क्या साउथ चीन समुन्दर मे अपनी दमदार भूमिका से भारत चीन पर दबाव बना सकता है? ...

500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साउथ चाइना सी एक बहुत भौगोलिक संसाधनों से परिपूर्ण विशाल समुद्री क्षेत्र है जिस पर चीन अपना आधिपत्य हमेशा जमाते हुआ आया है हालांकि चीन के अलावा इस जगह पर लाओस वियतनाम तथा अन्य कई देश जो चीन के साथ इस ...
जवाब पढ़िये
साउथ चाइना सी एक बहुत भौगोलिक संसाधनों से परिपूर्ण विशाल समुद्री क्षेत्र है जिस पर चीन अपना आधिपत्य हमेशा जमाते हुआ आया है हालांकि चीन के अलावा इस जगह पर लाओस वियतनाम तथा अन्य कई देश जो चीन के साथ इस विवाद में हमेशा से रहे हैं इसमें कि फिलीपींस का नाम सबसे ऊपर आता है वह भी चाहिए साउथ चाइना सी पर अपना आधिपत्य स्थापित करने की कोशिश कर रहा है भारत के लिए सबसे अच्छी बात यह है कि भारत का अभियान के साथ यानी कि आर्यन कंट्री इन द कंट्री है जिन कंट्री को मासिक बोलते हैं सिंगापुर लाओस मलेशिया और बाकी सारी जो कंट्री है कंबोडिया म्यांमार इन सारी कंट्री के साथ भारत का बहुत से संबंध है इनकी हर साल एक समिति होता है अगले साल यह समेटने चालीसा मैच हुआ था जो फिलीपींस में हुआ था इस साल की समय 26 जनवरी पर होने वाला है 26 जनवरी के दिन हमारे मैं पानी प्रधानमंत्री न्यूज़ आसीन कंट्री के दसों देश के नेताओं को इन्वाइट किया है पहली बार ऐसा हो रहा है कि 26 जनवरी के दिन हमारे देश में एक साथ 10 दिनों के मेहमान शामिल हो रहे कूटनीति का बहुत बड़ा हिस्सा है तो हमारे प्रधानमंत्री सुबह से काफी आ गए हैं और इसी तरह से जवाब क्रिएट किया जाता है किसी इंटरनेशनल जवाब किसी कंट्री पर डिलीट करना है तो यही तरीका होता है कि आप उस कंट्री के जो देश के खिलाफ लड़ रहे हैं उनको अपना मित्र बनाएं और सबसे अच्छा तरीका यही है और सबसे अच्छी बात यह है कि इंडिया भी कभी नहीं कहता कि चाइना के साथ जाना चाहिए चाइना खुद इसका केस हार चुका है इंटरनेशनल कोर्ट कोर्ट में लेकिन वह चीज को मानने को भी तैयार नहीं है थैंक यूSouth China Si Ek Bahut Bhaugolik Sansadhanon Se Paripurna Vishal Samudri Kshetra Hai Jis Par Chin Apna Aadhipatya Hamesha Jamate Hua Aaya Hai Halanki Chin Ke Alava Is Jagah Par Laos Vietnam Tatha Anya Kai Desh Jo Chin Ke Saath Is Vivad Mein Hamesha Se Rahe Hain Isme Ki Philippines Ka Naam Sabse Upar Aata Hai Wah Bhi Chahiye South China Si Par Apna Aadhipatya Sthapit Karne Ki Koshish Kar Raha Hai Bharat Ke Liye Sabse Acchi Baat Yeh Hai Ki Bharat Ka Abhiyan Ke Saath Yani Ki Aaryan Country In D Country Hai Jin Country Ko Maasik Bolte Hain Singapore Laos Malaysia Aur Baki Saree Jo Country Hai Cambodia Myanmar In Saree Country Ke Saath Bharat Ka Bahut Se Sambandh Hai Inki Har Saal Ek Samiti Hota Hai Agle Saal Yeh Sametne Chalisa Match Hua Tha Jo Philippines Mein Hua Tha Is Saal Ki Samay 26 January Par Hone Wala Hai 26 January Ke Din Hamare Main Pani Pradhanmantri News Aaseen Country Ke Dason Desh Ke Netaon Ko Invite Kiya Hai Pehli Baar Aisa Ho Raha Hai Ki 26 January Ke Din Hamare Desh Mein Ek Saath 10 Dinon Ke Mehmaan Shamil Ho Rahe Kutneeti Ka Bahut Bada Hissa Hai To Hamare Pradhanmantri Subah Se Kafi Aa Gaye Hain Aur Isi Tarah Se Jawab Create Kiya Jata Hai Kisi International Jawab Kisi Country Par Delete Karna Hai To Yahi Tarika Hota Hai Ki Aap Us Country Ke Jo Desh Ke Khilaf Lad Rahe Hain Unko Apna Mitra Banaye Aur Sabse Accha Tarika Yahi Hai Aur Sabse Acchi Baat Yeh Hai Ki India Bhi Kabhi Nahi Kahata Ki China Ke Saath Jana Chahiye China Khud Iska Case Haar Chuka Hai International Court Court Mein Lekin Wah Cheez Ko Manane Ko Bhi Taiyaar Nahi Hai Thank You
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon
जी हां बिलकुल साउथ चाइना सी एम के मामले में अपनी दमदार भूमिका से भारत चीन पर दवा बिल्कुल बना सकता है वह इसलिए क्योंकि और साउथ चाइना सी में जितने भी और बाकी के निशान से चाइना के अलावा वह सभी अपना राज चाइना के अगेंस्ट होकर लड़ रहे हैं उनका मानना है कि यह साउथ चाइना सी में जो कि चाइना अपनी टेरिटरी बता रहा है कि वह बोल रहा है कि मेरे अंदर आएगा कोई अच्छी सी मेरे अंदर का है वह सब नहीं है और सारे नेशंस उसके खिलाफ है क्या जाना ऐसा नहीं कर सकता और यूनाइटेड नेशंस में भी इसके खिलाफ काफी बातें हुई हैं और इसमें यह अमेरिका भी चाइना के खिलाफ है वह भी नहीं चाहता कि साउथ चाइना सी में चाइना का दबदबा रहे तो इसमें जो भारत का स्टैंड है वह यह है कि भारत ने चाइना को सपोर्ट नहीं कर रहा है वह भी इस बात का गिफ्ट है कि चाइना का कहीं भी किसी भी चीज पर दबाव बनाकर अपना हक हक हासिल नहीं कर सकता और अगर उसका हक होता तो उनको पहले ही दे दिया जाता है और अब वह एकदम से सिर्फ दबाव बनाकर हक हक हासिल नहीं कर सकते हैं किसी भी चीज के ऊपर और इसमें हम सभी जानते कि जैसे के चाइना ने डोकलाम में हमारे देश के सिपाहियों से लड़ाई की थी और काफी अपना फायरिंग वगैरा भी हुई थी वहां पर तो अगर वहां से एक तरह से वो हम पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे तो हम चाहे तो भारत अपना दबाव चेहरा साउथ चाइना सी मछली के ऊपर बना सकता है चाइना के ऊपर वैसे क्योंकि अमेरिका भी भारत का साथ देगा इस चीज में तो वही तरीका हो सकता है चाइना के ऊपर दबाव बनाने का और जैसा कि हम जानते हैं कि पाकिस्तान और चाइना में दोस्ती हो रही है तो वह अगर आगे कोई भी बोर होती है नहीं कोई भी लड़ाई होती है तो उसमें भारत अपना अच्छा स्टैंड ले पाएगा अगर वह पहले से ही चाइना के ऊपर दबाव बनाकर चलेगा तोJi Haan Bilkul South China Si Em Ke Mamle Mein Apni Dumdaar Bhumika Se Bharat Chin Par Dawa Bilkul Bana Sakta Hai Wah Isliye Kyonki Aur South China Si Mein Jitne Bhi Aur Baki Ke Nishaan Se China Ke Alava Wah Sabhi Apna Raj China Ke Against Hokar Lad Rahe Hain Unka Manana Hai Ki Yeh South China Si Mein Jo Ki China Apni Territory Bata Raha Hai Ki Wah Bol Raha Hai Ki Mere Andar Aayega Koi Acchi Si Mere Andar Ka Hai Wah Sab Nahi Hai Aur Sare Nations Uske Khilaf Hai Kya Jana Aisa Nahi Kar Sakta Aur United Nations Mein Bhi Iske Khilaf Kafi Batein Hui Hain Aur Isme Yeh America Bhi China Ke Khilaf Hai Wah Bhi Nahi Chahta Ki South China Si Mein China Ka Dabdaba Rahe To Isme Jo Bharat Ka Stand Hai Wah Yeh Hai Ki Bharat Ne China Ko Support Nahi Kar Raha Hai Wah Bhi Is Baat Ka Gift Hai Ki China Ka Kahin Bhi Kisi Bhi Cheez Par Dabaav Banakar Apna Haq Haq Hasil Nahi Kar Sakta Aur Agar Uska Haq Hota To Unko Pehle Hi De Diya Jata Hai Aur Ab Wah Ekdam Se Sirf Dabaav Banakar Haq Haq Hasil Nahi Kar Sakte Hain Kisi Bhi Cheez Ke Upar Aur Isme Hum Sabhi Jante Ki Jaise Ke China Ne Doklam Mein Hamare Desh Ke Sipaahiyon Se Ladai Ki Thi Aur Kafi Apna Firing Vagaira Bhi Hui Thi Wahan Par To Agar Wahan Se Ek Tarah Se Vo Hum Par Dabaav Banane Ki Koshish Kar Rahe To Hum Chahe To Bharat Apna Dabaav Chehra South China Si Machli Ke Upar Bana Sakta Hai China Ke Upar Waise Kyonki America Bhi Bharat Ka Saath Dega Is Cheez Mein To Wahi Tarika Ho Sakta Hai China Ke Upar Dabaav Banane Ka Aur Jaisa Ki Hum Jante Hain Ki Pakistan Aur China Mein Dosti Ho Rahi Hai To Wah Agar Aage Koi Bhi Bore Hoti Hai Nahi Koi Bhi Ladai Hoti Hai To Usamen Bharat Apna Accha Stand Le Payega Agar Wah Pehle Se Hi China Ke Upar Dabaav Banakar Chalega To
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जेहन दिखेगा साउथ चाइना सी में अगर धाम भारत में अपना दबदबा थोड़ा बनाता है तो चीन पर जवाब जरूर पड़ेगा क्योंकि अभी फिलहाल जो है और चीन भारत पर दबाव बनाने की कोशिश करें पाकिस्तान के साथ दोस्ती कर लिया और ...
जवाब पढ़िये
जेहन दिखेगा साउथ चाइना सी में अगर धाम भारत में अपना दबदबा थोड़ा बनाता है तो चीन पर जवाब जरूर पड़ेगा क्योंकि अभी फिलहाल जो है और चीन भारत पर दबाव बनाने की कोशिश करें पाकिस्तान के साथ दोस्ती कर लिया और जो साउथ चाइना सी है उस पर भी और अपने छोटे-छोटे वगैरह बना रहा है और श्रीलंका पर भी वह दोस्ती करने के चक्कर में है और उसका सपोर्ट पाने के चक्कर मेंZehan Dikhega South China Si Mein Agar Dham Bharat Mein Apna Dabdaba Thoda Banata Hai To Chin Par Jawab Jarur Padega Kyonki Abhi Filhal Jo Hai Aur Chin Bharat Par Dabaav Banane Ki Koshish Karen Pakistan Ke Saath Dosti Kar Liya Aur Jo South China Si Hai Us Par Bhi Aur Apne Chote Chote Vagairah Bana Raha Hai Aur Sri Lanka Par Bhi Wah Dosti Karne Ke Chakkar Mein Hai Aur Uska Support Pane Ke Chakkar Mein
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya South China Samundar Mein Apni Dumdaar Bhumika Se Bharat China Par Dabaav Bana Sakta Hai, Can The South China Sea Create Pressure On India With Its Strong Role?

vokalandroid