tag_img

Difference


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मार्केटिंग और सैनिक बहुत हद तक एक पर्यायवाची शब्द की तरह परंतु फिर भी इंदौर में बहुत ज्यादा डिफरेंस है यदि देखेंगे तो मैं मार्केटिंग का मीन जो निकलेगा वह निकले मार्केटिंग मेंस होता है ग्राहकों की आवश्...
जवाब पढ़िये
मार्केटिंग और सैनिक बहुत हद तक एक पर्यायवाची शब्द की तरह परंतु फिर भी इंदौर में बहुत ज्यादा डिफरेंस है यदि देखेंगे तो मैं मार्केटिंग का मीन जो निकलेगा वह निकले मार्केटिंग मेंस होता है ग्राहकों की आवश्यकता का अनुमान लगा कर और उसी के अनुसार उत्पादन करना और फिर लाखों पर क्या करना संतुष्टि प्रदान करना और जहां तक सेलिंग का मतलब निकलेगा यह कि जो शेयरिंग होता है उसका भी प्यार होता है वस्तुओं और सेवाओं को ग्राहकों को बेचने से उसका मतलब सिर्फ सेल करने सदाशिव बेचने से होता है और ऑब्जेक्टिव देखेंगे तो मार्केटिंग का जो अब व्यक्तिव होता है वही होता है कि ग्राहकों को क्या करना संतुष्टि प्रदान कर के लाभ अर्जित करना निगम को सेटिस्फेक्शन देना कस्टमर और जो सीलिंग होता है उसका भी नहीं होता है कि सिर्फ ज्यादा से ज्यादा हम को क्या करना है शेर करना है से ज्यादा ज्यादा हमको सेवाओं और वस्तुओं को सर्विसेज अंगूर स्कोर भेजना है ठीक है इसको इसको इसको फिर देखेंगे तो यह देखेंगे कि इसका जो मार्केटिंग का जिसको पता है बहुत ही ज्यादा ब्रॉड होता है जो कि जो सिली होता है उसका स्कोर थोड़ा सीमित होता थोड़ा कम होता है ठीक है यह जो इसका स्टार्टिंग जो है वह जब हम विचार कागजों में सोचते हैं कि हमें क्या करना है गुड्स को प्रोड्यूस करना है वही सिसका स्टार्ट हो जाता है जो कि जो सीलिंग होता है उसका प्रारंभ वहां से होता है जब उत्पादन हो जाता है गुटखा जब मुझको मार्केट में लगे तब सेटिंग का प्रारंभ होता है और जो मार्केटिंग होता है उसका इन होता है तब जब ग्राहक क्या हो जाए बहुत ही ज्यादा संतुष्ट हो जाए जब उनको सेटिस्फेक्शन मिल जाता है तब उसका क्या होता है इन दो बता दो कि जो शेर ही होता है उसका उसका सेल के बाद होता है गुड के सिर के बाद से लिंग का होता है यह जो होता है मार्केटिंग वह क्या है मॉडल एक मॉडर्न कांसेप्ट है जबकि वह यह मार्केटिंग जो है वह मॉडर्न कांसेप्ट है और सेटिंग है वह मॉडर्न कांसेप्ट नहीं हैMarketing Aur Sainik Bahut Had Tak Ek Paryayvachi Shabdh Ki Tarah Parantu Phir Bhi Indore Mein Bahut Jyada Difference Hai Yadi Dekhenge To Main Marketing Ka Mean Jo Niklega Wah Nikale Marketing Mains Hota Hai Grahakon Ki Avashyakta Ka Anumaan Laga Kar Aur Ussi Ke Anusar Utpadan Karna Aur Phir Laakhon Par Kya Karna Santushti Pradan Karna Aur Jahan Tak Selling Ka Matlab Niklega Yeh Ki Jo Sharing Hota Hai Uska Bhi Pyar Hota Hai Vastuon Aur Sewaon Ko Grahakon Ko Bechne Se Uska Matlab Sirf Cell Karne Sadashiv Bechne Se Hota Hai Aur Objective Dekhenge To Marketing Ka Jo Ab Vyaktiv Hota Hai Wahi Hota Hai Ki Grahakon Ko Kya Karna Santushti Pradan Kar Ke Labh Arjit Karna Nigam Ko Setisfekshan Dena Customer Aur Jo Ceiling Hota Hai Uska Bhi Nahi Hota Hai Ki Sirf Jyada Se Jyada Hum Ko Kya Karna Hai Sher Karna Hai Se Jyada Jyada Hamko Sewaon Aur Vastuon Ko Services Angoor Score Bhejna Hai Theek Hai Isko Isko Isko Phir Dekhenge To Yeh Dekhenge Ki Iska Jo Marketing Ka Jisko Pata Hai Bahut Hi Jyada Broad Hota Hai Jo Ki Jo Silly Hota Hai Uska Score Thoda Simith Hota Thoda Kum Hota Hai Theek Hai Yeh Jo Iska Starting Jo Hai Wah Jab Hum Vichar Kagajon Mein Sochte Hain Ki Hume Kya Karna Hai Goods Ko Produce Karna Hai Wahi Siska Start Ho Jata Hai Jo Ki Jo Ceiling Hota Hai Uska Prarambh Wahan Se Hota Hai Jab Utpadan Ho Jata Hai Gutkha Jab Mujhko Market Mein Lage Tab Setting Ka Prarambh Hota Hai Aur Jo Marketing Hota Hai Uska In Hota Hai Tab Jab Grahak Kya Ho Jaye Bahut Hi Jyada Santusht Ho Jaye Jab Unko Setisfekshan Mil Jata Hai Tab Uska Kya Hota Hai In Do Bata Do Ki Jo Sher Hi Hota Hai Uska Uska Cell Ke Baad Hota Hai Good Ke Sir Ke Baad Se Ling Ka Hota Hai Yeh Jo Hota Hai Marketing Wah Kya Hai Model Ek Modern Concept Hai Jabki Wah Yeh Marketing Jo Hai Wah Modern Concept Hai Aur Setting Hai Wah Modern Concept Nahi Hai
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के पहले प्यार हो सच्चे प्यार में बहुत अंतर होता है पहला प्यार जब आपको फर्स्ट टाइम किसी से लाभ होता है चाहे वह लव एट फर्स्ट साइट हो या किसी से जो है बेइंतहा मोहब्बत हो आपको और सच्चा प्यार वह होता ...
जवाब पढ़िये
शादी के पहले प्यार हो सच्चे प्यार में बहुत अंतर होता है पहला प्यार जब आपको फर्स्ट टाइम किसी से लाभ होता है चाहे वह लव एट फर्स्ट साइट हो या किसी से जो है बेइंतहा मोहब्बत हो आपको और सच्चा प्यार वह होता है अगर आपको पहला प्यार में जो है वह सच्चा प्यार हो सकता है और सच्चा प्यार में भी आपको पहला प्यार हो सकता है और सच्चा प्यार बहुत है जो आप दिनों दिन जो प्यार है आपका वह पढ़ता जाए और आपको फिर भी ना हो और आपको एक खुद के अकेले के लिए मतलब चल 55 आप में ना बचे और आप जो है अपने और अपने साथी के बारे में सोचने लगे वह जो है मुझे लगता है सच्चा प्यार होता है और जैसे कि मैंने कहा कि पहले प्यार में भी आपको सच्चा प्यार हो सकता है सच्चा प्यार भी आपका पहला प्यार हो सकता हैShadi Ke Pehle Pyar Ho Sacche Pyar Mein Bahut Antar Hota Hai Pehla Pyar Jab Aapko First Time Kisi Se Labh Hota Hai Chahe Wah Love Eight First Site Ho Ya Kisi Se Jo Hai Beintehaa Mohabbat Ho Aapko Aur Saccha Pyar Wah Hota Hai Agar Aapko Pehla Pyar Mein Jo Hai Wah Saccha Pyar Ho Sakta Hai Aur Saccha Pyar Mein Bhi Aapko Pehla Pyar Ho Sakta Hai Aur Saccha Pyar Bahut Hai Jo Aap Dinon Din Jo Pyar Hai Aapka Wah Padhata Jaye Aur Aapko Phir Bhi Na Ho Aur Aapko Ek Khud Ke Akele Ke Liye Matlab Chal 55 Aap Mein Na Bache Aur Aap Jo Hai Apne Aur Apne Sathi Ke Bare Mein Sochne Lage Wah Jo Hai Mujhe Lagta Hai Saccha Pyar Hota Hai Aur Jaise Ki Maine Kaha Ki Pehle Pyar Mein Bhi Aapko Saccha Pyar Ho Sakta Hai Saccha Pyar Bhi Aapka Pehla Pyar Ho Sakta Hai
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए किसी को प्यार करने में और किसी को पसंद करने में बहुत ज्यादा अंतर होता है बेसिकली जब आप किसी से प्यार करते हो तब उनकी खुशी पहले जाते हो आप उनके बारे में ज्यादा सोचते हो अपने से ज्यादा आप उनके बार...
जवाब पढ़िये
देखिए किसी को प्यार करने में और किसी को पसंद करने में बहुत ज्यादा अंतर होता है बेसिकली जब आप किसी से प्यार करते हो तब उनकी खुशी पहले जाते हो आप उनके बारे में ज्यादा सोचते हो अपने से ज्यादा आप उनके बारे में यह सोच लो कि अगला जो पोस्ट मैंने तुमसे प्यार करते हो वह किसी से हो ना हो जाए भले ही आप कितना मर्जी हो तो हो तो उनके कारण आप जितने मर्जी स्टार जलन के कारण उनके फेस पर हमेशा स्माइल देखना चाहते हैं जबकि पसंद करने में शायद यह चीजें नहीं होती है क्योंकि पसंद करना लेकिन बहुत कम टाइम के लिए होता है तो पहली बार तो प्यार हमेशा पूरी लाइफ आप उनसे प्यार करते हो पसंद कर ले अगर आप किसी को पसंद करते हो तो WhatsApp टाइम के लिए होता है कि लाइफ कुछ महीने या कुछ साल पहले करना अगर आप किसी से प्यार करते हो तो मैं उम्र भर रहता हैDekhie Kisi Ko Pyar Karne Mein Aur Kisi Ko Pasand Karne Mein Bahut Jyada Antar Hota Hai Basically Jab Aap Kisi Se Pyar Karte Ho Tab Unki Khushi Pehle Jaate Ho Aap Unke Baare Mein Jyada Sochte Ho Apne Se Jyada Aap Unke Baare Mein Yeh Soch Lo Ki Agla Jo Post Maine Tumse Pyar Karte Ho Wah Kisi Se Ho Na Ho Jaye Bhale Hi Aap Kitna Marji Ho To Ho To Unke Kaaran Aap Jitne Marji Star Jalan Ke Kaaran Unke Face Par Hamesha Smile Dekhna Chahte Hain Jabki Pasand Karne Mein Shayad Yeh Cheezen Nahi Hoti Hai Kyonki Pasand Karna Lekin Bahut Kum Time Ke Liye Hota Hai To Pehli Baar To Pyar Hamesha Puri Life Aap Unse Pyar Karte Ho Pasand Kar Le Agar Aap Kisi Ko Pasand Karte Ho To WhatsApp Time Ke Liye Hota Hai Ki Life Kuch Mahine Ya Kuch Saal Pehle Karna Agar Aap Kisi Se Pyar Karte Ho To Main Umar Bhar Rehta Hai
Likes  32  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बहुत ही अच्छा सवाल उठाया है उज्जैन तो जेल होता है सजा तो सजा होती है चाहे आम आदमी बिकते चाहे कोई नेता बुगती चाय पिया एक भी बकते चाहे कोई भी बिल्कुल सही स्थिति है क्योंकि होता क्या है जब सजा का ऐल...
जवाब पढ़िये
आपने बहुत ही अच्छा सवाल उठाया है उज्जैन तो जेल होता है सजा तो सजा होती है चाहे आम आदमी बिकते चाहे कोई नेता बुगती चाय पिया एक भी बकते चाहे कोई भी बिल्कुल सही स्थिति है क्योंकि होता क्या है जब सजा का ऐलान हुआ है तुम्हें उस चीज के लिए हुआ है या नहीं आपने कोई गलत काम किया है यानी कोई आप ने अपराध किया और आम आदमी हो चाहे कोई नेता या कोई अभिनेताओं अपराध सबके लिए बराबर होता है उसने भी मर्डर किया उसने भी मर्डर के उसने भी घोटाला किसने भी घोटाला किया यह बिल्कुल गलत चीज है कि यदि उन्हें एक्स्ट्रा सुविधाएं प्राप्त हो रही जेल के जेल के बजाय लग्जरी रूम्स बना दिया गया है जहां पर उन्हें कोई भी कमी महसूस नहीं हो रही है उनके रहने के लिए प्रॉपर चीज है रेंज की गई है उनके साथ VIP ट्रीटमेंट हो रहा है यह हमारी नजर कानून व्यवस्था का एक मुख्य तौर पर उदाहरण है कि उन्हें एक्स्ट्रा सुविधाएं दी जा रही है सबसे पहले तो यह प्रश्न किया जाना चाहिए कि उन्होंने ऐसे क्या काम किए हैं जिसकी वजह से 100 सुविधाएं मिल रही है उन्होंने आखिरकार अपराध किया है जिसके इसकी सजा भुगत रहे हैं और हर अपराधी एक नजर का होता है कानून के तौर पर क्योंकि यदि वह कि वह VIP ट्रीटमेंट डिजर्व करता तो वह इस अपराध को करने से पहले डरता तो यह लचर व्यवस्था है कानून की इसके खिलाफ कड़ा एक्शन होना चाहिए बहुत चर्चा होनी चाहिए और सुप्रीम कोर्ट को इसमें हस्तक्षेप करना चाहिएAapne Bahut Hi Accha Sawal Uthaya Hai Ujjain To Jail Hota Hai Saja To Saja Hoti Hai Chahe Aam Aadmi Bikate Chahe Koi Neta Bugti Chai Piya Ek Bhi Bakate Chahe Koi Bhi Bilkul Sahi Sthiti Hai Kyonki Hota Kya Hai Jab Saja Ka Elan Hua Hai Tumhein Us Cheez Ke Liye Hua Hai Ya Nahi Aapne Koi Galat Kaam Kiya Hai Yani Koi Aap Ne Apradh Kiya Aur Aam Aadmi Ho Chahe Koi Neta Ya Koi Abhinetao Apradh Sabke Liye Barabar Hota Hai Usne Bhi Murder Kiya Usne Bhi Murder Ke Usne Bhi Ghotala Kisne Bhi Ghotala Kiya Yeh Bilkul Galat Cheez Hai Ki Yadi Unhen Extra Suvidhayen Prapt Ho Rahi Jail Ke Jail Ke Bajay Luxury Rooms Bana Diya Gaya Hai Jahan Par Unhen Koi Bhi Kami Mahsus Nahi Ho Rahi Hai Unke Rehne Ke Liye Proper Cheez Hai Range Ki Gayi Hai Unke Saath VIP Treatment Ho Raha Hai Yeh Hamari Nazar Kanoon Vyavastha Ka Ek Mukhya Taur Par Udaharan Hai Ki Unhen Extra Suvidhayen Di Ja Rahi Hai Sabse Pehle To Yeh Prashna Kiya Jana Chahiye Ki Unhone Aise Kya Kaam Kiye Hain Jiski Wajah Se 100 Suvidhayen Mil Rahi Hai Unhone Aakhirkaar Apradh Kiya Hai Jiske Iski Saja Bhugat Rahe Hain Aur Har Apradhi Ek Nazar Ka Hota Hai Kanoon Ke Taur Par Kyonki Yadi Wah Ki Wah VIP Treatment Deserve Karta To Wah Is Apradh Ko Karne Se Pehle Darta To Yeh Lachar Vyavastha Hai Kanoon Ki Iske Khilaf Kada Action Hona Chahiye Bahut Charcha Honi Chahiye Aur Supreme Court Ko Isme Hastakshep Karna Chahiye
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंडियन मैरिज और वेस्टर्न मैरिज में जो सबसे ज्यादा फर्क है वह अधिवेशन का है हमारे इंडिया में जो शादी का ऑपरेशन होता है वह तीन से चार दिनों तक चलता है जैसे कि संगीत हो गए मेहंदी हो गया और भी कई तरह के र...
जवाब पढ़िये
इंडियन मैरिज और वेस्टर्न मैरिज में जो सबसे ज्यादा फर्क है वह अधिवेशन का है हमारे इंडिया में जो शादी का ऑपरेशन होता है वह तीन से चार दिनों तक चलता है जैसे कि संगीत हो गए मेहंदी हो गया और भी कई तरह के रस मेरे बाद चलते हैं लेकिन वही वेस्टर्न कल्चर में ऐसा नहीं है वहां की शादी ज्यादा से ज्यादा 1 दिन तक चलती है और भी कई सारी डिफरेंस ऐसे जैसे यहां बहुत तरह के कास्टर कम्युनिटी रहते हैं उनकी शादी होती है जैसे हिंदुओं से एक मुस्लिम और वहां ज्यादातर क्रिश्चियनिटी फॉलो किया जाता है और भेजो बंधी एक और मेन रीजन डिफरेंस है वह है अरेंज मैरिज इंडिया में जो है वह अरेंज मैरिज होती है वहीं वेस्टर्न कल्चर में वह ज्यादातर शादियां लव मैरिज होती है यह नदी पीसिंग डिफरेंस होता है और यहां हमारे इंडिया में बहुतIndian Marriage Aur Western Marriage Mein Jo Sabse Jyada Fark Hai Wah Adhiveshan Ka Hai Hamare India Mein Jo Shadi Ka Operation Hota Hai Wah Teen Se Char Dinon Tak Chalta Hai Jaise Ki Sangeet Ho Gaye Mehendi Ho Gaya Aur Bhi Kai Tarah Ke Ras Mere Baad Chalte Hain Lekin Wahi Western Culture Mein Aisa Nahi Hai Wahan Ki Shadi Jyada Se Jyada 1 Din Tak Chalti Hai Aur Bhi Kai Saree Difference Aise Jaise Yahan Bahut Tarah Ke Caster Community Rehte Hain Unki Shadi Hoti Hai Jaise Hinduon Se Ek Muslim Aur Wahan Jyadatar Krishchiyaniti Follow Kiya Jata Hai Aur Bhejo Bandhi Ek Aur Main Reason Difference Hai Wah Hai Arrange Marriage India Mein Jo Hai Wah Arrange Marriage Hoti Hai Wahin Western Culture Mein Wah Jyadatar Shadiyan Love Marriage Hoti Hai Yeh Nadi Pising Difference Hota Hai Aur Yahan Hamare India Mein Bahut
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्यार में उम्र का फर्क बिल्कुल हो सकता है कई जगह पर आप देखेंगे कि जो प्यार है और ज्यादा उम्र की लड़की से होता है या कभी कम उम्र की लड़की से होता है तो प्यार का फुल फॉर्म क्या तुम से कितना प्यार करते ह...
जवाब पढ़िये
प्यार में उम्र का फर्क बिल्कुल हो सकता है कई जगह पर आप देखेंगे कि जो प्यार है और ज्यादा उम्र की लड़की से होता है या कभी कम उम्र की लड़की से होता है तो प्यार का फुल फॉर्म क्या तुम से कितना प्यार करते हैं हम अपनी जान से भी ज्यादा प्यार करते हैं और उनकी पलकों कुछ मानती नहीं है या उनके फल के बारे में ज्यादा सोचना नहीं चाहते तो कोई बात नहीं करना प्यार एक धोखा है सारी उम्र की सीमा का फर्क नहीं तो कोई बड़ी बात नहीं है यह होते जाते भजन के बीच में काफी डिफरेंस है और सचिन तेंदुलकर और उनकी वाइफ उनके बीच में काफी डिफरेंस है तो क्या फर्क है हो सकता हैPyaar Mein Umra Ka Fark Bilkool Ho Sakta Hai Kai Jagah Per Aap Dekhenge Qi Joe Pyaar Hai Aur Jyada Umra Ki Ladaki Se Hota Hai Ya Kabhi Come Umra Ki Ladaki Se Hota Hai To Pyaar Ka Full Form Kya Tum Se Kitna Pyaar Karte Hain Hum Apni Jaan Se Bhi Jyada Pyaar Karte Hain Aur Unki Palakon Kuch Manathi Nahin Hai Ya Unke Fal K Baare Mein Jyada Sochna Nahin Chahte To Koi Baat Nahin Krna Pyaar Ek Dhokha Hai Sari Umra Ki Seema Ka Fark Nahin To Koi Badi Baat Nahin Hai Yeh Hote Jaate Bhajan K Beach Mein Kaafi Difarens Hai Aur Sachin Tendulkar Aur Unki Wife Unke Beach Mein Kaafi Difarens Hai To Kya Fark Hai Ho Sakta Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2018 में भारतीय रेलवे में बायो टॉयलेट को कौन सा प्लान है वह स्वच्छ भारत अभियान में एक तरफ एक एक कदम और आगे बढ़ाया गया है इसमें जो है आपको जो इंपॉर्टेंट पॉइंट ये है कि जो बायोडाटा कौन से फंक्शन है वो 1...
जवाब पढ़िये
2018 में भारतीय रेलवे में बायो टॉयलेट को कौन सा प्लान है वह स्वच्छ भारत अभियान में एक तरफ एक एक कदम और आगे बढ़ाया गया है इसमें जो है आपको जो इंपॉर्टेंट पॉइंट ये है कि जो बायोडाटा कौन से फंक्शन है वो 1 चॉकलेट बेसिकली 2 इंच शो मी द डिस्टेंस फ्रॉम टॉयलेट एक लडकी है आपका फ्री डिश पोर्टल ऑफ इंडिया लिमिटेड का क्या सारी मैंने उसके बिना जिंग जिंग जिंग कोस्पी कंपोस्ट करता है 7:30 बजे स्कोर क्वार्टर में और बायोगैस में बहुत ज्यादा इको फ्रेंडली है हमारी अधूरी है हरिदर्शन मेंटेनेंस फ्री है आपकी बहुत सारे बेदी जिसको यह डिस्ट्रॉय करेगा क्योंकि हमारा कोई गंदगी कोई माल नहीं आस पास पड़ा होगा उसमें नहीं आएगी तो यह सारी चीजें जो ऑटोमेटिक रेडियो सुनना शुरू हो जाएगी तो बहुत फायदे हैं इसके लिए2018 Mein Bhartiya Railway Mein Bio Toilet Ko Kaun Sa Plan Hai Wah Swach Bharat Abhiyan Mein Ek Taraf Ek Ek Kadam Aur Aage Badhaya Gaya Hai Isme Jo Hai Aapko Jo Important Point Ye Hai Ki Jo Biodata Kaun Se Function Hai Vo 1 Chocolate Basically 2 Inch Show Me D Distance From Toilet Ek Ladki Hai Aapka Free Dish Portal Of India Limited Ka Kya Saree Maine Uske Bina Zingi Zingi Zingi Kospi Compost Karta Hai 7:30 Baje Score Quarter Mein Aur Biogas Mein Bahut Jyada Iko Frendali Hai Hamari Adhuri Hai Haridarshan Mentenens Free Hai Aapki Bahut Sare Bedi Jisko Yeh Destroy Karega Kyonki Hamara Koi Gandagi Koi Maal Nahi Aas Paas Pada Hoga Usamen Nahi Aayegi To Yeh Saree Cheezen Jo Automatic Radio Sunna Shuru Ho Jayegi To Bahut Fayde Hain Iske Liye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई अंतर नहीं है कहने का जो पर्पस है वह यह है कि लड़का और लड़की में आप भेदभाव ना करें l भेदभाव से तात्पर्य पर यहां पर यह है कि उनकी पढ़ाई लिखाई या उनकी कैरियर के लिए या उनके ट्रीटमेंट मिलता है उन्हें ...
जवाब पढ़िये
कोई अंतर नहीं है कहने का जो पर्पस है वह यह है कि लड़का और लड़की में आप भेदभाव ना करें l भेदभाव से तात्पर्य पर यहां पर यह है कि उनकी पढ़ाई लिखाई या उनकी कैरियर के लिए या उनके ट्रीटमेंट मिलता है उन्हें घर में जिसे आप अभी भी भारत के लगभग 90% घरों में आप देखिए लड़कियां ही घर का काम करती हैं और लड़कों को करने के लिए कोई नहीं बोलता है l मैं यह नहीं बोल रहा हूँ कि घर का काम करना गलत है लेकिन लड़के भी क्यूँ यह ना शिखे, लड़के क्यूँ नहीं घर के बर्तन साफ़ कर सकते, कपडे धो सकते है, अपने तो जरूर धो लेने चाहिए l तो यह जो बात है वह लड़का और लड़की में समानता लाने की तो हमारा समाज जिस तरीके से विकसित हुआ है पिछले २००-३००-४०० सालों में उस में लड़कियों के साथ भेदभाव हुआ ही है और अभी भी हो रहा है l और एक समाज के विकास के लिए एक लड़की का ऊपर उठना बहुत जरूरी है क्योंकि जब लड़की समाज में ऊपर उठेगी तो आने वाली नेक्स्ट जनरेशन लड़की मां है मां बनती है आगे तो नेक्स्ट जनरेशन आज भी ऊपर उठे और देश l और समाज दुखित होगा तो लड़की और लड़का में समानता लाने वाली बात उनके अधिकारों उनकी करियर उनकी अवेयरनेस जैसी चीजों को लेकर है l बाकी जो जेनेटिक डिफरेंस है वह रहेगा l कुछ काम में लड़के ज्यादा अच्छे रहेंगे, कुछ काम में लड़कियां ज्यादा अच्छी रहेंगी क्यूंकि नेचर ने भी उनको अलग अलग बनाया हुआ है l लेकिन जहां तक बातें अधिकारों की तो दोनों को समान अधिकार होने चाहिए प्रॉपर्टी का अधिकार के लिए अभी सरकार इतना कोशिश कर रही है क्या क्या कारण है कि लड़की को प्रॉपर्टी नहीं मिलने की अपने पेरेंट्स की क्यों लड़कों को ही मिलनी चाहिए l कोई लॉजिक नहीं है इस बात का लेकिन बस से चला आ रहा है सदियों से चला रहा है l तो हमें इस तरीके की प्रथा को खत्म करके लड़कियों को भी लड़कों के बराबर अधिकार देने हैं और कई क्षेत्रों में वह आज लडको से अच्छा कर रही है lKoi Antar Nahi Hai Kehne Ka Jo Purpose Hai Wah Yeh Hai Ki Ladka Aur Ladki Mein Aap Bhedbhav Na Karen L Bhedbhav Se Tatparya Par Yahan Par Yeh Hai Ki Unki Padhai Likhai Ya Unki Carrier Ke Liye Ya Unke Treatment Milta Hai Unhen Ghar Mein Jise Aap Abhi Bhi Bharat Ke Lagbhag 90% Gharon Mein Aap Dekhie Ladkiyan Hi Ghar Ka Kaam Karti Hain Aur Ladko Ko Karne Ke Liye Koi Nahi Bolta Hai L Main Yeh Nahi Bol Raha Hoon Ki Ghar Ka Kaam Karna Galat Hai Lekin Ladke Bhi Kyun Yeh Na Shikhe Ladke Kyun Nahi Ghar Ke Bartan Saf Kar Sakte Kapde Dho Sakte Hai Apne To Jarur Dho Lene Chahiye L To Yeh Jo Baat Hai Wah Ladka Aur Ladki Mein Samanata Lane Ki To Hamara Samaaj Jis Tarike Se Viksit Hua Hai Pichle 200 300 400 Salon Mein Us Mein Ladkiyon Ke Saath Bhedbhav Hua Hi Hai Aur Abhi Bhi Ho Raha Hai L Aur Ek Samaaj Ke Vikash Ke Liye Ek Ladki Ka Upar Uthana Bahut Zaroori Hai Kyonki Jab Ladki Samaaj Mein Upar Uthegi To Aane Wali Next Generation Ladki Maa Hai Maa Banti Hai Aage To Next Generation Aaj Bhi Upar Uthe Aur Desh L Aur Samaaj Dukhit Hoga To Ladki Aur Ladka Mein Samanata Lane Wali Baat Unke Adhikaaro Unki Career Unki Awareness Jaisi Chijon Ko Lekar Hai L Baki Jo Genetic Difference Hai Wah Rahega L Kuch Kaam Mein Ladke Jyada Acche Rahenge Kuch Kaam Mein Ladkiyan Jyada Acchi Rahengi Kyunki Nature Ne Bhi Unko Alag Alag Banaya Hua Hai L Lekin Jahan Tak Batein Adhikaaro Ki To Dono Ko Saman Adhikaar Hone Chahiye Property Ka Adhikaar Ke Liye Abhi Sarkar Itna Koshish Kar Rahi Hai Kya Kya Kaaran Hai Ki Ladki Ko Property Nahi Milne Ki Apne Parents Ki Kyun Ladko Ko Hi Milani Chahiye L Koi Logic Nahi Hai Is Baat Ka Lekin Bus Se Chala Aa Raha Hai Sadiyon Se Chala Raha Hai L To Hume Is Tarike Ki Pratha Ko Khatam Karke Ladkiyon Ko Bhi Ladko Ke Barabar Adhikaar Dene Hain Aur Kai Kshetro Mein Wah Aaj Ladko Se Accha Kar Rahi Hai L
Likes  23  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड एंड सर्विस टैक्स के साथ टैक्स सिस्टम है जिसके तहत 2017 से पहले तक जितने भी यह अलग-अलग प्रकार के टैक्स मैसेज ऐसे सर्विस टैक्स कस्टम ड्यूटी एक्साइज ड्यूटी इन सब को हटाकर एक यूनिफार्म टैक्स देना होगा...
जवाब पढ़िये
गुड एंड सर्विस टैक्स के साथ टैक्स सिस्टम है जिसके तहत 2017 से पहले तक जितने भी यह अलग-अलग प्रकार के टैक्स मैसेज ऐसे सर्विस टैक्स कस्टम ड्यूटी एक्साइज ड्यूटी इन सब को हटाकर एक यूनिफार्म टैक्स देना होगा जितने भी इन डायरेक्ट टैक्सेज थे इन सबको खत्म कर दिया गया था अलग अलग वस्तुओं और अलग अलग से हो पर अलग-अलग टैक्स दिया जाए देने की बजाय आप एक सिंगल ट्रैक दिया जाएगा इसका रेट 5:00 पर्सेंट 12:00 पर्सेंट 18 वर्ष संख्या 28 पर्सेंट होगा जबकि नोटबंदी कैसा एक्शन लिया गया था मोदी सरकार द्वारा जिसमें 2016 तक 8 नवंबर 2016 तक जो भी नोट चलन में थे 500 और 1000 के उन को बंद कर दिया गया था ताकि जो देश में काला धन है और जो आतंकवादियों को फंडिंग हो रही है इन को रोका जाएGood End Service Tax Ke Saath Tax System Hai Jiske Tahat 2017 Se Pehle Tak Jitne Bhi Yeh Alag Alag Prakar Ke Tax Massage Aise Service Tax Custom Duty Excise Duty In Sab Ko Hatakar Ek Uniform Tax Dena Hoga Jitne Bhi In Direct Taxes The In Sabko Khatam Kar Diya Gaya Tha Alag Alag Vastuon Aur Alag Alag Se Ho Par Alag Alag Tax Diya Jaye Dene Ki Bajay Aap Ek Single Track Diya Jayega Iska Rate 5:00 Percent 12:00 Percent 18 Varsh Sankhya 28 Percent Hoga Jabki Notebandi Kaisa Action Liya Gaya Tha Modi Sarkar Dwara Jisme 2016 Tak 8 November 2016 Tak Jo Bhi Note Chalan Mein The 500 Aur 1000 Ke Un Ko Band Kar Diya Gaya Tha Taki Jo Desh Mein Kala Dhan Hai Aur Jo Aatankwadion Ko Funding Ho Rahi Hai In Ko Roka Jaye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
टी राजा महाराजाओं के समय जो राजनीति हुआ करती थी वह राजतंत्र की राजनीति थी जिसमें एक राजा हुआ करता था और बाकी सभी उनके सैनिक थे और राजा के द्वारा दिया गया फैसला और सब को मानना होता था चाहे वह गलत हो या सही हो और हमेशा ऐसा नहीं होता था कि राजा अध्याय पूरी हो और कई तेजाजी यह भी वर्कर जाता है जहां राजा अपने मन के सबसे सस्ता दिया करते थे और अपने मन के हिसाब से अपनी प्रजा को रखते थे तो आप जो राजा थे उनकी फुल अथॉरिटी हुआ करती थी अपनी प्रजा के ऊपर और वह जो चाहे जैसा चाहे वह कर सकते थे किसी के भी साथ और किसी को उनके खिलाफ खड़े होने की आवाज उठाने की हिम्मत नहीं हुआ करती थी और सब लोग उनको एक तरह से भगवान की तरह पूजते थे और उनका पैसा सब सर आंखों पर रखते थे वही आज की राजनीति में हर इंसान को अपने लिए कुछ ना कुछ करने की इजाजत है और अगर गवर्मेंट कुछ ऐसे नियम भी बना रही है जो कि इंसान की राइट या नहीं उसकी फ्रीडम को फेंक कर रहे हैं तो इंसान उसके खिलाफ खड़ा हो सकता उनके खिलाफ आवाज उठा सकते हैं और अगर गवर्नमेंट कोई ऐसी योजना बना रही है जो कि लोगों के लिए हानिकारक है तो उसके लिए भी आप आवाज उठा सकते हैं को और आपको पूरा हक है क्या आप अपनी बात देश को तक 2 लोगों तक पहुंचा पाए और देश में फैला सके तो यह आजकल की राजनीति है वह लोकतंत्र की राजनीति है जिसमें हर इंसान की अपनी अपनी महत्वता है और जो अथॉरिटी है वह एक इंसान के पास नहीं बल्कि सबके पास आधी आधी बैठी हुई है जिसमें अगर एक इंसान चाहे तो वह कोई फैसला अपना नहीं छोड़ सकता है बाकी लोगों पर क्योंकि जो बाकी लोग हैं वह लोग भी उस पर आवाज उठा देंगे और उस इंसान को अपनी फोटो तो रोटी नहीं चलने देंगे तो यही फर्क है राजा महाराजा और आज की राजनीति मेंT Raja Maharajaon Ke Samay Jo Rajneeti Hua Karti Thi Wah Rajtantra Ki Rajneeti Thi Jisme Ek Raja Hua Karta Tha Aur Baki Sabhi Unke Sainik The Aur Raja Ke Dwara Diya Gaya Faisla Aur Sab Ko Manana Hota Tha Chahe Wah Galat Ho Ya Sahi Ho Aur Hamesha Aisa Nahi Hota Tha Ki Raja Adhyay Puri Ho Aur Kai Tejaji Yeh Bhi Worker Jata Hai Jahan Raja Apne Man Ke Sabse Sasta Diya Karte The Aur Apne Man Ke Hisab Se Apni Praja Ko Rakhate The To Aap Jo Raja The Unki Full Authority Hua Karti Thi Apni Praja Ke Upar Aur Wah Jo Chahe Jaisa Chahe Wah Kar Sakte The Kisi Ke Bhi Saath Aur Kisi Ko Unke Khilaf Khade Hone Ki Aawaj Uthane Ki Himmat Nahi Hua Karti Thi Aur Sab Log Unko Ek Tarah Se Bhagwan Ki Tarah Pujte The Aur Unka Paisa Sab Sar Aakhon Par Rakhate The Wahi Aaj Ki Rajneeti Mein Har Insaan Ko Apne Liye Kuch Na Kuch Karne Ki Ijajat Hai Aur Agar Goverment Kuch Aise Niyam Bhi Bana Rahi Hai Jo Ki Insaan Ki Right Ya Nahi Uski Freedom Ko Fenk Kar Rahe Hain To Insaan Uske Khilaf Khada Ho Sakta Unke Khilaf Aawaj Utha Sakte Hain Aur Agar Government Koi Aisi Yojana Bana Rahi Hai Jo Ki Logon Ke Liye Haanikarak Hai To Uske Liye Bhi Aap Aawaj Utha Sakte Hain Ko Aur Aapko Pura Haq Hai Kya Aap Apni Baat Desh Ko Tak 2 Logon Tak Pahuncha Paye Aur Desh Mein Faila Sake To Yeh Aajkal Ki Rajneeti Hai Wah Loktantra Ki Rajneeti Hai Jisme Har Insaan Ki Apni Apni Mahatvata Hai Aur Jo Authority Hai Wah Ek Insaan Ke Paas Nahi Balki Sabke Paas Aadhi Aadhi Baithi Hui Hai Jisme Agar Ek Insaan Chahe To Wah Koi Faisla Apna Nahi Chod Sakta Hai Baki Logon Par Kyonki Jo Baki Log Hain Wah Log Bhi Us Par Aawaj Utha Denge Aur Us Insaan Ko Apni Photo To Roti Nahi Chalne Denge To Yahi Fark Hai Raja Maharaja Aur Aaj Ki Rajneeti Mein
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीदी जी हां तो मुझे लगता है ट्यूशन और कोचिंग में यह डिफरेंस है अगर आप ट्यूशन लेते हैं तो ट्यूशन क्लास ट्वेल्थ क्लास जवाब स्कूल में होते हैं और जिस सब्जेक्ट में आपको प्रॉब्लम होती है उन सब्जेक्ट के लिए...
जवाब पढ़िये
दीदी जी हां तो मुझे लगता है ट्यूशन और कोचिंग में यह डिफरेंस है अगर आप ट्यूशन लेते हैं तो ट्यूशन क्लास ट्वेल्थ क्लास जवाब स्कूल में होते हैं और जिस सब्जेक्ट में आपको प्रॉब्लम होती है उन सब्जेक्ट के लिए अब ट्यूशन लगा दी SMS में किसी को प्रॉब्लम हो तो मैच के लिए ड्यूटी लगा ली उसने राकेश के एग्जाम के बाद ठीक आ जाए इंग्लिश में प्रॉब्लम है इंग्लिश के लिए खाली केमिस्ट्री फिजिक्स के लिए लगा रहे थे लेकिन अगर आप किसी कॉमेडी हिंदी प्रवेशिका नाचा पार्टी के लिए कर रहे हो आई एम के लिए कोलगेट के लिए करो फ्लाइट के लिए गवर्नमेंट जॉब के लिए प्रिपरेशन कर रहे हो तो उसके लिए कोचिंग से लगाते हैं इन्हीं स्कूल तक तो ट्यूशन का कंसेप्ट होता है उसके बाद अगर कंपटीशन कंपटीशन में आप आते हो कंप्यूटर एग्जाम की प्रिपरेशन करते हो तो उसके लिए आपकी कोचिंग सोते हैंDidi Ji Haan To Mujhe Lagta Hai Tuition Aur Coaching Mein Yeh Difference Hai Agar Aap Tuition Lete Hain To Tuition Class Twelfth Class Jawab School Mein Hote Hain Aur Jis Subject Mein Aapko Problem Hoti Hai Un Subject Ke Liye Ab Tuition Laga Di SMS Mein Kisi Ko Problem Ho To Match Ke Liye Duty Laga Lee Usne Rakesh Ke Exam Ke Baad Theek Aa Jaye English Mein Problem Hai English Ke Liye Khaali Chemistry Physics Ke Liye Laga Rahe The Lekin Agar Aap Kisi Comedy Hindi Praveshika Nacha Party Ke Liye Kar Rahe Ho Eye Em Ke Liye Colgate Ke Liye Karo Flight Ke Liye Government Job Ke Liye Preparation Kar Rahe Ho To Uske Liye Coaching Se Lagate Hain Inhin School Tak To Tuition Ka Kansept Hota Hai Uske Baad Agar Competition Competition Mein Aap Aate Ho Computer Exam Ki Preparation Karte Ho To Uske Liye Aapki Coaching Sote Hain
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे समाज में दो टाइप के लड़के होते हैं यह टाइप के जो लड़की होते हैं वह काफी मैच्योर होते हैं वह काफी समझदार होते हैं उनको वर्जिनिटी से कोई फर्क नहीं पड़ता और एक जो मैच्योर नहीं होती और बेवकूफ होता ह...
जवाब पढ़िये
हमारे समाज में दो टाइप के लड़के होते हैं यह टाइप के जो लड़की होते हैं वह काफी मैच्योर होते हैं वह काफी समझदार होते हैं उनको वर्जिनिटी से कोई फर्क नहीं पड़ता और एक जो मैच्योर नहीं होती और बेवकूफ होता है और समझदार बिल्कुल नहीं होते उनको वर्जिनिटी से फर्क पड़ता है चाहे उन्होंने शादी से पहले कहीं और किसी से कितनी बार भी सेक्स किया हो उनको उससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन उनको अपनी वाइफ वर्जिन चाहिए तो यह दो टाइप के लोग होते हैं तो मैं आपको एक चीज बता दूं पहले की जो वर्जिनिटी होती है वह सिर्फ सेक्स करने से नहीं टूटती है काफी ऐसे अदर रीजन होते हैं जिसकी वजह से वर्जिनिटी टूट जाती है और अगर आपको ऐसा हस्बैंड मिलता है जो मन में चोर होगा और समझदार नहीं हो तुम वह बिल्कुल कहीं ना कहीं आप पर उंगली उठा सकता है कि आप वर्जिन क्यों नहीं होHamare Samaaj Mein Do Type Ke Ladke Hote Hain Yeh Type Ke Jo Ladki Hote Hain Wah Kafi Mature Hote Hain Wah Kafi Samajhdar Hote Hain Unko Virginity Se Koi Fark Nahi Padata Aur Ek Jo Mature Nahi Hoti Aur Bewakoof Hota Hai Aur Samajhdar Bilkul Nahi Hote Unko Virginity Se Fark Padata Hai Chahe Unhone Shadi Se Pehle Kahin Aur Kisi Se Kitni Baar Bhi Sex Kiya Ho Unko Usse Koi Fark Nahi Padata Lekin Unko Apni Wife Virgin Chahiye To Yeh Do Type Ke Log Hote Hain To Main Aapko Ek Cheez Bata Doon Pehle Ki Jo Virginity Hoti Hai Wah Sirf Sex Karne Se Nahi Tootati Hai Kafi Aise Other Reason Hote Hain Jiski Wajah Se Virginity Toot Jati Hai Aur Agar Aapko Aisa Husband Milta Hai Jo Man Mein Chor Hoga Aur Samajhdar Nahi Ho Tum Wah Bilkul Kahin Na Kahin Aap Par Ungali Utha Sakta Hai Ki Aap Virgin Kyun Nahi Ho
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से भारतीय प्रेमी का जादू तो थोड़ी ज्यादा और भी गरम रहती है एंड अमेरिका प्रेमिका अमेरिकन प्रेमिका होती फिर जॉब नहीं रहती तो यहां पर फिटिंग कुछ होता है वह बहुत डिफरेंट होता है यहां पर एक्सीडे...
जवाब पढ़िये
मेरे हिसाब से भारतीय प्रेमी का जादू तो थोड़ी ज्यादा और भी गरम रहती है एंड अमेरिका प्रेमिका अमेरिकन प्रेमिका होती फिर जॉब नहीं रहती तो यहां पर फिटिंग कुछ होता है वह बहुत डिफरेंट होता है यहां पर एक्सीडेंट इतनी इंग्लिश नहीं करती जितनी हमारी करती है अमेरिका में एक औरत को सेक्स मिलना जरूरी होता है और भारत में ऐसा नहीं होता भारत में यह कहना है कि सेक्स कम से कम और शादी के बाद ही होना चाहिए और शादी के पहले होना बहुत ही बुरी बात है तो हां भारतीय प्रेमिका और अमेरिकन प्रेमिका में यह अंतर हैMere Hisab Se Bhartiya Premi Ka Jadu To Thodi Jyada Aur Bhi Garam Rehti Hai End America Premika American Premika Hoti Phir Job Nahi Rehti To Yahan Par Fitting Kuch Hota Hai Wah Bahut Different Hota Hai Yahan Par Accident Itni English Nahi Karti Jitni Hamari Karti Hai America Mein Ek Aurat Ko Sex Milna Zaroori Hota Hai Aur Bharat Mein Aisa Nahi Hota Bharat Mein Yeh Kehna Hai Ki Sex Kum Se Kum Aur Shadi Ke Baad Hi Hona Chahiye Aur Shadi Ke Pehle Hona Bahut Hi Buri Baat Hai To Haan Bhartiya Premika Aur American Premika Mein Yeh Antar Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें लोकसभा और राज्यसभा यहां पार्लिमेंट के दो हाउसेस है लोकसभा में प्रत्यक्ष चुनाव के द्वारा प्रतिनिधि चुने जाते हैं यह इसको लोअर हाउस कहते हैं और राज्यसभा को अपर हाउस के तहत राज्य सभा याने काउंसिल ऑ...
जवाब पढ़िये
देखें लोकसभा और राज्यसभा यहां पार्लिमेंट के दो हाउसेस है लोकसभा में प्रत्यक्ष चुनाव के द्वारा प्रतिनिधि चुने जाते हैं यह इसको लोअर हाउस कहते हैं और राज्यसभा को अपर हाउस के तहत राज्य सभा याने काउंसिल ऑफ स्टेट जिसमें हमने जो प्रतिनिधि चुने हुए हैं वह उनमें से प्रतिनिधि चुनते हैं उनके लिए तो यह राज्यसभा में होता है उन लोगों में उनके पावर और कार्य भी डिफरेंट है देखा जाए तो लोकसभा में टोटल सदस्यों की अधिकतम संख्या 552 है जिसमें 530 राज्यों के सदस्य होते हैं और 20 अंग्रेजो के सदस्य होते हैं राज्यसभा में देखा जाए तो 250 सदस्यों की अधिकतम संख्या है और इनमें डिफरेंस यह है कि लोकसभा 5 वर्ष चलता है अगर बीच में ही कुछ हुआ ना हो तो और राज्यसभा पर्मनेंट है और मनी बिल जो रिप्लेसमेंट किया जाता है तो वह पहले लोकसभा में प्रदान किया जाता है और राज्यसभा में लोकसभा के से आने के बाद रिप्रजेंट किया जाता है लोकसभा में रिप्रेजेंटेशन एक वक्ता के द्वारा होता है और राज्यसभा में हमारे देश के वाइस प्रेसिडेंट ही वहां पर रिप्रेजेंट करते हैंDekhen Lok Sabha Aur Rajya Sabha Yahan Parliment Ke Do Houses Hai Lok Sabha Mein Pratyaksh Chunav Ke Dwara Pratinidhi Chune Jaate Hain Yeh Isko Lower House Kehte Hain Aur Rajya Sabha Ko Upper House Ke Tahat Rajya Sabha Yaane Council Of State Jisme Humne Jo Pratinidhi Chune Hue Hain Wah Unmen Se Pratinidhi Chunate Hain Unke Liye To Yeh Rajya Sabha Mein Hota Hai Un Logon Mein Unke Power Aur Karya Bhi Different Hai Dekha Jaye To Lok Sabha Mein Total Sadasyon Ki Adhiktam Sankhya 552 Hai Jisme 530 Rajyo Ke Sadasya Hote Hain Aur 20 Angrejo Ke Sadasya Hote Hain Rajya Sabha Mein Dekha Jaye To 250 Sadasyon Ki Adhiktam Sankhya Hai Aur Inme Difference Yeh Hai Ki Lok Sabha 5 Varsh Chalta Hai Agar Beech Mein Hi Kuch Hua Na Ho To Aur Rajya Sabha Permanent Hai Aur Money Bill Jo Replacement Kiya Jata Hai To Wah Pehle Lok Sabha Mein Pradan Kiya Jata Hai Aur Rajya Sabha Mein Lok Sabha Ke Se Aane Ke Baad Riprajent Kiya Jata Hai Lok Sabha Mein Riprejenteshan Ek Vakta Ke Dwara Hota Hai Aur Rajya Sabha Mein Hamare Desh Ke Voice President Hi Wahan Par Represent Karte Hain
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए तो अलग-अलग लोगों पर डिपेंड करती है कि वह उस चीज से कितने फिट होते हैं इससे हम ऐसे जनरल आईज नहीं कर सकते हैं कि कोई आपको एक्सेप्ट करेगा या नहीं करेगा लेकिन मुझे लगता है कि अगर आप वेबसाइट पर किसी ...
जवाब पढ़िये
देखिए तो अलग-अलग लोगों पर डिपेंड करती है कि वह उस चीज से कितने फिट होते हैं इससे हम ऐसे जनरल आईज नहीं कर सकते हैं कि कोई आपको एक्सेप्ट करेगा या नहीं करेगा लेकिन मुझे लगता है कि अगर आप वेबसाइट पर किसी लड़की को ढूंढते हैं ढूंढना चाह रहे हैं तो आप जरूर उस टाइप की लड़की ढूंढ लेंगे जिसके सोच विचार आपसे मिलते हो तो क्या आपको कोई तकलीफ नहीं है कि वह वर्जिन है या नहीं तो मुझे नहीं लगता कि उनको भी कोई तकलीफ होगी क्या भोजन है या नहींDekhie To Alag Alag Logon Par Depend Karti Hai Ki Wah Us Cheez Se Kitne Fit Hote Hain Isse Hum Aise General Eyes Nahi Kar Sakte Hain Ki Koi Aapko Except Karega Ya Nahi Karega Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Agar Aap Website Par Kisi Ladki Ko Dhundhate Hain Dhundhana Chah Rahe Hain To Aap Jarur Us Type Ki Ladki Dhundh Lenge Jiske Soch Vichar Aapse Milte Ho To Kya Aapko Koi Takleef Nahi Hai Ki Wah Virgin Hai Ya Nahi To Mujhe Nahi Lagta Ki Unko Bhi Koi Takleef Hogi Kya Bhojan Hai Ya Nahi
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
गणतंत्र दिवस व स्वतंत्रता दिवस के बीच एक छोटा सा ही अंतर है वह इस बात का है कि स्वतंत्रता दिवस पर हमारा देश आजाद हुआ था और हमारे देश में जो ब्रिटिश उसका रूल था को खत्म हुआ था और हमारे देश पूरी तरह से आजाद हो गया था और जो गणतंत्र दिवस है उस दिन हमारे देश में हवा को स्टेशन लागू हुआ था 15 अगस्त 19 1947 में हमारे देश आजाद हुआ था और 26 जनवरी 1950 में हमारे देश में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है क्योंकि उसी दिन से हमारे देश में कॉन्स्टिट्यूशन लागू हुआ था और हमारा देश एक डेमोक्रेटिक राज्य बना था तो इनमे से किसी चीज का फर्क है कि एक दिन हमारा देश आजाद हुआ था और दूसरे दिन हमारे देश में कॉन्स्टिट्यूशन लागू हुआ था जो कि एक नई तरह की आजादी है एक अपने में स्वतंत्र होना है कि हमारे देश में डेमोक्रेसी जब से शुरू हुई है तब से हर आदमी को एक हाथ दे हग दिया गया है उनके वह देश की सरकार भी गाड़ियां बना सकता है तो यह दुनिया 15 अगस्त को हमें आजादी मिली थी दूसरी रात लोगों की इनविटेशन की चंगुल से और उसके बाद गणतंत्र दिवस वाले थे ना मैं इसी से आजादी मिल गई थी क्या हम अपने देश के लिए जो भी फैसला लेना चाहते हैं वह ले सकते हैं और सब कुछ आम आदमी पर ही डिपेंड करता हैGanatantra Divas V Swatantrata Divas Ke Beech Ek Chota Sa Hi Antar Hai Wah Is Baat Ka Hai Ki Swatantrata Divas Par Hamara Desh Azad Hua Tha Aur Hamare Desh Mein Jo British Uska Rule Tha Ko Khatam Hua Tha Aur Hamare Desh Puri Tarah Se Azad Ho Gaya Tha Aur Jo Ganatantra Divas Hai Us Din Hamare Desh Mein Hawa Ko Station Laagu Hua Tha 15 August 19 1947 Mein Hamare Desh Azad Hua Tha Aur 26 January 1950 Mein Hamare Desh Mein Ganatantra Divas Manaya Jata Hai Kyonki Ussi Din Se Hamare Desh Mein Constitution Laagu Hua Tha Aur Hamara Desh Ek Democratic Rajya Bana Tha To Inme Se Kisi Cheez Ka Fark Hai Ki Ek Din Hamara Desh Azad Hua Tha Aur Dusre Din Hamare Desh Mein Constitution Laagu Hua Tha Jo Ki Ek Nayi Tarah Ki Azadi Hai Ek Apne Mein Swatantra Hona Hai Ki Hamare Desh Mein Democracy Jab Se Shuru Hui Hai Tab Se Har Aadmi Ko Ek Hath De Hug Diya Gaya Hai Unke Wah Desh Ki Sarkar Bhi Gadiyan Bana Sakta Hai To Yeh Duniya 15 August Ko Hume Azadi Mili Thi Dusri Raat Logon Ki Invitation Ki Changul Se Aur Uske Baad Ganatantra Divas Wale The Na Main Isi Se Azadi Mil Gayi Thi Kya Hum Apne Desh Ke Liye Jo Bhi Faisla Lena Chahte Hain Wah Le Sakte Hain Aur Sab Kuch Aam Aadmi Par Hi Depend Karta Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी के दिल में उतरना और किसी के दिल को छू जाना बहुत ही सही हमसे चीज है दोनों में ही आपको एक बार मेरे प्यार का ऐसा जरूर होता है लेकिन छूने वाले प्यार में आपको सिर्फ एक बार के लिए कुछ पल के लिए आपस लगे...
जवाब पढ़िये
किसी के दिल में उतरना और किसी के दिल को छू जाना बहुत ही सही हमसे चीज है दोनों में ही आपको एक बार मेरे प्यार का ऐसा जरूर होता है लेकिन छूने वाले प्यार में आपको सिर्फ एक बार के लिए कुछ पल के लिए आपस लगेगा आप उस इंसान से सच्चा प्यार करते हैं या फिर वह इंसान आपसे सच्चा प्यार करता है लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता है और दिल में होता है ना उसमें उस इंसान सच्चा प्यार करने वाला कोई लगता है कुछ टाइम भी आपको लगेगा कि नहीं हम उसे सच्चा प्यार नहीं करते लेकिन वह आपके दिल में इस कदर उतर चुका होगा कि आप उसको चाह कर भी नहीं भुला सकेंगे किसी के दिल को छूने और उतरने वाला इंसान आराम से बुला सकते हैं लेकिन जो इंसान आपके दिल में उतर गया उसको आप कभी नहीं भुला सकते चाहे आप जितनी मेहनत है जितनी शिद्दत तुझको भुलाना चाहा फिर भी उसको नहीं भुला सकतेKisi Ke Dil Mein Utarna Aur Kisi Ke Dil Ko Chu Jana Bahut Hi Sahi Humse Cheez Hai Dono Mein Hi Aapko Ek Baar Mere Pyar Ka Aisa Jarur Hota Hai Lekin Chhune Wale Pyar Mein Aapko Sirf Ek Baar Ke Liye Kuch Pal Ke Liye Aapas Lagega Aap Us Insaan Se Saccha Pyar Karte Hain Ya Phir Wah Insaan Aapse Saccha Pyar Karta Hai Lekin Aisa Kuch Nahi Hota Hai Aur Dil Mein Hota Hai Na Usamen Us Insaan Saccha Pyar Karne Wala Koi Lagta Hai Kuch Time Bhi Aapko Lagega Ki Nahi Hum Use Saccha Pyar Nahi Karte Lekin Wah Aapke Dil Mein Is Kadar Utar Chuka Hoga Ki Aap Usko Chah Kar Bhi Nahi Bhula Sakenge Kisi Ke Dil Ko Chhune Aur Utarane Wala Insaan Aaram Se Bula Sakte Hain Lekin Jo Insaan Aapke Dil Mein Utar Gaya Usko Aap Kabhi Nahi Bhula Sakte Chahe Aap Jitni Mehnat Hai Jitni Shiddat Tujhko Bhulana Chaha Phir Bhi Usko Nahi Bhula Sakte
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फिजिकल लव मैरिज 1:00 बजे के लिए या कुछ लोग हवस के लिए किया जाता है आध्यात्मिक प्यार या लाभ होता है जो हम अपनी सृष्टि या इंसान की बनाई हुई किसी कलाकृति को टीके करते हैं...
जवाब पढ़िये
फिजिकल लव मैरिज 1:00 बजे के लिए या कुछ लोग हवस के लिए किया जाता है आध्यात्मिक प्यार या लाभ होता है जो हम अपनी सृष्टि या इंसान की बनाई हुई किसी कलाकृति को टीके करते हैं
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदू और मुस्लिम में जमीन आसमान का अंतर है जैसे देवता और राक्षस में हिंदुस्तान प्रवृत्ति के होते हैं और मुस्लिम क्रूर प्रकृति के होते हैं...
जवाब पढ़िये
हिंदू और मुस्लिम में जमीन आसमान का अंतर है जैसे देवता और राक्षस में हिंदुस्तान प्रवृत्ति के होते हैं और मुस्लिम क्रूर प्रकृति के होते हैंHindu Aur Muslim Mein Jameen Aasman Ka Antar Hai Jaise Devta Aur Rakshas Mein Hindustan Pravritti Ke Hote Hain Aur Muslim Krur Prakriti Ke Hote Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो गाइस माय नेम इज प्रवीण भारती और आपके प्रश्न का उत्तर दे रहे हैं आप उसे एसएससी सीएचएसएल और SSC CGL में क्या अंतर है तो सीएचएसएल का जो फॉर्म है दोनों SSC कनेक्ट कर आती है एसएससी सीएचएसएल बारहवीं बे...
जवाब पढ़िये
हेलो गाइस माय नेम इज प्रवीण भारती और आपके प्रश्न का उत्तर दे रहे हैं आप उसे एसएससी सीएचएसएल और SSC CGL में क्या अंतर है तो सीएचएसएल का जो फॉर्म है दोनों SSC कनेक्ट कर आती है एसएससी सीएचएसएल बारहवीं बेस पर भरा जाता है मिर्च 12th अगर आपके पास है आपने ग्रेजुएशन नहीं की तब सीएचएसएल का फॉर्म भर सकते हो इसके अलावा जाता है सोता है सोते-सोते MTS 10वीं बेस पर सीएचएसएल बारहवीं बेस पर होता है और जो सीरियल होता है वह ग्रेजुएशन बेस पर होता है ट्वेल्थ के बाद अगर आपने बीए बीएससी बीकॉम Intex अगर आपने ग्रेजुएशन की है तब आप सीरियल का फॉर्म भर सकते हो लेकिन सीएचएसएल करोगे आप जवाब कि मैं इस आपने 12th की हुई है अब अगर अपनी ग्रेजुएशन पूरी है तो आप MTS सीएचएसएल सीरियल तीनों फॉर्म भर सकते हो लेकिन अगर आपने 12वीं की हुई है आप ट्वेल्थ पास हो तो आप MTS और सीएचएसएल दो फॉर्म भर सकते हो तो दोनों में जो आग लेवल काफी फर्क रहता है लेकिन तीनों का एक जैसा रहता है सीएचएसएल का सीरियल का पैटर्न एक ही रहता है फ्री का और मिर्च लेवल अलग अलग हो जाए बस देख सकते हो किसी भी साइट पर जाकर क्या सिलेबस होता है लेकिन आपने पूछा कि क्या डिफरेंस है तो यही डिफरेंस इन 12th बेस पर स्पेशल और ग्रेजुएशन बेस पर सीरियल होता है धन्यवादHello Gais My Name Is Praveen Bharati Aur Aapke Prashna Ka Uttar De Rahe Hain Aap Use Ssc Chsl Aur SSC CGL Mein Kya Antar Hai To Chsl Ka Jo Form Hai Dono SSC Connect Kar Aati Hai Ssc Chsl Baarahvin Base Par Bhara Jata Hai Mirch 12th Agar Aapke Paas Hai Aapne Graduation Nahi Ki Tab Chsl Ka Form Bhar Sakte Ho Iske Alava Jata Hai Sotaa Hai Sote Sote MTS Vi Base Par Chsl Baarahvin Base Par Hota Hai Aur Jo Serial Hota Hai Wah Graduation Base Par Hota Hai Twelfth Ke Baad Agar Aapne Ba Bsc B.COM Intex Agar Aapne Graduation Ki Hai Tab Aap Serial Ka Form Bhar Sakte Ho Lekin Chsl Karoge Aap Jawab Ki Main Is Aapne 12th Ki Hui Hai Ab Agar Apni Graduation Puri Hai To Aap MTS Chsl Serial Teenon Form Bhar Sakte Ho Lekin Agar Aapne Vi Ki Hui Hai Aap Twelfth Paas Ho To Aap MTS Aur Chsl Do Form Bhar Sakte Ho To Dono Mein Jo Aag Level Kafi Fark Rehta Hai Lekin Teenon Ka Ek Jaisa Rehta Hai Chsl Ka Serial Ka Pattern Ek Hi Rehta Hai Free Ka Aur Mirch Level Alag Alag Ho Jaye Bus Dekh Sakte Ho Kisi Bhi Site Par Jaakar Kya Syllabus Hota Hai Lekin Aapne Poocha Ki Kya Difference Hai To Yahi Difference In 12th Base Par Special Aur Graduation Base Par Serial Hota Hai Dhanyavad
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी देश की मुद्रा काफी चीजों पर डिपेंड करती है जैसे कि वहां की आबादी कितनी है वहां पर अन इंप्लॉयमेंट कितना है वहां पर एफडीआई कितना है फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट इसके अलावा इंपोर्ट एक्सपोर्ट कितना है...
जवाब पढ़िये
किसी देश की मुद्रा काफी चीजों पर डिपेंड करती है जैसे कि वहां की आबादी कितनी है वहां पर अन इंप्लॉयमेंट कितना है वहां पर एफडीआई कितना है फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट इसके अलावा इंपोर्ट एक्सपोर्ट कितना है इसके अलावा और भी सारी चीजें हैं जिसके 20 पर हमें डिसाइड करते हैं इसकी देश की मुद्रा ज्यादा अच्छी है जगह बहुत डाउन है जैसे इंडिया की बात करा कर अमेरिका सेम अपना कंपैरिजन करें तो 1949 1947 की गरीबी की बात करें तो उसमें भारत की ₹1 अमेरिका के $1 के बराबर था लेकिन भारत विज्ञान करता चला गया और हम एक बार ऊपर चला गया हिंदी पिक्चर रीजन यही है कि वह डेवलपमेंट की तरफ बढ़ते चले गए और हमारे बीच हम 2 3 युद्ध में पार्टिसिपेट करने की वजह से ही रह गए तू इस तरह का अंतर आता है मुद्राओं में काफी सारे सेक्टर 17 जब गुजरते हैं तो मां की मुद्रा में अंतर आता है बने ज्वाला हाल ही में एक बुरा हाल हो रहा है बहुत देर ओमपरकाश उनके पास खाने के पैसे नहीं है पैसे हैं पैसे इतने ज्यादा थक गए हैं कि कोई मतलब नहीं है ब्रेड खाते में जीवन निर्वाह कर रहे हैं उन पर श्री की बहन लगा रखी पड़ोसी देशों ने उनकी मुद्रा की वैल्यू बहुत ज्यादा है लेकिन तुम इतनी ज्यादा बड़े बेली होने के बावजूद अपने लिए ब्रेड नहीं कर सकते तो काफी सारी चीजों का फैक्टर होता है धन्यवादKisi Desh Ki Mudra Kafi Chijon Par Depend Karti Hai Jaise Ki Wahan Ki Aabadi Kitni Hai Wahan Par An Implayament Kitna Hai Wahan Par IFDI Kitna Hai Foreign Direct Investment Iske Alava Import Export Kitna Hai Iske Alava Aur Bhi Saree Cheezen Hain Jiske 20 Par Hume Decide Karte Hain Iski Desh Ki Mudra Jyada Acchi Hai Jagah Bahut Down Hai Jaise India Ki Baat Kra Kar America Same Apna Kampairijan Karen To 1949 1947 Ki Garibi Ki Baat Karen To Usamen Bharat Ki ₹1 America Ke $1 Ke Barabar Tha Lekin Bharat Vigyan Karta Chala Gaya Aur Hum Ek Baar Upar Chala Gaya Hindi Picture Reason Yahi Hai Ki Wah Development Ki Taraf Badhte Chale Gaye Aur Hamare Beech Hum 2 3 Yudh Mein Participate Karne Ki Wajah Se Hi Rah Gaye Tu Is Tarah Ka Antar Aata Hai Mudraaon Mein Kafi Sare Sector 17 Jab Gujarate Hain To Maa Ki Mudra Mein Antar Aata Hai Bane Jwala Haal Hi Mein Ek Bura Haal Ho Raha Hai Bahut Der Omaparakash Unke Paas Khane Ke Paise Nahi Hai Paise Hain Paise Itne Jyada Thak Gaye Hain Ki Koi Matlab Nahi Hai Bred Khate Mein Jeevan Nirvah Kar Rahe Hain Un Par Shri Ki Behen Laga Rakhi Padoshi Deshon Ne Unki Mudra Ki Value Bahut Jyada Hai Lekin Tum Itni Jyada Bade Beli Hone Ke Bawajud Apne Liye Bred Nahi Kar Sakte To Kafi Saree Chijon Ka Factor Hota Hai Dhanyavad
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon
विधानसभा और विधान परिषद में क्या अंतर के बारे में जानकारी यह है, विधान सभा और विधान परिषद राज्य सरकारों के लिए शर्तें हैं। विधान सभा (विधानसभा) राज्य सरकार का निचला सदन होता है, जिसमें सीधे जनता के चुने हुए सदस्य होते हैं (केंद्र में लोकसभा के समान)। ... सभी राज्यों में एक विधान सभा है, हालांकि।
Romanized Version
विधानसभा और विधान परिषद में क्या अंतर के बारे में जानकारी यह है, विधान सभा और विधान परिषद राज्य सरकारों के लिए शर्तें हैं। विधान सभा (विधानसभा) राज्य सरकार का निचला सदन होता है, जिसमें सीधे जनता के चुने हुए सदस्य होते हैं (केंद्र में लोकसभा के समान)। ... सभी राज्यों में एक विधान सभा है, हालांकि।Vidhan Sabha Aur Vidhan Parishad Mein Kya Antar Ke Bare Mein Jankari Yeh Hai Vidhan Sabha Aur Vidhan Parishad Rajya Sarkaro Ke Liye Sharten Hain Vidhan Sabha Vidhan Sabha Rajya Sarkar Ka Nichala Sadan Hota Hai Jisme Seedhe Janta Ke Chune Huye Sadasya Hote Hain Kendra Mein Lok Sabha Ke Saman ... Sabhi Rajyo Mein Ek Vidhan Sabha Hai Halanki
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे लगता है कि वह 41 मतभेद की वजह से सांप्रदायिक मतभेद या मैं कहूं सांप्रदायिक उन्माद उत्पन्न होता है फॉर example अगर मैं बात करूं तो हमारे देश के अंदर जो भी बड़ी बड़ी राष्ट्रीय पार्टी है भारती...
जवाब पढ़िये
लेकिन मुझे लगता है कि वह 41 मतभेद की वजह से सांप्रदायिक मतभेद या मैं कहूं सांप्रदायिक उन्माद उत्पन्न होता है फॉर example अगर मैं बात करूं तो हमारे देश के अंदर जो भी बड़ी बड़ी राष्ट्रीय पार्टी है भारतीय जनता पार्टी की बात को या कांग्रेस की बात करूं हर पार्टी की एक अपनी विचारधारा होती है और उसी विचारधारा को को फॉलो करते हैं जिसे भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रवाद की बात करती है कांग्रेस से करो यानी धर्मनिरपेक्ष की बात करती है लेकिन इन रियलिटी आप देखोगे तो उनका राष्ट्रवाद से कोई लेना देना नहीं है पर इनका धर्म ने फिर से लेना देना नहीं है और दोनों इसी तरह की जो भी अन्य पार्टी हमारे देश के अंदर हैLekin Mujhe Lagta Hai Ki Wah 41 Matbhed Ki Wajah Se Sampradayik Matbhed Ya Main Kahun Sampradayik Unmaad Utpann Hota Hai For Example Agar Main Baat Karun To Hamare Desh Ke Andar Jo Bhi Badi Badi Rashtriya Party Hai Bhartiya Janta Party Ki Baat Ko Ya Congress Ki Baat Karun Har Party Ki Ek Apni Vichardhara Hoti Hai Aur Ussi Vichardhara Ko Ko Follow Karte Hain Jise Bhartiya Janta Party Rashtravad Ki Baat Karti Hai Congress Se Karo Yani Dharmanirapeksh Ki Baat Karti Hai Lekin In Reality Aap Dekhoge To Unka Rashtravad Se Koi Lena Dena Nahi Hai Par Inka Dharm Ne Phir Se Lena Dena Nahi Hai Aur Dono Isi Tarah Ki Jo Bhi Anya Party Hamare Desh Ke Andar Hai
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक मित्र और प्रेमी में बहुत बड़ा अंतर होता है हां मित्र जो है प्रेमी हो सकता है मगर नहीं हो सकता क्योंकि मित्र जो होता है वह हमारा हमेशा साथ देता है कोई प्रॉब्लम होती है हमारा साथ देता है कुछ ही दुख स...
जवाब पढ़िये
एक मित्र और प्रेमी में बहुत बड़ा अंतर होता है हां मित्र जो है प्रेमी हो सकता है मगर नहीं हो सकता क्योंकि मित्र जो होता है वह हमारा हमेशा साथ देता है कोई प्रॉब्लम होती है हमारा साथ देता है कुछ ही दुख सुख कुछ ओशो प्रेमी होता है उसके साथ हमेशा लड़ाई होती है कुछ भी हो जाए कुछ ऐसे वैसे तो उसके साथ होती है प्रेमी के साथ अपने मित्र के साथ हम हर एक बात शेयर कर सकते हैं बल्कि प्रेमी की भी बात शेयर कर सकती है मगर प्रेमी के साथ अगर हम मित्र की बात से मदद को शेयर करें कुछ बोलेंगे तो फाइट हो सकती है लड़ाई हो सकती है तो यह फर्क होता हम दोनों मेंEk Mitra Aur Premi Mein Bahut Bada Antar Hota Hai Haan Mitra Jo Hai Premi Ho Sakta Hai Magar Nahi Ho Sakta Kyonki Mitra Jo Hota Hai Wah Hamara Hamesha Saath Deta Hai Koi Problem Hoti Hai Hamara Saath Deta Hai Kuch Hi Dukh Sukh Kuch Osho Premi Hota Hai Uske Saath Hamesha Ladai Hoti Hai Kuch Bhi Ho Jaye Kuch Aise Waise To Uske Saath Hoti Hai Premi Ke Saath Apne Mitra Ke Saath Hum Har Ek Baat Share Kar Sakte Hain Balki Premi Ki Bhi Baat Share Kar Sakti Hai Magar Premi Ke Saath Agar Hum Mitra Ki Baat Se Madad Ko Share Karen Kuch Bolenge To Fight Ho Sakti Hai Ladai Ho Sakti Hai To Yeh Fark Hota Hum Dono Mein
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप जाना चाहते हैं गांव और शहर में क्या अंतर है तो उसका बेसिक डिफरेंस यह है कि गांव का जो कुछ पसंद है हमारे जो देश में जितने गांव हैं कुछ को संस्कृत में जो है उसे कम हो रही है क्योंकि यह शहरों में क्या...
जवाब पढ़िये
आप जाना चाहते हैं गांव और शहर में क्या अंतर है तो उसका बेसिक डिफरेंस यह है कि गांव का जो कुछ पसंद है हमारे जो देश में जितने गांव हैं कुछ को संस्कृत में जो है उसे कम हो रही है क्योंकि यह शहरों में क्या है कि इंडस्ट्रीज डिपार्टमेंट है वह भी ध्यान देती है अलग अलग से राज्य में राज्य के शहर है इस पर ध्यान देती है लेकिन क्यों गांव अथवा से पिछड़ जाता है जो कि उस देश की प्रगति के साथ नहीं आगे बढ़ पा रहे तो एक डिफरेंस है लाइफ में हर जगह अच्छी होती है आपके ऊपर डिपेंड करता है आप की अवधारणा है कैसी है आपको कौन सा कौन सा लाइफ स्टाइल अच्छा है तो वह सबके लिए टाइम है जो गांव में रहते हैं उनके गांव की लाइफ स्टाइल में अच्छी लगती है शहर में लोग रहते हैं उन्हें शहर क्लास 12th तो इस तरह कमीनी कहां जाऊं किसके लाइफ अच्छी है लाइफ आपके ऊपर है आप कैसे जीते हैं कैसे लाइफ को एंजॉय करते हैं तो उसके अनुसार से लाइफ डिपेंड होती है तो शहर वैसे यह जनता को सुख सुविधाओं के अंतर है जो इतनी फैसिलिटी नहीं मिलती है गांव में इस व्हिच इज डिफरेंस है थोड़ेAap Jana Chahte Hain Gav Aur Sheher Mein Kya Antar Hai To Uska Basic Difference Yeh Hai Ki Gav Ka Jo Kuch Pasand Hai Hamare Jo Desh Mein Jitne Gav Hain Kuch Ko Sanskrit Mein Jo Hai Use Kam Ho Rahi Hai Kyonki Yeh Shaharon Mein Kya Hai Ki Industries Department Hai Wah Bhi Dhyan Deti Hai Alag Alag Se Rajya Mein Rajya Ke Sheher Hai Is Par Dhyan Deti Hai Lekin Kyon Gav Athwa Se Pichad Jata Hai Jo Ki Us Desh Ki Pragati Ke Saath Nahi Aage Badh Pa Rahe To Ek Difference Hai Life Mein Har Jagah Acchi Hoti Hai Aapke Upar Depend Karta Hai Aap Ki Awdharna Hai Kaisi Hai Aapko Kaon Sa Kaon Sa Life Style Accha Hai To Wah Sabke Liye Time Hai Jo Gav Mein Rehte Hain Unke Gav Ki Life Style Mein Acchi Lagti Hai Sheher Mein Log Rehte Hain Unhen Sheher Class 12th To Is Tarah Kamini Kahaan Jaun Kiske Life Acchi Hai Life Aapke Upar Hai Aap Kaise Jeete Hain Kaise Life Ko Enjoy Karte Hain To Uske Anusar Se Life Depend Hoti Hai To Sheher Waise Yeh Janta Ko Sukh Suvidhaon Ke Antar Hai Jo Itni Facility Nahi Milti Hai Gav Mein Is Which Is Difference Hai Thode
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon
आज कि पाना लक्ष्मी जीवन के सेक्स में जो है वह बहुत तरह डिफरेंस रहता है क्योंकि ऐसा कौन है वह तो आप कौन से एंटरटेनमेंट के लिए बनाया जाता है मनोरंजन के लिए बनाया जाता है इंजॉयमेंट के बनाया जाता है और वह एक मूवी रहती है जिसको पहले से जो है वह डायरेक्टर उसको सेट करके रखता है और एक्ट्रेस को बता देता है कि आपको क्या-क्या करना है कैसे कैसे करना है और कितनी आवाज निकालने तो बोलो उसे आवाज निकालते हैं अगर उन लोगों करने का मन भी नहीं है तब भी उनको करना पड़ेगा क्योंकि वही उनका रोजगार है और उन्हें उनको पैसे मिलते हैं जबकि जो है वह असली जीवन में ऐसा नहीं है अगर आपको अट्रैक्शन नहीं है आ गया क्या आप क्या प्रोजेक्ट है साइको जो है वह करने का मन नहीं है तो आप जो है उसे जबरदस्ती नहीं कर सकते और जो लोग करते हैं और आप रिप्लाई नहीं कर सकते हो सके अपोजिट साइड वालों को दिक्कत हो तो बहुत सारी चीज होती है और क्योंकि आप लोग एक्टर्स को अपनी कंडीशन के हिसाब से करना पड़ता हैAaj Ki Pana Laxmi Jeevan Ke Sex Mein Jo Hai Wah Bahut Tarah Difference Rehta Hai Kyonki Aisa Kaun Hai Wah To Aap Kaun Se Entertainment Ke Liye Banaya Jata Hai Manoranjan Ke Liye Banaya Jata Hai Injayament Ke Banaya Jata Hai Aur Wah Ek Movie Rehti Hai Jisko Pehle Se Jo Hai Wah Director Usko Set Karke Rakhta Hai Aur Actress Ko Bata Deta Hai Ki Aapko Kya Kya Karna Hai Kaise Kaise Karna Hai Aur Kitni Aawaj Nikalne To Bolo Use Aawaj Nikalate Hain Agar Un Logon Karne Ka Man Bhi Nahi Hai Tab Bhi Unko Karna Padega Kyonki Wahi Unka Rojgar Hai Aur Unhen Unko Paise Milte Hain Jabki Jo Hai Wah Asli Jeevan Mein Aisa Nahi Hai Agar Aapko Attraction Nahi Hai Aa Gaya Kya Aap Kya Project Hai Psycho Jo Hai Wah Karne Ka Man Nahi Hai To Aap Jo Hai Use Jabardasti Nahi Kar Sakte Aur Jo Log Karte Hain Aur Aap Reply Nahi Kar Sakte Ho Sake Opposite Side Walon Ko Dikkat Ho To Bahut Saree Cheez Hoti Hai Aur Kyonki Aap Log Actors Ko Apni Condition Ke Hisab Se Karna Padata Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक मैं जानता हूं मैं यह सब से सनातनधर्म है ना जो वह जीवन जीवन को विकसित करने के लिए लाया गया तो इसी सनातन धर्म की वजह से ईसाई धर्म बनी ईसाई हिंदू और जितने भी धर्म है इसी के चलते बने इससे और सनातन...
जवाब पढ़िये
जहां तक मैं जानता हूं मैं यह सब से सनातनधर्म है ना जो वह जीवन जीवन को विकसित करने के लिए लाया गया तो इसी सनातन धर्म की वजह से ईसाई धर्म बनी ईसाई हिंदू और जितने भी धर्म है इसी के चलते बने इससे और सनातन धर्म में आज की कोई स्वतंत्र व्यक्ति स्वतंत्र विचारक तो उससे ही एक उससे उसके परिवार का गठन हुआ उससे उसके गांव का फल धीरे धीरे धीरे चलें 2 जिलों का तरीका देशों का इस प्रकार से इसका गठन हुआ है हिसाब से सनातन जो है यह सारे धर्म सनातन से ही उत्पन्न हुई हुईJahan Tak Main Jaanta Hoon Main Yeh Sab Se Sanatandharm Hai Na Jo Wah Jeevan Jeevan Ko Viksit Karne Ke Liye Laya Gaya To Isi Sanatan Dharm Ki Wajah Se Isai Dharm Bani Isai Hindu Aur Jitne Bhi Dharm Hai Isi Ke Chalte Bane Isse Aur Sanatan Dharm Mein Aaj Ki Koi Swatantra Vyakti Swatantra Vicharak To Usse Hi Ek Usse Uske Parivar Ka Gathan Hua Usse Uske Gav Ka Fal Dhire Dhire Dhire Chalen 2 Jilon Ka Tarika Deshon Ka Is Prakar Se Iska Gathan Hua Hai Hisab Se Sanatan Jo Hai Yeh Sare Dharm Sanatan Se Hi Utpann Hui Hui
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कंप्यूटर में बहुत सारी मॉडिफाइड की होती है जैसे कि Swift कंट्रोल ओल्ड स्विफ्ट एक ऐसी मोदी पर अकेली होती है जो उल्टा करने के लिए या अपरकेस लेटर को दिखाने के लिए की जाती है जैसे कि अगर आप देखेंगे तो सिं...
जवाब पढ़िये
कंप्यूटर में बहुत सारी मॉडिफाइड की होती है जैसे कि Swift कंट्रोल ओल्ड स्विफ्ट एक ऐसी मोदी पर अकेली होती है जो उल्टा करने के लिए या अपरकेस लेटर को दिखाने के लिए की जाती है जैसे कि अगर आप देखेंगे तो सिंपल ही दिखाएगा को स्माल लेटर्स में लिखना उचित के साथ इस्तेमाल करेंगे तो कैपिटल हो जाएगा ध्यान रखिए कैप्स लॉक का इस्तेमाल करते समय अगर आप शिफ्ट का इस्तेमाल करेंगे तो दोबारा सेवक से छोटा बना लगेगा इसके अलावा जो कंट्रोल की होती वह भीख मॉडिफाइड की होती है लेकिन फंक्शन की के साथ इसका अधिक उपयोग किया जाता है या इसके अलावा जो भी निम्न रिक्त पद पर बटन दिए हुए हैं उनके साथ इसका उपयोग किया जाता है कंट्रोल बटन अकेले कोई भी काम नहीं करती है उसके साथ किसी ने किसी बटन को दबाना आवश्यक है जैसे कि कंट्रोल यह तो यह सभी चीज को सेलेक्ट कर लेगी कंट्रोल से सारी चीजों को कॉपी करने के लिए कंट्रोल पी प्रिंट आउट निकालने के लिए तो दोनों की दोनों बटन Swift और कंट्रोल में काफी अंतर है और अलग-अलग परफॉर्म अलग-अलग चीजें परफॉर्म करने के लिए इनका उपयोग किया जाता है धन्यवादComputer Mein Bahut Saree Modified Ki Hoti Hai Jaise Ki Swift Control Old Swift Ek Aisi Modi Par Akeli Hoti Hai Jo Ulta Karne Ke Liye Ya Uppercase Letter Ko Dikhane Ke Liye Ki Jati Hai Jaise Ki Agar Aap Dekhenge To Simple Hi Dikhaega Ko Small Letters Mein Likhna Uchit Ke Saath Istemal Karenge To Capital Ho Jayega Dhyan Rakhiye Caps Lock Ka Istemal Karte Samay Agar Aap Shift Ka Istemal Karenge To Dobara Sevak Se Chota Bana Lagega Iske Alava Jo Control Ki Hoti Wah Bhik Modified Ki Hoti Hai Lekin Function Ki Ke Saath Iska Adhik Upyog Kiya Jata Hai Ya Iske Alava Jo Bhi Nimn Rikt Pad Par Button Diye Hue Hain Unke Saath Iska Upyog Kiya Jata Hai Control Button Akele Koi Bhi Kaam Nahi Karti Hai Uske Saath Kisi Ne Kisi Button Ko Dabana Aavashyak Hai Jaise Ki Control Yeh To Yeh Sabhi Cheez Ko Select Kar Legi Control Se Saree Chijon Ko Copy Karne Ke Liye Control P Print Out Nikalne Ke Liye To Dono Ki Dono Button Swift Aur Control Mein Kafi Antar Hai Aur Alag Alag Perform Alag Alag Cheezen Perform Karne Ke Liye Inka Upyog Kiya Jata Hai Dhanyavad
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon