चीन में भारतीय राजदूत कहते हैं कि भारत और चीन प्रतिद्वंद्वियों नहीं हैं। क्या आपको लगता है कि भारत बहुत राजनयिक है? क्यूं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह भारतीय कूटनीति का एक अच्छा उदाहरण है कि चीन के चीन में भारतीय राजदूत कह रहे हैं कि भारत और चीन प्रतिनिधि नहीं है साथ ही साथ चीन भी कभी स्पष्ट रूप से या नहीं कहेगा की मशीन जो है वह भारत के प्रथम अधि...जवाब पढ़िये
यह भारतीय कूटनीति का एक अच्छा उदाहरण है कि चीन के चीन में भारतीय राजदूत कह रहे हैं कि भारत और चीन प्रतिनिधि नहीं है साथ ही साथ चीन भी कभी स्पष्ट रूप से या नहीं कहेगा की मशीन जो है वह भारत के प्रथम अधिकृत प्रतिनिधि है और भारत से हमेशा आगे निकलने की कोशिश करता रहता है अपने हितों की रक्षा के लिए चीन कुछ भी करेगा इस तरह के स्टेटमेंट जरूर आते हैं लेकिन कभी भी यह नहीं कहेगा कि हमें भारत से परेशानी है क्योंकि जो कि भारत उनका सबसे बड़ा मार्केट दुनिया में दूसरी बात यह है अगर भारत इस तरह से बिहेव नहीं करेगा तो भारत को भी कुछ एसेंशियल चीजें वहां से प्राप्त होती है जैसे कि फार्मिक दवाइयां जो दवाई यहां पर आपको यहां पर सरकारी महकमों सिंपल सा मार्केट है वहां पर दवाई खरीदने जाएंगे अगर वह चाइनीस नहीं होगी अगर सिंपल दवाई होगी यहां पर आपको ₹50 की मिलेगी लेकिन वह इंपोर्ट करने के बाद चाइनीस दवाइयां को ₹10 की पड़ती है तो इसमें कोई गलत नहीं है अगर चीन ने चीन की दवाई पर बैन लगा दिया तो दवाइयां भी आना बंद हो जाएंगी इसके अलावा टेक्सटाइल इंडस्ट्री पूरी की पूरी चाइना पर डिपेंडेंट है आपके घर में मार्बल लगते हैं 99% चांस है कि वह चाइना से आया हूं क्योंकि इंडिया कंपनी बनाती नहीं है मोनोपोली है चाइना से ही आती है मोबाइल फोन जो आप यूज़ कर रहे हैं 90 परसेंट चांस है को चाइनिज हो गया कोरियन हो तो हमारी कॉल मी फोन पर भेज दें और उनकी कॉल मी हमारे में भेज दें क्योंकि रोमन हमारी हंसी आता है तुम चाइना भारत पर चीन तो है लेकिन कह नहीं सकती देखी हमारी और आपकी समझदारी है कभी किसी का राष्ट्रपति ने कहा कि चाइनीज माल मत खरीदो या प्रधानमंत्री का एहसास मत खरीदो हमारी आपकी समझदारी है कि हमें कुछ समझता हूं कि हमें प्रायोरिटी 20 पर किस चीज को खरीदना है किसी को रिजल्ट करना है इसके लिए दंगे होंगे करने की आवश्यकता नहीं है या फिर कोई विरोध प्रश्न नहीं आ सकता नहीं आप खुद मत खरीदिए दूसरों को प्रेरित कीजिए क्या मैं चाइनीस बनाने चीज नहीं खरीदनी है चाइनीस मोबाइल नहीं खरीदनी चाहिए लैपटॉप खरीदनी है यह सुनकर ज्यादा मना पाया मैं दवाइयों खरीदनी है या हमें और चीजें खरीदनी लेकिन हम यह चीज नहीं खरीदेंगे जरूरी नहीं है थैंक यूYeh Bhartiya Kutneeti Ka Ek Accha Udaharan Hai Ki Chin Ke Chin Mein Bhartiya Rajdut Keh Rahe Hain Ki Bharat Aur Chin Pratinidhi Nahi Hai Saath Hi Saath Chin Bhi Kabhi Spasht Roop Se Ya Nahi Kahega Ki Machine Jo Hai Wah Bharat Ke Pratham Adhikrit Pratinidhi Hai Aur Bharat Se Hamesha Aage Nikalne Ki Koshish Karta Rehta Hai Apne Hiton Ki Raksha Ke Liye Chin Kuch Bhi Karega Is Tarah Ke Statement Jarur Aate Hain Lekin Kabhi Bhi Yeh Nahi Kahega Ki Hume Bharat Se Pareshani Hai Kyonki Jo Ki Bharat Unka Sabse Bada Market Duniya Mein Dusri Baat Yeh Hai Agar Bharat Is Tarah Se Behave Nahi Karega To Bharat Ko Bhi Kuch Iessential Cheezen Wahan Se Prapt Hoti Hai Jaise Ki Farmik Davaaiyaan Jo Dawai Yahan Par Aapko Yahan Par Sarkari Mahkamon Simple Sa Market Hai Wahan Par Dawai Kharidne Jaenge Agar Wah Chinese Nahi Hogi Agar Simple Dawai Hogi Yahan Par Aapko ₹50 Ki Milegi Lekin Wah Import Karne Ke Baad Chinese Davaaiyaan Ko ₹10 Ki Padhti Hai To Isme Koi Galat Nahi Hai Agar Chin Ne Chin Ki Dawai Par Ban Laga Diya To Davaaiyaan Bhi Aana Band Ho Jaengi Iske Alava Textile Industry Puri Ki Puri China Par Dependent Hai Aapke Ghar Mein Marble Lagte Hain 99% Chance Hai Ki Wah China Se Aaya Hoon Kyonki India Company Banati Nahi Hai Monopoly Hai China Se Hi Aati Hai Mobile Phone Jo Aap Use Kar Rahe Hain 90 Percent Chance Hai Ko Chinese Ho Gaya Corion Ho To Hamari Call Me Phone Par Bhej Dein Aur Unki Call Me Hamare Mein Bhej Dein Kyonki Roman Hamari Hansi Aata Hai Tum China Bharat Par Chin To Hai Lekin Keh Nahi Sakti Dekhi Hamari Aur Aapki Samajhadari Hai Kabhi Kisi Ka Rashtrapati Ne Kaha Ki Chainij Maal Mat Kharido Ya Pradhanmantri Ka Ehsaas Mat Kharido Hamari Aapki Samajhadari Hai Ki Hume Kuch Samajhata Hoon Ki Hume Priority 20 Par Kis Cheez Ko Kharidna Hai Kisi Ko Result Karna Hai Iske Liye Denge Honge Karne Ki Avashyakta Nahi Hai Ya Phir Koi Virodh Prashna Nahi Aa Sakta Nahi Aap Khud Mat Kharidiye Dusron Ko Prerit Kijiye Kya Main Chinese Banane Cheez Nahi Kharidani Hai Chinese Mobile Nahi Kharidani Chahiye Laptop Kharidani Hai Yeh Sunkar Jyada Mana Paya Main Dawaiyo Kharidani Hai Ya Hume Aur Cheezen Kharidani Lekin Hum Yeh Cheez Nahi Kharidenge Zaroori Nahi Hai Thank You
Likes  5  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: China Mein Bharatiya Rajdut Kehte Hain Ki Bharat Aur China Pratidvandviyo Nahi Hain Kya Aapko Lagta Hai Ki Bharat Bahut Rajanayik Hai Kyun, The Indian Ambassador To China Says That India And China Are Not Rivals. Do You Think India Is Very Diplomatic? Why?

vokalandroid