चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नौकरी लगने के बाद अगर आपको ही पता होगा बिना मेहनत के कोई भी नौकरी तो है नहीं मिलती है तो मैं जॉब करना चाहते हैं कोई भी छोटी कंपनी हो या कोई भी बड़ी कंपनी हो तो आपको मेहनत करना होगा मतलब आपकी कंपनी की ...
जवाब पढ़िये
नौकरी लगने के बाद अगर आपको ही पता होगा बिना मेहनत के कोई भी नौकरी तो है नहीं मिलती है तो मैं जॉब करना चाहते हैं कोई भी छोटी कंपनी हो या कोई भी बड़ी कंपनी हो तो आपको मेहनत करना होगा मतलब आपकी कंपनी की रिक्वायरमेंट है उसके उत्तर आपके पास दिल होना चाहिए सर्टिफिकेशन औषधि पेड़ के लिए आपको मेहनत करना पड़ेगी शाम के लिए कोई पास कर पाएंगे आप तो मेहनत करेंगे तभी आप अच्छी कंपनी में जॉब पा सकते हैंNaukri Lagne Ke Baad Agar Aapko Hi Pata Hoga Bina Mehnat Ke Koi Bhi Naukri To Hai Nahi Milti Hai To Main Job Karna Chahte Hain Koi Bhi Choti Company Ho Ya Koi Bhi Badi Company Ho To Aapko Mehnat Karna Hoga Matlab Aapki Company Ki Requirement Hai Uske Uttar Aapke Paas Dil Hona Chahiye Certification Aushadhi Ped Ke Liye Aapko Mehnat Karna Padegi Shaam Ke Liye Koi Paas Kar Paenge Aap To Mehnat Karenge Tabhi Aap Acchi Company Mein Job Pa Sakte Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे गोल्ड जो वैल्यू होती है वह डिटेल माइंड होती है लंडन बिलियन मार्केट में वहां पर डिसाइड होती है...
जवाब पढ़िये
मुझे गोल्ड जो वैल्यू होती है वह डिटेल माइंड होती है लंडन बिलियन मार्केट में वहां पर डिसाइड होती हैMujhe Gold Jo Value Hoti Hai Wah Detail Mind Hoti Hai London Billion Market Mein Wahan Par Decide Hoti Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अयोध्या में ठंड के मौसम में मूर्तियों की रक्षा के लिए हीटर लगाया गया है मुझे नहीं लगता है कि यह सही है देखिए मैं भगवान में श्रद्धा रखती हूं लेकिन अंधभक्त नहीं हूं हो सकता है मोतियों के रखरखाव के लिए ग...
जवाब पढ़िये
अयोध्या में ठंड के मौसम में मूर्तियों की रक्षा के लिए हीटर लगाया गया है मुझे नहीं लगता है कि यह सही है देखिए मैं भगवान में श्रद्धा रखती हूं लेकिन अंधभक्त नहीं हूं हो सकता है मोतियों के रखरखाव के लिए गर्मी की जरूरत हो लेकिन उसके लिए जो परंपरागत तरीके काम में लिए जा रहे थे वह सही थे क्योंकि ईश्वर के उन बंदूक को ठंड से बचाने की ज्यादा जरूरत है जिनके पास कोई संसाधन नहीं है और अगर यह मंदिर में पूजा करने वाले भक्तों या पुजारियों के लिए लगवाया है तो आप ही सोचिए यह कैसे सही हो सकता है जबकि गरीब और असहाय कई लोग कड़ाके की ठंड से ठिठुर रहे हैं बीमार हो रहे हैं उन्हें इसकी ज्यादा जरूरत हैAyodhya Mein Thand Ke Mausam Mein Murtiyon Ki Raksha Ke Liye Heater Lagaya Gaya Hai Mujhe Nahi Lagta Hai Ki Yeh Sahi Hai Dekhie Main Bhagwan Mein Shraddha Rakhti Hoon Lekin Andhbhakt Nahi Hoon Ho Sakta Hai Motiyon Ke Rakharakhav Ke Liye Garmi Ki Zaroorat Ho Lekin Uske Liye Jo Paramparagat Tarike Kaam Mein Liye Ja Rahe The Wah Sahi The Kyonki Ishwar Ke Un Bandook Ko Thand Se Bachane Ki Jyada Zaroorat Hai Jinke Paas Koi Sansadhan Nahi Hai Aur Agar Yeh Mandir Mein Puja Karne Wale Bhakton Ya Pujariyon Ke Liye Lagwaaya Hai To Aap Hi Sochie Yeh Kaise Sahi Ho Sakta Hai Jabki Garib Aur Asahay Kai Log Kadake Ki Thand Se Thithur Rahe Hain Bimar Ho Rahe Hain Unhen Iski Jyada Zaroorat Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखे भगवान होते हैं या नहीं होते हैं इसका वैज्ञानिक तौर पर तो आज तक कोई भी स्पष्ट सबूत नहीं मिला है लेकिन यदि मैं समय के तौर पर कहूं या हम कहें कि वह जब से मानव जाति शुरू हुई है तब से भगवान हम किसे मा...
जवाब पढ़िये
दिखे भगवान होते हैं या नहीं होते हैं इसका वैज्ञानिक तौर पर तो आज तक कोई भी स्पष्ट सबूत नहीं मिला है लेकिन यदि मैं समय के तौर पर कहूं या हम कहें कि वह जब से मानव जाति शुरू हुई है तब से भगवान हम किसे मानते हैं हमने उस व्यक्ति को भगवान का दर्जा दिया है जिसने हमें बनाया है हम नहीं जानते कि भगवान कहां रहते हैं यह तो केवल हमारी सोच में है हमने उस व्यक्ति को भगवान माना है जिसने सारी सृष्टि का निर्माण से आए हैं हमारी मानवता की सोच क्या है हम यह सोचते हैं कि जिसने सृष्टि का निर्माण किया है जिसने पूरी धरती को बनाया है यह हम सभी को बनाया है वह एक भगवान है जिसने हमें जन्म दिया है वह एक भगवान है तो पर्सनल तौर पर भगवान केवल मनुष्य की सोच में है यदि मैं वैज्ञानिक तौर पर कहा कि हम धार्मिक तौर पर पर हैं तो फिर हमें अलग धर्मों में कई सारे देवी देवता मिल जाएंगे खासकर हिंदू धर्म में हमें कहीं सहदेवी भी मिल जाएंगे कि भगवान है नहीं है यह एक मानव की सोच पर निर्भर है मानव क्या सोचता है अगर हम देखें तो मानव की सोच यह है कि भगवान होते हैं क्योंकि उसने हमें बनाया है और अब हम अब देखी की विज्ञान की सोच रहे थे विज्ञान कहता कि भगवान का आज तक को स्पष्ट वजूद नहीं मिला है और वह इसलिए कहता है क्योंकि विज्ञान सबूतों पर विश्वास करता है धारणा बनी और भगवान तो केवल मनुष्य धारणा है जैसे विज्ञान का मानना है कि भगवान है या नहीं है इस पर कोई स्पष्टीकरण नहीं आता इसका कोई स्पष्ट सबूत अब तक नहीं मिला हैDikhe Bhagwan Hote Hain Ya Nahi Hote Hain Iska Vaigyanik Taur Par To Aaj Tak Koi Bhi Spasht Sabut Nahi Mila Hai Lekin Yadi Main Samay Ke Taur Par Kahun Ya Hum Kahen Ki Wah Jab Se Manav Jati Shuru Hui Hai Tab Se Bhagwan Hum Kise Manate Hain Humne Us Vyakti Ko Bhagwan Ka Darja Diya Hai Jisne Hume Banaya Hai Hum Nahi Jante Ki Bhagwan Kahan Rehte Hain Yeh To Kewal Hamari Soch Mein Hai Humne Us Vyakti Ko Bhagwan Mana Hai Jisne Saree Shrishti Ka Nirman Se Aaye Hain Hamari Manavta Ki Soch Kya Hai Hum Yeh Sochte Hain Ki Jisne Shrishti Ka Nirman Kiya Hai Jisne Puri Dharti Ko Banaya Hai Yeh Hum Sabhi Ko Banaya Hai Wah Ek Bhagwan Hai Jisne Hume Janm Diya Hai Wah Ek Bhagwan Hai To Personal Taur Par Bhagwan Kewal Manushya Ki Soch Mein Hai Yadi Main Vaigyanik Taur Par Kaha Ki Hum Dharmik Taur Par Par Hain To Phir Hume Alag Dharmon Mein Kai Sare Devi Devta Mil Jaenge Khaskar Hindu Dharm Mein Hume Kahin Sahdevi Bhi Mil Jaenge Ki Bhagwan Hai Nahi Hai Yeh Ek Manav Ki Soch Par Nirbhar Hai Manav Kya Sochta Hai Agar Hum Dekhen To Manav Ki Soch Yeh Hai Ki Bhagwan Hote Hain Kyonki Usne Hume Banaya Hai Aur Ab Hum Ab Dekhi Ki Vigyan Ki Soch Rahe The Vigyan Kahata Ki Bhagwan Ka Aaj Tak Ko Spasht Vajud Nahi Mila Hai Aur Wah Isliye Kahata Hai Kyonki Vigyan Sabooton Par Vishwas Karta Hai Dharan Bani Aur Bhagwan To Kewal Manushya Dharan Hai Jaise Vigyan Ka Manana Hai Ki Bhagwan Hai Ya Nahi Hai Is Par Koi Spashteekaran Nahi Aata Iska Koi Spasht Sabut Ab Tak Nahi Mila Hai
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

होली फेस्टिवल देखा जाए तो होली फेस्टिवल जो है भारत का बहुत ही प्रसिद्ध फेस्टिवल है उस दिन जो है हमारी दोस्त भी दुश्मन से गले मिलते हैं और साथ ही साथ एक दूसरे को रंग लगाते बहुत ही पुरानी चली आ रही है क...
जवाब पढ़िये
होली फेस्टिवल देखा जाए तो होली फेस्टिवल जो है भारत का बहुत ही प्रसिद्ध फेस्टिवल है उस दिन जो है हमारी दोस्त भी दुश्मन से गले मिलते हैं और साथ ही साथ एक दूसरे को रंग लगाते बहुत ही पुरानी चली आ रही है क्या ख्याल है जिसमें कि प्रह्लाद का जो कहानी बताएं क्या वह बिल्कुल है सही तो अपने बताया कि अब जा को जलाया जाता है वह सही है या नहीं हां बिल्कुल सही है उसके बहुत सारे हमारे यहां जो चीज होती जाती है और तो चेंज कर सकते हैंHoli Festival Dekha Jaye To Holi Festival Jo Hai Bharat Ka Bahut Hi Prasiddh Festival Hai Us Din Jo Hai Hamari Dost Bhi Dushman Se Gale Milte Hain Aur Saath Hi Saath Ek Dusre Ko Rang Lagate Bahut Hi Purani Chali Aa Rahi Hai Kya Khayal Hai Jisme Ki Prahlad Ka Jo Kahani Bataen Kya Wah Bilkul Hai Sahi To Apne Bataya Ki Ab Ja Ko Jalaaya Jata Hai Wah Sahi Hai Ya Nahi Haan Bilkul Sahi Hai Uske Bahut Sare Hamare Yahan Jo Cheez Hoti Jati Hai Aur To Change Kar Sakte Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदू धर्म की मान्यता के हिसाब से अभी जो भी है कि जैसे ही कलियुग का समय खत्म होगा तो दुनिया भी खत्म हो जाएगा और कलयुग में ही दुनिया खत्म हो गई और इसके बाद ही फिर से दूसरा जो सतयुग बोलना चाहता है वह फि...
जवाब पढ़िये
हिंदू धर्म की मान्यता के हिसाब से अभी जो भी है कि जैसे ही कलियुग का समय खत्म होगा तो दुनिया भी खत्म हो जाएगा और कलयुग में ही दुनिया खत्म हो गई और इसके बाद ही फिर से दूसरा जो सतयुग बोलना चाहता है वह फिर से रिपीट होगा तो अभी मान्यता यह है कि जो भगवान विष्णु का जो अवतार है वह कलयुग में एक भगवान विष्णु का दसवीं अवतार जब भगवान विष्णु ने अभी तक 9 अवतार ले चुके हैं और अभी दसवीं अवतार जाना और जिसका नाम कल्कि अवतार है तो भगवान विष्णु जब कल्कि अवतार लेकर आएंगे और वही दुनिया को सब जो जो भी होगा तो दुनिया खत्म हो जाएगीHindu Dharm Ki Manyata Ke Hisab Se Abhi Jo Bhi Hai Ki Jaise Hi Kaliyug Ka Samay Khatam Hoga To Duniya Bhi Khatam Ho Jayega Aur Kalyug Mein Hi Duniya Khatam Ho Gayi Aur Iske Baad Hi Phir Se Doosra Jo Satayug Bolna Chahta Hai Wah Phir Se Repeat Hoga To Abhi Manyata Yeh Hai Ki Jo Bhagwan Vishnu Ka Jo Avatar Hai Wah Kalyug Mein Ek Bhagwan Vishnu Ka Dasavi Avatar Jab Bhagwan Vishnu Ne Abhi Tak 9 Avatar Le Chuke Hain Aur Abhi Dasavi Avatar Jana Aur Jiska Naam Kalki Avatar Hai To Bhagwan Vishnu Jab Kalki Avatar Lekar Aayenge Aur Wahi Duniya Ko Sab Jo Jo Bhi Hoga To Duniya Khatam Ho Jayegi
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से जो भाग्य होता है वह आपके ऊपर जो कंट्री आप क्या कर रहे हैं कि उसके ऊपर टोटली डिपेंड करता है जैसे कि आप जो भी चीज करते हैं स्विच ऑफ है उसके हिसाब से डिसाइड होता है तो एक चीज बहुत सारे होते...
जवाब पढ़िये
मेरे हिसाब से जो भाग्य होता है वह आपके ऊपर जो कंट्री आप क्या कर रहे हैं कि उसके ऊपर टोटली डिपेंड करता है जैसे कि आप जो भी चीज करते हैं स्विच ऑफ है उसके हिसाब से डिसाइड होता है तो एक चीज बहुत सारे होते हैं क्या भाग पहले से बना हुआ है लेकिन मेरे हिसाब से जितना आप कर्म करेंगे वही उसी वजह से भाग्य पाएंगेMere Hisab Se Jo Bhagya Hota Hai Wah Aapke Upar Jo Country Aap Kya Kar Rahe Hain Ki Uske Upar Totally Depend Karta Hai Jaise Ki Aap Jo Bhi Cheez Karte Hain Switch Of Hai Uske Hisab Se Decide Hota Hai To Ek Cheez Bahut Sare Hote Hain Kya Bhag Pehle Se Bana Hua Hai Lekin Mere Hisab Se Jitna Aap Karm Karenge Wahi Ussi Wajah Se Bhagya Paenge
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी आज पृथ्वी पर जितने भी लोग हैं आप किसी को भी पूछ लीजिए क्या आप ने भगवान को देखा है तो आपको क्या लगता है क्या जवाब मिलेगा भली वो किसी भी धर्म के हो जवाब मिलेगा कि नहीं किसने भगवान को देखने नहीं देखा ...
जवाब पढ़िये
जी आज पृथ्वी पर जितने भी लोग हैं आप किसी को भी पूछ लीजिए क्या आप ने भगवान को देखा है तो आपको क्या लगता है क्या जवाब मिलेगा भली वो किसी भी धर्म के हो जवाब मिलेगा कि नहीं किसने भगवान को देखने नहीं देखा तो फिर यह मान लेते ना कि भगवान नहीं है फिर इसमें ब्रिकी वाली कोई बात ही नहीं है भाई अगर मैंने भगवान को देखा होता तो मैं बोलता हां देखा है लेकिन किसी ने देखा नहीं है क्या किसी के एक्सपीरियंस में भगवान आए हैं पता नहीं नहीं चंचल बहुत कम है क्या किसी ने किसी रूप में भगवान का कोई चमत्कार देखा है कि उसकी लाइफ में कुछ चमत्कार हुए हैं जो कि कल्पना से बाहर है आंसर आएगा हां अगर ध्यान से देखे तो हर इंसान की लाइफ में कुछ न कुछ कभी नहीं कभी ऐसा जरूर हुआ होगा जो उसे लगा होगा कि यह मैं बच कैसे गया यह ऐसे कैसे हो गया मेरी फीवर में कैसे हो गया मैंने कभी सोचा नहीं था कल्पना नहीं किया था होता है ना तो अगर यह चीज हो रही है और फिर भी अगर आपने भगवान में को नहीं देखा तो क्या हम मान लेने में कोई खराबी है अब क्यों मान लेने में खराबी है या नहीं है लेकिन यह पूरी सृष्टि जो आपको देखती है जो भी कुछ देखती हैं आप मैं नेचर प्रकृति जीव जंतु पेड़ पौधे यह एटमॉस्फेयर एंड वार्निंग यह सब अपने आप ऑटोमेटिक के लिए इतनी सोफिस्टिकेटेड बढ़िया चीज तो आ नहीं सकती कहीं ना कहीं किसी ने तो इसको क्रिएट किया होगा बस वही तो क्रिएटर है उसको आप किसी भी नाम से बुला लीजिए भगवान बोली से हल्ला बोल दीजिए कुछ भी बोली थी गॉड बोली थी तो कोई ना कोई तो है ना जिसने कुछ क्रिएट किया है तो हम उसको तो मान सकते ना कि कोई एक बड़ी शक्ति है जिसने क्रिएट किया है बस इतना काफी हैG Aaj Prithvi Par Jitne Bhi Log Hain Aap Kisi Ko Bhi Pooch Lijiye Kya Aap Ne Bhagwan Ko Dekha Hai To Aapko Kya Lagta Hai Kya Jawab Milega Bhali Vo Kisi Bhi Dharm Ke Ho Jawab Milega Ki Nahi Kisne Bhagwan Ko Dekhne Nahi Dekha To Phir Yeh Maan Lete Na Ki Bhagwan Nahi Hai Phir Isme Briki Wali Koi Baat Hi Nahi Hai Bhai Agar Maine Bhagwan Ko Dekha Hota To Main Bolta Haan Dekha Hai Lekin Kisi Ne Dekha Nahi Hai Kya Kisi Ke Experience Mein Bhagwan Aaye Hain Pata Nahi Nahi Chanchal Bahut Kam Hai Kya Kisi Ne Kisi Roop Mein Bhagwan Ka Koi Chamatkar Dekha Hai Ki Uski Life Mein Kuch Chamatkar Huye Hain Jo Ki Kalpana Se Bahar Hai Answer Aaega Haan Agar Dhyan Se Dekhe To Har Insaan Ki Life Mein Kuch N Kuch Kabhi Nahi Kabhi Aisa Jarur Hua Hoga Jo Use Laga Hoga Ki Yeh Main Bach Kaise Gaya Yeh Aise Kaise Ho Gaya Meri Fever Mein Kaise Ho Gaya Maine Kabhi Socha Nahi Tha Kalpana Nahi Kiya Tha Hota Hai Na To Agar Yeh Cheez Ho Rahi Hai Aur Phir Bhi Agar Aapne Bhagwan Mein Ko Nahi Dekha To Kya Hum Maan Lene Mein Koi Kharabi Hai Ab Kyon Maan Lene Mein Kharabi Hai Ya Nahi Hai Lekin Yeh Puri Shrishti Jo Aapko Dekhti Hai Jo Bhi Kuch Dekhti Hain Aap Main Nature Prakriti Jeev Jantu Ped Paudhe Yeh Etamasfeyar End Warning Yeh Sab Apne Aap Automatic Ke Liye Itni Sofistiketed Badhiya Cheez To Aa Nahi Sakti Kahin Na Kahin Kisi Ne To Isko Create Kiya Hoga Bus Wahi To Creator Hai Usko Aap Kisi Bhi Naam Se Bula Lijiye Bhagwan Boli Se Halla Bol Dijiye Kuch Bhi Boli Thi God Boli Thi To Koi Na Koi To Hai Na Jisne Kuch Create Kiya Hai To Hum Usko To Maan Sakte Na Ki Koi Ek Badi Shakti Hai Jisne Create Kiya Hai Bus Itna Kafi Hai
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देसी एक धार्मिक स्थानों पर ऑफ हेमंत हैं हम चाहते हैं देव दर्शन के लिए वहां पर हमें सिर्फ मन की शांति प्राप्त होती है एंड कि हम वहां आस्था से ज्यादा हमारी किस चीज में आस्था होती है और हम उस चीज से मिल ...
जवाब पढ़िये
देसी एक धार्मिक स्थानों पर ऑफ हेमंत हैं हम चाहते हैं देव दर्शन के लिए वहां पर हमें सिर्फ मन की शांति प्राप्त होती है एंड कि हम वहां आस्था से ज्यादा हमारी किस चीज में आस्था होती है और हम उस चीज से मिल लेते हैं उससे कुछ समय उसके साथ बिता लेते हैं तो हमारा मन बहुत अच्छा हुआ क्या मेरा तो यही मानना है जब भी हम धार्मिक स्थलों पर जाते हैं तो हमारे मन को बहुत अच्छी सी पूजा मिल जाती है कुछ करने की जज्बा समझ जाता है कि हां या कोई हमारे साथ है कोई भी व्यक्ति वहां किसी काम से आता है और क्योंकि भगवान में उसकी आस्था है तो वह जाता है और जब दर्शन करके आता है तब उसके मन में एक आस्था से जागृत हो जाती है कि भगवान मेरे साथ हैं और पीने का सहारा बनेंगे विश्वास है कि नहीं पाऊंगा तू बस इसी आस्था के लिए इसी मन की शांति के लिए लोग देवदर्शन जाते हैं और उन्हें एक अच्छी सी यानी बहुत खुशी आत्मविश्वास और नए करणी कुछ भी करने का जज्बा मिल जाता है किसी भी चीज से लड़ने का जज्बा मिल जाता है उनमेंDesi Ek Dharmik Sthanon Par Of Hemant Hain Hum Chahte Hain Dev Darshan Ke Liye Wahan Par Hume Sirf Man Ki Shanti Prapt Hoti Hai End Ki Hum Wahan Aastha Se Jyada Hamari Kis Cheez Mein Aastha Hoti Hai Aur Hum Us Cheez Se Mil Lete Hain Usse Kuch Samay Uske Saath Bita Lete Hain To Hamara Man Bahut Accha Hua Kya Mera To Yahi Manana Hai Jab Bhi Hum Dharmik Sthalon Par Jaate Hain To Hamare Man Ko Bahut Acchi Si Puja Mil Jati Hai Kuch Karne Ki Jajba Samajh Jata Hai Ki Haan Ya Koi Hamare Saath Hai Koi Bhi Vyakti Wahan Kisi Kaam Se Aata Hai Aur Kyonki Bhagwan Mein Uski Aastha Hai To Wah Jata Hai Aur Jab Darshan Karke Aata Hai Tab Uske Man Mein Ek Aastha Se Jaagarrit Ho Jati Hai Ki Bhagwan Mere Saath Hain Aur Peene Ka Sahara Banenge Vishwas Hai Ki Nahi Paunga Tu Bus Isi Aastha Ke Liye Isi Man Ki Shanti Ke Liye Log Devdarshan Jaate Hain Aur Unhen Ek Acchi Si Yani Bahut Khushi Aatmvishvaas Aur Naye Karni Kuch Bhi Karne Ka Jajba Mil Jata Hai Kisi Bhi Cheez Se Ladane Ka Jajba Mil Jata Hai Unmen
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

83 दिन की बात की जाए तो मेरे लिए आज का दिन बहुत ही अच्छा है क्योंकि आज के दिन मैं जब कोचिंग में था तब मुझे कुछ ऐसी एक्टिविटी करने को मिली जिससे सभी लोग खुश हुई है तो इससे मैं कह सकता हूं सभी ने मेरी ब...
जवाब पढ़िये
83 दिन की बात की जाए तो मेरे लिए आज का दिन बहुत ही अच्छा है क्योंकि आज के दिन मैं जब कोचिंग में था तब मुझे कुछ ऐसी एक्टिविटी करने को मिली जिससे सभी लोग खुश हुई है तो इससे मैं कह सकता हूं सभी ने मेरी बहुत तारीफ की तो मेरे हिसाब से आज का दिन मेरे लिए बहुत अच्छा83 Din Ki Baat Ki Jaye To Mere Liye Aaj Ka Din Bahut Hi Accha Hai Kyonki Aaj Ke Din Main Jab Coaching Mein Tha Tab Mujhe Kuch Aisi Activity Karne Ko Mili Jisse Sabhi Log Khush Hui Hai To Isse Main Keh Sakta Hoon Sabhi Ne Meri Bahut Tarif Ki To Mere Hisab Se Aaj Ka Din Mere Liye Bahut Accha
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा नहीं है कि भगवान आपके बारे में कुछ नहीं सोचेगा अगर आप सब की हेल्प कर रहे हो कुछ कर रहे हो क्या कर रहे हो तो यही है कि भगवान भी एक न एक दिन तो आपके बारे में जरूर सोचेगा जो आपको चाहिए जो सफलता चाहिए...
जवाब पढ़िये
ऐसा नहीं है कि भगवान आपके बारे में कुछ नहीं सोचेगा अगर आप सब की हेल्प कर रहे हो कुछ कर रहे हो क्या कर रहे हो तो यही है कि भगवान भी एक न एक दिन तो आपके बारे में जरूर सोचेगा जो आपको चाहिए जो सफलता चाहिए जरूर मिलेगी आपको एक ना एक दिन यह नहीं है कि मतलब आज आप हल कर रहे हो कल भगवान से मांगना सेट कर दोगे तो थोड़ा टाइम लगेगा आप हिम्मत नहीं आ रहा करते रहो सब की हेल्प करते रहो एक न एक दिन ऐसा आएगा तो आपको जरूर मिलेगी सफलताAisa Nahi Hai Ki Bhagwan Aapke Baare Mein Kuch Nahi Sochega Agar Aap Sab Ki Help Kar Rahe Ho Kuch Kar Rahe Ho Kya Kar Rahe Ho To Yahi Hai Ki Bhagwan Bhi Ek N Ek Din To Aapke Baare Mein Jarur Sochega Jo Aapko Chahiye Jo Safalta Chahiye Jarur Milegi Aapko Ek Na Ek Din Yeh Nahi Hai Ki Matlab Aaj Aap Hal Kar Rahe Ho Kal Bhagwan Se Mangana Set Kar Doge To Thoda Time Lagega Aap Himmat Nahi Aa Raha Karte Raho Sab Ki Help Karte Raho Ek N Ek Din Aisa Aayega To Aapko Jarur Milegi Safalta
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon
देखी आपने बहुत सारा ज्ञान सो सो सो नहीं लिए होंगे पर मैं आपको एक साइट पर काम शुरू बता रही हूं जो साइंस स्टूडेंट्स पर जो बिलीव करते हैं ज्यादातर कि जब किसी इंसान की मृत्यु होती है तो उसका दिल होता है उसके जितने भी और गंज होते हैं मैं सारे काम करना बंद कर देते हैं तो जैसे मूवमेंट आपका दिल काम करना बंद कर देता है उसे हम रिसीव उस चीज को उस समय को मृत्यु घोषित कर देते हैं और मृत्यु के बाद जो इंसान होते हैं उनकी बॉडी को अलग-अलग धर्म में अलग अलग तरीके से रखा जाता है कुछ लोगों को तो मुस्लिम होते हैं उनके दफनाया जाता है हिंदुओं के अंदर जलाया जाता है क्रिश्चन से अलग-अलग धर्म के लोग अलग-अलग चीजें करते हैं और ऐसे ही अलग अलग धर्म के लोग होते हैं उनके अलग-अलग मान्यता होते हैं कुछ लोग यह कहते हैं कि मृत्यु होने के बाद जब पूरी दुनिया खत्म हो जाएगी तब लोग जो मरे हुए लोग हैं वह बाहर निकलेंगे और वह जिंदा हो जाएंगे और कुछ लोग यह कहते हैं कि उनकी जो आत्मा होती है वैसे अभी से निकल जाती हैDekhi Aapne Bahut Saara Gyaan So So So Nahi Liye Honge Par Main Aapko Ek Site Par Kaam Shuru Bata Rahi Hoon Jo Science Students Par Jo Believe Karte Hain Jyadatar Ki Jab Kisi Insaan Ki Mrityu Hoti Hai To Uska Dil Hota Hai Uske Jitne Bhi Aur Ganj Hote Hain Main Sare Kaam Karna Band Kar Dete Hain To Jaise Movement Aapka Dil Kaam Karna Band Kar Deta Hai Use Hum Receive Us Cheez Ko Us Samay Ko Mrityu Ghoshit Kar Dete Hain Aur Mrityu Ke Baad Jo Insaan Hote Hain Unki Body Ko Alag Alag Dharm Mein Alag Alag Tarike Se Rakha Jata Hai Kuch Logon Ko To Muslim Hote Hain Unke Dafnaya Jata Hai Hinduon Ke Andar Jalaaya Jata Hai Krishchan Se Alag Alag Dharm Ke Log Alag Alag Cheezen Karte Hain Aur Aise Hi Alag Alag Dharm Ke Log Hote Hain Unke Alag Alag Manyata Hote Hain Kuch Log Yeh Kehte Hain Ki Mrityu Hone Ke Baad Jab Puri Duniya Khatam Ho Jayegi Tab Log Jo Mare Hue Log Hain Wah Bahar Nikalenge Aur Wah Zinda Ho Jaenge Aur Kuch Log Yeh Kehte Hain Ki Unki Jo Aatma Hoti Hai Waise Abhi Se Nikal Jati Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं जी हां जो बाबा जयगुरुदेव है वह जिंदा नहीं है उचित नहीं है उनकी मृत्यु हो चुकी है पहले थैंक यू...
जवाब पढ़िये
नहीं जी हां जो बाबा जयगुरुदेव है वह जिंदा नहीं है उचित नहीं है उनकी मृत्यु हो चुकी है पहले थैंक यूNahi Ji Haan Jo Baba Jaigurudev Hai Wah Zinda Nahi Hai Uchit Nahi Hai Unki Mrityu Ho Chuki Hai Pehle Thank You
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी सर सबका अपना-अपना ओपिनियन है मैं सिर्फ कारण पर बिलीव करता हूं ना कि ज्योतिषशास्त्र पर आपको तो पता ही है जो अच्छे अगर आप कर्म करते हैं तो अच्छा ही फल मिलेगा और ज्योतिषशास्त्र सिर्फ आदमी को लग पर छ...
जवाब पढ़िये
देखी सर सबका अपना-अपना ओपिनियन है मैं सिर्फ कारण पर बिलीव करता हूं ना कि ज्योतिषशास्त्र पर आपको तो पता ही है जो अच्छे अगर आप कर्म करते हैं तो अच्छा ही फल मिलेगा और ज्योतिषशास्त्र सिर्फ आदमी को लग पर छोड़ता है और ऐसा मेरा मानना है कि ज्योतिषशास्त्र से आदमी की बुद्धि में बढ़ोतरी नहीं होती बल्कि उसकी बुद्धि कम हो जाती है वह फालतू की स्पेशल बाद में सोचता है और वही करता है तो मुझे लगता है अगर आप अच्छे कर्म करेंगे तो अच्छा होगा बुरे कर्म करेगा तो बुरा होगा थैंक यूDekhi Sar Sabka Apna Apna Opiniyan Hai Main Sirf Kaaran Par Believe Karta Hoon Na Ki Jyotishashastra Par Aapko To Pata Hi Hai Jo Acche Agar Aap Karm Karte Hain To Accha Hi Fal Milega Aur Jyotishashastra Sirf Aadmi Ko Lag Par Chodta Hai Aur Aisa Mera Manana Hai Ki Jyotishashastra Se Aadmi Ki Buddhi Mein Badhotari Nahi Hoti Balki Uski Buddhi Kum Ho Jati Hai Wah Faltu Ki Special Baad Mein Sochta Hai Aur Wahi Karta Hai To Mujhe Lagta Hai Agar Aap Acche Karm Karenge To Accha Hoga Bure Karm Karega To Bura Hoga Thank You
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महाभारत में जब अर्जुन का कारण के साथ युद्ध चल रहा होता है तो उस समय यहां कृष्ण भगवान को वृष्टि के नाम से भी बोला गया है और रश्मि एक का यादव वंश का उपजाति है और इस वजह से हम कृष्ण का भगवान कृष्ण का पूर...
जवाब पढ़िये
महाभारत में जब अर्जुन का कारण के साथ युद्ध चल रहा होता है तो उस समय यहां कृष्ण भगवान को वृष्टि के नाम से भी बोला गया है और रश्मि एक का यादव वंश का उपजाति है और इस वजह से हम कृष्ण का भगवान कृष्ण का पूरा नाम कृष्णा वृष्णि बोल सकते हैंMahabharat Mein Jab Arjun Ka Kaaran Ke Saath Yudh Chal Raha Hota Hai To Us Samay Yahan Krishan Bhagwan Ko Vristi Ke Naam Se Bhi Bola Gaya Hai Aur Rashmi Ek Ka Yadav Vansh Ka Upajaati Hai Aur Is Wajah Se Hum Krishan Ka Bhagwan Krishan Ka Pura Naam Krishna Vrishni Bol Sakte Hain
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिवलिंग जो भगवान शिव का प्रतीक थे इसके कारण इसकी पूजा की जाती है क्योंकि हिंदू और धर्म के अनुसार से शिवलिंग को भगवान शिव माना जाता है...
जवाब पढ़िये
शिवलिंग जो भगवान शिव का प्रतीक थे इसके कारण इसकी पूजा की जाती है क्योंकि हिंदू और धर्म के अनुसार से शिवलिंग को भगवान शिव माना जाता हैShivling Jo Bhagwan Shiv Ka Pratik The Iske Kaaran Iski Puja Ki Jati Hai Kyonki Hindu Aur Dharm Ke Anusar Se Shivling Ko Bhagwan Shiv Mana Jata Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम्या रामचंद्र प्राचीन भारत में अवतरित भगवान है यह तो शहर में जाम विष्णु के 10 अवतारों में से सातवें अवतार है राम का जीवन काल एवं पराक्रम महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित संस्कृत महाकाव्य रामायण के रूप मे...
जवाब पढ़िये
राम्या रामचंद्र प्राचीन भारत में अवतरित भगवान है यह तो शहर में जाम विष्णु के 10 अवतारों में से सातवें अवतार है राम का जीवन काल एवं पराक्रम महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित संस्कृत महाकाव्य रामायण के रूप में लिखा गया है उन पर तुलसीदास में भी भक्ति काव्य श्रीरामचरितमानस रचा था खासतौर पर उत्तर भारत में राम बहुत अधिक पूजनीय है और हिंदुओं के आदर्श पुरुष राम अयोध्या के राजा दशरथ और रानी कौशल्या के सबसे बड़े पुत्र थे राम की पत्नी का नाम सीता था जो लक्ष्मी किया जो लक्ष्मी जी का अवतार थे और इनके तीन भाई थे लक्ष्मण भरत और शत्रुघ्न हनुमान भगवान राम के सबसे बड़े भक्त माने जाते हैं राम ने राक्षस जाति के लंका के राजा रावण का वध कियाRamya Ramachandra Prachin Bharat Mein Avtarit Bhagwan Hai Yeh To Sheher Mein Jam Vishnu Ke 10 Avataron Mein Se Satave Avatar Hai Ram Ka Jeevan Kaal Evam Parakram Maharshi Valmiki Dwara Rachit Sanskrit Mahakavya Ramayana Ke Roop Mein Likha Gaya Hai Un Par Tulsidas Mein Bhi Bhakti Kavya Shriramacharitmanas Racha Tha Khaastaur Par Uttar Bharat Mein Ram Bahut Adhik Pujaniya Hai Aur Hinduon Ke Adarsh Purush Ram Ayodhya Ke Raja Dashrath Aur Rani Kaushalya Ke Sabse Bade Putra The Ram Ki Patni Ka Naam Sita Tha Jo Laxmi Kiya Jo Laxmi Ji Ka Avatar The Aur Inke Teen Bhai The Laxman Bharat Aur Shatrughan Hanuman Bhagwan Ram Ke Sabse Bade Bhakt Mane Jaate Hain Ram Ne Rakshas Jati Ke Lanka Ke Raja Ravan Ka Vadh Kiya
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप 786 लिखा हुआ नोट अगर बेचना चाहते हैं उसके लिए आपके पास ऑप्शन से गौशाला जिससे कि आप उसका फोटो खींचकर आप जो अकाउंट वेबसाइट होती से Flipkart हैं वहां पर डाल सकते हैं उसके बाद अगर आपके पास कोई बाहर...
जवाब पढ़िये
अगर आप 786 लिखा हुआ नोट अगर बेचना चाहते हैं उसके लिए आपके पास ऑप्शन से गौशाला जिससे कि आप उसका फोटो खींचकर आप जो अकाउंट वेबसाइट होती से Flipkart हैं वहां पर डाल सकते हैं उसके बाद अगर आपके पास कोई बाहर है तो वह जाकर आपके OLX भी साइट से वहां पर भी डाल सकते हैं तो वह जो खरीदने वाले हैं इंटरेस्टेड हैं वह आपको कांटेक्ट कर लेंगे उसके सर आपका इसने को शिव शंकर सेट अप चेक कर सकते हैं ऑनलाइन कितना प्राइस होता है उसकाAgar Aap 786 Likha Hua Note Agar Bechna Chahte Hain Uske Liye Aapke Paas Option Se Gaushala Jisse Ki Aap Uska Photo Khinchakar Aap Jo Account Website Hoti Se Flipkart Hain Wahan Par Dal Sakte Hain Uske Baad Agar Aapke Paas Koi Bahar Hai To Wah Jaakar Aapke OLX Bhi Site Se Wahan Par Bhi Dal Sakte Hain To Wah Jo Kharidne Wale Hain Interested Hain Wah Aapko Contact Kar Lenge Uske Sar Aapka Isane Ko Shiv Shankar Set Up Check Kar Sakte Hain Online Kitna Price Hota Hai Uska
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मनुष्य मनुष्य से होता है ईश्वर को हर जगह ढूंढता है मंत्रों के मंदिरों में मस्जिदों में बुधवार है इसमें हर जगह ढूंढता है...
जवाब पढ़िये
मनुष्य मनुष्य से होता है ईश्वर को हर जगह ढूंढता है मंत्रों के मंदिरों में मस्जिदों में बुधवार है इसमें हर जगह ढूंढता हैManushya Manushya Se Hota Hai Ishwar Ko Har Jagah Dhundhta Hai Mantron Ke Mandiro Mein Masjidon Mein Budhavar Hai Isme Har Jagah Dhundhta Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखे अलग-अलग लोग उनके अलग अलग विचारधारा और सोच के हिसाब से वह सोचते हैं मानते हैं कि भगवान है या नहीं है मैं तुझसे ऐसे देखता हूं अगर क्रिएटिविटी है तो क्रिएटर है अगर रचना दिखती है तो उसका कोई ना कोई र...
जवाब पढ़िये
दिखे अलग-अलग लोग उनके अलग अलग विचारधारा और सोच के हिसाब से वह सोचते हैं मानते हैं कि भगवान है या नहीं है मैं तुझसे ऐसे देखता हूं अगर क्रिएटिविटी है तो क्रिएटर है अगर रचना दिखती है तो उसका कोई ना कोई रचनाकार तो होगा ही होगा यह सृष्टि अगर मुझे देखती है तो इस सृष्टि को बनाने वाला कोई ना कोई तो होगा वही मेरे लिए मेरे लिए क्रिएटर है भाई बहुत बड़ी ऊर्जा और शक्ति है सवाल आता है कि जब भगवान है तो फिर लोग इतना बात क्यों करते हैं जैसा है भगवान ने जो सृष्टि बनाई है उसमें इंसान को बनाया और हम यहां किसकी बात करें इंसान की बात कौन करता है इंसान करते हैं क्योंकि इंसान की बात करते हैं जो पाप करते हैं अब इंसान ऐसा क्यों करता है दीदी खिचड़ी बनी तो यह जो इंसान बना इस इंसान को बहुत सुप्री माना गया है मनुष्य को मनुष्य जीवन को एस योनि को उनके नाम इसमें जो मनुष्य है उसके पास एक दिमाग है उसके पास एक अपील करने की क्षमता है और कार्य करने की कैपेबिलिटी हैं अब जब यह सारी चीजें एक इंसान में होती है सोच होती है कर सकता है वह आविर्भाव होता है सब कुछ होता है तो उसके पास फ्री विल बी है कि मतलब जैसा चाहे जो चाहे वह कर सकता है ना होता क्या है कि जब उसको फीमेल मिल गया तो उसका उपयोग करता है और क्या होता है कि अगर वह किसी एरिया में अमान्य स्कूल में कॉलेज में है ऑफिस में है प्रोफेसर ने इधर-उधर है तू उसको कई नियम कायदे रूल्स गाइडलाइन फॉलो करने होते हैं अगर वह नहीं करता तो वहां पर तो उसको पनिशमेंट मिल सकती है उसको बोला जा सकते हैं लेकिन हर जगह जरूरी नहीं कि गुफा को कायदा कानून फॉलो करें और ऐसा भी नहीं होता कि भगवान में बैठे हुए उसको पनिश कर देंगे तो वह क्या करते रहते हैं उसको जो सही लगता है वह करते हैं और अकादमी के अकाउंट बनता जाता हैDikhe Alag Alag Log Unke Alag Alag Vichardhara Aur Soch Ke Hisab Se Wah Sochte Hain Manate Hain Ki Bhagwan Hai Ya Nahi Hai Main Tujhse Aise Dekhta Hoon Agar Creativity Hai To Creator Hai Agar Rachna Dikhti Hai To Uska Koi Na Koi Rachnakar To Hoga Hi Hoga Yeh Shrishti Agar Mujhe Dekhti Hai To Is Shrishti Ko Banane Vala Koi Na Koi To Hoga Wahi Mere Liye Mere Liye Creator Hai Bhai Bahut Badi Urja Aur Shakti Hai Sawal Aata Hai Ki Jab Bhagwan Hai To Phir Log Itna Baat Kyon Karte Hain Jaisa Hai Bhagwan Ne Jo Shrishti Banai Hai Usamen Insaan Ko Banaya Aur Hum Yahan Kiski Baat Karen Insaan Ki Baat Kaon Karta Hai Insaan Karte Hain Kyonki Insaan Ki Baat Karte Hain Jo Paap Karte Hain Ab Insaan Aisa Kyon Karta Hai Didi Khichdi Bani To Yeh Jo Insaan Bana Is Insaan Ko Bahut Supri Mana Gaya Hai Manushya Ko Manushya Jeevan Ko S Yoni Ko Unke Naam Isme Jo Manushya Hai Uske Paas Ek Dimag Hai Uske Paas Ek Appeal Karne Ki Kshamta Hai Aur Karya Karne Ki Capability Hain Ab Jab Yeh Saree Cheezen Ek Insaan Mein Hoti Hai Soch Hoti Hai Kar Sakta Hai Wah Avirbhaav Hota Hai Sab Kuch Hota Hai To Uske Paas Free Will Be Hai Ki Matlab Jaisa Chahe Jo Chahe Wah Kar Sakta Hai Na Hota Kya Hai Ki Jab Usko Female Mil Gaya To Uska Upyog Karta Hai Aur Kya Hota Hai Ki Agar Wah Kisi Area Mein Amanya School Mein College Mein Hai Office Mein Hai Professor Ne Idhar Udhar Hai Tu Usko Kai Niyam Kayade Rules Guideline Follow Karne Hote Hain Agar Wah Nahi Karta To Wahan Par To Usko Punishment Mil Sakti Hai Usko Bola Ja Sakte Hain Lekin Har Jagah Zaroori Nahi Ki Gufa Ko Kayada Kanoon Follow Karen Aur Aisa Bhi Nahi Hota Ki Bhagwan Mein Baithey Huye Usko Punish Kar Denge To Wah Kya Karte Rehte Hain Usko Jo Sahi Lagta Hai Wah Karte Hain Aur Academy Ke Account Banta Jata Hai
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आत्मा आत्मा परमात्मा का अंश है छोटे शब्दों में आपने आपने आपने को मानव शरीर नहीं है शरीर पर कपड़ा हम आत्माएं अगर हम आत्मा ना होते तो आंखे भाई इस शरीर से ऐसा क्या चला जाता है कि जो कल हमे चाट रहे हो तो ...
जवाब पढ़िये
आत्मा आत्मा परमात्मा का अंश है छोटे शब्दों में आपने आपने आपने को मानव शरीर नहीं है शरीर पर कपड़ा हम आत्माएं अगर हम आत्मा ना होते तो आंखे भाई इस शरीर से ऐसा क्या चला जाता है कि जो कल हमे चाट रहे हो तो हम जलाने पर उतारू है हमें भगाने को होता है तू क्या कर दो हाथ दो पैर 72 आंखें कहानियां फिल्म Khuda उधर सब कुछ तो है फिर क्या गया जो कल तक हमें चाहते फिर याद दिलाना सेक्शन सोचो वही है आती तो परमात्मा को जानने के लिए जय श्री राम धन धन सतगुरु तेराAtma Atma Paramatma Ka Ansh Hai Chhote Shabdon Mein Aapne Aapne Aapne Co Manav Sharir Nahin Hai Sharir Per Kapada Hum Atmaen Agar Hum Atma Na Hote To Ankhe Bhai Is Sharir Se Aisa Kya Challa Jaata Hai Qi Joe Kal Hume Chaat Rahe Ho To Hum Jalaane Per Utaru Hai Human Bhagane Co Hota Hai Tu Kya Car Though Hatha Though Paer 72 Aakhein Kahaniyan Film Khuda Udhar Sub Kuch To Hai Phir Kya Gaya Joe Kal Tak Human Chahte Phir Youth Dilana Section Socho Whey Hai Auti To Paramatma Co Janne K Lie Jai Shree Ram Dhan Dhan Satguru Tera
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon