search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

क्या मंदिरों को लाउडस्पीकर्ज़ इस्तेमाल करने के लिए परमिशन लेनी ज़रूरी होनी चाहिए? ...

5 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और बड़की वर्कर वीरानियां की रियल लाइफ...
जवाब पढ़िये
और बड़की वर्कर वीरानियां की रियल लाइफAur Badaki Worker Viraniyan Ki Real Life
Likes  14  Dislikes    views  2535
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

ques_icon

ques_icon

अधिक जवाब


5 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सही और करूंगा लेकिन अब जोश पिक लगाते एक दुश्मनों की बिल्कुल अगर ज्यादा हो सके ना कोई...
जवाब पढ़िये
बिल्कुल सही और करूंगा लेकिन अब जोश पिक लगाते एक दुश्मनों की बिल्कुल अगर ज्यादा हो सके ना कोईBilkul Sahi Aur Karunga Lekin Ab Josh Pic Lagate Ek Dushmano Ki Bilkul Agar Zyada Ho Sake Na Koi
Likes  18  Dislikes    views  2995
WhatsApp_icon
5 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे साथ से मंदिर में लाउडस्पीकर होना ही नहीं चाहिए किसी पुराने सामान और उसको कैसे लगाए जाते अलार्म सिस्टम नहीं होता था तो उनको उठाने के लिए और करने के लिए किसी का भी काम कर दो...
जवाब पढ़िये
मेरे साथ से मंदिर में लाउडस्पीकर होना ही नहीं चाहिए किसी पुराने सामान और उसको कैसे लगाए जाते अलार्म सिस्टम नहीं होता था तो उनको उठाने के लिए और करने के लिए किसी का भी काम कर दोMere Saath Se Mandir Mein Loudspeaker Hona Hi Nahi Chahiye Kisi Purane Saamaan Aur Usko Kaise Lagaye Jaate Alarm System Nahi Hota Tha Toh Unko Uthane Ke Liye Aur Karne Ke Liye Kisi Ka Bhi Kaam Kar Do
Likes  14  Dislikes    views  2560
WhatsApp_icon
5 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमको से कोई भी धर्म हो उनको अपने अंदर बजाना चाहिए बाहर नहीं बजाना चाहिए और मंदिर के अंदर यदि पूजा भी करते हैं तो शांति से होती है तो ज्यादा बढ़िया रहती है और हम भी अपने पूजा पाठ करते हैं तो उसको थोड़ी...
जवाब पढ़िये
हमको से कोई भी धर्म हो उनको अपने अंदर बजाना चाहिए बाहर नहीं बजाना चाहिए और मंदिर के अंदर यदि पूजा भी करते हैं तो शांति से होती है तो ज्यादा बढ़िया रहती है और हम भी अपने पूजा पाठ करते हैं तो उसको थोड़ी धीमी आवाज में ही करते तो अच्छा रहता है इसी तरह केवल मंदिरों मस्जिदों गुरुद्वारा हो तब मैं यदि धीमी आवाज में बात करी जाए धीमी आवाज में लोड स्पीकर लगाए जाए उसमें कोई हर्ज नहीं है मुंह से दूसरे को किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए पर
Likes  4  Dislikes    views  1002
WhatsApp_icon
5 जवाब देखें >

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सर अरुण जी हां अगर मैं आपको पसंद नहीं हूं तो मेरे साथ से बिल्कुल जरूरी है क्योंकि अगर ऑब्जेक्शन नहीं पी है फिर भी सर हम लोगों को आसपास के लोगों को से पूछना चाहिए कि उनको कोई दिक्कत है या नहीं आप...
जवाब पढ़िये
देखिए सर अरुण जी हां अगर मैं आपको पसंद नहीं हूं तो मेरे साथ से बिल्कुल जरूरी है क्योंकि अगर ऑब्जेक्शन नहीं पी है फिर भी सर हम लोगों को आसपास के लोगों को से पूछना चाहिए कि उनको कोई दिक्कत है या नहीं आपको पता है जैसे हमारे हिंदुओं में अगर मंदिर में मिलाकर लगाते हैं तो काफी लोगों को दिक्कत होती ह द रिलीजन को दिक्कत होती है जो हिंदू है उनको भी दिक्कत होती है क्योंकि इसमें काफी आवाज आती है और कुछ लोग अपना काम नहीं कर पाते तुम को जो काम करना होता है तो वह कई लोग इन सब चीजों में इंटरेस्ट नहीं रखते हैं तो फिर इन सब चीजों को क्यों सुने तो बिल्कुल हम लोगों को अगर लड़की कर लगाना है और गवर्नमेंट की तरफ जैकसन नहीं भी है फिर भी मुंह का आस पास एक बार पूछ लेना चाहिए भाई कोई दिक्कत है या नहीं मुझे तो ऐसा लगता है कि यह करना सही होगा क्योंकि हम लोग जो हमारे हिंदी न्यूज़ जो भी सच्ची से जबरदस्ती नहीं तो दिक्कत नहीं हूं तुम मेरे साथ से पूछना सही होगा हमारे लिए भी और सामने वाले केDekhie Sar Arun Ji Haan Agar Main Aapko Pasand Nahi Hoon To Mere Saath Se Bilkul Zaroori Hai Kyonki Agar Objection Nahi P Hai Phir Bhi Sar Hum Logon Ko Aaspass Ke Logon Ko Se Poochna Chahiye Ki Unko Koi Dikkat Hai Ya Nahi Aapko Pata Hai Jaise Hamare Hinduon Mein Agar Mandir Mein Milakar Lagate Hain To Kafi Logon Ko Dikkat Hoti H D Rilijan Ko Dikkat Hoti Hai Jo Hindu Hai Unko Bhi Dikkat Hoti Hai Kyonki Isme Kafi Aawaj Aati Hai Aur Kuch Log Apna Kaam Nahi Kar Paate Tum Ko Jo Kaam Karna Hota Hai To Wah Kai Log In Sab Chijon Mein Interest Nahi Rakhate Hain To Phir In Sab Chijon Ko Kyun Sune To Bilkul Hum Logon Ko Agar Ladki Kar Lagana Hai Aur Government Ki Taraf Jaikasan Nahi Bhi Hai Phir Bhi Mooh Ka Aas Paas Ek Baar Pooch Lena Chahiye Bhai Koi Dikkat Hai Ya Nahi Mujhe To Aisa Lagta Hai Ki Yeh Karna Sahi Hoga Kyonki Hum Log Jo Hamare Hindi News Jo Bhi Sachhi Se Jabardasti Nahi To Dikkat Nahi Hoon Tum Mere Saath Se Poochna Sahi Hoga Hamare Liye Bhi Aur Samane Wale Ke
Likes  8  Dislikes    views  1510
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kya Mandiro Ko Laudaspikarz Istemal Karne Ke Liye Permission Leni Zaroori Honi Chahiye,Should Temples Need Permission To Use Loudspeakers?,Permission Lena Chahiye,


vokalandroid