tag_img

जापान

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी मुझे लगता है कि अगर हम अपने देश की पर्सेंट कंडीशन को देखे तो उस हिसाब से फिलहाल में बुलेट ट्रेन की कोई जरूरत नहीं थी जिस तरह से जापान जापान जापान सिटी 1000 करोड़ रुपए का कर्ज लेकर उसको बनवाया जा रहा है तो मुझे नहीं लगता है कितने ज्यादा कर लेने की आवश्यकता थी उस प्रोजेक्ट को स्टार्ट करने की आवश्यकता थी जो नो डाउट हमारा जो है जो रेलवे नेटवर्क वर्ल्ड का सेकंड ईयर थर्ड कट ऑफ नेटवर्किंग बट इसमें भी बहुत सारे लोग देखते रहते हैं कि वहां तक ट्रेन एक्सीडेंट होते रहते हैं कोहरे की वजह से हो जाए और किसी वजह से होते हो तो उस मुझे लगता है करो उस पर गवर्मेंट ज्यादा फोकस करती तो जिस तरह की डिटेल के एक्सीडेंट होते हैं उस को कंट्रोल किया जाता है उसको कम किया जाता तो चीजें ज्यादा अच्छी होती दूसरे होती है टाइम बहुत कम ट्रेन में होते तो मुझे लगता है कि सरकार इस डायरेक्शन में काम करती तो चीजें ज्यादा अच्छी थी हालांकि हमारे पास रेलवे का बहुत बड़ा नेटवर्क है हां अभी आवश्यकता नहीं थी बुलेट ट्रेन की हो सकता है कि 10 या 15 साल बाद जरूर आवश्यकता थी तब उस चीज को देख लिया जाता है इस प्रोजेक्ट को ले लिया जाता है इस पर काम किया तो कोई दिक्कत नहीं लेकिन आपके टाइम पर मुझे नहीं लगता कि इतना बड़ा इन्वेस्टमेंट रेल बुलेट ट्रेन के लिए किया जाना था
Romanized Version
देखी मुझे लगता है कि अगर हम अपने देश की पर्सेंट कंडीशन को देखे तो उस हिसाब से फिलहाल में बुलेट ट्रेन की कोई जरूरत नहीं थी जिस तरह से जापान जापान जापान सिटी 1000 करोड़ रुपए का कर्ज लेकर उसको बनवाया जा रहा है तो मुझे नहीं लगता है कितने ज्यादा कर लेने की आवश्यकता थी उस प्रोजेक्ट को स्टार्ट करने की आवश्यकता थी जो नो डाउट हमारा जो है जो रेलवे नेटवर्क वर्ल्ड का सेकंड ईयर थर्ड कट ऑफ नेटवर्किंग बट इसमें भी बहुत सारे लोग देखते रहते हैं कि वहां तक ट्रेन एक्सीडेंट होते रहते हैं कोहरे की वजह से हो जाए और किसी वजह से होते हो तो उस मुझे लगता है करो उस पर गवर्मेंट ज्यादा फोकस करती तो जिस तरह की डिटेल के एक्सीडेंट होते हैं उस को कंट्रोल किया जाता है उसको कम किया जाता तो चीजें ज्यादा अच्छी होती दूसरे होती है टाइम बहुत कम ट्रेन में होते तो मुझे लगता है कि सरकार इस डायरेक्शन में काम करती तो चीजें ज्यादा अच्छी थी हालांकि हमारे पास रेलवे का बहुत बड़ा नेटवर्क है हां अभी आवश्यकता नहीं थी बुलेट ट्रेन की हो सकता है कि 10 या 15 साल बाद जरूर आवश्यकता थी तब उस चीज को देख लिया जाता है इस प्रोजेक्ट को ले लिया जाता है इस पर काम किया तो कोई दिक्कत नहीं लेकिन आपके टाइम पर मुझे नहीं लगता कि इतना बड़ा इन्वेस्टमेंट रेल बुलेट ट्रेन के लिए किया जाना थाDekhi Mujhe Lagta Hai Ki Agar Hum Apne Desh Ki Percent Condition Ko Dekhe To Us Hisab Se Filhal Mein Bullet Train Ki Koi Zaroorat Nahi Thi Jis Tarah Se Japan Japan Japan City 1000 Crore Rupaiye Ka Karj Lekar Usko Banwaya Ja Raha Hai To Mujhe Nahi Lagta Hai Kitne Jyada Kar Lene Ki Avashyakta Thi Us Project Ko Start Karne Ki Avashyakta Thi Jo No Doubt Hamara Jo Hai Jo Railway Network World Ka Second Year Third Cut Of Networking But Isme Bhi Bahut Sare Log Dekhte Rehte Hain Ki Wahan Tak Train Accident Hote Rehte Hain Kohare Ki Wajah Se Ho Jaye Aur Kisi Wajah Se Hote Ho To Us Mujhe Lagta Hai Karo Us Par Goverment Jyada Focus Karti To Jis Tarah Ki Detail Ke Accident Hote Hain Us Ko Control Kiya Jata Hai Usko Kum Kiya Jata To Cheezen Jyada Acchi Hoti Dusre Hoti Hai Time Bahut Kum Train Mein Hote To Mujhe Lagta Hai Ki Sarkar Is Direction Mein Kaam Karti To Cheezen Jyada Acchi Thi Halanki Hamare Paas Railway Ka Bahut Bada Network Hai Haan Abhi Avashyakta Nahi Thi Bullet Train Ki Ho Sakta Hai Ki 10 Ya 15 Saal Baad Jarur Avashyakta Thi Tab Us Cheez Ko Dekh Liya Jata Hai Is Project Ko Le Liya Jata Hai Is Par Kaam Kiya To Koi Dikkat Nahi Lekin Aapke Time Par Mujhe Nahi Lagta Ki Itna Bada Investment Rail Bullet Train Ke Liye Kiya Jana Tha
Likes  7  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

श्री अगर आपको जापान का वीजा चाहिए तुम्हें कैसे अप्लाई करना है मैं आपको ही बताया था वादा किया वहीं कमिशन स्लिप है तो सबसे पहले आपको क्या करना है वेबसाइट है वेबसाइट का नाम बताया www.in वीएफएस ग्लोबल डॉट कॉम 650 इंडिया वेस्टइंडीज वेबसाइट है वहां पर जाकर आपको लॉगइन करना है ठीक है अब मैं आपको कांटेक्ट नंबर भी दे देता हूं हेल्पलाइन नंबर जो है और दूसरी जगह नहीं 1267 860 160 को हेल्पलाइन नंबर है वह भी कोई न्यूज़ हो तो आप इस नंबर पर पूछ सकते तो पहले आपको यहां पर साइट पर जाना जो बताया मैंने वहां पर वीजा वेकेशन सेंटर सुपारी ठीक है वीजा एप्लीकेशन से होगा वहां पर आपको फील करना है और एक फोटोग्राफर की कथा सिंह सॉन्ग जस्टिफिकेशन दिया गया वह फोटो कि आपका वह फोटोग्राफर लीजिए और एप्लीकेशन फॉर्म WhatsApp के लिए जो भी एप्लीकेशन फॉर्म है वह वेबसाइट से डाउनलोड कर लीजिए डॉक्टर
Romanized Version
श्री अगर आपको जापान का वीजा चाहिए तुम्हें कैसे अप्लाई करना है मैं आपको ही बताया था वादा किया वहीं कमिशन स्लिप है तो सबसे पहले आपको क्या करना है वेबसाइट है वेबसाइट का नाम बताया www.in वीएफएस ग्लोबल डॉट कॉम 650 इंडिया वेस्टइंडीज वेबसाइट है वहां पर जाकर आपको लॉगइन करना है ठीक है अब मैं आपको कांटेक्ट नंबर भी दे देता हूं हेल्पलाइन नंबर जो है और दूसरी जगह नहीं 1267 860 160 को हेल्पलाइन नंबर है वह भी कोई न्यूज़ हो तो आप इस नंबर पर पूछ सकते तो पहले आपको यहां पर साइट पर जाना जो बताया मैंने वहां पर वीजा वेकेशन सेंटर सुपारी ठीक है वीजा एप्लीकेशन से होगा वहां पर आपको फील करना है और एक फोटोग्राफर की कथा सिंह सॉन्ग जस्टिफिकेशन दिया गया वह फोटो कि आपका वह फोटोग्राफर लीजिए और एप्लीकेशन फॉर्म WhatsApp के लिए जो भी एप्लीकेशन फॉर्म है वह वेबसाइट से डाउनलोड कर लीजिए डॉक्टरShri Agar Aapko Japan Ka Visa Chahiye Tumhein Kaise Apply Karna Hai Main Aapko Hi Bataya Tha Vada Kiya Wahin Commission Slip Hai To Sabse Pehle Aapko Kya Karna Hai Website Hai Website Ka Naam Bataya Www.in Viefaes Global Dot Com 650 India WestIndies Website Hai Wahan Par Jaakar Aapko Login Karna Hai Theek Hai Ab Main Aapko Contact Number Bhi De Deta Hoon Helpline Number Jo Hai Aur Dusri Jagah Nahi 1267 860 160 Ko Helpline Number Hai Wah Bhi Koi News Ho To Aap Is Number Par Pooch Sakte To Pehle Aapko Yahan Par Site Par Jana Jo Bataya Maine Wahan Par Visa Vacation Center Supari Theek Hai Visa Application Se Hoga Wahan Par Aapko Feel Karna Hai Aur Ek Photographer Ki Katha Singh Song Jastifikeshan Diya Gaya Wah Photo Ki Aapka Wah Photographer Lijiye Aur Application Form WhatsApp Ke Liye Jo Bhi Application Form Hai Wah Website Se Download Kar Lijiye Doctor
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेशक हमें वीडियो समय पैसा कमाने के लिए जाना ही चाहिए क्योंकि भारत का जो सीमा का दायरा है वह सीमित ही रहेगा जो लैंड है वह सीमित ही रहेगा जनसंख्या बढ़ेगी ही इसीलिए विदेशों में पैसा कमाना ही पड़ेगा हम एक निश्चित दायरे में रहकर रोज नए नए रोजगार पैदा करते हैं ऐसा थोड़ा मुश्किल है और दूसरी बात ब्रेन ड्रेन थी तो ग्रैंड ग्रैंड से इतना खतरा नहीं है जितना भूखे मरने से 2006 में ब्रेन ड्रेन को रोकने की मुहिम चलाई थी कई लोगों को समझाया गया इंजीनियरों को खासकर कि आप अपने देश में रहकर अपने देश के लिए काम करें तब से लेकर अब तक वहीं चली 2011 तक अब 2011 के बाद आप देख सकते हैं कि इंजीनियर की क्या हालत है इन दिनों की मिट्टी केवल इसीलिए कुटिया क्योंकि ब्रेन ड्रेन को रोकने की कोशिश की गई आज इंजीनियरों को चपरासी का फॉर्म भरने पढ़ रहे हैं केवल इसीलिए तीसरी बात यह है कि जब विदेशों में जाकर लोग आकर बस भी जाए तो वहां के लोग तंत्र पर प्रभाव पड़ेगा और यह भी भारत के लिए अच्छी बात है वहां के लोग तंत्र को हम कैप्चर कर भी सकते हैं अगर चाहे तो अगर कोई कंडीशन है तो
Romanized Version
बेशक हमें वीडियो समय पैसा कमाने के लिए जाना ही चाहिए क्योंकि भारत का जो सीमा का दायरा है वह सीमित ही रहेगा जो लैंड है वह सीमित ही रहेगा जनसंख्या बढ़ेगी ही इसीलिए विदेशों में पैसा कमाना ही पड़ेगा हम एक निश्चित दायरे में रहकर रोज नए नए रोजगार पैदा करते हैं ऐसा थोड़ा मुश्किल है और दूसरी बात ब्रेन ड्रेन थी तो ग्रैंड ग्रैंड से इतना खतरा नहीं है जितना भूखे मरने से 2006 में ब्रेन ड्रेन को रोकने की मुहिम चलाई थी कई लोगों को समझाया गया इंजीनियरों को खासकर कि आप अपने देश में रहकर अपने देश के लिए काम करें तब से लेकर अब तक वहीं चली 2011 तक अब 2011 के बाद आप देख सकते हैं कि इंजीनियर की क्या हालत है इन दिनों की मिट्टी केवल इसीलिए कुटिया क्योंकि ब्रेन ड्रेन को रोकने की कोशिश की गई आज इंजीनियरों को चपरासी का फॉर्म भरने पढ़ रहे हैं केवल इसीलिए तीसरी बात यह है कि जब विदेशों में जाकर लोग आकर बस भी जाए तो वहां के लोग तंत्र पर प्रभाव पड़ेगा और यह भी भारत के लिए अच्छी बात है वहां के लोग तंत्र को हम कैप्चर कर भी सकते हैं अगर चाहे तो अगर कोई कंडीशन है तोBeshak Hume Video Samay Paisa Kamane Ke Liye Jana Hi Chahiye Kyonki Bharat Ka Jo Seema Ka Dayara Hai Wah Simith Hi Rahega Jo Land Hai Wah Simith Hi Rahega Jansankhya Badhegi Hi Isliye Videshon Mein Paisa Kamana Hi Padega Hum Ek Nishchit Daayre Mein Rahkar Roj Naye Naye Rojgar Paida Karte Hain Aisa Thoda Mushkil Hai Aur Dusri Baat Brain Drain Thi To Great Great Se Itna Khatra Nahi Hai Jitna Bhukhe Marne Se 2006 Mein Brain Drain Ko Rokne Ki Muhim Chalai Thi Kai Logon Ko Samjhaya Gaya Engineeroon Ko Khaskar Ki Aap Apne Desh Mein Rahkar Apne Desh Ke Liye Kaam Karen Tab Se Lekar Ab Tak Wahin Chali 2011 Tak Ab 2011 Ke Baad Aap Dekh Sakte Hain Ki Engineer Ki Kya Halat Hai In Dinon Ki Mitti Kewal Isliye Kutia Kyonki Brain Drain Ko Rokne Ki Koshish Ki Gayi Aaj Engineeroon Ko Chaprasi Ka Form Bharne Padh Rahe Hain Kewal Isliye Teesri Baat Yeh Hai Ki Jab Videshon Mein Jaakar Log Aakar Bus Bhi Jaye To Wahan Ke Log Tantra Par Prabhav Padega Aur Yeh Bhi Bharat Ke Liye Acchi Baat Hai Wahan Ke Log Tantra Ko Hum Capture Kar Bhi Sakte Hain Agar Chahe To Agar Koi Condition Hai To
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने जल संरक्षण क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत इजराइल के बीच समझौता ज्ञापन एमओयू पर हस्ताक्षर करने की मंजूरी दी
Romanized Version
हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने जल संरक्षण क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत इजराइल के बीच समझौता ज्ञापन एमओयू पर हस्ताक्षर करने की मंजूरी दीHaal Hi Mein Kendriya Mantrimandal Ne Jal Sanrakshan Kshetra Mein Sahyog Ke Liye Bharat Israel Ke Beech Samjhauta Gyapan Mou Par Hastakshar Karne Ki Manjuri Di
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खड़ा किया है और विशेष तौर पर बहुत अच्छा टॉपिक लिया सवाल का बुलेट ट्रेन के बारे में ट्रेन की वर्तमान में विदेश यात्रा योग के तमाम विदेश यात्रा मॉडल तैयार कर पाए हैं जो विदेशों में आप के मंत्री समझने के लिए ट्रेन टॉयलेट रत्नाकर के नए सिस्टम की तरफ प्रस्थान करना चाहे तो मौजूदा को बर्बाद कर देगा
Romanized Version
खड़ा किया है और विशेष तौर पर बहुत अच्छा टॉपिक लिया सवाल का बुलेट ट्रेन के बारे में ट्रेन की वर्तमान में विदेश यात्रा योग के तमाम विदेश यात्रा मॉडल तैयार कर पाए हैं जो विदेशों में आप के मंत्री समझने के लिए ट्रेन टॉयलेट रत्नाकर के नए सिस्टम की तरफ प्रस्थान करना चाहे तो मौजूदा को बर्बाद कर देगाKhada Kiya Hai Aur Vishesh Taur Par Bahut Accha Topic Liya Sawal Ka Bullet Train Ke Baare Mein Train Ki Vartaman Mein Videsh Yatra Yog Ke Tamam Videsh Yatra Model Taiyaar Kar Paye Hain Jo Videshon Mein Aap Ke Mantri Samjhne Ke Liye Train Toilet Ratnakar Ke Naye System Ki Taraf Prasthan Karna Chahe To Maujuda Ko Barbad Kar Dega
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज की अमेरिका और जापान के बीच में से कोई समझौता नहीं है कि अमेरिका युद्ध में हमेशा जापान की मदद करेगा यह कंट्री की अपने जो रेशम होते हैं एक दूसरे के साथ जो होते हैं उसके बिना तो यह चीज होता है से कोई समझौता नहीं है लेकिन अभी जापान जो है शांति की राह पर चलने के लिए अपने नीति की वजह से शांति की राह पर चले तो उसने कभी उत्तर कोरिया अमेरिका बीच कि अमेरिका के बीच में जो प्रॉब्लम सो रहे हैं उसे बीच में दिखे तो बहता हुआ नजर आ रहा है कि कोई रिलेशनशिप का एक दूसरे कंट्री सजेशन बेहतर है तो उसे ज्ञान पूछ रहा है तो ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ है दोनों के बीच में
Romanized Version
आज की अमेरिका और जापान के बीच में से कोई समझौता नहीं है कि अमेरिका युद्ध में हमेशा जापान की मदद करेगा यह कंट्री की अपने जो रेशम होते हैं एक दूसरे के साथ जो होते हैं उसके बिना तो यह चीज होता है से कोई समझौता नहीं है लेकिन अभी जापान जो है शांति की राह पर चलने के लिए अपने नीति की वजह से शांति की राह पर चले तो उसने कभी उत्तर कोरिया अमेरिका बीच कि अमेरिका के बीच में जो प्रॉब्लम सो रहे हैं उसे बीच में दिखे तो बहता हुआ नजर आ रहा है कि कोई रिलेशनशिप का एक दूसरे कंट्री सजेशन बेहतर है तो उसे ज्ञान पूछ रहा है तो ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ है दोनों के बीच मेंAaj Ki America Aur Japan Ke Beech Mein Se Koi Samjhauta Nahi Hai Ki America Yudh Mein Hamesha Japan Ki Madad Karega Yeh Country Ki Apne Jo Resham Hote Hain Ek Dusre Ke Saath Jo Hote Hain Uske Bina To Yeh Cheez Hota Hai Se Koi Samjhauta Nahi Hai Lekin Abhi Japan Jo Hai Shanti Ki Raah Par Chalne Ke Liye Apne Niti Ki Wajah Se Shanti Ki Raah Par Chale To Usne Kabhi Uttar Korea America Beech Ki America Ke Beech Mein Jo Problem So Rahe Hain Use Beech Mein Dikhe To Bahata Hua Nazar Aa Raha Hai Ki Koi Relationship Ka Ek Dusre Country Suggestion Behtar Hai To Use Gyaan Pooch Raha Hai To Aisa Koi Samjhauta Nahi Hua Hai Dono Ke Beech Mein
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापान में एनिमी का आविष्कार किया गया था l एनिमी - जापानी एनीमेशन, या एनीम, आज जापानी और पश्चिमी दोनों बच्चों, युवाओं और यहां तक ​​कि वयस्कों के बीच व्यापक रूप से लोकप्रिय, 20 वीं शताब्दी की शुरुआत में शुरू हुआ।
Romanized Version
जापान में एनिमी का आविष्कार किया गया था l एनिमी - जापानी एनीमेशन, या एनीम, आज जापानी और पश्चिमी दोनों बच्चों, युवाओं और यहां तक ​​कि वयस्कों के बीच व्यापक रूप से लोकप्रिय, 20 वीं शताब्दी की शुरुआत में शुरू हुआ।Japan Mein Enimi Ka Avishkar Kiya Gaya Tha L Enimi - Japani Animation Ya Anime Aaj Japani Aur Pashchimi Dono Bacchon Yuvaon Aur Yahan Tak Ki Vayaskon Ke Beech Vyapak Roop Se Lokpriya 20 Vi Shatabdi Ki Shuruvat Mein Shuru Hua
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
दुनिया का सबसे गहरा जापान बर्फ जापान के पांचवें बड़े शहर शहर सपोरो मैं बर्फ महोत्सव चल रहा है बर्फ से बने 200 कलाकृतियों को पेश किया गया है|
Romanized Version
दुनिया का सबसे गहरा जापान बर्फ जापान के पांचवें बड़े शहर शहर सपोरो मैं बर्फ महोत्सव चल रहा है बर्फ से बने 200 कलाकृतियों को पेश किया गया है|Duniya Ka Sabse Gehra Japan Barf Japan Ke Panchwe Bade Sheher Sheher Saporo Main Barf Mahotsav Chal Raha Hai Barf Se Bane 200 Kalakrutiyo Ko Pesh Kiya Gaya Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापान ने 7 दिसंबर 1941को अमेरिका के पर्ल हार्बर पर हमला किया। इस हमले में लगभग2000 लोगो की जान गई।1945 में अमेरिका जापान के हिरोशिमा और नागासाकी पर जब परमाणु बम गिराए तब इसे पर्ल हार्बर का बदला माना जाता है।
Romanized Version
जापान ने 7 दिसंबर 1941को अमेरिका के पर्ल हार्बर पर हमला किया। इस हमले में लगभग2000 लोगो की जान गई।1945 में अमेरिका जापान के हिरोशिमा और नागासाकी पर जब परमाणु बम गिराए तब इसे पर्ल हार्बर का बदला माना जाता है।Japan Ne 7 December Ko America Ke Pearl Harbor Par Hamla Kiya Is Hamle Mein Lagbhag Logo Ki Jaan Gayi Mein America Japan Ke Hiroshima Aur Nagasaki Par Jab Parmanu Bomb Giraye Tab Ise Pearl Harbor Ka Badla Mana Jata Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
संयुक्त राष्ट्र संघ ने परमाणु परिछन करने के लिए जापान पर बम गिराए।
Romanized Version
संयुक्त राष्ट्र संघ ने परमाणु परिछन करने के लिए जापान पर बम गिराए।Sanyukt Rashtra Sangh Ne Parmanu Parichan Karne Ke Liye Japan Par Bomb Giraye
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
6 अगस्त 1945 को अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा पर पहला परमाणु किया था। अमेरीकी वायुसेना ने हिरोशिमा पर परमाणु बम लिटिल बॉय गिराया था।हीरोशिमा जापान का अहम सैन्य ठिकाना था।और यहाँ की आबादी भी कम थी।
Romanized Version
6 अगस्त 1945 को अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा पर पहला परमाणु किया था। अमेरीकी वायुसेना ने हिरोशिमा पर परमाणु बम लिटिल बॉय गिराया था।हीरोशिमा जापान का अहम सैन्य ठिकाना था।और यहाँ की आबादी भी कम थी।6 August 1945 Ko America Ne Japan Ke Hiroshima Par Pehla Parmanu Kiya Tha Ameriki Vayusena Ne Hiroshima Par Parmanu Bomb Little Boy Giraya Tha Hiroshima Japan Ka Aham Sainya Thikana Tha Aur Yahan Ki Aabadi Bhi Kum Thi
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
महायान बौद्ध धर्म कोरिया से छठी शताब्दी में (पारंपरिक रूप से, 538 या 552 में, एक राजनयिक मिशन के हिस्से के रूप में जापान से पेश किया गया था जिसमें शाक्यमुनी बुद्ध की छवि और बौद्ध पाठ के कई खंड शामिल थे)।
Romanized Version
महायान बौद्ध धर्म कोरिया से छठी शताब्दी में (पारंपरिक रूप से, 538 या 552 में, एक राजनयिक मिशन के हिस्से के रूप में जापान से पेश किया गया था जिसमें शाक्यमुनी बुद्ध की छवि और बौद्ध पाठ के कई खंड शामिल थे)।Mhayaan Baudh Dharm Korea Se Chathi Shatabdi Mein Paramparik Roop Se 538 Ya 552 Mein Ek Rajanayik Mission Ke Hisse Ke Roop Mein Japan Se Pesh Kiya Gaya Tha Jisme Shakyamuni Buddha Ki Chawi Aur Baudh Path Ke Kai Khand Shamil The
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
यह 28 अप्रैल, 1952 को लागू हुआ और आधिकारिक तौर पर जापान के अमेरिकी नेतृत्व वाले सहयोगी व्यवसाय को समाप्त कर दिया। संधि के अनुच्छेद 11 के अनुसार, जापान जापान के भीतर और बाहर जापान पर लगाए गए सुदूर पूर्व और अन्य सहयोगी युद्ध अपराध न्यायालयों के लिए अंतर्राष्ट्रीय सैन्य न्यायाधिकरण के निर्णय स्वीकार करता है।
Romanized Version
यह 28 अप्रैल, 1952 को लागू हुआ और आधिकारिक तौर पर जापान के अमेरिकी नेतृत्व वाले सहयोगी व्यवसाय को समाप्त कर दिया। संधि के अनुच्छेद 11 के अनुसार, जापान जापान के भीतर और बाहर जापान पर लगाए गए सुदूर पूर्व और अन्य सहयोगी युद्ध अपराध न्यायालयों के लिए अंतर्राष्ट्रीय सैन्य न्यायाधिकरण के निर्णय स्वीकार करता है।Yeh 28 April 1952 Ko Laagu Hua Aur Adhikarik Taur Par Japan Ke American Netritva Wale Sahayogi Vyavasaya Ko Samapt Kar Diya Sandhi Ke Anuched 11 Ke Anusar Japan Japan Ke Bheetar Aur Bahar Japan Par Lagaye Gaye Sudoor Purv Aur Anya Sahayogi Yudh Apradh Nyayalayon Ke Liye Antar Rashtriya Sainya Nayayadhikaran Ke Nirnay Sweekar Karta Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापान ने सितंबर 1940 में वियतनाम पर कब्जा कर लिया और द्वितीय विश्व युद्ध (अगस्त 1945) के अंत तकअपना कब्ज़ा बनाये रखा। जापान का आक्रमण का मुख्य उद्द्शेय चीन के साथ के चल रहे युद्ध था, जो 1937 में शुरू हुआ था । वियतनाम पर कब्जा करके, जापान ने चीन की दक्षिणी सीमा को बंद करने और हथियार और सामग्रियों की आपूर्ति रोकने की उम्मीद की थी।
Romanized Version
जापान ने सितंबर 1940 में वियतनाम पर कब्जा कर लिया और द्वितीय विश्व युद्ध (अगस्त 1945) के अंत तकअपना कब्ज़ा बनाये रखा। जापान का आक्रमण का मुख्य उद्द्शेय चीन के साथ के चल रहे युद्ध था, जो 1937 में शुरू हुआ था । वियतनाम पर कब्जा करके, जापान ने चीन की दक्षिणी सीमा को बंद करने और हथियार और सामग्रियों की आपूर्ति रोकने की उम्मीद की थी। Japan Ne September 1940 Mein Vietnam Par Kabja Kar Liya Aur Dvitiya Vishwa Yudh August 1945) Ke Ant Takapana Kabza Banaye Rakha Japan Ka Aakraman Ka Mukhya Uddshey Chin Ke Saath Ke Chal Rahe Yudh Tha Jo 1937 Mein Shuru Hua Tha Vietnam Par Kabja Karke Japan Ne Chin Ki Dakshini Seema Ko Band Karne Aur Hathiyar Aur Samagriyon Ki Aapurti Rokne Ki Ummid Ki Thi
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापान हमेशा से ही स्वतंत्र देश रहा है क्योंकि वह विदेशी शासन के अधीन नहीं था। जापान अपनी आजादी खोने के कगार पर था, जब अमेरिकी कब्ज़ा करने के फ़िराक में था, जो 1952 में समाप्त हुआ l ओकिनावा द्वीप को छोड़कर, जो 1972 तक अमेरिकी नियंत्रण में था।
Romanized Version
जापान हमेशा से ही स्वतंत्र देश रहा है क्योंकि वह विदेशी शासन के अधीन नहीं था। जापान अपनी आजादी खोने के कगार पर था, जब अमेरिकी कब्ज़ा करने के फ़िराक में था, जो 1952 में समाप्त हुआ l ओकिनावा द्वीप को छोड़कर, जो 1972 तक अमेरिकी नियंत्रण में था। Japan Hamesha Se Hi Swatantra Desh Raha Hai Kyonki Wah Videshi Shasan Ke Adhin Nahi Tha Japan Apni Azadi Khone Ke Kagar Par Tha Jab American Kabza Karne Ke Mein Tha Jo 1952 Mein Samapt Hua L Dweep Ko Chodkar Jo 1972 Tak American Niyantran Mein Tha
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
हवाई के ओहु द्वीप के पर्ल हार्बर पर यू.एस. नौसेना बेस पर 7 दिसंबर 1941 को जापान ने हमला किया था। इस बम विस्फोट में 2,300 से अधिक अमेरिकियों की मौत हो गई थी। इसने पूरी तरह से अमेरिकी युद्धपोत यू.एस.एस.नियोशो और नौसेना यार्ड को नष्ट कर दिया। पर्ल हार्बर पर हमला अमेरिका के नौसेना बेस के खिलाफ शाही जापानी नौसेना एयर सेवा द्वारा एक आश्चर्यजनक सैन्य हमला था।
Romanized Version
हवाई के ओहु द्वीप के पर्ल हार्बर पर यू.एस. नौसेना बेस पर 7 दिसंबर 1941 को जापान ने हमला किया था। इस बम विस्फोट में 2,300 से अधिक अमेरिकियों की मौत हो गई थी। इसने पूरी तरह से अमेरिकी युद्धपोत यू.एस.एस.नियोशो और नौसेना यार्ड को नष्ट कर दिया। पर्ल हार्बर पर हमला अमेरिका के नौसेना बेस के खिलाफ शाही जापानी नौसेना एयर सेवा द्वारा एक आश्चर्यजनक सैन्य हमला था। Hawai Ke Ohu Dweep Ke Pearl Harbor Par You S Nausena Base Par 7 December 1941 Ko Japan Ne Hamla Kiya Tha Is Bomb Visphot Mein 2,300 Se Adhik Amerikiyon Ki Maut Ho Gayi Thi Isane Puri Tarah Se American Yuddhpot You S S Niyosho Aur Nausena Yard Ko Nasht Kar Diya Pearl Harbor Par Hamla America Ke Nausena Base Ke Khilaf Shaahi Japani Nausena Air Seva Dwara Ek Aashcharyajanak Sainya Hamla Tha
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
सहयोगी कब्जे के अंत में जापान ने पूर्ण संप्रभुता प्राप्त करने के बाद इस पर हस्ताक्षर किए। 1 9 55 में 1 9 55 में सुरक्षा समझौते को संशोधित करने पर द्विपक्षीय वार्ता शुरू हुई, और 1 9 60, 1 9 60 को वाशिंगटन में म्यूचुअल सहयोग और सुरक्षा की नई संधि पर हस्ताक्षर किए गए।
Romanized Version
सहयोगी कब्जे के अंत में जापान ने पूर्ण संप्रभुता प्राप्त करने के बाद इस पर हस्ताक्षर किए। 1 9 55 में 1 9 55 में सुरक्षा समझौते को संशोधित करने पर द्विपक्षीय वार्ता शुरू हुई, और 1 9 60, 1 9 60 को वाशिंगटन में म्यूचुअल सहयोग और सुरक्षा की नई संधि पर हस्ताक्षर किए गए।Sahayogi Kabje Ke Ant Mein Japan Ne Poorn Samprabhuta Prapt Karne Ke Baad Is Par Hastakshar Kiye 1 9 55 Mein 1 9 55 Mein Suraksha Samjhaute Ko Sanshodhit Karne Par Dvipakshiye Varta Shuru Hui Aur 1 9 60, 1 9 60 Ko Washington Mein Mutual Sahyog Aur Suraksha Ki Nayi Sandhi Par Hastakshar Kiye Gaye
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
युद्ध की स्थिति औपचारिक रूप से समाप्त हो गई जब सैन फ्रांसिस्को की संधि 28 अप्रैल, 1 9 52 को लागू हुई। जापान और सोवियत संघ के समक्ष चार साल बीत चुके थे, 1 9 56 के सोवियत-जापानी संयुक्त घोषणा पर हस्ताक्षर किए, जिसने औपचारिक रूप से अपनी स्थिति समाप्त कर दी युद्ध।
Romanized Version
युद्ध की स्थिति औपचारिक रूप से समाप्त हो गई जब सैन फ्रांसिस्को की संधि 28 अप्रैल, 1 9 52 को लागू हुई। जापान और सोवियत संघ के समक्ष चार साल बीत चुके थे, 1 9 56 के सोवियत-जापानी संयुक्त घोषणा पर हस्ताक्षर किए, जिसने औपचारिक रूप से अपनी स्थिति समाप्त कर दी युद्ध।Yudh Ki Sthiti Aupcharik Roop Se Samapt Ho Gayi Jab Sain Francesco Ki Sandhi 28 April 1 9 52 Ko Laagu Hui Japan Aur Soviet Sangh Ke Samaksh Char Saal Beet Chuke The 1 9 56 Ke Soviet Japani Sanyukt Ghoshana Par Hastakshar Kiye Jisne Aupcharik Roop Se Apni Sthiti Samapt Kar Di Yudh
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
हिडियो शिमा ( शिमा हिडियो, 20 मई 1 9 01 - 18 मार्च 1 99 8) एक जापानी इंजीनियर और पहली बुलेट ट्रेन (शिंकान्सेन) के निर्माण के पीछे चालक दल था।
Romanized Version
हिडियो शिमा ( शिमा हिडियो, 20 मई 1 9 01 - 18 मार्च 1 99 8) एक जापानी इंजीनियर और पहली बुलेट ट्रेन (शिंकान्सेन) के निर्माण के पीछे चालक दल था।Hidiyo Shima ( Shima Hidiyo 20 May 1 9 01 - 18 March 1 99 8) Ek Japani Engineer Aur Pehli Bullet Train Shinkasen Ke Nirman Ke Piche Chaalak Dal Tha
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
Hitachi Mobile Hi-Vision CAM Wooo from KDDI au
Romanized Version
Hitachi Mobile Hi-Vision CAM Wooo from KDDI auHitachi Mobile Hi-Vision CAM Wooo From KDDI Au
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापान कई शानदार कैमरों के एक प्रसिद्ध निर्माता भी हैं और देश में कई स्थापित निर्माताओं की स्थापना की गई है। इनमें कैनन, निकोन, ओलंपस और फुजीफिल्म जैसे शीर्ष कंपनियां शामिल हैं।
Romanized Version
जापान कई शानदार कैमरों के एक प्रसिद्ध निर्माता भी हैं और देश में कई स्थापित निर्माताओं की स्थापना की गई है। इनमें कैनन, निकोन, ओलंपस और फुजीफिल्म जैसे शीर्ष कंपनियां शामिल हैं।Japan Kai Shandar Cameron Ke Ek Prasiddh Nirmaata Bhi Hain Aur Desh Mein Kai Sthapit Nirmaataon Ki Sthapana Ki Gayi Hai Inme Cannon Nikon Olympus Aur Fujifilm Jaise Sirsh Companiyan Shamil Hain
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
वीपीसी-सीडब्ल्यू 26 एफजी! है। मस्त चीज है। इसका रैम 4जीबी है और मेमोरी 500 जीबी, साथ में वैबकैम सहित सब सुविधाओं वाले इस लैपटॉप का मूल्य कुछ अधिक है!
Romanized Version
वीपीसी-सीडब्ल्यू 26 एफजी! है। मस्त चीज है। इसका रैम 4जीबी है और मेमोरी 500 जीबी, साथ में वैबकैम सहित सब सुविधाओं वाले इस लैपटॉप का मूल्य कुछ अधिक है!Vipisi Sidablyu 26 Efji Hai Mast Cheez Hai Iska Ram Gb Hai Aur Memory 500 Gb Saath Mein Vaibkaim Sahit Sab Suvidhaon Wale Is Laptop Ka Mulya Kuch Adhik Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापानी म्यूजिशन अकिनूरी सुजुकी ने लैपटॉप पर काम करते हुए उसके ऊपर कॉपर कॉइन (तांबे के सिक्कों) रखने से उसके गर्म न होने की बात कही है।जापान के एक व्यक्ति ने लैपटॉप की इस हीटिंग प्रॉब्लम को सुलझाने के लिए साइंस की मदद से एक जुगाड़ निकाल लिया है!
Romanized Version
जापानी म्यूजिशन अकिनूरी सुजुकी ने लैपटॉप पर काम करते हुए उसके ऊपर कॉपर कॉइन (तांबे के सिक्कों) रखने से उसके गर्म न होने की बात कही है।जापान के एक व्यक्ति ने लैपटॉप की इस हीटिंग प्रॉब्लम को सुलझाने के लिए साइंस की मदद से एक जुगाड़ निकाल लिया है! Japani Musician Akinuri Suzuki Ne Laptop Par Kaam Karte Hue Uske Upar Copper Coin Tanbe Ke Sikko Rakhne Se Uske Garam N Hone Ki Baat Kahi Hai Japan Ke Ek Vyakti Ne Laptop Ki Is Heating Problem Ko Suljhane Ke Liye Science Ki Madad Se Ek Jugaad Nikal Liya Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापान लैपटॉप खरीदने के लिए एक भयानक जगह है और मैंने यह भी सुना है कि जापान में बने पैनासोनिक लेट्स नोट्स अच्छे हो सकते हैं l
Romanized Version
जापान लैपटॉप खरीदने के लिए एक भयानक जगह है और मैंने यह भी सुना है कि जापान में बने पैनासोनिक लेट्स नोट्स अच्छे हो सकते हैं l Japan Laptop Kharidne Ke Liye Ek Bhayaanak Jagah Hai Aur Maine Yeh Bhi Suna Hai Ki Japan Mein Bane Panasonic Notes Acche Ho Sakte Hain L
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
एक्सचेंज रेट जापान में सब कुछ महंगा बनाता है लेकिन मुझे लगता है कि यह उससे भी ज्यादा है। मेरे जीएफ के परिवार ने लगभग $ 1800 के लिए 250 जीबी के साथ एक सेलेरॉन एआईओ खरीदा।
Romanized Version
एक्सचेंज रेट जापान में सब कुछ महंगा बनाता है लेकिन मुझे लगता है कि यह उससे भी ज्यादा है। मेरे जीएफ के परिवार ने लगभग $ 1800 के लिए 250 जीबी के साथ एक सेलेरॉन एआईओ खरीदा। Exchange Rate Japan Mein Sab Kuch Mehnga Banata Hai Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Usse Bhi Jyada Hai Mere GF Ke Parivar Ne Lagbhag $ 1800 Ke Liye 250 Gb Ke Saath Ek Seleran Eaaio Kharida
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
कैमरा से फोटो खींचते समय जो आवाज आती है उसे Japan में mute करना allowed नही है और कुछ फोन में तो इसे mute करने का ऑप्शन ही नही होता. ऐसा इसलिए होता है क्योकिं जापान में लड़कियाँ छोटी स्कर्ट बहुत ज्यादा पहनती है और यदि कोई उनका फोटो खींचे तो पता चल जाए.
Romanized Version
कैमरा से फोटो खींचते समय जो आवाज आती है उसे Japan में mute करना allowed नही है और कुछ फोन में तो इसे mute करने का ऑप्शन ही नही होता. ऐसा इसलिए होता है क्योकिं जापान में लड़कियाँ छोटी स्कर्ट बहुत ज्यादा पहनती है और यदि कोई उनका फोटो खींचे तो पता चल जाए. Camera Se Photo Khichate Samay Jo Aawaj Aati Hai Use Japan Mein Mute Karna Allowed Nahi Hai Aur Kuch Phone Mein To Ise Mute Karne Ka Option Hi Nahi Hota Aisa Isliye Hota Hai Kyokin Japan Mein Ladkiyan Choti Skirt Bahut Jyada Pahanti Hai Aur Yadi Koi Unka Photo Khinche To Pata Chal Jaye
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
जापान Fujitsu, Kyocera, एनईसी-Casio (एनईसी / Casio / Hitachi) पैनासोनिक, सैंसुई तीव्र, सोनी डोकोमो।
Romanized Version
जापान Fujitsu, Kyocera, एनईसी-Casio (एनईसी / Casio / Hitachi) पैनासोनिक, सैंसुई तीव्र, सोनी डोकोमो।Japan Fujitsu, Kyocera, Enaisi Enaisi / Casio / Panasonic Sansui Tivarr Sony Docomo
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
vokalandroid