CBI ने रिश्वतखोरी के मामले में 8 GST अधिकारियों को गिरफ्तार किया है। रिश्वतखोरी को ख़त्म कैसे करें? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिये रिश्वतखोरी जो है वह इस देश के हर एक गवर्नमेंट डिपार्टमेंट में पूरी तरीके से फैला हुआ है अगर आप किसी भी गवर्नमेंट डिपार्टमेंट को डील करते हैं और आप वहां पर जाते हैं तो आप जानते हैं कि वहां पर अक...जवाब पढ़िये
देखिये रिश्वतखोरी जो है वह इस देश के हर एक गवर्नमेंट डिपार्टमेंट में पूरी तरीके से फैला हुआ है अगर आप किसी भी गवर्नमेंट डिपार्टमेंट को डील करते हैं और आप वहां पर जाते हैं तो आप जानते हैं कि वहां पर अक्सर बिना रिश्वत की चीजें नहीं होती है या अगर बिना रिश्वत की चीजें की जाती हैं तो उसमें आदमी को बहुत ज्यादा भागना दौड़ना पड़ता है और बहुत समय लगता है। अब यह जो इंसिडेंट यंहा पर हुआ जिसमें कि आठ जीएसटी के अधिकारी पकड़े गए यह ऐसे रोज आप देखेंगे तो लोग पकड़े जाते हैं कभी छोटे अधिकारी पकड़े जाते हैं कभी बड़े अधिकारी पकड़े जाते हैं और हर साल हजारों हजार लोग पकड़े जाते हैं घूस लेने के चक्कर में, लेकिन उसके बावजूद यह सिलसिला बा दस्तूर जारी रहता है क्योंकि इस समय भले ही उनके खिलाफ में एक्शन लिया गया है उनको अरेस्ट कर लिया गया हो लेकिन आप देखेंगे अगर इन्हीं अधिकारियों के भविष्य को अब से 5 साल 10 साल बाद में यह सब आपको नौकरी करते हैं मिलेंगे और शायद ही कोई ऐसा अधिकारी है जो कि इन चीजों से डिसमिस किया जाएगा| उसका कारण क्या है कि किसी भी ऑफिसर को गवर्नमेंट से निकालना बहुत ही काम्प्लेक्स प्रोसीजर है और अक्सर जो है जो ऑफिसर होते हैं वह सालों साल तक नौकरी करते रहते हैं और इसीलिए उनको जो एक डर है वह पकड़े जाने का या सजा पाने का नहीं है तो सबसे इंपॉर्टेंट चीज यह है कि गवर्नमेंट को जो है वह प्रोसीजर को सिम्प्लिफाय करना चाहिए गवर्नमेंट ऑफिसर्स को निकालने का और दूसरी इंपॉर्टेंट चीज़ गवर्नमेंट को ये करनी चाहिए कि परफॉरमेंस लिंक पे करनी चाहिए ताकि जो ऑफिसर अच्छा परफॉर्म करते हैं उनको अच्छी तनख्वाह मिले और अच्छी प्रमोशन मिले| और इसी तरीके से जब हम पॉजिटिव और नेगेटिव दोनों साथ-साथ टेकल करेंगे तब जाकर के इस प्रॉब्लम को सॉल्व कर सकते हैं|Dekhiye Rishvatkhori Jo Hai Wah Is Desh Ke Har Ek Government Department Mein Puri Tarike Se Faila Hua Hai Agar Aap Kisi Bhi Government Department Ko Deal Karte Hain Aur Aap Wahan Par Jaate Hain To Aap Jante Hain Ki Wahan Par Aksar Bina Rishwat Ki Cheezen Nahi Hoti Hai Ya Agar Bina Rishwat Ki Cheezen Ki Jati Hain To Usamen Aadmi Ko Bahut Jyada Bhaagna Daudana Padata Hai Aur Bahut Samay Lagta Hai Ab Yeh Jo Incident Yahan Par Hua Jisme Ki Aath Gst Ke Adhikari Pakde Gaye Yeh Aise Roj Aap Dekhenge To Log Pakde Jaate Hain Kabhi Chote Adhikari Pakde Jaate Hain Kabhi Bade Adhikari Pakde Jaate Hain Aur Har Saal Hajaron Hazar Log Pakde Jaate Hain Ghus Lene Ke Chakkar Mein Lekin Uske Bawajud Yeh Silsila Ba Dastur Jaari Rehta Hai Kyonki Is Samay Bhale Hi Unke Khilaf Mein Action Liya Gaya Hai Unko Arrest Kar Liya Gaya Ho Lekin Aap Dekhenge Agar Inhin Adhikaariyo Ke Bhavishya Ko Ab Se 5 Saal 10 Saal Baad Mein Yeh Sab Aapko Naukri Karte Hain Milenge Aur Shayad Hi Koi Aisa Adhikari Hai Jo Ki In Chijon Se Dismiss Kiya Jayega Uska Kaaran Kya Hai Ki Kisi Bhi Officer Ko Government Se Nikalna Bahut Hi Kampleks Procedure Hai Aur Aksar Jo Hai Jo Officer Hote Hain Wah Salon Saal Tak Naukri Karte Rehte Hain Aur Isliye Unko Jo Ek Dar Hai Wah Pakde Jaane Ka Ya Saja Pane Ka Nahi Hai To Sabse Important Cheez Yeh Hai Ki Government Ko Jo Hai Wah Procedure Ko Simplifay Karna Chahiye Government Officers Ko Nikalne Ka Aur Dusri Important Cheez Government Ko Ye Karni Chahiye Ki Parafaramens Link Pe Karni Chahiye Taki Jo Officer Accha Perform Karte Hain Unko Acchi Tankhvaah Mile Aur Acchi Promotion Mile Aur Isi Tarike Se Jab Hum Positive Aur Negative Dono Saath Saath Tekal Karenge Tab Jaakar Ke Is Problem Ko Solve Kar Sakte Hain
Likes  14  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जब तक इंसान को समझ नहीं आएगा कि यह रिश्वतखोरी हमें कहां ले कर जा रही है, तब तक शायद वो कभी बंद नहीं करेगा इस चीज को| हर इंसान इन कोर्ट के झमेलों से बाहर आकर 100 रुपए देकर, 200 रुपए देकर अपना काम...जवाब पढ़िये
देखिए जब तक इंसान को समझ नहीं आएगा कि यह रिश्वतखोरी हमें कहां ले कर जा रही है, तब तक शायद वो कभी बंद नहीं करेगा इस चीज को| हर इंसान इन कोर्ट के झमेलों से बाहर आकर 100 रुपए देकर, 200 रुपए देकर अपना काम निपटा कर चलने में बिलीव करता है और मुझे लगता है किDekhie Jab Tak Insaan Ko Samajh Nahi Aayega Ki Yeh Rishvatkhori Hume Kahan Le Kar Ja Rahi Hai Tab Tak Shayad Vo Kabhi Band Nahi Karega Is Cheez Ko Har Insaan In Court Ke Jhamelon Se Bahar Aakar 100 Rupaiye Dekar 200 Rupaiye Dekar Apna Kaam Nipta Kar Chalne Mein Believe Karta Hai Aur Mujhe Lagta Hai Ki
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भ्रष्टाचार की गतिविधियां लगातार अपने देश में बढ़ती जा रहे हैं हमारा देश भ्रष्टाचार में डूबता जा रहा है बजाएं की कम होने के तो इसके बहुत ही मुश्किल उपाय नहीं है इसके कुछ बहुत ही आसान से हल हैं जो कि अग...जवाब पढ़िये
भ्रष्टाचार की गतिविधियां लगातार अपने देश में बढ़ती जा रहे हैं हमारा देश भ्रष्टाचार में डूबता जा रहा है बजाएं की कम होने के तो इसके बहुत ही मुश्किल उपाय नहीं है इसके कुछ बहुत ही आसान से हल हैं जो कि अगर हम कर लें तो बहुत ही आसानी से भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी पर लगाम लगेगी सबसे मुख्य स्टेप जो है कि अगर हम अपने संसद भवन में बिल्कुल स्वच्छ छवि वाले लोग बिल्कुल साफ छवि वाले लोग यदि आ जाएं तो उससे हमारा देश में भ्रष्टाचार खत्म हो जाए क्योंकि यदि संसद भवन में ईमानदार लोग आएंगे तो उससे जो भी नीचे करना काम करने वाले लोग हैं वह अपने आप सुधर जाएंगे तू जितने भी लोगों पर केस चल रहे हैं यह जितने भी दागी लोग होते हैं जिन पर कोई आरोप है उनको चुनाव लड़ने की इजाजत नहीं देनी चाहिए और जिन पर आरोप हैं उन पर जो केस चल रहे हैं कोर्ट फोन की सुनवाई 123 सीमा में होने चाहिए बजाय कि सालों तक ढले तो इस से जितने भी ईमानदार लोगों केवल वह चुनाव लड़ेंगे केवल उन में से कोई उनके संसद भवन में जाएगा जब टॉप लीडरशिप स्ट्रिंग तो कट ऑफ लीडरशिप ईमानदार होगी तो नीचे वाले अपने आप कुछ भी रिश्वत लेने से आरोप करने से डेरिंग जाहिर सी बात है लेकिन अगर टॉप लीडर शिप इस तरीके की है तो चैन नीचे कितने भी ईमानदार बैठे हो ऊपर चलकर रिश्वत जाएगी जाए दूसरे स्टेप जैसे उत्तर प्रदेश में अभी तक जो यूपी बोर्ड के एग्जाम होते थे उसमें हर साल चीटिंग होती थी बहुत ही भारी मात्रा में तो अभी सरकार ने कैमरे अमेरिकी बात की कैमरे लगेंगे सेंड करो मैं तो इसी तरीके से अभी सरकारी दफ्तरों को कैमरे लगा दिए जाएं उनकी प्रोसिडिंग लाइफ कर दी जाए जनता को पता चले क्या काम हो रहा है तो इससे लगाम लग सकता हैBhrashtachar Ki Gatividhiyan Lagatar Apne Desh Mein Badhti Ja Rahe Hain Hamara Desh Bhrashtachar Mein Dubata Ja Raha Hai Bajaen Ki Kum Hone Ke To Iske Bahut Hi Mushkil Upay Nahi Hai Iske Kuch Bahut Hi Aasan Se Hal Hain Jo Ki Agar Hum Kar Lein To Bahut Hi Aasani Se Bhrashtachar Aur Rishvatkhori Par Lagaam Lagegi Sabse Mukhya Step Jo Hai Ki Agar Hum Apne Sansad Bhavan Mein Bilkul Swach Chawi Wale Log Bilkul Saaf Chawi Wale Log Yadi Aa Jayen To Usse Hamara Desh Mein Bhrashtachar Khatam Ho Jaye Kyonki Yadi Sansad Bhavan Mein Imandar Log Aayenge To Usse Jo Bhi Neeche Karna Kaam Karne Wale Log Hain Wah Apne Aap Sudhar Jaenge Tu Jitne Bhi Logon Par Case Chal Rahe Hain Yeh Jitne Bhi Daagi Log Hote Hain Jin Par Koi Aarop Hai Unko Chunav Ladane Ki Ijajat Nahi Deni Chahiye Aur Jin Par Aarop Hain Un Par Jo Case Chal Rahe Hain Court Phone Ki Sunavai 123 Seema Mein Hone Chahiye Bajay Ki Salon Tak Dhale To Is Se Jitne Bhi Imandar Logon Kewal Wah Chunav Ladenge Kewal Un Mein Se Koi Unke Sansad Bhavan Mein Jayega Jab Top Leadership String To Cut Of Leadership Imandar Hogi To Neeche Wale Apne Aap Kuch Bhi Rishwat Lene Se Aarop Karne Se Daring Jaahir Si Baat Hai Lekin Agar Top Leader Ship Is Tarike Ki Hai To Chain Neeche Kitne Bhi Imandar Baithey Ho Upar Chalkar Rishwat Jayegi Jaye Dusre Step Jaise Uttar Pradesh Mein Abhi Tak Jo Up Board Ke Exam Hote The Usamen Har Saal Cheating Hoti Thi Bahut Hi Bhari Matra Mein To Abhi Sarkar Ne Cameras American Baat Ki Cameras Lagenge Send Karo Main To Isi Tarike Se Abhi Sarkari Daftaron Ko Cameras Laga Diye Jayen Unki Proceeding Life Kar Di Jaye Janta Ko Pata Chale Kya Kaam Ho Raha Hai To Isse Lagaam Lag Sakta Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: CBI Ne Rishvatkhori Ke Mamle Mein 8 GST Adhikaariyo Ko Giraftar Kiya Hai Rishvatkhori Ko Khatam Kaise Karein

vokalandroid