search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

भारत देश को आज़ाद हुए कई दशक हो गए, अभी भी चुनाव ग़रीबी हटाओ के नारे के साथ लड़े जाते हैं, इसका मुख्य कारण क्या है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन का जवाब देने के लिए गरीबी हटाओ देश बचाओ गरीबी हटाओ देश मूवी होने का कारण क्या है इस देश की जनसंख्या प्लास्टिक प्लास्टिक की बात हो रही है जुझार जड़ है उसको खत्म कर दो तंबाकू तंबाकू तंबाकू से खत्म कर दो ना जोड़ें गरीबी गरीबी गरीबी हटाओ देश बचाओ जनसंख्या का काम करोगे नहीं गरीब ही गरीब करते रहोगे कैसे हटेगी लिखूंगा पागल समझा है समझदार है तोड़ गढ़ का काम करो भाई कांटा लग गया तो कांटेक्ट
क्वेश्चन का जवाब देने के लिए गरीबी हटाओ देश बचाओ गरीबी हटाओ देश मूवी होने का कारण क्या है इस देश की जनसंख्या प्लास्टिक प्लास्टिक की बात हो रही है जुझार जड़ है उसको खत्म कर दो तंबाकू तंबाकू तंबाकू से खत्म कर दो ना जोड़ें गरीबी गरीबी गरीबी हटाओ देश बचाओ जनसंख्या का काम करोगे नहीं गरीब ही गरीब करते रहोगे कैसे हटेगी लिखूंगा पागल समझा है समझदार है तोड़ गढ़ का काम करो भाई कांटा लग गया तो कांटेक्ट
Likes  28  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

ques_icon

अधिक जवाब


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

केस का आजाद हुए कई दशक हो गए यह बात सही है लेकिन चुनावों में हूं में गरीबी हटाओ का नारा समाप्त नहीं हुआ है उसका मुख्य कारण यही है कि जैसे पूरी तरह से आज तक गरीबी नहीं आती है बल्कि गरीबी बढ़ती जा रही है उसके पीछे कारण यह है कि देश की आबादी में निरंतर तेजी से वृद्धि हो रही है आ जाओ 135 करोड़ के पास पहुंच रहे हैं तो जब इतनी ज्यादा जनसंख्या बढ़ेगी तो स्वाभाविक है कि देश एकदम गरीबी जाने में समय लगेगा दशक से ज्यादा समय बीतने के बाद भी देश में चुनाव गरीबी हटाओ के नारे के साथ ही जा रहे हैं
केस का आजाद हुए कई दशक हो गए यह बात सही है लेकिन चुनावों में हूं में गरीबी हटाओ का नारा समाप्त नहीं हुआ है उसका मुख्य कारण यही है कि जैसे पूरी तरह से आज तक गरीबी नहीं आती है बल्कि गरीबी बढ़ती जा रही है उसके पीछे कारण यह है कि देश की आबादी में निरंतर तेजी से वृद्धि हो रही है आ जाओ 135 करोड़ के पास पहुंच रहे हैं तो जब इतनी ज्यादा जनसंख्या बढ़ेगी तो स्वाभाविक है कि देश एकदम गरीबी जाने में समय लगेगा दशक से ज्यादा समय बीतने के बाद भी देश में चुनाव गरीबी हटाओ के नारे के साथ ही जा रहे हैं
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीके भारत के देश को आजाद हुए कुछ 70 साल से भी ज्यादा हो चुके हैं लेकिन गरीब यहां की बहुत बड़ी समस्या है इसके पीछे बहुत सारी जन है बढ़ती हुई पापुलेशन एजुकेशन अनइंप्लॉयमेंट सब रीजन के कारण अभी तक देखा जाए तो गरीब लोगों की जनसंख्या जनसंख्या अभी भी है लेकिन देखा जाए तो यहां पर यह जो परसेंटेज ग्राफ काफी कम होती जा रही है और अगले 10 से 15 साल में इन सब चीजों को काफी हद में कंट्रोल कर लिया जाएगा तो अभी काफी बहुत सारी समस्याएं है बहुत सारे एजेंडे होते चुनाव में उनमें से एक एजेंडे गरीबी की भी होती है
पीके भारत के देश को आजाद हुए कुछ 70 साल से भी ज्यादा हो चुके हैं लेकिन गरीब यहां की बहुत बड़ी समस्या है इसके पीछे बहुत सारी जन है बढ़ती हुई पापुलेशन एजुकेशन अनइंप्लॉयमेंट सब रीजन के कारण अभी तक देखा जाए तो गरीब लोगों की जनसंख्या जनसंख्या अभी भी है लेकिन देखा जाए तो यहां पर यह जो परसेंटेज ग्राफ काफी कम होती जा रही है और अगले 10 से 15 साल में इन सब चीजों को काफी हद में कंट्रोल कर लिया जाएगा तो अभी काफी बहुत सारी समस्याएं है बहुत सारे एजेंडे होते चुनाव में उनमें से एक एजेंडे गरीबी की भी होती है
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Bharat Desh Ko Azaad Hue Kai Dashak Ho Gaye Abhi Bhi Chunav Garibi Hatao Ke Nare Ke Saath Ladhe Jaate Hain Iska Mukhya Kaaran Kya Hai,It Has Been Many Decades Since India Became A Nation, Still Elections Are Fought With The Slogan Of Poverty Removal, What Is The Main Reason?,


vokalandroid