राजस्थान में चौहानों की राजधानी क्या थी ? ...

Likes  0  Dislikes

4 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
राजस्थान में चौहानों की राजधानी क्या थी तो अब हम बात करें चौहान शासक की तो अजमेर को जो है सबसे पहले अपनी राजधानी बनाया गया था अजय राज जी के द्वारा और अजय जी ने अजमेर को जो है अपनी पहली राजधानी बनाई थी चौहान शासक के लिए और दूसरी बात करने उत्तर भारत की चौहान शासकों की जो प्रथम राजधानी थी वह थी संवादRajasthan Mein Chauhano Ki Rajdhani Kya Thi To Ab Hum Baat Karen Chauhan Shasak Ki To Ajmer Ko Jo Hai Sabse Pehle Apni Rajdhani Banaya Gaya Tha Ajay Raj Ji Ke Dwara Aur Ajay Ji Ne Ajmer Ko Jo Hai Apni Pehli Rajdhani Banai Thi Chauhan Shasak Ke Liye Aur Dusri Baat Karne Uttar Bharat Ki Chauhan Shaasko Ki Jo Pratham Rajdhani Thi Wah Thi Sanvaad
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
राजस्थान में चौहानों का राजधानी आहे छतरपुर नागौर थीRajasthan Mein Chauhano Ka Rajdhani Aahe Chatarpur Nagaur Thi
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
राजस्थान में चौहानों की राजधानी थी छतरपुर नागौरRajasthan Mein Chauhano Ki Rajdhani Thi Chatarpur Nagaur
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions


More Answers


चौहानों की मूल स्थान के संबंध में मान्यता है कि वह संपदा लक्ष्य एवं जंगल प्रदेश के आसपास रहते थे उनकी राजधानी थी चित्र पर जो आज की तारीख में नागौर माना है और संपादक के चौहान का आदि पुरुष वासुदेव था जिसका समय से 551 ईसवी के लगभग अनुमानित था

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

Romanized Version

चौहानों की मूल स्थान के संबंध में मान्यता है कि वह संपदा लक्ष्य एवं जंगल प्रदेश के आसपास रहते थे उनकी राजधानी थी चित्र पर जो आज की तारीख में नागौर माना है और संपादक के चौहान का आदि पुरुष वासुदेव था जिसका समय से 551 ईसवी के लगभग अनुमानित थाChauhano Ki Mul Sthan Ke Sambandh Mein Manyata Hai Ki Wah Sampada Lakshya Evam Jungle Pradesh Ke Aaspass Rehte The Unki Rajdhani Thi Chitra Par Jo Aaj Ki Tarikh Mein Nagaur Mana Hai Aur Sampadak Ke Chauhan Ka Aadi Purush Vasudev Tha Jiska Samay Se 551 Isavi Ke Lagbhag Anumaneet Tha
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Rajasthan Mein Chauhano Ki Rajdhani Kya Thi ?





मन में है सवाल?