पर्यावरण किसे कहते हैं ? ...

Likes  0  Dislikes

1 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
पर्यावरण यानी एनवायरनमेंट शब्द का निर्माण दो शब्दों से मिलकर हुआ है पर यह जो हमारे चारों ओर है और आवरण जो हमें चारों ओर से घेरे हुए हैं पर्यावरण उन सभी भौतिक रासायनिक एवं जैविक कारकों की और अमरीश टिकट इकाई है जो किसी जीवधारी अथवा पर्यंत पारितंत्र आबादी को प्रभावित करती है तथा उनके रूप जीवन और जीविता को तय करते हैं और सामान्य अर्थों में यह हमारे जीवन को प्रभावित को को प्रभावित करने वाले सभी जैविक और अजैविक तत्वों तथ्यों प्रक्रिया प्रक्रियाओं और घटनाओं के समुच्चय से निरमा और निर्मित इकाई है यह हमारे चारों ओर व्याप्त है और हमारे जीवन की प्रत्येक घटना इसी के अंदर संपादित होती है तथा हम मनुष्य अपनी समस्त क्रियाओं से इस पर्यावरण को भी प्रभावित करते हैं इस प्रकार एक जीवधारी और उसके पर्यावरण के बीच अन्योन्य आश्रय का संबंध भी होता है पर्यावरण के जैविक संकट को में सूक्ष्म जीवाणु से लेकर कीड़े मकोड़े सभी जीव जंतु और पेड़-पौधे आ जाते हैं और इसके साथ ही उनसे जुड़ी सारी जेब क्रियाएं और परीक्षाएं और प्रक्रियाएं भी अजैविक संगठन में जीवन जीवन रहे तत्व और उनसे जुड़ी प्रक्रिया है आती है आती है जैसे चट्टानी पर्वत नदी हवा और जलवायु के तत्व इत्यादिParyavaran Yani Environment Shabdh Ka Nirman Do Shabdon Se Milkar Hua Hai Par Yeh Jo Hamare Charo Oar Hai Aur Aavaran Jo Hume Charo Oar Se Ghere Hue Hain Paryavaran Un Sabhi Bhautik Rasaynik Evam Jaivik Kaarakon Ki Aur Amrish Ticket Ikai Hai Jo Kisi Jeevadhari Athwa Paryant Paritantra Aabadi Ko Prabhavit Karti Hai Tatha Unke Roop Jeevan Aur Jeevitha Ko Tay Karte Hain Aur Samanya Arthon Mein Yeh Hamare Jeevan Ko Prabhavit Ko Ko Prabhavit Karne Wale Sabhi Jaivik Aur Ajaivik Tatwon Tathyon Prakriya Prakriyaon Aur Ghatnaon Ke Samuchchya Se Nirma Aur Nirmit Ikai Hai Yeh Hamare Charo Oar Vyapt Hai Aur Hamare Jeevan Ki Pratyek Ghatna Isi Ke Andar Sanpadit Hoti Hai Tatha Hum Manushya Apni Samast Kriyaon Se Is Paryavaran Ko Bhi Prabhavit Karte Hain Is Prakar Ek Jeevadhari Aur Uske Paryavaran Ke Beech Anyonya Asray Ka Sambandh Bhi Hota Hai Paryavaran Ke Jaivik Sankat Ko Mein Sukshm Jivanu Se Lekar Keede Makode Sabhi Jeev Jantu Aur Ped Paudhe Aa Jaate Hain Aur Iske Saath Hi Unse Judi Saree Jeb Kriyaen Aur Parikshaen Aur Prakriyan Bhi Ajaivik Sangathan Mein Jeevan Jeevan Rahe Tatva Aur Unse Judi Prakriya Hai Aati Hai Aati Hai Jaise Chattani Parwat Nadi Hawa Aur Jalvayu Ke Tatva Ityadi
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Paryavaran Kise Kehte Hain ?, Paryavaran Kise Kehte Hain, पर्यावरण किसे कहते हैं, Paryavaran Kise Kahte Hai, Paryavaran Kise Kehte Hai, पर्यावरण किसे कहते है, वातावरण किसे कहते हैं, Paryavaran Ki Se Kehte Hain, Paryavaran Ki Se Kehte, Vatavaran Kise Kehte Hain, पयार्वरण किसे कहते है, पर्यावरण किसे कहते हैं हिंदी में, परयावरण किसे कहते है, पर्यावरण की से कहते हैं, पर्यावरण Kise Kehte Hain, Paryavaran Kise Kehte Hai Hindi Me, Paryavaran, Paritantra Ki Se Kehte Hain, Jalvayu Kise Kehte Hai, Jalvayu Kise Kahte Hai





मन में है सवाल?