कुछ लोग सिर्फ माननीय प्रधानमंत्री जी के बारे में आलोचना करते हैं ये सही है ? ...

Likes  0  Dislikes

4 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
यह बिल्कुल भी गलत बात नहीं है और मैं इस बात का समर्थन करता हूं कि आप जिस देश में रहते हैं वहां पर आपको कुछ भी बोलने का अधिकार है प्रधानमंत्री जी से कुछ बोलना है तो शिकायत करने के तरीके से कीजिए जैसे कि एक वीडियो वायरल हो रहा है प्रकाश राज जी का जिसमें प्रधानमंत्री से पूछते नजर आ रहे हैं कि गौरी लंकेश के मरने पर जब जश्न मनाया गया तब आपने कुछ बोला क्यों नहीं तो यह सही तरीका है बोलने का आलोचना करने का तरीका भी सही होना चाहिए क्योंकि आप एक प्रधानमंत्री से बात कर रहे हैं आलोचना करना कोई गलत नहीं है जब मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री तो हमने उनसे उनके बारे में इतनी आलोचना की थी तो इसका मतलब यह थोड़ी है कि कोई और प्रधानमंत्री के द्वारा उसे नहीं करेंगे आलोचना हम बार-बार करेंगे हर प्रश्न पर करेंगे जो प्रश्न के लिए हमने किया है क्योंकि यह लोकतंत्र है लोकतंत्र में आप अपनी आवाज दबा नहीं सकते वरना लोकतंत्र का मतलब नहीं रह जाएगा अगर किसी की आवाज तक जाएगी मेरी नहीं आपकी आवाज भी नहीं करनी चाहिए हमारे आंसर प्रधानमंत्री दे ना दे लेकिन हमारे पास एक सबसे बड़ा राइट है और वह वोटिंग राइट और वोटिंग लेट होने की वजह से हम अपने जवाब हम अपनी फीडबैक तुरंत सरकार तक पहुंचा सकते हैं उन्हें बता सकते हैं कि आप यह काम सही नहीं कर रहे हैं जनता का फीडबैक जब सरकार पहुंचता है तो नहीं समझ में आता है कि जिंदगी उनकी किसी बात से नाराज है और उसके समझदार तो होते ही हैं क्यों नहीं पता है कि किस बात से नाराज हैं तो यह कोई गलत बात नहीं है किसी की आलोचना करना गलत बात नहीं लेकिन आलोचना करने का जो तरीका है वह सब भी होना चाहिए धन्यवादYeh Bilkul Bhi Galat Baat Nahi Hai Aur Main Is Baat Ka Samarthan Karta Hoon Ki Aap Jis Desh Mein Rehte Hain Wahan Par Aapko Kuch Bhi Bolne Ka Adhikaar Hai Pradhanmantri Ji Se Kuch Bolna Hai To Shikayat Karne Ke Tarike Se Kijiye Jaise Ki Ek Video Viral Ho Raha Hai Prakash Raj Ji Ka Jisme Pradhanmantri Se Poochte Nazar Aa Rahe Hain Ki Gauri Lankesh Ke Marne Par Jab Jashn Manaya Gaya Tab Aapne Kuch Bola Kyun Nahi To Yeh Sahi Tarika Hai Bolne Ka Aalochana Karne Ka Tarika Bhi Sahi Hona Chahiye Kyonki Aap Ek Pradhanmantri Se Baat Kar Rahe Hain Aalochana Karna Koi Galat Nahi Hai Jab Manmohan Singh Pradhanmantri To Humne Unse Unke Baare Mein Itni Aalochana Ki Thi To Iska Matlab Yeh Thodi Hai Ki Koi Aur Pradhanmantri Ke Dwara Use Nahi Karenge Aalochana Hum Baar Baar Karenge Har Prashna Par Karenge Jo Prashna Ke Liye Humne Kiya Hai Kyonki Yeh Loktantra Hai Loktantra Mein Aap Apni Aawaj Daba Nahi Sakte Varana Loktantra Ka Matlab Nahi Rah Jayega Agar Kisi Ki Aawaj Tak Jayegi Meri Nahi Aapki Aawaj Bhi Nahi Karni Chahiye Hamare Answer Pradhanmantri De Na De Lekin Hamare Paas Ek Sabse Bada Right Hai Aur Wah Voting Right Aur Voting Let Hone Ki Wajah Se Hum Apne Jawab Hum Apni Fidbaik Turant Sarkar Tak Pahuncha Sakte Hain Unhen Bata Sakte Hain Ki Aap Yeh Kaam Sahi Nahi Kar Rahe Hain Janta Ka Fidbaik Jab Sarkar Pahunchta Hai To Nahi Samajh Mein Aata Hai Ki Zindagi Unki Kisi Baat Se Naaraj Hai Aur Uske Samajhdar To Hote Hi Hain Kyun Nahi Pata Hai Ki Kis Baat Se Naaraj Hain To Yeh Koi Galat Baat Nahi Hai Kisi Ki Aalochana Karna Galat Baat Nahi Lekin Aalochana Karne Ka Jo Tarika Hai Wah Sab Bhi Hona Chahiye Dhanyavad
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
यह बात पूरी तरह सत्य है कि प्रधानमंत्री जी की आलोचना करना किसी भी सभ्य नागरिक के लिए सही बात नहीं है क्योंकि वह सबसे बड़े पद पर हैं हमारे देश के और अगर हम उनकी आलोचना करेंगे तो यह हमारे लिए देशद्रोह के समान होगा उसके अलावा मैं यह नहीं कहूंगा आलोचना करना पूरी तरह गलत है क्योंकि अगर आपको उनसे कोई शिकायत है अगर आपको उनका कोई फैसला अच्छा नहीं लग रहा है तो यह जरूरी है कि आप यह बात उन तक पहुंच जाएं क्या आप भी उनके पैसे से एग्री नहीं करते आप को यह नहीं लगता कि वह सही है तो अब आलोचना नहीं कह सकते उसकी स्कूल शिकायत का नाम दे सकते हैं कि अगर आपको कोई भी उनसे दिक्कत है कोई भी परेशानी है तो आप उनकी आलोचना न करके उनसे शिकायत करें उन्हें समझाएं कि वह गलत जो कहा उन्होंने करा है जो कर रहे हैं वह चीज गलत क्यों हैं आपके लिए और उससे आपको क्या बुरा हो सकता है इसके अलावा हमारे देश में डेमोक्रेसी है यानी कि लोकतंत्र है तो हर किसी का पूरा हक है कि वह जो चाहे वह बोल सकता है फ्रीडम ऑफ स्पीच कहा जाता है और हमारे कॉन्स्टिट्यूशन में भी अच्छी लिखी हुई है कि अगर कोई इंसान कुछ बोलना चाहता है कुछ बताना चाहता है तो उसको पूरा हक है कि वह अपनी बात सबके सामने रख सकता है तो प्रधानमंत्री जी की आलोचना करना एक तरह से सही भी है और इसमें कोई बुराई नहीं हैYeh Baat Puri Tarah Satya Hai Ki Pradhanmantri Ji Ki Aalochana Karna Kisi Bhi Sabhya Nagarik Ke Liye Sahi Baat Nahi Hai Kyonki Wah Sabse Bade Pad Par Hain Hamare Desh Ke Aur Agar Hum Unki Aalochana Karenge To Yeh Hamare Liye Deshdroh Ke Saman Hoga Uske Alava Main Yeh Nahi Kahunga Aalochana Karna Puri Tarah Galat Hai Kyonki Agar Aapko Unse Koi Shikayat Hai Agar Aapko Unka Koi Faisla Accha Nahi Lag Raha Hai To Yeh Zaroori Hai Ki Aap Yeh Baat Un Tak Pahunch Jayen Kya Aap Bhi Unke Paise Se Agree Nahi Karte Aap Ko Yeh Nahi Lagta Ki Wah Sahi Hai To Ab Aalochana Nahi Keh Sakte Uski School Shikayat Ka Naam De Sakte Hain Ki Agar Aapko Koi Bhi Unse Dikkat Hai Koi Bhi Pareshani Hai To Aap Unki Aalochana N Karke Unse Shikayat Karen Unhen Samjhayen Ki Wah Galat Jo Kaha Unhone Kra Hai Jo Kar Rahe Hain Wah Cheez Galat Kyun Hain Aapke Liye Aur Usse Aapko Kya Bura Ho Sakta Hai Iske Alava Hamare Desh Mein Democracy Hai Yani Ki Loktantra Hai To Har Kisi Ka Pura Haq Hai Ki Wah Jo Chahe Wah Bol Sakta Hai Freedom Of Speech Kaha Jata Hai Aur Hamare Constitution Mein Bhi Acchi Likhi Hui Hai Ki Agar Koi Insaan Kuch Bolna Chahta Hai Kuch Batana Chahta Hai To Usko Pura Haq Hai Ki Wah Apni Baat Sabke Samane Rakh Sakta Hai To Pradhanmantri Ji Ki Aalochana Karna Ek Tarah Se Sahi Bhi Hai Aur Isme Koi Burayi Nahi Hai
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
आदित्य जी यह बिल्कुल नहीं गलत बात है क्योंकि कुछ लोग जो है वह खाली प्रधानमंत्री की जो गलतियां है जो नेगेटिव पॉइंट से खाली होने को गिनाते हैं आप देखें जो पॉजिटिव होने के डी पांडे वह हर एक आदमी में होते कि हम भगवान तो है नहीं जो आदमी देश से चला रहा है तो उसमें कुल पॉजिटिव और नेगेटिव पॉइंट से लेकिन आपको यह देखना है कि वह कैसे हो आप ना पॉजिटिव पॉइंट यूज़ करके हमारे देश के विकास और प्रगति करें अपना पूरा चीज जान जवाब दे रहा है अपना WhatsApp में जो है वह देश के लिए सोचने से ही बिताते हैं और रिजल्ट आ गया देख सकते को कैसे फोल्ड करने में और मेक इन इंडिया प्रोग्राम और जितने भी हेयर ग्रोथ एंड डेवलपमेंट प्रोग्राम से उस पर ध्यान देकर हमारे देश की प्रगति की और जो है वह देश को लेकर जा रहे हैं तो सिर्फ आलोचना करना उनका मैंने समझता है यह सही है हां अगर अच्छा काम कर रहे हैं तो उनको कराइए और अगर कुछ गलत डिसीजन उन्होंने ले लिया है क्योंकि कभी-कभी कई लोग गलत डिसीजन ले लेते हैं तो उसके लिए उनको आलोचना करनी चाहिए उनको अपोज़ करना चाहिए जिससे उनको पी लो के हां भाई यह डिसीजन गलत है और कई डिसीजन में से थोड़ा सा फूल और डिबेट फुल रहे हैं जैसे की डिमांड है जिसे हो जाए जिसे आम आदमी को दिक्कत हुआ है मुझे बताओ कि आम आदमी जो है वह इतना थोड़ा बहुत दिक्कत है झेल सकता है अपने देश के विकास और प्रगति करें और बाकी खाली आलोचना करना मैं नहीं समझता कि सही बात हैAditya Ji Yeh Bilkul Nahi Galat Baat Hai Kyonki Kuch Log Jo Hai Wah Khaali Pradhanmantri Ki Jo Galtiya Hai Jo Negative Point Se Khaali Hone Ko Ginaate Hain Aap Dekhen Jo Positive Hone Ke D Pandey Wah Har Ek Aadmi Mein Hote Ki Hum Bhagwan To Hai Nahi Jo Aadmi Desh Se Chala Raha Hai To Usamen Kul Positive Aur Negative Point Se Lekin Aapko Yeh Dekhna Hai Ki Wah Kaise Ho Aap Na Positive Point Use Karke Hamare Desh Ke Vikash Aur Pragati Karen Apna Pura Cheez Jaan Jawab De Raha Hai Apna WhatsApp Mein Jo Hai Wah Desh Ke Liye Sochne Se Hi Bitaate Hain Aur Result Aa Gaya Dekh Sakte Ko Kaise Fold Karne Mein Aur Make In India Program Aur Jitne Bhi Hair Growth End Development Program Se Us Par Dhyan Dekar Hamare Desh Ki Pragati Ki Aur Jo Hai Wah Desh Ko Lekar Ja Rahe Hain To Sirf Aalochana Karna Unka Maine Samajhata Hai Yeh Sahi Hai Haan Agar Accha Kaam Kar Rahe Hain To Unko Karaiye Aur Agar Kuch Galat Decision Unhone Le Liya Hai Kyonki Kabhi Kabhi Kai Log Galat Decision Le Lete Hain To Uske Liye Unko Aalochana Karni Chahiye Unko Apoz Karna Chahiye Jisse Unko P Lo Ke Haan Bhai Yeh Decision Galat Hai Aur Kai Decision Mein Se Thoda Sa Fool Aur Debate Full Rahe Hain Jaise Ki Demand Hai Jise Ho Jaye Jise Aam Aadmi Ko Dikkat Hua Hai Mujhe Batao Ki Aam Aadmi Jo Hai Wah Itna Thoda Bahut Dikkat Hai Jhel Sakta Hai Apne Desh Ke Vikash Aur Pragati Karen Aur Baki Khaali Aalochana Karna Main Nahi Samajhata Ki Sahi Baat Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions


More Answers


लेकिन मेरे ख्याल से यह बात बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि कुछ लोग जो है वह प्रधानमंत्री के बारे में प्रधानमंत्री जी के विरोधी पार्टियां विपक्ष पार्टियों को प्रधानमंत्री के तौर पर रहने वाले व्यक्ति को कॉल करना या ना करना यह बात बिल्कुल भी सही नहीं है हमको भी कुछ बोलता है माननीय प्रधानमंत्री हमारे देश के बारे में कुछ ऐसी बात है कहां लगे प्रधान

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

Romanized Version

लेकिन मेरे ख्याल से यह बात बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि कुछ लोग जो है वह प्रधानमंत्री के बारे में प्रधानमंत्री जी के विरोधी पार्टियां विपक्ष पार्टियों को प्रधानमंत्री के तौर पर रहने वाले व्यक्ति को कॉल करना या ना करना यह बात बिल्कुल भी सही नहीं है हमको भी कुछ बोलता है माननीय प्रधानमंत्री हमारे देश के बारे में कुछ ऐसी बात है कहां लगे प्रधानLekin Mere Khayal Se Yeh Baat Bilkul Bhi Sahi Nahi Hai Kyonki Kuch Log Jo Hai Wah Pradhanmantri Ke Baare Mein Pradhanmantri Ji Ke Virodhi Partyian Vipaksh Partiyon Ko Pradhanmantri Ke Taur Par Rehne Wale Vyakti Ko Call Karna Ya Na Karna Yeh Baat Bilkul Bhi Sahi Nahi Hai Hamko Bhi Kuch Bolta Hai Mananiya Pradhanmantri Hamare Desh Ke Baare Mein Kuch Aisi Baat Hai Kahan Lage Pradhan
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kuch Log Sirf Mananiya Pradhanmantri Ji Ke Baare Mein Aalochana Karte Hain Ye Sahi Hai ?





मन में है सवाल?