हम अपने देश में जातिवाद खत्म करने के लिए क्या कर सकते हैं ??? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
जातिवाद खत्म करने का सबसे अच्छा तरीका हमें संवैधानिक रूप से मिला हुआ है वह मतदान का अधिकार क्योंकि आप जानते हैं जातिवाद फैलाए फैलाए राजनीति में क्षेत्रीय पार्टियां केवल और केवल मैं सिर्फ केवल WhatsApp यूज करूंगा किसी दम पर जीत रही है आप यूपी में देख लीजिए इससे पहले दिन की सरकार थी वह भी जातिवाद के कारण थी उनसे पहले उनकी सरकार थी वह भी जातिवाद के कारण थी बिहार में भी जातिवाद की सरकार है उसके अलावा पश्चिम बंगाल में जातिवाद के कारण तेलंगाना में जातिवाद के कारण कर्नाटका में जातिवाद के हर राज्य में जो छोटी छोटी पार्टियां पैदा हुई है जातिवाद के कारण हुई है एक बार अगर हमने सोच लिया कि हमें जाति क्या कर वोट नहीं देना है तो कोई भी पार्टी का वोट नहीं देंगे सीधी बात ऐसे ही कैंडिडेट को वोट दीजिए कि मैं चाहे आप को निर्दलीय बताना पड़े आप एक बार निर्दलीय को मौका तो दे कर दीजिए जो जातिवाद कि नहीं आपके घर के सामने की सड़क को साफ रखने तथा उसको मजबूत रखने का वादा रखता है उस व्यक्ति को वोट दीजिए ऐसे व्यक्ति को वोट मत दीजिए जो केवल आपको धर्म के नाम पर लड़ माता है यह जाति के नाम पर आपसे स्पीड पैदा करवाता है एक बार वोट डाल कर देखिए उस व्यक्ति को जो व्यक्ति केवल डेवलपमेंट की बात करता है अगर कोई व्यक्ति किसी भी धर्म की या जाति की बात करता है समझ जाइए कि व्यक्ति काम नहीं करने वाला और मुझे लगता है आज का समाज जो है पढ़ा लिखा समाज है और पढ़े लिखे समाज की विशेषता यह है कि वह समझता है कि उस का हित किस चीज में और वह भी डालने जाता है तो मुझे पता है कि किसको वोट डालना है तो मुझे रास्ता सबसे बड़ा राइट यही है और इसी तरह से जाते हो खत्म कर सकता है जिस फिल्म में सबसे ज्यादा राजनीति में जातिवाद सबसे ज्यादा उसकी आवाज मुझे बहुत कम दिखता है क्योंकि हम सब लोग साथ में बैठते हैं खाते हैं पीते हैं आप किसी का नाम होगा तो आप पहले नाम नहीं पूछते मित्रता करते हैं मुस्कुराते हैं किसी को देख कर तो हम जातिवाद के बाद हम लोग तो कभी नहीं करते प्रेक्टिकल लाइफ हमारी में तो कभी नहीं आते आपके दोस्त आ रहे होंगे होंगे या फिर सरदार सिंह हॉकी तो इस तरह के लोग आपके दोस्त होंगे जाति मजहब नहीं कर रहे राजनीति में काफी ज्यादा खत्म हो सकता है अपने मत का प्रयोग सही ढंग से कीजिए धन्यवादJaatiwad Khatam Karne Ka Sabse Accha Tarika Hume Samvaidhanik Roop Se Mila Hua Hai Wah Matdan Ka Adhikaar Kyonki Aap Jante Hain Jaatiwad Failaye Failaye Rajneeti Mein Kshetriya Partyian Kewal Aur Kewal Main Sirf Kewal WhatsApp Use Karunga Kisi Dum Par Jeet Rahi Hai Aap Up Mein Dekh Lijiye Isse Pehle Din Ki Sarkar Thi Wah Bhi Jaatiwad Ke Kaaran Thi Unse Pehle Unki Sarkar Thi Wah Bhi Jaatiwad Ke Kaaran Thi Bihar Mein Bhi Jaatiwad Ki Sarkar Hai Uske Alava Paschim Bengal Mein Jaatiwad Ke Kaaran Telangana Mein Jaatiwad Ke Kaaran Karnataka Mein Jaatiwad Ke Har Rajya Mein Jo Choti Choti Partyian Paida Hui Hai Jaatiwad Ke Kaaran Hui Hai Ek Baar Agar Humne Soch Liya Ki Hume Jati Kya Kar Vote Nahi Dena Hai To Koi Bhi Party Ka Vote Nahi Denge Sidhi Baat Aise Hi Candidate Ko Vote Dijiye Ki Main Chahe Aap Ko Nirdaleey Batana Pade Aap Ek Baar Nirdaleey Ko Mauka To De Kar Dijiye Jo Jaatiwad Ki Nahi Aapke Ghar Ke Samane Ki Sadak Ko Saaf Rakhne Tatha Usko Mazboot Rakhne Ka Vada Rakhta Hai Us Vyakti Ko Vote Dijiye Aise Vyakti Ko Vote Mat Dijiye Jo Kewal Aapko Dharm Ke Naam Par Lad Mata Hai Yeh Jati Ke Naam Par Aapse Speed Paida Karwata Hai Ek Baar Vote Dal Kar Dekhie Us Vyakti Ko Jo Vyakti Kewal Development Ki Baat Karta Hai Agar Koi Vyakti Kisi Bhi Dharm Ki Ya Jati Ki Baat Karta Hai Samajh Jaiye Ki Vyakti Kaam Nahi Karne Wala Aur Mujhe Lagta Hai Aaj Ka Samaaj Jo Hai Padha Likha Samaaj Hai Aur Padhe Likhe Samaaj Ki Visheshata Yeh Hai Ki Wah Samajhata Hai Ki Us Ka Hit Kis Cheez Mein Aur Wah Bhi Dalne Jata Hai To Mujhe Pata Hai Ki Kisko Vote Daalna Hai To Mujhe Rasta Sabse Bada Right Yahi Hai Aur Isi Tarah Se Jaate Ho Khatam Kar Sakta Hai Jis Film Mein Sabse Jyada Rajneeti Mein Jaatiwad Sabse Jyada Uski Aawaj Mujhe Bahut Kum Dikhta Hai Kyonki Hum Sab Log Saath Mein Baithate Hain Khate Hain Pite Hain Aap Kisi Ka Naam Hoga To Aap Pehle Naam Nahi Poochte Mitrata Karte Hain Muskurate Hain Kisi Ko Dekh Kar To Hum Jaatiwad Ke Baad Hum Log To Kabhi Nahi Karte Prektikal Life Hamari Mein To Kabhi Nahi Aate Aapke Dost Aa Rahe Honge Honge Ya Phir Sardar Singh Hockey To Is Tarah Ke Log Aapke Dost Honge Jati Majahab Nahi Kar Rahe Rajneeti Mein Kafi Jyada Khatam Ho Sakta Hai Apne Mat Ka Prayog Sahi Dhang Se Kijiye Dhanyavad
Likes  14  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
BP मुझे ऐसा लगता है कि हमारे देश में जातिवाद बहुत फैला हुआ है और एक दम से तो यह खत्म हो ही नहीं सकता क्योंकि यह बहुत सालों से चला आ रहा है यह चीज इसे कम करने के लिए हम क्या कर सकते हैं मेरे साथ से 12 की स्कूलों में जो यह का सितम पढ़ाया जाता है यानी कि क्षत्रियों ने यह कहा फिजाओं ने यह किया इन्होंने यह क्या ब्राह्मणों ने क्या यह सब बंद करना चाहिए क्योंकि आप बचपन से अगर किसी के मन में यह चीजें डाल दी जाती है कि वह किस जाति के हैं तो जातिवाद तो फिर पहले का ही दूसरा यह आरक्षण सिस्टम है ना इसे खत्म कर देना चाहिए मिली जाति का जो लोगों को फायदा या नुकसान होता है वह यह रिजर्वेशन नहीं होता है जो और कुछ मिल जाता है कुछ जाते हैं तो फिर उसकी भी जाने वाले हैं वह रिजर्वेशन वालों से नफरत करना शुरू हो जाता क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि हमें मौका नहीं मिल पाता Jodi जॉब करता है तो और यह ऐसा करने से चढ़ जाती बहुत कम होता है धीरे-धीरे कम जरूर हो जाएगा ऐसा करBP Mujhe Aisa Lagta Hai Ki Hamare Desh Mein Jaatiwad Bahut Faila Hua Hai Aur Ek Dum Se To Yeh Khatam Ho Hi Nahi Sakta Kyonki Yeh Bahut Salon Se Chala Aa Raha Hai Yeh Cheez Ise Kum Karne Ke Liye Hum Kya Kar Sakte Hain Mere Saath Se 12 Ki Schoolon Mein Jo Yeh Ka Ssitam Padhaya Jata Hai Yani Ki Kshtriyo Ne Yeh Kaha Fijaon Ne Yeh Kiya Inhone Yeh Kya Brahmanon Ne Kya Yeh Sab Band Karna Chahiye Kyonki Aap Bachpan Se Agar Kisi Ke Man Mein Yeh Cheezen Dal Di Jati Hai Ki Wah Kis Jati Ke Hain To Jaatiwad To Phir Pehle Ka Hi Doosra Yeh Aarakshan System Hai Na Ise Khatam Kar Dena Chahiye Mili Jati Ka Jo Logon Ko Fayda Ya Nuksan Hota Hai Wah Yeh Reservation Nahi Hota Hai Jo Aur Kuch Mil Jata Hai Kuch Jaate Hain To Phir Uski Bhi Jaane Wale Hain Wah Reservation Walon Se Nafrat Karna Shuru Ho Jata Kyonki Kai Baar Aisa Hota Hai Ki Hume Mauka Nahi Mil Pata Jodi Job Karta Hai To Aur Yeh Aisa Karne Se Chadh Jati Bahut Kum Hota Hai Dhire Dhire Kum Jarur Ho Jayega Aisa Kar
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
हमारे देश में जो है जातिवाद बहुत ज्यादा फैलता जा रहा है यह खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है जितना हम आगे बढ़ रही है उतना ज्यादा फैलता जा रहा है उतना ज्यादा बढ़ता जा रहा है उसके खिलाफ खत्म करने के लिए कोई भी राजनीतिक पार्टी प्रयास नहीं कर रही है बल्कि और बढ़ावा दे रही है हम बात करते हैं आरक्षण की आरक्षण चर्चा का विषय हमेशा से बना हुआ है लेकिन इसके खत्म करने के लिए हमने कुछ काम नहीं किया कभी किसी भी राजनीतिक पार्टी ने उल्टा जब चुनाव आते हैं अलग-अलग जाति समुदाय धर्म के लोगों को भरोसा देते हैं उनकी वोट लेने के लिए इस प्रकार के बयान बाजी करते हैं जाति से संबंधित जिस प्रकार से रोज पैदा होता है बट जाते हैं धर्म के नाम पर जाति के नाम पर आज भी कई ऐसे राज्य हैं भारत में जहां पर जाति के नाम पर केवल वोट होते हैं बजे आएगी डाउनलोड डेवलपमेंट के लगातार बढ़ता जा रहा है बिल्कुल रोक लगानी चाहिए इस तरीके के बयान भाइयों पर जिससे कि जातियों विशेष को आकर्षित करने वाली चीज हो दूसरी तरफ आरक्षण यदि हम खत्म कर दें बिल्कुल केवल आर्थिक स्थिति पर दें तो इससे जातिवाद जो है बिल्कुल समस्या उसकी आधी रह जाएगी क्योंकि जब सब एक समान होंगे तो ना कोई पिछड़ी जाती होगी ना कोई उजली जाती होगी सब एक समान लोगों ने हमारे देश में आर्थिक स्थिति पर आप दे सकते हैं तो जातिवाद खत्म करने का यही तरीका है यह अलग-अलग श्रेणियों में जो जातियों को आरक्षण दे रखा है खत्म किया जाए जो बयान बाजी होती है जाति विशेष को आकर्षित करने के लिए उस पर रोक लगाई जाएHamare Desh Mein Jo Hai Jaatiwad Bahut Jyada Failata Ja Raha Hai Yeh Khatam Hone Ka Naam Nahi Le Raha Hai Jitna Hum Aage Badh Rahi Hai Utana Jyada Failata Ja Raha Hai Utana Jyada Badhta Ja Raha Hai Uske Khilaf Khatam Karne Ke Liye Koi Bhi Rajnitik Party Prayas Nahi Kar Rahi Hai Balki Aur Badhawa De Rahi Hai Hum Baat Karte Hain Aarakshan Ki Aarakshan Charcha Ka Vishay Hamesha Se Bana Hua Hai Lekin Iske Khatam Karne Ke Liye Humne Kuch Kaam Nahi Kiya Kabhi Kisi Bhi Rajnitik Party Ne Ulta Jab Chunav Aate Hain Alag Alag Jati Samuday Dharm Ke Logon Ko Bharosa Dete Hain Unki Vote Lene Ke Liye Is Prakar Ke Bayan Busy Karte Hain Jati Se Sambandhit Jis Prakar Se Roj Paida Hota Hai But Jaate Hain Dharm Ke Naam Par Jati Ke Naam Par Aaj Bhi Kai Aise Rajya Hain Bharat Mein Jahan Par Jati Ke Naam Par Kewal Vote Hote Hain Baje Aayegi Download Development Ke Lagatar Badhta Ja Raha Hai Bilkul Rok Lagaani Chahiye Is Tarike Ke Bayan Bhaiyon Par Jisse Ki Jaatiyo Vishesh Ko Aakarshit Karne Wali Cheez Ho Dusri Taraf Aarakshan Yadi Hum Khatam Kar Dein Bilkul Kewal Aarthik Sthiti Par Dein To Isse Jaatiwad Jo Hai Bilkul Samasya Uski Aadhi Rah Jayegi Kyonki Jab Sab Ek Saman Honge To Na Koi Pichhadi Jati Hogi Na Koi Ujali Jati Hogi Sab Ek Saman Logon Ne Hamare Desh Mein Aarthik Sthiti Par Aap De Sakte Hain To Jaatiwad Khatam Karne Ka Yahi Tarika Hai Yeh Alag Alag Shreniyon Mein Jo Jaatiyo Ko Aarakshan De Rakha Hai Khatam Kiya Jaye Jo Bayan Busy Hoti Hai Jati Vishesh Ko Aakarshit Karne Ke Liye Us Par Rok Lagai Jaye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Hum Apne Desh Mein Jaatiwad Khatam Karne Ke Liye Kya Kar Sakte Hain ???





मन में है सवाल?