आज हमारे देश के लिए रिजर्वेशन डेंजर हो गया है हाँ या न? ...

Likes  0  Dislikes

2 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
रिजर्वेशन आज हमारे देश में काफी ज्यादा डेंजर हो चुका है इसमें कोई दो राय नहीं है ठीक है जब हमारा देश आजाद हुआ था उस टाइम जो पिछले वर्ग है उनकी जो स्थिति थी वह काफी अच्छी नहीं थी और ज्यादा खराब थी तो यह डिसाइड हुआ था कि रिजर्वेशन कुछ सालों तक ही रहेगा लेकिन अब रिजर्वेशन पर पॉलिटिक्स खेली जा रही है ना ही उनकी स्थिति खराब सुधर रही है और दूसरी जातियों कम्युनिटी के लिए उल्टा रिजर्वेशन मांग रहे हैं बल्कि उनकी जो स्थिति है वो काफी अच्छी है तो आप लोग इस पर पॉलिटिक्स खेल रहे हैं और आपने सुना ही होगा बीते कुछ सालों में जैसे जाट आंदोलन हुआ और आप मुंबई में भी कुछ ऐसी आंदोलन हुआ रिजर्वेशन के लिए तो मैं यही बोलूंगा कि अगर हमारी गवर्नमेंट को रिजर्वेशन देना है पहली बात तो रिजर्वेशन हटा देना चाहिए दूसरी रिजर्वेशन देना है तो अर्थव्यवस्था के आधार पर देना चाहिए और ना की साथिया कास्ट रिलीजन पर तो बस यही बोलूंगा कि आज हमारे देश में रिजर्वेशन की हालत काफी ज्यादा खराब हो चुकी है तो रिजर्वेशन को हटा देना चाहिए और रिजर्वेशन उनको ही मिलना चाहिए जिसकी इनकम मैं यदि देश की अर्थव्यवस्था बहुत ज्यादा खराब है उसके आधार पर मिलना चाहिए थैंक यूReservation Aaj Hamare Desh Mein Kafi Jyada Danger Ho Chuka Hai Isme Koi Do Rai Nahi Hai Theek Hai Jab Hamara Desh Azad Hua Tha Us Time Jo Pichle Varg Hai Unki Jo Sthiti Thi Wah Kafi Acchi Nahi Thi Aur Jyada Kharab Thi To Yeh Decide Hua Tha Ki Reservation Kuch Salon Tak Hi Rahega Lekin Ab Reservation Par Politics Kheli Ja Rahi Hai Na Hi Unki Sthiti Kharab Sudhar Rahi Hai Aur Dusri Jaatiyo Community Ke Liye Ulta Reservation Maang Rahe Hain Balki Unki Jo Sthiti Hai Vo Kafi Acchi Hai To Aap Log Is Par Politics Khel Rahe Hain Aur Aapne Suna Hi Hoga Bitte Kuch Salon Mein Jaise Jaat Aandolan Hua Aur Aap Mumbai Mein Bhi Kuch Aisi Aandolan Hua Reservation Ke Liye To Main Yahi Bolunga Ki Agar Hamari Government Ko Reservation Dena Hai Pehli Baat To Reservation Hata Dena Chahiye Dusri Reservation Dena Hai To Arthavyavastha Ke Aadhar Par Dena Chahiye Aur Na Ki Sathiya Caste Rilijan Par To Bus Yahi Bolunga Ki Aaj Hamare Desh Mein Reservation Ki Halat Kafi Jyada Kharab Ho Chuki Hai To Reservation Ko Hata Dena Chahiye Aur Reservation Unko Hi Milna Chahiye Jiski Income Main Yadi Desh Ki Arthavyavastha Bahut Jyada Kharab Hai Uske Aadhar Par Milna Chahiye Thank You
Likes  5  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
चीन हमारे देश में अभी आरक्षण जो है लेख बहुत डेंजर हो गया है मेरे हिसाब से आरक्षण को समाप्त कर देना चाहिए जब देश आजाद हुआ था उस समय आरक्षण की व्यवस्था पहले 10 साल के लिए यह सोच कर की गई थी और कि जब लोग बिछड़े हैं वह आगे बढ़ पाएंगे उसके बाद मैं राजनीतिक का मुद्रा बन गया और अब तो इससे और इसे देश बढ़ रहा है समाज पड़ रहा है आप के लोगों को बहुत जगह नुकसान हो रहा है तो इसे ज्यादा मजबूरी का समय से कहीं नहीं होगा कि यही सही है कि और इस समय को आरक्षण के लिए सभी लोगों का आवाज उठानी चाहिए और आरक्षण को समाप्त कर देना चाहिए खत्म कर देना चाहिएChin Hamare Desh Mein Abhi Aarakshan Jo Hai Lekh Bahut Danger Ho Gaya Hai Mere Hisab Se Aarakshan Ko Samapt Kar Dena Chahiye Jab Desh Azad Hua Tha Us Samay Aarakshan Ki Vyavastha Pehle 10 Saal Ke Liye Yeh Soch Kar Ki Gayi Thi Aur Ki Jab Log Bichde Hain Wah Aage Badh Paenge Uske Baad Main Rajnitik Ka Mudra Ban Gaya Aur Ab To Isse Aur Ise Desh Badh Raha Hai Samaaj Padh Raha Hai Aap Ke Logon Ko Bahut Jagah Nuksan Ho Raha Hai To Ise Jyada Majburi Ka Samay Se Kahin Nahi Hoga Ki Yahi Sahi Hai Ki Aur Is Samay Ko Aarakshan Ke Liye Sabhi Logon Ka Aawaj Uthani Chahiye Aur Aarakshan Ko Samapt Kar Dena Chahiye Khatam Kar Dena Chahiye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Aaj Hamare Desh Ke Liye Reservation Danger Ho Gaya Hai Haan Ya N





मन में है सवाल?