हर कोई "स्मार्ट शहरों" के बारे में बात कर रहा है, लेकिन वे वास्तव में क्या है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट था जो कि मोदी जी ने शुरू किया था शुरुआत में यह कम से कम 20 शहरों पर लागू किया गया था इस शहर में लुधियाना जैसे बड़े शहर इन टुडे थे और उस सिटी और स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट था उ...जवाब पढ़िये
देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट था जो कि मोदी जी ने शुरू किया था शुरुआत में यह कम से कम 20 शहरों पर लागू किया गया था इस शहर में लुधियाना जैसे बड़े शहर इन टुडे थे और उस सिटी और स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट था उसका मेन एवं यह था कि वहां के लोग हैं और जो उस शहर में रहते हैं उन्हें हर एक आने से खाना बिजली और यह सब कुछ इंटरनेट और यह सब कुछ जो है और भेजो और जरूरत की चीजें हैं यह सब उन्हें मिले वहां के उस शहर में रहते हुए हर एक व्यक्ति को और वह जो यह सारी चीजें हैं जो नशे सी चीज है एक आम इंसान की जो होती है खाना पीना कुछ लोग तो इतने गरीब होते हैं खाना पीना भी नहीं मिल पाता डंका तो फिर इसलिए प्रोजेक्ट स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट शुरू किया गया था ताकि जो और लोग हैं जो इंडिया है वह थोड़ा और डेवलप हुए और इंडिया में जितने भी शहर है वह सारे स्मार्ट सिटी बन पाएDekhie Smart City Project Tha Jo Ki Modi Ji Ne Shuru Kiya Tha Shuruvat Mein Yeh Kum Se Kum 20 Shaharon Par Laagu Kiya Gaya Tha Is Sheher Mein Ludhiyana Jaise Bade Sheher In Today The Aur Us City Aur Smart City Project Tha Uska Main Evam Yeh Tha Ki Wahan Ke Log Hain Aur Jo Us Sheher Mein Rehte Hain Unhen Har Ek Aane Se Khana Bijli Aur Yeh Sab Kuch Internet Aur Yeh Sab Kuch Jo Hai Aur Bhejo Aur Zaroorat Ki Cheezen Hain Yeh Sab Unhen Mile Wahan Ke Us Sheher Mein Rehte Hue Har Ek Vyakti Ko Aur Wah Jo Yeh Saree Cheezen Hain Jo Nashe Si Cheez Hai Ek Aam Insaan Ki Jo Hoti Hai Khana Peena Kuch Log To Itne Garib Hote Hain Khana Peena Bhi Nahi Mil Pata Danka To Phir Isliye Project Smart City Project Shuru Kiya Gaya Tha Taki Jo Aur Log Hain Jo India Hai Wah Thoda Aur Develop Hue Aur India Mein Jitne Bhi Sheher Hai Wah Sare Smart City Ban Paye
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से खुद और पीएमओ या फिर कह सकता है भाजपा सरकार ने को निकाला है वह स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत जितने भी शहर है जो किंग को चुना गया था ना तो मेरे को जल्दी से से कुछ जगह है ...जवाब पढ़िये
देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से खुद और पीएमओ या फिर कह सकता है भाजपा सरकार ने को निकाला है वह स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत जितने भी शहर है जो किंग को चुना गया था ना तो मेरे को जल्दी से से कुछ जगह है उनको भी शहरों के कुछ नाम होगा उसमें से कुछ शहरों के नाम हो तो वह पुणे है सूरत है अहमदाबाद है लखनऊ में ऐसे कई सारे शहर है आवाज को सरकार पैसा देगी और वह पंख जो है वह से वह सिटी को ज्यादा और डेवलप करने में लगा जाएंगे इसलिए उन शहरों को स्मार्ट शहर का दूध अगर उन चारों में नाम देखे तक कोई सच्चे मित्र नहीं है तू जो दिए गए फॉर्मेट रोक लगाएंगे या फिर हम कह सकते हैं साइकिल पास होंगे फिर कोई नहीं बॉडी Ready मूवीस के लेक दर्शन होंगे और पैसे की सारी तकलीफें होगी या फिर भी ऐसे करें सिटी को और भी ज्यादा खूबसूरत है फिर और डेवलपर बनना है तो का नाका पर यह जो है स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट है और इतनी स्मार्ट शहर है उस समय ऐसा होगाDekhie Smart City Project Se Khud Aur Pmo Ya Phir Keh Sakta Hai Bhajpa Sarkar Ne Ko Nikaala Hai Wah Smart City Project Ke Tahat Jitne Bhi Sheher Hai Jo King Ko Chuna Gaya Tha Na To Mere Ko Jaldi Se Se Kuch Jagah Hai Unko Bhi Shaharon Ke Kuch Naam Hoga Usamen Se Kuch Shaharon Ke Naam Ho To Wah Pune Hai Surat Hai Ahmedabad Hai Lucknow Mein Aise Kai Sare Sheher Hai Aawaj Ko Sarkar Paisa Degi Aur Wah Pankh Jo Hai Wah Se Wah City Ko Jyada Aur Develop Karne Mein Laga Jaenge Isliye Un Shaharon Ko Smart Sheher Ka Dudh Agar Un Charo Mein Naam Dekhe Tak Koi Sacche Mitra Nahi Hai Tu Jo Diye Gaye Format Rok Lgaenge Ya Phir Hum Keh Sakte Hain Cycle Paas Honge Phir Koi Nahi Body Ready Movies Ke Lake Darshan Honge Aur Paise Ki Saree Takalifen Hogi Ya Phir Bhi Aise Karen City Ko Aur Bhi Jyada Khoobsurat Hai Phir Aur Developer Banana Hai To Ka Naka Par Yeh Jo Hai Smart City Project Hai Aur Itni Smart Sheher Hai Us Samay Aisa Hoga
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि हम जानते हैं कि आजकल हर कोई समाचार हो तो बना बात कर रहा है पर वह नहीं देख रहा है कि वह स्मार्ट है कैसे बनाएंगे अपने शहर को जब तक देश में सफाई अपनी जिम्मेदारी नहीं समझेंगे कि वह खुद कोई गलत ना ...जवाब पढ़िये
जैसा कि हम जानते हैं कि आजकल हर कोई समाचार हो तो बना बात कर रहा है पर वह नहीं देख रहा है कि वह स्मार्ट है कैसे बनाएंगे अपने शहर को जब तक देश में सफाई अपनी जिम्मेदारी नहीं समझेंगे कि वह खुद कोई गलत ना लेने आज तक हमने देखा है कि जैसे मैं बात करूं फरीदाबाद की तो फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी डिक्लेयर कर आ गया है पर मैं आपको काफी जगह बता सकती हूं सारी रात में जमा इतना गम पड़ा होता है कि देखने से तो ऐसा लगता है कि वह बहुत ही गंदा एरिया है वह स्मार्ट सिटी दूर-दूर तक नहीं बनने के काबिल है तो ऐसी जगह को देख कर ऐसा लगता है कि लोग हाथ पैरों के बारे में बात तो कर रहे खुद की जिम्मेदारी नहीं समझ पा रहे हैं क्या करना चाहते हैं कि मैं स्मार्ट से बने तो वह देश की साफ-सफाई उन सब चीजों में योगदान दें अगर योगिता नहीं तो कम से कम उसको गंदा खून ना करें क्योंकि लोग खुद ही वहां पर कचरा पहनते हैं और फिर वहां से जा रहे होते तो कहते हैं कितना गंदा एरिया है यह सब योगदान दीजिए आप सरकार को पोस्ट करें केवल उस एरिया को साफ करें तो मुझे लगता है अगर हम खुद योगदान आएंगे तो जरुर तमाशे स्मार्ट शहर कहने के योग्य हो जाएंगेJaisa Ki Hum Jante Hain Ki Aajkal Har Koi Samachar Ho To Bana Baat Kar Raha Hai Par Wah Nahi Dekh Raha Hai Ki Wah Smart Hai Kaise Banayenge Apne Sheher Ko Jab Tak Desh Mein Safaai Apni Jimmedari Nahi Samjhenge Ki Wah Khud Koi Galat Na Lene Aaj Tak Humne Dekha Hai Ki Jaise Main Baat Karun Faridabad Ki To Faridabad Ko Smart City Declare Kar Aa Gaya Hai Par Main Aapko Kafi Jagah Bata Sakti Hoon Saree Raat Mein Jama Itna Gum Pada Hota Hai Ki Dekhne Se To Aisa Lagta Hai Ki Wah Bahut Hi Ganda Area Hai Wah Smart City Dur Dur Tak Nahi Banane Ke Kaabil Hai To Aisi Jagah Ko Dekh Kar Aisa Lagta Hai Ki Log Hath Pairon Ke Baare Mein Baat To Kar Rahe Khud Ki Jimmedari Nahi Samajh Pa Rahe Hain Kya Karna Chahte Hain Ki Main Smart Se Bane To Wah Desh Ki Saaf Safaai Un Sab Chijon Mein Yogdan Dein Agar Yogita Nahi To Kum Se Kum Usko Ganda Khoon Na Karen Kyonki Log Khud Hi Wahan Par Kachra Pehente Hain Aur Phir Wahan Se Ja Rahe Hote To Kehte Hain Kitna Ganda Area Hai Yeh Sab Yogdan Dijiye Aap Sarkar Ko Post Karen Kewal Us Area Ko Saaf Karen To Mujhe Lagta Hai Agar Hum Khud Yogdan Aayenge To Zaroor Tamaashe Smart Sheher Kehne Ke Yogya Ho Jaenge
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रधानमंत्री मोदी ने पुणे में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को लांच किया था पहले फेज में 20 शहरों को इस योजना में शामिल किया गया स्मार्ट सिटी की खास बात होगी अब आधार रहित जीवन इसमें इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी प्र...जवाब पढ़िये
प्रधानमंत्री मोदी ने पुणे में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को लांच किया था पहले फेज में 20 शहरों को इस योजना में शामिल किया गया स्मार्ट सिटी की खास बात होगी अब आधार रहित जीवन इसमें इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी प्रमुख आधार पर होगी अर्थात इसके जरिए कार्यों में तेजी आएगी लोगों को जरूरत की वस्तुएं आसानी से मिल जाएंगी सरकार का कहना है कि स्मार्ट सिटी में डिमांड और सप्लाई पूरी तरह से मार्केट पर आधारित होगी इस से जनता सरकार व कारोबारियों सभी को लाभ होगा स्मार्ट सिटी का कंसेप्ट आर्थिक मंदी के वक्त आया 2001 में IBN पर काम करना शुरू किया 2009 में कई देशों ने इसे अपनाया यूएई साउथ कोरिया व चाइना ने इस पर काम शुरू कर दिया और रिसर्च पर बहुत पैसा खर्च किया मोदी सरकार ने अपने पहले बजट में स्मार्ट सिटी बनाने की घोषणा की थी जॉइन 2016 में सरकार पानी भी शहरों को ऐलान किया था यह प्रोजेक्ट मोदी जी की तीन महत्वकांक्षी योजना में से एक हैPradhanmantri Modi Ne Pune Mein Smart City Project Ko Launch Kiya Tha Pehle Phase Mein 20 Shaharon Ko Is Yojana Mein Shamil Kiya Gaya Smart City Ki Khas Baat Hogi Ab Aadhar Rahit Jeevan Isme Information Technology Pramukh Aadhar Par Hogi Arthat Iske Jariye Kaaryon Mein Teji Aayegi Logon Ko Zaroorat Ki Vastuye Aasani Se Mil Jaengi Sarkar Ka Kehna Hai Ki Smart City Mein Demand Aur Supply Puri Tarah Se Market Par Aadharit Hogi Is Se Janta Sarkar V Karobariyo Sabhi Ko Labh Hoga Smart City Ka Kansept Aarthik Mandi Ke Waqt Aaya 2001 Mein IBN Par Kaam Karna Shuru Kiya 2009 Mein Kai Deshon Ne Ise Apnaya Uae South Korea V China Ne Is Par Kaam Shuru Kar Diya Aur Research Par Bahut Paisa Kharch Kiya Modi Sarkar Ne Apne Pehle Budget Mein Smart City Banane Ki Ghoshana Ki Thi Join 2016 Mein Sarkar Pani Bhi Shaharon Ko Elan Kiya Tha Yeh Project Modi Ji Ki Teen Mahatvakanshi Yojana Mein Se Ek Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Har Koi Smart Shaharon Ke Bare Mein Baat Kar Raha Hai Lekin Ve Vaastav Mein Kya Hai, Everyone Is Talking About "smart Cities", But What Exactly Are They?

vokalandroid