Vokal
search_icon

सुख और दुख क्या है ? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
सब सुख हो या दुख होय दोनों की जो है एक के सिक्के के पहलू है कि दोनों बीच में एक ही मोशन है एक प्रकार की फीलिंग है और हमारे दिमाग में जब भी सुख को लेकर कोई थॉट निर्माण होता है तो हमारी पूरी बॉडी में हमारे पूरे शरीर में जो एक प्रकार का संश्लेषण निर्माण होता है यानी कि जब हम सुख को भोग तैयार जी हमें लगता है कि हमें सुख मिल रहा होता है तो हमारे दिमाग में घुसे प्रकार के विचार आज और हमारी बॉडी भी जो है उसी स्क्रीन को जो है वह सीन सेक्स करते सेंसेशन उस प्रकार के पैदा करते और हम यह जो है अच्छा फील होने लगता है अगर हमें पता हो कि हम जो दुख में है तो हमारी बॉडी में जो है उसी प्रकार के सेंसेशन फिर बाहर लगी और हमें जो इस प्रकार की चीजें महसूस होने लगती है तू ही पूरी तरह से मुझे लगता है कि स्टेट ऑफ माइंड होता है यानी कि हमारे सोचने के तरीके होते कि आप चाहे सुख में हो या दुख में हो तो मेरे हिसाब से लगाओ से आपको जो हमेशा यह स्टेट ऑफ मैथमेटिक्स अमित जी आपको न्यूट्रल रहना चाहिए यानी कि भरे वह सुख का सवेरा सर झुका समय हो तो कोई भी समझ में हमेशा के लिए कितना है हर समय जो है 5 आसन होते रहता है तो आपको एक स्टेट ऑफ माय नाम इस न्यूटन रखना चाहिए और किन तरीकों से चीजों को देखना चाहिए
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

अपना सवाल पूछिए

0/180

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
जिस सुख और दुख YouTube शब्द है जो हमारी पूरी जिंदगी को बयां करते हैं क्योंकि हमारी जिंदगी में यही वो दो शब्द है जो बारी-बारी से बिना किसी क्रमांक के बारी-बारी से आएंगे हमारी जिंदगी में कभी दुख है तो कभी सुख है दोनों का अपना महत्व है दोनों की अपनी एक रिजल्ट है इसलिए दोनों को हमें खेलना चाहिए किसी से भी बहुत हवा में नहीं होना चाहिए और किसी से भी हिम्मत नहीं हारना चाहिए क्या कर दो खाता है तो दुख बहुत जरूरी हमारी जिंदगी में क्योंकि वह दुख के लम्हों को एहसास करके हमें पता लगता है जिसे कितनी कठिन है और उन कठिन चीजों को कितनी मेहनत कर के पार करना है क्योंकि अगर आप सबको पॉजिटिव चलता रहेगा प्रबल क्या होती है मेहनत क्या होती कभी Andaaz सुख सुख मोटिवेशन है जो हम अपने काम के बदले में पाते हैं कि हमने कुछ काम किया या कुछ हुआ तो हमें खुशी हुई जो रिजल्ट आया उससे मोटिवेशन मिलता है कि और ऐसा करें
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
DJ सुख और दुख क्या है तू यह इंसान का मेंटल स्टेज है इंसान का एक बंडल स्टेज है सुख और दुख है जब इंसान को लगता है ऐसा लगता है कि उसके पास हर चीज है उसको सब कुछ अच्छा जा रहा है वह खुश है तू सुखी महसूस करता है लेकिन इंसान को जब लगता है कि उसके पास कुछ नहीं है सब पूरा जा रहा है तू बस यह सोच पर डिपेंड है अगर इंसान लेकर जैसे अगर मैं आपको एक एग्जांपल बता तुझे कुछ करोड़पति थे कि वह लाखों के पास करोड़ों अरबों रुपए थे उनके जो पैसे थे वह बैंक रखोगे बैंक रेट होने के बाद भी उनके बैंक अकाउंट में कुछ 9 10 करो रुपए बचे थे तो उनको वह सिचुएशन दुख की सिचुएशन लग रही थी कि मैं गरीब हो गया अब यह सोचने वाली बात है कि इंडिया कि कितने लोगों के बैंक अकाउंट में 10 करो रुपए होते हैं बहुत कम कि अगर आपके कौन में 10 काउंटर टारगेट आप गरीब नहीं ना आप बहुत अमीर हो मिलकर उसको यह गरीबी की सिचुएशन लग रही थी तो मैंने सुसाइड कर लिया और 10 को यहां रहने वाला किसी इंसान के काम में वह गरीब हो सकता है नहीं तो बस ऐसा कुछ सिचुएशन फिजिकली ऐसा कुछ नहीं होता है अगर इंसान गरीबी वह सोचे कि नहीं मैं खुश हूं मेरे इतने में सेट ऐसा ही हूं मैं तो वह खुशी का माहौल में जी रहा है और क्या कुछ कितना भी पैसे वाला क्यों नहीं 10 करो उसके अकाउंट में हो लेकिन वह सोचेगी नहीं मेरे पास इस ऑफिस में पैसा नहीं है तो दुख के स्टेज में है तो यह बिल्कुल मंडल स्टेज है बस इंसान का
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Sukh Aur Dukh Kya Hai ?, What Is Happiness And Sadness?





मन में है सवाल?