आईएएस के इंटर्व्यू के लिए में कैसे तैयारी करूँ और अपना आत्मविश्वास कैसे बढ़ाऊँ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आईएएस अधिकारी के लिए ऑफ नेचुरल जो आपको जिस तरीके से अगर आप एकदम नेचुरल हेयर इंटरमीडिएट क्वेश्चन का जवाब देना भी क्यों पिटी मे टो टाटा पूजा डाउनलोड कीजिए
Romanized Version
आईएएस अधिकारी के लिए ऑफ नेचुरल जो आपको जिस तरीके से अगर आप एकदम नेचुरल हेयर इंटरमीडिएट क्वेश्चन का जवाब देना भी क्यों पिटी मे टो टाटा पूजा डाउनलोड कीजिएIAS Adhikari Ke Liye Of Natural Jo Aapko Jis Tarike Se Agar Aap Ekdam Natural Hair Intermediate Question Ka Jawab Dena Bhi Kyon Pittie Me To Tata Puja Download Kijiye
Likes  63  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आईएस इंटरव्यू के लिए आपको कोई हक नहीं करनी क्या विचार रिजल्ट जो कोई भी फायदा करते
Romanized Version
आईएस इंटरव्यू के लिए आपको कोई हक नहीं करनी क्या विचार रिजल्ट जो कोई भी फायदा करतेIas Interview Ke Liye Aapko Koi Haq Nahi Karni Kya Vichar Result Jo Koi Bhi Fayda Karte
Likes  63  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आप का सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है आगे बढ़ने की ललक और जब तक व्यक्ति अपने लक्ष्य को अपनी आंखों के सामने महसूस नहीं करता है तब तक व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास महसूस नहीं होता है सर्वेश्वर दयाल सक्सेना वह पंक्तियां किस दिन पर है लेकिन मील का पत्थर नहीं देखा तो व्यक्ति को बनाए रखने के लिए अपने लक्ष्य को अपनी खुली आंखों के सामने
Romanized Version
देखिए आप का सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है आगे बढ़ने की ललक और जब तक व्यक्ति अपने लक्ष्य को अपनी आंखों के सामने महसूस नहीं करता है तब तक व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास महसूस नहीं होता है सर्वेश्वर दयाल सक्सेना वह पंक्तियां किस दिन पर है लेकिन मील का पत्थर नहीं देखा तो व्यक्ति को बनाए रखने के लिए अपने लक्ष्य को अपनी खुली आंखों के सामनेDekhie Aap Ka Sabse Mahatvapurna Cheez Hoti Hai Aage Badhne Ki Lalak Aur Jab Tak Vyakti Apne Lakshya Ko Apni Aakhon Ke Samane Mahsus Nahi Karta Hai Tab Tak Vyakti Ke Andar Aatmvishvaas Mahsus Nahi Hota Hai Sarveshwar Dayal Saxena Wah Panktiyan Kis Din Par Hai Lekin Meal Ka Pathar Nahi Dekha To Vyakti Ko Banaye Rakhne Ke Liye Apne Lakshya Ko Apni Khuli Aakhon Ke Samane
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:IAS Ke Interview Ke Liye Mein Kaise Taiyari Karun Aur Apna Aatmvishvaas Kaise Badhaun,


vokalandroid