tag_img

आईएसआई

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक पत्रकार जो अभी हाल ही में जिनकी मौत हुई जिनकी हत्या की गई है जम्मू कश्मीर में वह अपने ऑफिस से निकले थे राइजिंग कश्मीर के संपादक जो है वह जैसी अपने ऑफिस के बाहर रखे हैं तीन बदमाश जो बाइक सवार थे वह मार्केट चलेगा उनके सिक्योरिटी गार्ड को भी मारेगा इनको 2000 सन 2000 से सुरक्षा मिली हुई है जिस सुर्खियों में रहते हैं हमेशा इनकी जो हत्या हुई है वैसे तो उसकी जांच चल रही है कितने की है कौन शामिल है यह भी क्लियर नहीं है लेकिन आई एस आई है किसी का भी हार दूं इस प्रकार की घटना की दिनदहाड़े दिनदहाड़े शाम के समय मौत हुई है इनकी 7:00 बजे से प्रोजेक्ट तारीख का समय होता है तो इससे कुछ दिन पहले किस तरीके से कुछ लोग खुले टाइम में जब सब लोग सड़क पर होते हैं अगर ऐसे और सामाजिक तंत्र जो इस प्रकार से दी हरकतें होंगी ऐसे रोड टाइम पर तो चढ़ टॉर्च जनता का क्या भरोसा रहेगा इस सुरक्षा पर और कुल मिलाकर जरूरत है एक बिल्कुल निष्पक्ष तरीके से कार्यवाही करने की बिना किसी के दवाब में आगे और जो उचित लोग हैं जो दोषी लोग हैं उनको कार्बन उन पर कार्रवाई की ज्योति कठोर सजा दी जाए लेकिन इस तरीके की चीजें केवल एक सपना जैसा है उम्मीद कर सकते हैं वरना ऐसा पॉसिबल नहीं हो पाएगा जिस प्रकार से वहां पर शासन रहा है केंद्र सरकार का और पीडीपी गठबंधन था
Romanized Version
एक पत्रकार जो अभी हाल ही में जिनकी मौत हुई जिनकी हत्या की गई है जम्मू कश्मीर में वह अपने ऑफिस से निकले थे राइजिंग कश्मीर के संपादक जो है वह जैसी अपने ऑफिस के बाहर रखे हैं तीन बदमाश जो बाइक सवार थे वह मार्केट चलेगा उनके सिक्योरिटी गार्ड को भी मारेगा इनको 2000 सन 2000 से सुरक्षा मिली हुई है जिस सुर्खियों में रहते हैं हमेशा इनकी जो हत्या हुई है वैसे तो उसकी जांच चल रही है कितने की है कौन शामिल है यह भी क्लियर नहीं है लेकिन आई एस आई है किसी का भी हार दूं इस प्रकार की घटना की दिनदहाड़े दिनदहाड़े शाम के समय मौत हुई है इनकी 7:00 बजे से प्रोजेक्ट तारीख का समय होता है तो इससे कुछ दिन पहले किस तरीके से कुछ लोग खुले टाइम में जब सब लोग सड़क पर होते हैं अगर ऐसे और सामाजिक तंत्र जो इस प्रकार से दी हरकतें होंगी ऐसे रोड टाइम पर तो चढ़ टॉर्च जनता का क्या भरोसा रहेगा इस सुरक्षा पर और कुल मिलाकर जरूरत है एक बिल्कुल निष्पक्ष तरीके से कार्यवाही करने की बिना किसी के दवाब में आगे और जो उचित लोग हैं जो दोषी लोग हैं उनको कार्बन उन पर कार्रवाई की ज्योति कठोर सजा दी जाए लेकिन इस तरीके की चीजें केवल एक सपना जैसा है उम्मीद कर सकते हैं वरना ऐसा पॉसिबल नहीं हो पाएगा जिस प्रकार से वहां पर शासन रहा है केंद्र सरकार का और पीडीपी गठबंधन थाEk Patrakar Jo Abhi Haal Hi Mein Jinaki Maut Hui Jinaki Hatya Ki Gayi Hai Jammu Kashmir Mein Wah Apne Office Se Nikale The Rising Kashmir Ke Sampadak Jo Hai Wah Jaisi Apne Office Ke Bahar Rakhe Hain Teen Badamash Jo Bike Savar The Wah Market Chalega Unke Security Guard Ko Bhi Marenge Inko 2000 Sun 2000 Se Suraksha Mili Hui Hai Jis Surkhiyon Mein Rehte Hain Hamesha Inki Jo Hatya Hui Hai Waise To Uski Janch Chal Rahi Hai Kitne Ki Hai Kaun Shamil Hai Yeh Bhi Clear Nahi Hai Lekin Eye S Eye Hai Kisi Ka Bhi Haar Doon Is Prakar Ki Ghatna Ki Dinadahade Dinadahade Shaam Ke Samay Maut Hui Hai Inki 7:00 Baje Se Project Tarikh Ka Samay Hota Hai To Isse Kuch Din Pehle Kis Tarike Se Kuch Log Khule Time Mein Jab Sab Log Sadak Par Hote Hain Agar Aise Aur Samajik Tantra Jo Is Prakar Se Di Harkatein Hongi Aise Road Time Par To Chadh Torch Janta Ka Kya Bharosa Rahega Is Suraksha Par Aur Kul Milakar Zaroorat Hai Ek Bilkul Nishpaksh Tarike Se Karyavahi Karne Ki Bina Kisi Ke Davab Mein Aage Aur Jo Uchit Log Hain Jo Doshi Log Hain Unko Carbon Un Par Karyawahi Ki Jyoti Kathor Saja Di Jaye Lekin Is Tarike Ki Cheezen Kewal Ek Sapna Jaisa Hai Ummid Kar Sakte Hain Varana Aisa Possible Nahi Ho Payega Jis Prakar Se Wahan Par Shasan Raha Hai Kendra Sarkar Ka Aur Pdp Gathbandhan Tha
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
सहायक प्रोफेसरों की स्थिति पीबी -3 में होगी, अर्थात 15,600-39,100 रुपये के न्यूनतम वेतन के साथ 30,000 / - (मूल कहा जाता है) ग्रेड वेतन के साथ 8000 / - और भत्ते के साथ होगा। पीबी -3 में तीन साल की सेवा पूरी होने के बाद उन्हें पीबी -4 में रखा जाएगा, यानी रु .37400-67000 रुपये के ग्रेड वेतन के साथ 9 .000 / - और भत्ते के साथ।
Romanized Version
सहायक प्रोफेसरों की स्थिति पीबी -3 में होगी, अर्थात 15,600-39,100 रुपये के न्यूनतम वेतन के साथ 30,000 / - (मूल कहा जाता है) ग्रेड वेतन के साथ 8000 / - और भत्ते के साथ होगा। पीबी -3 में तीन साल की सेवा पूरी होने के बाद उन्हें पीबी -4 में रखा जाएगा, यानी रु .37400-67000 रुपये के ग्रेड वेतन के साथ 9 .000 / - और भत्ते के साथ।Sahaayak Professoron Ki Sthiti PB -3 Mein Hogi Arthat 15,600-39,100 Rupaye Ke Nyunatam Vetan Ke Saath 30,000 / - Mul Kaha Jata Hai Grade Vetan Ke Saath 8000 / - Aur Bhatte Ke Saath Hoga PB -3 Mein Teen Saal Ki Seva Puri Hone Ke Baad Unhen PB -4 Mein Rakha Jayega Yani Ru .37400-67000 Rupaye Ke Grade Vetan Ke Saath 9 .000 / - Aur Bhatte Ke Saath
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखाई सही सही होता एक तो पाकिस्तान का जो सीक्रेट खुफिया एजेंसी आईएसआई जिसका फुल फॉर्म है इंटर सर्विसेस इंटेलिजेंस जो कि हमारे यहां जैसे रो काम करता हूं कि हां यस आई इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस काम करता है दूसरा जो कि किसी भी प्रोडक्ट को पर लग गया था उसका फुल फॉर्म होता है इंडियन स्टैंडर्ड इंस्टिट्यूट इसका अर्थ होता है कि कोई भी चीज बन रही है इस सागर मार्ग से निराश होकर गुजर रही है मार्ग पर लगा हुआ है मतलब क्यों यूज़ के लिए बिल्कुल सही है
Romanized Version
लिखाई सही सही होता एक तो पाकिस्तान का जो सीक्रेट खुफिया एजेंसी आईएसआई जिसका फुल फॉर्म है इंटर सर्विसेस इंटेलिजेंस जो कि हमारे यहां जैसे रो काम करता हूं कि हां यस आई इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस काम करता है दूसरा जो कि किसी भी प्रोडक्ट को पर लग गया था उसका फुल फॉर्म होता है इंडियन स्टैंडर्ड इंस्टिट्यूट इसका अर्थ होता है कि कोई भी चीज बन रही है इस सागर मार्ग से निराश होकर गुजर रही है मार्ग पर लगा हुआ है मतलब क्यों यूज़ के लिए बिल्कुल सही हैLikhai Sahi Sahi Hota Ek To Pakistan Ka Jo Secret Khufiya Agency Isi Jiska Full Form Hai Inter Services Intelligence Jo Ki Hamare Yahan Jaise Ro Kaam Karta Hoon Ki Haan Yash Eye Inter Services Intelligence Kaam Karta Hai Doosra Jo Ki Kisi Bhi Product Ko Par Lag Gaya Tha Uska Full Form Hota Hai Indian Standard Institute Iska Arth Hota Hai Ki Koi Bhi Cheez Ban Rahi Hai Is Sagar Marg Se Nirash Hokar Gujar Rahi Hai Marg Par Laga Hua Hai Matlab Kyon Use Ke Liye Bilkul Sahi Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
भारत की बाहरी खुफिया एजेंसी, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग रॉ ने अपने पड़ोसियों के मामलों में दखल देने के आरोपों का सामना किया है, रॉ और पाकिस्तान की जासूसी एजेंसी, इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस ( आईएसआई ) तीन दशकों से एक दूसरे के खिलाफ गुप्त संचालन में लगी हुई है।
Romanized Version
भारत की बाहरी खुफिया एजेंसी, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग रॉ ने अपने पड़ोसियों के मामलों में दखल देने के आरोपों का सामना किया है, रॉ और पाकिस्तान की जासूसी एजेंसी, इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस ( आईएसआई ) तीन दशकों से एक दूसरे के खिलाफ गुप्त संचालन में लगी हुई है।Bharat Ki Baahri Khufiya Agency Research End Analysis Wing Raw Ne Apne Padoshiyon Ke Mamlon Mein Dakhal Dene Ke Aaropon Ka Samana Kiya Hai Raw Aur Pakistan Ki Jasusi Agency Inter Services Intelligence ( Isi ) Teen Dashakon Se Ek Dusre Ke Khilaf Gupt Sanchalan Mein Lagi Hui Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी अब हमारे पड़ोसी या फिर हमारे आसपास के लोग आपकी हम कितना भी अच्छा करते हैं फिर भी हमारे अंदर कोई ना कोई गलतियां निकालते हैं और यह ह्यूमन बिहेवियर कहलाती है कि आप कितना भी सक्सेसफुल हो कोई ना कोई गलतियां जरूर निकालते और यह हम सब करते हैं ऐसी तो इसके लिए आप इग्नोर कर सकते हैं और जो भी आप जाओ जो प्रॉब्लम सारी आप इसे पॉजिटिव साइज में लेकर आप इसे जो एनर्जी जवाब वेस्ट कर रहे हो उसको पॉजिटिव एनर्जी के तरह कन्वर्ट करके उसे यूज़ करें तो आप ज्यादा अच्छे से कंफर्म अपने स्टडी पर और अपनी जॉब पर फोकस कर पाएंगे और अच्छी जॉब ले पाएंगे तो इन सब बातों को इग्नोर करेगी यह पार्ट ऑफ लाइफ है और लाइफ में हर लगभग सभी फेज में आपको ऐसी चीज देखने और सुनने को मिलेंगे तो अपनी लाइफ में मोवन कर दी आपने जो भी गोल से उन पर फोकस करें
Romanized Version
विकी अब हमारे पड़ोसी या फिर हमारे आसपास के लोग आपकी हम कितना भी अच्छा करते हैं फिर भी हमारे अंदर कोई ना कोई गलतियां निकालते हैं और यह ह्यूमन बिहेवियर कहलाती है कि आप कितना भी सक्सेसफुल हो कोई ना कोई गलतियां जरूर निकालते और यह हम सब करते हैं ऐसी तो इसके लिए आप इग्नोर कर सकते हैं और जो भी आप जाओ जो प्रॉब्लम सारी आप इसे पॉजिटिव साइज में लेकर आप इसे जो एनर्जी जवाब वेस्ट कर रहे हो उसको पॉजिटिव एनर्जी के तरह कन्वर्ट करके उसे यूज़ करें तो आप ज्यादा अच्छे से कंफर्म अपने स्टडी पर और अपनी जॉब पर फोकस कर पाएंगे और अच्छी जॉब ले पाएंगे तो इन सब बातों को इग्नोर करेगी यह पार्ट ऑफ लाइफ है और लाइफ में हर लगभग सभी फेज में आपको ऐसी चीज देखने और सुनने को मिलेंगे तो अपनी लाइफ में मोवन कर दी आपने जो भी गोल से उन पर फोकस करेंVikee Ab Hamare Padoshi Ya Phir Hamare Aaspass Ke Log Aapki Hum Kitna Bhi Accha Karte Hain Phir Bhi Hamare Andar Koi Na Koi Galtiya Nikalate Hain Aur Yeh Human Behaviour Kahalati Hai Ki Aap Kitna Bhi Successful Ho Koi Na Koi Galtiya Jarur Nikalate Aur Yeh Hum Sab Karte Hain Aisi To Iske Liye Aap Ignore Kar Sakte Hain Aur Jo Bhi Aap Jao Jo Problem Saree Aap Ise Positive Size Mein Lekar Aap Ise Jo Energy Jawab West Kar Rahe Ho Usko Positive Energy Ke Tarah Convert Karke Use Use Karen To Aap Zyada Acche Se Confirm Apne Study Par Aur Apni Job Par Focus Kar Payenge Aur Acchi Job Le Payenge To In Sab Baaton Ko Ignore Karegi Yeh Part Of Life Hai Aur Life Mein Har Lagbhag Sabhi Phase Mein Aapko Aisi Cheez Dekhne Aur Sunane Ko Milenge To Apni Life Mein Movan Kar Di Aapne Jo Bhi Gol Se Un Par Focus Karen
Likes  21  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी से ज्यादा आईएएस का एग्जाम नहीं दे सकते हैं आपको थर्ड ईयर की परीक्षा में स्थान दे सकते हैं
Romanized Version
अभी से ज्यादा आईएएस का एग्जाम नहीं दे सकते हैं आपको थर्ड ईयर की परीक्षा में स्थान दे सकते हैंAbhi Se Zyada IAS Ka Exam Nahi De Sakte Hain Aapko Third Year Ki Pariksha Mein Sthan De Sakte Hain
Likes  19  Dislikes      
WhatsApp_icon
<html><body><p>इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओ पर ISI&nbsp; का चिन्ह जो होता हे उसका fullform&nbsp; इंडियन स्टॅंडर्ड्स इन्स्टिट्यूट&nbsp; होता हे याद रहे ये फुल्ल्फ़ोर्म केवल इलेक्ट्रॉनिक वात्ुओ के लिए&nbsp; हे किसी और ISI&nbsp; मार्क ke लिए नही&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp;&nbsp; </p> </body></html>Electronic Vastuon Par ISI&nbsp; Ka Chinh Jo Hota Hai Uska Fullform&nbsp; Indian Standards Institute Hota Hai Yaad Rahe Ye Fullform Keval Electronic Vatuo Ke Liye Hai Kisi Aur ISI&nbsp; Mark Ke Liye Nahi </p> </body></html>
Likes  14  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि आईएसआई में जाने के लिए क्या करना होगा कि आई एस आई में जाने के लिए जो है सबसे पहले आपको जो है ग्रेजुएशन कंप्लीट करना होगा और उसके बाद ही तो है आप आई एस आई यानी कि यूपीएससी का जो है आपको एग्जाम देना होगा और उसके बाद ही जो यहां पैसे में आईएसआई में जा सकते हैं
Romanized Version
आपका प्रश्न है कि आईएसआई में जाने के लिए क्या करना होगा कि आई एस आई में जाने के लिए जो है सबसे पहले आपको जो है ग्रेजुएशन कंप्लीट करना होगा और उसके बाद ही तो है आप आई एस आई यानी कि यूपीएससी का जो है आपको एग्जाम देना होगा और उसके बाद ही जो यहां पैसे में आईएसआई में जा सकते हैंAapka Prashna Hai Ki Isi Mein Jaane Ke Liye Kya Karna Hoga Ki I S I Mein Jaane Ke Liye Jo Hai Sabse Pehle Aapko Jo Hai Graduation Complete Karna Hoga Aur Uske Baad Hi Toh Hai Aap I S I Yani Ki Upsc Ka Jo Hai Aapko Exam Dena Hoga Aur Uske Baad Hi Jo Yahan Paise Mein Isi Mein Ja Sakte Hain
Likes  11  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आई एस आई एस का पूरा नाम है इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया
Romanized Version
आई एस आई एस का पूरा नाम है इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरियाI S I S Ka Pura Naam Hai Islamic State Of Iraq End Syria
Likes  15  Dislikes      
WhatsApp_icon
vokalandroid