पीलिया का घरेलू इलाज क्या है ? ...

वयस्कों और शिशुओं दोनों में, शरीर में अतिरिक्त बिलीरुबिन के कारण पीलिया होता है। बिलीरुबिन एक अशिष्ट उत्पाद है जो आपके लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने के परिणामस्वरूप उत्पादित होता है। यह यौगिक मल के माध्यम से उत्सर्जित किया जाता है।तेल मसालेदार, खट्टा, नमकीन, क्षारीय और बहुत गर्म खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन और शराब आदि पीलिया रोग का कारण बनता है। बढ़ा हुआ पित्त (in the form of bile) तब यकृत के रक्‍त और मांसपेशीय ऊतको (muscular tissue) को कमजोर कर देता है जिससे यकृत के चैनलों में अवरोध उत्पन्न होता है और इस प्रकार पित्त को रक्‍त में वापस भेज दिया जाता है जिससे आंखों और त्वचा का रंग पीला हो जाता है। दिन में सोना, यौन गतिविधी में अतिसंवेदनशीलता, अधिक शारीरिक परिश्रम, वासना, भय, क्रोध और तनाव आदि भी पीलिया के कारण हो सकते हैं।
Romanized Version
वयस्कों और शिशुओं दोनों में, शरीर में अतिरिक्त बिलीरुबिन के कारण पीलिया होता है। बिलीरुबिन एक अशिष्ट उत्पाद है जो आपके लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने के परिणामस्वरूप उत्पादित होता है। यह यौगिक मल के माध्यम से उत्सर्जित किया जाता है।तेल मसालेदार, खट्टा, नमकीन, क्षारीय और बहुत गर्म खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन और शराब आदि पीलिया रोग का कारण बनता है। बढ़ा हुआ पित्त (in the form of bile) तब यकृत के रक्‍त और मांसपेशीय ऊतको (muscular tissue) को कमजोर कर देता है जिससे यकृत के चैनलों में अवरोध उत्पन्न होता है और इस प्रकार पित्त को रक्‍त में वापस भेज दिया जाता है जिससे आंखों और त्वचा का रंग पीला हो जाता है। दिन में सोना, यौन गतिविधी में अतिसंवेदनशीलता, अधिक शारीरिक परिश्रम, वासना, भय, क्रोध और तनाव आदि भी पीलिया के कारण हो सकते हैं।Vayaskon Aur Shishuon Dono Mein Sharir Mein Atirikt Bilirubin Ke Kaaran Peeliya Hota Hai Bilirubin Ek Ashisht Utpaad Hai Jo Aapke Lal Rakta Koshikaaon Ke Tutane Ke Parinaamasvaroop Utpadit Hota Hai Yeh Yaugik Mal Ke Maadhyam Se Utsarjit Kiya Jata Hai Tel Msaledaar Khatta Namkeen Kshariye Aur Bahut Garam Khadya Padarthon Ka Adhik Seven Aur Sharab Aadi Peeliya Rog Ka Kaaran Banta Hai Badha Hua Pitt (in The Form Of Bile) Tab Yakrit Ke Rak‍t Aur Mansapeshiya Utako (muscular Tissue) Ko Kamjor Kar Deta Hai Jisse Yakrit Ke Channelon Mein Avarodh Utpann Hota Hai Aur Is Prakar Pitt Ko Rak‍t Mein Wapas Bhej Diya Jata Hai Jisse Aakhon Aur Twacha Ka Rang Peela Ho Jata Hai Din Mein Sona Yaun Gatividhi Mein Atisamvedansheelata Adhik Shaaririk Parishram Vasana Bhay Krodh Aur Tanaav Aadi Bhi Peeliya Ke Kaaran Ho Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Peeliya Ka Gharelu Ilaj Kya Hai ? ,


vokalandroid