भारत में नई आर्थिक नीति कब आरंभ की गई ? ...

Likes  0  Dislikes

2 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
भारत की नई आर्थिक नीति प्रधानमंत्री पीवी नरसिंहा राव के समय में लागू की गई थी उस समय हमारे फाइनेंस मिनिस्टर थे मिस्टर मनमोहन सिंह जो भविष्य में जाकर हमारे प्रधानमंत्री बने थे उन्होंने हमारी क्लोज इकोनॉमी को ओपन क्यों नहीं बनाने का फैसला किया उन्होंने बताया कि यह बहुत ज्यादा आवश्यक है वरना हमारा देश कंगाल होने की कगार पर आ गया था इराक में गृह बिछड़ने की ओर से तेल के दाम सबसे ऊंचे ऊंचे स्तर पर से अमेरिका ने भी मदद देने से कह दिया था कि अगर आप लोग हमें अपने हवाई जहाज नहीं उतारने दोगे तब तो हम आपकी मदद मिल रही है जो आपको वर्ल्ड बैंक से वह भी रोक देंगे तो भारत को तेल खरीदने के लिए सारे के सारे अरब कंट्री से के खिलाफ हो गए थे इसके अलावा भारत के पास पैसे भी नहीं तो वर्ल्ड बैंक से मिलने के लिए अमेरिका ने भी हाथ खड़े कर दिए थे तो आर्थिक नीति 1991 में खोलना जरूरी हो गई थी डॉक्टर मनमोहन सिंह ने उससे हमारे देश को बचाया और उन्होंने ग्लोबलाइजेशन प्राइवेटाइजेशन एंड लिब्रलाइजेशन की नीति अपनाई मतलब उदारीकरण की नीति निजीकरण की नीति और वैश्वीकरण की नीति इस नीति के तहत पूरे के पूरे 99 करोड़ देशवासियों को एक मार्केट बता दिया गया है पूरी दुनिया की कंपनी कन्वर्ट किया गया कि आई है उसे पहले आप जानते थे कि इंडिया में कोई प्राइवेट कंपनी थी वह 1991 से भारत में अंग्रेजी भी एकदम से बढ़ गई है क्योंकि सास जितनी कंपनियों में इंटरव्यू किस में लेती थी और भारत में प्रसिद्ध कल्चरल डेवलपमेंट हुआ पश्चिमीकरण का दौर भारत में जोश लिया है और 1991 के बाद आया उस समय के बाद से भारत के स्टैंडर्ड सौदा डेवलपमेंट हुआ रोजगार बड़े कि सारी की सारी चीजें 1991 की मनमोहन सिंह जी की अध्यक्षता में हुई थी चीज है थैंक यूBharat Ki Nayi Aarthik Niti Pradhanmantri Pv Narsinha Rav Ke Samay Mein Laagu Ki Gayi Thi Us Samay Hamare Finance Minister The Mister Manmohan Singh Jo Bhavishya Mein Jaakar Hamare Pradhanmantri Bane The Unhone Hamari Close Economy Ko Open Kyun Nahi Banane Ka Faisla Kiya Unhone Bataya Ki Yeh Bahut Jyada Aavashyak Hai Varana Hamara Desh Kangal Hone Ki Kagar Par Aa Gaya Tha Iraq Mein Grah Bichadane Ki Oar Se Tel Ke Dam Sabse Unche Unche Sthar Par Se America Ne Bhi Madad Dene Se Keh Diya Tha Ki Agar Aap Log Hume Apne Hawai Jahaj Nahi Utarane Doge Tab To Hum Aapki Madad Mil Rahi Hai Jo Aapko World Bank Se Wah Bhi Rok Denge To Bharat Ko Tel Kharidne Ke Liye Sare Ke Sare Arab Country Se Ke Khilaf Ho Gaye The Iske Alava Bharat Ke Paas Paise Bhi Nahi To World Bank Se Milne Ke Liye America Ne Bhi Hath Khade Kar Diye The To Aarthik Niti 1991 Mein Kholna Zaroori Ho Gayi Thi Doctor Manmohan Singh Ne Usse Hamare Desh Ko Bachaya Aur Unhone Globalization Privatisation End Libralaijeshan Ki Niti Apanayi Matlab Udarikaran Ki Niti Nijikaran Ki Niti Aur Vaishvikaran Ki Niti Is Niti Ke Tahat Poore Ke Poore 99 Crore Deshvasiyon Ko Ek Market Bata Diya Gaya Hai Puri Duniya Ki Company Convert Kiya Gaya Ki Eye Hai Use Pehle Aap Jante The Ki India Mein Koi Private Company Thi Wah 1991 Se Bharat Mein Angrezi Bhi Ekdam Se Badh Gayi Hai Kyonki Saas Jitni Companion Mein Interview Kis Mein Leti Thi Aur Bharat Mein Prasiddh Cultural Development Hua Pashchimikaran Ka Daur Bharat Mein Josh Liya Hai Aur 1991 Ke Baad Aaya Us Samay Ke Baad Se Bharat Ke Standard Sauda Development Hua Rojgar Bade Ki Saree Ki Saree Cheezen 1991 Ki Manmohan Singh Ji Ki Adhyakshata Mein Hui Thi Cheez Hai Thank You
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
स्वतंत्रता के बाद 1991 का वर्ष भारत देश के लिए आर्थिक विकास में मील का पत्थर साबित हुआ इससे पहले भारत एक आर्थिक संकट से गुजर रहा था इस संकट में भारत के नीति निर्माताओं को नई आर्थिक नीति लागू करने के लिए मजबूर कर दिया इस समय की केंद्रीय वित्त मंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने नई आर्थिक नीति 1991 में लागू की नई आर्थिक नीति अधिक स्पष्ट और अधिक व्यापक रूप से लागू की गई इसके तहत निजीकरण वैश्वीकरण और उदारीकरण से जुड़े सभी कार्यक्रम अपनाए गए इससे पहले देश में कई आर्थिक नियंत्रणों की भरमार थी भारत भारी आर्थिक संकट में था मुद्रास्फीति की दर 2 अंकों में आ गई थी बजट घाटा अधिक हो गया था विदेशी विनिमय कोष की मात्रा सिर्फ 2 सप्ताह के आयात के लायक ही शेष रह गई थी ऐसी स्थिति में तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने उदारीकरण का नया मार्ग अपनाया जिसके अंतर्गत दो कार्यक्रम अपनाए गए स्थरीकरण ढांचागत समायोजन भारत नहीं है कार्य अनियंत्रित तरीके से नहीं कर के सीमित गुण आधारित वह चाइनीस तरीके से करने की नीति को अपनाया जिससे कैलिब्रेट लोकल स्टेशन की नीति कहा गया इसके अंतर्गत विदेशी सहयोग लेते समय यह देखा जाता था कि इससे स्वदेशी उद्योगों को कोई नुकसान नहीं हो इस नीति के तहत एनडीए सरकार ने भी अपने कार्यकाल 1991 से 2004 तक में आर्थिक सुधारों की प्रक्रिया चालू रखी वर्तमान समय में हमें आर्थिक सुधारों को समग्र सुधारों के अंग के रूप में देखना होगाSwatantrata Ke Baad 1991 Ka Varsh Bharat Desh Ke Liye Aarthik Vikash Mein Meal Ka Pathar Saabit Hua Isse Pehle Bharat Ek Aarthik Sankat Se Gujar Raha Tha Is Sankat Mein Bharat Ke Niti Nirmaataon Ko Nayi Aarthik Niti Laagu Karne Ke Liye Majboor Kar Diya Is Samay Ki Kendriya Vitt Mantri Doctor Manmohan Singh Ne Nayi Aarthik Niti 1991 Mein Laagu Ki Nayi Aarthik Niti Adhik Spasht Aur Adhik Vyapak Roop Se Laagu Ki Gayi Iske Tahat Nijikaran Vaishvikaran Aur Udarikaran Se Jude Sabhi Karyakram Apnaye Gaye Isse Pehle Desh Mein Kai Aarthik Niyantranon Ki Bharamar Thi Bharat Bhari Aarthik Sankat Mein Tha Mudrasfiti Ki Dar 2 Ankon Mein Aa Gayi Thi Budget Ghata Adhik Ho Gaya Tha Videshi Vinimay Kosh Ki Matra Sirf 2 Saptah Ke Aayaat Ke Layak Hi Shesh Rah Gayi Thi Aisi Sthiti Mein Tatkalin Congress Sarkar Ne Udarikaran Ka Naya Marg Apnaya Jiske Antargat Do Karyakram Apnaye Gaye Stharikaran Dhanchagat Samaayojan Bharat Nahi Hai Karya Aniyantrit Tarike Se Nahi Kar Ke Simith Gun Aadharit Wah Chinese Tarike Se Karne Ki Niti Ko Apnaya Jisse Kailibret Local Station Ki Niti Kaha Gaya Iske Antargat Videshi Sahyog Lete Samay Yeh Dekha Jata Tha Ki Isse Swadeshi Udyogon Ko Koi Nuksan Nahi Ho Is Niti Ke Tahat Nda Sarkar Ne Bhi Apne Karyakal 1991 Se 2004 Tak Mein Aarthik Sudharo Ki Prakriya Chalu Rakhi Vartaman Samay Mein Hume Aarthik Sudharo Ko Samagra Sudharo Ke Ang Ke Roop Mein Dekhna Hoga
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Bharat Mein Nayi Aarthik Niti Kab Aarambh Ki Gayi ?, भारत में नई आर्थिक नीति कब अपनाई गई, भारत में नई आर्थिक नीति कब लागू हुई, Bharat Mein Nahi Aati Ki Niti Kab Lagu Hui, Nai Arthik Niti Kya Hai, भारत की नई आर्थिक नीति, Nai Arthik Niti





मन में है सवाल?