भारत की बढ़ती जनसंख्या का कारण क्या है ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बढ़ती जनसंख्या के बहुत सारे कारण है और मैं सबसे मुख्य नहर चलता है क्योंकि बहुत सारे लोग अभी भी या नहीं यह है कि ज्यादा बच्चे पैदा करने से क्या क्या परेशानियां हो सकती है सुधार वितरण तो है ही है क्योंक ...जवाब पढ़िये

बढ़ती जनसंख्या के बहुत सारे कारण है और मैं सबसे मुख्य नहर चलता है क्योंकि बहुत सारे लोग अभी भी या नहीं यह है कि ज्यादा बच्चे पैदा करने से क्या क्या परेशानियां हो सकती है सुधार वितरण तो है ही है क्योंकि घर में नसबंदी यह परिवार नियोजन की इजाजत ही नहीं है और साथ ही साथ लड़की की प्राप्ति के चक्कर में कितनी लड़कियां पैदा कर दी जाती है तो इन चीजों को इंजेक्शन कर्ताओं को दूर करना होगा माननीय सोच को बदलना होगा और लड़के लड़कियों में भेदभाव को दूर करना होगा और हमारे देश में कठोर कानून का भाव है उसके लिए राजनीति जिम्मेदार है क्योंकि वह अपने वोट बैंक के चक्कर में हम दो हमारे दो या कोई ऐसी नितिन आती ही नहीं है जब तक वह नहीं लाएगी तब तक तू बाहर जनसंख्या बढ़ोतरी साद रुकने वाली नहीं है क्योंकि इन लोगों अभी लोगों की सोच रही है जल्दी बताने वाली नहीं है और तो और इसके लिए हमारा वतावरण परिवेश में जिम्मेदार है क्योंकि हम जिस उष्णकटिबंधीय क्षेत्र में रहते हैं यह बच्चे पैदा करने के ज्यादा अनुकूल है इसलिए इसके बहुत सारेBadhti Jansankhya Ke Bahut Sare Kaaran Hai Aur Main Sabse Mukhya Nehar Chalta Hai Kyonki Bahut Sare Log Abhi Bhi Ya Nahi Yeh Hai Ki Jyada Bacche Paida Karne Se Kya Kya Pareshaniyan Ho Sakti Hai Sudhaar Vitaran To Hai Hi Hai Kyonki Ghar Mein Nasbandi Yeh Parivar Niyojan Ki Ijajat Hi Nahi Hai Aur Saath Hi Saath Ladki Ki Prapti Ke Chakkar Mein Kitni Ladkiyan Paida Kar Di Jati Hai To In Chijon Ko Injection Kartaon Ko Dur Karna Hoga Mananiya Soch Ko Badalna Hoga Aur Ladke Ladkiyon Mein Bhedbhav Ko Dur Karna Hoga Aur Hamare Desh Mein Kathor Kanoon Ka Bhav Hai Uske Liye Rajneeti Zimmedar Hai Kyonki Wah Apne Vote Bank Ke Chakkar Mein Hum Do Hamare Do Ya Koi Aisi Nitin Aati Hi Nahi Hai Jab Tak Wah Nahi Layegi Tab Tak Tu Bahar Jansankhya Badhotari Sad Rukane Wali Nahi Hai Kyonki In Logon Abhi Logon Ki Soch Rahi Hai Jaldi Batane Wali Nahi Hai Aur To Aur Iske Liye Hamara Vatavaran Parivesh Mein Zimmedar Hai Kyonki Hum Jis Ushnakatibandheey Kshetra Mein Rehte Hain Yeh Bacche Paida Karne Ke Jyada Anukul Hai Isliye Iske Bahut Sare
Likes  7  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की बढ़ती जनसंख्या का मुख्य कारण हमारे देश के मुसलमान हैं और हमारे देश की पॉलीटिकल पार्टी कांग्रेस है कांग्रेस ने कांग्रेस अगर चाही होती तो जनसंख्या नियंत्रण कानून बहुत पहले बन गया होता और जनसंख्य ...जवाब पढ़िये

भारत की बढ़ती जनसंख्या का मुख्य कारण हमारे देश के मुसलमान हैं और हमारे देश की पॉलीटिकल पार्टी कांग्रेस है कांग्रेस ने कांग्रेस अगर चाही होती तो जनसंख्या नियंत्रण कानून बहुत पहले बन गया होता और जनसंख्या नियंत्रण कानून जब तक नहीं बनेगा हमारे देश में बेरोजगारी ऐसे रहेगी हमारे देश में भ्रष्टाचार ऐसे ही रहेगा और आतंकवाद का भी खात्मा कभी नहीं हो पाएगा और गरीबी तो बनी ही रहेगी तो जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाना बहुत जरूरी है उस कानून का नाम होना चाहिए हम दो हमारे दो तो सबके दो इस कानून को पास करवाना होगा अन्यथा हमारे हमारा देश कभी आगे नहीं बढ़ पाएगा और यह कानून जनसंख्या नियंत्रण कानून कोई पार्टी बना सकती है तो वह भारतीय जनता पार्टी बना सकती कांग्रेस तो कभी नहीं बन पाएगी क्योंकि यह कांग्रेस मुस्लिम पार्टी है मुसलमानों का मुसलमान जो आतंकवादी विचारधारा के मुसलमान होते हैं उनकी उनका सपोर्ट करती है आप वादियों का सपोर्ट करती है पाकिस्तान का सपोर्ट करती है तो वह कभी नहीं बनाई थी इसलिए अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें ताकि हमारे देश में 2019 में बीजेपी की सरकार बनने के बाद जनसंख्या नियंत्रण कानून बन सके और हमारे देश से बेरोजगारी और गरीबी का हमेशा के लिए खात्मा हो सके धन्यवाद
Likes  7  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की जनसंख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है इसके रिजल्ट काफी सारे हैं और जैसे कि यहां इंडिया एक अच्छी कंट्री है जहां पर भगवान लोगों को माना जाता है बहुत सारे कल्चर चीजों को फॉलो किया जाता है और ऊपर ...जवाब पढ़िये

भारत की जनसंख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है इसके रिजल्ट काफी सारे हैं और जैसे कि यहां इंडिया एक अच्छी कंट्री है जहां पर भगवान लोगों को माना जाता है बहुत सारे कल्चर चीजों को फॉलो किया जाता है और ऊपर से कि इंडिया का हर पार्ट उतना ज्यादा वीडियो लॉक नहीं है कि लोग इतना सोच सके और जहां तक देखा जाता है तो इंडिया के नोट पार्ट में या फिर जो जगह और पैसे पर ज्यादा विकास नहीं है वहां पर क्या है कि अब लड़का लड़की के नाम पर भी बहुत ज्यादा डिस्क्रिमिनेशन है तो अगर अपने घर पर जब तक लड़का पैदा नहीं होता तब तक लोग लड़के पैदा करते बच्चे पैदा करना बंद नहीं करते हैं इसकी वजह से क्या होता है कि अब एक लड़के के नाम पर कितने सारे लड़कियां पैदा होती जाती है और दूसरा बात है क्या तो लोग उतना और नहीं सोचते कि एक भी बच्चा हो गया उसको काफी हो गया अब क्योंकि अब उतना फॉरवर्ड भी नहीं है और जो बाकी रिजल्ट देखा जाए तो यहां गवर्नमेंट की ओर से भी ऐसा कुछ स्ट्रीट लो नहीं है कि इंडिया में एक इंसान का इतना ही बस होना चाहिए जैसे कि बाकी कंट्रीज में है इसके अगेंस्ट कोई रोकथाम नहीं है और वह लोग इतना ज्यादा नहीं सोचते हैं कि कि भारत में आबादी बढ़ती जा रही है और जहां तक देखा जाता है कि अभी अभी इंडिया में जितना अपने घर में जितना ज्यादा बच्चे हो उतना अच्छा माना जाता है यह की स्पेशल डिलीवरी है और वो लड़की लोग इतना ज्यादा नहीं सोचते हैं कि अगर इतना बच्चे करेंगे तो इतना प्रॉब्लम होगी बाद में तो वह भी एक रीजन है कि भारत का पापुलेशन बढ़ते जा रहा हैBharat Ki Jansankhya Din Pratidin Badhti Ja Rahi Hai Iske Result Kafi Sare Hain Aur Jaise Ki Yahan India Ek Acchi Country Hai Jahan Par Bhagwan Logon Ko Mana Jata Hai Bahut Sare Culture Chijon Ko Follow Kiya Jata Hai Aur Upar Se Ki India Ka Har Part Utana Jyada Video Lock Nahi Hai Ki Log Itna Soch Sake Aur Jahan Tak Dekha Jata Hai To India Ke Note Part Mein Ya Phir Jo Jagah Aur Paise Par Jyada Vikash Nahi Hai Wahan Par Kya Hai Ki Ab Ladka Ladki Ke Naam Par Bhi Bahut Jyada Discrimination Hai To Agar Apne Ghar Par Jab Tak Ladka Paida Nahi Hota Tab Tak Log Ladke Paida Karte Bacche Paida Karna Band Nahi Karte Hain Iski Wajah Se Kya Hota Hai Ki Ab Ek Ladke Ke Naam Par Kitne Sare Ladkiyan Paida Hoti Jati Hai Aur Doosra Baat Hai Kya To Log Utana Aur Nahi Sochte Ki Ek Bhi Baccha Ho Gaya Usko Kafi Ho Gaya Ab Kyonki Ab Utana Forward Bhi Nahi Hai Aur Jo Baki Result Dekha Jaye To Yahan Government Ki Oar Se Bhi Aisa Kuch Street Lo Nahi Hai Ki India Mein Ek Insaan Ka Itna Hi Bus Hona Chahiye Jaise Ki Baki Countries Mein Hai Iske Against Koi Roktham Nahi Hai Aur Wah Log Itna Jyada Nahi Sochte Hain Ki Ki Bharat Mein Aabadi Badhti Ja Rahi Hai Aur Jahan Tak Dekha Jata Hai Ki Abhi Abhi India Mein Jitna Apne Ghar Mein Jitna Jyada Bacche Ho Utana Accha Mana Jata Hai Yeh Ki Special Delivery Hai Aur Vo Ladki Log Itna Jyada Nahi Sochte Hain Ki Agar Itna Bacche Karenge To Itna Problem Hogi Baad Mein To Wah Bhi Ek Reason Hai Ki Bharat Ka Population Badhte Ja Raha Hai
Likes  4  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां भारत की भर्ती पॉपुलेशन का अर्थिंग कौन से महीने के लाखों सेक्स एजुकेशन एप्लीकेशन फॉर्म इंफॉर्मेशन नहीं रहती है पूरे सोसाइटी में तू अब ओबीसी जो रहता है और प्रोटेक्शन रहता है वह बिजली वह यूज़ नहीं कर ...जवाब पढ़िये

हां भारत की भर्ती पॉपुलेशन का अर्थिंग कौन से महीने के लाखों सेक्स एजुकेशन एप्लीकेशन फॉर्म इंफॉर्मेशन नहीं रहती है पूरे सोसाइटी में तू अब ओबीसी जो रहता है और प्रोटेक्शन रहता है वह बिजली वह यूज़ नहीं कर पाते एंड हिंदी एंड पॉपुलेशन बढ़ता है मीटिंग नार्मल फैमिली प्लानिंग का एजुकेशन भी उतना नहीं है जितना होना चाहिए इंडिया में किसी अगर सामने तारीख नहीं है तो ऐसे ही ऐसे बढ़ता जाएगा हिंदी एंड यू रिशु चीज है जो पूरे देश में रहने चाहिए वह कम हो जाएंगेHaan Bharat Ki Bharti Population Ka Earthing Kaun Se Mahine Ke Laakhon Sex Education Application Form Information Nahi Rehti Hai Poore Society Mein Tu Ab Obc Jo Rehta Hai Aur Protection Rehta Hai Wah Bijli Wah Use Nahi Kar Paate End Hindi End Population Badhta Hai Meeting Normal Family Planning Ka Education Bhi Utana Nahi Hai Jitna Hona Chahiye India Mein Kisi Agar Samane Tarikh Nahi Hai To Aise Hi Aise Badhta Jayega Hindi End You Rishu Cheez Hai Jo Poore Desh Mein Rehne Chahiye Wah Kum Ho Jaenge
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की मौजूदा जनसंख्या 1.32 बिलियन है यानी 132 करोड़ गरीब जनसंख्या है जो चाइना से पूछी पीछे है और हमारा देश जो है वो पूरी दुनिया में दूसरे नंबर पर आता है जनसंख्या के मामले में जनसंख्या हमारे देश की ल ...जवाब पढ़िये

भारत की मौजूदा जनसंख्या 1.32 बिलियन है यानी 132 करोड़ गरीब जनसंख्या है जो चाइना से पूछी पीछे है और हमारा देश जो है वो पूरी दुनिया में दूसरे नंबर पर आता है जनसंख्या के मामले में जनसंख्या हमारे देश की लगातार बढ़ रही है और यह माना जाता है 2050 तक जो है यह भारत देश पहले नंबर पर आ जाएगा बहुत लोग इसमें जो जानकार नहीं है इसके वह शहद गर्म कर सकते हैं कि भारत ने चाइना को प्रणाम इस उसमें रेस में हरा दिया पहले नंबर पर आ गया लेकिन यह धर्म की वर्क नहीं है यह एक चिंता का कारण है बहुत ज्यादा जो अभी से अलार्म इन ग्रेट है अलार्म हो जाने चाहिए हम इसके लिए कोशिश हो जाना चाहिए क्योंकि जनसंख्या बढ़ने का मतलब है कि हमारे लिए बहुत सारी परेशानियां होना लेकिन जितने भी रिसोर्सेज हैं हमारे देश में जो भी हम रोज गार्डन इस्तेमाल करते हैं वह लिमिटेड है जनसंख्या बढ़ेगी तो उन पर प्रेशर पड़ेगा यानी उनका कंजंक्शन ज्यादा होगा उस समय से पहले खत्म हो जाएंगे उन पर बहुत ज्यादा भारी मात्रा में दबाव पड़ेगा यानी गरीबी होगी भुखमरी होगी यह सब चीजों की और ज्यादा रेट बढ़ जाएंगे तो जनसंख्या बढ़ रही है लगातार इसका जो कार इसके कारण है वह अवेयरनेस की कमी लोगों में लोगों को जागरूकता नहीं है उन्हें नहीं पता है कि इसके क्या दुष्प्रभाव है इससे क्या नुकसान है उन्हीं के लिए कुछ प्रॉब्लम है घर में अगर 5 बच्चे होंगे तो आपको उसे इलाज से कम आना पड़ेगा कि सब को भरपूर खाना मिले भोजन मिले और परिवार पर बोझ भी ना पड़े तो यदि अवेयरनेस करें लोगों में जागरूकता फैलाएं किसके क्या दुष्प्रभाव है तो हो सकती है कमी और अन्यथा यदि आपकी लव बना दें यह परिवार में सीमित बच्चे पैदा हुए चाइना की तरह तो शायद यह गांव गांव में जहां लोगों में जानकारी की कमी है इसका पालन हो सही सेBharat Ki Maujuda Jansankhya 1.32 Billion Hai Yani 132 Crore Garib Jansankhya Hai Jo China Se Pucchi Piche Hai Aur Hamara Desh Jo Hai Vo Puri Duniya Mein Dusre Number Par Aata Hai Jansankhya Ke Mamle Mein Jansankhya Hamare Desh Ki Lagatar Badh Rahi Hai Aur Yeh Mana Jata Hai 2050 Tak Jo Hai Yeh Bharat Desh Pehle Number Par Aa Jayega Bahut Log Isme Jo Janakar Nahi Hai Iske Wah Shahed Garam Kar Sakte Hain Ki Bharat Ne China Ko Pranam Is Usamen Race Mein Hara Diya Pehle Number Par Aa Gaya Lekin Yeh Dharm Ki Work Nahi Hai Yeh Ek Chinta Ka Kaaran Hai Bahut Jyada Jo Abhi Se Alarm In Great Hai Alarm Ho Jaane Chahiye Hum Iske Liye Koshish Ho Jana Chahiye Kyonki Jansankhya Badhne Ka Matlab Hai Ki Hamare Liye Bahut Saree Pareshaniyan Hona Lekin Jitne Bhi Resources Hain Hamare Desh Mein Jo Bhi Hum Roj Garden Istemal Karte Hain Wah Limited Hai Jansankhya Badhegi To Un Par Pressure Padega Yani Unka Conjunction Jyada Hoga Us Samay Se Pehle Khatam Ho Jaenge Un Par Bahut Jyada Bhari Matra Mein Dabaav Padega Yani Garibi Hogi Bhukhmari Hogi Yeh Sab Chijon Ki Aur Jyada Rate Badh Jaenge To Jansankhya Badh Rahi Hai Lagatar Iska Jo Car Iske Kaaran Hai Wah Awareness Ki Kami Logon Mein Logon Ko Jagrukta Nahi Hai Unhen Nahi Pata Hai Ki Iske Kya Dushprabhaav Hai Isse Kya Nuksan Hai Unhin Ke Liye Kuch Problem Hai Ghar Mein Agar 5 Bacche Honge To Aapko Use Ilaj Se Kum Aana Padega Ki Sab Ko Bharpur Khana Mile Bhojan Mile Aur Parivar Par Bojh Bhi Na Pade To Yadi Awareness Karen Logon Mein Jagrukta Failaen Kiske Kya Dushprabhaav Hai To Ho Sakti Hai Kami Aur Anyatha Yadi Aapki Love Bana Dein Yeh Parivar Mein Simith Bacche Paida Hue China Ki Tarah To Shayad Yeh Gav Gav Mein Jahan Logon Mein Jankari Ki Kami Hai Iska Palan Ho Sahi Se
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Bharat Ki Badhti Jansankhya Ka Kaaran Kya Hai ?, Badhti Jansankhya Ke Karan, Andhadoond