दलितों पर अत्याचार क्यों हो रहा है ? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
दलितों में जागृति आ रही हैं लेकिन दलितों पर हो रहे हमलों में भी काफी इजाफा आया है और इसका स्वरूप और भी बहुत ज्यादा बर्बाद होते जा रहे हैं क्योंकि भारत में कितनी भी अगर मान लीजिए आर्थिक तरक्की हो जाएं और भारत बहुत पढ़ा लिखा हो जाए और इसके लिए वह काफी जश्न मनाने लेकिन यहां का सामान जो है वह वैचारिक तौर पर अभी भी रूढ़िवादी जकड़न उसे बाहर नहीं निकलता है क्योंकि आए दिन हम से ऐसी समाचार सुनते हैं जहां पर दलितों पर काफी हमले वगैरा हो रहे हैं और उनके साथ भेदभाव किया जा रहे हैं तो मेरे मुताबिक इसका यह मेन रीजन है कि लोग जो हैं ना जो अपने आप को स्वर्ण बोलते हैं या फिर ऊंची जाति के बोलते हैं उनकी मानसिकता जो है वह बहुत नीची है और उन्हें कानून का भय भी नहीं है तभी आप बहुत सारे ऐसे मामले सामने आते हैं हरियाणा बिहार राजस्थान आंध्र प्रदेश और कुछ और अदर स्टेट से ऐसी घटनाओं में काफी आगे हैं जहां दलितों पर ज्यादा का हमला या फिर भेदभाव होता हैं और दलित स्त्रियों पर अत्याचार तो और भी ज्यादा होता है और यह हमारे समाज की एक बहुत बड़ी परेशानी है और एक शर्म की बात है कहा जाता था कि भारत जब औद्योगीकरण और शहरीकरण में काफी आगे पहुंच जाएगा तो लोग शिक्षित हो जाएंगे और यह आधुनिक मूल्यों का प्रसार होगा लेकिन यह सिद्धांत भारत के संदर्भ में नाकाम रहा है इसी अर्बन स्क्वायर में दलितों जो मतलब दलित छात्र हैं वह कई आत्महत्या करने पर मजबूर हो गए हैं क्योंकि उन्हें इतना ज्यादा परेशान किया जा रहा है तो मेरे मुताबिक तो सरकार को बहुत ज्यादा कड़े कदम उठाने चाहिए उन लोगों के खिलाफ जो इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और हमारी जो सुप्रीम कोर्ट है उसे भी सख्त रवैया अपनाना चाहिए इस तरह की घटनाओं को लेकर तभी जाकर के दलितों के खिलाफ हो रहे हैं और यह जो गलत घटनाएं हैं उस परDalito Mein Jagriti Aa Rahi Hain Lekin Dalito Par Ho Rahe Hamlon Mein Bhi Kafi Ijafa Aaya Hai Aur Iska Swaroop Aur Bhi Bahut Jyada Barbad Hote Ja Rahe Hain Kyonki Bharat Mein Kitni Bhi Agar Maan Lijiye Aarthik Tarakki Ho Jayen Aur Bharat Bahut Padha Likha Ho Jaye Aur Iske Liye Wah Kafi Jashn Manane Lekin Yahan Ka Saamaan Jo Hai Wah Vaicharik Taur Par Abhi Bhi Rudhivadi Jakdan Use Bahar Nahi Nikalta Hai Kyonki Aaye Din Hum Se Aisi Samachar Sunte Hain Jahan Par Dalito Par Kafi Hamle Vagaira Ho Rahe Hain Aur Unke Saath Bhedbhav Kiya Ja Rahe Hain To Mere Mutabik Iska Yeh Main Reason Hai Ki Log Jo Hain Na Jo Apne Aap Ko Swarn Bolte Hain Ya Phir Unchi Jati Ke Bolte Hain Unki Mansikta Jo Hai Wah Bahut Nichi Hai Aur Unhen Kanoon Ka Bhay Bhi Nahi Hai Tabhi Aap Bahut Sare Aise Mamle Samane Aate Hain Haryana Bihar Rajasthan Andhra Pradesh Aur Kuch Aur Other State Se Aisi Ghatnaon Mein Kafi Aage Hain Jahan Dalito Par Jyada Ka Hamla Ya Phir Bhedbhav Hota Hain Aur Dalit Sthreeyon Par Atyachar To Aur Bhi Jyada Hota Hai Aur Yeh Hamare Samaaj Ki Ek Bahut Badi Pareshani Hai Aur Ek Sharm Ki Baat Hai Kaha Jata Tha Ki Bharat Jab Audyogikaran Aur Shaharikaran Mein Kafi Aage Pahunch Jayega To Log Shikshit Ho Jaenge Aur Yeh Aadhunik Mulyon Ka Prasaar Hoga Lekin Yeh Siddhant Bharat Ke Sandarbh Mein Nakam Raha Hai Isi Urban Square Mein Dalito Jo Matlab Dalit Chatra Hain Wah Kai Aatmahatya Karne Par Majboor Ho Gaye Hain Kyonki Unhen Itna Jyada Pareshan Kiya Ja Raha Hai To Mere Mutabik To Sarkar Ko Bahut Jyada Kade Kadam Uthane Chahiye Un Logon Ke Khilaf Jo Is Tarah Ki Ghatnaon Ko Anjaam De Rahe Hain Aur Hamari Jo Supreme Court Hai Use Bhi Sakht Ravaiya Apnana Chahiye Is Tarah Ki Ghatnaon Ko Lekar Tabhi Jaakar Ke Dalito Ke Khilaf Ho Rahe Hain Aur Yeh Jo Galat Ghatnaye Hain Us Par
Likes  18  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
देखेगा सत्य है कि पहले के जमाने में दलितों पर बहुत ही ज्यादा अत्याचार हुआ करते थे और उनको बहुत ही नीची जाति समझा जाता था और इसीलिए जो ऊंची जाति के लोग हुआ करते थे वह सब उनको नीची जात का मानकर उनके ऊपर बहुत ज्यादा अत्याचार करते तो उनके बहुत ही ज्यादा शोषण उत्पीड़न भी हुआ करता था लेकिन आज के समय में यह सब यह सब चीजें बदल चुकी हैं और अगर ऐसा कहीं भी हो रहा है कोई भी दलितों पर अत्याचार हो रहा है तो वह जाकर पुलिस में कंप्लेंट कर सकते हैं और जिसने भी ऐसा किया है उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही होगी लेकिन जो सबसे बड़ा कारण है दलितों पर अत्याचार का वह यह बात है कि हमारे देश में कितना भी तरक्की हो जाए लेकिन जो रोड रूढ़िवादी सोच है कि दलित नीची जाति के हैं और उनका ऊपर की जाति के लोगों के साथ बैठना उठना कि उनसे बात करना गलत माना जाता है और इसको बहुत ही ज्यादा बढ़ा चीज मानी जाती है कि अगर कोई भी दलितों पर के समाज के लोगों से बात करेगा तो यह समाज वाली की भेजें होगी तो यही कारण है कि लोग दलितों पर आसानी से अत्याचार कर लेते हैं और दलित भी चीज का कभी भी जवाब नहीं दे पाते उनको यह लगता है कि हम नहीं चाहते कि हम खुद ही हैं तो हमारे ऊपर जो अत्याचार हो रहा है वह हम उस चीज का जवाब नहीं दे सकते पर ऐसा नहीं है अगर वह चाहे तो कंप्लीट कर सकते हैं क्योंकि हमारे देश में सभी को समान अधिकार दिए गए हैं तो किसी को भी जाति के नाम से विभाजित नहीं करा गया है तो आप आगे बढ़े अपनी जागृति बढ़ाएं और अगर आपके ऊपर अत्याचार हो रहा है तो आप जरूर उसके खिलाफ कंप्लेंट करें आवाज़ उठाएं तभी शायद आपका समाज बदल पाएगा वरना अगर आप जान अपनी अत्याचार के ऊपर भी आवाज नहीं उठा पा रहे हैं तो शायद सबसे बड़े दोषी तो आप ही हैंDekhega Satya Hai Ki Pehle Ke Jamaane Mein Dalito Par Bahut Hi Jyada Atyachar Hua Karte The Aur Unko Bahut Hi Nichi Jati Samjha Jata Tha Aur Isliye Jo Unchi Jati Ke Log Hua Karte The Wah Sab Unko Nichi Jaat Ka Manakar Unke Upar Bahut Jyada Atyachar Karte To Unke Bahut Hi Jyada Shoshan Utpidan Bhi Hua Karta Tha Lekin Aaj Ke Samay Mein Yeh Sab Yeh Sab Cheezen Badal Chuki Hain Aur Agar Aisa Kahin Bhi Ho Raha Hai Koi Bhi Dalito Par Atyachar Ho Raha Hai To Wah Jaakar Police Mein Complaint Kar Sakte Hain Aur Jisne Bhi Aisa Kiya Hai Uske Khilaf Sakht Se Sakht Karyavahi Hogi Lekin Jo Sabse Bada Kaaran Hai Dalito Par Atyachar Ka Wah Yeh Baat Hai Ki Hamare Desh Mein Kitna Bhi Tarakki Ho Jaye Lekin Jo Road Rudhivadi Soch Hai Ki Dalit Nichi Jati Ke Hain Aur Unka Upar Ki Jati Ke Logon Ke Saath Baithana Uthana Ki Unse Baat Karna Galat Mana Jata Hai Aur Isko Bahut Hi Jyada Badha Cheez Maani Jati Hai Ki Agar Koi Bhi Dalito Par Ke Samaaj Ke Logon Se Baat Karega To Yeh Samaaj Wali Ki Bheje Hogi To Yahi Kaaran Hai Ki Log Dalito Par Aasani Se Atyachar Kar Lete Hain Aur Dalit Bhi Cheez Ka Kabhi Bhi Jawab Nahi De Paate Unko Yeh Lagta Hai Ki Hum Nahi Chahte Ki Hum Khud Hi Hain To Hamare Upar Jo Atyachar Ho Raha Hai Wah Hum Us Cheez Ka Jawab Nahi De Sakte Par Aisa Nahi Hai Agar Wah Chahe To Complete Kar Sakte Hain Kyonki Hamare Desh Mein Sabhi Ko Saman Adhikaar Diye Gaye Hain To Kisi Ko Bhi Jati Ke Naam Se Vibhajit Nahi Kra Gaya Hai To Aap Aage Badhe Apni Jagriti Badhaye Aur Agar Aapke Upar Atyachar Ho Raha Hai To Aap Jarur Uske Khilaf Complaint Karen Aawaz Uthaen Tabhi Shayad Aapka Samaaj Badal Payega Varana Agar Aap Jaan Apni Atyachar Ke Upar Bhi Aawaj Nahi Utha Pa Rahe Hain To Shayad Sabse Bade Doshi To Aap Hi Hain
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
नमस्कार दोस्तों किसी पर होने वाले अत्याचार का मुख्य कारण अत्याचार को बर्दाश्त करना उसे सहना होता है दलितों पर होने वाले अत्याचार का भी मुख्य कारण यही है कि दलित उसे बर्दाश्त करते हैं उसका विरोध नहीं करते जिसके कारण उन्हें पीड़ित किया जाता हूं मैं दंडित किया जाता इसका दूसरा पहलू यह हो सकता है कि दलित अपने अधिकार को पूर्ण रुप से नहीं जानते जिसके कारण वह इसका विरोध नहीं कर पाते जिस प्रकार भारतीयों पर अंग्रेज लोग अत्याचार करते थे जब भारतीयों को अपने अधिकार का पता चला तो अंग्रेज को भारत छोड़कर जाना पड़ा ठीक उसी प्रकार जब दलित को अपने अधिकार का प्रयोग पता चला जाएगा दलित पर होने वाले अत्याचार खुद-ब-खुद कम हो जाएंगेNamaskar Doston Kisi Par Hone Wale Atyachar Ka Mukhya Kaaran Atyachar Ko Bardaasht Karna Use Sahana Hota Hai Dalito Par Hone Wale Atyachar Ka Bhi Mukhya Kaaran Yahi Hai Ki Dalit Use Bardaasht Karte Hain Uska Virodh Nahi Karte Jiske Kaaran Unhen Peedit Kiya Jata Hoon Main Dandit Kiya Jata Iska Doosra Pahaloo Yeh Ho Sakta Hai Ki Dalit Apne Adhikaar Ko Poorn Roop Se Nahi Jante Jiske Kaaran Wah Iska Virodh Nahi Kar Paate Jis Prakar Bharatiyon Par Angrej Log Atyachar Karte The Jab Bharatiyon Ko Apne Adhikaar Ka Pata Chala To Angrej Ko Bharat Chodkar Jana Pada Theek Ussi Prakar Jab Dalit Ko Apne Adhikaar Ka Prayog Pata Chala Jayega Dalit Par Hone Wale Atyachar Khud B Khud Kum Ho Jaenge
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Dalito Par Atyachar Kyun Ho Raha Hai ?





मन में है सवाल?