सुभाष चंद्र बोस को वास्तव में क्या हुआ था ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हम सब लोगों का यह मानना है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस सही मायने में प्लेन क्रैश में मारे थे लेकिन यह सब हालांकि एक रूम और माना जाता है और यह सिर्फ एक कहानी रची गई थी या बनाई गई थी ताकि वो आराम से ...जवाब पढ़िये

देखिए हम सब लोगों का यह मानना है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस सही मायने में प्लेन क्रैश में मारे थे लेकिन यह सब हालांकि एक रूम और माना जाता है और यह सिर्फ एक कहानी रची गई थी या बनाई गई थी ताकि वो आराम से सोवियत यूनियन भागने में कामयाब हो सके लेकिन वास्तव में नेताजी सुभाष चंद्र बोस प्लेन क्रैश में नहीं बल्कि अंग्रेजों की पूछताछ के दौरान एक जेल में कैद में मारे गए थे तड़पा तड़पा कर एक कैद में मारे गए थेDekhie Hum Sab Logon Ka Yeh Manana Hai Ki Netaji Subhash Chandra Bose Sahi Maayne Mein Plane Crash Mein Maare The Lekin Yeh Sab Halanki Ek Room Aur Mana Jata Hai Aur Yeh Sirf Ek Kahani Rachi Gayi Thi Ya Banai Gayi Thi Taki Vo Aaram Se Soviet Union Bhagne Mein Kamyab Ho Sake Lekin Vaastav Mein Netaji Subhash Chandra Bose Plane Crash Mein Nahi Balki Angrejo Ki Puchhtaach Ke Dauran Ek Jail Mein Kaid Mein Maare Gaye The Tadapa Tadapa Kar Ek Kaid Mein Maare Gaye The
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


नेताजी सुभाष चंद्र बोस को वास्तव में हुआ क्या था वह रियालिटी में मरे कैसे थे कि अभी तक रहस्य की बात है मेरे हिसाब से क्योंकि हम उन्हें हुआ क्या था उनकी मौत का कारण क्या है इसके पीछे कई केक बहुत ज्यादा ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।


नेताजी सुभाष चंद्र बोस को वास्तव में हुआ क्या था वह रियालिटी में मरे कैसे थे कि अभी तक रहस्य की बात है मेरे हिसाब से क्योंकि हम उन्हें हुआ क्या था उनकी मौत का कारण क्या है इसके पीछे कई केक बहुत ज्यादा कहानियां है और कुछ लोग कहते हैं कि वह एवं उनके प्लेन में जा रहे थे उनका बेटा सो गया था तो उस कारण मर गए थे पर उनकी बॉडी नहीं मिली थी महात्मा जी ने कहा था कि मैं जिंदा है और क्या ऑफिस में है ही नहीं थे जो प्लेन क्रैश हुआ था और कुछ लोग कहते हैं कि वह अंग्रेजों की ताजा अंग्रेज लोग थे जब उनसे उनके साथ जेल के अंदर पूछताछ कर रहे थे तब उन्हें मार दिया गया था उन्हें बहुत ज्यादा तड़पा तड़पाकर उनकी मौत का मौत हो गई थी वैसे कहानियों में क्या हुआ था यह सही में अभी किसी को इतने अच्छे से पता नहीं है पर ज्यादातर लोग इसी चीज को मानते हैं कि दवे जेल में थे और उनके साथ पूछताछ की जा रही थी तो मुझे तड़पा तड़पा कर मार दिया गया था अंग्रेजों नेNetaji Subhash Chandra Bose Ko Vaastav Mein Hua Kya Tha Wah Reality Mein Mare Kaise The Ki Abhi Tak Rahasya Ki Baat Hai Mere Hisab Se Kyonki Hum Unhen Hua Kya Tha Unki Maut Ka Kaaran Kya Hai Iske Piche Kai Cake Bahut Jyada Kahaniya Hai Aur Kuch Log Kehte Hain Ki Wah Evam Unke Plane Mein Ja Rahe The Unka Beta So Gaya Tha To Us Kaaran Mar Gaye The Par Unki Body Nahi Mili Thi Mahatma Ji Ne Kaha Tha Ki Main Zinda Hai Aur Kya Office Mein Hai Hi Nahi The Jo Plane Crash Hua Tha Aur Kuch Log Kehte Hain Ki Wah Angrejo Ki Taaza Angrej Log The Jab Unse Unke Saath Jail Ke Andar Puchhtaach Kar Rahe The Tab Unhen Maar Diya Gaya Tha Unhen Bahut Jyada Tadapa Tadapakar Unki Maut Ka Maut Ho Gayi Thi Waise Kahaniyon Mein Kya Hua Tha Yeh Sahi Mein Abhi Kisi Ko Itne Acche Se Pata Nahi Hai Par Jyadatar Log Isi Cheez Ko Manate Hain Ki Dove Jail Mein The Aur Unke Saath Puchhtaach Ki Ja Rahi Thi To Mujhe Tadapa Tadapa Kar Maar Diya Gaya Tha Angrejo Ne
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
देखिए वास्तव में सुभाष चंद्र बोस जो है ऐसा माना जाता है कि वह एक और लोडिंग प्लेन क्रैश में जो है वह मारे गए और कई सारे लोगों ने सब बताया ना देखा है कि वह प्लेन से आ रहे थे पूरे चलते हुए और इसी तरीके स ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।


देखिए वास्तव में सुभाष चंद्र बोस जो है ऐसा माना जाता है कि वह एक और लोडिंग प्लेन क्रैश में जो है वह मारे गए और कई सारे लोगों ने सब बताया ना देखा है कि वह प्लेन से आ रहे थे पूरे चलते हुए और इसी तरीके से जो है वह गैसोलीन में चले गए जब मैंने जो है जमीन पर और टकराया और इसी जो है बहाने उनकी मौत हो गई उनके पास पास अस्पताल में लेकर गए थे किंतु जिस प्रकार सेवर जेल गए थे तो उस प्रकार से ऐसा लग रहा था कि वह मर चुके हैं और वह वापस कैसे मारा जाता है मर गए थे किंतु कई सारे लोग जो है यह मानते हैं कि सुभाष चंद्र बोस एरोप्लेन क्रैश में नहीं मर रहे हैं वास्तव में सुभाष चंद्र बोस जो है उन्होंने नाटक किया उनकी मृत्यु का क्योंकि इनका उनकी मृत्यु हो चुकी है और वह भारत में वापस आए और एक साधु बन गए थे सोनू मारी में जो कि बंगाल की एक जगह है और सिर्फ यही नहीं ऐसा माना जाता है कि जब प्ले आज की खबर आ रही थी तब और सुभाष चंद्र बोस जो है वह सोवियत यूनियन के पास गए थे प्रोटेक्शन खेलने और सीबीआई नहीं ऐसा माना भी जाता है और वास्तव में ऐसा देखा भी गया है कि आज महात्मा गांधी और जवाहरलाल नेहरू जब मर चुके थे तो उनके अंतिम संस्कार के समय भी नेताजी सुभाष चंद्र बोस दिखे थे और यही नहीं सो गए तुमने जो ऐसा माना जाता है कि उन्होंने जो है जवाहरलाल नेहरू को ब्लैकमेल किया था उसके बाद इंदिरा गांधी को भी ब्लैकमेल किया था इस चीज पर क्यों को उसके बारे में बता देंगे और सुभाष चंद्र बोस को वास्तव में चीन आर्मी के साथ देखा गया है मार्च करते हुए तो वास्तव में सुभाष चंद्र बोस के बाद यह हुआ था वह प्लेन क्रैश में नहीं मारे थे बल्कि उनके उसके बाद यह सारी घटनाएं हुई थीDekhie Vaastav Mein Subhash Chandra Bose Jo Hai Aisa Mana Jata Hai Ki Wah Ek Aur Loading Plane Crash Mein Jo Hai Wah Maare Gaye Aur Kai Sare Logon Ne Sab Bataya Na Dekha Hai Ki Wah Plane Se Aa Rahe The Poore Chalte Hue Aur Isi Tarike Se Jo Hai Wah Gasoline Mein Chale Gaye Jab Maine Jo Hai Jameen Par Aur Takaraya Aur Isi Jo Hai Bahaane Unki Maut Ho Gayi Unke Paas Paas Aspatal Mein Lekar Gaye The Kintu Jis Prakar Sevar Jail Gaye The To Us Prakar Se Aisa Lag Raha Tha Ki Wah Mar Chuke Hain Aur Wah Wapas Kaise Mara Jata Hai Mar Gaye The Kintu Kai Sare Log Jo Hai Yeh Manate Hain Ki Subhash Chandra Bose Aeroplane Crash Mein Nahi Mar Rahe Hain Vaastav Mein Subhash Chandra Bose Jo Hai Unhone Natak Kiya Unki Mrityu Ka Kyonki Inka Unki Mrityu Ho Chuki Hai Aur Wah Bharat Mein Wapas Aaye Aur Ek Sadhu Ban Gaye The Sonu Mari Mein Jo Ki Bengal Ki Ek Jagah Hai Aur Sirf Yahi Nahi Aisa Mana Jata Hai Ki Jab Play Aaj Ki Khabar Aa Rahi Thi Tab Aur Subhash Chandra Bose Jo Hai Wah Soviet Union Ke Paas Gaye The Protection Khelne Aur Cbi Nahi Aisa Mana Bhi Jata Hai Aur Vaastav Mein Aisa Dekha Bhi Gaya Hai Ki Aaj Mahatma Gandhi Aur Jawaharlal Nehru Jab Mar Chuke The To Unke Antim Sanskar Ke Samay Bhi Netaji Subhash Chandra Bose Dikhe The Aur Yahi Nahi So Gaye Tumne Jo Aisa Mana Jata Hai Ki Unhone Jo Hai Jawaharlal Nehru Ko Blackmail Kiya Tha Uske Baad Indira Gandhi Ko Bhi Blackmail Kiya Tha Is Cheez Par Kyun Ko Uske Baare Mein Bata Denge Aur Subhash Chandra Bose Ko Vaastav Mein Chin Army Ke Saath Dekha Gaya Hai March Karte Hue To Vaastav Mein Subhash Chandra Bose Ke Baad Yeh Hua Tha Wah Plane Crash Mein Nahi Maare The Balki Unke Uske Baad Yeh Saree Ghatnaye Hui Thi
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी अभी तक यह बात रहस्य ही रह चुका है कोई बोल रहा है कि सुभाष चंद्र बोस जो थे अमर जब फ्रीडम फाइटर वह प्लेन का इंजन पर प्लेन जो खलास हो गया तो उसमें मर गए थे मगर उसके बाद वह जो महात्मा गांधी जी ने उस ...जवाब पढ़िये

विकी अभी तक यह बात रहस्य ही रह चुका है कोई बोल रहा है कि सुभाष चंद्र बोस जो थे अमर जब फ्रीडम फाइटर वह प्लेन का इंजन पर प्लेन जो खलास हो गया तो उसमें मर गए थे मगर उसके बाद वह जो महात्मा गांधी जी ने उस को नकारा दिया वह बोलेगी और सुभाष चंद्र बोस जी अभी तक जिंदा है तो पता नहीं चल रहा है क्या अभी तक यह एक रहस्य रह चुका है हो चुका है और कैसे उनका उनका डायलॉग बोल रही हूं उनका डेड बॉडी भी नहीं मिला था ना जब वह गए थे तो अभी तक वह रहस्यमई है लेकिन पहले बोला जाऊंगा कि तुम जितना मुझे पता है 1945 में वह एक एयरप्लेन का क्राफ्ट क्राफ्ट लेकर वह निकले थे जरा पहले तेरा लोगों के साथ जिनमें जिनमें जमिनीचा में भी थे और और इंडियन नेशनल आर्मी के जोशी फौजी मरे और नेशनल स्वतंत्र बहुत ही थे नेताजी सुभाष चंद्र बोस भी थे मगर जब वह उपभोक्ता एक तरफ से वह शायद वियतनाम गए थे वेतन में एक रात रुको रात भी रुके थे जब वियतनाम से वह लौट रहे थे उनका प्लेन क्रैश हो गया था यह सुनने में आया है जितना मुझे पता है मैं जितना पढ़ा हूं उनके जो मृत्यु कैसे हुआ था वह तो जो जो क्रिकेट में क्या होता तो जितने तेरे पास तेरा पैसेंजर थे जब सबके सब मर गए थे मगर नेताजी सुभाष चंद्र बोस भी उन्होंने उनमें शामिल थे तो उसके बाद जो वह खबर आया भारत को महात्मा गांधी जी ने उस को नकार दिया वह बोले कि नहीं सुभाष चंद्र बोस कभी मर नहीं सकते हैं वह जिंदा है तो उसके बाद और एक स्टोरी आया कि वह साधु बन गया 1950 में ही सो गया जब भारत में दिन हो गया था 1950 में जो नेता जी का एक सहयोगी सहयोगी था वह खुद बोलेगी अनुवाद सुभाष चंद्र बोस एक साधु बन गए और एक नोट बंद बंगाल में कहीं छोड़ मेरी जगह होगी कहीं रह रहे तो इसमें हमVikee Abhi Tak Yeh Baat Rahasya Hi Rah Chuka Hai Koi Bol Raha Hai Ki Subhash Chandra Bose Jo The Amar Jab Freedom Fighter Wah Plane Ka Engine Par Plane Jo Khallaa Ho Gaya To Usamen Mar Gaye The Magar Uske Baad Wah Jo Mahatma Gandhi Ji Ne Us Ko Nukaraa Diya Wah Bolegi Aur Subhash Chandra Bose Ji Abhi Tak Zinda Hai To Pata Nahi Chal Raha Hai Kya Abhi Tak Yeh Ek Rahasya Rah Chuka Hai Ho Chuka Hai Aur Kaise Unka Unka Dialogue Bol Rahi Hoon Unka Dead Body Bhi Nahi Mila Tha Na Jab Wah Gaye The To Abhi Tak Wah Rahasyamai Hai Lekin Pehle Bola Jaunga Ki Tum Jitna Mujhe Pata Hai 1945 Mein Wah Ek Airplane Ka Craft Craft Lekar Wah Nikale The Jara Pehle Tera Logon Ke Saath Jinmein Jinmein Jaminicha Mein Bhi The Aur Aur Indian National Army Ke Joshi Fauji Mare Aur National Swatantra Bahut Hi The Netaji Subhash Chandra Bose Bhi The Magar Jab Wah Upabhokta Ek Taraf Se Wah Shayad Vietnam Gaye The Vetan Mein Ek Raat Rukon Raat Bhi Ruke The Jab Vietnam Se Wah Lot Rahe The Unka Plane Crash Ho Gaya Tha Yeh Sunane Mein Aaya Hai Jitna Mujhe Pata Hai Main Jitna Padha Hoon Unke Jo Mrityu Kaise Hua Tha Wah To Jo Jo Cricket Mein Kya Hota To Jitne Tere Paas Tera Passenger The Jab Sabke Sab Mar Gaye The Magar Netaji Subhash Chandra Bose Bhi Unhone Unmen Shamil The To Uske Baad Jo Wah Khabar Aaya Bharat Ko Mahatma Gandhi Ji Ne Us Ko Nakar Diya Wah Bole Ki Nahi Subhash Chandra Bose Kabhi Mar Nahi Sakte Hain Wah Zinda Hai To Uske Baad Aur Ek Story Aaya Ki Wah Sadhu Ban Gaya 1950 Mein Hi So Gaya Jab Bharat Mein Din Ho Gaya Tha 1950 Mein Jo Neta Ji Ka Ek Sahayogi Sahayogi Tha Wah Khud Bolegi Anuvad Subhash Chandra Bose Ek Sadhu Ban Gaye Aur Ek Note Band Bengal Mein Kahin Chod Meri Jagah Hogi Kahin Rah Rahe To Isme Hum
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Subhash Chandra Bose Ko Vaastav Mein Kya Hua Tha ?, What Was The Reality Of Subhash Chandra Bose?