search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

सच्चाई का रास्ता  इतना कठिन क्यूँ है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

200 आप दिख जाए तो रास्ता तो एक ही था हमेशा से गिरा है वह क्या बहुत सहज सरल सच्चाई का रास्ता लेकिन हुआ क्या है कि लोगों ने अपने फायदे के लिए जल्दी मंजिल तक पहुंचने के लिए ज्यादा एकत्रित करने के लिए उन्होंने शॉर्टकट अपनाना शुरू कर दिया किसी को दबाकर ऊपर चले गए किसी को धक्का मार कर ऊपर चले गए साइड से चले गए हैं से चले गए वैसे चले गए किसी भी तरीके से जीत चाहिए थी लोगों को चाहे वो रास्ता कोई भी हो किसी ने भी रास्ते पर ध्यान नहीं दिया या अधिकतर लोग आज की तारीख में रास्तों पर ध्यान नहीं देते हैं वह खाली किसी भी तरीके से मुझे मंजिल मिल जाए फ्रॉम यहां पर आ जाती है आप सीधा जा रहे हैं लेकिन कोई आपको गलत साइड से ओवरटेक कर के ऊपर आके चला जाए या आपको ऐसे कर्नल सर के आगे चले जाएं कि आपको लगेगा यह क्या हो गया भाई वह तो मेरे से आगे चला गया लेकिन क्या वह सही था वह बिल्कुल सही नहीं था आपको ऐसा करने की जरूरत नहीं है आपको तो वह करना है जो सही भले ही आपको हो सकता है उनके मुकाबले थोड़ा टाइम ज्यादा लग जाए इस गर्मी में लेकिन घबराने की यज्ञ वर्क करने की कोई जरूरत नहीं क्योंकि आप का रास्ता साफ है जब आप मंजिल पर पहुंच जाएंगे तो आपको गर्व होगा फक्र होगा कि मैं मैंने ऐसे अपना रास्ता का वकिया आशा दूसरा वह लोग जो लोग कोई भी नाश्ता लेकर चले जाते हैं उनका क्या होगा आगे सोच के आगे जाकर सोचिए उनको एक अरे ग्रेट वाली लाइफ मिलेगी दुख मिलेगा परेशानी मिलेगी तकलीफ होगा उसके बारे में वह उनको पछतावा हो सकता है शायद वह उसके बारे में कभी इतना जिक्र ना कर सके जब बुढ़ापा आएगा तब उन्हें लगी है यह मैंने क्या किया जब लाइफ को पीछे मुड़कर देखेंगे उन्होंने अफसोस होगा कि मैंने यह रास्ता क्यों अपनाया और देखिए आप जैसा कर्म करेंगे उत्तर कौन सीक्वेंस या रिजल्ट तो मिलना ही है नीचे बड़ा क्लियर है कि किसको कब क्या मिलना है उसके कर्म के हिसाब से उसे मिल जाएगा तो आप वही कीजिए जो सही है
Romanized Version
200 आप दिख जाए तो रास्ता तो एक ही था हमेशा से गिरा है वह क्या बहुत सहज सरल सच्चाई का रास्ता लेकिन हुआ क्या है कि लोगों ने अपने फायदे के लिए जल्दी मंजिल तक पहुंचने के लिए ज्यादा एकत्रित करने के लिए उन्होंने शॉर्टकट अपनाना शुरू कर दिया किसी को दबाकर ऊपर चले गए किसी को धक्का मार कर ऊपर चले गए साइड से चले गए हैं से चले गए वैसे चले गए किसी भी तरीके से जीत चाहिए थी लोगों को चाहे वो रास्ता कोई भी हो किसी ने भी रास्ते पर ध्यान नहीं दिया या अधिकतर लोग आज की तारीख में रास्तों पर ध्यान नहीं देते हैं वह खाली किसी भी तरीके से मुझे मंजिल मिल जाए फ्रॉम यहां पर आ जाती है आप सीधा जा रहे हैं लेकिन कोई आपको गलत साइड से ओवरटेक कर के ऊपर आके चला जाए या आपको ऐसे कर्नल सर के आगे चले जाएं कि आपको लगेगा यह क्या हो गया भाई वह तो मेरे से आगे चला गया लेकिन क्या वह सही था वह बिल्कुल सही नहीं था आपको ऐसा करने की जरूरत नहीं है आपको तो वह करना है जो सही भले ही आपको हो सकता है उनके मुकाबले थोड़ा टाइम ज्यादा लग जाए इस गर्मी में लेकिन घबराने की यज्ञ वर्क करने की कोई जरूरत नहीं क्योंकि आप का रास्ता साफ है जब आप मंजिल पर पहुंच जाएंगे तो आपको गर्व होगा फक्र होगा कि मैं मैंने ऐसे अपना रास्ता का वकिया आशा दूसरा वह लोग जो लोग कोई भी नाश्ता लेकर चले जाते हैं उनका क्या होगा आगे सोच के आगे जाकर सोचिए उनको एक अरे ग्रेट वाली लाइफ मिलेगी दुख मिलेगा परेशानी मिलेगी तकलीफ होगा उसके बारे में वह उनको पछतावा हो सकता है शायद वह उसके बारे में कभी इतना जिक्र ना कर सके जब बुढ़ापा आएगा तब उन्हें लगी है यह मैंने क्या किया जब लाइफ को पीछे मुड़कर देखेंगे उन्होंने अफसोस होगा कि मैंने यह रास्ता क्यों अपनाया और देखिए आप जैसा कर्म करेंगे उत्तर कौन सीक्वेंस या रिजल्ट तो मिलना ही है नीचे बड़ा क्लियर है कि किसको कब क्या मिलना है उसके कर्म के हिसाब से उसे मिल जाएगा तो आप वही कीजिए जो सही है200 Aap Dikh Jaye Toh Rasta Toh Ek Hi Tha Hamesha Se Gira Hai Wah Kya Bahut Sehaz Saral Sacchai Ka Rasta Lekin Hua Kya Hai Ki Logon Ne Apne Fayde Ke Liye Jaldi Manjil Tak Pahuchne Ke Liye Zyada Ekatrit Karne Ke Liye Unhone Shortcut Apnana Shuru Kar Diya Kisi Ko Dabakar Upar Chale Gaye Kisi Ko Dhakka Maar Kar Upar Chale Gaye Side Se Chale Gaye Hain Se Chale Gaye Waise Chale Gaye Kisi Bhi Tarike Se Jeet Chahiye Thi Logon Ko Chahe Vo Rasta Koi Bhi Ho Kisi Ne Bhi Raste Par Dhyan Nahi Diya Ya Adhiktar Log Aaj Ki Tarikh Mein Raston Par Dhyan Nahi Dete Hain Wah Khaali Kisi Bhi Tarike Se Mujhe Manjil Mil Jaye From Yahan Par Aa Jati Hai Aap Seedha Ja Rahe Hain Lekin Koi Aapko Galat Side Se Overtake Kar Ke Upar Aake Chala Jaye Ya Aapko Aise Colonel Sar Ke Aage Chale Jayen Ki Aapko Lagega Yeh Kya Ho Gaya Bhai Wah Toh Mere Se Aage Chala Gaya Lekin Kya Wah Sahi Tha Wah Bilkul Sahi Nahi Tha Aapko Aisa Karne Ki Zaroorat Nahi Hai Aapko Toh Wah Karna Hai Jo Sahi Bhale Hi Aapko Ho Sakta Hai Unke Muqable Thoda Time Zyada Lag Jaye Is Garmi Mein Lekin Ghabrane Ki Yagya Work Karne Ki Koi Zaroorat Nahi Kyonki Aap Ka Rasta Saaf Hai Jab Aap Manjil Par Pahunch Jaenge Toh Aapko Garv Hoga Fuckra Hoga Ki Main Maine Aise Apna Rasta Ka Vakia Asha Doosra Wah Log Jo Log Koi Bhi Nashta Lekar Chale Jaate Hain Unka Kya Hoga Aage Soch Ke Aage Jaakar Sochie Unko Ek Arre Great Waali Life Milegi Dukh Milega Pareshani Milegi Takleef Hoga Uske Bare Mein Wah Unko Pachtava Ho Sakta Hai Shayad Wah Uske Bare Mein Kabhi Itna Jikarr Na Kar Sake Jab Budhapa Aaega Tab Unhein Lagi Hai Yeh Maine Kya Kiya Jab Life Ko Peeche Mudkar Dekhenge Unhone Afasos Hoga Ki Maine Yeh Rasta Kyon Apnaya Aur Dekhie Aap Jaisa Karm Karenge Uttar Kaun Sequence Ya Result Toh Milna Hi Hai Neeche Bada Clear Hai Ki Kisko Kab Kya Milna Hai Uske Karm Ke Hisab Se Use Mil Jayega Toh Aap Wahi Kijiye Jo Sahi Hai
Likes  63  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

ques_icon

अधिक जवाब


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सच्चाई का रास्ता हमेशा कठिन इसलिए होता है कि सच्चाई कोई सुनना नहीं चाहता है कोई अपने आप को अमीर आदमी अपनी सच्चाई या देखना नहीं चाहता है लोग आजकल के जमाने की दूसरों का कचरा हम क्या करें दूसरों में क्या गलतियां है यह दिखाने का आज का जमाना हो चुका है बस खुद के अंदर क्या गलतियां है वह ढूंढने में किसी को भी इंटरेस्ट नहीं है सबको ऊंचा बनना है सबको ऊपर उठना है बट एंड कॉस्ट ऑफ एनी सच्चाई की राह भूलकर गलत रास्ते पकड़कर आजकल लोग इतना चाहते हैं अगर आप सच्चाई सुनते हो आपकी फेस एंड व्हाट इज द फॉलो द ट्रुथ यू बिलीव इन योरसेल्फ गो अहेड एंड व्हाट इज डूइंग फॉर यू थैंक यू
Romanized Version
सच्चाई का रास्ता हमेशा कठिन इसलिए होता है कि सच्चाई कोई सुनना नहीं चाहता है कोई अपने आप को अमीर आदमी अपनी सच्चाई या देखना नहीं चाहता है लोग आजकल के जमाने की दूसरों का कचरा हम क्या करें दूसरों में क्या गलतियां है यह दिखाने का आज का जमाना हो चुका है बस खुद के अंदर क्या गलतियां है वह ढूंढने में किसी को भी इंटरेस्ट नहीं है सबको ऊंचा बनना है सबको ऊपर उठना है बट एंड कॉस्ट ऑफ एनी सच्चाई की राह भूलकर गलत रास्ते पकड़कर आजकल लोग इतना चाहते हैं अगर आप सच्चाई सुनते हो आपकी फेस एंड व्हाट इज द फॉलो द ट्रुथ यू बिलीव इन योरसेल्फ गो अहेड एंड व्हाट इज डूइंग फॉर यू थैंक यूSacchai Ka Rasta Hamesha Kathin Isliye Hota Hai Ki Sacchai Koi Sunana Nahi Chahta Hai Koi Apne Aap Ko Amir Aadmi Apni Sacchai Ya Dekhna Nahi Chahta Hai Log Aajkal Ke Jamaane Ki Dusron Ka Kachda Hum Kya Karein Dusron Mein Kya Galtiya Hai Yeh Dikhane Ka Aaj Ka Jamana Ho Chuka Hai Bus Khud Ke Andar Kya Galtiya Hai Wah Dhundhane Mein Kisi Ko Bhi Interest Nahi Hai Sabko Uncha Banana Hai Sabko Upar Uthana Hai But End Cost Of Any Sacchai Ki Raah Bhulkar Galat Raste Pakadkar Aajkal Log Itna Chahte Hain Agar Aap Sacchai Sunte Ho Aapki Face End What Is The Follow The Truth You Believe In Yourself Go Ahead End What Is Doing For You Thank You
Likes  16  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीक्षित सच्चाई का रास्ता इतना कठिन क्यों है सच्चाई का रास्ता इतना कठिन इसीलिए है क्योंकि आज का मानव सच सुनना ही नहीं चाहता कदम कदम पर बहुत बार आपको ऐसा महसूस होगा कि अगर आप सच बोलेंगे पहली बात तो यह कि बहुत बार ऐसा होता है कि हम सामने वाला सामने वाले को सच बोलना चाहते हैं लेकिन फिर हमें लगता है कि कहीं उसे बुरा ना लग जाए तो फिर हम जो है वह बोल थोड़ा आधा सच या झूठ बोलकर आगे बढ़ जाते हैं क्योंकि किसी को दुख पहुंचा कर वैसे भी आपको कुछ भी अच्छा नहीं लगेगा तो यह बात आ जाती है कि जॉब में बिज़नस में हमें ऐसा लगता है कि अगर हम सच बोलते हैं तो कहीं हमारा नुकसान ना हो जाए तो इसीलिए जो है बहुत बार हम झूठ बोल देते हैं मैं मैं बुरी नहीं होती कहने वाली हमें सच बोलना चाहिए आपको सच बोलना लिखिए आपका निर्णय है आपके ऊपर मैं बिल्कुल निर्भर करता है लेकिन हां यह बात सच है कि आज के ज़माने में बहुत कठिन हो गया है सच बोलना क्योंकि परिस्थितियां बार बार बार बार हमारे सामने ऐसी आकर खड़ी हो जाती है जिसमें जिसमें हमें चूस करना होता है कि हमें सच बोलना है या झूठ बोलना है हमें बस यह ध्यान रखना चाहिए कि हमारे झूठ से कहीं किसी और का नुकसान ना हो कहीं किसी और को दुख ना पहुंचे
Romanized Version
दीक्षित सच्चाई का रास्ता इतना कठिन क्यों है सच्चाई का रास्ता इतना कठिन इसीलिए है क्योंकि आज का मानव सच सुनना ही नहीं चाहता कदम कदम पर बहुत बार आपको ऐसा महसूस होगा कि अगर आप सच बोलेंगे पहली बात तो यह कि बहुत बार ऐसा होता है कि हम सामने वाला सामने वाले को सच बोलना चाहते हैं लेकिन फिर हमें लगता है कि कहीं उसे बुरा ना लग जाए तो फिर हम जो है वह बोल थोड़ा आधा सच या झूठ बोलकर आगे बढ़ जाते हैं क्योंकि किसी को दुख पहुंचा कर वैसे भी आपको कुछ भी अच्छा नहीं लगेगा तो यह बात आ जाती है कि जॉब में बिज़नस में हमें ऐसा लगता है कि अगर हम सच बोलते हैं तो कहीं हमारा नुकसान ना हो जाए तो इसीलिए जो है बहुत बार हम झूठ बोल देते हैं मैं मैं बुरी नहीं होती कहने वाली हमें सच बोलना चाहिए आपको सच बोलना लिखिए आपका निर्णय है आपके ऊपर मैं बिल्कुल निर्भर करता है लेकिन हां यह बात सच है कि आज के ज़माने में बहुत कठिन हो गया है सच बोलना क्योंकि परिस्थितियां बार बार बार बार हमारे सामने ऐसी आकर खड़ी हो जाती है जिसमें जिसमें हमें चूस करना होता है कि हमें सच बोलना है या झूठ बोलना है हमें बस यह ध्यान रखना चाहिए कि हमारे झूठ से कहीं किसी और का नुकसान ना हो कहीं किसी और को दुख ना पहुंचेDixit Sacchai Ka Rasta Itna Kathin Kyon Hai Sacchai Ka Rasta Itna Kathin Isliye Hai Kyonki Aaj Ka Manav Sach Sunana Hi Nahi Chahta Kadam Kadam Par Bahut Baar Aapko Aisa Mahsus Hoga Ki Agar Aap Sach Bolenge Pehli Baat Toh Yeh Ki Bahut Baar Aisa Hota Hai Ki Hum Saamne Vala Saamne Wale Ko Sach Bolna Chahte Hain Lekin Phir Humein Lagta Hai Ki Kahin Use Bura Na Lag Jaye Toh Phir Hum Jo Hai Wah Bol Thoda Aadha Sach Ya Jhuth Bolkar Aage Badh Jaate Hain Kyonki Kisi Ko Dukh Pahuncha Kar Waise Bhi Aapko Kuch Bhi Accha Nahi Lagega Toh Yeh Baat Aa Jati Hai Ki Job Mein Business Mein Humein Aisa Lagta Hai Ki Agar Hum Sach Bolte Hain Toh Kahin Hamara Nuksan Na Ho Jaye Toh Isliye Jo Hai Bahut Baar Hum Jhuth Bol Dete Hain Main Main Buri Nahi Hoti Kehne Waali Humein Sach Bolna Chahiye Aapko Sach Bolna Likhiye Aapka Nirnay Hai Aapke Upar Main Bilkul Nirbhar Karta Hai Lekin Haan Yeh Baat Sach Hai Ki Aaj Ke Jamaane Mein Bahut Kathin Ho Gaya Hai Sach Bolna Kyonki Paristhiyaann Baar Baar Baar Baar Hamare Saamne Aisi Aakar Khadi Ho Jati Hai Jisme Jisme Humein Chus Karna Hota Hai Ki Humein Sach Bolna Hai Ya Jhuth Bolna Hai Humein Bus Yeh Dhyan Rakhna Chahiye Ki Hamare Jhuth Se Kahin Kisi Aur Ka Nuksan Na Ho Kahin Kisi Aur Ko Dukh Na Pahuche
Likes  60  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी फोटो भेज दिए जा रहे हो तुम किसी सार्थक लक्ष्य की ओर रास्ते में पैसा मिल रहा है जो दिखता नहीं जा रहे हो सुंदर सुंदर चोटी की ओर सुंदर ज्यादा सोना हो गई हो लेकिन रास्ते में क्या मिलता है गाड़ी मिलती है मिलती भी मिलते हैं तुम्हारे सामने कोई चट्टान गिरी तुम का संबंध किस करके बताना मुश्किल पड़ता है तो मन सवाल करेगा कि मैं क्यों चल रहा हूं इस रास्ते पर तुम्हें याद रखना है कि मतलब मुझे इस चट्टान से नहीं है मतलब मुझे चोटी से चोटी तक ध्यान तुम्हें जा सकती प्रेरणा देगा इतना आगे बढ़ रहे हो इतना तुमको चाहा धूल गर्द की रक्षा दल दुर्गंध यही मिल रहा होगा हिमशिखर की कुछ भी बर्दाश्त किया जा सकता है क्रश करना बर्दाश्त करें जैसा लगता ही नहीं करना पड़ता चट्टान में भी दिखाई पड़ती है दिखाई पड़ता है वहां से तुमको भी जा नहीं रहे जीवन की भूल भुलैया में यूं ही भटक रहे हो इस भटकन का भटकाव का अंत नहीं है गांव इसलिए नहीं है कि आज है और कल नहीं होगा यह इसलिए है कि आज है और कल भी रहेगा बल्कि मंदिर की ओर जाते हुए रास्ते में कांटे मच्छर लेता है उसके बाद तुमसे कहा जाएगी कांटे बिछे लो फिर भी खाओ कितने निकाल कर दो जो लक्ष्य तुम्हारा जितना है तो रास्ते में खड़ी चुनर जाओगे क्योंकि आवश्यक है उस्मान तक पहुंचने के लिए अपनी जान दे रहे हो इतनी प्रक्रिया में कभी-कभी बोरियत से भरा और नीरज लग सकता है लेकिन अगर नहीं रखता है तुम्हारे काम का काम नीरसता बसी हुई है तो एक पल ना करो उसका तुरंत क्यों कर रहा हूं रंगो भला जो स्वास्थ्य से उठे और स्वास्थ्य की खातिर किया जाए जो विश्राम से उठे और विश्राम की खातिर किया जाए और उसके बाद बड़ा आराम मिलता है नींद आती है तुम तो बहुत है पर उससे कोई आराम विश्राम स्वास्थ्य नहीं मिलना उपजाऊ रही है उसने जाना है उसे तुरंत छूटंकी श्रम श्रम श्रम श्रम प्यार से लाता है लेकिन दुनिया अधिकांशत विश्राम करती है कि तुम दशकों तक शताब्दियों तक श्रम करे जाओ श्रम का अंत नहीं आना शर्म से विश्राम नहीं आना दुनिया में 99 लोग ऐसा ही शर्म कर रहे हैं कैसा करते जाओ करते जाओ मेहनत का वादा है जो कभी पूरा नहीं बनाया जाएगा जाएगा तो बताया जाएगा मेहनत कर लो उसके बाद आराम से पढ़ना लिखना गीत गाना आखिरी सेवानिवृत्ति पूछो मैं आपसे मैं तो शर्म कर रहा हूं वह कैसा है कक्षा की धर्म आता है एक आदमी चल रहा है दरवाजे की ओर सभी तौर पर करोगे तो दोनों चल रहे हैं दोनों चल रहे हैं पर कैसे चल रहा है कुछ देर तक तो चलेगा कमरे के भीतर शीघ्र ही कमरे से बाहर हो जाएगा और दूसरा हमारी गंदी कल क्या है और क्या है आरंभिक कमरे के भीतर ही करना कि गद्य तुमको ले जाए कमरे के बाहर और बाकी पूरी दुनिया क्या करती है कमरे में ही चक्र की बनी हुई है वर्तमान उम्मीदवार निकल जाएंगी में सावधानी
अपनी फोटो भेज दिए जा रहे हो तुम किसी सार्थक लक्ष्य की ओर रास्ते में पैसा मिल रहा है जो दिखता नहीं जा रहे हो सुंदर सुंदर चोटी की ओर सुंदर ज्यादा सोना हो गई हो लेकिन रास्ते में क्या मिलता है गाड़ी मिलती है मिलती भी मिलते हैं तुम्हारे सामने कोई चट्टान गिरी तुम का संबंध किस करके बताना मुश्किल पड़ता है तो मन सवाल करेगा कि मैं क्यों चल रहा हूं इस रास्ते पर तुम्हें याद रखना है कि मतलब मुझे इस चट्टान से नहीं है मतलब मुझे चोटी से चोटी तक ध्यान तुम्हें जा सकती प्रेरणा देगा इतना आगे बढ़ रहे हो इतना तुमको चाहा धूल गर्द की रक्षा दल दुर्गंध यही मिल रहा होगा हिमशिखर की कुछ भी बर्दाश्त किया जा सकता है क्रश करना बर्दाश्त करें जैसा लगता ही नहीं करना पड़ता चट्टान में भी दिखाई पड़ती है दिखाई पड़ता है वहां से तुमको भी जा नहीं रहे जीवन की भूल भुलैया में यूं ही भटक रहे हो इस भटकन का भटकाव का अंत नहीं है गांव इसलिए नहीं है कि आज है और कल नहीं होगा यह इसलिए है कि आज है और कल भी रहेगा बल्कि मंदिर की ओर जाते हुए रास्ते में कांटे मच्छर लेता है उसके बाद तुमसे कहा जाएगी कांटे बिछे लो फिर भी खाओ कितने निकाल कर दो जो लक्ष्य तुम्हारा जितना है तो रास्ते में खड़ी चुनर जाओगे क्योंकि आवश्यक है उस्मान तक पहुंचने के लिए अपनी जान दे रहे हो इतनी प्रक्रिया में कभी-कभी बोरियत से भरा और नीरज लग सकता है लेकिन अगर नहीं रखता है तुम्हारे काम का काम नीरसता बसी हुई है तो एक पल ना करो उसका तुरंत क्यों कर रहा हूं रंगो भला जो स्वास्थ्य से उठे और स्वास्थ्य की खातिर किया जाए जो विश्राम से उठे और विश्राम की खातिर किया जाए और उसके बाद बड़ा आराम मिलता है नींद आती है तुम तो बहुत है पर उससे कोई आराम विश्राम स्वास्थ्य नहीं मिलना उपजाऊ रही है उसने जाना है उसे तुरंत छूटंकी श्रम श्रम श्रम श्रम प्यार से लाता है लेकिन दुनिया अधिकांशत विश्राम करती है कि तुम दशकों तक शताब्दियों तक श्रम करे जाओ श्रम का अंत नहीं आना शर्म से विश्राम नहीं आना दुनिया में 99 लोग ऐसा ही शर्म कर रहे हैं कैसा करते जाओ करते जाओ मेहनत का वादा है जो कभी पूरा नहीं बनाया जाएगा जाएगा तो बताया जाएगा मेहनत कर लो उसके बाद आराम से पढ़ना लिखना गीत गाना आखिरी सेवानिवृत्ति पूछो मैं आपसे मैं तो शर्म कर रहा हूं वह कैसा है कक्षा की धर्म आता है एक आदमी चल रहा है दरवाजे की ओर सभी तौर पर करोगे तो दोनों चल रहे हैं दोनों चल रहे हैं पर कैसे चल रहा है कुछ देर तक तो चलेगा कमरे के भीतर शीघ्र ही कमरे से बाहर हो जाएगा और दूसरा हमारी गंदी कल क्या है और क्या है आरंभिक कमरे के भीतर ही करना कि गद्य तुमको ले जाए कमरे के बाहर और बाकी पूरी दुनिया क्या करती है कमरे में ही चक्र की बनी हुई है वर्तमान उम्मीदवार निकल जाएंगी में सावधानी
Likes  120  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते दोस्तों मेरी यानी डॉक्टर प्रिया झा के तरफ से आप सब को दिन की बहुत सारी शुभकामनाएं सच्चाई का रास्ता कठिन इसीलिए है क्योंकि लोग अक्सर उसके परिणाम से डरते हैं और यूसली ऐसा होता है ना कि आप अगर सच बोल दे तो आपको लगता है कि सामने से रिएक्शन क्या है क्या मेरा कुछ नुकसान ही क्यों ना मेरा नुकसान शायद हो जाएगा और या तो दूसरे को बुरा लग जाएगा यह सब टाइप के थॉट आने लगते हैं इसलिए देखा गया है कि झूठ जो इंसान बोल रहा है वह अपनी कन्वीनियंस के लिए बोल रहा है यानी कि उसका जो काम है वह सेट हो जाए और दूसरों को ना उसकी बातें अच्छी लग जाए यानी कि किसी का वह दिल ना तोड़े तो वह प्लीजिंग बातें यानी कि वह मन को जीत लेने वाली ऐसी टाइप की बातें करते हैं ऐसे लोग लेकिन एक बात है इंग्लिश में प्रोवर्ब है कि लायंस हैव मनी आईज या माउथ ऐसा करके पूछा है या नहीं कि जो झूठ है उसके बहुत सारे पैर या हाथ या आंखें यह सब होती है मतलब यह है कि आप आज नहीं तो कल पकड़े जाओगे और आपका जो जो आप जिसको छुपा रहे हो ना वह कभी ना कभी बाहर आने ही वाला है तो मोसली लोग सच बोलने से कतराते इसलिए हैं क्योंकि वह थोड़ा अंदर से नरम होते हैं और उन्हें उनको दूसरों के रिएक्शन से काफी फर्क पड़ता है डर लगता है वहीं पर अगर आप उन लोगों को देखोगे तो हमेशा सच बोलते हैं अंधे को एक बात ना को बोल दूं मुझे ही देख लीजिए 99% - 1% आई एम आल्सो डिशऑनेस्ट यानी कि कहीं ना कहीं मुझे भी ट्विस्ट करके बातें बोलनी पड़ती है क्योंकि ऐसा कोई इंसान नहीं होगा जो हंड्रेड परसेंट ऑनेस्टी में आपको डेफिनटली बोल सकती हूं और जो बोल रहा है हां बहुत व्यस्त हूं झूठ बोल रहा है तो ऐसा नहीं है लेकिन सच बोलने का हिम्मत बहुत बहुत ही आवश्यक है तभी या बाकी काम में फोकस कर पाओगे
Romanized Version
नमस्ते दोस्तों मेरी यानी डॉक्टर प्रिया झा के तरफ से आप सब को दिन की बहुत सारी शुभकामनाएं सच्चाई का रास्ता कठिन इसीलिए है क्योंकि लोग अक्सर उसके परिणाम से डरते हैं और यूसली ऐसा होता है ना कि आप अगर सच बोल दे तो आपको लगता है कि सामने से रिएक्शन क्या है क्या मेरा कुछ नुकसान ही क्यों ना मेरा नुकसान शायद हो जाएगा और या तो दूसरे को बुरा लग जाएगा यह सब टाइप के थॉट आने लगते हैं इसलिए देखा गया है कि झूठ जो इंसान बोल रहा है वह अपनी कन्वीनियंस के लिए बोल रहा है यानी कि उसका जो काम है वह सेट हो जाए और दूसरों को ना उसकी बातें अच्छी लग जाए यानी कि किसी का वह दिल ना तोड़े तो वह प्लीजिंग बातें यानी कि वह मन को जीत लेने वाली ऐसी टाइप की बातें करते हैं ऐसे लोग लेकिन एक बात है इंग्लिश में प्रोवर्ब है कि लायंस हैव मनी आईज या माउथ ऐसा करके पूछा है या नहीं कि जो झूठ है उसके बहुत सारे पैर या हाथ या आंखें यह सब होती है मतलब यह है कि आप आज नहीं तो कल पकड़े जाओगे और आपका जो जो आप जिसको छुपा रहे हो ना वह कभी ना कभी बाहर आने ही वाला है तो मोसली लोग सच बोलने से कतराते इसलिए हैं क्योंकि वह थोड़ा अंदर से नरम होते हैं और उन्हें उनको दूसरों के रिएक्शन से काफी फर्क पड़ता है डर लगता है वहीं पर अगर आप उन लोगों को देखोगे तो हमेशा सच बोलते हैं अंधे को एक बात ना को बोल दूं मुझे ही देख लीजिए 99% - 1% आई एम आल्सो डिशऑनेस्ट यानी कि कहीं ना कहीं मुझे भी ट्विस्ट करके बातें बोलनी पड़ती है क्योंकि ऐसा कोई इंसान नहीं होगा जो हंड्रेड परसेंट ऑनेस्टी में आपको डेफिनटली बोल सकती हूं और जो बोल रहा है हां बहुत व्यस्त हूं झूठ बोल रहा है तो ऐसा नहीं है लेकिन सच बोलने का हिम्मत बहुत बहुत ही आवश्यक है तभी या बाकी काम में फोकस कर पाओगेNamaste Doston Meri Yani Doctor Priya Jha Ke Taraf Se Aap Sab Ko Din Ki Bahut Saree Subhkamnaayain Sacchai Ka Rasta Kathin Isliye Hai Kyonki Log Aksar Uske Parinam Se Darte Hain Aur Yusli Aisa Hota Hai Na Ki Aap Agar Sach Bol De Toh Aapko Lagta Hai Ki Saamne Se Reaction Kya Hai Kya Mera Kuch Nuksan Hi Kyon Na Mera Nuksan Shayad Ho Jayega Aur Ya Toh Dusre Ko Bura Lag Jayega Yeh Sab Type Ke Thought Aane Lagte Hain Isliye Dekha Gaya Hai Ki Jhuth Jo Insaan Bol Raha Hai Wah Apni Convenience Ke Liye Bol Raha Hai Yani Ki Uska Jo Kaam Hai Wah Set Ho Jaye Aur Dusron Ko Na Uski Batein Acchi Lag Jaye Yani Ki Kisi Ka Wah Dil Na Tode Toh Wah Pleasing Batein Yani Ki Wah Man Ko Jeet Lene Waali Aisi Type Ki Batein Karte Hain Aise Log Lekin Ek Baat Hai English Mein Proverb Hai Ki Lions Have Money Eyes Ya Mouth Aisa Karke Puchha Hai Ya Nahi Ki Jo Jhuth Hai Uske Bahut Saare Pair Ya Hath Ya Aankhen Yeh Sab Hoti Hai Matlab Yeh Hai Ki Aap Aaj Nahi Toh Kal Pakde Jaoge Aur Aapka Jo Jo Aap Jisko Chhupa Rahe Ho Na Wah Kabhi Na Kabhi Bahar Aane Hi Vala Hai Toh Mosli Log Sach Bolne Se Katrate Isliye Hain Kyonki Wah Thoda Andar Se Naram Hote Hain Aur Unhein Unko Dusron Ke Reaction Se Kafi Fark Padta Hai Dar Lagta Hai Wahin Par Agar Aap Un Logon Ko Dekhoge Toh Hamesha Sach Bolte Hain Andhe Ko Ek Baat Na Ko Bol Doon Mujhe Hi Dekh Lijiye 99% - 1% I M Aalso Dishaanest Yani Ki Kahin Na Kahin Mujhe Bhi Twist Karke Batein Bolani Padti Hai Kyonki Aisa Koi Insaan Nahi Hoga Jo Hundred Percent Honesty Mein Aapko Definatali Bol Sakti Hoon Aur Jo Bol Raha Hai Haan Bahut Vyast Hoon Jhuth Bol Raha Hai Toh Aisa Nahi Hai Lekin Sach Bolne Ka Himmat Bahut Bahut Hi Aavashyak Hai Tabhi Ya Baki Kaam Mein Focus Kar Paoge
Likes  118  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्योंकि सच्चाई पर चल रहा बड़ा मुश्किल होता है
क्योंकि सच्चाई पर चल रहा बड़ा मुश्किल होता है
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए भाई सच्चाई का रास्ता कठिन जरूर है लेकिन जो व्यक्ति सच्चाई के रास्ते पर चलता है उसे सफलता अवश्य मिलती है और हमें सदैव सच्चाई और अच्छाई के मार्ग पर ही चलना चाहिए धन्यवाद
Romanized Version
देखिए भाई सच्चाई का रास्ता कठिन जरूर है लेकिन जो व्यक्ति सच्चाई के रास्ते पर चलता है उसे सफलता अवश्य मिलती है और हमें सदैव सच्चाई और अच्छाई के मार्ग पर ही चलना चाहिए धन्यवादDekhie Bhai Sacchai Ka Rasta Kathin Zaroor Hai Lekin Jo Vyakti Sacchai Ke Raste Par Chalta Hai Use Safalta Avashya Milti Hai Aur Humein Sadaiv Sacchai Aur Acchai Ke Marg Par Hi Chalna Chahiye Dhanyavad
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे मित्र बचपन में मैंने कव्वाली सुनी थी पेंटर बाबू कव्वाल से बहुत अच्छी कव्वाली गई थी बहुत कठिन है डगर पनघट की बहुत कठिन है डगर पनघट की कैसे में भरना पनघट से मटकी बहुत कठिन है डगर पनघट की सच्चाई का जो रास्ता होता है वो बात कांटों से भरा होता है जितनी आप इसमें चलने का प्रयास करेंगे तो उतनी कांटों से भी संघर्ष करना होगा लेकिन एक बात जरूर इसका इसका विरोध हमेशा चाहता है सूर्य है उसको बादल कुछ समय के लिए रख सकते हैं कुछ समय के लिए अंधकार हो सकता है लेकिन हमेशा के लिए सूर्य के प्रकाश को रोक सके बादलों में क्षमता नहीं होती है कोई सच्चाई का रास्ता सच्चा रास्ता हमको लगता कि कांटों से भरा लगता है लेकिन इसको पढ़ना सत्यमेव जयते ना ना तुम सत्य की हमेशा ही जीत होती है झूठ की कमी नहीं हां मैं मानता हूं कि पल दो पल का तो ख्याल घंटे 2 घंटे झूठ की रीत दिखाई देती है बुचावास होता है किंतु एक गलती यह है अंत में जाकर सत्य की जीत होती है सत्य के प्रणाम हम सभी के होते हैं मधुर होते हैं यह बात दूसरी है कि सत्य बोलने में थोड़ा कड़वा लगता है बहुत से लोगों को सत्य पथ नहीं पाता है लेकिन अंत में जब भी कभी उनको हो जाता है जब भी कभी उनका ध्यान आता है तो वे लोग मानते हैं कि सच्चाई का रास्ता बहुत अच्छा है
Romanized Version
मेरे मित्र बचपन में मैंने कव्वाली सुनी थी पेंटर बाबू कव्वाल से बहुत अच्छी कव्वाली गई थी बहुत कठिन है डगर पनघट की बहुत कठिन है डगर पनघट की कैसे में भरना पनघट से मटकी बहुत कठिन है डगर पनघट की सच्चाई का जो रास्ता होता है वो बात कांटों से भरा होता है जितनी आप इसमें चलने का प्रयास करेंगे तो उतनी कांटों से भी संघर्ष करना होगा लेकिन एक बात जरूर इसका इसका विरोध हमेशा चाहता है सूर्य है उसको बादल कुछ समय के लिए रख सकते हैं कुछ समय के लिए अंधकार हो सकता है लेकिन हमेशा के लिए सूर्य के प्रकाश को रोक सके बादलों में क्षमता नहीं होती है कोई सच्चाई का रास्ता सच्चा रास्ता हमको लगता कि कांटों से भरा लगता है लेकिन इसको पढ़ना सत्यमेव जयते ना ना तुम सत्य की हमेशा ही जीत होती है झूठ की कमी नहीं हां मैं मानता हूं कि पल दो पल का तो ख्याल घंटे 2 घंटे झूठ की रीत दिखाई देती है बुचावास होता है किंतु एक गलती यह है अंत में जाकर सत्य की जीत होती है सत्य के प्रणाम हम सभी के होते हैं मधुर होते हैं यह बात दूसरी है कि सत्य बोलने में थोड़ा कड़वा लगता है बहुत से लोगों को सत्य पथ नहीं पाता है लेकिन अंत में जब भी कभी उनको हो जाता है जब भी कभी उनका ध्यान आता है तो वे लोग मानते हैं कि सच्चाई का रास्ता बहुत अच्छा हैMere Mitra Bachpan Mein Maine Qawwali Suni Thi Painter Babu Kavval Se Bahut Acchi Qawwali Gayi Thi Bahut Kathin Hai Dagar Panghat Ki Bahut Kathin Hai Dagar Panghat Ki Kaise Mein Bharna Panghat Se Mataki Bahut Kathin Hai Dagar Panghat Ki Sacchai Ka Jo Rasta Hota Hai Vo Baat Kanton Se Bhara Hota Hai Jitni Aap Ismein Chalne Ka Prayas Karenge Toh Utani Kanton Se Bhi Sangharsh Karna Hoga Lekin Ek Baat Zaroor Iska Iska Virodh Hamesha Chahta Hai Surya Hai Usko Badal Kuch Samay Ke Liye Rakh Sakte Hain Kuch Samay Ke Liye Andhakar Ho Sakta Hai Lekin Hamesha Ke Liye Surya Ke Prakash Ko Rok Sake Badalon Mein Kshamta Nahi Hoti Hai Koi Sacchai Ka Rasta Saccha Rasta Hamko Lagta Ki Kanton Se Bhara Lagta Hai Lekin Isko Padhna Satyamev Jayate Na Na Tum Satya Ki Hamesha Hi Jeet Hoti Hai Jhuth Ki Kami Nahi Haan Main Manata Hoon Ki Pal Do Pal Ka Toh Khayal Ghante 2 Ghante Jhuth Ki Reet Dikhai Deti Hai Buchavas Hota Hai Kintu Ek Galti Yeh Hai Ant Mein Jaakar Satya Ki Jeet Hoti Hai Satya Ke Pranam Hum Sabhi Ke Hote Hain Madhur Hote Hain Yeh Baat Dusri Hai Ki Satya Bolne Mein Thoda Kadwa Lagta Hai Bahut Se Logon Ko Satya Path Nahi Pata Hai Lekin Ant Mein Jab Bhi Kabhi Unko Ho Jata Hai Jab Bhi Kabhi Unka Dhyan Aata Hai Toh Ve Log Maante Hain Ki Sacchai Ka Rasta Bahut Accha Hai
Likes  14  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं कि आपका जो प्रश्न है कि सच्चाई की रास्ता जो है इतना कठिन क्या होता देखिए अगर मन में जो है आपके विश्वास हो तो मनुष्य जो है कोई भी चीज ला सकता है तो इसलिए जो अगर है सच कुमार पर यानि सच के रास्ते पर चलते हुए अपने विश्वास को जो मजबूत रखें और रास्ता कठिन होगा उसका फल भी जो है मीठा होगा जहां विश्वास टूटा और जूठा का रास्ता पकड़ते ही गए कष्टों की बरसात होने पड़ेगी और इसका कारण यही है कि झूठ का रास्ता मिले आसान दिखता है क्योंकि एक झूठ को छुपाने के लिए 100 झूठ बोलने पड़ते हैं मगर यह ज्यादा देर तक नहीं चलता है और अंत भी कष्ट पूर्ण ही होता है इसलिए जीवन को सुखद खुशियों पूर्ण बनाने के लिए जो है सच के रास्ते पर ही आगे बढ़े
Romanized Version
मैं कि आपका जो प्रश्न है कि सच्चाई की रास्ता जो है इतना कठिन क्या होता देखिए अगर मन में जो है आपके विश्वास हो तो मनुष्य जो है कोई भी चीज ला सकता है तो इसलिए जो अगर है सच कुमार पर यानि सच के रास्ते पर चलते हुए अपने विश्वास को जो मजबूत रखें और रास्ता कठिन होगा उसका फल भी जो है मीठा होगा जहां विश्वास टूटा और जूठा का रास्ता पकड़ते ही गए कष्टों की बरसात होने पड़ेगी और इसका कारण यही है कि झूठ का रास्ता मिले आसान दिखता है क्योंकि एक झूठ को छुपाने के लिए 100 झूठ बोलने पड़ते हैं मगर यह ज्यादा देर तक नहीं चलता है और अंत भी कष्ट पूर्ण ही होता है इसलिए जीवन को सुखद खुशियों पूर्ण बनाने के लिए जो है सच के रास्ते पर ही आगे बढ़ेMain Ki Aapka Jo Prashna Hai Ki Sacchai Ki Rasta Jo Hai Itna Kathin Kya Hota Dekhie Agar Man Mein Jo Hai Aapke Vishwas Ho Toh Manushya Jo Hai Koi Bhi Cheez La Sakta Hai Toh Isliye Jo Agar Hai Sach Kumar Par Yani Sach Ke Raste Par Chalte Hue Apne Vishwas Ko Jo Mazboot Rakhen Aur Rasta Kathin Hoga Uska Fal Bhi Jo Hai Meetha Hoga Jahan Vishwas Tuta Aur Jutha Ka Rasta Pakarte Hi Gaye Kaston Ki Barsat Hone Padegi Aur Iska Kaaran Yahi Hai Ki Jhuth Ka Rasta Mile Aasaan Dikhta Hai Kyonki Ek Jhuth Ko Chhupaane Ke Liye 100 Jhuth Bolne Padate Hain Magar Yeh Zyada Der Tak Nahi Chalta Hai Aur Ant Bhi Kasht Poorn Hi Hota Hai Isliye Jeevan Ko Sukhad Khushiyon Poorn Banane Ke Liye Jo Hai Sach Ke Raste Par Hi Aage Badhe
Likes  14  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Sacchai Ka Rasta  Itna Kathin Kyun Hai,Why Is The Path Of Truth So Difficult?,


vokalandroid