दिवाली वाले दिन राम की पूजा क्यों नहीं करते ,लक्ष्मी और गणेश की पूजा क्यों करते है ? ...

Likes  0  Dislikes

2 Answers


Likes  9  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
दीपावली का पर्व का अधिकार से मनाया जाता है यह संसार में खुशी का प्रतीक माना गया है इस त्योहार का अर्थ है दीपों की रोशनी से तमिल यानी कि अंधकार को हराना इससे और भी कई इतिहास जुड़े हुए हैं इसी दिन भगवान श्री कृष्ण ने अपने शरीर का त्याग किया था जैन मत के अनुसार भगवान श्री महावीर स्वामी ने इसी दिन निर्माण को प्राप्त किया था स्वामी रामदेव का जन्म इसी दिन हुआ और इसी दिन उन्होंने जलसमाधि भी ली थी मैं श्री दयानंद सरस्वती ने भी इसी दिन निर्वाण प्राप्त किया था दीपावली सतयुग में भी मनाई जाती थी दीपावली का त्यौहार शास्त्रों के अनुसार 3 महारथियों कालरात्रि महारात्रि वह मोहरात्रि से बना हुआ है आज प्रत्येक मानव मुंबई डूबा हुआ है अतः इस मोह रूपी अंधकार को भगाने के लिए अमावस्या के घने अंधकार में दीपोत्सव के द्वारा रोशनी की जाती है दीपावली लक्ष्मी जी के साथ गणेश जी की भी पूजा होती है क्योंकि गणेश जी को उन का मानस पुत्र माना गया है जो प्रार्थना करते हैं कि जिस तरह माता लक्ष्मी ने अपने पुत्र के साथ रहती है वैसे ही हमारे जीवन में भी रहे और धन्य धान्य से हमारा जीवन सुखी करेंDeepawali Ka Parv Ka Adhikaar Se Manaya Jata Hai Yeh Sansar Mein Khushi Ka Pratik Mana Gaya Hai Is Tyohaar Ka Arth Hai Dipon Ki Roshni Se Tamil Yani Ki Andhakar Ko Harana Isse Aur Bhi Kai Itihas Jude Hue Hain Isi Din Bhagwan Shri Krishan Ne Apne Sharir Ka Tyag Kiya Tha Jain Mat Ke Anusar Bhagwan Shri Mahavir Swami Ne Isi Din Nirman Ko Prapt Kiya Tha Swami Ramdev Ka Janm Isi Din Hua Aur Isi Din Unhone Jalasamadhi Bhi Lee Thi Main Shri Dayanad Saraswati Ne Bhi Isi Din Nirvan Prapt Kiya Tha Deepawali Satayug Mein Bhi Manai Jati Thi Deepawali Ka Tyohar Shashtro Ke Anusar 3 Maharathiyon Kalaratri Maharatri Wah Mohratri Se Bana Hua Hai Aaj Pratyek Manav Mumbai Dooba Hua Hai Atah Is Moh Rupee Andhakar Ko Bhagne Ke Liye Amavasya Ke Ghane Andhakar Mein Deepotsav Ke Dwara Roshni Ki Jati Hai Deepawali Laxmi Ji Ke Saath Ganesh Ji Ki Bhi Puja Hoti Hai Kyonki Ganesh Ji Ko Un Ka Manas Putra Mana Gaya Hai Jo Prarthana Karte Hain Ki Jis Tarah Mata Laxmi Ne Apne Putra Ke Saath Rehti Hai Waise Hi Hamare Jeevan Mein Bhi Rahe Aur Dhanya Dhany Se Hamara Jeevan Sukhi Karen
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Diwali Wale Din Ram Ki Puja Kyun Nahi Karte Laxmi Aur Ganesh Ki Puja Kyun Karte Hai ?, Diwali Kyo Manai Jati Hai





मन में है सवाल?