Vokal
search_icon

पति की खुशी में पत्नी खुश होती है लेकिन पत्नी की खुशी में पति खुश क्यों नहीं होता? ...

Likes  1  Dislikes

5 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
जैसा कहीं भी नहीं है कि पत्नी की खुशी में पति खुश नहीं होता बिल्कुल होता अगर सच्चा प्यार दोनों के बीच में हो अंडरस्टेंडिंग हो तो पत्नी अगर आगे बढ़ेगी इसका मतलब कि परिवार आगे बढ़ रहा है और परिवार में पति भी आता है तो क्यों खुश नहीं हो खुश पशुपति लोग नहीं होते हैं जो खुद को सुपीरियर मानते हैं खुद को और दूसरों पर मानते हैं और अगर पत्नी कुछ ऐसा करती है कि जो कुछ बड़ा हो कुछ ऐसा अच्छी चीज़ हो जिसे पति का एटीट्यूड फील होने लगता है कि औरत होकर की मरसिया के मुंह से आगे कैसे जा पा रही है तो उससे टाइपिंग पति है वह नहीं खुश होते हैं
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

अपना सवाल पूछिए

0/180

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
आपने बिल्कुल सही बात कही है लेकिन यह बात मैं आप हर जगह को एग्जाम एक सा नहीं साबित कर सकते यानी कि हर जगह ऐसा नहीं होता हर रिलेशन में हर शादी में ऐसा नहीं होता है लेकिन कई बार ऐसा होता है कई बार ऐसा देखा गया यही समझने की चीज है कि जो पत्नी होती है वह अपने आप को पूरी तरीके से टूट कर चुकी होती है पूरी ईमानदारी पूरी शिद्दत से अपने प्यार को निभा दिया दिल से सब कुछ काम करती है प्यार तो बहुत करते हैं लेकिन कहीं ना कहीं डोमिनेटिंग होना चाहते हैं कहीं ना कहीं अपने फायदे की सोचते हैं कई बार इस तरीके की चीज कर दे तो सामने वाले की खुशी में हमेशा खुश होना चाहिए और अगर तकलीफ हो रही है तो आपको भी होनी चाहिए और उसे क्यों नहीं चाहिए हमारी वजह से कोई तकलीफ ना हो बल्कि हमारे प्रयासों से वह तकलीफ भी कम हो जाए और साथ में खुश रहे मिलकर इस तरीके से ही यह रिश्ता 1 दिन जीवन है वह अच्छा और खुशहाल पीता है
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
मुझे लगता है सभी लोगों की मानसिकता इस तरह की हम नहीं कह सकते कि जितने भी पति है वह अपनी पत्नी की खुशी में खुशी महसूस नहीं करते हो बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो अपनी पत्नी को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करते हैं और उनकी खुशी में भी शरीक होते हैं यानी कि उनकी खुशी में शामिल होकर उनकी खुशी को बढ़ाते हैं लेकिन कुछ व्यक्ति ऐसे जरूर होते हैं जो स्वार्थी होते हैं या फिर सेल्फिश होते हैं जो खुद की खुशी के बारे में सोचते हैं या फिर जब उनके साथ कुछ अच्छा होता है तो अपनी खुशी का इजहार करते हैं और यह चाहते हैं कि उनकी पत्नी उनके खुशी में शामिल हो जाएं लेकिन जब उनकी पत्नी के जीवन में कोई खुशहाली आती है तो हो सकता है कि कुछ लोग अपनी खुशी जाहिर ना करते हो या फिर उन्हें उनसे ज्यादा मतलब नहीं रहता हूं लेकिन सभी लोगों के लिए हम ऐसी चीज़ नहीं कह सकते
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Pati Ki Khushi Mein Patni Khush Hoti Hai Lekin Patni Ki Khushi Mein Pati Khush Kyon Nahi Hota, Wife Is Happy With Her Husband's Happiness, But Why Does Not Husband Be Happy In The Happiness Of The Wife?





मन में है सवाल?