क्या कोई समझा सकता है कि भूकंप क्यों होता है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको क्यों समझ सकते हैं कि पृथ्वी की सतह के नीचे एक फेविकोल जैसा पदार्थ रहता है जिसके ऊपर की कुछ प्लेट काटते रहते हैं इनको हम टेक्टोनिक प्लेट कहते हैं ऐसे साथ प्लेट है पृथ्वी के सतह के नीचे और इन्हीं ...जवाब पढ़िये
आपको क्यों समझ सकते हैं कि पृथ्वी की सतह के नीचे एक फेविकोल जैसा पदार्थ रहता है जिसके ऊपर की कुछ प्लेट काटते रहते हैं इनको हम टेक्टोनिक प्लेट कहते हैं ऐसे साथ प्लेट है पृथ्वी के सतह के नीचे और इन्हीं सातों प्लेटों के ऊपर हमारी पूरी दुनिया बसी हुई है इन सातव प्लेट के ऊपर ही हम रहते हैं यह प्ले स्टोर है वह लगातार घूमती रहती हैं और उस पर भी कॉल जैसे पदार्थ में फेविकोल से सब काला पदार्थ होता है जिसके ऊपर रहती हैं और उन पर तैरती रहती हैं तो उठा क्यों है कि कभी-कभी दो प्लेट आपस में टकरा जाती हैं इन से टकराने के कारण इन के इन में दबाव बन जाता है और इनके को ने मुड़ जाते हैं और टकराने के कारण एनर्जी पैदा हो जाती है तो वह पैदा हो जाता है और उसके बाद जो यह यूनिवर्सिटी है यह वहां से निकलने की कोशिश करती है और चाबी एनर्जी वहां से निकलने की कोशिश करती है तो फिर विकी जाता हिल जाती है जिसके कारण कि अर्थक्वेक या फिर कम आता हैAapko Kyun Samajh Sakte Hain Ki Prithvi Ki Satah Ke Neeche Ek Fevicol Jaisa Padarth Rehta Hai Jiske Upar Ki Kuch Plate Katatey Rehte Hain Inko Hum Tektonik Plate Kehte Hain Aise Saath Plate Hai Prithvi Ke Satah Ke Neeche Aur Inhin Saton Pleton Ke Upar Hamari Puri Duniya Basi Hui Hai In Satav Plate Ke Upar Hi Hum Rehte Hain Yeh Play Store Hai Wah Lagatar Ghoomti Rehti Hain Aur Us Par Bhi Call Jaise Padarth Mein Fevicol Se Sab Kala Padarth Hota Hai Jiske Upar Rehti Hain Aur Un Par Tairati Rehti Hain To Utha Kyun Hai Ki Kabhi Kabhi Do Plate Aapas Mein Takara Jati Hain In Se Takrane Ke Kaaran In Ke In Mein Dabaav Ban Jata Hai Aur Inke Ko Ne Mud Jaate Hain Aur Takrane Ke Kaaran Energy Paida Ho Jati Hai To Wah Paida Ho Jata Hai Aur Uske Baad Jo Yeh University Hai Yeh Wahan Se Nikalne Ki Koshish Karti Hai Aur Chabi Energy Wahan Se Nikalne Ki Koshish Karti Hai To Phir Vikee Jata Hil Jati Hai Jiske Kaaran Ki Earthquake Ya Phir Kum Aata Hai
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हमारी धरती मुख्य तौर पर 4 वर्षों से बनी हुई है इधर को राउटर को मेंटल और ट्रस्ट ट्रस्ट और ऊपरी मेंटल को हमने तो फिर भी कहते हैं यह 50 किलोमीटर की मोटी परत वर्गों में मीटिंग हुई है जिन्हें टेक्टोन...जवाब पढ़िये
देखिए हमारी धरती मुख्य तौर पर 4 वर्षों से बनी हुई है इधर को राउटर को मेंटल और ट्रस्ट ट्रस्ट और ऊपरी मेंटल को हमने तो फिर भी कहते हैं यह 50 किलोमीटर की मोटी परत वर्गों में मीटिंग हुई है जिन्हें टेक्टोनिक प्लेट्स कहा जाता है यह पेट्रोलियम टेक्टोनिक प्लेट अगर अपनी जगह से हिलती रहती है लेकिन रहती है पर लेकिन सभी टेक्टोनिक प्लेट बहुत ज्यादा हो जाती है तो भूकंप आ जाता हैDekhie Hamari Dharti Mukhya Taur Par 4 Varshon Se Bani Hui Hai Idhar Ko Router Ko Mental Aur Trust Trust Aur Upari Mental Ko Humne To Phir Bhi Kehte Hain Yeh 50 Kilometre Ki Moti Parat Vargon Mein Meeting Hui Hai Jinhen Tektonik Plates Kaha Jata Hai Yeh Petroleum Tektonik Plate Agar Apni Jagah Se Hilati Rehti Hai Lekin Rehti Hai Par Lekin Sabhi Tektonik Plate Bahut Jyada Ho Jati Hai To Bhukamp Aa Jata Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि हमें बताया जाता है कि हमारा हमारी पृथ्वी और कुछ प्लीज़ और कुछ प्रतिरूप पर रुकी हुई है जिसके ऊपर वह खड़ी है सब बताया जाता है जो की है कुछ ऐसे प्लेट्स है जो पृथ्वी के अंदर कहीं एक सरपंच पर हैं ज...जवाब पढ़िये
जैसा कि हमें बताया जाता है कि हमारा हमारी पृथ्वी और कुछ प्लीज़ और कुछ प्रतिरूप पर रुकी हुई है जिसके ऊपर वह खड़ी है सब बताया जाता है जो की है कुछ ऐसे प्लेट्स है जो पृथ्वी के अंदर कहीं एक सरपंच पर हैं जब भी पत्थर आपस में टकराते टकराते हैं और हिलते हैं और इनकी आपस का जो बैलेंस है वह बिगड़ जाता है और जो पत्थर वापस अलग-अलग बिखर जाते हैं तब एक बहुत i n a g उसमें क्रिएट होती है तब जिससे कि और कोई कहता है जिससे कि हमारी अर्थ हिलती है हमारी पृथ्वी हिलती है और हमें झटके महसूस होते पृथ्वी के भूकंप के उसे हम अर्थ कि कहते हैं जो जगह है नीचे में जहां पर वह जो रोक सकते हैं उसे फोकस भूकंप का आर्थिक उपयोग उसके ऊपर वाले जगह को अभी सेंटर कहा जाता है अर्थक्वेक का तो यही कारण है जब वो जो हमारी सरफेस सरफेस के नीचे जो पत्थर है वह प्लेट है जब मिलते हैं या फिर अब ज्यादा भेजिएगा तो टूट कर गिर जाते हैं बिखर जाते हैं इतनी समय क्रिएट होती है कि हमारा अर्थ खेलने लगता है चेक करने लगता है जिससे कारण भूकंप आते हैंJaisa Ki Hume Bataya Jata Hai Ki Hamara Hamari Prithvi Aur Kuch Please Aur Kuch Pratirup Par Ruki Hui Hai Jiske Upar Wah Khadi Hai Sab Bataya Jata Hai Jo Ki Hai Kuch Aise Plates Hai Jo Prithvi Ke Andar Kahin Ek Sarpanch Par Hain Jab Bhi Pathar Aapas Mein Takraate Takraate Hain Aur Hilte Hain Aur Inki Aapas Ka Jo Balance Hai Wah Bigad Jata Hai Aur Jo Pathar Wapas Alag Alag Bikhar Jaate Hain Tab Ek Bahut I N A G Usamen Create Hoti Hai Tab Jisse Ki Aur Koi Kahata Hai Jisse Ki Hamari Arth Hilati Hai Hamari Prithvi Hilati Hai Aur Hume Jhatake Mahsus Hote Prithvi Ke Bhukamp Ke Use Hum Arth Ki Kehte Hain Jo Jagah Hai Neeche Mein Jahan Par Wah Jo Rok Sakte Hain Use Focus Bhukamp Ka Aarthik Upyog Uske Upar Wale Jagah Ko Abhi Center Kaha Jata Hai Earthquake Ka To Yahi Kaaran Hai Jab Vo Jo Hamari Sarafes Sarafes Ke Neeche Jo Pathar Hai Wah Plate Hai Jab Milte Hain Ya Phir Ab Jyada Bhejiega To Toot Kar Gir Jaate Hain Bikhar Jaate Hain Itni Samay Create Hoti Hai Ki Hamara Arth Khelne Lagta Hai Check Karne Lagta Hai Jisse Kaaran Bhukamp Aate Hain
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हमारी पृथ्वी के अंदर एक घटक टॉनिक प्लेस होती है जो कि अरेंज होती है एक दूसरे के साथ लेकिन जब भी नीचे की धरती के अंदर जो लावा होता है जो चोर होता है उसके पास जब भी थोड़ा सा मूवमेंट होता है उसको ह...जवाब पढ़िये
देखिए हमारी पृथ्वी के अंदर एक घटक टॉनिक प्लेस होती है जो कि अरेंज होती है एक दूसरे के साथ लेकिन जब भी नीचे की धरती के अंदर जो लावा होता है जो चोर होता है उसके पास जब भी थोड़ा सा मूवमेंट होता है उसको हमें तो टेक्टोनिक प्लेट में भी थोड़ा बहुत तरह मूवमेंट होता है जिसकी वजह से वह थोड़ा बहुत हिलती है और उनका हिलना ही हमारे देश में हैं और हमारी धरती पर अर्थक्वेक लेकर आता है और वह अर्थक्वेक कम जमीन का एक तरह से एक दूसरे टेक्टोनिक प्लेट्स होती है वह या तो एक दूसरे के ऊपर आती हैं या फिर एक दूसरे के नीचे जाती है या फिर थोड़ा सा एक दूसरे से टकरा कर रही हो जाती है जिसकी वजह से हमारी धरती में मूवमेंट होता है और वह हमको एक अर्थ को एक का फील करवाता है तो यही कारण है कि जो हमें भूकंप होता है तू टेक्टॉनिक प्रिंस की है प्लीज की मूवमेंट की वजह से होता है और उसे टेक्टोनिक प्लेट्स है वह अंदर अंदर जो हमारे धरती के अंदर कौन है उसमें जब भी कुछ ज्यादा फॉर्मेशन जाति गैसेस का या फिर उसमें Lava ज्यादा फॉर्म हो जाता है वह भी टेक्टोनिक प्लेट को हिलाता है जिसकी वजह से ऊपर हमको अर्थक्वेक यानी के भूकंप फील होता हैDekhie Hamari Prithvi Ke Andar Ek Ghatak Tonic Place Hoti Hai Jo Ki Arrange Hoti Hai Ek Dusre Ke Saath Lekin Jab Bhi Neeche Ki Dharti Ke Andar Jo Lava Hota Hai Jo Chor Hota Hai Uske Paas Jab Bhi Thoda Sa Movement Hota Hai Usko Hume To Tektonik Plate Mein Bhi Thoda Bahut Tarah Movement Hota Hai Jiski Wajah Se Wah Thoda Bahut Hilati Hai Aur Unka Hilana Hi Hamare Desh Mein Hain Aur Hamari Dharti Par Earthquake Lekar Aata Hai Aur Wah Earthquake Kum Jameen Ka Ek Tarah Se Ek Dusre Tektonik Plates Hoti Hai Wah Ya To Ek Dusre Ke Upar Aati Hain Ya Phir Ek Dusre Ke Neeche Jati Hai Ya Phir Thoda Sa Ek Dusre Se Takara Kar Rahi Ho Jati Hai Jiski Wajah Se Hamari Dharti Mein Movement Hota Hai Aur Wah Hamko Ek Arth Ko Ek Ka Feel Karwata Hai To Yahi Kaaran Hai Ki Jo Hume Bhukamp Hota Hai Tu Tektanik Prince Ki Hai Please Ki Movement Ki Wajah Se Hota Hai Aur Use Tektonik Plates Hai Wah Andar Andar Jo Hamare Dharti Ke Andar Kaun Hai Usamen Jab Bhi Kuch Jyada Formation Jati Gases Ka Ya Phir Usamen Lava Jyada Form Ho Jata Hai Wah Bhi Tektonik Plate Ko Hilaataa Hai Jiski Wajah Se Upar Hamko Earthquake Yani Ke Bhukamp Feel Hota Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विक्रम कमी से होता है कि तुम्हारी औरत होती है वह दो हमारी भारतीय दुबे सब देखते हैं तो ग्राउंड देखते हैं उसके इचक लेट सोते हैं तो यह तो प्लेट होती हैं अलग-अलग Chupke एक दूसरे के ऊपर टिकी हुई है थोड़ी-थ...जवाब पढ़िये
विक्रम कमी से होता है कि तुम्हारी औरत होती है वह दो हमारी भारतीय दुबे सब देखते हैं तो ग्राउंड देखते हैं उसके इचक लेट सोते हैं तो यह तो प्लेट होती हैं अलग-अलग Chupke एक दूसरे के ऊपर टिकी हुई है थोड़ी-थोड़ी एक दूसरे से चिपकी हुई है तो जब हमारी धरती हिलती है और जूही प्ले बल होता है यह सब चीजें बढ़ती है तो उसके कारण थोड़ी सी प्लेटफार्म होती है तो जब यह प्लेट एक दूसरे से हिलती है तो उसे उस से भूकंप आता है क्योंकि जो हमारी धरती के नीचे की जमीन प्लेस है वही इंडियन तो ऊपर का जो रिश्ता जो उस पर टिका होता है फ्लाइट से वह भी होता है तो भूकंप इसके कारण आता है तो कितनी प्लेट होती है उससे भूकंप की दुर्गति होती है और भूकंप के झटके होता है बर्बरता और कब होता हैVikram Kami Se Hota Hai Ki Tumhari Aurat Hoti Hai Wah Do Hamari Bhartiya Dubey Sab Dekhte Hain To Ground Dekhte Hain Uske Ichak Let Sote Hain To Yeh To Plate Hoti Hain Alag Alag Chupke Ek Dusre Ke Upar Tiki Hui Hai Thodi Thodi Ek Dusre Se Chipaki Hui Hai To Jab Hamari Dharti Hilati Hai Aur Juhi Play Bal Hota Hai Yeh Sab Cheezen Badhti Hai To Uske Kaaran Thodi Si Platform Hoti Hai To Jab Yeh Plate Ek Dusre Se Hilati Hai To Use Us Se Bhukamp Aata Hai Kyonki Jo Hamari Dharti Ke Neeche Ki Jameen Place Hai Wahi Indian To Upar Ka Jo Rishta Jo Us Par Tika Hota Hai Flight Se Wah Bhi Hota Hai To Bhukamp Iske Kaaran Aata Hai To Kitni Plate Hoti Hai Usse Bhukamp Ki Durgati Hoti Hai Aur Bhukamp Ke Jhatake Hota Hai Barbarata Aur Kab Hota Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भूकंप आने का सबसे प्रमुख कारण है जमीन के अंदर जो प्लेट में पाई जाती हैं जो महासागर की तरह महाद्वीप लेटे हैं ले टे भी चीज होती है जिन पर महासागर रहता महाद्वीप के हुए वह अपने सब एक दूसरे से किसी गति के ...जवाब पढ़िये
भूकंप आने का सबसे प्रमुख कारण है जमीन के अंदर जो प्लेट में पाई जाती हैं जो महासागर की तरह महाद्वीप लेटे हैं ले टे भी चीज होती है जिन पर महासागर रहता महाद्वीप के हुए वह अपने सब एक दूसरे से किसी गति के कारण टकराती हैं तो एक प्लेट में दूसरी पेट के नीचे चली जाती है तुझे ऊपर वाली प्लेट होती है उसकी वजह से डिस्ट्रक्शन पैदा होता है उस डिस्ट्रक्शन की वजह से वह उस जगह पर भूकंप केंद्र बन जाता है तथा वह चारों तरफ पृथ्वी में हर कहीं जा कर टॉक वेब पैदा करती हैं तो सबसे जो पहली जो विभूतियों प्राइमरी होती है वह भेज सबसे तेजी से टकराती है और वह ठोस में सबसे तेजी से स्नान करती है तो इतनी तेजी से वह वेब निकल जाती है कि हमें पता ही नहीं चलता इसलिए प्राइमरी वेब ख़तरनाक नहीं होती लेकिन जो सेकेंडरी में होती है उसकी स्पीड काफी कम होती है और वो धीरे धीरे धीरे धीरे जाती है कम स्पीड का मतलब है उसकी स्पीड होती है कि लोग कुछ किलो मीटर पर सेकंड में तो जब वह निकलती है तब बहुत ज्यादा विनाश करती हुई निकल जाती है सेकेंडरी के सबसे ज्यादा खतरनाक और वह भी जब आगे तक जाती है आती है तो उसका प्रभाव धीरे-धीरे कम होता जाता है और इस तरह से जो भूकंप का सेंटर होता है उसके चारों तरफ का जो जमीन है और ज्यादा खराब होती है और जब से दूर की जमीन है उनकी उनकी जो होगा उनमें जो डेंजर है वह थोड़ा कम पैदा होता है थैंक यूBhukamp Aane Ka Sabse Pramukh Kaaran Hai Jameen Ke Andar Jo Plate Mein Payi Jati Hain Jo Mahasagar Ki Tarah Mahadwip Lete Hain Le Te Bhi Cheez Hoti Hai Jin Par Mahasagar Rehta Mahadwip Ke Hue Wah Apne Sab Ek Dusre Se Kisi Gati Ke Kaaran Takarati Hain To Ek Plate Mein Dusri Pet Ke Neeche Chali Jati Hai Tujhe Upar Wali Plate Hoti Hai Uski Wajah Se Destruction Paida Hota Hai Us Destruction Ki Wajah Se Wah Us Jagah Par Bhukamp Kendra Ban Jata Hai Tatha Wah Charo Taraf Prithvi Mein Har Kahin Ja Kar Talk Web Paida Karti Hain To Sabse Jo Pehli Jo Vibhutiyon Primary Hoti Hai Wah Bhej Sabse Teji Se Takarati Hai Aur Wah Thos Mein Sabse Teji Se Snan Karti Hai To Itni Teji Se Wah Web Nikal Jati Hai Ki Hume Pata Hi Nahi Chalta Isliye Primary Web Khatarnaak Nahi Hoti Lekin Jo Secondary Mein Hoti Hai Uski Speed Kafi Kum Hoti Hai Aur Vo Dhire Dhire Dhire Dhire Jati Hai Kum Speed Ka Matlab Hai Uski Speed Hoti Hai Ki Log Kuch Kilo Meter Par Second Mein To Jab Wah Nikalti Hai Tab Bahut Jyada Vinash Karti Hui Nikal Jati Hai Secondary Ke Sabse Jyada Khatarnak Aur Wah Bhi Jab Aage Tak Jati Hai Aati Hai To Uska Prabhav Dhire Dhire Kum Hota Jata Hai Aur Is Tarah Se Jo Bhukamp Ka Center Hota Hai Uske Charo Taraf Ka Jo Jameen Hai Aur Jyada Kharab Hoti Hai Aur Jab Se Dur Ki Jameen Hai Unki Unki Jo Hoga Unmen Jo Danger Hai Wah Thoda Kum Paida Hota Hai Thank You
Likes  5  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भूकंप आने का रीज़न हम लोगों को बचपन से ही कक्षा 5 कक्षा 6 में हिस्ट्री और ज्योग्राफी जैसे शब्दों में पढ़ाया जाता था भूकंप आने का सबसे बड़ा रीजन यह है कि जो अर्थ की सतह के नीचे फॉर्मेशन होती है टेक्टोन...जवाब पढ़िये
भूकंप आने का रीज़न हम लोगों को बचपन से ही कक्षा 5 कक्षा 6 में हिस्ट्री और ज्योग्राफी जैसे शब्दों में पढ़ाया जाता था भूकंप आने का सबसे बड़ा रीजन यह है कि जो अर्थ की सतह के नीचे फॉर्मेशन होती है टेक्टोनिक प्लेट्स की उम्र में अगर कोई मूवमेंट होता है तो उसकी वजह से भूकंप आता है टेक्टोनिक प्लेट्स कुछ इस तरह से फॉर्म होती है एक के ऊपर लेयर की तरह की हरकत सभी उनमें मूवमेंट अर्थ को झटके दे सकता है और जिसकी वजह से हम लोगों को भूकंप की फीलिंग आती हैBhukamp Aane Ka Rizan Hum Logon Ko Bachpan Se Hi Kaksha 5 Kaksha 6 Mein History Aur Jyografi Jaise Shabdon Mein Padhaya Jata Tha Bhukamp Aane Ka Sabse Bada Reason Yeh Hai Ki Jo Arth Ki Satah Ke Neeche Formation Hoti Hai Tektonik Plates Ki Umar Mein Agar Koi Movement Hota Hai To Uski Wajah Se Bhukamp Aata Hai Tektonik Plates Kuch Is Tarah Se Form Hoti Hai Ek Ke Upar Layer Ki Tarah Ki Harkat Sabhi Unmen Movement Arth Ko Jhatake De Sakta Hai Aur Jiski Wajah Se Hum Logon Ko Bhukamp Ki Feeling Aati Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Koi Samjha Sakta Hai Ki Bhukamp Kyon Hota Hai, Can Anyone Explain Why Earthquakes Happen?

vokalandroid