search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

एक व्यक्ति से आप ऐसा क्या सवाल पूछ सकते हैं जिससे आप को उनके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक वृत्त से कोई एक सवाल पूछ कर उसके व्यक्ति के बारे में जान पाना है बहुत मुश्किल काम है वह इसलिए कि एक कपल साथ साथ रहते हैं और बरसों साथ रहते हैं 30 साल 40 साल 50 साल से फिर भी उसके बारे में कुछ ना कुछ बचा रहेगा जानना समझना और बहुत बार तो ऐसा होता है कि बिल्कुल उनके इरादों और उनके चरित्र के बारे में पता करना मुझे यह सवाल तो बहुत मुश्किल है कि किसी एक सवाल करके किसी आदमी के बारे में सब कुछ जान लिया जाए हां अगर यह सवाल सामने से किया जा रहा है और आगे आदमी है तो उसके बारे में क्या लगता है इस आदमी का उसका बात करने का तरीका उसके रिस्पांस करने का तरीका उसके भाव भंगिमा उसे उसके बारे में उसे ड्रेस ड्रेस कोट ड्रेस से उसके बारे में राज निकालते हैं उसकी बैठने के तरीके से बात करते हैं थोड़ा युवराज निकलती है और जिस विषय पर बात कर रहे हैं उनके स्टेटमेंट डिलीवरी से उसके बारे में उनकी गा रहा है उनका एक्सपीरियंस पता लगता है और चेहरे के कंप्रेशन से भी पता लगता है यह सब होता है लेकिन ऐसा नहीं है कि किसी आदमी के बारे में सारा का सारा पता करने और सब कुछ चला मोटा मोटा आइडिया का है कि वह क्या सोचता है क्या नहीं करता है उसके एक्शन से झलक निकलती है और जब अगर लंबे समय तक उसके साथ समय गुजारने का वक्त मिलता है तब उसके बारे में कंफर्म राय बन्नी शुरू होती है कि आदमी इस नेचर का सपोर्ट इन नेचर का है नेगेटिव नेचर का है ऐसा दूसरों की मदद करने वाला है दूसरे के दुख में दुखी होने वाला है दूसरे के दुख से परेशान हो जाने वाला है किंतु इनका टाइप का आदमी है चिंतक टाइप का आदमी है सामाजिक सरोकारों से वास्ता रखने वाला है यह यह सब पर से बनती है और रेट के व्यक्तित्व के बारे में कंफर्म राय बनती है क्या साहब यह इस तरह का सोच कर समझ का आदमी है और दुखी है या शान है यह तो उसके सामने से आप अगर आप देखेंगे तो और आह निकलती कुछ लोग दौड़ लेते हैं कुछ लोग दुखी होने के बावजूद आपने तो को छुपा लेते हैं और मुस्कुराते तो वाला गलत किस्म के वक्त कितना बीघा होता है जिसके बारे में एक सवाल से आपको हीरा निकाल नहीं सकते
Romanized Version
एक वृत्त से कोई एक सवाल पूछ कर उसके व्यक्ति के बारे में जान पाना है बहुत मुश्किल काम है वह इसलिए कि एक कपल साथ साथ रहते हैं और बरसों साथ रहते हैं 30 साल 40 साल 50 साल से फिर भी उसके बारे में कुछ ना कुछ बचा रहेगा जानना समझना और बहुत बार तो ऐसा होता है कि बिल्कुल उनके इरादों और उनके चरित्र के बारे में पता करना मुझे यह सवाल तो बहुत मुश्किल है कि किसी एक सवाल करके किसी आदमी के बारे में सब कुछ जान लिया जाए हां अगर यह सवाल सामने से किया जा रहा है और आगे आदमी है तो उसके बारे में क्या लगता है इस आदमी का उसका बात करने का तरीका उसके रिस्पांस करने का तरीका उसके भाव भंगिमा उसे उसके बारे में उसे ड्रेस ड्रेस कोट ड्रेस से उसके बारे में राज निकालते हैं उसकी बैठने के तरीके से बात करते हैं थोड़ा युवराज निकलती है और जिस विषय पर बात कर रहे हैं उनके स्टेटमेंट डिलीवरी से उसके बारे में उनकी गा रहा है उनका एक्सपीरियंस पता लगता है और चेहरे के कंप्रेशन से भी पता लगता है यह सब होता है लेकिन ऐसा नहीं है कि किसी आदमी के बारे में सारा का सारा पता करने और सब कुछ चला मोटा मोटा आइडिया का है कि वह क्या सोचता है क्या नहीं करता है उसके एक्शन से झलक निकलती है और जब अगर लंबे समय तक उसके साथ समय गुजारने का वक्त मिलता है तब उसके बारे में कंफर्म राय बन्नी शुरू होती है कि आदमी इस नेचर का सपोर्ट इन नेचर का है नेगेटिव नेचर का है ऐसा दूसरों की मदद करने वाला है दूसरे के दुख में दुखी होने वाला है दूसरे के दुख से परेशान हो जाने वाला है किंतु इनका टाइप का आदमी है चिंतक टाइप का आदमी है सामाजिक सरोकारों से वास्ता रखने वाला है यह यह सब पर से बनती है और रेट के व्यक्तित्व के बारे में कंफर्म राय बनती है क्या साहब यह इस तरह का सोच कर समझ का आदमी है और दुखी है या शान है यह तो उसके सामने से आप अगर आप देखेंगे तो और आह निकलती कुछ लोग दौड़ लेते हैं कुछ लोग दुखी होने के बावजूद आपने तो को छुपा लेते हैं और मुस्कुराते तो वाला गलत किस्म के वक्त कितना बीघा होता है जिसके बारे में एक सवाल से आपको हीरा निकाल नहीं सकतेEk Vritt Se Koi Ek Sawal Poochh Kar Uske Vyakti Ke Bare Mein Jaan Pana Hai Bahut Mushkil Kaam Hai Wah Isliye Ki Ek Couple Saath Saath Rehte Hain Aur Barson Saath Rehte Hain 30 Saal 40 Saal 50 Saal Se Phir Bhi Uske Bare Mein Kuch Na Kuch Bacha Rahega Janana Samajhna Aur Bahut Baar Toh Aisa Hota Hai Ki Bilkul Unke Iradon Aur Unke Charitra Ke Bare Mein Pata Karna Mujhe Yeh Sawal Toh Bahut Mushkil Hai Ki Kisi Ek Sawal Karke Kisi Aadmi Ke Bare Mein Sab Kuch Jaan Liya Jaye Haan Agar Yeh Sawal Saamne Se Kiya Ja Raha Hai Aur Aage Aadmi Hai Toh Uske Bare Mein Kya Lagta Hai Is Aadmi Ka Uska Baat Karne Ka Tarika Uske Response Karne Ka Tarika Uske Bhav Bhangima Use Uske Bare Mein Use Dress Dress Coat Dress Se Uske Bare Mein Raaj Nikalate Hain Uski Baithne Ke Tarike Se Baat Karte Hain Thoda Yuvraj Nikalti Hai Aur Jis Vishay Par Baat Kar Rahe Hain Unke Statement Delivery Se Uske Bare Mein Unki Ga Raha Hai Unka Experience Pata Lagta Hai Aur Chehre Ke Compression Se Bhi Pata Lagta Hai Yeh Sab Hota Hai Lekin Aisa Nahi Hai Ki Kisi Aadmi Ke Bare Mein Saara Ka Saara Pata Karne Aur Sab Kuch Chala Mota Mota Idea Ka Hai Ki Wah Kya Sochta Hai Kya Nahi Karta Hai Uske Action Se Jhalak Nikalti Hai Aur Jab Agar Lambe Samay Tak Uske Saath Samay Gujarne Ka Waqt Milta Hai Tab Uske Bare Mein Confirm Rai Bani Shuru Hoti Hai Ki Aadmi Is Nature Ka Support In Nature Ka Hai Negative Nature Ka Hai Aisa Dusron Ki Madad Karne Vala Hai Dusre Ke Dukh Mein Dukhi Hone Vala Hai Dusre Ke Dukh Se Pareshan Ho Jaane Vala Hai Kintu Inka Type Ka Aadmi Hai Chintak Type Ka Aadmi Hai Samajik Sarokaron Se Vasta Rakhne Vala Hai Yeh Yeh Sab Par Se Banti Hai Aur Rate Ke Vyaktitva Ke Bare Mein Confirm Rai Banti Hai Kya Saheb Yeh Is Tarah Ka Soch Kar Samajh Ka Aadmi Hai Aur Dukhi Hai Ya Shan Hai Yeh Toh Uske Saamne Se Aap Agar Aap Dekhenge Toh Aur Aah Nikalti Kuch Log Daudh Lete Hain Kuch Log Dukhi Hone Ke Bawajud Aapne Toh Ko Chhupa Lete Hain Aur Muskurate Toh Vala Galat Kism Ke Waqt Kitna Bigha Hota Hai Jiske Bare Mein Ek Sawal Se Aapko Heera Nikaal Nahi Sakte
Likes  114  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

ques_icon

ques_icon

अधिक जवाब


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप किसी से किसी भी व्यक्ति से आप तो यह पूछे कि वह अपने मां बाप के बारे में क्या सोचते हैं और जहां उन्होंने जन्म लिया है उसके बारे में क्या सोचते हैं तो आपको बहुत गहराइयों तक पता चल जाएगा कि यह व्यक्ति का व्यक्तित्व कैसा है क्योंकि हमारे मां-बाप जो है और जहां हमने जन्म लिया है वह हमारा स्तोत्र है वह हमारा 100 वर्ष है और हम उनके बारे में कैसा फील करते हैं कैसा महसूस करते हैं उनके साथ हमारा संबंध कैसा है यह हमार को बहुत कुछ बताता है हमारे खुद के बारे में
Romanized Version
आप किसी से किसी भी व्यक्ति से आप तो यह पूछे कि वह अपने मां बाप के बारे में क्या सोचते हैं और जहां उन्होंने जन्म लिया है उसके बारे में क्या सोचते हैं तो आपको बहुत गहराइयों तक पता चल जाएगा कि यह व्यक्ति का व्यक्तित्व कैसा है क्योंकि हमारे मां-बाप जो है और जहां हमने जन्म लिया है वह हमारा स्तोत्र है वह हमारा 100 वर्ष है और हम उनके बारे में कैसा फील करते हैं कैसा महसूस करते हैं उनके साथ हमारा संबंध कैसा है यह हमार को बहुत कुछ बताता है हमारे खुद के बारे मेंAap Kisi Se Kisi Bhi Vyakti Se Aap To Yeh Puche Ki Wah Apne Maa Baap Ke Bare Mein Kya Sochte Hain Aur Jahan Unhone Janm Liya Hai Uske Bare Mein Kya Sochte Hain To Aapko Bahut Gehraiyon Tak Pata Chal Jayega Ki Yeh Vyakti Ka Vyaktitva Kaisa Hai Kyonki Hamare Maa Baap Jo Hai Aur Jahan Humne Janm Liya Hai Wah Hamara Stotra Hai Wah Hamara 100 Varsh Hai Aur Hum Unke Bare Mein Kaisa Feel Karte Hain Kaisa Mahsus Karte Hain Unke Saath Hamara Sambandh Kaisa Hai Yeh Humaar Ko Bahut Kuch Batata Hai Hamare Khud Ke Bare Mein
Likes  21  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बहुत ही सिंपल सवाल है जो आज चली मैंने दो-तीन बार इन लोगों से पूछा भी है जिससे मुझे उनकी पर्सनालिटी उनकी सोच कैसी है उसके बारे में पता चल पाया है और वह सवाल यह है कि मैं उनसे पूछती हूं कि जो लोग आपसे कम कम आते हैं या जो लोग समाज के दर्जे में आप से नीचे हैं आप उनको कैसे ठीक करते हैं या आप उनके बारे में क्या सोचते हैं और यह क्वेश्चन में इतना डायरेक्टली नहीं पूछती हूं क्योंकि ओबीसी अगर आप किसी से ऐसे धीरे के लिए पूछोगे तो सभी लोग उस टाइम पर अच्छा बोलने के लिए अपने आपको अच्छा प्रसन्न करने के लिए बोलेंगे कि हां मैं को लगता है कि सब ठीक है मैं बहुत अच्छे से ठीक करती हूं या करता हूं तो मैं अलग तरीके से पूछती हूं जिसमें मैं बोलती हूं कि जैसे जो लोग हमारे घर में काम कर रहे हैं या हमारे घर में जो बर्तन करने वाले आते हैं या हमारे घर की सफाई करते हैं वह उनको कैसे ठीक करते हैं और कभी-कभी ताकि पूछने की भी जरूरत नहीं पड़ती जब अपनी आंखों से देख लेते हो कि आप उनको कैसे ट्रीट कर रहे हो तो उससे आपको इंसान के पर्सनैलिटी नेचर व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है मुझे अभी भी याद है कि हमारी एक आंटी होती थी जो कि सुबह जो भी नाश्ता उनके घर में बनता था वही देसी घी के परांठे वह अपने घर में जो मेड आती थी उनको सबसे पहले खिलाती थी और वह यह बोलती थी कि अगर मैं इस को खाना खिला रही हूं तो मुझे ऐसा लगता है कि मैं भगवान को भोग चढ़ा रही हूं तो मुझे उनके बॉयज अभी भी याद आते हैं और मुझे लगता है कि इंसानों को इक्वलिटी करना चाहिए और यही एक क्वेश्चन मुझे उस सामने वाले व्यक्ति के बारे में बहुत कुछ बता देता है
Romanized Version
एक बहुत ही सिंपल सवाल है जो आज चली मैंने दो-तीन बार इन लोगों से पूछा भी है जिससे मुझे उनकी पर्सनालिटी उनकी सोच कैसी है उसके बारे में पता चल पाया है और वह सवाल यह है कि मैं उनसे पूछती हूं कि जो लोग आपसे कम कम आते हैं या जो लोग समाज के दर्जे में आप से नीचे हैं आप उनको कैसे ठीक करते हैं या आप उनके बारे में क्या सोचते हैं और यह क्वेश्चन में इतना डायरेक्टली नहीं पूछती हूं क्योंकि ओबीसी अगर आप किसी से ऐसे धीरे के लिए पूछोगे तो सभी लोग उस टाइम पर अच्छा बोलने के लिए अपने आपको अच्छा प्रसन्न करने के लिए बोलेंगे कि हां मैं को लगता है कि सब ठीक है मैं बहुत अच्छे से ठीक करती हूं या करता हूं तो मैं अलग तरीके से पूछती हूं जिसमें मैं बोलती हूं कि जैसे जो लोग हमारे घर में काम कर रहे हैं या हमारे घर में जो बर्तन करने वाले आते हैं या हमारे घर की सफाई करते हैं वह उनको कैसे ठीक करते हैं और कभी-कभी ताकि पूछने की भी जरूरत नहीं पड़ती जब अपनी आंखों से देख लेते हो कि आप उनको कैसे ट्रीट कर रहे हो तो उससे आपको इंसान के पर्सनैलिटी नेचर व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है मुझे अभी भी याद है कि हमारी एक आंटी होती थी जो कि सुबह जो भी नाश्ता उनके घर में बनता था वही देसी घी के परांठे वह अपने घर में जो मेड आती थी उनको सबसे पहले खिलाती थी और वह यह बोलती थी कि अगर मैं इस को खाना खिला रही हूं तो मुझे ऐसा लगता है कि मैं भगवान को भोग चढ़ा रही हूं तो मुझे उनके बॉयज अभी भी याद आते हैं और मुझे लगता है कि इंसानों को इक्वलिटी करना चाहिए और यही एक क्वेश्चन मुझे उस सामने वाले व्यक्ति के बारे में बहुत कुछ बता देता हैEk Bahut Hi Simple Sawal Hai Jo Aaj Chali Maine Do Teen Baar In Logon Se Puchha Bhi Hai Jisse Mujhe Unki Personality Unki Soch Kaisi Hai Uske Bare Mein Pata Chal Paya Hai Aur Wah Sawal Yeh Hai Ki Main Unse Puchti Hoon Ki Jo Log Aapse Kam Kam Aate Hain Ya Jo Log Samaaj Ke Darje Mein Aap Se Neeche Hain Aap Unko Kaise Theek Karte Hain Ya Aap Unke Bare Mein Kya Sochte Hain Aur Yeh Question Mein Itna Directly Nahi Puchti Hoon Kyonki Obc Agar Aap Kisi Se Aise Dhire Ke Liye Puchoge Toh Sabhi Log Us Time Par Accha Bolne Ke Liye Apne Aapko Accha Prasann Karne Ke Liye Bolenge Ki Haan Main Ko Lagta Hai Ki Sab Theek Hai Main Bahut Acche Se Theek Karti Hoon Ya Karta Hoon Toh Main Alag Tarike Se Puchti Hoon Jisme Main Bolti Hoon Ki Jaise Jo Log Hamare Ghar Mein Kaam Kar Rahe Hain Ya Hamare Ghar Mein Jo Bartan Karne Wale Aate Hain Ya Hamare Ghar Ki Safaai Karte Hain Wah Unko Kaise Theek Karte Hain Aur Kabhi Kabhi Taki Poochne Ki Bhi Zaroorat Nahi Padti Jab Apni Aakhon Se Dekh Lete Ho Ki Aap Unko Kaise Treat Kar Rahe Ho Toh Usse Aapko Insaan Ke Personality Nature Vyaktitva Ke Bare Mein Bahut Kuch Pata Chal Sakta Hai Mujhe Abhi Bhi Yaad Hai Ki Hamari Ek Aunty Hoti Thi Jo Ki Subah Jo Bhi Nashta Unke Ghar Mein Banta Tha Wahi Desi Ghee Ke Paranthe Wah Apne Ghar Mein Jo Made Aati Thi Unko Sabse Pehle Khilati Thi Aur Wah Yeh Bolti Thi Ki Agar Main Is Ko Khana Kila Rahi Hoon Toh Mujhe Aisa Lagta Hai Ki Main Bhagwan Ko Bhog Chadha Rahi Hoon Toh Mujhe Unke Boys Abhi Bhi Yaad Aate Hain Aur Mujhe Lagta Hai Ki Insanon Ko Equality Karna Chahiye Aur Yahi Ek Question Mujhe Us Saamne Wale Vyakti Ke Bare Mein Bahut Kuch Bata Deta Hai
Likes  17  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी व्यक्ति से एक सवाल पूछ कर आप उसके व्यक्तित्व के बारे में धारणा नहीं बना सकते उस वक्त उसका जवाब उसकी सिचुएशंस के कोडिंग लिपि हो सकता है इसलिए हम एक सवाल पूछ कर किसी भी व्यक्ति व्यक्ति का व्यक्तित्व के बारे में एक धारणा यह जानकारी सही रूप में नहीं ले सकते
Romanized Version
किसी भी व्यक्ति से एक सवाल पूछ कर आप उसके व्यक्तित्व के बारे में धारणा नहीं बना सकते उस वक्त उसका जवाब उसकी सिचुएशंस के कोडिंग लिपि हो सकता है इसलिए हम एक सवाल पूछ कर किसी भी व्यक्ति व्यक्ति का व्यक्तित्व के बारे में एक धारणा यह जानकारी सही रूप में नहीं ले सकतेKisi Bhi Vyakti Se Ek Sawal Poochh Kar Aap Uske Vyaktitva Ke Bare Mein Dharana Nahi Bana Sakte Us Waqt Uska Jawab Uski Sichueshans Ke Coding Lipi Ho Sakta Hai Isliye Hum Ek Sawal Poochh Kar Kisi Bhi Vyakti Vyakti Ka Vyaktitva Ke Bare Mein Ek Dharana Yeh Jankari Sahi Roop Mein Nahi Le Sakte
Likes  22  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी इंसान की पर्सनैलिटी के सवाल क्या हाल है उसे ठीक होता है और कुछ माना जाता है और दूसरी बात यह है उसका बॉडी लैंग्वेज होती है और उसकी आई मूवमेंट चित्र सहित किसी भी क्वेश्चन पर वह आंखों को किस तरह से करता है या को कहां देखते हैं जी आप से बात कर रहे हैं तो आप की तरफ देख रहे हैं या नहीं या कहीं और देख रहे हैं और दूसरा होता है ध्यान देना उत्तर प्रदेश
Romanized Version
किसी भी इंसान की पर्सनैलिटी के सवाल क्या हाल है उसे ठीक होता है और कुछ माना जाता है और दूसरी बात यह है उसका बॉडी लैंग्वेज होती है और उसकी आई मूवमेंट चित्र सहित किसी भी क्वेश्चन पर वह आंखों को किस तरह से करता है या को कहां देखते हैं जी आप से बात कर रहे हैं तो आप की तरफ देख रहे हैं या नहीं या कहीं और देख रहे हैं और दूसरा होता है ध्यान देना उत्तर प्रदेशKisi Bhi Insaan Ki Personality Ke Sawal Kya Haal Hai Use Theek Hota Hai Aur Kuch Mana Jata Hai Aur Dusri Baat Yeh Hai Uska Body Language Hoti Hai Aur Uski I Movement Chitra Sahit Kisi Bhi Question Par Wah Aakhon Ko Kis Tarah Se Karta Hai Ya Ko Kahaan Dekhte Hain Ji Aap Se Baat Kar Rahe Hain Toh Aap Ki Taraf Dekh Rahe Hain Ya Nahi Ya Kahin Aur Dekh Rahe Hain Aur Doosra Hota Hai Dhyan Dena Uttar Pradesh
Likes  60  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्वयं को जाने बिना दूसरे को नहीं जाना जा सकता जो दूसरे को जान रहा है बाद में क्या नहीं होगा दूसरे को जान पाने देखता न समझ पाने में हमसे इसीलिए भूल हो जाती है ना क्योंकि हमें खुद का ही कुछ पता नहीं दूसरे को देख पाने की अगर हमने योग्यता होती तो उसी योग्यता का उपयोग करके सबसे पहले हमने खुद को देख लिया होता हमारी हालत ऐसी है कि हम करें कि मुझे समय नहीं दिख रहा आंखें खराब है जल्दी कर देना तुम्हारी घड़ी में समय देख लूंगा उसकी कलाई में समय देख सकते हैं तो पहले अपनी घड़ी में ना देख लिया होता पर हमारी बड़ी रुचि रहती है दूसरे की सच्चाई जानने पर प्रश्न भी हम यही करते हैं कि दूसरे की पर्सनालिटी दूसरे के व्यक्तित्व के पीछे क्या है कैसे पता करें जासूसी और सनसनीखेज टीवी धारावाहिकों का काम है क्या चल रहा है पता करना है कुछ अपने घर में क्या चल रहा है यह पता है लगाकर बैठ के पड़ोसी के घर पर कांड सब अपने घर में हो गए हमार अपना मन नहीं पढ़ते टीवी देख रहे हैं कमली मनप्रीत दूसरे को जानना है तो खुद को जान लो अपने क्रोध को अपने सुख को दुख हुआ को निराशा को अगर तुम जान पाए तो दूसरे को जानने में बिल्कुल तुम्हारे ऊपर ऊपर कुछ बातें होती है शरीर अलग-अलग जितना गहरे जाओगे भेद कम होते जा रहे हैं और साझा पर बढ़ता जा रहा है किसी के घर में कुछ नहीं चल रहा है जो किसी और के घर की घटनाओं से फिल्म कितनी पीड़ा दूसरे की पीड़ा से दिन नहीं है मनुष्य तो मनुष्य पशुओं की भी पीड़ा वही है जो ऊंचे से ऊंचे मनुष्य की है जब भी तुम समझते हो तो ऐसे ही बोलते हैं इसी का फल करो ना है इसी का फल मिलता है
स्वयं को जाने बिना दूसरे को नहीं जाना जा सकता जो दूसरे को जान रहा है बाद में क्या नहीं होगा दूसरे को जान पाने देखता न समझ पाने में हमसे इसीलिए भूल हो जाती है ना क्योंकि हमें खुद का ही कुछ पता नहीं दूसरे को देख पाने की अगर हमने योग्यता होती तो उसी योग्यता का उपयोग करके सबसे पहले हमने खुद को देख लिया होता हमारी हालत ऐसी है कि हम करें कि मुझे समय नहीं दिख रहा आंखें खराब है जल्दी कर देना तुम्हारी घड़ी में समय देख लूंगा उसकी कलाई में समय देख सकते हैं तो पहले अपनी घड़ी में ना देख लिया होता पर हमारी बड़ी रुचि रहती है दूसरे की सच्चाई जानने पर प्रश्न भी हम यही करते हैं कि दूसरे की पर्सनालिटी दूसरे के व्यक्तित्व के पीछे क्या है कैसे पता करें जासूसी और सनसनीखेज टीवी धारावाहिकों का काम है क्या चल रहा है पता करना है कुछ अपने घर में क्या चल रहा है यह पता है लगाकर बैठ के पड़ोसी के घर पर कांड सब अपने घर में हो गए हमार अपना मन नहीं पढ़ते टीवी देख रहे हैं कमली मनप्रीत दूसरे को जानना है तो खुद को जान लो अपने क्रोध को अपने सुख को दुख हुआ को निराशा को अगर तुम जान पाए तो दूसरे को जानने में बिल्कुल तुम्हारे ऊपर ऊपर कुछ बातें होती है शरीर अलग-अलग जितना गहरे जाओगे भेद कम होते जा रहे हैं और साझा पर बढ़ता जा रहा है किसी के घर में कुछ नहीं चल रहा है जो किसी और के घर की घटनाओं से फिल्म कितनी पीड़ा दूसरे की पीड़ा से दिन नहीं है मनुष्य तो मनुष्य पशुओं की भी पीड़ा वही है जो ऊंचे से ऊंचे मनुष्य की है जब भी तुम समझते हो तो ऐसे ही बोलते हैं इसी का फल करो ना है इसी का फल मिलता है
Likes  119  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक व्यक्ति से आप ऐसा क्या सवाल पूछ सकते हैं जिससे आप उनके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल जाए एक बार साधारण सा प्रशन है सिर्फ हम उसको सम्मान और अभिनंदन करेंगे और उसका जो उसका जो उसे जवाब प्राप्त होगा सब कुछ पता चल जाएगा अक्षरधाम चीज है कि आपका हाल-चाल कैसा है उसका जो जवाब मिलेगा वह हमें उसके व्यक्तित्व के बारे में बता दिया जाएगा इस प्रश्न का प्रश्न ही हाल है ध्यान रखना
Romanized Version
एक व्यक्ति से आप ऐसा क्या सवाल पूछ सकते हैं जिससे आप उनके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल जाए एक बार साधारण सा प्रशन है सिर्फ हम उसको सम्मान और अभिनंदन करेंगे और उसका जो उसका जो उसे जवाब प्राप्त होगा सब कुछ पता चल जाएगा अक्षरधाम चीज है कि आपका हाल-चाल कैसा है उसका जो जवाब मिलेगा वह हमें उसके व्यक्तित्व के बारे में बता दिया जाएगा इस प्रश्न का प्रश्न ही हाल है ध्यान रखनाEk Vyakti Se Aap Aisa Kya Sawal Poochh Sakte Hain Jisse Aap Unke Vyaktitva Ke Bare Mein Bahut Kuch Pata Chal Jaye Ek Baar Sadhaaran Sa Prashan Hai Sirf Hum Usko Sammaan Aur Abhinandan Karenge Aur Uska Jo Uska Jo Use Jawab Prapt Hoga Sab Kuch Pata Chal Jayega Akshardham Cheez Hai Ki Aapka Haal Chaal Kaisa Hai Uska Jo Jawab Milega Wah Humein Uske Vyaktitva Ke Bare Mein Bata Diya Jayega Is Prashna Ka Prashna Hi Haal Hai Dhyan Rakhna
Likes  2  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यस बच्चों को संवाद ही आदमी के व्यक्त नहीं करते अपितु एक व्यक्ति की भाषा उसके परिवार के संस्कारों को बता देती है उसकी कॉल किशन को बता देती है उसके चल बता देती है यहां तक कि साइकोलॉजी से यह कहती है कि आदमी की पसंद को उसके रंगों से जाना जा सकता है उसके व्यक्तित्व को उसके द्वारा लिखी हुई राइटिंग से पहचाना जा सकता है साइकोलॉजी बहुत कुछ सहायता करती है मालूम को समझने में आप यदि राइटिंग लिखते समय एक कोरा कागज दे दीजिए क्विक और उसको लिखने एक तेज लिखने को कह दीजिए तो जिस व्यक्ति जो व्यक्ति मल्टीकंपलेक्स से पीड़ित होगा उसकी राइटिंग ऑटोमेटिक रूप से नीचे डाउन हो जाएगी रिलायंस जी नहीं आएगी नीचे पूरी हो जाएगी दूसरी बात जो व्यक्ति ज्यादा महत्वाकांक्षी है कुछ महत्वाकांक्षी है कोई व्यक्ति की राइटिंग लिखते लिखते लाइन ऊपर की ओर हो जाएगी जिस व्यक्ति की लाइन बिल्कुल एकदम सीधी चल रही है 16 अक्षर बन रहे हैं इसका मतलब सुंदर अक्षर बन रहे हैं इसका मतलब उसकी पर्सनल कि मैं सभी को समुचित मात्रा में भर्ती है और भी बिल्कुल जनों से नहीं चाहती है वह पॉजिटिव माइंड का बिकती है सकारात्मक सोच वाला व्यक्ति आशावादी है और मानवता के लिए हितकारी है मानवता की कल्याणकारी विचारों में रखने वाला है मानवता के लिए आदर्श है इस प्रकार से आदमी के व्यवहार आचरण सभी कुछ उसकी भाषा से सो जाते हैं उसकी एक्टिविटी से सो जाते हैं एक व्यक्ति जिस वातावरण में पलता है या रहता है उसकी संस्कार पुत्र जन्म जन्म के लिए अंकित हो जाते हैं पूरे जम्मू और रहते हैं तुम देखते हो जैसी कुमार एक गाना बनाता है और उसका चिकड़ी परदेसी जो फूल पत्तियां डिजाइंस बना देता है उस घड़ी का जब तक जाता है तो तब उस पर खड़ा हो सकता है लेकिन उसकी डिजाइन फूल पत्ती आदि जो कुमार ने कच्चे घड़ी पर बनाई थी उनको हटाया नहीं जा सकता है इसी प्रकार से बचपन में जो संस्कार जो गंदी आदतें अच्छी आदतें अच्छे विचार गंदे विचार जैसी भी उसकी कंपनी रही है संगत रही है उसका परिवारिक आचरण रहे परिवारी जनों की आशंका है वह सब बच्चे के मन पर उनकी सुपर हो जाते हैं और वह जीवन भर बनते रहते हैं उनमें कमी हो सकती है या बढ़ोतरी हो सकती है लेकिन उनको समूह रूप से मिटाया नहीं जा सकता है इसलिए मेरे मित्र संयमित भाषा बोलनी चाहिए सब की भाषा का प्रयोग करना चाहिए जितना हो सके अपने पति को विकसित किया जाए उसको गुणों से भरा जाए देखते तो दो ही होता है जिसको दूसरे लोग देखें और उसका अनुसरण करें और बड़े सम्मान के साथ बड़ी कौरव के साथ तुम्हारे नाम को स्मरण किया जाए समाज में तुम्हें आदत दिया जाए तुम्हारे परिवार को आदर दिया जाए जीवन तो कहीं सार्थक है जिसके जन्म लेने से या जिस के कार्यों से उसका स्थान उसका देश और समाज का नाम प्रभार का नाम हो
Romanized Version
यस बच्चों को संवाद ही आदमी के व्यक्त नहीं करते अपितु एक व्यक्ति की भाषा उसके परिवार के संस्कारों को बता देती है उसकी कॉल किशन को बता देती है उसके चल बता देती है यहां तक कि साइकोलॉजी से यह कहती है कि आदमी की पसंद को उसके रंगों से जाना जा सकता है उसके व्यक्तित्व को उसके द्वारा लिखी हुई राइटिंग से पहचाना जा सकता है साइकोलॉजी बहुत कुछ सहायता करती है मालूम को समझने में आप यदि राइटिंग लिखते समय एक कोरा कागज दे दीजिए क्विक और उसको लिखने एक तेज लिखने को कह दीजिए तो जिस व्यक्ति जो व्यक्ति मल्टीकंपलेक्स से पीड़ित होगा उसकी राइटिंग ऑटोमेटिक रूप से नीचे डाउन हो जाएगी रिलायंस जी नहीं आएगी नीचे पूरी हो जाएगी दूसरी बात जो व्यक्ति ज्यादा महत्वाकांक्षी है कुछ महत्वाकांक्षी है कोई व्यक्ति की राइटिंग लिखते लिखते लाइन ऊपर की ओर हो जाएगी जिस व्यक्ति की लाइन बिल्कुल एकदम सीधी चल रही है 16 अक्षर बन रहे हैं इसका मतलब सुंदर अक्षर बन रहे हैं इसका मतलब उसकी पर्सनल कि मैं सभी को समुचित मात्रा में भर्ती है और भी बिल्कुल जनों से नहीं चाहती है वह पॉजिटिव माइंड का बिकती है सकारात्मक सोच वाला व्यक्ति आशावादी है और मानवता के लिए हितकारी है मानवता की कल्याणकारी विचारों में रखने वाला है मानवता के लिए आदर्श है इस प्रकार से आदमी के व्यवहार आचरण सभी कुछ उसकी भाषा से सो जाते हैं उसकी एक्टिविटी से सो जाते हैं एक व्यक्ति जिस वातावरण में पलता है या रहता है उसकी संस्कार पुत्र जन्म जन्म के लिए अंकित हो जाते हैं पूरे जम्मू और रहते हैं तुम देखते हो जैसी कुमार एक गाना बनाता है और उसका चिकड़ी परदेसी जो फूल पत्तियां डिजाइंस बना देता है उस घड़ी का जब तक जाता है तो तब उस पर खड़ा हो सकता है लेकिन उसकी डिजाइन फूल पत्ती आदि जो कुमार ने कच्चे घड़ी पर बनाई थी उनको हटाया नहीं जा सकता है इसी प्रकार से बचपन में जो संस्कार जो गंदी आदतें अच्छी आदतें अच्छे विचार गंदे विचार जैसी भी उसकी कंपनी रही है संगत रही है उसका परिवारिक आचरण रहे परिवारी जनों की आशंका है वह सब बच्चे के मन पर उनकी सुपर हो जाते हैं और वह जीवन भर बनते रहते हैं उनमें कमी हो सकती है या बढ़ोतरी हो सकती है लेकिन उनको समूह रूप से मिटाया नहीं जा सकता है इसलिए मेरे मित्र संयमित भाषा बोलनी चाहिए सब की भाषा का प्रयोग करना चाहिए जितना हो सके अपने पति को विकसित किया जाए उसको गुणों से भरा जाए देखते तो दो ही होता है जिसको दूसरे लोग देखें और उसका अनुसरण करें और बड़े सम्मान के साथ बड़ी कौरव के साथ तुम्हारे नाम को स्मरण किया जाए समाज में तुम्हें आदत दिया जाए तुम्हारे परिवार को आदर दिया जाए जीवन तो कहीं सार्थक है जिसके जन्म लेने से या जिस के कार्यों से उसका स्थान उसका देश और समाज का नाम प्रभार का नाम होYes Bacchon Ko Sanvaad Hi Aadmi Ke Vyakt Nahi Karte Apitu Ek Vyakti Ki Bhasha Uske Parivar Ke Sanskaron Ko Bata Deti Hai Uski Call Kishan Ko Bata Deti Hai Uske Chal Bata Deti Hai Yahan Tak Ki Psychology Se Yeh Kehti Hai Ki Aadmi Ki Pasand Ko Uske Rangon Se Jana Ja Sakta Hai Uske Vyaktitva Ko Uske Dwara Likhi Hui Writing Se Pehchana Ja Sakta Hai Psychology Bahut Kuch Sahaayata Karti Hai Maloom Ko Samjhne Mein Aap Yadi Writing Likhte Samay Ek Quora Kagaz De Dijiye Quick Aur Usko Likhne Ek Tez Likhne Ko Keh Dijiye Toh Jis Vyakti Jo Vyakti Maltikampaleks Se Peedit Hoga Uski Writing Automatic Roop Se Neeche Down Ho Jayegi Reliance Ji Nahi Aayegi Neeche Puri Ho Jayegi Dusri Baat Jo Vyakti Zyada Mahatwakanshi Hai Kuch Mahatwakanshi Hai Koi Vyakti Ki Writing Likhte Likhte Line Upar Ki Aur Ho Jayegi Jis Vyakti Ki Line Bilkul Ekdam Sidhi Chal Rahi Hai 16 Akshar Ban Rahe Hain Iska Matlab Sundar Akshar Ban Rahe Hain Iska Matlab Uski Personal Ki Main Sabhi Ko Samuchit Matra Mein Bharti Hai Aur Bhi Bilkul Jano Se Nahi Chahti Hai Wah Positive Mind Ka Bikti Hai Sakaratmak Soch Vala Vyakti Aashavadi Hai Aur Manavta Ke Liye Hitkari Hai Manavta Ki Kalyankari Vicharon Mein Rakhne Vala Hai Manavta Ke Liye Adarsh Hai Is Prakar Se Aadmi Ke Vyavahar Aacharan Sabhi Kuch Uski Bhasha Se So Jaate Hain Uski Activity Se So Jaate Hain Ek Vyakti Jis Vatavaran Mein Palotaa Hai Ya Rehta Hai Uski Sanskar Putra Janam Janam Ke Liye Ankit Ho Jaate Hain Poore Jammu Aur Rehte Hain Tum Dekhte Ho Jaisi Kumar Ek Gaana Banata Hai Aur Uska Chikdi Pardesi Jo Fool Pattiyan Dijains Bana Deta Hai Us Ghadi Ka Jab Tak Jata Hai Toh Tab Us Par Khada Ho Sakta Hai Lekin Uski Design Fool Patti Aadi Jo Kumar Ne Kacche Ghadi Par Banai Thi Unko Hataya Nahi Ja Sakta Hai Isi Prakar Se Bachpan Mein Jo Sanskar Jo Gandi Aadatein Acchi Aadatein Acche Vichar Gande Vichar Jaisi Bhi Uski Company Rahi Hai Sangat Rahi Hai Uska Pariwarik Aacharan Rahe Pariwarik Jano Ki Ashanka Hai Wah Sab Bacche Ke Man Par Unki Super Ho Jaate Hain Aur Wah Jeevan Bhar Bante Rehte Hain Unmen Kami Ho Sakti Hai Ya Badhotari Ho Sakti Hai Lekin Unko Samuh Roop Se Mitaya Nahi Ja Sakta Hai Isliye Mere Mitra Sanyamit Bhasha Bolani Chahiye Sab Ki Bhasha Ka Prayog Karna Chahiye Jitna Ho Sake Apne Pati Ko Viksit Kiya Jaye Usko Gunon Se Bhara Jaye Dekhte Toh Do Hi Hota Hai Jisko Dusre Log Dekhen Aur Uska Anusaran Karein Aur Bade Sammaan Ke Saath Badi Kaurav Ke Saath Tumhare Naam Ko Smarn Kiya Jaye Samaaj Mein Tumhe Aadat Diya Jaye Tumhare Parivar Ko Aadar Diya Jaye Jeevan Toh Kahin Sarthak Hai Jiske Janam Lene Se Ya Jis Ke Kaaryon Se Uska Sthan Uska Desh Aur Samaaj Ka Naam Parbhar Ka Naam Ho
Likes  33  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी प्रश्न बहुत ही हार्ड है व्यक्तित्व पर्सनालिटी व्यक्तित्व को एक बार में तो पहचाना नहीं जा सकता है ना चाचा जा सकता है ना परखा जा सकता है एक बार में नहीं लेकिन यह है किसी व्यक्ति के बारे में जानने के लिए रूबरू बात करना आवश्यक हो जाती है लेकिन वह भी अकेले मिलने पर तभी उसके बारे में जान सकते हैं कुछ बेसिक जानने के लिए थोड़ा बहुत समय तो लगेगा लेकिन मैं कहता हूं 24 साल भी लग जाए व्यक्तित्व का मतलब होता है पहला मतलब यह होता है कि उसके चरित्र के बारे में जाने चृत उसका कैसा है चरित्र में आप समझ गए होंगे चरित्रवान व्यक्ति ही पूजनीय होते हैं लेकिन चरित जिसका डगमगा जाता है वह अपोज हो जाते हैं पहली बार गिफ्ट की पहचान है कैरेक्टर दूसरी पहचान है विद्या विद्या नाम नरस्य रूप मध्य कंप्लेक्शन गुप्त धन विद्या बोध करियर छोकरी विद्या * गुरुवा विद्या बंधनों विदेश घूमने विद्या महादेव सा विद्या राजपूत आदत जन्म विद्या बिन पशु एक और यह शाम न विद्या तपो न दानम यानी सामने विद्यार्थी विद्या उसके पास होना चाहिए चरित्र विद्या तीसरी बात यह है विद्या ददाति विनियम इसका कुछ भी अर्थ कुछ भी लगाएं लेकिन मैं तो इसका अर्थ यह लगाता हूं विद्या ददाति विनियम विद्यावान पुरुष हमेशा विनम्र होते हैं एक व्यक्ति की पहचान है आज की वातावरण में व्यक्तित्व के बारे में कुछ कह नहीं सकते हैं कोई किसी की कारण कोई किसी के कारण आपको पसंद करता है कि नहीं करता है आपके बारे में बुराई सुनाइए आपके बारे में भलाई से नहीं है उस हिसाब से आप से पेश आएगा आपको ट्रैकिंग करेगा इसलिए कुछ कह नहीं सकते हैं व्यक्तित्व के बारे में मैंने जो कहा वही सही है तो बस इतना ही कह कर मतलब मैं ज्यादा नहीं कहना चाहता हूं कि मैंने जो कहा वही इतना स्टडी सेंटर धन्यवाद
Romanized Version
देखी प्रश्न बहुत ही हार्ड है व्यक्तित्व पर्सनालिटी व्यक्तित्व को एक बार में तो पहचाना नहीं जा सकता है ना चाचा जा सकता है ना परखा जा सकता है एक बार में नहीं लेकिन यह है किसी व्यक्ति के बारे में जानने के लिए रूबरू बात करना आवश्यक हो जाती है लेकिन वह भी अकेले मिलने पर तभी उसके बारे में जान सकते हैं कुछ बेसिक जानने के लिए थोड़ा बहुत समय तो लगेगा लेकिन मैं कहता हूं 24 साल भी लग जाए व्यक्तित्व का मतलब होता है पहला मतलब यह होता है कि उसके चरित्र के बारे में जाने चृत उसका कैसा है चरित्र में आप समझ गए होंगे चरित्रवान व्यक्ति ही पूजनीय होते हैं लेकिन चरित जिसका डगमगा जाता है वह अपोज हो जाते हैं पहली बार गिफ्ट की पहचान है कैरेक्टर दूसरी पहचान है विद्या विद्या नाम नरस्य रूप मध्य कंप्लेक्शन गुप्त धन विद्या बोध करियर छोकरी विद्या * गुरुवा विद्या बंधनों विदेश घूमने विद्या महादेव सा विद्या राजपूत आदत जन्म विद्या बिन पशु एक और यह शाम न विद्या तपो न दानम यानी सामने विद्यार्थी विद्या उसके पास होना चाहिए चरित्र विद्या तीसरी बात यह है विद्या ददाति विनियम इसका कुछ भी अर्थ कुछ भी लगाएं लेकिन मैं तो इसका अर्थ यह लगाता हूं विद्या ददाति विनियम विद्यावान पुरुष हमेशा विनम्र होते हैं एक व्यक्ति की पहचान है आज की वातावरण में व्यक्तित्व के बारे में कुछ कह नहीं सकते हैं कोई किसी की कारण कोई किसी के कारण आपको पसंद करता है कि नहीं करता है आपके बारे में बुराई सुनाइए आपके बारे में भलाई से नहीं है उस हिसाब से आप से पेश आएगा आपको ट्रैकिंग करेगा इसलिए कुछ कह नहीं सकते हैं व्यक्तित्व के बारे में मैंने जो कहा वही सही है तो बस इतना ही कह कर मतलब मैं ज्यादा नहीं कहना चाहता हूं कि मैंने जो कहा वही इतना स्टडी सेंटर धन्यवादDekhi Prashna Bahut Hi Hard Hai Vyaktitva Personality Vyaktitva Ko Ek Baar Mein Toh Pehchana Nahi Ja Sakta Hai Na Chacha Ja Sakta Hai Na Parkha Ja Sakta Hai Ek Baar Mein Nahi Lekin Yeh Hai Kisi Vyakti Ke Bare Mein Jaanne Ke Liye Roobaroo Baat Karna Aavashyak Ho Jati Hai Lekin Wah Bhi Akele Milne Par Tabhi Uske Bare Mein Jaan Sakte Hain Kuch Basic Jaanne Ke Liye Thoda Bahut Samay Toh Lagega Lekin Main Kahata Hoon 24 Saal Bhi Lag Jaye Vyaktitva Ka Matlab Hota Hai Pehla Matlab Yeh Hota Hai Ki Uske Charitra Ke Bare Mein Jaane Chrit Uska Kaisa Hai Charitra Mein Aap Samajh Gaye Honge Charitravaan Vyakti Hi Pujaniya Hote Hain Lekin Charit Jiska Dagmaga Jata Hai Wah Apos Ho Jaate Hain Pehli Baar Gift Ki Pehchaan Hai Character Dusri Pehchaan Hai Vidya Vidya Naam Narasya Roop Madhya Kamplekshan Gupt Dhan Vidya Bodh Career Chhokri Vidya * Guruwa Vidya Bandhane Videsh Ghoomne Vidya Mahadev Sa Vidya Rajput Aadat Janam Vidya Bin Pashu Ek Aur Yeh Shaam Na Vidya Tapo Na Danam Yani Saamne Vidyarthi Vidya Uske Paas Hona Chahiye Charitra Vidya Teesri Baat Yeh Hai Vidya Dadati Viniyam Iska Kuch Bhi Arth Kuch Bhi Lagaen Lekin Main Toh Iska Arth Yeh Lagata Hoon Vidya Dadati Viniyam Vidyavan Purush Hamesha Vinamra Hote Hain Ek Vyakti Ki Pehchaan Hai Aaj Ki Vatavaran Mein Vyaktitva Ke Bare Mein Kuch Keh Nahi Sakte Hain Koi Kisi Ki Kaaran Koi Kisi Ke Kaaran Aapko Pasand Karta Hai Ki Nahi Karta Hai Aapke Bare Mein Burayi Suniye Aapke Bare Mein Bhalai Se Nahi Hai Us Hisab Se Aap Se Pesh Aaega Aapko Tracking Karega Isliye Kuch Keh Nahi Sakte Hain Vyaktitva Ke Bare Mein Maine Jo Kaha Wahi Sahi Hai Toh Bus Itna Hi Keh Kar Matlab Main Zyada Nahi Kehna Chahta Hoon Ki Maine Jo Kaha Wahi Itna Study Center Dhanyavad
Likes  27  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपको किसी व्यक्ति से उसके व्यक्तित्व व्यक्तित्व के बारे में अगर जाना है तो आप उसे एहसास और पूछ सकते हैं जो कंडीशन बट बंद करता हो जैसे कि आप मार्केट में जा रहे थे आपके फ्रेंड आपके फ्रेंड को किसी ने पीटा तो आप क्या करेंगे इस तरह के सवाल मदद करने का प्रयास करता है
Romanized Version
अगर आपको किसी व्यक्ति से उसके व्यक्तित्व व्यक्तित्व के बारे में अगर जाना है तो आप उसे एहसास और पूछ सकते हैं जो कंडीशन बट बंद करता हो जैसे कि आप मार्केट में जा रहे थे आपके फ्रेंड आपके फ्रेंड को किसी ने पीटा तो आप क्या करेंगे इस तरह के सवाल मदद करने का प्रयास करता हैAgar Aapko Kisi Vyakti Se Uske Vyaktitva Vyaktitva Ke Bare Mein Agar Jana Hai Toh Aap Use Ehsaas Aur Poochh Sakte Hain Jo Condition But Band Karta Ho Jaise Ki Aap Market Mein Ja Rahe The Aapke Friend Aapke Friend Ko Kisi Ne Pita Toh Aap Kya Karenge Is Tarah Ke Sawal Madad Karne Ka Prayas Karta Hai
Likes  20  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देख के बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जिनके पास बहुत अनुभव होता है जब वो किसी व्यक्ति से मिलते हैं तो उस व्यक्ति के बारे में वह सब कुछ जान जाते हैं एक बार में ही जान जाते हैं लेकिन मैं आपको बताना चाहता हूं आप किसी आदमी के बारे में तो हो सकता है कि 1 दिन 2 दिन 10 दिन में आप पता लगा लो कि यह किस विचारधारा का है लेकिन किसी औरत के बारे में आप 1 दिन में नहीं चैट कर सकते हो कि वह किस विचारधारा की है आपको हो सकता है कि 1 साल का टाइम लग जाए हो सकता है कि 8 महीने का टाइम लग जाए देखिए लोग ऐसे पेश होते हैं आपके सामने क्या आप उनको समझ नहीं पाएंगे कि यह किस विचारधारा के इतना जल्दी समझना बहुत कठिन है मैं किसी को भी समझ जाता हूं अगर मेरे से कोई बात करें तो मैक्सिमम अस्सी परसेंट लोगों को मैं समझ जाता हूं कि यह इनका विचार ऐसा है यह चापलूस हैं या यह अच्छी सोच वाले हैं या इनका विचार को समाजसेवी समाज सेवा का विचार है यह हेल्पफुल नेचर के हैं तो मैं समझ जाता हूं लेकिन कभी-कभी क्या होता है कि जो 20 परसेंट लोगों को मैं भी नहीं समझ पाता हूं मैं धोखा खा जाता हूं और कोई भी इंसान धोखा खा जाएगा तो आप को किसी भी इंसान को जानना है तो किसी एक सवाल से आप नहीं जान सकते हैं हां अगर आप उससे बात करेंगे लगातार अगर तीन-चार घंटा बात करेंगे तो पक्का है कि आप थोड़ा बहुत उसके बारे में जान जाएंगे क्योंकि 4 घंटा जब बात करेंगे तो बहुत सारे सवाल जवाब होंगे बहुत सारे टॉपिक पर बात होगा तो उसका जो आई कांटेक्ट होता है वह इधर-उधर भागेगा उसको अगर आपकी बात अच्छी नहीं लगती है तू बीच-बीच में आपकी बात को रोकेगा हां हां करके ठोकेगा या इग्नोर करेगा आपको तो आपको समझ जाना चाहिए कि नहीं इनको मेरी बात अच्छी नहीं लग रही है और इनका विचार अलग है अगर आप कुछ अच्छा बात करेंगे किसी के सामने तो आप देखिए उसका कि उसका मन नहीं लग रहा है आपकी बातों को सुनने में तो आप समझ जाइए कि यह अच्छा विचार वाला व्यक्ति नहीं है अगर आप बुरा बुरा बात करेंगे गलत बात करेंगे तो अगले को लगेगा कि अच्छा लगेगा वह इंटरेस्ट से आपकी बात सुनेगा आपकी बात का जवाब देगा तो आप जान जाइए कि यह इंसान बुरा है इसलिए इसको बुरा अच्छी पर खराब बात अच्छी लग रही है तो बस यही होता है किसी को जानने के लिए थोड़ा वक्त लगता है किसी को समझने के लिए थोड़ा कम टाइम की जरूरत पड़ती है लेकिन किसी एक सवाल से किसी को नहीं जाना जा सकता है धन्यवाद
Romanized Version
देख के बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जिनके पास बहुत अनुभव होता है जब वो किसी व्यक्ति से मिलते हैं तो उस व्यक्ति के बारे में वह सब कुछ जान जाते हैं एक बार में ही जान जाते हैं लेकिन मैं आपको बताना चाहता हूं आप किसी आदमी के बारे में तो हो सकता है कि 1 दिन 2 दिन 10 दिन में आप पता लगा लो कि यह किस विचारधारा का है लेकिन किसी औरत के बारे में आप 1 दिन में नहीं चैट कर सकते हो कि वह किस विचारधारा की है आपको हो सकता है कि 1 साल का टाइम लग जाए हो सकता है कि 8 महीने का टाइम लग जाए देखिए लोग ऐसे पेश होते हैं आपके सामने क्या आप उनको समझ नहीं पाएंगे कि यह किस विचारधारा के इतना जल्दी समझना बहुत कठिन है मैं किसी को भी समझ जाता हूं अगर मेरे से कोई बात करें तो मैक्सिमम अस्सी परसेंट लोगों को मैं समझ जाता हूं कि यह इनका विचार ऐसा है यह चापलूस हैं या यह अच्छी सोच वाले हैं या इनका विचार को समाजसेवी समाज सेवा का विचार है यह हेल्पफुल नेचर के हैं तो मैं समझ जाता हूं लेकिन कभी-कभी क्या होता है कि जो 20 परसेंट लोगों को मैं भी नहीं समझ पाता हूं मैं धोखा खा जाता हूं और कोई भी इंसान धोखा खा जाएगा तो आप को किसी भी इंसान को जानना है तो किसी एक सवाल से आप नहीं जान सकते हैं हां अगर आप उससे बात करेंगे लगातार अगर तीन-चार घंटा बात करेंगे तो पक्का है कि आप थोड़ा बहुत उसके बारे में जान जाएंगे क्योंकि 4 घंटा जब बात करेंगे तो बहुत सारे सवाल जवाब होंगे बहुत सारे टॉपिक पर बात होगा तो उसका जो आई कांटेक्ट होता है वह इधर-उधर भागेगा उसको अगर आपकी बात अच्छी नहीं लगती है तू बीच-बीच में आपकी बात को रोकेगा हां हां करके ठोकेगा या इग्नोर करेगा आपको तो आपको समझ जाना चाहिए कि नहीं इनको मेरी बात अच्छी नहीं लग रही है और इनका विचार अलग है अगर आप कुछ अच्छा बात करेंगे किसी के सामने तो आप देखिए उसका कि उसका मन नहीं लग रहा है आपकी बातों को सुनने में तो आप समझ जाइए कि यह अच्छा विचार वाला व्यक्ति नहीं है अगर आप बुरा बुरा बात करेंगे गलत बात करेंगे तो अगले को लगेगा कि अच्छा लगेगा वह इंटरेस्ट से आपकी बात सुनेगा आपकी बात का जवाब देगा तो आप जान जाइए कि यह इंसान बुरा है इसलिए इसको बुरा अच्छी पर खराब बात अच्छी लग रही है तो बस यही होता है किसी को जानने के लिए थोड़ा वक्त लगता है किसी को समझने के लिए थोड़ा कम टाइम की जरूरत पड़ती है लेकिन किसी एक सवाल से किसी को नहीं जाना जा सकता है धन्यवादDekh Ke Bahut Saare Log Aise Hote Hain Jinke Paas Bahut Anubhav Hota Hai Jab Vo Kisi Vyakti Se Milte Hain Toh Us Vyakti Ke Bare Mein Wah Sab Kuch Jaan Jaate Hain Ek Baar Mein Hi Jaan Jaate Hain Lekin Main Aapko Batana Chahta Hoon Aap Kisi Aadmi Ke Bare Mein Toh Ho Sakta Hai Ki 1 Din 2 Din 10 Din Mein Aap Pata Laga Lo Ki Yeh Kis Vichardhara Ka Hai Lekin Kisi Aurat Ke Bare Mein Aap 1 Din Mein Nahi Chat Kar Sakte Ho Ki Wah Kis Vichardhara Ki Hai Aapko Ho Sakta Hai Ki 1 Saal Ka Time Lag Jaye Ho Sakta Hai Ki 8 Mahine Ka Time Lag Jaye Dekhie Log Aise Pesh Hote Hain Aapke Saamne Kya Aap Unko Samajh Nahi Payenge Ki Yeh Kis Vichardhara Ke Itna Jaldi Samajhna Bahut Kathin Hai Main Kisi Ko Bhi Samajh Jata Hoon Agar Mere Se Koi Baat Karein Toh Maximum Assi Percent Logon Ko Main Samajh Jata Hoon Ki Yeh Inka Vichar Aisa Hai Yeh Chaplus Hain Ya Yeh Acchi Soch Wale Hain Ya Inka Vichar Ko Samajsevi Samaaj Seva Ka Vichar Hai Yeh Helpful Nature Ke Hain Toh Main Samajh Jata Hoon Lekin Kabhi Kabhi Kya Hota Hai Ki Jo 20 Percent Logon Ko Main Bhi Nahi Samajh Pata Hoon Main Dhokha Kha Jata Hoon Aur Koi Bhi Insaan Dhokha Kha Jayega Toh Aap Ko Kisi Bhi Insaan Ko Janana Hai Toh Kisi Ek Sawal Se Aap Nahi Jaan Sakte Hain Haan Agar Aap Usse Baat Karenge Lagatar Agar Teen Char Ghanta Baat Karenge Toh Pakka Hai Ki Aap Thoda Bahut Uske Bare Mein Jaan Jaenge Kyonki 4 Ghanta Jab Baat Karenge Toh Bahut Saare Sawal Jawab Honge Bahut Saare Topic Par Baat Hoga Toh Uska Jo I Contact Hota Hai Wah Idhar Udhar Bhagega Usko Agar Aapki Baat Acchi Nahi Lagti Hai Tu Beech Beech Mein Aapki Baat Ko Rokega Haan Haan Karke Thokega Ya Ignore Karega Aapko Toh Aapko Samajh Jana Chahiye Ki Nahi Inko Meri Baat Acchi Nahi Lag Rahi Hai Aur Inka Vichar Alag Hai Agar Aap Kuch Accha Baat Karenge Kisi Ke Saamne Toh Aap Dekhie Uska Ki Uska Man Nahi Lag Raha Hai Aapki Baaton Ko Sunane Mein Toh Aap Samajh Jaiye Ki Yeh Accha Vichar Vala Vyakti Nahi Hai Agar Aap Bura Bura Baat Karenge Galat Baat Karenge Toh Agle Ko Lagega Ki Accha Lagega Wah Interest Se Aapki Baat Sunegaa Aapki Baat Ka Jawab Dega Toh Aap Jaan Jaiye Ki Yeh Insaan Bura Hai Isliye Isko Bura Acchi Par Kharaab Baat Acchi Lag Rahi Hai Toh Bus Yahi Hota Hai Kisi Ko Jaanne Ke Liye Thoda Waqt Lagta Hai Kisi Ko Samjhne Ke Liye Thoda Kam Time Ki Zaroorat Padti Hai Lekin Kisi Ek Sawal Se Kisi Ko Nahi Jana Ja Sakta Hai Dhanyavad
Likes  33  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप सवाल किसी टांके पूछो उससे दिक्कत नहीं है लेकिन सबसे पहले आपको अपने दिल की बात है उसे बताना पड़ेगा एक बार ध्यान रखना अपना सब कुछ ना बताए थोड़ा सा दिमाग लगा पड़ेगी कि हम ऐसे हैं वैसे हैं उसी टेस्ट स्कोर दिखाएं और बताएं और फिर की बातें जाने जो आपको अपने व्यक्तित्व के बारे में बताएगा आप बस ऐसा ध्यान रखे कि आप उसके साथ अपनी भावनाएं शेयर करें जो से लगा कि आप अपनी भैंस के साथ शेयर कर रहे हैं तो भी अपनी भावनाएं आपके साथ शेयर करेगा उसे सवाल पूछते रहेंगे उधर ही आपको से व्यक्ति के बारे में पता चल जाएगा धन्यवाद
Romanized Version
आप सवाल किसी टांके पूछो उससे दिक्कत नहीं है लेकिन सबसे पहले आपको अपने दिल की बात है उसे बताना पड़ेगा एक बार ध्यान रखना अपना सब कुछ ना बताए थोड़ा सा दिमाग लगा पड़ेगी कि हम ऐसे हैं वैसे हैं उसी टेस्ट स्कोर दिखाएं और बताएं और फिर की बातें जाने जो आपको अपने व्यक्तित्व के बारे में बताएगा आप बस ऐसा ध्यान रखे कि आप उसके साथ अपनी भावनाएं शेयर करें जो से लगा कि आप अपनी भैंस के साथ शेयर कर रहे हैं तो भी अपनी भावनाएं आपके साथ शेयर करेगा उसे सवाल पूछते रहेंगे उधर ही आपको से व्यक्ति के बारे में पता चल जाएगा धन्यवादAap Sawal Kisi Tanken Pucho Usse Dikkat Nahi Hai Lekin Sabse Pehle Aapko Apne Dil Ki Baat Hai Use Batana Padega Ek Baar Dhyan Rakhna Apna Sab Kuch Na Batayen Thoda Sa Dimag Laga Padegi Ki Hum Aise Hain Waise Hain Usi Test Score Dikhaen Aur Bataye Aur Phir Ki Batein Jaane Jo Aapko Apne Vyaktitva Ke Bare Mein Batayega Aap Bus Aisa Dhyan Rakhe Ki Aap Uske Saath Apni Bhavanae Share Karein Jo Se Laga Ki Aap Apni Bhains Ke Saath Share Kar Rahe Hain Toh Bhi Apni Bhavanae Aapke Saath Share Karega Use Sawal Poochhte Rahenge Udhar Hi Aapko Se Vyakti Ke Bare Mein Pata Chal Jayega Dhanyavad
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसे सवाल क्या है कि ऐसे ऐसे खर्चे से उसकी चर्चा शुरू करते हैं पता चल जाता है कि किस प्रकार का है कैसा है और धीरे-धीरे जब चर्चा शुरू हो जाती है तो अपने आप को सही हो जाता है यह तो है नहीं किसी देर आप गाली किसी व्यक्ति होते हैं अभद्र टिप्पणी करते हैं तो उसको क्रोध ना है यह मानव मन है उसका पारी खेलकर लेकर उसी होते लेकिन सामान्य वालों के लिए हमें यही चाहिए कि उसे हम सामान्य परिचय से शुरू करेंगे ना तो अपने आप पता चल जाएगा कि कैसा है उसे क्या शुभ है आता है क्या है
ऐसे सवाल क्या है कि ऐसे ऐसे खर्चे से उसकी चर्चा शुरू करते हैं पता चल जाता है कि किस प्रकार का है कैसा है और धीरे-धीरे जब चर्चा शुरू हो जाती है तो अपने आप को सही हो जाता है यह तो है नहीं किसी देर आप गाली किसी व्यक्ति होते हैं अभद्र टिप्पणी करते हैं तो उसको क्रोध ना है यह मानव मन है उसका पारी खेलकर लेकर उसी होते लेकिन सामान्य वालों के लिए हमें यही चाहिए कि उसे हम सामान्य परिचय से शुरू करेंगे ना तो अपने आप पता चल जाएगा कि कैसा है उसे क्या शुभ है आता है क्या है
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जहां तक मेरा ख्याल है मेरे हिसाब से ऐसा कोई एक क्वेश्चन नहीं हो सकता जिसकी उंगली एक क्वेश्चन का आंसर परा व्यक्ति का पूरे व्यक्तित्व के बारे में जानना क्योंकि हर एक इंडिविजुअल की किसी टॉपिक पर अलग-अलग तरह की राय होती है तो क्वेश्चंस भी अलग-अलग होते हैं जैसे मगर अगर आपको उनके व्यक्तित्व के बारे व्यक्तित्व के बारे में जानना है तो आप उनसे किसी भी सामाजिक मुद्दे पर या जिस विषय में आप उनके बारे में जानना चाहते हैं उस विषय से रिलेटेड किसी भी सब्जेक्ट पर आप कोई भी क्वेश्चन कर सकते हैं और जिससे आपको इसका आंसर और उसके बारे में जानने के लिए अलग एक मौका रहता है जिससे आप उनके बारे में जान सकते हैं मगर पूर्णता किसी के बारे में आप राय नहीं बना सकते किसी एक आंसर से किसका अगर उसने नगरी का आंसर किया तो आपने क्रिएट कर लिया इतने के लिए सोचता है ऐसा नहीं है वह उस टाइम की कंडीशन और उसकी थिंकिंग पर डिपेंड करेगा तो ऐसे कोई क्वेश्चन नहीं है क्या आप एक ही फैशन में किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व के बारे में पता लगा ले
Romanized Version
देखिए जहां तक मेरा ख्याल है मेरे हिसाब से ऐसा कोई एक क्वेश्चन नहीं हो सकता जिसकी उंगली एक क्वेश्चन का आंसर परा व्यक्ति का पूरे व्यक्तित्व के बारे में जानना क्योंकि हर एक इंडिविजुअल की किसी टॉपिक पर अलग-अलग तरह की राय होती है तो क्वेश्चंस भी अलग-अलग होते हैं जैसे मगर अगर आपको उनके व्यक्तित्व के बारे व्यक्तित्व के बारे में जानना है तो आप उनसे किसी भी सामाजिक मुद्दे पर या जिस विषय में आप उनके बारे में जानना चाहते हैं उस विषय से रिलेटेड किसी भी सब्जेक्ट पर आप कोई भी क्वेश्चन कर सकते हैं और जिससे आपको इसका आंसर और उसके बारे में जानने के लिए अलग एक मौका रहता है जिससे आप उनके बारे में जान सकते हैं मगर पूर्णता किसी के बारे में आप राय नहीं बना सकते किसी एक आंसर से किसका अगर उसने नगरी का आंसर किया तो आपने क्रिएट कर लिया इतने के लिए सोचता है ऐसा नहीं है वह उस टाइम की कंडीशन और उसकी थिंकिंग पर डिपेंड करेगा तो ऐसे कोई क्वेश्चन नहीं है क्या आप एक ही फैशन में किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व के बारे में पता लगा लेDekhie Jahan Tak Mera Khayal Hai Mere Hisab Se Aisa Koi Ek Question Nahi Ho Sakta Jiski Ungli Ek Question Ka Answer Para Vyakti Ka Poore Vyaktitva Ke Bare Mein Janana Kyonki Har Ek Individual Ki Kisi Topic Par Alag Alag Tarah Ki Rai Hoti Hai Toh Questions Bhi Alag Alag Hote Hain Jaise Magar Agar Aapko Unke Vyaktitva Ke Bare Vyaktitva Ke Bare Mein Janana Hai Toh Aap Unse Kisi Bhi Samajik Mudde Par Ya Jis Vishay Mein Aap Unke Bare Mein Janana Chahte Hain Us Vishay Se Related Kisi Bhi Subject Par Aap Koi Bhi Question Kar Sakte Hain Aur Jisse Aapko Iska Answer Aur Uske Bare Mein Jaanne Ke Liye Alag Ek Mauka Rehta Hai Jisse Aap Unke Bare Mein Jaan Sakte Hain Magar Purnata Kisi Ke Bare Mein Aap Rai Nahi Bana Sakte Kisi Ek Answer Se Kiska Agar Usne Nagari Ka Answer Kiya Toh Aapne Create Kar Liya Itne Ke Liye Sochta Hai Aisa Nahi Hai Wah Us Time Ki Condition Aur Uski Thinking Par Depend Karega Toh Aise Koi Question Nahi Hai Kya Aap Ek Hi Fashion Mein Kisi Vyakti Ke Vyaktitva Ke Bare Mein Pata Laga Le
Likes  29  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक किसी एक मात्र सवाल से किसी भी के चरित्र का आकलन किया ना बहुत गलत हो सकता है हो सकता है वह आपके जवाब को यह फिर आपके सवाल को इतना सीरियसली ना लेकर बोले क्यों किसी की भाषा या फिर बहुत ज्यादा होती है मन बहुत बोलने वाले होते हैं या फिर कुछ खुद को कमेंट दिमाग पूरी तरह से इतने गंदे नहीं होती यह फिल्म के गंदे होते उसके साथ जाना जरूरी होता है कि कोई भी करके उसे गलत साबित कर देना मुझे अच्छा नहीं लगता यह मुझे नहीं लगता कि यह सही है अच्छा यह होगा अगर पूछे तो आप समझना चाहते हैं तो थोड़ा उसके समझने के लिए उसके साथ थोड़ा टाइम टाइम या फिर से मिलना चाहते हैं उसके बारे में जानकारी हासिल करें तो आपको पता चल जाएगा लेकिन 1 शब्दों में अगर आप उसके चरित्र का नाम क्योंकि हर समय किसी का मूर्ति
Romanized Version
एक किसी एक मात्र सवाल से किसी भी के चरित्र का आकलन किया ना बहुत गलत हो सकता है हो सकता है वह आपके जवाब को यह फिर आपके सवाल को इतना सीरियसली ना लेकर बोले क्यों किसी की भाषा या फिर बहुत ज्यादा होती है मन बहुत बोलने वाले होते हैं या फिर कुछ खुद को कमेंट दिमाग पूरी तरह से इतने गंदे नहीं होती यह फिल्म के गंदे होते उसके साथ जाना जरूरी होता है कि कोई भी करके उसे गलत साबित कर देना मुझे अच्छा नहीं लगता यह मुझे नहीं लगता कि यह सही है अच्छा यह होगा अगर पूछे तो आप समझना चाहते हैं तो थोड़ा उसके समझने के लिए उसके साथ थोड़ा टाइम टाइम या फिर से मिलना चाहते हैं उसके बारे में जानकारी हासिल करें तो आपको पता चल जाएगा लेकिन 1 शब्दों में अगर आप उसके चरित्र का नाम क्योंकि हर समय किसी का मूर्तिEk Kisi Ek Matra Sawal Se Kisi Bhi Ke Charitra Ka Aakalan Kiya Na Bahut Galat Ho Sakta Hai Ho Sakta Hai Wah Aapke Jawab Ko Yeh Phir Aapke Sawal Ko Itna Seriously Na Lekar Bole Kyon Kisi Ki Bhasha Ya Phir Bahut Zyada Hoti Hai Man Bahut Bolne Wale Hote Hain Ya Phir Kuch Khud Ko Comment Dimag Puri Tarah Se Itne Gande Nahi Hoti Yeh Film Ke Gande Hote Uske Saath Jana Zaroori Hota Hai Ki Koi Bhi Karke Use Galat Saabit Kar Dena Mujhe Accha Nahi Lagta Yeh Mujhe Nahi Lagta Ki Yeh Sahi Hai Accha Yeh Hoga Agar Poochhe Toh Aap Samajhna Chahte Hain Toh Thoda Uske Samjhne Ke Liye Uske Saath Thoda Time Time Ya Phir Se Milna Chahte Hain Uske Bare Mein Jankari Hasil Karein Toh Aapko Pata Chal Jayega Lekin 1 Shabdo Mein Agar Aap Uske Charitra Ka Naam Kyonki Har Samay Kisi Ka Murti
Likes  33  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तो आप जानना चाहते हैं कि किसी व्यक्ति से ऐसा क्या सवाल पूछा जाए कि एक सवाल से ही उनके व्यक्तित्व में बहुत कुछ पता लग पाए तो अगर आप सवाल मुझसे पूछे तो मैं आपको ऐसा कौन गा कि आप किसी व्यक्ति से पूछ सकते हैं कि वह व्यक्ति सुबह उठते ही क्या करता है अगर आप को इस प्रकार का अवसर मिले कि सुबह उठते ही कम किया वो काम किया ऐसा किया तो आपको कुछ देर एनी अदर जल्द नजर आएंगे और अभी कोई व्यक्ति और थे टाइम पास या आलसी फन की बात करता है कि सुबह उठते ही मजा आ जाता है ऐसा करने का मन करता है या टाइमपास करने का मन करता है तो आपको आज तो से बहुत सारी चीजें समझ में आएगी और उसके व्यक्तित्व कॉल करना पड़ेगा
Romanized Version
तो आप जानना चाहते हैं कि किसी व्यक्ति से ऐसा क्या सवाल पूछा जाए कि एक सवाल से ही उनके व्यक्तित्व में बहुत कुछ पता लग पाए तो अगर आप सवाल मुझसे पूछे तो मैं आपको ऐसा कौन गा कि आप किसी व्यक्ति से पूछ सकते हैं कि वह व्यक्ति सुबह उठते ही क्या करता है अगर आप को इस प्रकार का अवसर मिले कि सुबह उठते ही कम किया वो काम किया ऐसा किया तो आपको कुछ देर एनी अदर जल्द नजर आएंगे और अभी कोई व्यक्ति और थे टाइम पास या आलसी फन की बात करता है कि सुबह उठते ही मजा आ जाता है ऐसा करने का मन करता है या टाइमपास करने का मन करता है तो आपको आज तो से बहुत सारी चीजें समझ में आएगी और उसके व्यक्तित्व कॉल करना पड़ेगाToh Aap Janana Chahte Hain Ki Kisi Vyakti Se Aisa Kya Sawal Puchha Jaye Ki Ek Sawal Se Hi Unke Vyaktitva Mein Bahut Kuch Pata Lag Paye Toh Agar Aap Sawal Mujhse Poochhe Toh Main Aapko Aisa Kaun Ga Ki Aap Kisi Vyakti Se Poochh Sakte Hain Ki Wah Vyakti Subah Uthte Hi Kya Karta Hai Agar Aap Ko Is Prakar Ka Avsar Mile Ki Subah Uthte Hi Kam Kiya Vo Kaam Kiya Aisa Kiya Toh Aapko Kuch Der Any Other Jald Nazar Aayenge Aur Abhi Koi Vyakti Aur The Time Paas Ya Aalsi Phan Ki Baat Karta Hai Ki Subah Uthte Hi Maza Aa Jata Hai Aisa Karne Ka Man Karta Hai Ya Timepass Karne Ka Man Karta Hai Toh Aapko Aaj Toh Se Bahut Saree Cheezen Samajh Mein Aayegi Aur Uske Vyaktitva Call Karna Padega
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं उसे भरपूर निगाहों से देख लूंगा और फिर मुस्कुरा दूंगा देखते हैं क्या रिस्पांस करता है वह जैसा रिस्पॉन्ड तरीका तुरंत उसके व्यक्तित्व स्कैन कर लूंगा फिर पुष्टि के लिए दोस्ती तो करना ही पड़ेगा ना
Romanized Version
मैं उसे भरपूर निगाहों से देख लूंगा और फिर मुस्कुरा दूंगा देखते हैं क्या रिस्पांस करता है वह जैसा रिस्पॉन्ड तरीका तुरंत उसके व्यक्तित्व स्कैन कर लूंगा फिर पुष्टि के लिए दोस्ती तो करना ही पड़ेगा नाMain Use Bharpur Nigaahon Se Dekh Lunga Aur Phir Muskura Dunga Dekhte Hain Kya Response Karta Hai Wah Jaisa Rispand Tarika Turant Uske Vyaktitva Scan Kar Lunga Phir Pushti Ke Liye Dosti Toh Karna Hi Padega Na
Likes  26  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई वैसे तो उसको देखकर तो हम पता लगा सकते हैं उसका व्यक्तिमत्व क्या है उसका रेंस है मुझसे बातें की करने के तरीके से मल्टी फिर भी सवाल पूछना हो उनसे थोड़ा कंफ्यूजन सा सवाल है भाई आपका यह फिर भी पूछना है तो हम उसको यही पूछेंगे और कि तुम्हारे बारे में कुछ बताओ तभी तो पता चल जाएगा फिर कराया पका रहा है आपको सही बोल रहा है इतना तेज 2 दिन उनके साथ बिताने के बाद ही पता चल सकता
Romanized Version
भाई वैसे तो उसको देखकर तो हम पता लगा सकते हैं उसका व्यक्तिमत्व क्या है उसका रेंस है मुझसे बातें की करने के तरीके से मल्टी फिर भी सवाल पूछना हो उनसे थोड़ा कंफ्यूजन सा सवाल है भाई आपका यह फिर भी पूछना है तो हम उसको यही पूछेंगे और कि तुम्हारे बारे में कुछ बताओ तभी तो पता चल जाएगा फिर कराया पका रहा है आपको सही बोल रहा है इतना तेज 2 दिन उनके साथ बिताने के बाद ही पता चल सकताBhai Waise Toh Usko Dekhkar Toh Hum Pata Laga Sakte Hain Uska Vyaktimatva Kya Hai Uska Rens Hai Mujhse Batein Ki Karne Ke Tarike Se Multi Phir Bhi Sawal Poochna Ho Unse Thoda Confusion Sa Sawal Hai Bhai Aapka Yeh Phir Bhi Poochna Hai Toh Hum Usko Yahi Puchhenge Aur Ki Tumhare Bare Mein Kuch Batao Tabhi Toh Pata Chal Jayega Phir Karaya Paka Raha Hai Aapko Sahi Bol Raha Hai Itna Tez 2 Din Unke Saath Bitane Ke Baad Hi Pata Chal Sakta
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों को कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल है कि एक व्यक्ति से आप ऐसा क्या सवाल पूछ सकते आपको उनके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता वह तो देखी मुझे लगता है हर वह सवाल अपने आप में बहुत ही महत्वपूर्ण होता है लेकिन सवाल से कहीं ज्यादा जो चीज मायने रखती है तो मुझे लगता है उसका रिस्पॉन्स मायने रखता है कि उस सवाल का जवाब कोई किस तरीके से देता है पर किसी सवाल पर किसी का अपना दृष्टिकोण कैसा है क्या वह व्यक्तिगत स्वार्थ से प्रेरित उसका व्यू है या फिर उन स्वार्थों से ऊपर उठा हुआ किसी का भी है जो सब के बारे में सोचता हूं जिसके दिल में सबके लिए जगह हो मुझे लगता है वह इंसान अपने आप में एक बड़प्पन रखने वाला इंसान समझा जाता है परिचित की दुनिया कुत्ते शुरू होकर कब तक खत्म हो जाए ऐसी प्लान का उसकी बातों से बहुत ही दिन पता लगाया जा सकता है उसकी हर बात अपने आप से शुरू होगी वह बार-बार अपने आप को ही रिस्पेक्ट देगा या अपनी फोटो बाकी लोगों से ज्यादा दिखाने की कोशिश करेगा तो मुझे लगता है हर वह सवाल इंसान के दिल का आईना तो मायने नहीं रखता कि आपके बाल क्या पूछते हैं भाई ने अगर कोई चीज लगती है तो वह रिएक्शन मायने रखता तो आप जब कभी भी रिएक्शन दे तो हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि आप जो भी रिएक्शन दे रहे हैं उससे लोग आपकी पर्सनैलिटी को चर्च करती मत मानिए कि आपको नंबर सिर्फ इंटरव्यू बोर्ड वाले आपके एग्जामिनर ही देते हैं बल्कि असल जिंदगी में किस दुनिया में भी लोग आपको मार्किंग देते हैं क्वालिटी होती है जी आपकी तकलीफ होती है उस हिसाब से लोग आप को सपोर्ट करते हैं या नहीं करते यह दोनों ही अपने आप में उतनी ही अच्छी तो यह चीजें हैं जिनसे आप किसी की पर्सनैलिटी के बारे में बहुत ही इजी पता लगा सकते हैं धन्यवाद
Romanized Version
नमस्कार दोस्तों को कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल है कि एक व्यक्ति से आप ऐसा क्या सवाल पूछ सकते आपको उनके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता वह तो देखी मुझे लगता है हर वह सवाल अपने आप में बहुत ही महत्वपूर्ण होता है लेकिन सवाल से कहीं ज्यादा जो चीज मायने रखती है तो मुझे लगता है उसका रिस्पॉन्स मायने रखता है कि उस सवाल का जवाब कोई किस तरीके से देता है पर किसी सवाल पर किसी का अपना दृष्टिकोण कैसा है क्या वह व्यक्तिगत स्वार्थ से प्रेरित उसका व्यू है या फिर उन स्वार्थों से ऊपर उठा हुआ किसी का भी है जो सब के बारे में सोचता हूं जिसके दिल में सबके लिए जगह हो मुझे लगता है वह इंसान अपने आप में एक बड़प्पन रखने वाला इंसान समझा जाता है परिचित की दुनिया कुत्ते शुरू होकर कब तक खत्म हो जाए ऐसी प्लान का उसकी बातों से बहुत ही दिन पता लगाया जा सकता है उसकी हर बात अपने आप से शुरू होगी वह बार-बार अपने आप को ही रिस्पेक्ट देगा या अपनी फोटो बाकी लोगों से ज्यादा दिखाने की कोशिश करेगा तो मुझे लगता है हर वह सवाल इंसान के दिल का आईना तो मायने नहीं रखता कि आपके बाल क्या पूछते हैं भाई ने अगर कोई चीज लगती है तो वह रिएक्शन मायने रखता तो आप जब कभी भी रिएक्शन दे तो हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि आप जो भी रिएक्शन दे रहे हैं उससे लोग आपकी पर्सनैलिटी को चर्च करती मत मानिए कि आपको नंबर सिर्फ इंटरव्यू बोर्ड वाले आपके एग्जामिनर ही देते हैं बल्कि असल जिंदगी में किस दुनिया में भी लोग आपको मार्किंग देते हैं क्वालिटी होती है जी आपकी तकलीफ होती है उस हिसाब से लोग आप को सपोर्ट करते हैं या नहीं करते यह दोनों ही अपने आप में उतनी ही अच्छी तो यह चीजें हैं जिनसे आप किसी की पर्सनैलिटी के बारे में बहुत ही इजी पता लगा सकते हैं धन्यवादNamaskar Doston Ko Kal Par Sun Rahe Mere Sabhi Buddhijeevi Shrotaon Ko Mera Pyar Bhara Namaskar Aaj Ka Sawal Hai Ki Ek Vyakti Se Aap Aisa Kya Sawal Poochh Sakte Aapko Unke Vyaktitva Ke Bare Mein Bahut Kuch Pata Chal Sakta Wah Toh Dekhi Mujhe Lagta Hai Har Wah Sawal Apne Aap Mein Bahut Hi Mahatvapurna Hota Hai Lekin Sawal Se Kahin Zyada Jo Cheez Maayne Rakhti Hai Toh Mujhe Lagta Hai Uska Response Maayne Rakhta Hai Ki Us Sawal Ka Jawab Koi Kis Tarike Se Deta Hai Par Kisi Sawal Par Kisi Ka Apna Drishtikon Kaisa Hai Kya Wah Vyaktigat Swartha Se Prerit Uska View Hai Ya Phir Un Swarthon Se Upar Utha Hua Kisi Ka Bhi Hai Jo Sab Ke Bare Mein Sochta Hoon Jiske Dil Mein Sabke Liye Jagah Ho Mujhe Lagta Hai Wah Insaan Apne Aap Mein Ek Badappan Rakhne Vala Insaan Samjha Jata Hai Parichit Ki Duniya Kutte Shuru Hokar Kab Tak Khatam Ho Jaye Aisi Plan Ka Uski Baaton Se Bahut Hi Din Pata Lagaya Ja Sakta Hai Uski Har Baat Apne Aap Se Shuru Hogi Wah Baar Baar Apne Aap Ko Hi Respect Dega Ya Apni Photo Baki Logon Se Zyada Dikhane Ki Koshish Karega Toh Mujhe Lagta Hai Har Wah Sawal Insaan Ke Dil Ka Aaina Toh Maayne Nahi Rakhta Ki Aapke Baal Kya Poochhte Hain Bhai Ne Agar Koi Cheez Lagti Hai Toh Wah Reaction Maayne Rakhta Toh Aap Jab Kabhi Bhi Reaction De Toh Hamesha Is Baat Ka Dhyan Rakhen Ki Aap Jo Bhi Reaction De Rahe Hain Usse Log Aapki Personality Ko Church Karti Mat Maniye Ki Aapko Number Sirf Interview Board Wale Aapke Examiner Hi Dete Hain Balki Asal Zindagi Mein Kis Duniya Mein Bhi Log Aapko Marking Dete Hain Quality Hoti Hai Ji Aapki Takleef Hoti Hai Us Hisab Se Log Aap Ko Support Karte Hain Ya Nahi Karte Yeh Dono Hi Apne Aap Mein Utani Hi Acchi Toh Yeh Cheezen Hain Jinse Aap Kisi Ki Personality Ke Bare Mein Bahut Hi Easy Pata Laga Sakte Hain Dhanyavad
Likes  16  Dislikes      
WhatsApp_icon
Likes  7  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए एक व्यक्ति से हम अगर एक समाना सिर्फ पूछने की बात हो जिससे उनके बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है तो उनका परिवार और समाज के प्रति आभार यदि वे सच बताएंगे को अपने व्यवहार के बारे में बताएंगे तो हमें यह पता चल सकता है कि यह व्यक्ति किस पर टिका है या लोगों को किस निगाह से देखता है लोगों के साथ कैसा व्यवहार करता है कैसे पेश आता है और लोग इसके साथ कितना कंफर्टेबल फील करते हैं और आगे चलकर इसके व्यवहार में कितनी नकारात्मकता और कितनी सकारात्मकता देती को मिलेगी मुझे ऐसा लगता है दूसरी चीज अगर मुझे दो सवाल करने हैं तुम्हें व्यवहार के साथ साथ उसका प्रोफेशन पूछ सकता हूं उसका फैमिली बैकग्राउंड भी साथ में पूछ सकता हूं जिससे कहीं ना कहीं उसके अंदर व्याप्त संस्कारों के बारे में भी पता चल सकता है नमस्कार
Romanized Version
देखिए एक व्यक्ति से हम अगर एक समाना सिर्फ पूछने की बात हो जिससे उनके बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है तो उनका परिवार और समाज के प्रति आभार यदि वे सच बताएंगे को अपने व्यवहार के बारे में बताएंगे तो हमें यह पता चल सकता है कि यह व्यक्ति किस पर टिका है या लोगों को किस निगाह से देखता है लोगों के साथ कैसा व्यवहार करता है कैसे पेश आता है और लोग इसके साथ कितना कंफर्टेबल फील करते हैं और आगे चलकर इसके व्यवहार में कितनी नकारात्मकता और कितनी सकारात्मकता देती को मिलेगी मुझे ऐसा लगता है दूसरी चीज अगर मुझे दो सवाल करने हैं तुम्हें व्यवहार के साथ साथ उसका प्रोफेशन पूछ सकता हूं उसका फैमिली बैकग्राउंड भी साथ में पूछ सकता हूं जिससे कहीं ना कहीं उसके अंदर व्याप्त संस्कारों के बारे में भी पता चल सकता है नमस्कारDekhie Ek Vyakti Se Hum Agar Ek Samana Sirf Poochne Ki Baat Ho Jisse Unke Bare Mein Bahut Kuch Pata Chal Sakta Hai Toh Unka Parivar Aur Samaaj Ke Prati Aabhar Yadi Ve Sach Batayenge Ko Apne Vyavahar Ke Bare Mein Batayenge Toh Humein Yeh Pata Chal Sakta Hai Ki Yeh Vyakti Kis Par Tika Hai Ya Logon Ko Kis Nigah Se Dekhta Hai Logon Ke Saath Kaisa Vyavahar Karta Hai Kaise Pesh Aata Hai Aur Log Iske Saath Kitna Comfortable Feel Karte Hain Aur Aage Chalkar Iske Vyavahar Mein Kitni Nakaratmakta Aur Kitni Sakaraatmakata Deti Ko Milegi Mujhe Aisa Lagta Hai Dusri Cheez Agar Mujhe Do Sawal Karne Hain Tumhe Vyavahar Ke Saath Saath Uska Profession Poochh Sakta Hoon Uska Family Background Bhi Saath Mein Poochh Sakta Hoon Jisse Kahin Na Kahin Uske Andar Vyapt Sanskaron Ke Bare Mein Bhi Pata Chal Sakta Hai Namaskar
Likes  33  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है कि अगर हमें किसी भी व्यक्ति से उसके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है तो वह सिर्फ एक ही सवाल है उसके माता-पिता के बारे में पूछना या फिर उसकी फैमिली के बारे में पूछना और फिर देखना कि वह अपनी फैमिली के बारे में हमें कितना अच्छे से और वह अपनी फैमिली के बारे में क्या थिंकिंग रखता है सबसे बड़ी इंपॉर्टेंट बात तो यह है कि वह क्या सोचता है अभी फैमिली के बारे में और अगर आपको लगता है कि आपको कोई भी लड़का लाइक करता है या फिर आपको प्रपोजल कर रहा है और और आप बहुत कंफ्यूज है तो सबसे पहले आप यह करिए आप उस लड़की को लड़की छोटा सा टेस्ट ले सकते हैं जैसे कि आप अगर उसे यह पूछे कि बाई चांस अगर तुम्हें मेरी वजह से अपनी फैमिली को छोड़ना पड़ा तो तुम क्या अपनी फैमिली को छोड़ोगे तो अगर वह कहता है कि हां छोड़ेगा तो समझ लीजिए कि वह इंसान एकदम फेक है और वह कभी भी आप तो को प्रोटेक्ट नहीं कर सकता जो भी जो इंसान अपनी 20 साल की पेरेंट्स को सुन छोड़ सकता है जिन्होंने उसके साथ हमेशा उसे बहुत छोटे से बाल पाल पोस कर बड़ा किया और वह उन्हें छोड़ सकता है किसी एक इंसान के लिए जो सिर्फ उस क्षण क्षण के लिए उसकी जिंदगी में आया तो हो सकता है कि आगे आप को भी छोड़ दूं तो इसीलिए हमें हमेशा सामने वाले इंसान के व्यक्तित्व को समझ गए और वह किस तरीके की थिंकिंग रखता है तब उसके बाद हमें आगे अपनी लाइफ का कोई भी निर्णय लेना
Romanized Version
मुझे लगता है कि अगर हमें किसी भी व्यक्ति से उसके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है तो वह सिर्फ एक ही सवाल है उसके माता-पिता के बारे में पूछना या फिर उसकी फैमिली के बारे में पूछना और फिर देखना कि वह अपनी फैमिली के बारे में हमें कितना अच्छे से और वह अपनी फैमिली के बारे में क्या थिंकिंग रखता है सबसे बड़ी इंपॉर्टेंट बात तो यह है कि वह क्या सोचता है अभी फैमिली के बारे में और अगर आपको लगता है कि आपको कोई भी लड़का लाइक करता है या फिर आपको प्रपोजल कर रहा है और और आप बहुत कंफ्यूज है तो सबसे पहले आप यह करिए आप उस लड़की को लड़की छोटा सा टेस्ट ले सकते हैं जैसे कि आप अगर उसे यह पूछे कि बाई चांस अगर तुम्हें मेरी वजह से अपनी फैमिली को छोड़ना पड़ा तो तुम क्या अपनी फैमिली को छोड़ोगे तो अगर वह कहता है कि हां छोड़ेगा तो समझ लीजिए कि वह इंसान एकदम फेक है और वह कभी भी आप तो को प्रोटेक्ट नहीं कर सकता जो भी जो इंसान अपनी 20 साल की पेरेंट्स को सुन छोड़ सकता है जिन्होंने उसके साथ हमेशा उसे बहुत छोटे से बाल पाल पोस कर बड़ा किया और वह उन्हें छोड़ सकता है किसी एक इंसान के लिए जो सिर्फ उस क्षण क्षण के लिए उसकी जिंदगी में आया तो हो सकता है कि आगे आप को भी छोड़ दूं तो इसीलिए हमें हमेशा सामने वाले इंसान के व्यक्तित्व को समझ गए और वह किस तरीके की थिंकिंग रखता है तब उसके बाद हमें आगे अपनी लाइफ का कोई भी निर्णय लेनाMujhe Lagta Hai Ki Agar Humein Kisi Bhi Vyakti Se Uske Vyaktitva Ke Bare Mein Bahut Kuch Pata Chal Sakta Hai Toh Wah Sirf Ek Hi Sawal Hai Uske Mata Pita Ke Bare Mein Poochna Ya Phir Uski Family Ke Bare Mein Poochna Aur Phir Dekhna Ki Wah Apni Family Ke Bare Mein Humein Kitna Acche Se Aur Wah Apni Family Ke Bare Mein Kya Thinking Rakhta Hai Sabse Badi Important Baat Toh Yeh Hai Ki Wah Kya Sochta Hai Abhi Family Ke Bare Mein Aur Agar Aapko Lagta Hai Ki Aapko Koi Bhi Ladka Like Karta Hai Ya Phir Aapko Proposal Kar Raha Hai Aur Aur Aap Bahut Confuse Hai Toh Sabse Pehle Aap Yeh Kariye Aap Us Ladki Ko Ladki Chota Sa Test Le Sakte Hain Jaise Ki Aap Agar Use Yeh Poochhe Ki Bai Chance Agar Tumhe Meri Wajah Se Apni Family Ko Chhodna Pada Toh Tum Kya Apni Family Ko Chodoge Toh Agar Wah Kahata Hai Ki Haan Chhodega Toh Samajh Lijiye Ki Wah Insaan Ekdam Fake Hai Aur Wah Kabhi Bhi Aap Toh Ko Project Nahi Kar Sakta Jo Bhi Jo Insaan Apni 20 Saal Ki Parents Ko Sun Chhod Sakta Hai Jinhone Uske Saath Hamesha Use Bahut Chhote Se Baal Pal Pos Kar Bada Kiya Aur Wah Unhein Chhod Sakta Hai Kisi Ek Insaan Ke Liye Jo Sirf Us Kshan Kshan Ke Liye Uski Zindagi Mein Aaya Toh Ho Sakta Hai Ki Aage Aap Ko Bhi Chhod Doon Toh Isliye Humein Hamesha Saamne Wale Insaan Ke Vyaktitva Ko Samajh Gaye Aur Wah Kis Tarike Ki Thinking Rakhta Hai Tab Uske Baad Humein Aage Apni Life Ka Koi Bhi Nirnay Lena
Likes  23  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उनकी सबसे पसंदीदा फिल्म अगर हम उनसे पूछते हैं जबकि सबसे पसंदीदा फिल्म कौन सी है तो वीडियो सेंड कर देंगे उससे मैं बहुत कुछ पता चल जाएगा उनके व्यक्तित्व के बारे में जैसा उन्होंने जैसा हीरो का हीरोइन की सेक्सी एक्टिंग की जो कहानी है उस कहानी में हीरो की जो रोल है वह ही ज्यादा तो रोज चॉइस करेंगे क्योंकि वह कोई भी इंसान से आप नहीं कहा कि मुझे पसंद अपने दिमाग के अनुसार आपने जो कुछ सोचता है वैसा वेतन मिलता है कि वह ज्यादा सफेद करता है और उसे बहुत ज्यादा प्रभावित होता है तो कैसी कैसी बातों से प्रभावित होता है इंसान यह सब के बारे में वह कैसे सोच रखता है कैसा किसके प्रति विचार लगता है यह सब कुछ पता चल जाएगा एक बोर्ड पर एक छोटी सी सवाल है क्या कौन सी फिल्म सबसे पसंदीदा है
उनकी सबसे पसंदीदा फिल्म अगर हम उनसे पूछते हैं जबकि सबसे पसंदीदा फिल्म कौन सी है तो वीडियो सेंड कर देंगे उससे मैं बहुत कुछ पता चल जाएगा उनके व्यक्तित्व के बारे में जैसा उन्होंने जैसा हीरो का हीरोइन की सेक्सी एक्टिंग की जो कहानी है उस कहानी में हीरो की जो रोल है वह ही ज्यादा तो रोज चॉइस करेंगे क्योंकि वह कोई भी इंसान से आप नहीं कहा कि मुझे पसंद अपने दिमाग के अनुसार आपने जो कुछ सोचता है वैसा वेतन मिलता है कि वह ज्यादा सफेद करता है और उसे बहुत ज्यादा प्रभावित होता है तो कैसी कैसी बातों से प्रभावित होता है इंसान यह सब के बारे में वह कैसे सोच रखता है कैसा किसके प्रति विचार लगता है यह सब कुछ पता चल जाएगा एक बोर्ड पर एक छोटी सी सवाल है क्या कौन सी फिल्म सबसे पसंदीदा है
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी व्यक्ति को एक सवाल पूछ कर उसके व्यक्तित्व के बारे में जानना बहुत ही मुश्किल है क्योंकि कोई भी दोस्त हो या कोई वाइफ हसबैंड हो वह आज 10 साल 60 साल यदि विशाल साथ रहते हैं वह भी किसी को पूरी तरह जान नहीं पा सकते हैं हालांकि कोई तो जान सकता है पर कोई नहीं जानते पूरी और उनके बारे में चिंटू के बारे में तो मेरा तो कहना यह है कि उनके बारे में जानना बहुत बहुत कठिन है धन्यवाद
Romanized Version
किसी भी व्यक्ति को एक सवाल पूछ कर उसके व्यक्तित्व के बारे में जानना बहुत ही मुश्किल है क्योंकि कोई भी दोस्त हो या कोई वाइफ हसबैंड हो वह आज 10 साल 60 साल यदि विशाल साथ रहते हैं वह भी किसी को पूरी तरह जान नहीं पा सकते हैं हालांकि कोई तो जान सकता है पर कोई नहीं जानते पूरी और उनके बारे में चिंटू के बारे में तो मेरा तो कहना यह है कि उनके बारे में जानना बहुत बहुत कठिन है धन्यवादKisi Bhi Vyakti Ko Ek Sawal Poochh Kar Uske Vyaktitva Ke Bare Mein Janana Bahut Hi Mushkil Hai Kyonki Koi Bhi Dost Ho Ya Koi Wife Husband Ho Wah Aaj 10 Saal 60 Saal Yadi Vishal Saath Rehte Hain Wah Bhi Kisi Ko Puri Tarah Jaan Nahi Pa Sakte Hain Halanki Koi Toh Jaan Sakta Hai Par Koi Nahi Jante Puri Aur Unke Bare Mein Chintu Ke Bare Mein Toh Mera Toh Kehna Yeh Hai Ki Unke Bare Mein Janana Bahut Bahut Kathin Hai Dhanyavad
Likes  22  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप सिर्फ इतना पूछ लीजिए एक आदमी और औरत का रिश्ता क्या होता है अगर वह वह वह सवाल का जवाब दें उसके जवाब पैसे आप मालूम कर सकती का पता
Romanized Version
आप सिर्फ इतना पूछ लीजिए एक आदमी और औरत का रिश्ता क्या होता है अगर वह वह वह सवाल का जवाब दें उसके जवाब पैसे आप मालूम कर सकती का पताAap Sirf Itna Poochh Lijiye Ek Aadmi Aur Aurat Ka Rishta Kya Hota Hai Agar Wah Wah Wah Sawal Ka Jawab Dein Uske Jawab Paise Aap Maloom Kar Sakti Ka Pata
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाउस एड्रेस पूछ सकते हैं
Romanized Version
हाउस एड्रेस पूछ सकते हैंHouse Address Poochh Sakte Hain
Likes  22  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसकी इंसानियत के बारे में बालियों के बारे में लोगों की मदद करने के बारे में भी सोच के जीवन और लाइफ का पता चल सकता है उसकी बातों में
Romanized Version
उसकी इंसानियत के बारे में बालियों के बारे में लोगों की मदद करने के बारे में भी सोच के जीवन और लाइफ का पता चल सकता है उसकी बातों मेंUski Insaniyat Ke Bare Mein Baaliyon Ke Bare Mein Logon Ki Madad Karne Ke Bare Mein Bhi Soch Ke Jeevan Aur Life Ka Pata Chal Sakta Hai Uski Baaton Mein
Likes  18  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मनुष्य दूसरे मनुष्य के बारे में उनके घर से उनके स्वभाव से या उनके शारीरिक चिन्ह और प्रतीकों से कोई समझने का प्रयास करता है कि सामने वाला उनसे किस प्रवृत्ति का है उसका व्यवहार कैसा है तो अगर हमको किसी भी मनुष्य का व्यवहार पता करना है तो देखिए मनुष्य सामान्य तौर पर देखेंगे तो दिखाओ बाजी ज्यादा करता है तो आप किसी को थोड़े समय के वार से उसको समझ पाना बहुत कठिन है जो उसको किसी दूसरे व्यक्ति के साथ लंबे समय तक साथ रहते हैं तब हम उसके अच्छाई और बुराई को समझ पाते हैं क्योंकि बाहर से ऊपरी स्तर पर हर व्यक्ति दिखाने के लिए अच्छा दिखाने का प्रयास करता है खुद को समाज के अंदर लेकिन कुछ बातें हैं जिनको हम समझ कर जिनको हम जानकर उस व्यक्ति के बारे में उसके जो चरित्र है उसके बारे में बहुत अब तक समझ सकते हैं जान सकते हैं कि वह व्यक्ति कैसा है तो हमको किसी दूसरे व्यक्ति के बारे में समझ रहा है तुम को यह समझना चाहिए कि उस व्यक्ति को किन चीजों में काम को कर कर किन चीजों को करके किन विषयों पर बात करके उसको मजा आ रहा है उसको आनंद मिलता है आपने अगर यह पता कर लिया कि किस मनुष्य को किस चीज में आनंद आता है किस काम को करने में आनंद आता तो आप समझ जाएंगे हुआ क्या है यह हम सभी पर लागू होता है देर सबेर हम वही काम करते हैं हम वही चीजों के बारे में बात करते हैं वही चीजें सोचते हैं जो हमारे अंदर होती हैं जय जिनकुन पसंद करते हैं जो शाम बनना चाहते हैं खुद होते हैं पिछले अगर आपको किसी व्यक्ति के बारे में जानना है तो उसके उसकी रूचि यों के बारे में आप बात करें उससे पता करें कि रुचियां क्या है उसको किस काम को करने में आनंद मिलता है तब उस व्यक्ति के चरित्र और उसके परिवार के बारे में अच्छे से समझ पाएंगे धन्यवाद
Romanized Version
मनुष्य दूसरे मनुष्य के बारे में उनके घर से उनके स्वभाव से या उनके शारीरिक चिन्ह और प्रतीकों से कोई समझने का प्रयास करता है कि सामने वाला उनसे किस प्रवृत्ति का है उसका व्यवहार कैसा है तो अगर हमको किसी भी मनुष्य का व्यवहार पता करना है तो देखिए मनुष्य सामान्य तौर पर देखेंगे तो दिखाओ बाजी ज्यादा करता है तो आप किसी को थोड़े समय के वार से उसको समझ पाना बहुत कठिन है जो उसको किसी दूसरे व्यक्ति के साथ लंबे समय तक साथ रहते हैं तब हम उसके अच्छाई और बुराई को समझ पाते हैं क्योंकि बाहर से ऊपरी स्तर पर हर व्यक्ति दिखाने के लिए अच्छा दिखाने का प्रयास करता है खुद को समाज के अंदर लेकिन कुछ बातें हैं जिनको हम समझ कर जिनको हम जानकर उस व्यक्ति के बारे में उसके जो चरित्र है उसके बारे में बहुत अब तक समझ सकते हैं जान सकते हैं कि वह व्यक्ति कैसा है तो हमको किसी दूसरे व्यक्ति के बारे में समझ रहा है तुम को यह समझना चाहिए कि उस व्यक्ति को किन चीजों में काम को कर कर किन चीजों को करके किन विषयों पर बात करके उसको मजा आ रहा है उसको आनंद मिलता है आपने अगर यह पता कर लिया कि किस मनुष्य को किस चीज में आनंद आता है किस काम को करने में आनंद आता तो आप समझ जाएंगे हुआ क्या है यह हम सभी पर लागू होता है देर सबेर हम वही काम करते हैं हम वही चीजों के बारे में बात करते हैं वही चीजें सोचते हैं जो हमारे अंदर होती हैं जय जिनकुन पसंद करते हैं जो शाम बनना चाहते हैं खुद होते हैं पिछले अगर आपको किसी व्यक्ति के बारे में जानना है तो उसके उसकी रूचि यों के बारे में आप बात करें उससे पता करें कि रुचियां क्या है उसको किस काम को करने में आनंद मिलता है तब उस व्यक्ति के चरित्र और उसके परिवार के बारे में अच्छे से समझ पाएंगे धन्यवादManushya Dusre Manushya Ke Bare Mein Unke Ghar Se Unke Swabhav Se Ya Unke Sharirik Chinh Aur Pratiko Se Koi Samjhne Ka Prayas Karta Hai Ki Saamne Vala Unse Kis Pravritti Ka Hai Uska Vyavahar Kaisa Hai Toh Agar Hamko Kisi Bhi Manushya Ka Vyavahar Pata Karna Hai Toh Dekhie Manushya Samanya Taur Par Dekhenge Toh Dikhaao Busy Zyada Karta Hai Toh Aap Kisi Ko Thode Samay Ke War Se Usko Samajh Pana Bahut Kathin Hai Jo Usko Kisi Dusre Vyakti Ke Saath Lambe Samay Tak Saath Rehte Hain Tab Hum Uske Acchai Aur Burayi Ko Samajh Paate Hain Kyonki Bahar Se Upari Sthar Par Har Vyakti Dikhane Ke Liye Accha Dikhane Ka Prayas Karta Hai Khud Ko Samaaj Ke Andar Lekin Kuch Batein Hain Jinako Hum Samajh Kar Jinako Hum Jaankar Us Vyakti Ke Bare Mein Uske Jo Charitra Hai Uske Bare Mein Bahut Ab Tak Samajh Sakte Hain Jaan Sakte Hain Ki Wah Vyakti Kaisa Hai Toh Hamko Kisi Dusre Vyakti Ke Bare Mein Samajh Raha Hai Tum Ko Yeh Samajhna Chahiye Ki Us Vyakti Ko Kin Chijon Mein Kaam Ko Kar Kar Kin Chijon Ko Karke Kin Vishyon Par Baat Karke Usko Maza Aa Raha Hai Usko Anand Milta Hai Aapne Agar Yeh Pata Kar Liya Ki Kis Manushya Ko Kis Cheez Mein Anand Aata Hai Kis Kaam Ko Karne Mein Anand Aata Toh Aap Samajh Jaenge Hua Kya Hai Yeh Hum Sabhi Par Laagu Hota Hai Der Saber Hum Wahi Kaam Karte Hain Hum Wahi Chijon Ke Bare Mein Baat Karte Hain Wahi Cheezen Sochte Hain Jo Hamare Andar Hoti Hain Jai Jinkun Pasand Karte Hain Jo Shaam Banana Chahte Hain Khud Hote Hain Pichhle Agar Aapko Kisi Vyakti Ke Bare Mein Janana Hai Toh Uske Uski Ruchi Yo Ke Bare Mein Aap Baat Karein Usse Pata Karein Ki Ruchiyan Kya Hai Usko Kis Kaam Ko Karne Mein Anand Milta Hai Tab Us Vyakti Ke Charitra Aur Uske Parivar Ke Bare Mein Acche Se Samajh Payenge Dhanyavad
Likes  21  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Ek Vyakti Se Aap Aisa Kya Sawal Poochh Sakte Hain Jisse Aap Ko Unke Vyaktitva Ke Bare Mein Bahut Kuch Pata Chal Sakta Hai,


vokalandroid