अमेरिका की टाइम मैगजीन ने प्रधानमंत्री मोदी को "इंडियाज डिवाइडर इन चीफ" कहा है| इस पर आपका क्या कहना है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमेरिका की टाइम मैगजीन यह देखकर बहुत प्रतिष्ठित पत्रिका है और पूरे विश्व में इसकी पहचान है पहुंचने लेकिन यहां यह समझना बहुत जरूरी है कि जिस व्यक्ति ने डिवाइड रंजीत के स्लोगन से भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित किया है वह व्यक्ति कौन है और इसके पीछे उनकी मंशा क्या है दरअसल अमेरिका के अंदर ट्रंप के लिए यह स्लोगन कई बार मीडिया के द्वारा इस्तेमाल किया गया है टाइटल इन चीफ के रूप में टर्न को प्रदर्शित किया गया है ऐसा इसलिए होता रहा है क्योंकि नेशनलिस्ट आईडियोलॉजी को ट्रंप ने अपनी हां प्रमोट किया और इलीगल इमीग्रेशन को रोकने का प्रयास किया कई ऐसे देश के मुस्लिम देश है जिनके कारण आतंकवाद में बढ़ावा मिला उन देशों पर प्रतिबंध लगाने के पक्षधर ट्रंप रहे उसी मंशा को आगे बढ़ाते हुए मोदी को भी इसी स्लोगन के साथ जोड़ते हुए ऐसे लेखक ने जिसका नाम है आर्थिक तहसील जो मूलतः जिसके पिता पाकिस्तानी है पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की 2008 से 2011 तक गवर्नर है और भारत में इसरो के द्वारा अनुसंधान के सदैव विरोधी रहे और बहुत कड़े शब्दों में उन्होंने भारत के अनुसंधान की कड़ी आलोचना की है हां इसकी मां जो है वह तवलीन सिंह जॉब कॉलिंग नसीर है वह कह सकते कि भारतीय महिला है और दोनों की यह अवैध संतान कहा जा सकता है क्योंकि दोनों के बारे में यह भी चर्चा है कि इनकी आपस में शादी नहीं हुई थी तो एक कहीं न कहीं भारत के प्रति घृणा का भाव यह लेखक रखता है और यही कारण है कि प्रधानमंत्री मोदी की छवि को बिगाड़ने के लिए डिवाइडर इन चीफ का इन्होंने स्लोगन दिया जो कतई उचित नहीं है
अमेरिका की टाइम मैगजीन यह देखकर बहुत प्रतिष्ठित पत्रिका है और पूरे विश्व में इसकी पहचान है पहुंचने लेकिन यहां यह समझना बहुत जरूरी है कि जिस व्यक्ति ने डिवाइड रंजीत के स्लोगन से भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित किया है वह व्यक्ति कौन है और इसके पीछे उनकी मंशा क्या है दरअसल अमेरिका के अंदर ट्रंप के लिए यह स्लोगन कई बार मीडिया के द्वारा इस्तेमाल किया गया है टाइटल इन चीफ के रूप में टर्न को प्रदर्शित किया गया है ऐसा इसलिए होता रहा है क्योंकि नेशनलिस्ट आईडियोलॉजी को ट्रंप ने अपनी हां प्रमोट किया और इलीगल इमीग्रेशन को रोकने का प्रयास किया कई ऐसे देश के मुस्लिम देश है जिनके कारण आतंकवाद में बढ़ावा मिला उन देशों पर प्रतिबंध लगाने के पक्षधर ट्रंप रहे उसी मंशा को आगे बढ़ाते हुए मोदी को भी इसी स्लोगन के साथ जोड़ते हुए ऐसे लेखक ने जिसका नाम है आर्थिक तहसील जो मूलतः जिसके पिता पाकिस्तानी है पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की 2008 से 2011 तक गवर्नर है और भारत में इसरो के द्वारा अनुसंधान के सदैव विरोधी रहे और बहुत कड़े शब्दों में उन्होंने भारत के अनुसंधान की कड़ी आलोचना की है हां इसकी मां जो है वह तवलीन सिंह जॉब कॉलिंग नसीर है वह कह सकते कि भारतीय महिला है और दोनों की यह अवैध संतान कहा जा सकता है क्योंकि दोनों के बारे में यह भी चर्चा है कि इनकी आपस में शादी नहीं हुई थी तो एक कहीं न कहीं भारत के प्रति घृणा का भाव यह लेखक रखता है और यही कारण है कि प्रधानमंत्री मोदी की छवि को बिगाड़ने के लिए डिवाइडर इन चीफ का इन्होंने स्लोगन दिया जो कतई उचित नहीं है
Likes  55  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

अगर अमेरिका भारत से युद्ध करने की घोषणा कर देता है तो उस वक्त के प्रधानमंत्री माननीय मोदी जी क्या कदम उठाएंगे आपका विचार जानना चाहता हूं? ...

नमस्कार आप का क्वेश्चन है कि अमेरिका भारत के युद्ध करने की घोषणा कर देता है तो प्रधान जी प्रधानमंत्री मोदी जी हैं वह बैठकर उनके साथ विचार-विमर्श करेंगे मेरे हिसाब से और कभी भी युद्ध नहीं होने देंगे क्जवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय श्री राम आपका प्रश्न बड़ा ही सुंदर है कि अमेरिका की टाइम मैगजीन ने प्रधानमंत्री को इस प्रकार का व्यक्ति बताया है परंतु आपको इससे पहले टाइम मैगजीन का पूरा इतिहास जान लेना चाहिए यह वही टाइम मैगजीन है जिसने महात्मा गांधी को पड़ेगी अब शब्दों से बार बार दर्शाया था और आखिर इसी टाइम मैगजीन ने जब महात्मा गांधी की नथुराम गोडसे ने गोली मारकर हत्या की थी तो इसी टाइम में जिन ने इसकी प्रशंसा में कई सालों तक पुल बांध दिए पता करने का मतलब है कि यह एक दोगले पडने वाली मैगजीन है जो यह रोया इसका आज से नहीं है यह वर्षों से चला आ रहा है यह कोई प्रभावशाली व्यक्ति है हमें किसी प्रभावशाली व्यक्ति की आलोचना करती है और बाद में उसकी प्रशंसा करती है जो नरेंद्र मोदी के साथ हो रहा है बस यही वजह है किस टाइम मैगजीन की ऐसी ही विचारधारा है जय श्री राम
जय श्री राम आपका प्रश्न बड़ा ही सुंदर है कि अमेरिका की टाइम मैगजीन ने प्रधानमंत्री को इस प्रकार का व्यक्ति बताया है परंतु आपको इससे पहले टाइम मैगजीन का पूरा इतिहास जान लेना चाहिए यह वही टाइम मैगजीन है जिसने महात्मा गांधी को पड़ेगी अब शब्दों से बार बार दर्शाया था और आखिर इसी टाइम मैगजीन ने जब महात्मा गांधी की नथुराम गोडसे ने गोली मारकर हत्या की थी तो इसी टाइम में जिन ने इसकी प्रशंसा में कई सालों तक पुल बांध दिए पता करने का मतलब है कि यह एक दोगले पडने वाली मैगजीन है जो यह रोया इसका आज से नहीं है यह वर्षों से चला आ रहा है यह कोई प्रभावशाली व्यक्ति है हमें किसी प्रभावशाली व्यक्ति की आलोचना करती है और बाद में उसकी प्रशंसा करती है जो नरेंद्र मोदी के साथ हो रहा है बस यही वजह है किस टाइम मैगजीन की ऐसी ही विचारधारा है जय श्री राम
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:America Ki Time Magazine Ne Pradhanmantri Modi Ko Indiyaj divider in Chief  kaha hai Is Par Aapka Kya Kehna Hai,America's Time Magazine Has Called Prime Minister Modi "India's Dividend In Chief". What Do You Have To Say On This?,


vokalandroid