बीरबल कौन था ? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
बीरबल का जन्म महेश दास के नाम से सन 1528 में उत्तर प्रदेश के एक गांव में हुआ था बीरबल मुगल शासक अकबर के दरबार के सबसे प्रसिद्ध सलाहकार थे बीरबल भारतीय इतिहास में उनकी चतुराई के लिए जाने जाते हैं और उन पर लिखित काफी कहानियां भी हमने देखी हैं और पढ़ी भी है जिसमें यह बताया गया है कि कैसे बीरबल अपनी चतुराई का इस्तेमाल करके अकबर की मुश्किलों को हल करते थे संत 1556 से 1562 के बीच में अकबर ने बीरबल को अपने दरबार में कवि के रूप में नियुक्त किया था और बीरबल का मुगल साम्राज्य के साथ बहुत अच्छा संबंध था इस वजह से उन्हें महान मुगल शासक अकबर के नवरत्नों में से एक कहा जाता थाBirbal Ka Janm Mahesh Das Ke Naam Se Sun 1528 Mein Uttar Pradesh Ke Ek Gav Mein Hua Tha Birbal Mughal Shasak Akbar Ke Darbaar Ke Sabse Prasiddh Salahkar The Birbal Bhartiya Itihas Mein Unki Chaturaai Ke Liye Jaane Jaate Hain Aur Un Par Likhit Kafi Kahaniya Bhi Humne Dekhi Hain Aur Padhi Bhi Hai Jisme Yeh Bataya Gaya Hai Ki Kaise Birbal Apni Chaturaai Ka Istemal Karke Akbar Ki Mushkilon Ko Hal Karte The Sant 1556 Se 1562 Ke Beech Mein Akbar Ne Birbal Ko Apne Darbaar Mein Kavi Ke Roop Mein Niyukt Kiya Tha Aur Birbal Ka Mughal Samrajya Ke Saath Bahut Accha Sambandh Tha Is Wajah Se Unhen Mahaan Mughal Shasak Akbar Ke Navaratnon Mein Se Ek Kaha Jata Tha
Likes  15  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
बीरबल मुगल बादशाह अकबर के नवरत्नों में सर्वाधिक लोकप्रिय एक ब्राह्मण दरबार दरबारी था बीरबल की व्यंग्यपूर्ण कहानियां कहानियां और काव्य रचनाओं उन्हें उन्हें प्रसिद्ध बनाया था बीरबल ने दीन ए इलाही अपनाया था और फतेहपुर सिकरी में उनका एक सुंदर मकान था बादशाह अकबर के प्रशासन में बीरबल मुगल दरबार का प्रमुख वजीर था और राज दरबार में उसका बहुत प्रभाव था बीरबल कवियों का बहुत सम्मान करता था वह स्वयं भी ब्रजभाषा का अच्छा जानकार और कविताBirbal Mughal Badshah Akbar Ke Navaratnon Mein Sarvadhik Lokpriya Ek Brahman Darbaar Darabari Tha Birbal Ki Vyangyapurn Kahaniya Kahaniya Aur Kavya Rachnaon Unhen Unhen Prasiddh Banaya Tha Birbal Ne Din A Ilahi Apnaya Tha Aur Fatehpur Sikri Mein Unka Ek Sundar Makan Tha Badshah Akbar Ke Prashasan Mein Birbal Mughal Darbaar Ka Pramukh Wajir Tha Aur Raj Darbaar Mein Uska Bahut Prabhav Tha Birbal Kaviyon Ka Bahut Samman Karta Tha Wah Swayam Bhi Brajbhaashaa Ka Accha Janakar Aur Kavita
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
आ देखे बीरबल जो था वह हिंदू एडवाइजर का सबसे बड़ा और एकलौता एडवाइजर था जो राजा अकबर थे उनका अकबर ने उनको सिंगर और राजा एडवाइजर रखा था 1556 से 1562 के आसपास और उनका जो जन्म है वह उत्तर प्रदेश में हुआ थाAa Dekhe Birbal Jo Tha Wah Hindu Edavaijar Ka Sabse Bada Aur Ekalauta Edavaijar Tha Jo Raja Akbar The Unka Akbar Ne Unko Singer Aur Raja Edavaijar Rakha Tha 1556 Se 1562 Ke Aaspass Aur Unka Jo Janm Hai Wah Uttar Pradesh Mein Hua Tha
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Birbal Kaun Tha ?





मन में है सवाल?