क्या यह सच है कि इस दुनिया के कुछ महान दिमागों में किसी प्रकार का मनोवैज्ञानिक विकार था?

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कहीं ना कहीं मानसिक समस्या वाले हैं महान लोग भी नहीं बच सकते हैं कि एकदम मिलने वाले लोग भी नहीं भर सकते हैं कोई भी कहीं ना कहीं हम किसी बात के लिए कोई ऐप्स है किसी बात को लेकर हम डरे हुए रहते हैं इसी बात में हम मतलब पागल हो जाए उसके लिए काम करते हैं अगर वह हमारे इंटरेस्ट है सब लोग कहीं ना कहीं मानसिकता से बीमार तो है ही नहीं है कुछ प्रॉब्लम होती है
कहीं ना कहीं मानसिक समस्या वाले हैं महान लोग भी नहीं बच सकते हैं कि एकदम मिलने वाले लोग भी नहीं भर सकते हैं कोई भी कहीं ना कहीं हम किसी बात के लिए कोई ऐप्स है किसी बात को लेकर हम डरे हुए रहते हैं इसी बात में हम मतलब पागल हो जाए उसके लिए काम करते हैं अगर वह हमारे इंटरेस्ट है सब लोग कहीं ना कहीं मानसिकता से बीमार तो है ही नहीं है कुछ प्रॉब्लम होती है
Likes  14  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

किस मानसिक विकार के कारण कोई व्यक्ति कभी गलत नहीं मानता, आसानी से झूठ बोलता है और बड़ा अहंकार करता है?

मटका सट्टा मेन प्रॉब्लम जो है वह पैरानॉइड डिसऑर्डर है जरा नजदीक पर्सनैलिटी डिसऑर्डर प्रॉब्लम है जिसमें लोग अपने आप को मानसिक रूप से बीमार नहीं मानते थे वर्ल्ड सो रहे क्या की बीमारी होती है उसमें उसको जवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जनरल तरीके से नहीं होता है मतलब कुछ कुछ लोगों लोगों के साथ लेकर भी है कि तुमको प्रॉब्लम होती है पर कैसे वह से बाहर निकलता है और क्यों की क्या होता है कि जिन लोगों का सुपर नॉर्मल होता है और मल्टीपल प्यारा लग रहा है दुनिया से अलग हो जाता है क्यों सोचते हैं जो करते हैं वह जिंदगी सबसे अलग होता है तो कई बार हम दोनों को ऐसा लगता है कि उसको कोई नहीं है और मैंने बताया था कि आप की होली मस्ती वन पेज ऑफ डिप्रेशन पर ले जाता है तो उसे की 90% से लेकर हां यादव सिंह उनकी पर्सनालिटी होती है तो नहीं होते कुछ एक साथ इन इंग्लिश
जनरल तरीके से नहीं होता है मतलब कुछ कुछ लोगों लोगों के साथ लेकर भी है कि तुमको प्रॉब्लम होती है पर कैसे वह से बाहर निकलता है और क्यों की क्या होता है कि जिन लोगों का सुपर नॉर्मल होता है और मल्टीपल प्यारा लग रहा है दुनिया से अलग हो जाता है क्यों सोचते हैं जो करते हैं वह जिंदगी सबसे अलग होता है तो कई बार हम दोनों को ऐसा लगता है कि उसको कोई नहीं है और मैंने बताया था कि आप की होली मस्ती वन पेज ऑफ डिप्रेशन पर ले जाता है तो उसे की 90% से लेकर हां यादव सिंह उनकी पर्सनालिटी होती है तो नहीं होते कुछ एक साथ इन इंग्लिश
Likes  17  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत-बहुत है अब और काटा क्यों गए थे अभी मैं नाम बोला हूं लेकिन मैंने
बहुत-बहुत है अब और काटा क्यों गए थे अभी मैं नाम बोला हूं लेकिन मैंने
Likes  18  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बच्चों के फिल्म काम करते हो बच्चों के पीछे चंबे दी बूटी दत्त नूतन जैन हम बोले हेलेन केलर यह सारे हमको बहुत जल्दी बना ग्राम बॉलीवुड की बात करें अभिषेक बच्चन हॉलीवुड की फिल्में लर्निंग डिसेबिलिटी ऑटिज्म इंटेलेक्चुअल डिसेबिलिटी को देती हूं जब तक तो बच्चों के मां-बाप होते हैं बैठे कितना चेक कर सकते हैं कौन सी चीज लेकर आगे बढ़
बच्चों के फिल्म काम करते हो बच्चों के पीछे चंबे दी बूटी दत्त नूतन जैन हम बोले हेलेन केलर यह सारे हमको बहुत जल्दी बना ग्राम बॉलीवुड की बात करें अभिषेक बच्चन हॉलीवुड की फिल्में लर्निंग डिसेबिलिटी ऑटिज्म इंटेलेक्चुअल डिसेबिलिटी को देती हूं जब तक तो बच्चों के मां-बाप होते हैं बैठे कितना चेक कर सकते हैं कौन सी चीज लेकर आगे बढ़
Likes  19  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल बहुत सारी मेहनत करते हुए जनता की मांग की गंभीर मानसिक बीमारियां थी अगर आपने बहुत मूवी है ब्यूटीफुल माइंड उसमें उसने बुरा क्यों माने भाई लोगों में पता चला मीटिंग में बहुत कम होता है उसे कंपल्सिव डिसऑर्डर उसके बारे में भी आप देखेंगे तो व्हाट्सएप जो सेलिब्रिटी हैं और ऐसे ही गैंग बॉक्स इन पत्रकारों को अभी लौटा ज्ञात दूसरे फोन की बैटरी तो ऐसे मोटे लोगों को बहुत जल्दी चीजें मिलती है
बिल्कुल बहुत सारी मेहनत करते हुए जनता की मांग की गंभीर मानसिक बीमारियां थी अगर आपने बहुत मूवी है ब्यूटीफुल माइंड उसमें उसने बुरा क्यों माने भाई लोगों में पता चला मीटिंग में बहुत कम होता है उसे कंपल्सिव डिसऑर्डर उसके बारे में भी आप देखेंगे तो व्हाट्सएप जो सेलिब्रिटी हैं और ऐसे ही गैंग बॉक्स इन पत्रकारों को अभी लौटा ज्ञात दूसरे फोन की बैटरी तो ऐसे मोटे लोगों को बहुत जल्दी चीजें मिलती है
Likes  16  Dislikes      
WhatsApp_icon
Likes  10  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:


vokalandroid