आतंकवाद इस दुनिया में क्यों मौजूद है? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
देखो एकता अगर आपने पौराणिक कथाएं पढ़ी होंगी या वेदों की कुछ कहानियां पढ़ी होंगी या कभी सीरियस देखोगे स्प्रिचुअल सीरियस देखोगे तो तुमने एक चीज हो चुकी होगी कि जहां संत होते हैं वह राक्षस भी होते हैं जहां बाप होता है वहां पर नहीं होता है जो सत्य है वह सत्य भी होता है तो अगर हर जगह सत्य हो तो भी बैलेंस नहीं रहेगा हर जगह महापुरुष हो जाएंगे तो भी बैलेंस नहीं रहेगा तो कुछ ना कुछ बैलेंस होना चाहिए तो मुझे लगता है यही का सबसे बड़ा रीजन है हद इस विश्व के अंदर अगर सब व्यक्ति शांतिप्रिय हो जाएंगे तो बैलेंस बिगड़ जाएगा तू विश्व के अंदर शांति बनी हुई है और आतंक फैलाने वाले आतंकवादी भी हैं यानी अगर इस विश्व में सत्यजित करता है तो झूठ भी एडजस्ट करता है अगर ऐसे व्यक्ति है जो सत कर्म करते हैं तो कुछ हमारे समाज में ऐसे भी लोगों से दुष्कर्म करते हैं तो मुझे लगता है कि इस बैलेंस को बनाए रखने के लिए यात्रा के बाद हमार विश्व के अंदर अगर आतंकवाद नहीं होगा तो बैलेंस नहीं बनेगाDekho Ekta Agar Aapne Peranik Padhi Hongi Ya Vedon Ki Kuch Kahaniya Padhi Hongi Ya Kabhi Serious Serious To Tumne Ek Cheez Ho Chuki Hogi Ki Jahan Sant Hote Hain Wah Rakshas Bhi Hote Hain Jahan Baap Hota Hai Wahan Par Nahi Hota Hai Jo Satya Hai Wah Satya Bhi Hota Hai To Agar Har Jagah Satya Ho To Bhi Balance Nahi Rahega Har Jagah Mahapurush Ho Jaenge To Bhi Balance Nahi Rahega To Kuch Na Kuch Balance Hona Chahiye To Mujhe Lagta Hai Yahi Ka Sabse Bada Reason Hai Had Is Vishwa Ke Andar Agar Sab Vyakti Shantipriye Ho Jaenge To Balance Bigad Jayega Tu Vishwa Ke Andar Shanti Bani Hui Hai Aur Aatank Phailane Wale Aatankwadi Bhi Hain Yani Agar Is Vishwa Mein Karta Hai To Jhuth Bhi Adjust Karta Hai Agar Aise Vyakti Hai Jo Karm Karte Hain To Kuch Hamare Samaaj Mein Aise Bhi Logon Se Dushkarma Karte Hain To Mujhe Lagta Hai Ki Is Balance Ko Banaye Rakhne Ke Liye Yatra Ke Baad Humaar Vishwa Ke Andar Agar Aatankwad Nahi Hoga To Balance Nahi Banega
Likes  9  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
जी हां सर भारत में आतंकवादी बिल्कुल खत्म होगा जिस दिन हम अपनी सोच को थोड़ा सा कंट्रोल में करेंगे सोच अपनी-अपनी चेंज कर लेंगे उसी दिन आतंकवाद खत्म हो जाएगा क्यों क्योंकि हमारी सोच के ऊपर डिपेंड करता है कि हमें आतंकवादी कैसे खत्म करना है मैं भी उसका भी इसका सलूशन है अगर मुझे कोई प्रॉब्लम है तो मैं जाकर अपनी गवर्नमेंट को बताता हूं और गवर्नमेंट उस चीज में एक्शन नहीं लेती है जिस चीज से लिटिल मुझे मजबूरी में मुझे कुछ ऐसे गलत कदम उठाने पड़ते हैं जो कि आतंकवादी का कोई नाम देता है या फिर कोई कुछ भी बोलता है कोई कुछ भी बोलता है ठीक है सबसे पहले हमें हमारा सिस्टम चेंज करना होगा बाद में आतंकवादी को चेंज करने के लिए आतंकवादी हम ही लोगों में से बनता है कोई आतंकवादी नहीं बन के आता नहीं कोई पेट से पैदा होता है आतंकवादी बनते ठीक है कोई उसके पास में टाइम वगैरा नहीं होता कि मैं आतंकवादी हूं थैंक यू सरJi Haan Sar Bharat Mein Aatankwadi Bilkul Khatam Hoga Jis Din Hum Apni Soch Ko Thoda Sa Control Mein Karenge Soch Apni Apni Change Kar Lenge Ussi Din Aatankwad Khatam Ho Jayega Kyon Kyonki Hamari Soch Ke Upar Depend Karta Hai Ki Hume Aatankwadi Kaise Khatam Karna Hai Main Bhi Uska Bhi Iska Salution Hai Agar Mujhe Koi Problem Hai To Main Jaakar Apni Government Ko Batata Hoon Aur Government Us Cheez Mein Action Nahi Leti Hai Jis Cheez Se Little Mujhe Majburi Mein Mujhe Kuch Aise Galat Kadam Uthane Padate Hain Jo Ki Aatankwadi Ka Koi Naam Deta Hai Ya Phir Koi Kuch Bhi Bolta Hai Koi Kuch Bhi Bolta Hai Theek Hai Sabse Pehle Hume Hamara System Change Karna Hoga Baad Mein Aatankwadi Ko Change Karne Ke Liye Aatankwadi Hum Hi Logon Mein Se Banta Hai Koi Aatankwadi Nahi Ban Ke Aata Nahi Koi Pet Se Paida Hota Hai Aatankwadi Bante Theek Hai Koi Uske Paas Mein Time Vagaira Nahi Hota Ki Main Aatankwadi Hoon Thank You Sar
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
यह तो पॉजिटिव नेगेटिव की लड़ाई है जी ना जाने कब से चली आ रही है ना जाने कब तक चलेगी राम है तो रावण भी है पर यह भी सत्य है कि रावण हमेशा मारा जाएगा और राम हमेशा पूजा वैसे ही आतंकवाद और इंसानियत अपनी सीट बेल्ट बांध लीजिए और चल पड़ी है डिसाइड आपको करना है क्याYeh To Positive Negative Ki Ladai Hai Ji Na Jaane Kab Se Chali Aa Rahi Hai Na Jaane Kab Tak Chalegi Ram Hai To Ravan Bhi Hai Par Yeh Bhi Satya Hai Ki Ravan Hamesha Mara Jayega Aur Ram Hamesha Puja Waise Hi Aatankwad Aur Insaniyat Apni Seat Belt Bandh Lijiye Aur Chal Padi Hai Decide Aapko Karna Hai Kya
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Aatankwad Is Duniya Mein Kyun Maujud Hai





मन में है सवाल?