राहुल द्रविड़ के जीवन पर आधारित 'द वॉल' नामक एक कॉमिक पुस्तक जारी की गई है, किताब क्यों?! फिल्म बनना चाहिए ना? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल द्रविड एक बहुत बड़ा खिलाड़ी है इन पर मूवी भी मन नहीं चाहिए और वह कब लांच हुई हुई है तो मुझे लगता कि हमको आप किसी ऑफिस में समेट सकते हैं जितना हो सके आप तरीके इस्तेमाल कीजिए इन प्रमुख लिखिए इन पर...जवाब पढ़िये
राहुल द्रविड एक बहुत बड़ा खिलाड़ी है इन पर मूवी भी मन नहीं चाहिए और वह कब लांच हुई हुई है तो मुझे लगता कि हमको आप किसी ऑफिस में समेट सकते हैं जितना हो सके आप तरीके इस्तेमाल कीजिए इन प्रमुख लिखिए इन पर मूवी बनाई है इन पर आप ब्लॉक लिखे आप इन पर बातचीत कीजिए बहुत बड़ी कमी नहीं आएगी क्योंकि यह सबका अपना-अपना पर्सपेक्टिव हो सकता है कि राहुल द्रविड बहुत बड़ा सब्जेक्ट है मीडिया के लिए लेकिन अगर आप उनके लिए कुछ करते हैं तो भी वह बहाने नहीं करते तो भी वह महान हैRahul Dravid Ek Bahut Bada Khiladi Hai In Par Movie Bhi Man Nahi Chahiye Aur Wah Kab Launch Hui Hui Hai To Mujhe Lagta Ki Hamko Aap Kisi Office Mein Samet Sakte Hain Jitna Ho Sake Aap Tarike Istemal Kijiye In Pramukh Likhiye In Par Movie Banai Hai In Par Aap Block Likhe Aap In Par Batchit Kijiye Bahut Badi Kami Nahi Aayegi Kyonki Yeh Sabka Apna Apna Parsapektiv Ho Sakta Hai Ki Rahul Dravid Bahut Bada Subject Hai Media Ke Liye Lekin Agar Aap Unke Liye Kuch Karte Hain To Bhi Wah Bahaane Nahi Karte To Bhi Wah Mahaan Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गांधी के यह बिल्कुल आप ऐसा ही सवाल पूछा है कि उन पर किताब क्यों रिलीज हो रही है उन पर मूवी जाना चाहिए जाता है कि आजकल बात ना खास और बड़े जोर स्पोर्ट्स मैनेजरों ने देश के लिए बहुत ही अच्छा वर्तमान एक्स...जवाब पढ़िये
गांधी के यह बिल्कुल आप ऐसा ही सवाल पूछा है कि उन पर किताब क्यों रिलीज हो रही है उन पर मूवी जाना चाहिए जाता है कि आजकल बात ना खास और बड़े जोर स्पोर्ट्स मैनेजरों ने देश के लिए बहुत ही अच्छा वर्तमान एक्स्ट्राऑर्डिनरी खान के मूवीस बनाई जा रही है फिल्में बनाई जा रही है जैसे कि एम एस धोनी सचिन तेंदुलकर और मीका सिंह बनाए जा रहे हैं तो यहां पर भी बनना चाहिए और अगर किसी फिल्म डायरेक्टर प्रोडूसर को अगर उनकी स्टोरी पसंद आती है तो वह जरुर उसको उसकी जो स्क्रिप्ट है बनाकर उसको फिल्म के रूप में लाएंगे और पहले जो है वह किताब नहीं जाते सचिन तेंदुलकर की भेजो पहले आई थी उसके बाद उस पर भेज जो है वह मूवी बनाई गई तो अगर वह रिलीज हो रही है तो इंडिकेशन है कि उन पर मूवी BF किचन में बनने वाली है अगर किसी भाई को पसंद आता है तो जरूर उस पर मूवी बनाकर है उसको रिलीज करेगाGandhi Ke Yeh Bilkul Aap Aisa Hi Sawal Poocha Hai Ki Un Par Kitab Kyun Release Ho Rahi Hai Un Par Movie Jana Chahiye Jata Hai Ki Aajkal Baat Na Khas Aur Bade Jor Sports Mainejaron Ne Desh Ke Liye Bahut Hi Accha Vartaman Extraordinary Khan Ke Movies Banai Ja Rahi Hai Filme Banai Ja Rahi Hai Jaise Ki Em S Dhoni Sachin Tendulkar Aur Mika Singh Banaye Ja Rahe Hain To Yahan Par Bhi Banana Chahiye Aur Agar Kisi Film Director Producer Ko Agar Unki Story Pasand Aati Hai To Wah Zaroor Usko Uski Jo Script Hai Banakar Usko Film Ke Roop Mein Layenge Aur Pehle Jo Hai Wah Kitab Nahi Jaate Sachin Tendulkar Ki Bhejo Pehle Eye Thi Uske Baad Us Par Bhej Jo Hai Wah Movie Banai Gayi To Agar Wah Release Ho Rahi Hai To Indication Hai Ki Un Par Movie BF Kitchen Mein Banane Wali Hai Agar Kisi Bhai Ko Pasand Aata Hai To Jarur Us Par Movie Banakar Hai Usko Release Karega
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ठीक है राहुल अभी भारत के बहुत अच्छे खिलाड़ी रह चुके हैं हर खिलाड़ी के ऊपर एक बुक लिखना यह फिल्म नाना इधर में बहुत ही बड़े बेईमान लोगों को ध्यान में रखना होता है जब भी कोई डेट फिल्म बनाते हैं तो वह कई ...जवाब पढ़िये
ठीक है राहुल अभी भारत के बहुत अच्छे खिलाड़ी रह चुके हैं हर खिलाड़ी के ऊपर एक बुक लिखना यह फिल्म नाना इधर में बहुत ही बड़े बेईमान लोगों को ध्यान में रखना होता है जब भी कोई डेट फिल्म बनाते हैं तो वह कई सारे तथ्य जो वास्तविकता में उस इंसान की जिंदगी से नहीं जुड़े होते हैं उन्हें फिल्में दर्शाता है इसके पीछे एक कारण यह होता है कि वह चाहता है क्योंकि फिल्म को ज्यादा ज्यादा लोग थे जिससे ज्यादा ज्यादा कमाई कर सके जब किसी से की जाती है जो किताब सभी को अपने लक्ष्य को पाने में मदद करें उन्हें हमेशा अपने राह में बनाए रखें उसकी जीवन शैली को दर्शाता है इसलिए मेरा मानना है कि किसी के ऊपर बुक लिखना और किसी पर फिल्म 9:00 इंदौर में ज्यादा ठीक रहता है कि इंसान को भूख लगी है जिसे ज्यादा जा लो उसको हमें सही तरीके से जान सकेTheek Hai Rahul Abhi Bharat Ke Bahut Acche Khiladi Rah Chuke Hain Har Khiladi Ke Upar Ek Book Likhna Yeh Film Nana Idhar Mein Bahut Hi Bade Beiiman Logon Ko Dhyan Mein Rakhna Hota Hai Jab Bhi Koi Date Film Banate Hain To Wah Kai Sare Tathya Jo Vastavikta Mein Us Insaan Ki Zindagi Se Nahi Jude Hote Hain Unhen Filme Darshaata Hai Iske Piche Ek Kaaran Yeh Hota Hai Ki Wah Chahta Hai Kyonki Film Ko Jyada Jyada Log The Jisse Jyada Jyada Kamai Kar Sake Jab Kisi Se Ki Jati Hai Jo Kitab Sabhi Ko Apne Lakshya Ko Pane Mein Madad Karen Unhen Hamesha Apne Raah Mein Banaye Rakhen Uski Jeevan Shaili Ko Darshaata Hai Isliye Mera Manana Hai Ki Kisi Ke Upar Book Likhna Aur Kisi Par Film 9:00 Indore Mein Jyada Theek Rehta Hai Ki Insaan Ko Bhukh Lagi Hai Jise Jyada Ja Lo Usko Hume Sahi Tarike Se Jaan Sake
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Rahul Dravid Ke Jeevan Par Aadharit The Wall Namak Ek Comic Pustak Jaari Ki Gayi Hai Kitab Kyon Film Banana Chahiye Na, द ग्रेट रिवॉल्ट नामक पुस्तक के लेखक कौन है

vokalandroid