलो करने के लिए
Romanized Version
भारत में अगर मुसलमानों की जनसंख्या देखे तो वह कहीं 18.2 पर्सेंट आती है पूरी पॉपुलेशन के अकॉर्डिंग और ज्यादातर लोग हैं भारत में सबसे ज्यादा परसेंटेज है भारत में वह हिंदुओं की है और हिंदू लोग ही ज्यादा मिलते हैं भारत में इसीलिए आप भारत को मुसलमानों का देश नहीं कहा जाता है और ऐसा नहीं है कि भारत को हिंदुओं का देश कहा जाता है क्योंकि अगर हम कॉन्स्टिट्यूशन में देखे तो भारत को ऐसा नेशन किसी भी जाति के हिसाब से या किसी भी धर्म के हिसाब से नहीं कहा गया है वह सिर्फ यह कहता है कि भारत एक सेकुलर देश है अनेक से क्यों ना नेशन है जिसमें जो इंसान जो भी धर्म फॉलो करना चाहता है वह आराम से कर सकता है उनको पूरी पूरी और फ्रीडम होती है किसी भी धर्म को मानने की और उसको फॉलो करने की इसीलिए भारत को ना तो मुसलमानों का देश कहा जाता है और ना ही हिंदुओं का देश कहा जाता है और बाकी जितनी भी और रिलीजियस माइनॉरिटी हमारे देश में चाहे वह क्रिश्चियन हो सिख हो जैन हो बुद्धिज्म हो तो उन सब को भी एक स्टेटस दिया गया मेरे देश में और किसी भी जाति को या किसी भी धर्म को भारत देश में नहीं ऐसे स्थापित किया गया है कि भारत को उसी धर्म जाति के नाम से जाना जाए इसीलिए भारत को मुस्लिमों का देश नहीं कहा जाता है और उसको सिर्फ एक से क्यों नेशन कहा जाता है जहां पर सभी जाति के लोग सभी धर्म के लोग एक साथ आराम से रह सकते हैं और कोई किसी को यह हक या फिर किसी के ऊपर फोर्स नहीं कर सकता किसी भी दूसरे धर्म को फॉलो करने के लिएBharat Mein Agar Musalmano Ki Jansankhya Dekhe To Wah Kahin 18.2 Percent Aati Hai Puri Population Ke According Aur Jyadatar Log Hain Bharat Mein Sabse Jyada Percentage Hai Bharat Mein Wah Hinduon Ki Hai Aur Hindu Log Hi Jyada Milte Hain Bharat Mein Isliye Aap Bharat Ko Musalmano Ka Desh Nahi Kaha Jata Hai Aur Aisa Nahi Hai Ki Bharat Ko Hinduon Ka Desh Kaha Jata Hai Kyonki Agar Hum Constitution Mein Dekhe To Bharat Ko Aisa Nation Kisi Bhi Jati Ke Hisab Se Ya Kisi Bhi Dharm Ke Hisab Se Nahi Kaha Gaya Hai Wah Sirf Yeh Kahata Hai Ki Bharat Ek Secular Desh Hai Anek Se Kyun Na Nation Hai Jisme Jo Insaan Jo Bhi Dharm Follow Karna Chahta Hai Wah Aaram Se Kar Sakta Hai Unko Puri Puri Aur Freedom Hoti Hai Kisi Bhi Dharm Ko Manane Ki Aur Usko Follow Karne Ki Isliye Bharat Ko Na To Musalmano Ka Desh Kaha Jata Hai Aur Na Hi Hinduon Ka Desh Kaha Jata Hai Aur Baki Jitni Bhi Aur Religious Minority Hamare Desh Mein Chahe Wah Krishchiyan Ho Sikh Ho Jain Ho Buddhism Ho To Un Sab Ko Bhi Ek Status Diya Gaya Mere Desh Mein Aur Kisi Bhi Jati Ko Ya Kisi Bhi Dharm Ko Bharat Desh Mein Nahi Aise Sthapit Kiya Gaya Hai Ki Bharat Ko Ussi Dharm Jati Ke Naam Se Jana Jaye Isliye Bharat Ko Muslimo Ka Desh Nahi Kaha Jata Hai Aur Usko Sirf Ek Se Kyun Nation Kaha Jata Hai Jahan Par Sabhi Jati Ke Log Sabhi Dharm Ke Log Ek Saath Aaram Se Rah Sakte Hain Aur Koi Kisi Ko Yeh Haq Ya Phir Kisi Ke Upar Force Nahi Kar Sakta Kisi Bhi Dusre Dharm Ko Follow Karne Ke Liye
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तेरे दरबार में मैया खुशी मिलती है जिंदगी मिलती है जिंदगी मिलती है लोगों को खुशी मिलती है तेरे दरबार में मैया जोता जो आए मां खस्ता हो जाता है
Romanized Version
तेरे दरबार में मैया खुशी मिलती है जिंदगी मिलती है जिंदगी मिलती है लोगों को खुशी मिलती है तेरे दरबार में मैया जोता जो आए मां खस्ता हो जाता हैTere Darbar Mein Maiya Khushi Milti Hai Jindagi Milti Hai Jindagi Milti Hai Logon Co Khushi Milti Hai Tere Darbar Mein Maiya Jota Joe Ae Man Khasta Ho Jaata Hai
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दुर्गा पूजा धार्मिक परंपरा ही नहीं है बल्कि संस्कृति से जुड़ी हुई है एवं हजारों लाखों लोगों की श्रद्धा है विश्वास प्रेम के साथ इन्हें मनाया जाता है इसलिए पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता है
Romanized Version
दुर्गा पूजा धार्मिक परंपरा ही नहीं है बल्कि संस्कृति से जुड़ी हुई है एवं हजारों लाखों लोगों की श्रद्धा है विश्वास प्रेम के साथ इन्हें मनाया जाता है इसलिए पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता हैDurga Pooja Dharmik Paramparaa Hea Nahin Hai Walkie Sanskriti Se Judi Hue Hai Even Hajaron Laakhon Logon Ki Shraddha Hai Vishwas Prem K Sathe Inhe Manaaya Jaata Hai Eeslie Poore Bharat Mein Dhumdham Se Manaaya Jaata Hai
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा देश भारत एक अनूठा देश है बहुत ही खूबसूरत है इनकी तारीख दुनिया करती है पर यहां के जो निवासी हैं इनका जो सोच है ना यह बुरा डिफरेंट है अदर कंट्री से यहां के निवासी का सोच बहुत ही डिफरेंट और सोच भी है तो कैसा सोच कुछ हेयर पैमाने में सोचने वाले नहीं हैं यहां पर कोई सब निचली बाद सोचेंगे सब पिछली जो गुजर गया वह बात सोचेंगे और हमारे देश का जो भारत नहीं है हमारे देश का जो एक जो पेट्रोलियम 100 सॉन्ग जो होता है वह भी है और यह बात हम सब यह सब हम सब सुनते हैं छोड़ो कल की बातें कल की बात पुरानी नए दौर में लिखेंगे हम नहीं कहानी लिखने से कुछ नहीं होता है ऐसा कुछ होता नहीं सब सुनना चाहता सिर्फ एक गाना यह सोच के अंदर इंस्टॉल नहीं करना चाहता यह बात कोई खास यह चीज इंस्टॉल करना सीख जाए अपने माइंड में भारत निवास सत साहिब की भारत के लोग भारत सुधर सकते हैं और मैं तो सोच रहा हूं कि बाहर जगह गंदगी बंदगी यह तो होता रहेगा बस सिर्फ अंदर का जो सोच है वह साफ हो जाए ना तो फिर पूरा इंटरनल अगर साफ हो जाए तो एक्सटर्नल ऑटोमेटिक लिए एकदम साफ होगा बस यहां के एक नागरिक से नेता तक सब का अंदर है ना वह करैक्टर मैं भी देख भारतवासी हूं मैं भी इस देश में रहने वाला हूं लेकिन क्या करें सोहबत का असर मुझ में भी है ऐसा बात नहीं है मुझ में भी है क्या करें बस यह चीज प्रार्थना कीजिए भगवान से एक ही चीज सबसे दूर हो जाए सब सब की सोच पॉजिटिव हो जाए बस प्रार्थना है भगवान से
Romanized Version
हमारा देश भारत एक अनूठा देश है बहुत ही खूबसूरत है इनकी तारीख दुनिया करती है पर यहां के जो निवासी हैं इनका जो सोच है ना यह बुरा डिफरेंट है अदर कंट्री से यहां के निवासी का सोच बहुत ही डिफरेंट और सोच भी है तो कैसा सोच कुछ हेयर पैमाने में सोचने वाले नहीं हैं यहां पर कोई सब निचली बाद सोचेंगे सब पिछली जो गुजर गया वह बात सोचेंगे और हमारे देश का जो भारत नहीं है हमारे देश का जो एक जो पेट्रोलियम 100 सॉन्ग जो होता है वह भी है और यह बात हम सब यह सब हम सब सुनते हैं छोड़ो कल की बातें कल की बात पुरानी नए दौर में लिखेंगे हम नहीं कहानी लिखने से कुछ नहीं होता है ऐसा कुछ होता नहीं सब सुनना चाहता सिर्फ एक गाना यह सोच के अंदर इंस्टॉल नहीं करना चाहता यह बात कोई खास यह चीज इंस्टॉल करना सीख जाए अपने माइंड में भारत निवास सत साहिब की भारत के लोग भारत सुधर सकते हैं और मैं तो सोच रहा हूं कि बाहर जगह गंदगी बंदगी यह तो होता रहेगा बस सिर्फ अंदर का जो सोच है वह साफ हो जाए ना तो फिर पूरा इंटरनल अगर साफ हो जाए तो एक्सटर्नल ऑटोमेटिक लिए एकदम साफ होगा बस यहां के एक नागरिक से नेता तक सब का अंदर है ना वह करैक्टर मैं भी देख भारतवासी हूं मैं भी इस देश में रहने वाला हूं लेकिन क्या करें सोहबत का असर मुझ में भी है ऐसा बात नहीं है मुझ में भी है क्या करें बस यह चीज प्रार्थना कीजिए भगवान से एक ही चीज सबसे दूर हो जाए सब सब की सोच पॉजिटिव हो जाए बस प्रार्थना है भगवान सेHamara Desh Bharat Ek Anutha Desh Hai Bahut Hi Khoobsurat Hai Inki Tarikh Duniya Karti Hai Par Yahan Ke Jo Nivasi Hain Inka Jo Soch Hai Na Yeh Bura Different Hai Other Country Se Yahan Ke Nivasi Ka Soch Bahut Hi Different Aur Soch Bhi Hai To Kaisa Soch Kuch Hair Paimane Mein Sochne Wali Nahi Hain Yahan Par Koi Sab Nichli Baad Sochenge Sab Pichali Jo Gujar Gaya Wah Baat Sochenge Aur Hamare Desh Ka Jo Bharat Nahi Hai Hamare Desh Ka Jo Ek Jo Petroleum 100 Song Jo Hota Hai Wah Bhi Hai Aur Yeh Baat Hum Sab Yeh Sab Hum Sab Sunte Hain Chhodo Kal Ki Batein Kal Ki Baat Purani Naye Daur Mein Likhenge Hum Nahi Kahani Likhne Se Kuch Nahi Hota Hai Aisa Kuch Hota Nahi Sab Sunana Chahta Sirf Ek Gaana Yeh Soch Ke Andar Install Nahi Karna Chahta Yeh Baat Koi Khas Yeh Cheez Install Karna Seekh Jaye Apne Mind Mein Bharat Niwas Sat Sahib Ki Bharat Ke Log Bharat Sudhar Sakte Hain Aur Main To Soch Raha Hoon Ki Bahar Jagah Gandagi Bandagi Yeh To Hota Rahega Bus Sirf Andar Ka Jo Soch Hai Wah Saaf Ho Jaye Na To Phir Pura Internal Agar Saaf Ho Jaye To External Automatic Liye Ekdam Saaf Hoga Bus Yahan Ke Ek Nagarik Se Neta Tak Sab Ka Andar Hai Na Wah Character Main Bhi Dekh Bharatvasi Hoon Main Bhi Is Desh Mein Rehne Vala Hoon Lekin Kya Karen Sohabat Ka Asar Mujh Mein Bhi Hai Aisa Baat Nahi Hai Mujh Mein Bhi Hai Kya Karen Bus Yeh Cheez Prarthana Kijiye Bhagwan Se Ek Hi Cheez Sabse Dur Ho Jaye Sab Sab Ki Soch Positive Ho Jaye Bus Prarthana Hai Bhagwan Se
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विज्ञान का क्वेश्चन है कि हमारे देश में शौचालय कहां करना यह भी हमको सरकार बताती है तो देश का क्या होगा तो देखिए ऐसी बात बिल्कुल भी नहीं है कि सरकार आपको बताती है सरकार से फिर भी बता दे कि आपको शौचालय कहां नहीं करना है क्योंकि आज जो पुराना जो समय था उसमें यह था कि लोग खेतों में जाकर आशा करते थे या फिर जो है वह किसी बिल्डिंग के पास में करते थे तो यह सब झूठ है यह हमारे प्रदर पर पर्यावरण को दूषित ही करती है और यह बीमारियां फैल आती है तो इसी कारण सरकार ने स्ट्रिक्ट एक्शन शॉट आए हैं ऐसे टिप्स दिए हैं जिससे कि आज इस पर नियंत्रण पा सके और उसी के कारण जो है वह बीमारियां भी कम हुई है
Romanized Version
विज्ञान का क्वेश्चन है कि हमारे देश में शौचालय कहां करना यह भी हमको सरकार बताती है तो देश का क्या होगा तो देखिए ऐसी बात बिल्कुल भी नहीं है कि सरकार आपको बताती है सरकार से फिर भी बता दे कि आपको शौचालय कहां नहीं करना है क्योंकि आज जो पुराना जो समय था उसमें यह था कि लोग खेतों में जाकर आशा करते थे या फिर जो है वह किसी बिल्डिंग के पास में करते थे तो यह सब झूठ है यह हमारे प्रदर पर पर्यावरण को दूषित ही करती है और यह बीमारियां फैल आती है तो इसी कारण सरकार ने स्ट्रिक्ट एक्शन शॉट आए हैं ऐसे टिप्स दिए हैं जिससे कि आज इस पर नियंत्रण पा सके और उसी के कारण जो है वह बीमारियां भी कम हुई हैVigyan Ka Question Hai Qi Hamare Desh Mein Shauchalaya Kahan Krna Yeh Bhi Humko Sarkar Batati Hai To Desh Ka Kya Hoga To Dekhiye Aisi Baat Bilkool Bhi Nahin Hai Qi Sarkar Aapko Batati Hai Sarkar Se Phir Bhi Bata They Qi Aapko Shauchalaya Kahan Nahin Krna Hai Kyonki Aj Joe Purana Joe Samay Thaa Usme Yeh Thaa Qi Log Kheto Mein Jaakar Asha Karte The Ya Phir Joe Hai Wah Kisi Building K Pass Mein Karte The To Yeh Sub Jhuth Hai Yeh Hamare Pradar Per Paryavaran Co Dushit Hea Karti Hai Aur Yeh Bimariyan Fail Auti Hai To Isi Karan Sarkar Ne Strict Action Shot Ae Hain Aise Tips Die Hain Jisase Qi Aj Is Per Niyatran PA Skye Aur Ussi K Karan Joe Hai Wah Bimariyan Bhi Come Hue Hai
Likes  30  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जातिवाद खत्म करने का सबसे अच्छा तरीका हमें संवैधानिक रूप से मिला हुआ है वह मतदान का अधिकार क्योंकि आप जानते हैं जातिवाद फैलाए फैलाए राजनीति में क्षेत्रीय पार्टियां केवल और केवल मैं सिर्फ केवल WhatsApp यूज करूंगा किसी दम पर जीत रही है आप यूपी में देख लीजिए इससे पहले दिन की सरकार थी वह भी जातिवाद के कारण थी उनसे पहले उनकी सरकार थी वह भी जातिवाद के कारण थी बिहार में भी जातिवाद की सरकार है उसके अलावा पश्चिम बंगाल में जातिवाद के कारण तेलंगाना में जातिवाद के कारण कर्नाटका में जातिवाद के हर राज्य में जो छोटी छोटी पार्टियां पैदा हुई है जातिवाद के कारण हुई है एक बार अगर हमने सोच लिया कि हमें जाति क्या कर वोट नहीं देना है तो कोई भी पार्टी का वोट नहीं देंगे सीधी बात ऐसे ही कैंडिडेट को वोट दीजिए कि मैं चाहे आप को निर्दलीय बताना पड़े आप एक बार निर्दलीय को मौका तो दे कर दीजिए जो जातिवाद कि नहीं आपके घर के सामने की सड़क को साफ रखने तथा उसको मजबूत रखने का वादा रखता है उस व्यक्ति को वोट दीजिए ऐसे व्यक्ति को वोट मत दीजिए जो केवल आपको धर्म के नाम पर लड़ माता है यह जाति के नाम पर आपसे स्पीड पैदा करवाता है एक बार वोट डाल कर देखिए उस व्यक्ति को जो व्यक्ति केवल डेवलपमेंट की बात करता है अगर कोई व्यक्ति किसी भी धर्म की या जाति की बात करता है समझ जाइए कि व्यक्ति काम नहीं करने वाला और मुझे लगता है आज का समाज जो है पढ़ा लिखा समाज है और पढ़े लिखे समाज की विशेषता यह है कि वह समझता है कि उस का हित किस चीज में और वह भी डालने जाता है तो मुझे पता है कि किसको वोट डालना है तो मुझे रास्ता सबसे बड़ा राइट यही है और इसी तरह से जाते हो खत्म कर सकता है जिस फिल्म में सबसे ज्यादा राजनीति में जातिवाद सबसे ज्यादा उसकी आवाज मुझे बहुत कम दिखता है क्योंकि हम सब लोग साथ में बैठते हैं खाते हैं पीते हैं आप किसी का नाम होगा तो आप पहले नाम नहीं पूछते मित्रता करते हैं मुस्कुराते हैं किसी को देख कर तो हम जातिवाद के बाद हम लोग तो कभी नहीं करते प्रेक्टिकल लाइफ हमारी में तो कभी नहीं आते आपके दोस्त आ रहे होंगे होंगे या फिर सरदार सिंह हॉकी तो इस तरह के लोग आपके दोस्त होंगे जाति मजहब नहीं कर रहे राजनीति में काफी ज्यादा खत्म हो सकता है अपने मत का प्रयोग सही ढंग से कीजिए धन्यवाद
Romanized Version
जातिवाद खत्म करने का सबसे अच्छा तरीका हमें संवैधानिक रूप से मिला हुआ है वह मतदान का अधिकार क्योंकि आप जानते हैं जातिवाद फैलाए फैलाए राजनीति में क्षेत्रीय पार्टियां केवल और केवल मैं सिर्फ केवल WhatsApp यूज करूंगा किसी दम पर जीत रही है आप यूपी में देख लीजिए इससे पहले दिन की सरकार थी वह भी जातिवाद के कारण थी उनसे पहले उनकी सरकार थी वह भी जातिवाद के कारण थी बिहार में भी जातिवाद की सरकार है उसके अलावा पश्चिम बंगाल में जातिवाद के कारण तेलंगाना में जातिवाद के कारण कर्नाटका में जातिवाद के हर राज्य में जो छोटी छोटी पार्टियां पैदा हुई है जातिवाद के कारण हुई है एक बार अगर हमने सोच लिया कि हमें जाति क्या कर वोट नहीं देना है तो कोई भी पार्टी का वोट नहीं देंगे सीधी बात ऐसे ही कैंडिडेट को वोट दीजिए कि मैं चाहे आप को निर्दलीय बताना पड़े आप एक बार निर्दलीय को मौका तो दे कर दीजिए जो जातिवाद कि नहीं आपके घर के सामने की सड़क को साफ रखने तथा उसको मजबूत रखने का वादा रखता है उस व्यक्ति को वोट दीजिए ऐसे व्यक्ति को वोट मत दीजिए जो केवल आपको धर्म के नाम पर लड़ माता है यह जाति के नाम पर आपसे स्पीड पैदा करवाता है एक बार वोट डाल कर देखिए उस व्यक्ति को जो व्यक्ति केवल डेवलपमेंट की बात करता है अगर कोई व्यक्ति किसी भी धर्म की या जाति की बात करता है समझ जाइए कि व्यक्ति काम नहीं करने वाला और मुझे लगता है आज का समाज जो है पढ़ा लिखा समाज है और पढ़े लिखे समाज की विशेषता यह है कि वह समझता है कि उस का हित किस चीज में और वह भी डालने जाता है तो मुझे पता है कि किसको वोट डालना है तो मुझे रास्ता सबसे बड़ा राइट यही है और इसी तरह से जाते हो खत्म कर सकता है जिस फिल्म में सबसे ज्यादा राजनीति में जातिवाद सबसे ज्यादा उसकी आवाज मुझे बहुत कम दिखता है क्योंकि हम सब लोग साथ में बैठते हैं खाते हैं पीते हैं आप किसी का नाम होगा तो आप पहले नाम नहीं पूछते मित्रता करते हैं मुस्कुराते हैं किसी को देख कर तो हम जातिवाद के बाद हम लोग तो कभी नहीं करते प्रेक्टिकल लाइफ हमारी में तो कभी नहीं आते आपके दोस्त आ रहे होंगे होंगे या फिर सरदार सिंह हॉकी तो इस तरह के लोग आपके दोस्त होंगे जाति मजहब नहीं कर रहे राजनीति में काफी ज्यादा खत्म हो सकता है अपने मत का प्रयोग सही ढंग से कीजिए धन्यवादJaatiwad Khatam Karne Ka Sabse Accha Tarika Hume Samvaidhanik Roop Se Mila Hua Hai Wah Matdan Ka Adhikaar Kyonki Aap Jante Hain Jaatiwad Failaye Failaye Rajneeti Mein Kshetriya Partyian Kewal Aur Kewal Main Sirf Kewal WhatsApp Use Karunga Kisi Dum Par Jeet Rahi Hai Aap Up Mein Dekh Lijiye Isse Pehle Din Ki Sarkar Thi Wah Bhi Jaatiwad Ke Kaaran Thi Unse Pehle Unki Sarkar Thi Wah Bhi Jaatiwad Ke Kaaran Thi Bihar Mein Bhi Jaatiwad Ki Sarkar Hai Uske Alava Paschim Bengal Mein Jaatiwad Ke Kaaran Telangana Mein Jaatiwad Ke Kaaran Karnataka Mein Jaatiwad Ke Har Rajya Mein Jo Choti Choti Partyian Paida Hui Hai Jaatiwad Ke Kaaran Hui Hai Ek Baar Agar Humne Soch Liya Ki Hume Jati Kya Kar Vote Nahi Dena Hai To Koi Bhi Party Ka Vote Nahi Denge Sidhi Baat Aise Hi Candidate Ko Vote Dijiye Ki Main Chahe Aap Ko Nirdaleey Batana Pade Aap Ek Baar Nirdaleey Ko Mauka To De Kar Dijiye Jo Jaatiwad Ki Nahi Aapke Ghar Ke Samane Ki Sadak Ko Saaf Rakhne Tatha Usko Mazboot Rakhne Ka Vada Rakhta Hai Us Vyakti Ko Vote Dijiye Aise Vyakti Ko Vote Mat Dijiye Jo Kewal Aapko Dharm Ke Naam Par Lad Mata Hai Yeh Jati Ke Naam Par Aapse Speed Paida Karwata Hai Ek Baar Vote Dal Kar Dekhie Us Vyakti Ko Jo Vyakti Kewal Development Ki Baat Karta Hai Agar Koi Vyakti Kisi Bhi Dharm Ki Ya Jati Ki Baat Karta Hai Samajh Jaiye Ki Vyakti Kaam Nahi Karne Wala Aur Mujhe Lagta Hai Aaj Ka Samaaj Jo Hai Padha Likha Samaaj Hai Aur Padhe Likhe Samaaj Ki Visheshata Yeh Hai Ki Wah Samajhata Hai Ki Us Ka Hit Kis Cheez Mein Aur Wah Bhi Dalne Jata Hai To Mujhe Pata Hai Ki Kisko Vote Daalna Hai To Mujhe Rasta Sabse Bada Right Yahi Hai Aur Isi Tarah Se Jaate Ho Khatam Kar Sakta Hai Jis Film Mein Sabse Jyada Rajneeti Mein Jaatiwad Sabse Jyada Uski Aawaj Mujhe Bahut Kum Dikhta Hai Kyonki Hum Sab Log Saath Mein Baithate Hain Khate Hain Pite Hain Aap Kisi Ka Naam Hoga To Aap Pehle Naam Nahi Poochte Mitrata Karte Hain Muskurate Hain Kisi Ko Dekh Kar To Hum Jaatiwad Ke Baad Hum Log To Kabhi Nahi Karte Prektikal Life Hamari Mein To Kabhi Nahi Aate Aapke Dost Aa Rahe Honge Honge Ya Phir Sardar Singh Hockey To Is Tarah Ke Log Aapke Dost Honge Jati Majahab Nahi Kar Rahe Rajneeti Mein Kafi Jyada Khatam Ho Sakta Hai Apne Mat Ka Prayog Sahi Dhang Se Kijiye Dhanyavad
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने जो सवाल किया है मैं उसमें थोड़ा करेक्शन करना चाहता हूं क्योंकि यह सबसे पहले तो श्रीलंका देश की बात हो रही है श्रीलंका देश में कानून आया था कि वहां पर महिलाएं जो है वह शराब नहीं खरीद सकती है शराब नहीं खरीद सकती है जितने भी प्रॉब्लम है जितने भी 12:00 बज रहा है वहां पर काम नहीं कर सकती नहीं अल्कोहल की खरीद सकती है ना बिक्री कर सकती है वैसी वाली कंट्री के लोग बुद्ध सोसायटी के बैन हटा दिया था यानी अलाउ कर दिया था कि महिलाएं भी शराब खरीद सकती हैं सब जगह काम कर सकती हैं लेकिन उसी के ठीक कुछ दिनों बाद जो श्रीलंका राष्ट्रपति श्री सेना उन्होंने दोबारा से उस पर बैन लगा दिया है कि महिलाएं जो है वह शराब पर प्रतिबंध है वह नहीं खरीद सकती है हम नहीं भेज सकती हैं कि दोबारा से उनके फैसले को पलटा गया है यानी कि जो बैन हटाया गया था उनकी एक मंत्री द्वारा रूस के राष्ट्रपति द्वारा दोबारा बैन लगा दिया गया है मौजूदा समय में यह बहन बरकरार है और यही नया फाइनल डिसीजन है कि महिलाओं पर दोबारा खरीदने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है
Romanized Version
आपने जो सवाल किया है मैं उसमें थोड़ा करेक्शन करना चाहता हूं क्योंकि यह सबसे पहले तो श्रीलंका देश की बात हो रही है श्रीलंका देश में कानून आया था कि वहां पर महिलाएं जो है वह शराब नहीं खरीद सकती है शराब नहीं खरीद सकती है जितने भी प्रॉब्लम है जितने भी 12:00 बज रहा है वहां पर काम नहीं कर सकती नहीं अल्कोहल की खरीद सकती है ना बिक्री कर सकती है वैसी वाली कंट्री के लोग बुद्ध सोसायटी के बैन हटा दिया था यानी अलाउ कर दिया था कि महिलाएं भी शराब खरीद सकती हैं सब जगह काम कर सकती हैं लेकिन उसी के ठीक कुछ दिनों बाद जो श्रीलंका राष्ट्रपति श्री सेना उन्होंने दोबारा से उस पर बैन लगा दिया है कि महिलाएं जो है वह शराब पर प्रतिबंध है वह नहीं खरीद सकती है हम नहीं भेज सकती हैं कि दोबारा से उनके फैसले को पलटा गया है यानी कि जो बैन हटाया गया था उनकी एक मंत्री द्वारा रूस के राष्ट्रपति द्वारा दोबारा बैन लगा दिया गया है मौजूदा समय में यह बहन बरकरार है और यही नया फाइनल डिसीजन है कि महिलाओं पर दोबारा खरीदने पर प्रतिबंध लगा दिया गया हैAapne Jo Sawal Kiya Hai Main Usamen Thoda Correction Karna Chahta Hoon Kyonki Yeh Sabse Pehle To Sri Lanka Desh Ki Baat Ho Rahi Hai Sri Lanka Desh Mein Kanoon Aaya Tha Ki Wahan Par Mahilaye Jo Hai Wah Sharab Nahi Kharid Sakti Hai Sharab Nahi Kharid Sakti Hai Jitne Bhi Problem Hai Jitne Bhi 12:00 Baj Raha Hai Wahan Par Kaam Nahi Kar Sakti Nahi Alcohol Ki Kharid Sakti Hai Na Bikri Kar Sakti Hai Waisi Wali Country Ke Log Buddha Sociaty Ke Ban Hata Diya Tha Yani Alau Kar Diya Tha Ki Mahilaye Bhi Sharab Kharid Sakti Hain Sab Jagah Kaam Kar Sakti Hain Lekin Ussi Ke Theek Kuch Dinon Baad Jo Sri Lanka Rashtrapati Shri Sena Unhone Dobara Se Us Par Ban Laga Diya Hai Ki Mahilaye Jo Hai Wah Sharab Par Pratibandh Hai Wah Nahi Kharid Sakti Hai Hum Nahi Bhej Sakti Hain Ki Dobara Se Unke Faisle Ko Palata Gaya Hai Yani Ki Jo Ban Hataya Gaya Tha Unki Ek Mantri Dwara Rus Ke Rashtrapati Dwara Dobara Ban Laga Diya Gaya Hai Maujuda Samay Mein Yeh Behen Barkaraar Hai Aur Yahi Naya Final Decision Hai Ki Mahilaon Par Dobara Kharidne Par Pratibandh Laga Diya Gaya Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल हो सकता है विश्व युद्ध क्योंकि विषय में आमतौर पर होता है जब किसी चीज की बहुत था कहीं पर कमी हो कहीं पर ज्यादा हो तो मिल सकता है आतंकवाद एक ऐसा मुद्दा है जो दिनों दिन बहुत ज्यादा बढ़ता जा रहा है और एक पानी की समस्या है जो दिनों दिन बढ़ती जा रही है पानी आजकल बिकने लग गया पीने का भी पानी भारत जैसे देश में भी पहले तो मेट्रो सिटी में ही हाल था दिल्ली में लेकिन अब उत्तर प्रदेश और बिहार के सभी जिलों में पानी बिकने लग गया है तो उधर 50 60 70 जब भी हो मुझे लगता है कि पानी को लेकर के विश्व युद्ध हो सकता है या आतंकवाद को लेकर के भी विश्व युद्ध हो सकता है
बिल्कुल हो सकता है विश्व युद्ध क्योंकि विषय में आमतौर पर होता है जब किसी चीज की बहुत था कहीं पर कमी हो कहीं पर ज्यादा हो तो मिल सकता है आतंकवाद एक ऐसा मुद्दा है जो दिनों दिन बहुत ज्यादा बढ़ता जा रहा है और एक पानी की समस्या है जो दिनों दिन बढ़ती जा रही है पानी आजकल बिकने लग गया पीने का भी पानी भारत जैसे देश में भी पहले तो मेट्रो सिटी में ही हाल था दिल्ली में लेकिन अब उत्तर प्रदेश और बिहार के सभी जिलों में पानी बिकने लग गया है तो उधर 50 60 70 जब भी हो मुझे लगता है कि पानी को लेकर के विश्व युद्ध हो सकता है या आतंकवाद को लेकर के भी विश्व युद्ध हो सकता है
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन यह सच कहा जाता है कि जो हमारे देश है वह कर्म प्रधान है और यहां पर काम को बहुत ज्यादा आगे की दिया जो प्रायरिटी है वह दी जाती है पर कहीं ना कहीं बीच में धर्म और धर्म की लड़ाई दो लोगों के बीच में आएगी जाती हैं क्योंकि जो इंडिया है जो भारत देश है हमारा में बहुत ही ज्यादा डाइवोर्स है मोहब्बतें वैरायटी ऑफ पीपल यहां पर रहते हैं वैरायटी ऑफ रिलीजन है हमारे पास और भी आपस में लोग हैं इनका ऑफिस में ही इतना मतलब एक दूसरे को इतना रिस्पेक्ट नहीं करता है हमें देखा है तेरी और धर्म के विषय पर वाद-विवाद बहुत होते रहते हैं तो आपस में जो लोग हैं वह इतना आपस में मिला उनका उनकी सोच ऐसी है कि हम तो यही मानना है कि अगर दूसरे हमसे प्यार करेंगे और अगर मैं तुमको ब्लॉक करता है किसी दूसरे धर्म को फॉलो करना है सुप्रिया खुद को बहुत ज्यादा सुप्रीम समझते हैं और जो बाकी था रे मारे हो गया उसको थोड़ा नीचे समझते हैं तो इसलिए इस कर्म प्रधान देश में भी सिर्फ जून के दिन की वजह से जूते ज्यादा गंदा विटामिन की गैस के कारण ही अधर्म पर धर्म की विशेषता लड़ाई हो जाती है
Romanized Version
लेकिन यह सच कहा जाता है कि जो हमारे देश है वह कर्म प्रधान है और यहां पर काम को बहुत ज्यादा आगे की दिया जो प्रायरिटी है वह दी जाती है पर कहीं ना कहीं बीच में धर्म और धर्म की लड़ाई दो लोगों के बीच में आएगी जाती हैं क्योंकि जो इंडिया है जो भारत देश है हमारा में बहुत ही ज्यादा डाइवोर्स है मोहब्बतें वैरायटी ऑफ पीपल यहां पर रहते हैं वैरायटी ऑफ रिलीजन है हमारे पास और भी आपस में लोग हैं इनका ऑफिस में ही इतना मतलब एक दूसरे को इतना रिस्पेक्ट नहीं करता है हमें देखा है तेरी और धर्म के विषय पर वाद-विवाद बहुत होते रहते हैं तो आपस में जो लोग हैं वह इतना आपस में मिला उनका उनकी सोच ऐसी है कि हम तो यही मानना है कि अगर दूसरे हमसे प्यार करेंगे और अगर मैं तुमको ब्लॉक करता है किसी दूसरे धर्म को फॉलो करना है सुप्रिया खुद को बहुत ज्यादा सुप्रीम समझते हैं और जो बाकी था रे मारे हो गया उसको थोड़ा नीचे समझते हैं तो इसलिए इस कर्म प्रधान देश में भी सिर्फ जून के दिन की वजह से जूते ज्यादा गंदा विटामिन की गैस के कारण ही अधर्म पर धर्म की विशेषता लड़ाई हो जाती हैLekin Yeh Sach Kaha Jata Hai Ki Jo Hamare Desh Hai Wah Karm Pradhan Hai Aur Yahan Par Kaam Ko Bahut Jyada Aage Ki Diya Jo Prayariti Hai Wah Di Jati Hai Par Kahin Na Kahin Beech Mein Dharm Aur Dharm Ki Ladai Do Logon Ke Beech Mein Aayegi Jati Hain Kyonki Jo India Hai Jo Bharat Desh Hai Hamara Mein Bahut Hi Jyada Divorce Hai Mohabbatein Variety Of Pipal Yahan Par Rehte Hain Variety Of Rilijan Hai Hamare Paas Aur Bhi Aapas Mein Log Hain Inka Office Mein Hi Itna Matlab Ek Dusre Ko Itna Respect Nahi Karta Hai Hume Dekha Hai Teri Aur Dharm Ke Vishay Par Vad Vivad Bahut Hote Rehte Hain To Aapas Mein Jo Log Hain Wah Itna Aapas Mein Mila Unka Unki Soch Aisi Hai Ki Hum To Yahi Manana Hai Ki Agar Dusre Humse Pyar Karenge Aur Agar Main Tumko Block Karta Hai Kisi Dusre Dharm Ko Follow Karna Hai Supriya Khud Ko Bahut Jyada Supreme Samajhte Hain Aur Jo Baki Tha Ray Maare Ho Gaya Usko Thoda Neeche Samajhte Hain To Isliye Is Karm Pradhan Desh Mein Bhi Sirf June Ke Din Ki Wajah Se Jute Jyada Ganda Vitamin Ki Gas Ke Kaaran Hi Adharma Par Dharm Ki Visheshata Ladai Ho Jati Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आजकल टेक्नोलॉजी बहुत अच्छी आ गई है आजकल आपको मोबाइल में ही कहीं आप मिल जाएंगे जिससे आप एक मोबाइल नंबर का स्थान पता लगा सकते हैं और ऐसा ही है क्या है Truecaller जो कि बहुत ही ज्यादा मशहूर है और यह दोनों ही Android और iPhone के लिए अवेलेबल है आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं और पता भी कर सकते हैं कि एक यह मोबाइल नंबर है उसका क्या स्थान है पर यह पूरी तरह से सही हुई होना मैं हंड्रेड परसेंट नहीं करना चाहती क्योंकि ऐसा भी होता है कि Truecaller पर भी लोग अपनी गलत इंफॉर्मेशन डाल देते हैं या फिर कई लोग इस तरह से होते हैं जिनको इनके बारे में बिल्कुल भी पता नहीं होता तो वहीं पर प्रोफाइल ही नहीं बनाते तो इस तरह से हमें उनका पता ही नहीं लग पाता तो मुझे लगता है कि एक पूरी हंड्रेड परसेंट एक इंफॉर्मेशन निकालने के लिए तो आप तो सिर्फ कस्टमर केयर से बात कर सकते हैं वह भी अगर एक अर्जेंट हो अगर आपकी जान पहचान हो तो आप ऐसे पता करवा सकते हैं और इसके सिर्फ मोबाइल से खुद घर बैठे बैठे तो सिर्फ आप एप्स की मदद से ही किसी नंबर का पता लगा सकते हैं उसके लिए भी Truecaller है वैसे बहुत ही अच्छा है क्योंकि हर कोई इसको आजकल चलाने लगा है तो आप उसको जरूर ट्राई कीजिए शुक्रिया
Romanized Version
देखिए आजकल टेक्नोलॉजी बहुत अच्छी आ गई है आजकल आपको मोबाइल में ही कहीं आप मिल जाएंगे जिससे आप एक मोबाइल नंबर का स्थान पता लगा सकते हैं और ऐसा ही है क्या है Truecaller जो कि बहुत ही ज्यादा मशहूर है और यह दोनों ही Android और iPhone के लिए अवेलेबल है आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं और पता भी कर सकते हैं कि एक यह मोबाइल नंबर है उसका क्या स्थान है पर यह पूरी तरह से सही हुई होना मैं हंड्रेड परसेंट नहीं करना चाहती क्योंकि ऐसा भी होता है कि Truecaller पर भी लोग अपनी गलत इंफॉर्मेशन डाल देते हैं या फिर कई लोग इस तरह से होते हैं जिनको इनके बारे में बिल्कुल भी पता नहीं होता तो वहीं पर प्रोफाइल ही नहीं बनाते तो इस तरह से हमें उनका पता ही नहीं लग पाता तो मुझे लगता है कि एक पूरी हंड्रेड परसेंट एक इंफॉर्मेशन निकालने के लिए तो आप तो सिर्फ कस्टमर केयर से बात कर सकते हैं वह भी अगर एक अर्जेंट हो अगर आपकी जान पहचान हो तो आप ऐसे पता करवा सकते हैं और इसके सिर्फ मोबाइल से खुद घर बैठे बैठे तो सिर्फ आप एप्स की मदद से ही किसी नंबर का पता लगा सकते हैं उसके लिए भी Truecaller है वैसे बहुत ही अच्छा है क्योंकि हर कोई इसको आजकल चलाने लगा है तो आप उसको जरूर ट्राई कीजिए शुक्रियाDekhie Aajkal Technology Bahut Acchi Aa Gayi Hai Aajkal Aapko Mobile Mein Hi Kahin Aap Mil Jaenge Jisse Aap Ek Mobile Number Ka Sthan Pata Laga Sakte Hain Aur Aisa Hi Hai Kya Hai Truecaller Jo Ki Bahut Hi Jyada Mashoor Hai Aur Yeh Dono Hi Android Aur IPhone Ke Liye Available Hai Aap Isse Andaja Laga Sakte Hain Aur Pata Bhi Kar Sakte Hain Ki Ek Yeh Mobile Number Hai Uska Kya Sthan Hai Par Yeh Puri Tarah Se Sahi Hui Hona Main Hundred Percent Nahi Karna Chahti Kyonki Aisa Bhi Hota Hai Ki Truecaller Par Bhi Log Apni Galat Information Dal Dete Hain Ya Phir Kai Log Is Tarah Se Hote Hain Jinako Inke Bare Mein Bilkul Bhi Pata Nahi Hota To Wahin Par Profile Hi Nahi Banate To Is Tarah Se Hume Unka Pata Hi Nahi Lag Pata To Mujhe Lagta Hai Ki Ek Puri Hundred Percent Ek Information Nikalne Ke Liye To Aap To Sirf Customer Care Se Baat Kar Sakte Hain Wah Bhi Agar Ek Urgent Ho Agar Aapki Jaan Pehchaan Ho To Aap Aise Pata Karava Sakte Hain Aur Iske Sirf Mobile Se Khud Ghar Baithey Baithey To Sirf Aap Apps Ki Madad Se Hi Kisi Number Ka Pata Laga Sakte Hain Uske Liye Bhi Truecaller Hai Waise Bahut Hi Accha Hai Kyonki Har Koi Isko Aajkal Chalane Laga Hai To Aap Usko Jarur Try Kijiye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
vokalandroid