tag_img

अस्पताल


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे नहीं लगता कि मैक्स हॉस्पिटल के जो लाइसेंस है उस को रद्द करने का केजरीवाल का फैसला सही था किसी भी मायने में| देखिये हॉस्पिटल में आपको हॉस्पिटल और डॉक्टर दो में एक डीफ़ेरेन्शिअशन करना पड़ेगा | हॉस्...
जवाब पढ़िये
मुझे नहीं लगता कि मैक्स हॉस्पिटल के जो लाइसेंस है उस को रद्द करने का केजरीवाल का फैसला सही था किसी भी मायने में| देखिये हॉस्पिटल में आपको हॉस्पिटल और डॉक्टर दो में एक डीफ़ेरेन्शिअशन करना पड़ेगा | हॉस्पिटल इक इंस्टिट्यूशन होता है और डॉक्टर उसके अंदर काम करते हैं अगर जो है कोई भी गलती किसी डॉक्टर ने की है तो उस डॉक्टर के खिलाफ में कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए उसके खिलाफ में सजा होनी चाहिए जहां तक हॉस्पिटल का सवाल है हॉस्पिटल सैकड़ों हजारों लोगों को सुविधाएं प्रदान करता है मेडिकल फैसिलिटीज देता है और अगर आप किसी हॉस्पिटल का लाइसेंस रद्द कर देते हैं तो वहां पर जितने भी लोग अपने ट्रीटमेंट पा रहे हैं उनको बहुत बड़ा नुकसान होता है| तो अगर इसमें किसी डॉक्टर की गलती थी तो उसके खिलाफ ऍफआयआर लॉज होना चाहिए था, उसके खिलाफ़ में कार्रवाई करनी चाहिए थी| जहा तक हॉस्पिटल को रद्द करने की बात है, वह बहोत ही एक्सट्रीम स्टेप था जो की दिल्ली सरकार को नहीं उठाना चाहिए था| इससे भले ही दिल्ली सरकार को रातो रात पोप्युलारिटी मिल गयी| और चुकी ये प्राइवेट हॉस्पिटल था तों इस से आम जनता बड़ी खुश हो गई जो है इसमें चुकी अमीरों का इलाज होता है और उसका कैंसिल हो गया बड़ी अच्छी बात है लेकिन कई बार केजरीवाल साब को अपने गिरेबान में भी झांक कर देखना चाहिए कि जो सरकारी अस्पताल है वहा पे रोज़ इस तरीके की घटना होती रहती हैं और वहां पर अगर किसी डॉक्टर ने इस तरीके की लापरवाही कि तों क्या केजरीवाल जी उसका भी लाइसेंस रद्द करेंगे? और उसकी फैसिलिटीज बंद करेंगे? तो यह थोड़ा सा मेरे ख़याल से ये हिपोक्रेसी और डबल टॉक था और यह मेरे ख्याल से उचित नहीं था| और जैसा की अब ये लाइसेंस रद्द करने का फैसला जो है वह स्टे कर दिया गया है और मुझे नहीं लगता कि फाइनली जो है यह केजरीवाल के फेवर में जाएगा और केजरीवाल को फिर एक बार अपने मुंह की खानी पड़ेगी|Mujhe Nahi Lagta Ki Max Hospital Ke Jo License Hai Us Ko Radd Karne Ka Kejriwal Ka Faisla Sahi Tha Kisi Bhi Maayne Mein Dekhiye Hospital Mein Aapko Hospital Aur Doctor Do Mein Ek Diferenshiashan Karna Padega | Hospital Ek Instityushan Hota Hai Aur Doctor Uske Andar Kaam Karte Hain Agar Jo Hai Koi Bhi Galti Kisi Doctor Ne Ki Hai To Us Doctor Ke Khilaf Mein Kanooni Karyawahi Honi Chahiye Uske Khilaf Mein Saja Honi Chahiye Jahan Tak Hospital Ka Sawal Hai Hospital Saikadon Hajaron Logon Ko Suvidhayen Pradan Karta Hai Medical Faisilitij Deta Hai Aur Agar Aap Kisi Hospital Ka License Radd Kar Dete Hain To Wahan Par Jitne Bhi Log Apne Treatment Pa Rahe Hain Unko Bahut Bada Nuksan Hota Hai To Agar Isme Kisi Doctor Ki Galti Thi To Uske Khilaf Afaayaar Lodge Hona Chahiye Tha Uske Khilaf Mein Karyawahi Karni Chahiye Thi Jaha Tak Hospital Ko Radd Karne Ki Baat Hai Wah Bahut Hi Xtreme Step Tha Jo Ki Delhi Sarkar Ko Nahi Uthaana Chahiye Tha Isse Bhale Hi Delhi Sarkar Ko Raato Raat Popyulariti Mil Gayi Aur Chuki Ye Private Hospital Tha To Is Se Aam Janta Badi Khush Ho Gayi Jo Hai Isme Chuki Amiron Ka Ilaj Hota Hai Aur Uska Cancel Ho Gaya Badi Acchi Baat Hai Lekin Kai Baar Kejriwal Sab Ko Apne Girebaan Mein Bhi Jhank Kar Dekhna Chahiye Ki Jo Sarkari Aspatal Hai Vaha Pe Roz Is Tarike Ki Ghatna Hoti Rehti Hain Aur Wahan Par Agar Kisi Doctor Ne Is Tarike Ki Laparwahi Ki To Kya Kejriwal Ji Uska Bhi License Radd Karenge Aur Uski Faisilitij Band Karenge To Yeh Thoda Sa Mere Khayal Se Ye Hipokresi Aur Double Talk Tha Aur Yeh Mere Khayal Se Uchit Nahi Tha Aur Jaisa Ki Ab Ye License Radd Karne Ka Faisla Jo Hai Wah Stay Kar Diya Gaya Hai Aur Mujhe Nahi Lagta Ki Finally Jo Hai Yeh Kejriwal Ke Favor Mein Jayega Aur Kejriwal Ko Phir Ek Baar Apne Mooh Ki Khaani Padegi
Likes  18  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज भी लोग प्राइवेट स्कूल और हॉस्पिटल ऑफ़ इसलिए भरोसा करते हैं क्योंकि उन्हें पता है कि प्राइवेट हॉस्पिटल और स्कूल में वह पैसे दे रहे हैं तो उनको जो भी चीज वह चाहते हैं उनको जरूर मिलेगी जैसा कि हम स्कू...
जवाब पढ़िये
आज भी लोग प्राइवेट स्कूल और हॉस्पिटल ऑफ़ इसलिए भरोसा करते हैं क्योंकि उन्हें पता है कि प्राइवेट हॉस्पिटल और स्कूल में वह पैसे दे रहे हैं तो उनको जो भी चीज वह चाहते हैं उनको जरूर मिलेगी जैसा कि हम स्कूल की बात करें तो उनको पता है कि उनके बच्चों को अच्छी शिक्षा मिलेगी प्राइवेट स्कूल्स में तो वह उसी हिसाब से उनको वहां डालते हैं पढ़ने के लिए और हॉस्पिटल की बात करें तो हमको पता होता है कि प्राइवेट हॉस्पिटल ज्यादा होते हैं लेकिन वहां पर उनको अच्छा ट्रीटमेंट मिलेगा इसलिए वहीं जाना पसंद करते हैं और वह गवर्नमेंट में इसलिए नहीं जाते हैं क्योंकि आजकल के भ्रष्टाचार की वजह से गवर्नमेंट स्कूल्स ऑफ गवर्मेंट हॉस्पिटल दोनों की हालत बहुत ज्यादा खराब है हमारे देश में आप कहीं भी चले जाइए आपको गवर्नमेंट स्कूलों गवर्नमेंट हॉस्पिटल बहुत ही गंदी हालत में मिलेगा वहां पर कोई इंसान पढ़ाई तो दूर या ट्रीटमेंट दूर खड़ा भी होना पसंद नहीं करता है तो इसीलिए लोग प्राइवेट स्कूल हॉस्पिटल ज्यादा पसंद करते हैं कॉमेंट्री कंपैरिजन मेंAaj Bhi Log Private School Aur Hospital Of Isliye Bharosa Karte Hain Kyonki Unhen Pata Hai Ki Private Hospital Aur School Mein Wah Paise De Rahe Hain To Unko Jo Bhi Cheez Wah Chahte Hain Unko Jarur Milegi Jaisa Ki Hum School Ki Baat Karen To Unko Pata Hai Ki Unke Bacchon Ko Acchi Shiksha Milegi Private Schools Mein To Wah Ussi Hisab Se Unko Wahan Daalte Hain Padhne Ke Liye Aur Hospital Ki Baat Karen To Hamko Pata Hota Hai Ki Private Hospital Jyada Hote Hain Lekin Wahan Par Unko Accha Treatment Milega Isliye Wahin Jana Pasand Karte Hain Aur Wah Government Mein Isliye Nahi Jaate Hain Kyonki Aajkal Ke Bhrashtachar Ki Wajah Se Government Schools Of Goverment Hospital Dono Ki Halat Bahut Jyada Kharab Hai Hamare Desh Mein Aap Kahin Bhi Chale Jaiye Aapko Government Schoolon Government Hospital Bahut Hi Gandi Halat Mein Milega Wahan Par Koi Insaan Padhai To Dur Ya Treatment Dur Khada Bhi Hona Pasand Nahi Karta Hai To Isliye Log Private School Hospital Jyada Pasand Karte Hain Commentary Kampairijan Mein
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे अच्छी तरह याद है कि मैं आपसे कहीं कुछ सालों पहले मैं सरकारी अस्पताल में गया अपनी पत्नी को किसी कारण से उसको दिखाना था और वहां पर मैं देखकर आश्चर्यचकित रह गया कि इतनी ज्यादा वहां पर भीड़ होती है ए...
जवाब पढ़िये
मुझे अच्छी तरह याद है कि मैं आपसे कहीं कुछ सालों पहले मैं सरकारी अस्पताल में गया अपनी पत्नी को किसी कारण से उसको दिखाना था और वहां पर मैं देखकर आश्चर्यचकित रह गया कि इतनी ज्यादा वहां पर भीड़ होती है एक डॉक्टर के केबिन के बाहर सैकड़ों मरीज जो है वह लगे हुए थे और एक तरीके से समझ लीजिए कि वह दरवाजा तोड़ के अंदर जाने को तैयार थे इतनी लंबी क्यों थी वहां पर और इतना डेकोरेटिव वेट कर रहे थे वहां पर जो भी डॉक्टर बैठा हुआ है उसके पास में दो-चार मिनट का भी समय नहीं रहता है कि वह सारे परिषद को देख सके ऐसी सिचुएशन में अगर हम डॉक्टर की गलती के लिए डॉक्टर को पनिश करने की बात करेंगे तो शायद ही कोई आदमी सरकारी महकमे में बनना चाहेगा जहां पर डॉक्टर की पहले से ही इतनी सारी कमी है मुझे लगता है कि सबसे ज्यादा जरूरत है इस बात की है कि हम डॉक्टरों की संख्या को बढ़ाएं आज जितने नंबर डॉक्टर हमारे देश में बन रहे हैं उससे कम से कम 5 से 10 गुना डॉक्टर हमें बनाने की जरूरत है तब हम आने वाले 10 सालों के अंदर डॉक्टर की समस्या का समाधान कर सकते हैं दूसरी बात यह है कि सरकारी महकमे के अंदर डॉक्टर की संख्या पढ़नी चाहिए उन की फसल की बढ़ने की है और सरकार के अंदर जो फंडिंग है वह बढ़नी चाहिए ताकि जो डॉक्टर है वह इस नंबर पर सेंड कर दीजिए अगर उसके पास में समय नहीं रहेगा और अगर आप उस को जिम्मेदार ठहराने लगेंगे तो फिर कोई आदमी डॉक्टर नहीं बनना चाहेगा और अगर किसी को डिलीवरी किया हुआ है तब जरूर आप उस को जिम्मेदार ठहरा सकते हैं लेकिन अगर उसका बोनाफाइड सही तरीके उसने किया तो उसके जिम्मेदार नहीं फहराना चाहिएMujhe Acchi Tarah Yaad Hai Ki Main Aapse Kahin Kuch Salon Pehle Main Sarkari Aspatal Mein Gaya Apni Patni Ko Kisi Kaaran Se Usko Dikhana Tha Aur Wahan Par Main Dekhkar Ashcharyachakit Rah Gaya Ki Itni Jyada Wahan Par Bheed Hoti Hai Ek Doctor Ke Cabin Ke Bahar Saikadon Marij Jo Hai Wah Lage Hue The Aur Ek Tarike Se Samajh Lijiye Ki Wah Darwaja Tod Ke Andar Jaane Ko Taiyaar The Itni Lambi Kyun Thi Wahan Par Aur Itna Decorative Wait Kar Rahe The Wahan Par Jo Bhi Doctor Baitha Hua Hai Uske Paas Mein Do Char Minute Ka Bhi Samay Nahi Rehta Hai Ki Wah Sare Parishad Ko Dekh Sake Aisi Situation Mein Agar Hum Doctor Ki Galti Ke Liye Doctor Ko Penis Karne Ki Baat Karenge To Shayad Hi Koi Aadmi Sarkari Mahkame Mein Banana Chahega Jahan Par Doctor Ki Pehle Se Hi Itni Saree Kami Hai Mujhe Lagta Hai Ki Sabse Jyada Zaroorat Hai Is Baat Ki Hai Ki Hum Daktaro Ki Sankhya Ko Badhaye Aaj Jitne Number Doctor Hamare Desh Mein Ban Rahe Hain Usse Kum Se Kum 5 Se 10 Guna Doctor Hume Banane Ki Zaroorat Hai Tab Hum Aane Wale 10 Salon Ke Andar Doctor Ki Samasya Ka Samadhan Kar Sakte Hain Dusri Baat Yeh Hai Ki Sarkari Mahkame Ke Andar Doctor Ki Sankhya Padhani Chahiye Un Ki Fasal Ki Badhne Ki Hai Aur Sarkar Ke Andar Jo Funding Hai Wah Badhani Chahiye Taki Jo Doctor Hai Wah Is Number Par Send Kar Dijiye Agar Uske Paas Mein Samay Nahi Rahega Aur Agar Aap Us Ko Zimmedar Thaharane Lagenge To Phir Koi Aadmi Doctor Nahi Banana Chahega Aur Agar Kisi Ko Delivery Kiya Hua Hai Tab Jarur Aap Us Ko Zimmedar Thahara Sakte Hain Lekin Agar Uska Bonafaid Sahi Tarike Usne Kiya To Uske Zimmedar Nahi Phaharana Chahiye
Likes  17  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी मुझे लगता है जिस तरह से आज कर प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज के नाम पर लोगों को धोखा दिया जा रहा है तो उस हिसाब से जो मैक्स हॉस्पिटल का एक्सीडेंट हाल ही में सामने आया था जिसमें से उन्होंने पेशेंट को ...
जवाब पढ़िये
विकी मुझे लगता है जिस तरह से आज कर प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज के नाम पर लोगों को धोखा दिया जा रहा है तो उस हिसाब से जो मैक्स हॉस्पिटल का एक्सीडेंट हाल ही में सामने आया था जिसमें से उन्होंने पेशेंट को 30 लाख के बिल बना कर थमा दिया और ट्रीटमेंट के बदले वहां कुछ भी नहीं दिया गया तो उसे उस पर सरकार ने कनेक्शन लिया उस उस कनेक्शन का रिजल्ट दिया था कि मैक्स हॉस्पिटल को बंद कर दिया गया था तो मुझे लगता है कि इस तरह के हॉस्पिटल जो इन कामों में बहुत ज्यादा लिप्त हैं जो दूसरों की हेल्प से खिलवाड़ करते हैं और जो भी हो खुदा करे कि जो बिल बना के पेशेंट को देते हैं ऐसे हॉस्पिटल डेफिनेटली बंद होना चाहिए क्योंकि आजकल हॉस्पिटल्स के अंदर हमने देखा है जो पेशेंट जाते हैं उनके साथ ट्रीटमेंट तो उतना अच्छा नहीं होता लेकिन उसको जो ट्रीटमेंट उनका ऑन लाख Rupees में हो सकता है उसके लिए 10 10 15 15 लाख के बिल बनाए जाते हैं तो मुझे लगता है कि घमंड नहीं है जिसने लिया है तो बहुत ही अच्छा डिसीजन था हालांकि इस मिशन को बाद मेडिकल कर दिया गया हैVikee Mujhe Lagta Hai Jis Tarah Se Aaj Kar Private Hospital Mein Ilaj Ke Naam Par Logon Ko Dhokha Diya Ja Raha Hai To Us Hisab Se Jo Max Hospital Ka Accident Haal Hi Mein Samane Aaya Tha Jisme Se Unhone Patient Ko 30 Lakh Ke Bill Bana Kar Thama Diya Aur Treatment Ke Badle Wahan Kuch Bhi Nahi Diya Gaya To Use Us Par Sarkar Ne Connection Liya Us Us Connection Ka Result Diya Tha Ki Max Hospital Ko Band Kar Diya Gaya Tha To Mujhe Lagta Hai Ki Is Tarah Ke Hospital Jo In Kamon Mein Bahut Jyada Lipt Hain Jo Dusron Ki Help Se Khilwad Karte Hain Aur Jo Bhi Ho Khuda Kare Ki Jo Bill Bana Ke Patient Ko Dete Hain Aise Hospital Definetli Band Hona Chahiye Kyonki Aajkal Hospitals Ke Andar Humne Dekha Hai Jo Patient Jaate Hain Unke Saath Treatment To Utana Accha Nahi Hota Lekin Usko Jo Treatment Unka On Lakh Rupees Mein Ho Sakta Hai Uske Liye 10 10 15 15 Lakh Ke Bill Banaye Jaate Hain To Mujhe Lagta Hai Ki Ghamand Nahi Hai Jisne Liya Hai To Bahut Hi Accha Decision Tha Halanki Is Mission Ko Baad Medical Kar Diya Gaya Hai
Likes  7  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो तो सागर में इस घटना के बारे में उचित होती जानकारी है नहीं लेकिन फिर भी अगर बंगलुरु क्या देश के किसी भी जगह पर इस तरह की हरकत ना होती है तो मुझे लगता है कि सरकार को वहां उस लोकल एडमिनिस्ट्रेशन को ...
जवाब पढ़िये
देखो तो सागर में इस घटना के बारे में उचित होती जानकारी है नहीं लेकिन फिर भी अगर बंगलुरु क्या देश के किसी भी जगह पर इस तरह की हरकत ना होती है तो मुझे लगता है कि सरकार को वहां उस लोकल एडमिनिस्ट्रेशन को उस तरह के हॉस्पिटल और डॉक्टर के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करनी चाहिए ताकि एक सबक बने और अंदर जो दूसरी डॉक्टर से दूसरे हॉस्पिटल से इस तरह का काम करने की हिम्मत न कर सके अगर इस तरह की कोई बात हुई है तो मुझे लगता है सबसे पहले जो काम होना चाहिए ऐसे हॉस्पिटल और डॉक्टर के खिलाफ FIR होनी चाहिए और उनको तुरंत गवर्मेंट को ऐसे हॉस्पिटल से डॉक्टर का लाइसेंस कैंसिल करना चाहिए क्योंकि यह दफ्तर के काम तो कोई कर ही नहीं सकता कि एक गैंग रेप पीड़ित कोDekho To Sagar Mein Is Ghatna Ke Baare Mein Uchit Hoti Jankari Hai Nahi Lekin Phir Bhi Agar Bengaluru Kya Desh Ke Kisi Bhi Jagah Par Is Tarah Ki Harkat Na Hoti Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Sarkar Ko Wahan Us Local Administration Ko Us Tarah Ke Hospital Aur Doctor Ke Khilaf Sakht Se Sakht Karyavahi Karni Chahiye Taki Ek Sabak Bane Aur Andar Jo Dusri Doctor Se Dusre Hospital Se Is Tarah Ka Kaam Karne Ki Himmat N Kar Sake Agar Is Tarah Ki Koi Baat Hui Hai To Mujhe Lagta Hai Sabse Pehle Jo Kaam Hona Chahiye Aise Hospital Aur Doctor Ke Khilaf FIR Honi Chahiye Aur Unko Turant Goverment Ko Aise Hospital Se Doctor Ka License Cancel Karna Chahiye Kyonki Yeh Daftaar Ke Kaam To Koi Kar Hi Nahi Sakta Ki Ek Gang Rape Peedit Ko
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम जैसे कि आपने बोला हॉस्पिटल में खराब जो स्टाफ है इसके जो है बहुत लोग जिम्मेदार है पहले तो हां लिखिए जो स्टाफ है 9:00 में नहीं खराब होते हैं और कुछ लोग खराब होते हैं कुछ लोग जो होते हैं अच्छे होने के...
जवाब पढ़िये
हम जैसे कि आपने बोला हॉस्पिटल में खराब जो स्टाफ है इसके जो है बहुत लोग जिम्मेदार है पहले तो हां लिखिए जो स्टाफ है 9:00 में नहीं खराब होते हैं और कुछ लोग खराब होते हैं कुछ लोग जो होते हैं अच्छे होने के बाद भी खराब होने का मतलब काम कर रही हो कि अच्छे से अगर गवर्नमेंट हॉस्पिटल की बातचीत करा दो मिनट हॉस्पिटल जाते हैं करो या ना करो मुझे गवर्नमेंट सैलरी देगी तो यह सब जो अभी जो खाया नहीं जाता जो हमारे आने का और सिस्टम की बात है कि हमारे नेता और हमारे दुश्मनों अच्छे डॉक्टर अच्छे मतलब जो स्टाफ का डॉक्टर के हॉस्पिटल के स्टाफ चुनाव करेंगे हम लोग के लिए बेहतर होगा क्योंकि आए दिन हमें जितने सारे न्यूज़ आते रहते हैं कि इंडिया में लोग इसके कारण है मर गए खराब हॉस्पिटल में मत हॉस्पिटल गया पर वहां पर वहां पर जो स्टाफ थे उनके हल नहीं किया तो वहां पर उनका मृत्यु हो गया था से बहुत सारे हॉस्पिटल अभी भी इंडिया में बहुत जगत हॉस्पिटल है जहां पर ना तो प्रॉपर स्टाफ है ना तो पापा इलाज किया जाता है ना तो हम व्यवस्था भी किया गया एवं व्यवस्थाHum Jaise Ki Aapne Bola Hospital Mein Kharab Jo Staff Hai Iske Jo Hai Bahut Log Zimmedar Hai Pehle To Haan Likhiye Jo Staff Hai 9:00 Mein Nahi Kharab Hote Hain Aur Kuch Log Kharab Hote Hain Kuch Log Jo Hote Hain Acche Hone Ke Baad Bhi Kharab Hone Ka Matlab Kaam Kar Rahi Ho Ki Acche Se Agar Government Hospital Ki Batchit Kra Do Minute Hospital Jaate Hain Karo Ya Na Karo Mujhe Government Salary Degi To Yeh Sab Jo Abhi Jo Khaya Nahi Jata Jo Hamare Aane Ka Aur System Ki Baat Hai Ki Hamare Neta Aur Hamare Dushmano Acche Doctor Acche Matlab Jo Staff Ka Doctor Ke Hospital Ke Staff Chunav Karenge Hum Log Ke Liye Behtar Hoga Kyonki Aaye Din Hume Jitne Sare News Aate Rehte Hain Ki India Mein Log Iske Kaaran Hai Mar Gaye Kharab Hospital Mein Mat Hospital Gaya Par Wahan Par Wahan Par Jo Staff The Unke Hal Nahi Kiya To Wahan Par Unka Mrityu Ho Gaya Tha Se Bahut Sare Hospital Abhi Bhi India Mein Bahut Jagat Hospital Hai Jahan Par Na To Proper Staff Hai Na To Papa Ilaj Kiya Jata Hai Na To Hum Vyavastha Bhi Kiya Gaya Evam Vyavastha
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपकी इस बात से सहमत नहीं हूं कि भारत में इंसानियत खत्म हो गई है क्योंकि ऐसा है नहीं भारत में आज भी इंसानियत जिंदा है और इसके कई उदाहरण आपको जगह देखने को भी मिलेंगे जब निर्भया कांड हुआ था तब आपने द...
जवाब पढ़िये
मैं आपकी इस बात से सहमत नहीं हूं कि भारत में इंसानियत खत्म हो गई है क्योंकि ऐसा है नहीं भारत में आज भी इंसानियत जिंदा है और इसके कई उदाहरण आपको जगह देखने को भी मिलेंगे जब निर्भया कांड हुआ था तब आपने देखा होगा कि भारत की जनता ने किस तरह से उसका विरोध किया था इसी तरह से कई मुद्दे होते हैं जब जनता एकदम से उठ कर खड़ी होती है इंसानियत के नाम पर सिर्फ वह अपना सब कुछ छोड़ छाड़ कर और उस चीज के पीछे लड़ते हैं सरकार से लोगों से और ऐसा कई बार हमारे दैनिक जीवन में भी होता है कि हम किसी की बुराई को देखकर उसके विरुद्ध उठ कर खड़े हो जाते हैं और हमारी जो भावना है है अच्छी वह जाग जाती है और हम उस बुराई के खिलाफ लड़ते हैं हमारे पुराने समय में कहावत कही जाती थी कि पाप से घृणा करो पापी से नहीं तो वही कि अगर हम अपने व्यवहार में लाएं और बुराई की तरफ ध्यान दे सिर बुराइयों को खत्म करने का बीड़ा उठाए बुराई करने वाले इंसान हैं उन्हें उसकी इतनी सजा नहीं दे तो जरूर हमारे देश में भी जो पुराना प्यार स्नेह और भाईचारा था वह लौटकर आएगा क्योंकि कुछ मुट्ठी भर लोग हैं जो यह वैमनस्य और यह सांप्रदायिकता और यह दंगे फैला रहे हैं उसमें उनका अपना स्वार्थ है लेकिन अगर जनता चाहे जनता एक हो जाए तो वह बिजी सद्भावना से भाईचारे से और स्नेह से रह सकती है क्योंकि बुराई चाहे कितनी भी बड़ी हो वह अच्छाई के सामने नहीं टिक सकती है और आपकी जो अच्छे कार्य है वह हमेशा आपको ऊपर की ओर ले जाते हैं इसीलिए आज भी हमारे देश में इंसानियत जिंदा है और इसकी कई मिसालें कई तरीके से आपको उसके उदाहरण देखने को मिलेंगे इसलिए हमें इस पर अटल रहना चाहिएMain Aapki Is Baat Se Sahmat Nahi Hoon Ki Bharat Mein Insaniyat Khatam Ho Gayi Hai Kyonki Aisa Hai Nahi Bharat Mein Aaj Bhi Insaniyat Zinda Hai Aur Iske Kai Udaharan Aapko Jagah Dekhne Ko Bhi Milenge Jab Nirbhaya Kaand Hua Tha Tab Aapne Dekha Hoga Ki Bharat Ki Janta Ne Kis Tarah Se Uska Virodh Kiya Tha Isi Tarah Se Kai Mudde Hote Hain Jab Janta Ekdam Se Uth Kar Khadi Hoti Hai Insaniyat Ke Naam Par Sirf Wah Apna Sab Kuch Chod Chad Kar Aur Us Cheez Ke Piche Ladtey Hain Sarkar Se Logon Se Aur Aisa Kai Baar Hamare Dainik Jeevan Mein Bhi Hota Hai Ki Hum Kisi Ki Burayi Ko Dekhkar Uske Viruddha Uth Kar Khade Ho Jaate Hain Aur Hamari Jo Bhavna Hai Hai Acchi Wah Jag Jati Hai Aur Hum Us Burayi Ke Khilaf Ladtey Hain Hamare Purane Samay Mein Kahaavat Kahi Jati Thi Ki Paap Se Ghrina Karo Papi Se Nahi To Wahi Ki Agar Hum Apne Vyavhar Mein Laen Aur Burayi Ki Taraf Dhyan De Sir Buraiyon Ko Khatam Karne Ka Bida Uthye Burayi Karne Wale Insaan Hain Unhen Uski Itni Saja Nahi De To Jarur Hamare Desh Mein Bhi Jo Purana Pyar Sneh Aur Bhaichara Tha Wah Lautkar Aayega Kyonki Kuch Mutthi Bhar Log Hain Jo Yeh Vaimanasya Aur Yeh Saampradayikta Aur Yeh Denge Faila Rahe Hain Usamen Unka Apna Swartha Hai Lekin Agar Janta Chahe Janta Ek Ho Jaye To Wah Busy Sadbhaavana Se Bhaichare Se Aur Sneh Se Rah Sakti Hai Kyonki Burayi Chahe Kitni Bhi Badi Ho Wah Acchai Ke Samane Nahi Tick Sakti Hai Aur Aapki Jo Acche Karya Hai Wah Hamesha Aapko Upar Ki Oar Le Jaate Hain Isliye Aaj Bhi Hamare Desh Mein Insaniyat Zinda Hai Aur Iski Kai Misalen Kai Tarike Se Aapko Uske Udaharan Dekhne Ko Milenge Isliye Hume Is Par Atal Rehna Chahiye
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरियाणा के सोनीपत जिले में घटना हुई जो वाइफ थी दो लेडी थी वह कारगिल K10 की वाइफ थी और उसका बेटा उसे बहुत ही क्रिटिकल हालत में हॉस्पिटल लेकर आया और उस बेटे के मुताबिक की हॉस्पिटल में उनसे हद आधार कार्ड...
जवाब पढ़िये
हरियाणा के सोनीपत जिले में घटना हुई जो वाइफ थी दो लेडी थी वह कारगिल K10 की वाइफ थी और उसका बेटा उसे बहुत ही क्रिटिकल हालत में हॉस्पिटल लेकर आया और उस बेटे के मुताबिक की हॉस्पिटल में उनसे हद आधार कार्ड मांगा और आधार कार्ड उनके पास और ऑप्शन नहीं था तो उसने कॉपी दिखाई लेकिन हॉस्पिटल 3D ने मना कर दिया उसे एडमिट करने से पहले डी की डेथ हो गई दूसरी तरफ हॉस्पिटल कह रहा है कि ऐसा कुछ नहीं है उन्होंने ऐसा कोई आधार कार्ड वगैरह नहीं मांगा फोटो कमेंट के लिए इंपोर्टेंट होता है लेकिन उन्होंने लेकिन लड़का अपनी मां को लेकर ही नहीं आया ऐसा हॉस्पिटल वालों ने कहा अगर सच में कोई घटना हुई और आधार कार्ड की वजह से वह महिला की मृत्यु हो गई तू सच में आधार कार्ड को हंसी से जोड़ना कुछ ज्यादा ही तू बोल दे रहा है क्योंकि ऐसे अपने आप आधार कार्ड लेकर नहीं घूम सकते सिचुएशन में माने क्या फोन से अपना आधार कार्ड और तक पहुंच सकते लेकिन ऐसी जब किसी मां की तबीयत खराब और बेटा उसे ऐसे हॉस्पिटल लेकर आए तो इतनी हिम्मत नहीं होती कि आप अपना आधार कार्ड दिखा सके उस समय पर कोई गलत है पर आधार कार्ड जरूरी भी है अपनी आइडेंटिटी के लिए लेकिन इतना उसको बढ़ावा देना मेरे हिसाब से गलत है अगर वह किसी की मौत का कारण बन जाए तोHaryana Ke Sonipat Jile Mein Ghatna Hui Jo Wife Thi Do Lady Thi Wah Kargil K10 Ki Wife Thi Aur Uska Beta Use Bahut Hi Critical Halat Mein Hospital Lekar Aaya Aur Us Bete Ke Mutabik Ki Hospital Mein Unse Had Aadhar Card Manga Aur Aadhar Card Unke Paas Aur Option Nahi Tha To Usne Copy Dikhai Lekin Hospital 3D Ne Mana Kar Diya Use Admit Karne Se Pehle D Ki Death Ho Gayi Dusri Taraf Hospital Keh Raha Hai Ki Aisa Kuch Nahi Hai Unhone Aisa Koi Aadhar Card Vagairah Nahi Manga Photo Comment Ke Liye Important Hota Hai Lekin Unhone Lekin Ladka Apni Maa Ko Lekar Hi Nahi Aaya Aisa Hospital Walon Ne Kaha Agar Sach Mein Koi Ghatna Hui Aur Aadhar Card Ki Wajah Se Wah Mahila Ki Mrityu Ho Gayi Tu Sach Mein Aadhar Card Ko Hansi Se Jodna Kuch Jyada Hi Tu Bol De Raha Hai Kyonki Aise Apne Aap Aadhar Card Lekar Nahi Ghum Sakte Situation Mein Mane Kya Phone Se Apna Aadhar Card Aur Tak Pahunch Sakte Lekin Aisi Jab Kisi Maa Ki Tabiyat Kharab Aur Beta Use Aise Hospital Lekar Aaye To Itni Himmat Nahi Hoti Ki Aap Apna Aadhar Card Dikha Sake Us Samay Par Koi Galat Hai Par Aadhar Card Zaroori Bhi Hai Apni Identity Ke Liye Lekin Itna Usko Badhawa Dena Mere Hisab Se Galat Hai Agar Wah Kisi Ki Maut Ka Kaaran Ban Jaye To
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी जैसे हम जानते हैं कि हाल ही में गोरखपुर में एम्स का काम चल रहा है जिसका आना ऑपरेशन थिएटर नरेंद्र मोदी जी ने किया था इसके अलावा हमीरपुर में 1 इंच प्रस्तावित हिमाचल प्रदेश में उसका भी नौकरी सन वह...
जवाब पढ़िये
जिंदगी जैसे हम जानते हैं कि हाल ही में गोरखपुर में एम्स का काम चल रहा है जिसका आना ऑपरेशन थिएटर नरेंद्र मोदी जी ने किया था इसके अलावा हमीरपुर में 1 इंच प्रस्तावित हिमाचल प्रदेश में उसका भी नौकरी सन वही करेंगे तो हम यह नहीं कह सकते कि मोदी जी के कार्यकाल में बहुत बड़ा हॉस्पिटल है कोई विश्वविद्यालय नहीं बना ऐसा कहना बिल्कुल गलत होगा काम अभी चल रहा है देखना है आपको देखना है कि एक या दो साल में वह भी कंप्लीट हो जाएगा दूसरा की चेंज द लॉक नेचर है इंप्रुवमेंट हमेशा होता रहता है डेवलपमेंट हमेशा होता रहता है लेकिन मैं यह जरूर कहूंगा सुना इसको ना कांग्रेस रोक सकती है ना भारतीय जनता पार्टी रखी है डेवलपमेंट तो होना ही है जैसे गवर्नमेंट किसी की भी होZindagi Jaise Hum Jante Hain Ki Haal Hi Mein Gorakhpur Mein Aiims Ka Kaam Chal Raha Hai Jiska Aana Operation Theater Narendra Modi Ji Ne Kiya Tha Iske Alava Hamirpur Mein 1 Inch Prastavit Himachal Pradesh Mein Uska Bhi Naukri Sun Wahi Karenge To Hum Yeh Nahi Keh Sakte Ki Modi Ji Ke Karyakal Mein Bahut Bada Hospital Hai Koi Vishwavidyalaya Nahi Bana Aisa Kehna Bilkul Galat Hoga Kaam Abhi Chal Raha Hai Dekhna Hai Aapko Dekhna Hai Ki Ek Ya Do Saal Mein Wah Bhi Complete Ho Jayega Doosra Ki Change D Lock Nature Hai Impruvament Hamesha Hota Rehta Hai Development Hamesha Hota Rehta Hai Lekin Main Yeh Jarur Kahunga Suna Isko Na Congress Rok Sakti Hai Na Bhartiya Janta Party Rakhi Hai Development To Hona Hi Hai Jaise Government Kisi Ki Bhi Ho
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपने आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट किया है बिल्कुल आप को जॉब मिल सकती है और चाहे तो आप किसी के अंदर जॉब कर सकते थे कि पहले जॉब करने से क्या होगा क्या आपको एक्सपीरियंस आ जाती है हो सकते हैं आपके लिए भी जॉ...
जवाब पढ़िये
अगर आपने आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट किया है बिल्कुल आप को जॉब मिल सकती है और चाहे तो आप किसी के अंदर जॉब कर सकते थे कि पहले जॉब करने से क्या होगा क्या आपको एक्सपीरियंस आ जाती है हो सकते हैं आपके लिए भी जॉब प्राप्त कर सकते हैंAgar Aapne Ayurvedic Pharmacist Kiya Hai Bilkul Aap Ko Job Mil Sakti Hai Aur Chahe To Aap Kisi Ke Andar Job Kar Sakte The Ki Pehle Job Karne Se Kya Hoga Kya Aapko Experience Aa Jati Hai Ho Sakte Hain Aapke Liye Bhi Job Prapt Kar Sakte Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आगे चल कर आप की मंशा मेडिकल में जाने की है तो हां आप आकाश इंस्टिट्यूट ज्वाइन कर सकते हैं क्योंकि यह मेडिकल की तैयारी के लिए सबसे अच्छा इंस्टिट्यूट है और नींद के लिए आपको कोचिंग की जरूरत पड़ेगी...
जवाब पढ़िये
अगर आगे चल कर आप की मंशा मेडिकल में जाने की है तो हां आप आकाश इंस्टिट्यूट ज्वाइन कर सकते हैं क्योंकि यह मेडिकल की तैयारी के लिए सबसे अच्छा इंस्टिट्यूट है और नींद के लिए आपको कोचिंग की जरूरत पड़ेगीAgar Aage Chal Kar Aap Ki Mansha Medical Mein Jaane Ki Hai To Haan Aap Akash Institute Join Kar Sakte Hain Kyonki Yeh Medical Ki Taiyari Ke Liye Sabse Accha Institute Hai Aur Neend Ke Liye Aapko Coaching Ki Zaroorat Padegi
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ प्लांट्स मींस प्लीज होते हैं वह जो रात को भी ऑक्सीजन देते हैं जैसे एरिका पाम एक वह नीम ट्री जो है वह भी देता है एलोवेरा कुछ होता है घर मेरा 4 इंच होता है एक फ्लावर टाइप होता है उसका ट्री भी रात को...
जवाब पढ़िये
कुछ प्लांट्स मींस प्लीज होते हैं वह जो रात को भी ऑक्सीजन देते हैं जैसे एरिका पाम एक वह नीम ट्री जो है वह भी देता है एलोवेरा कुछ होता है घर मेरा 4 इंच होता है एक फ्लावर टाइप होता है उसका ट्री भी रात को देता है एक रामा तुलसी होती है पीपल ETV कुछ चीज है जो रात को भी ऑक्सीजन देते हैं और चीनKuch Plants Means Please Hote Hain Wah Jo Raat Ko Bhi Oxygen Dete Hain Jaise Aarika Pam Ek Wah Neem Tree Jo Hai Wah Bhi Deta Hai Aloevera Kuch Hota Hai Ghar Mera 4 Inch Hota Hai Ek Flower Type Hota Hai Uska Tree Bhi Raat Ko Deta Hai Ek Rama Tulsi Hoti Hai Pipal ETV Kuch Cheez Hai Jo Raat Ko Bhi Oxygen Dete Hain Aur Chin
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल आपकी सोच बहुत अच्छी है यहां पर राम मंदिर या मस्जिद दोनों ही बना दिया जाए क्योंकि एक ही तो बन के रह नहीं सकता अगर कोई एक बंदा तो दूसरी कम्युनिटी जो है वह विद्रोह छोड़ देगी वहां पर शांति का माहौ...
जवाब पढ़िये
बिल्कुल आपकी सोच बहुत अच्छी है यहां पर राम मंदिर या मस्जिद दोनों ही बना दिया जाए क्योंकि एक ही तो बन के रह नहीं सकता अगर कोई एक बंदा तो दूसरी कम्युनिटी जो है वह विद्रोह छोड़ देगी वहां पर शांति का माहौल ही रहेगा पूरा मंदिर या फिर मस्जिद के अलावा वहां पर जो है कि कोई हॉस्पिटल बिजनेस स्कूल विद्या कॉलेज मिर्जापुर सीट बना दिया जैसे देशवासियों का बच्चों का फायदा हो तो अगर युद्ध का फायदा होगा तो हमारे देश का फायदा होती सबसे अच्छा तरीका हैBilkul Aapki Soch Bahut Acchi Hai Yahan Par Ram Mandir Ya Masjid Dono Hi Bana Diya Jaye Kyonki Ek Hi To Ban Ke Rah Nahi Sakta Agar Koi Ek Banda To Dusri Community Jo Hai Wah Vidroh Chod Degi Wahan Par Shanti Ka Maahaul Hi Rahega Pura Mandir Ya Phir Masjid Ke Alava Wahan Par Jo Hai Ki Koi Hospital Business School Vidya College Mirzapur Seat Bana Diya Jaise Deshvasiyon Ka Bacchon Ka Fayda Ho To Agar Yudh Ka Fayda Hoga To Hamare Desh Ka Fayda Hoti Sabse Accha Tarika Hai
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बहुत ही अच्छा क्वेश्चन है कि प्राइवेट हॉस्पिटल में जो इलाज के नाम पर लूट मचा रखी है उसकी गवर्नमेंट को क्या करना चाहिए स्टार्ट करने के लिए हर हॉस्पिटल का ऑडिट करना चाहिए और हरेश देनी चाहिए हर आशिक अ...
जवाब पढ़िये
यह बहुत ही अच्छा क्वेश्चन है कि प्राइवेट हॉस्पिटल में जो इलाज के नाम पर लूट मचा रखी है उसकी गवर्नमेंट को क्या करना चाहिए स्टार्ट करने के लिए हर हॉस्पिटल का ऑडिट करना चाहिए और हरेश देनी चाहिए हर आशिक अपने खेत में चेक करना जितने भी हॉस्पिटल नर्सिंग होम के खेतों में क्या हो रहा है कि नहीं क्या लीगल है कि नहीं है अगर है तो उनकी सूची तैयार करनी चाहिए जिसको क्वार्टरली अपुन को एडिट कर आना चाहिए कितने ट्रीटमेंट वर्क इतने नाराज हुए और भी कस्टमर का बिल बन रहा है जिस परशन काबिल बन रहा है उसको कॉपी हो बताना नहीं चाहिए क्योंकि कितने बार टेस्ट करवाए कितने में आती करवाएं क्या परेशानी है इससे करने से कुछ ना कुछ तो लाभ होगा वही नहीं करेगी पूरी तरीके से लाभ मिलेगा कुछ ना कुछ राहत मिल सकती है थैंक यू
Likes  87  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे भी जुड़ प्राइवेट क्लीनिक में भी बताते हो कि वह गलतियों को दे...
जवाब पढ़िये
मुझे भी जुड़ प्राइवेट क्लीनिक में भी बताते हो कि वह गलतियों को देMujhe Bhi Jud Private Clinic Mein Bhi Batatey Ho Ki Wah Galatiyon Ko De
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
जी हां हमने कहीं जगह पर देखा है कि बहुत महंगे महंगे हॉस्पिटल कर दिए गए हैं और जो डॉक्टर से वह इलाज के नाम पर आपसे कितना भी पैसा लूट लेते हैं और कई कई जगह पर तो जो डॉक्टर सोते हैं वह बाहर से दुकानों से अपनी मेडिसिन खरीद के लाते लाते हैं और उसको आप को बेचते हैं काफी दोगुने दामों पर और आपको वह मेडिसिन खरीदनी पड़ती है क्योंकि डॉक्टर आपको लिखकर नहीं देते क्या आपको कौन-कौन सी मेडिसिन खानी चाहिए परंतु वह आपको डायरेक्ट मेडिसन देते हैं और जिसका वह दुगना चार्ज करते हैं और आपको कहीं ना कहीं वह मेडिसिन लेनी पड़ती है उनसे उतने ही दामों पर तो यह एक तरह की लूट मचा रखी है डॉक्टरों ने और मनमानी कर रखी है जो कि आप कंट्रोल होनी चाहिए नहीं तो और जो विश्वास है लोगों का वह डॉक्टरों पर से उठता चला जाएगा और जो सरकारी डॉक्टर से मिली वह काफी अच्छी चीजें करते हैं क्योंकि उनको लगता है उनकी कोई चैटिंग नहीं कर रहा है उनका कुछ किया नहीं जा सकता है तो यह चीज अब कंट्रोल करनी चाहिए और सरकार को सरकारी हॉस्पिटल और सरकारी डॉक्टरों पर स्पीच डिसिप्लिन रखJi Haan Humne Kahin Jagah Par Dekha Hai Ki Bahut Mahange Mahange Hospital Kar Diye Gaye Hain Aur Jo Doctor Se Wah Ilaj Ke Naam Par Aapse Kitna Bhi Paisa Loot Lete Hain Aur Kai Kai Jagah Par To Jo Doctor Sote Hain Wah Bahar Se Dukaano Se Apni Medicine Kharid Ke Late Late Hain Aur Usko Aap Ko Bechte Hain Kafi Dogune Daamo Par Aur Aapko Wah Medicine Kharidani Padhti Hai Kyonki Doctor Aapko Likhkar Nahi Dete Kya Aapko Kaun Kaun Si Medicine Khaani Chahiye Parantu Wah Aapko Direct Medicine Dete Hain Aur Jiska Wah Dugna Charge Karte Hain Aur Aapko Kahin Na Kahin Wah Medicine Leni Padhti Hai Unse Utne Hi Daamo Par To Yeh Ek Tarah Ki Loot Macha Rakhi Hai Daktaro Ne Aur Manmani Kar Rakhi Hai Jo Ki Aap Control Honi Chahiye Nahi To Aur Jo Vishwas Hai Logon Ka Wah Daktaro Par Se Uthata Chala Jayega Aur Jo Sarkari Doctor Se Mili Wah Kafi Acchi Cheezen Karte Hain Kyonki Unko Lagta Hai Unki Koi Chatting Nahi Kar Raha Hai Unka Kuch Kiya Nahi Ja Sakta Hai To Yeh Cheez Ab Control Karni Chahiye Aur Sarkar Ko Sarkari Hospital Aur Sarkari Daktaro Par Speech Discipline Rakh
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अभी क्या ग करंट सिचुएशन में देखा जाए तो प्राइवेट हॉस्पिटल जो है बेटर है गवर्मेंट हॉस्पिटल की कंपैरिजन में क्योंकि आपको अगर इमरजेंसी है या फिर डॉक्टर से मिलना है तो आप प्राइवेट हॉस्पिटल में जाकर ...
जवाब पढ़िये
देखिए अभी क्या ग करंट सिचुएशन में देखा जाए तो प्राइवेट हॉस्पिटल जो है बेटर है गवर्मेंट हॉस्पिटल की कंपैरिजन में क्योंकि आपको अगर इमरजेंसी है या फिर डॉक्टर से मिलना है तो आप प्राइवेट हॉस्पिटल में जाकर अपॉइंटमेंट लेकर या फिर जो है थोड़ी कम वक्त के लिए वेटिंग में रहकर डॉक्टर से मिल सकती है फिर एडमिट होना चाहते तो आप इमिजेटली एडमिट हो सकते हैं और दूसरों की फैसिलिटी हॉस्पिटल में ऐसा है कि आप एक लौंग क्यों में रहेंगे इसीलिए डॉक्टर मिलते नहीं हैं काफी सारे तो फॉर्मेलिटी 7:00 बजे तकDekhie Abhi Kya G Current Situation Mein Dekha Jaye To Private Hospital Jo Hai Better Hai Goverment Hospital Ki Kampairijan Mein Kyonki Aapko Agar Emergency Hai Ya Phir Doctor Se Milna Hai To Aap Private Hospital Mein Jaakar Appointment Lekar Ya Phir Jo Hai Thodi Kum Waqt Ke Liye Waiting Mein Rahkar Doctor Se Mil Sakti Hai Phir Admit Hona Chahte To Aap Imijetli Admit Ho Sakte Hain Aur Dusron Ki Facility Hospital Mein Aisa Hai Ki Aap Ek Long Kyun Mein Rahenge Isliye Doctor Milte Nahi Hain Kafi Sare To Formality 7:00 Baje Tak
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां बिल्कुल ही बात की जाए तो कुछ जगह पर जहां पर कुछ ब्लड बैंक में जो नेशनल बर्ड पॉलिसी है अब वह वक्त हर टाइम हर एक जो पॉलिसी है वह फॉलो नहीं होती है लेकिन हां ऐसा हर जगह नहीं पहुंच सकते कि जो पॉलिसी च...
जवाब पढ़िये
हां बिल्कुल ही बात की जाए तो कुछ जगह पर जहां पर कुछ ब्लड बैंक में जो नेशनल बर्ड पॉलिसी है अब वह वक्त हर टाइम हर एक जो पॉलिसी है वह फॉलो नहीं होती है लेकिन हां ऐसा हर जगह नहीं पहुंच सकते कि जो पॉलिसी चालू नहीं होती है आज क्योंकि वहां पर जगह सरकारी जगह की बात के लिए सरकारी ऑफिसों की बात की जाए तो वहां पर जो है वह अपने आप को इस तरह समझते हैं कि उन्हें एक बार आप को नौकरी मिल गई इससे कोई निकाल नहीं सकता सेटिंग क्या यह चीजें जो है उनके मन में हमेशा रहती है और अभी कुल तेरी भोस ब्रेवरी ऐसी चीजें है करप्शन उनका जो अभी सीख जो लोग हैं अधिकतर के बाद में कर रहा हूं ऐसे ही लोग हैं और इन चीजों से उनको कोई फर्क नहीं पड़ता तो उसे सुनने को चाहिए होता है तो आई थिंक वह चीज है जो है बसी हुई है मन में लेकिन इस चेंज हो रहा है ऐसा बात नहीं किसी से नहीं हो राजा कभी बात की जाए योगी की तो जब योगी जी जब से मुख्यमंत्री बने हैं तब से कुछ चीजें जो है काफी चेंज हो रहे हैं यह ब्लड बैंक में से एक है आज की बात कीजिए में पश्चिम एक्सप्रेसHaan Bilkul Hi Baat Ki Jaye To Kuch Jagah Par Jahan Par Kuch Blood Bank Mein Jo National Bird Policy Hai Ab Wah Waqt Har Time Har Ek Jo Policy Hai Wah Follow Nahi Hoti Hai Lekin Haan Aisa Har Jagah Nahi Pahunch Sakte Ki Jo Policy Chalu Nahi Hoti Hai Aaj Kyonki Wahan Par Jagah Sarkari Jagah Ki Baat Ke Liye Sarkari Afison Ki Baat Ki Jaye To Wahan Par Jo Hai Wah Apne Aap Ko Is Tarah Samajhte Hain Ki Unhen Ek Baar Aap Ko Naukri Mil Gayi Isse Koi Nikal Nahi Sakta Setting Kya Yeh Cheezen Jo Hai Unke Man Mein Hamesha Rehti Hai Aur Abhi Kul Teri Bhos Bravery Aisi Cheezen Hai Corruption Unka Jo Abhi Seekh Jo Log Hain Adhiktar Ke Baad Mein Kar Raha Hoon Aise Hi Log Hain Aur In Chijon Se Unko Koi Fark Nahi Padata To Use Sunane Ko Chahiye Hota Hai To Eye Think Wah Cheez Hai Jo Hai Basi Hui Hai Man Mein Lekin Is Change Ho Raha Hai Aisa Baat Nahi Kisi Se Nahi Ho Raja Kabhi Baat Ki Jaye Yogi Ki To Jab Yogi Ji Jab Se Mukhyamantri Bane Hain Tab Se Kuch Cheezen Jo Hai Kafi Change Ho Rahe Hain Yeh Blood Bank Mein Se Ek Hai Aaj Ki Baat Kijiye Mein Paschim Express
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

MP में अभी बाजार में मेल नर्स पर बैन लगा है तो बैंक बिल्कुल भी नहीं लगा है वह बांध है अभी खा गया है उनके लिए बेहतर अच्छी खबर है कि 4 साल से सरकार से मांग की जाएगी कि जो मेन नर्सों की भर्ती है उनके पर ...
जवाब पढ़िये
MP में अभी बाजार में मेल नर्स पर बैन लगा है तो बैंक बिल्कुल भी नहीं लगा है वह बांध है अभी खा गया है उनके लिए बेहतर अच्छी खबर है कि 4 साल से सरकार से मांग की जाएगी कि जो मेन नर्सों की भर्ती है उनके पर उनके पद स्वीकृत किया जाए जो कि बिल्कुल सही बात है क्योंकि हर एक फील्ड में ऐसे की बात की जाए मेल और फीमेल है तो इसमें बिलकुल मेल फीमेल हो सकते हैं तो कोई भी इसमें प्रॉब्लम नहीं होनी चाहिए क्योंकि हर एक लोग कुछ समाज निकाल दिया प्रदूषण की बात की जाए तो जहां तक हर जगह मेल फीमेल की जो मुद्दा होता है कि नहीं उनको सही से बराबर पोस्ट नहीं दिया है तो मर जाना चाहिए उसके साथ शेयर की जुबान है वह हटा दिया गया है और अब एक हरी 667 पद पर स्वीकृति मिली है मतलब भर्ती की जाएगी अभी MP में 2800MP Mein Abhi Bazar Mein Mail Nurse Par Ban Laga Hai To Bank Bilkul Bhi Nahi Laga Hai Wah Bandh Hai Abhi Kha Gaya Hai Unke Liye Behtar Acchi Khabar Hai Ki 4 Saal Se Sarkar Se Maang Ki Jayegi Ki Jo Main Naraon Ki Bharti Hai Unke Par Unke Pad Sawikrit Kiya Jaye Jo Ki Bilkul Sahi Baat Hai Kyonki Har Ek Field Mein Aise Ki Baat Ki Jaye Mail Aur Female Hai To Isme Bilkul Mail Female Ho Sakte Hain To Koi Bhi Isme Problem Nahi Honi Chahiye Kyonki Har Ek Log Kuch Samaaj Nikal Diya Pradushan Ki Baat Ki Jaye To Jahan Tak Har Jagah Mail Female Ki Jo Mudda Hota Hai Ki Nahi Unko Sahi Se Barabar Post Nahi Diya Hai To Mar Jana Chahiye Uske Saath Share Ki Jubaan Hai Wah Hata Diya Gaya Hai Aur Ab Ek Hari 667 Pad Par Swikriti Mili Hai Matlab Bharti Ki Jayegi Abhi MP Mein 2800
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सूत्रों के अनुसार गोवा की जो वर्तमान मुख्यमंत्री है मनोहर पर्रिकर उनकी तबीयत ठीक नहीं है और वह अपनी तबीयत खराब होने की वजह से इलाज के लिए गोवा से बाहर विदेश गए हुए हैं ताकि उनकी तबीयत संभाल सके लेकिन ...
जवाब पढ़िये
सूत्रों के अनुसार गोवा की जो वर्तमान मुख्यमंत्री है मनोहर पर्रिकर उनकी तबीयत ठीक नहीं है और वह अपनी तबीयत खराब होने की वजह से इलाज के लिए गोवा से बाहर विदेश गए हुए हैं ताकि उनकी तबीयत संभाल सके लेकिन एक ऐसी परिस्थितियों में अचानक ही शिवसेना की ओर से बयान आया है कि गोवा में राष्ट्रपति शासन लागू कर देना चाहिए शिवसेना जो कि बीजेपी की सहयोगी पार्टी है वहां की गोवा इकाई नहीं कहा है कि बीजेपी के जो मुख्यमंत्री है पर्रिकर उनकी अनुपस्थिति में वहां की जो बीजेपी के शासन है वह अक्षम है वहां पर कार्य करने के लिए इसलिए वहां राष्ट्रपति शासन लागू कर देना चाहिए क्योंकि पर्रिकर अभी वहां मौजूद नहीं है और जो बाकी लोग हैं वह गांव गोवा की जो शासन व्यवस्था है उसे सही से चला नहीं पा रहे हैं तोSootro Ke Anusar Goa Ki Jo Vartaman Mukhyamantri Hai Manohar Parrikar Unki Tabiyat Theek Nahi Hai Aur Wah Apni Tabiyat Kharab Hone Ki Wajah Se Ilaj Ke Liye Goa Se Bahar Videsh Gaye Hue Hain Taki Unki Tabiyat Sambhaala Sake Lekin Ek Aisi Paristhitiyon Mein Achanak Hi Shivsena Ki Oar Se Bayan Aaya Hai Ki Goa Mein Rashtrapati Shasan Laagu Kar Dena Chahiye Shivsena Jo Ki Bjp Ki Sahayogi Party Hai Wahan Ki Goa Ikai Nahi Kaha Hai Ki Bjp Ke Jo Mukhyamantri Hai Parrikar Unki Anupsthiti Mein Wahan Ki Jo Bjp Ke Shasan Hai Wah Aksham Hai Wahan Par Karya Karne Ke Liye Isliye Wahan Rashtrapati Shasan Laagu Kar Dena Chahiye Kyonki Parrikar Abhi Wahan Maujud Nahi Hai Aur Jo Baki Log Hain Wah Gav Goa Ki Jo Shasan Vyavastha Hai Use Sahi Se Chala Nahi Pa Rahe Hain To
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस दुनिया में कई प्रकार के लोग होते हैं तो भाई कोई...
जवाब पढ़िये
इस दुनिया में कई प्रकार के लोग होते हैं तो भाई कोईIs Duniya Mein Kai Prakar Ke Log Hote Hain To Bhai Koi
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एनिमल दिखा जाता सरकारी हॉस्पिटल में अगर रेबीज का इंजेक्शन जो कुत्ते काटने के बाद जो जायज होता है उसका इंजेक्शन नहीं आवे तो काम करते पहले तो आप उनसे बोल सकता क्योंकि किसी दुश्मन को जल्दी से जल्दी अवधूत...
जवाब पढ़िये
एनिमल दिखा जाता सरकारी हॉस्पिटल में अगर रेबीज का इंजेक्शन जो कुत्ते काटने के बाद जो जायज होता है उसका इंजेक्शन नहीं आवे तो काम करते पहले तो आप उनसे बोल सकता क्योंकि किसी दुश्मन को जल्दी से जल्दी अवधूत अपना सकते हैं जल्दी नहीं है तो कौन से मंगवा सकते हैं या तो जल्दी है तो आप खुद चला कर चेक करवा सकते हैंAnimal Dikha Jata Sarkari Hospital Mein Agar Rabies Ka Injection Jo Kutte Katne Ke Baad Jo Jayaj Hota Hai Uska Injection Nahi Aawe To Kaam Karte Pehle To Aap Unse Bol Sakta Kyonki Kisi Dushman Ko Jaldi Se Jaldi Avdhoot Apna Sakte Hain Jaldi Nahi Hai To Kaun Se Mangava Sakte Hain Ya To Jaldi Hai To Aap Khud Chala Kar Check Karava Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्वस्थ रहने की जो सबसे पहली डिफेक्ट वह होती है स्वस्थ माइंड लेनी है कि आप माइंड में अगर आपका माइंड स्वस्थ नहीं है तो आपका शरीर भी स्वस्थ नहीं है आप यदि माइंड को फ्रेश कैसे देखें माइंड को फ्रेश रखने के...
जवाब पढ़िये
स्वस्थ रहने की जो सबसे पहली डिफेक्ट वह होती है स्वस्थ माइंड लेनी है कि आप माइंड में अगर आपका माइंड स्वस्थ नहीं है तो आपका शरीर भी स्वस्थ नहीं है आप यदि माइंड को फ्रेश कैसे देखें माइंड को फ्रेश रखने के लिए कभी भी टेंशन बात के लिए यार बहुत सारे लोग बहुत बड़ी चिंता करने लगते तो बहुत गलत बात होती हमारे दिमाग में बहुत भारी हो जाता है तो हम अपने आप को उठाते हुए महसूस करने लगता कहीं ना कहीं थक जाता है तो माइंड को फ्रेश थोड़ी बहुत एक्सरसाइज करें और ज्यादा पैसे चाहिए ना जो कल स्टोन बनाती हैं ज्यादा वाली चीजें ना खाएंSwasth Rehne Ki Jo Sabse Pehli Difekt Wah Hoti Hai Swasth Mind Leni Hai Ki Aap Mind Mein Agar Aapka Mind Swasth Nahi Hai To Aapka Sharir Bhi Swasth Nahi Hai Aap Yadi Mind Ko Fresh Kaise Dekhen Mind Ko Fresh Rakhne Ke Liye Kabhi Bhi Tension Baat Ke Liye Yaar Bahut Sare Log Bahut Badi Chinta Karne Lagte To Bahut Galat Baat Hoti Hamare Dimag Mein Bahut Bhari Ho Jata Hai To Hum Apne Aap Ko Uthaatey Hue Mahsus Karne Lagta Kahin Na Kahin Thak Jata Hai To Mind Ko Fresh Thodi Bahut Exercise Karen Aur Jyada Paise Chahiye Na Jo Kal Stone Banati Hain Jyada Wali Cheezen Na Khayen
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी यह सही हॉस्पिटल से हमें कोई भी डॉक्टर के खिलाफ अगर आप कंप्लेंट करना चाहते हैं सही पर बात नहीं कर रहा उस गिलास में एक के वेबसाइट है जिसमें आपको बताया था www.com कंप्लेंट सेट इन वहां पर जाना है व...
जवाब पढ़िये
कोई भी यह सही हॉस्पिटल से हमें कोई भी डॉक्टर के खिलाफ अगर आप कंप्लेंट करना चाहते हैं सही पर बात नहीं कर रहा उस गिलास में एक के वेबसाइट है जिसमें आपको बताया था www.com कंप्लेंट सेट इन वहां पर जाना है वहां पर आपको एक कंप्लेंट समिति कमिंग लेट से आता है वहां पर आप कंप्लेंट अपना जो भी कंप्लेन है आपका सबमिट कर सकते हैं या टोल फ्री नंबर है टोल फ्री नंबर मैं आपको चाहता हूं अलार्म टोल फ्री नंबर 1800 242526 1800112526 कॉल कर सकते हैं कोई भी एस आई हॉस्पिटल के खिलाफ कोई भी डॉक्टर से संपर्क करना चाहते हैं तो यहां पर कर सकते हैंKoi Bhi Yeh Sahi Hospital Se Hume Koi Bhi Doctor Ke Khilaf Agar Aap Complaint Karna Chahte Hain Sahi Par Baat Nahi Kar Raha Us Gilas Mein Ek Ke Website Hai Jisme Aapko Bataya Tha Www.com Complaint Set In Wahan Par Jana Hai Wahan Par Aapko Ek Complaint Samiti Coming Let Se Aata Hai Wahan Par Aap Complaint Apna Jo Bhi Complain Hai Aapka Submit Kar Sakte Hain Ya Toll Free Number Hai Toll Free Number Main Aapko Chahta Hoon Alarm Toll Free Number 1800 242526 1800112526 Call Kar Sakte Hain Koi Bhi S Eye Hospital Ke Khilaf Koi Bhi Doctor Se Sampark Karna Chahte Hain To Yahan Par Kar Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी हां दिखे ऐसा है जहां सिक्योरिटी कंसर्न भी लिया जा सकता है और कोई रास्ता जरूर हो सकता है कि कुछ अच्छा होगा क्योंकि इतना आसानी से सिक्योरिटी आया जो है सी सी सी टीवी चैनल बंद कर देना मेरे को लगता ...
जवाब पढ़िये
हां जी हां दिखे ऐसा है जहां सिक्योरिटी कंसर्न भी लिया जा सकता है और कोई रास्ता जरूर हो सकता है कि कुछ अच्छा होगा क्योंकि इतना आसानी से सिक्योरिटी आया जो है सी सी सी टीवी चैनल बंद कर देना मेरे को लगता है कि यह जरूरी नहीं था और जरूर कोई ना कोई राज होगा इसके पीछे क्योंकि इतनी सिंपल वेदर की वजह से जो है किसी भी होटल में या किसी भी हॉस्पिटल या किसी भी पाठक जगह करो CCTV कैमरा बंद नहीं किया जा सकता है कोई जरूरी खुफिया बात रही होगी जिसकी वजह बंद किया गयाHaan Ji Haan Dikhe Aisa Hai Jahan Security Kansarn Bhi Liya Ja Sakta Hai Aur Koi Rasta Jarur Ho Sakta Hai Ki Kuch Accha Hoga Kyonki Itna Aasani Se Security Aaya Jo Hai Si Si Si Tv Channel Band Kar Dena Mere Ko Lagta Hai Ki Yeh Zaroori Nahi Tha Aur Jarur Koi Na Koi Raj Hoga Iske Piche Kyonki Itni Simple Weather Ki Wajah Se Jo Hai Kisi Bhi Hotel Mein Ya Kisi Bhi Hospital Ya Kisi Bhi Pathak Jagah Karo CCTV Camera Band Nahi Kiya Ja Sakta Hai Koi Zaroori Khufiya Baat Rahi Hogi Jiski Wajah Band Kiya Gaya
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शुभम इंडिया में गवर्नमेंट हॉस्पिटल्स में डॉक्टर की कमी बिल्कुल है लेकिन उससे ज्यादा बड़ी बात यह है कि डॉक्टर्स अवेलेबल है वह अपनी प्राप्त सबसे स्पेशल को सरकारी हॉस्पिटल में नहीं देते हैं सब बहुत पर ले...
जवाब पढ़िये
शुभम इंडिया में गवर्नमेंट हॉस्पिटल्स में डॉक्टर की कमी बिल्कुल है लेकिन उससे ज्यादा बड़ी बात यह है कि डॉक्टर्स अवेलेबल है वह अपनी प्राप्त सबसे स्पेशल को सरकारी हॉस्पिटल में नहीं देते हैं सब बहुत पर लेकर गया है कि जो सरकारी अस्पताल से डॉक्टर से हूं वहां से छोड़कर जो उन्होंने अपने प्राइवेट हॉस्पिटल्स खोले हुए हैं वहां जाकर हो पेशेंट का इलाज करते हैं और बल्कि उन्होंने अपने जो एजेंसी को छोड़े हुए सरकार हॉस्पिटल में कोई पेशेंट आता है तो वह उन्हें बोल देते कि यहां नहीं उधर प्राइवेट हॉस्पिटल में जाइए वहां इलाज होगा आपका सरकारी अस्पताल में जहां ₹5 फीस होती है ₹10 फीस होती होगी दवाई अभी अंदर मिल जाती हैं प्राइवेट हॉस्पिटल में ₹500 तो आप की कंडीशन की हो जाती है उसके अलावा बाकी साधु यादव को जानते हैं मुझे तो मिनिमम होता है अब तू डॉक्टर की कमी बिल्कुल है लेकिन जो है वही प्रॉपर्टी हो नहीं कर रहे हैं अपनी सर्विस नहीं दे रहे हैं पेशेंट को तो यह सबसे बड़ी प्रॉब्लम है और इसे दूर करने के लिए हॉस्टल रूल्स हो सकते हैं बहुत सारी संस्थाएं हो सकते जुल्का खेलोगे तो कुछ ना करेंगे अभी और भी बहुत सारी दिल्ली के सबसे इंपोर्टेंट चीज़ होगी वह होगी जो डॉक्टर खुद है वह खुद अपनी रिस्पांसिबिलिटी समझे पैसों के पीछे भागने सब कुछ नहीं होता थोड़ा लोगों के बारे में सोचेंगे तो यह खजूर फ्रांसिस है इतने सारे डॉक्टर के कम हो जाएंगेSubham India Mein Government Hospitals Mein Doctor Ki Kami Bilkul Hai Lekin Usse Jyada Badi Baat Yeh Hai Ki Doctors Available Hai Wah Apni Prapt Sabse Special Ko Sarkari Hospital Mein Nahi Dete Hain Sab Bahut Par Lekar Gaya Hai Ki Jo Sarkari Aspatal Se Doctor Se Hoon Wahan Se Chodkar Jo Unhone Apne Private Hospitals Khole Hue Hain Wahan Jaakar Ho Patient Ka Ilaj Karte Hain Aur Balki Unhone Apne Jo Agency Ko Chodde Hue Sarkar Hospital Mein Koi Patient Aata Hai To Wah Unhen Bol Dete Ki Yahan Nahi Udhar Private Hospital Mein Jaiye Wahan Ilaj Hoga Aapka Sarkari Aspatal Mein Jahan ₹5 Fees Hoti Hai ₹10 Fees Hoti Hogi Dawai Abhi Andar Mil Jati Hain Private Hospital Mein ₹500 To Aap Ki Condition Ki Ho Jati Hai Uske Alava Baki Sadhu Yadav Ko Jante Hain Mujhe To Minimum Hota Hai Ab Tu Doctor Ki Kami Bilkul Hai Lekin Jo Hai Wahi Property Ho Nahi Kar Rahe Hain Apni Service Nahi De Rahe Hain Patient Ko To Yeh Sabse Badi Problem Hai Aur Ise Dur Karne Ke Liye Hostel Rules Ho Sakte Hain Bahut Saree Sansthae Ho Sakte Julka Kheloge To Kuch Na Karenge Abhi Aur Bhi Bahut Saree Delhi Ke Sabse Important Cheese Hogi Wah Hogi Jo Doctor Khud Hai Wah Khud Apni Responsibility Samjhe Paison Ke Piche Bhagne Sab Kuch Nahi Hota Thoda Logon Ke Baare Mein Sochenge To Yeh Khajur Francis Hai Itne Sare Doctor Ke Kum Ho Jaenge
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिख जाए तो भारत में काफी सारे जो आंखों के डॉक्टर हैं आई सर्जरी हॉस्पिटल आई हॉस्पिटल आई हॉस्पिटल शंकर आई हॉस्पिटल सेंटर ऑफ UP tight आदित्य ज्योति आई हॉस्पिटल आवर्धन एवं आवर्धन आपका आज ऐसा क्या पता कि आ...
जवाब पढ़िये
दिख जाए तो भारत में काफी सारे जो आंखों के डॉक्टर हैं आई सर्जरी हॉस्पिटल आई हॉस्पिटल आई हॉस्पिटल शंकर आई हॉस्पिटल सेंटर ऑफ UP tight आदित्य ज्योति आई हॉस्पिटल आवर्धन एवं आवर्धन आपका आज ऐसा क्या पता कि आपके आंख खराब हो चुके तब से बहुत ही बड़ा ऑफिसDikh Jaye To Bharat Mein Kafi Sare Jo Aakhon Ke Doctor Hain Eye Surgery Hospital Eye Hospital Eye Hospital Shankar Eye Hospital Center Of UP Tight Aditya Jyoti Eye Hospital Avardhan Evam Avardhan Aapka Aaj Aisa Kya Pata Ki Aapke Aankh Kharab Ho Chuke Tab Se Bahut Hi Bada Office
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे सरकार ने नई 24 हॉस्पिटल हॉस्पिटल थी उस पर हर एक चीज जो है टाइम पर अवेलेबल करवाती दवाइयां डॉक्टर हर एक सुख सुख सुख सुविधाएं होती है एक हॉस्पिटल में एक प्राइवेट हॉस्पिटल में बिल्कुल एकदम में अवेलेब...
जवाब पढ़िये
मेरे सरकार ने नई 24 हॉस्पिटल हॉस्पिटल थी उस पर हर एक चीज जो है टाइम पर अवेलेबल करवाती दवाइयां डॉक्टर हर एक सुख सुख सुख सुविधाएं होती है एक हॉस्पिटल में एक प्राइवेट हॉस्पिटल में बिल्कुल एकदम में अवेलेबल करवाती हो सकता था कि हम नहीं नहीं हॉस्पिटल बताते जाएंगे पर उसमें कोई भी सुविधाएं अवेलेबल नहीं होती आदमी अगर आप किसी गवर्मेंट हॉस्पिटल में जाते हैं तो देखेंगे कि कहां पर दवाइयां नहीं भेजा पर डॉक्टर नहीं है कहां पर नहीं है किधर गायब है दवाइयां बहुत कुछ ज्योति है सरकारी हॉस्पिटल में अवेलेबल नहीं होती है जान तुझे लोग हैं अपने आप को आशीष महसूस करते प्राइवेट हॉस्पिटल में पर जो मध्यम वर्ग के लोगों से जो बहुत ही गरीब लोगों से उनके लिए जो जो भी एक साधन होते हैं वह सरकारी हॉस्पिटल होता है तुम्हारी सबसे गवर्नमेंट को जो है सरकारी हॉस्पिटल में हॉस्पिटल में सुविधाएं बढ़ाने पर ध्यान देना चाहिए नहीं कि सरकारी हॉस्पिटल हॉस्पिटल में नया-नया बनाने पर ध्यान देना चाहिएMere Sarkar Ne Nayi 24 Hospital Hospital Thi Us Par Har Ek Cheez Jo Hai Time Par Available Karwati Davaaiyaan Doctor Har Ek Sukh Sukh Sukh Suvidhayen Hoti Hai Ek Hospital Mein Ek Private Hospital Mein Bilkul Ekdam Mein Available Karwati Ho Sakta Tha Ki Hum Nahi Nahi Hospital Batatey Jaenge Par Usamen Koi Bhi Suvidhayen Available Nahi Hoti Aadmi Agar Aap Kisi Goverment Hospital Mein Jaate Hain To Dekhenge Ki Kahan Par Davaaiyaan Nahi Bheja Par Doctor Nahi Hai Kahan Par Nahi Hai Kidhar Gayab Hai Davaaiyaan Bahut Kuch Jyoti Hai Sarkari Hospital Mein Available Nahi Hoti Hai Jaan Tujhe Log Hain Apne Aap Ko Aashish Mahsus Karte Private Hospital Mein Par Jo Madhyam Varg Ke Logon Se Jo Bahut Hi Garib Logon Se Unke Liye Jo Jo Bhi Ek Sadhan Hote Hain Wah Sarkari Hospital Hota Hai Tumhari Sabse Government Ko Jo Hai Sarkari Hospital Mein Hospital Mein Suvidhayen Badhane Par Dhyan Dena Chahiye Nahi Ki Sarkari Hospital Hospital Mein Naya Naya Banane Par Dhyan Dena Chahiye
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में दुख पहुंचा रे पैसा खर्च किया जा रहा हॉस्पिटल्स पर लेकिन इलाज नहीं हो पाए क्योंकि गवर्नमेंट हॉस्पिटल्स की प्रस्तुति जरूर सलूशन सही नहीं है और वहां पर बहुत सी चीज है जो कि अगर सही दिशा को प्रभा...
जवाब पढ़िये
भारत में दुख पहुंचा रे पैसा खर्च किया जा रहा हॉस्पिटल्स पर लेकिन इलाज नहीं हो पाए क्योंकि गवर्नमेंट हॉस्पिटल्स की प्रस्तुति जरूर सलूशन सही नहीं है और वहां पर बहुत सी चीज है जो कि अगर सही दिशा को प्रभावित करने से आपके पास ईएसआई कार्ड है आपने कोई भी हेल्थ इंश्योरेंस करा रखा है तो वजह से होता है उसका पैसा नहीं लगता है इलाज है जो कि गरीबों के लिए फ्री में बहुत सारा हॉस्पिटल जाकर फ्री इलाज होता है तो वहां पर जा सकता है एक हॉस्पिटल में इलाज नहीं होता है वह अपने को भी हेल्थ इंश्योरेंस करा रखा तो उसमें काफी मदद मिलती हैBharat Mein Dukh Pahuncha Ray Paisa Kharch Kiya Ja Raha Hospitals Par Lekin Ilaj Nahi Ho Paye Kyonki Government Hospitals Ki Prastuti Jarur Salution Sahi Nahi Hai Aur Wahan Par Bahut Si Cheez Hai Jo Ki Agar Sahi Disha Ko Prabhavit Karne Se Aapke Paas Iesaai Card Hai Aapne Koi Bhi Health Insurance Kra Rakha Hai To Wajah Se Hota Hai Uska Paisa Nahi Lagta Hai Ilaj Hai Jo Ki Garibon Ke Liye Free Mein Bahut Saara Hospital Jaakar Free Ilaj Hota Hai To Wahan Par Ja Sakta Hai Ek Hospital Mein Ilaj Nahi Hota Hai Wah Apne Ko Bhi Health Insurance Kra Rakha To Usamen Kafi Madad Milti Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon