क्या मोदी सरकार ने नोट बंदी कर के सही किय था? उससे फायदा क्या हुआ था बताये ? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
मोदी सरकार का नोटबंदी का फैसला मेरे मुताबिक तो सही नहीं था क्योंकि इसके परिणाम स्वरुप बहुत सारे लोगों की जान चली गई जो अपने पैसे बदलवाने के लिए बैंक की लाइनों में लगे थे कई लोगों के पास पैसे की कमी हो गई डीमोनेटाइजेशन के वजह से और अगर उनके कोई रिश्तेदार या फिर वह खुद अस्पताल में उस समय भर्ती थे तो हॉस्पिटल वाली उनसे वह नोट नहीं ले रहे थे जो की अवैध घोषित कर दिए गए थे जिसकी वजह से उनकी जान चली गई उन्होंने हॉस्पिटल के पैसे नहीं आ चुका है इसलिए उनकी जान चली गई तू इन सब का हिसाब तो कोई भी नहीं सकता है और जहां तक बात है कि काले धन लाने की बात तो इस में भी मोदी सरकार पूरी तरह से फेल हो गई थी क्योंकि आरबीआई की रिपोर्ट के मुताबिक जो भी डीमोनेटाइजेशन की की गई थी उसमें से 99% करेंसी आर बी आई के पास वापस आ चुकी थी और फिर मोदी सरकार ने जो नए नोट लाए 500 और 2000 के उसे छापने में भी ज्यादा पैसे खर्च हो गए तो यह अपने देश पर एक बटन आ गया कि नए नोट छापने में आरबीआई को पहले पिछले साल की तुलना में 107% ज्यादा पैसे खर्च करने पड़े तो यह जो नोटबंदी का फैसला था वह बस लोगों को दुख दर्द और परेशानी देकर के गया और अपने देश को कुछ भी नहीं दियाModi Sarkar Ka Notebandi Ka Faisla Mere Mutabik To Sahi Nahi Tha Kyonki Iske Parinam Swarup Bahut Sare Logon Ki Jaan Chali Gayi Jo Apne Paise Badalavane Ke Liye Bank Ki Lineon Mein Lage The Kai Logon Ke Paas Paise Ki Kami Ho Gayi Dimonetaijeshan Ke Wajah Se Aur Agar Unke Koi Rishtedar Ya Phir Wah Khud Aspatal Mein Us Samay Bharti The To Hospital Wali Unse Wah Note Nahi Le Rahe The Jo Ki Awaidh Ghoshit Kar Diye Gaye The Jiski Wajah Se Unki Jaan Chali Gayi Unhone Hospital Ke Paise Nahi Aa Chuka Hai Isliye Unki Jaan Chali Gayi Tu In Sab Ka Hisab To Koi Bhi Nahi Sakta Hai Aur Jahan Tak Baat Hai Ki Kaale Dhan Lane Ki Baat To Is Mein Bhi Modi Sarkar Puri Tarah Se Fail Ho Gayi Thi Kyonki Rbi Ki Report Ke Mutabik Jo Bhi Dimonetaijeshan Ki Ki Gayi Thi Usamen Se 99% Currency R Be Eye Ke Paas Wapas Aa Chuki Thi Aur Phir Modi Sarkar Ne Jo Naye Note Laye 500 Aur 2000 Ke Use Chapne Mein Bhi Jyada Paise Kharch Ho Gaye To Yeh Apne Desh Par Ek Button Aa Gaya Ki Naye Note Chapne Mein Rbi Ko Pehle Pichle Saal Ki Tulna Mein 107% Jyada Paise Kharch Karne Pade To Yeh Jo Notebandi Ka Faisla Tha Wah Bus Logon Ko Dukh Dard Aur Pareshani Dekar Ke Gaya Aur Apne Desh Ko Kuch Bhi Nahi Diya
Likes  13  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
अभी नोटबंदी का जो फैसला था वह मोदी सरकार ने लिया था वह एक काफी ऐतिहासिक फैसला था इस फैसले के अंतर्गत जो है पुराने 500 1000 केनोट जो है वह बंद कर दिए गए थे या नहीं कि वह मान्य नहीं थे यानि कि वाले टेंडर नहीं था उसके बदले हुए नए नोट जॉय प्रिंट कर के पूरे कंट्री में जो है बांटे गए थे अब इस से फायदा यह कह सकते हैं कि जो है काफी पैसा जो है जो लोगों ने छुपा के रखा था आ कहीं ना कहीं या फिर अपने घरों में रखा था किसी कारण मन सिया ब्लैक मनी टैक्स बचाने के लिए छुपा के रखा था वह जो है वह सारा पैसा बैंक अकाउंट में आ गया या नहीं सर इकॉनॉमी में जो है सरकुलेशन में आ गया है अगर इतना सारा पैसा सरकुलेशन में आ गया हो तो जो है इंटरेस्ट रेट जो है सारे लोन के जो है वह कम हो जाएंगे क्योंकि इतना सारा है पैसा सेट इकॉनॉमी में तो ब्याज दर आराम से कम हो जाएंगे तो यह फायदा दिखाई दे रहा था और अब यह काफी सारे लोगों का यह भी कहना है कि इस से जो है ब्लैक मनी गई नहीं है इससे भी लोगों ने जो है रास्ता ढूंढ निकाला था ऐसे कई सारे कैसे देखे गए हैं स्पेशली जांचा आरबीआई की प्रिंटिंग प्रेस नोट्स कि वहां पर जो है लोगों ने घूस किला कर अपने सारे पुराने नोट बदल लिए बड़ी आसानी से और और काफी सारे लोगों को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने पकड़ा भी है अब फायदा तेरी यह भी कह सकते हैं कि जो है काफी सारा जॉय टैक्स का जो पेमेंट है वह थोड़ा पहले की मात्रा में अगर देखा जाए तो थोड़ा बढ़ गया है टायर इनकम टैक्स का जो पेमेंट था इस साल को काफी हद तक बढ़ गया है और इस फैसले के कारण जो है लोगों में डिजिटल ट्रांजैक्शन की जो है उम्मीद जरूरत पैदा हुई तो इसके कारण शोएस लोग काफी डिजिटल ट्रांजैक्शन उपयोग करने लगेAbhi Notebandi Ka Jo Faisla Tha Wah Modi Sarkar Ne Liya Tha Wah Ek Kafi Aetihasik Faisla Tha Is Faisle Ke Antargat Jo Hai Purane 500 1000 Kanota Jo Hai Wah Band Kar Diye Gaye The Ya Nahi Ki Wah Manya Nahi The Yani Ki Wale Tender Nahi Tha Uske Badle Hue Naye Note Joy Print Kar Ke Poore Country Mein Jo Hai Bante Gaye The Ab Is Se Fayda Yeh Keh Sakte Hain Ki Jo Hai Kafi Paisa Jo Hai Jo Logon Ne Chhupa Ke Rakha Tha Aa Kahin Na Kahin Ya Phir Apne Gharon Mein Rakha Tha Kisi Kaaran Man Siya Black Money Tax Bachane Ke Liye Chhupa Ke Rakha Tha Wah Jo Hai Wah Saara Paisa Bank Account Mein Aa Gaya Ya Nahi Sar Ikanami Mein Jo Hai Circulation Mein Aa Gaya Hai Agar Itna Saara Paisa Circulation Mein Aa Gaya Ho To Jo Hai Interest Rate Jo Hai Sare Loan Ke Jo Hai Wah Kum Ho Jaenge Kyonki Itna Saara Hai Paisa Set Ikanami Mein To Byaj Dar Aaram Se Kum Ho Jaenge To Yeh Fayda Dikhai De Raha Tha Aur Ab Yeh Kafi Sare Logon Ka Yeh Bhi Kehna Hai Ki Is Se Jo Hai Black Money Gayi Nahi Hai Isse Bhi Logon Ne Jo Hai Rasta Dhundh Nikaala Tha Aise Kai Sare Kaise Dekhe Gaye Hain Speshli Jancha Rbi Ki Printing Press Notes Ki Wahan Par Jo Hai Logon Ne Ghus Kila Kar Apne Sare Purane Note Badal Liye Badi Aasani Se Aur Aur Kafi Sare Logon Ko Income Tax Department Ne Pakada Bhi Hai Ab Fayda Teri Yeh Bhi Keh Sakte Hain Ki Jo Hai Kafi Saara Joy Tax Ka Jo Payment Hai Wah Thoda Pehle Ki Matra Mein Agar Dekha Jaye To Thoda Badh Gaya Hai Tyre Income Tax Ka Jo Payment Tha Is Saal Ko Kafi Had Tak Badh Gaya Hai Aur Is Faisle Ke Kaaran Jo Hai Logon Mein Digital Transaction Ki Jo Hai Ummid Zaroorat Paida Hui To Iske Kaaran Shoes Log Kafi Digital Transaction Upyog Karne Lage
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
देखिए मेरे हिसाब से मोदी सरकार का नोटबंदी करने का फैसला उस टाइम पर सही नहीं का मतलब लोड बंद मुझे तो ऐसा लगता है कि नोटबंदी अगर किसी और टाइम पर की जाती तो शायद वह सही होती क्योंकि जो मोदी सरकार ने प्रेरित किया था कि नोटबंदी की वजह से ऐसा ऐसा होगा तो उसने कुछ अच्छे खासे परिणाम नहीं दिखाई दे रहे हैं हालांकि उन तीन चार महीनों में आ मतलब लोगों में डर बैठ गया इसलिए लोग अभी का मतलब पैसे से स्टार्ट करके नहीं रखते और बहुत ब्लैक मनी होल्डर्स भी सामने आया है पर अब जितना कुछ बताया गया कि बहुत ज्यादा जो ब्लैक मनी रखने वाले लोग हैं वह सामने आएंगे उनको सजा होंगी तो इतना कुछ हद तक नोटबंदी का प्रभाव नहीं हुआ पर अगर आपके क्वेश्चन से उसके फायदे क्या हुआ यह बताना है तो उसके फायदे भी हुए जिसकी मैंने अभी बताया जिंदगी में टेंशन होने के बाद का मतलब बहुत लोगों ने बहुत लोगों के पास घर में ऐसे मनी छुपा के रखा था तो वह सामने आया और बाइक में भी उसकी जांच पड़ताल हुई औरतों के पैसे इसके वजह से फेस करें क्योंकि जो ₹500 की नोट बंद कर दी गई इसलिए और उस को बदलवाने के लिए टाइम लिमिट रखा गया तो मुझे लगता है कि बहुत लोगों का ब्लैक मनी सामने आया या फिर ब्लैक मनी देश गया हर डिमांड डाइजेशन की वजह से लोगों का एक चीनी जीडीपी क्या रहता है और दिमाग तेज होता है उसके बारे में नॉलेज की बहुत इंपॉर्टेंट थिंग रहती है तो मेरे ख्याल से यही दुआ आती हुई हैDekhie Mere Hisab Se Modi Sarkar Ka Notebandi Karne Ka Faisla Us Time Par Sahi Nahi Ka Matlab Load Band Mujhe To Aisa Lagta Hai Ki Notebandi Agar Kisi Aur Time Par Ki Jati To Shayad Wah Sahi Hoti Kyonki Jo Modi Sarkar Ne Prerit Kiya Tha Ki Notebandi Ki Wajah Se Aisa Aisa Hoga To Usne Kuch Acche Khase Parinam Nahi Dikhai De Rahe Hain Halanki Un Teen Char Mahinon Mein Aa Matlab Logon Mein Dar Baith Gaya Isliye Log Abhi Ka Matlab Paise Se Start Karke Nahi Rakhate Aur Bahut Black Money Holders Bhi Samane Aaya Hai Par Ab Jitna Kuch Bataya Gaya Ki Bahut Jyada Jo Black Money Rakhne Wale Log Hain Wah Samane Aayenge Unko Saja Hongi To Itna Kuch Had Tak Notebandi Ka Prabhav Nahi Hua Par Agar Aapke Question Se Uske Fayde Kya Hua Yeh Batana Hai To Uske Fayde Bhi Hue Jiski Maine Abhi Bataya Zindagi Mein Tension Hone Ke Baad Ka Matlab Bahut Logon Ne Bahut Logon Ke Paas Ghar Mein Aise Money Chhupa Ke Rakha Tha To Wah Samane Aaya Aur Bike Mein Bhi Uski Janch Padatal Hui Auraton Ke Paise Iske Wajah Se Face Karen Kyonki Jo ₹500 Ki Note Band Kar Di Gayi Isliye Aur Us Ko Badalavane Ke Liye Time Limit Rakha Gaya To Mujhe Lagta Hai Ki Bahut Logon Ka Black Money Samane Aaya Ya Phir Black Money Desh Gaya Har Demand Daijeshan Ki Wajah Se Logon Ka Ek Chini Gdp Kya Rehta Hai Aur Dimag Tez Hota Hai Uske Baare Mein Knowledge Ki Bahut Important Thing Rehti Hai To Mere Khayal Se Yahi Dua Aati Hui Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Modi Sarkar Ne Note Bandi Kar Ke Sahi Kiy Tha Usse Fayda Kya Hua Tha Batayen ?





मन में है सवाल?