मोदी जी अगर विदेश दौरे के पैसे भारत की छोटी मोटी कंपनियों में इन्वेस्ट करते रोजगार बढ़ते? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी अगर विदेश दौरे के पैसे भारत की छोटी-मोटी कंपनियों में निवेश करते तो क्या रोजगार भर्ती का पिछले 70 साल में सरकारी विभाग काम कर रही थी वह भाग से नहीं थी हिंदुस्तान के अंदर 3234 परसेंट सेविंग से...
जवाब पढ़िये
मोदी जी अगर विदेश दौरे के पैसे भारत की छोटी-मोटी कंपनियों में निवेश करते तो क्या रोजगार भर्ती का पिछले 70 साल में सरकारी विभाग काम कर रही थी वह भाग से नहीं थी हिंदुस्तान के अंदर 3234 परसेंट सेविंग से क्या वह बिजनेस भी नहीं लगता है कुछ करोड़ रुपए जो मोदी सरकार ने विदेश नीति पर विदेशों में अपनी स्थिति बनाने में सभी सीना का फाइट करने में विश्वास और मेक इन इंडिया में विदेशों के तब निकल रहा उसका चलाने से क्या रोजगार नहीं पढ़ते आज का कितने एन आर आई पी ओ आई बंद करके यहां पर आते हैं मोटर से बनी होता उससे पैसा नहीं बनता जो हमारा प्रेम डेंट हुआ था पत्थर के आसपास का निवेश की पॉलिसी से कोटा व 36 कड़वा तेल गवा 10 लाख लोग भारत में पुरुष नहीं देता है क्या उसको भारत में इंग्लिश नहीं कर रहे हैं यह बाहर आना भाई है वह क्या पैसा नहीं भेज रहे हैं आप कैसे रखता है कि मोदी जो अपने गवर्नमेंट में जाकर काम करता है वह सपना अपना पैसा बैंक तो शादी भी नहीं हुई
Likes  67  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो अपने आप में राजनीतिक द्वार ग्रह की दृष्टि से किया हुआ यह प्रश्न है मोदी जी की विदेश यात्राओं का की एक छोटी बांध की आपको बताते हैं छोटे आंकड़े कुछ आपको आपके सामने रखते हैं आपको समझ में आ जाएगा कि...
जवाब पढ़िये
यह तो अपने आप में राजनीतिक द्वार ग्रह की दृष्टि से किया हुआ यह प्रश्न है मोदी जी की विदेश यात्राओं का की एक छोटी बांध की आपको बताते हैं छोटे आंकड़े कुछ आपको आपके सामने रखते हैं आपको समझ में आ जाएगा कि जो खर्चे हुए हैं उसका प्रतिफल क्या मिला है कुल 55 देशों की यात्रा मोदी जी ने की है अपने पूरे कार्यकाल में और इन 55 देशों की यात्रा करने में जो खर्च आया है वह 352 करो रुपए का आया है लेकिन भारत को क्या मिला है यह खर्च करने के बाद सांस्कृतिक दृष्टि से आर्थिक दृष्टि से सामरिक दृष्टि से अंतरराष्ट्रीय संबंधों की दृष्टि से भारत कितना सशक्त और मजबूत हुआ है आप देखिए इन देशों के माध्यम से जो भारत में निवेश हुआ है वह 17 लाख करोड़ रुपए का है उसका एक छोटा एग्जांपल छोटा उदाहरण आपको देते हैं अकेला ही प्रोजेक्ट जापान के द्वारा भारत में अहमदाबाद से मुंबई तक बुलेट ट्रेन का निर्माण किया जा रहा है जिसमें 90000 करोड रुपए खर्च आ रहे हैं और वह भी पैसा जापान सरकार स्वयं लगा रही है और वह भी बहुत सस्ते दर पर कर्ज के रूप में long-term बेसिस पर लोन दिया हुआ है बहुत ही नॉमिनल ब्याज दर यह होती है अंतरराष्ट्रीय संबंधों की ताकत यह होती है मोदी के विदेश नीति की ताकत जिस कारण से इतना बड़ा निवेश एक तरफ से आप समझ लीजिए कि मुफ्त में आपको इतनी बड़ी चीज इस देश मिला करके मोदी जी ने दे दिया तो उनका तो एक ही प्रोजेक्ट अंकित कुल खर्च से कई गुना ज्यादा है और रही अगर सारे प्रोजेक्ट
Likes  33  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सही कहा मोदी जी का विदेश के दौरे के पैसे बात की छुट्टी बड़ी कंपनी में निवेश करते हुए रोजगार बढ़ जाते हैं अगर मोदी जी खाना नहीं खाते तो बेरोजगार बढ़ जाता आप भी नहीं खाना खाते तो रोजगार बढ़ जाते...
जवाब पढ़िये
बिल्कुल सही कहा मोदी जी का विदेश के दौरे के पैसे बात की छुट्टी बड़ी कंपनी में निवेश करते हुए रोजगार बढ़ जाते हैं अगर मोदी जी खाना नहीं खाते तो बेरोजगार बढ़ जाता आप भी नहीं खाना खाते तो रोजगार बढ़ जाते सारे यह ट्रांसपोर्टेशन खत्म कर दिए जाए उसी को क्यों यहां सब कुछ खत्म कर दिया जाए सारे बस ट्रक रेलवे बरेली में कितना पैसा लगता है यहां से आ जाती है उसको खत्म कर दिया जाए सारा पैसा कंपनियों में निवेश कर दिया जाए
Likes  231  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक मोदी जी के विदेश दौरों का सवाल है और उसका भारत की कंपनियों में निवेश करने से अगर कोई संबंध स्थापित किया जाए तो मैं यहां स्पष्ट करना चाहूंगा कि दोनों ही बातें बिल्कुल अलग अलग है जिनका आपस में ए...
जवाब पढ़िये
जहां तक मोदी जी के विदेश दौरों का सवाल है और उसका भारत की कंपनियों में निवेश करने से अगर कोई संबंध स्थापित किया जाए तो मैं यहां स्पष्ट करना चाहूंगा कि दोनों ही बातें बिल्कुल अलग अलग है जिनका आपस में एक दूसरे से कोई लेना देना नहीं है जब देश का प्रधानमंत्री और जिसका की विदेश मंत्रालय में भी काफी दखल हूं जब वह देश के बाहर जाकर तमाम देशों से अपने व्यापारिक और कूटनीतिक संबंध बनाना चाहता हूं तो ऐसे में यह बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है कि उसको एक फ्रीडम जरूर मिलना चाहिए अजब विधि द्वारा करते हैं तो केवल एक दौरा भ्रमण करने का किसी का व्यक्तिगत टूर नहीं होता है जबकि वह देश को समृद्ध करने की दिशा में उठाया गया कदम होता है अगर आप देखे हाल में जितने भी वैश्विक स्तर पर मत ले रहे हैं जिनको जिन मुद्दों में भारत को विश्व के तमाम कंट्रीज का अप्रत्याशित रूप से समर्थन मिला है उसका रीजन यही है कि मोदी जी ने अपने सारे 4 साल के कार्यकाल में अपने विदेशी संबंधों को भारत के तमाम देशों से जो परस्पर व्यापारिक और जो गैर व्यापारिक संबंध है उनको बहुत तेजी से बढ़ावा दिया है और कभी भी ध्यान रखना चाहिए कि जो समन्वय और जो तालमेल होता है वह दो तरफा होता है तो जब आप दूसरे देश में जाते हैं उनसे बातचीत करते हैं अपने भारत में जिस तरीके से विकास हो रहे हैं उनको अवगत कराते हैं तो भारत के लिए बहुत सारा निवेश लेकर आते हैं अभी हाल ही में देखा जाएगी अगर जो क्राउन अपने यहां पर आए थे क्रॉउन प्रिंस एमबीएस सऊदी सऊदी अरब से तो उन्होंने व्हाट हैव इंडिया में करें जिसका मोटी भी यही होता है कि उनको यह नजर आना चाहिए बाहरी लोगों को कि भारत में निवेश की क्षमताएं हैं निवेश का माहौल है और यह उनको तभी पता चलेगा जब भारत में या भारत का कोई एक शक्तिशाली नेतृत्व आगे बढ़ेगा और उनको अपनी शक्ति के बारे में बताएं
Likes  70  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मनी ऑन ऑल कंपनी बर्थडे प्वाइंट्स करने पर गवर्नमेंट को यह फायदा मिला कि वर्ल्ड कॉलोनी में जो पहचान थी वह चेंज हो चुकी है टोटली पहले इंडियन स्कोर बहुत खराब नजर से देखा जाता था ना वह इंडियन कैन वॉक विद ठ...
जवाब पढ़िये
मनी ऑन ऑल कंपनी बर्थडे प्वाइंट्स करने पर गवर्नमेंट को यह फायदा मिला कि वर्ल्ड कॉलोनी में जो पहचान थी वह चेंज हो चुकी है टोटली पहले इंडियन स्कोर बहुत खराब नजर से देखा जाता था ना वह इंडियन कैन वॉक विद ठेर हेड स्टेटMoney On All Company Birthday Point Karne Par Government Ko Yeh Fayda Mila Ki World Colony Mein Jo Pehchaan Thi Wah Change Ho Chuki Hai Totally Pehle Indian Score Bahut Kharab Nazar Se Dekha Jata Tha Na Wah Indian Can Walk Vid Ther Head State
Likes  7  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि मोदी जी विदेश जाने के पैसे से छोटी छोटी कंपनियों में इन्वेस्टमेंट करते तो यहां की बेरोजगारी खत्म होती आप लोग मोदी जी विदेश जाते हैं उसको गलत तरीके से क्यों लेते हैं मोदी जी विदेश जाते...
जवाब पढ़िये
आप का सवाल है कि मोदी जी विदेश जाने के पैसे से छोटी छोटी कंपनियों में इन्वेस्टमेंट करते तो यहां की बेरोजगारी खत्म होती आप लोग मोदी जी विदेश जाते हैं उसको गलत तरीके से क्यों लेते हैं मोदी जी विदेश जाते हैं पहले भी लोग विदेश जाते थे इतना लोग जागरुक नहीं थे कि कुछ बात कर सके कुछ बोल सके आज हम सभी लोग जागरूक हैं हम लोग वार्तालाप करते हैं किसके माध्यम से वार्तालाप करते हैं आज हम लोग सोशल मीडिया पर इतना सक्रिय हुए हैं अमीर गरीब सभी लोगों के पास फोन है इंटरनेट है किसके माध्यम से फोन इंटरनेट है सब कुछ मोदी जी के माध्यम से 2014 के बाद मोबाइल डाटा का इतना रेट कम कर दिया कि आज अमीर गरीब सभी लोग यूज कर रहे हैं आज हम लोग इतना जागरूक हो गए हैं कि हम लोग किसी भी मुद्दे पर सवा सौ करोड़ देशवासी बात करने के लिए तैयार है देखिए मोदी जी विदेश जाते हैं तो विदेश जाने से बहुत फायदा होता है आज आपका संबंध इजराइल से अच्छा है अमेरिका से अच्छा है फ्रांस अच्छा है ब्रिटेन से अच्छा है सभी देशों से अच्छा है चाइना को छोड़ कर अभी देखिए आपके देश के विंग कमांडर फंसे हुए थे पाकिस्तान में तो सारे बिट्टू पावर के कंट्री ने कूटनीतिक राजनीतिक बनाई है और कूटनीतिक दबाव बनाया पाकिस्तान के ऊपर और हमारे कमांडर कौन को छोड़ना पड़ा आज आपके देश में बुलेट ट्रेन चल रही है किसके वजह से मोदी जी अगर विदेश नहीं जाते जापान टोक्यो जापान अट्ठासी 1000 करोड़ रूपया देता इंडिया को कभी नहीं देता आज आपका देश बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है जो हमारे देश के ना लाई बाहर में रहते हैं मोदी जी वहां जाते हैं उनसे मिलते हैं उनसे बोलते हैं कि आप लोग भी कुछ अपने देश के लिए करिए तो मोदी जी इसलिए जाते हैं मोदी जी के जाने के कारण ही आज आपका देश इकोनॉमिकल ग्रोथ में सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाला देश है 2019 का चुनाव नजदीक है हम सभी लोगों को अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को देना चाहिए तभी हमारा देश आगे बढ़ेगा धन्यवाद
Likes  13  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी के विदेश दौरों में जितना पैसा खर्च हुआ है देश का अगर उसका कुछ परसेंटेज भी बचाया जाता सरकार के द्वारा और उसे छोटी कंपनियों को आगे बढ़ाने में लगाया जाता यानी कि उन्हें फंडिंग की जाती तो कई ऐसी छ...
जवाब पढ़िये
मोदी जी के विदेश दौरों में जितना पैसा खर्च हुआ है देश का अगर उसका कुछ परसेंटेज भी बचाया जाता सरकार के द्वारा और उसे छोटी कंपनियों को आगे बढ़ाने में लगाया जाता यानी कि उन्हें फंडिंग की जाती तो कई ऐसी छोटी कंपनियां है जो कि आगे बढ़ सकती थी और जिसकी वजह से कई लोगों को रोजगार प्राप्त हो सकता था हमारे देश में नए-नए Idea आप लोग लेकर के आते हैं कंपनी खोलने के लिए लेकिन पैसे की कमी की वजह से वह आगे नहीं बढ़ पाते हैं तो सरकार को यह मत सोचना चाहिए कि अगर आज जो पैसा विदेशी दौरों पर खर्च हो रहा है उसे बचाया जाए और ऐसे छोटे बिजनेस को दिया जाए ताकि वह आगे बढ़ सके तो यह लोगों के लिए काफी अच्छा होगाModi Ji Ke Videsh Dauron Mein Jitna Paisa Kharch Hua Hai Desh Ka Agar Uska Kuch Percentage Bhi Bachaya Jata Sarkar Ke Dwara Aur Use Choti Companion Ko Aage Badhane Mein Lagaya Jata Yani Ki Unhen Funding Ki Jati To Kai Aisi Choti Companiyan Hai Jo Ki Aage Badh Sakti Thi Aur Jiski Wajah Se Kai Logon Ko Rojgar Prapt Ho Sakta Tha Hamare Desh Mein Naye Naye Idea Aap Log Lekar Ke Aate Hain Company Kholne Ke Liye Lekin Paise Ki Kami Ki Wajah Se Wah Aage Nahi Badh Paate Hain To Sarkar Ko Yeh Mat Sochna Chahiye Ki Agar Aaj Jo Paisa Videshi Dauron Par Kharch Ho Raha Hai Use Bachaya Jaye Aur Aise Chote Business Ko Diya Jaye Taki Wah Aage Badh Sake To Yeh Logon Ke Liye Kafi Accha Hoga
Likes  12  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप बिल्कुल सही करें मुझे लगता है कि मोदी जी अगर विदेश दौरे पर कितना पैसा खर्च करते हैं वह पैसा अगर उन्होंने किसी छोटी कंपनी में इंडिया की गिरी छोटी कंपनी ने किया होता तो कंपनी के भी करो सो जाती हो और ...
जवाब पढ़िये
आप बिल्कुल सही करें मुझे लगता है कि मोदी जी अगर विदेश दौरे पर कितना पैसा खर्च करते हैं वह पैसा अगर उन्होंने किसी छोटी कंपनी में इंडिया की गिरी छोटी कंपनी ने किया होता तो कंपनी के भी करो सो जाती हो और उसकी वजह से जो है बाकी सारे बहुत सारे लोगों को भी को रोजगार का जरिया भी को कंपनी बन जाती तो यह बात तो सही है लेकिन मोदी जी को दौरे करते हैं विदेशों के तू ही देश के लिए ही करते हैं उसमें जो है देश का फायदा क्योंकि अगर वह किसी बड़े देश को जाकर विजिट करते जैसे के रखे हो गया फिर हमें रिकॉर्ड रूम की सजावट भारत के संबंध अच्छे हो जाते हैं तो वहां के जो फाइनेंसियल इंस्टिट्यूट हो चुके वहां के जो बड़े-बड़े पानी से रिक्वेस्ट है और वहां के जो अच्छे हैं वह भारत में पैसे इन्वेस्ट करते हैं तो उसकी वजह से कंपनी की गोद बहुत ज्यादा हो सकती है और उसका जो पूरे हो रोज़ देश का उसका सब कुछ तो पुष्कर वैसे पूरे देश के ग्रुप ज्यादा हो सकती हैं जाकर आओ हम मुझको बड़े लेवल पर अगर सोचा जाए तो वह जो कर रहे हो वह लॉन्ग टर्म के हिसाब से कर रहे हैं और उसका जो है आने वाले टाइम में देश के पूरे लोगों को उसका फायदा होने वाला हैAap Bilkul Sahi Karen Mujhe Lagta Hai Ki Modi Ji Agar Videsh Daure Par Kitna Paisa Kharch Karte Hain Wah Paisa Agar Unhone Kisi Choti Company Mein India Ki Giri Choti Company Ne Kiya Hota To Company Ke Bhi Karo So Jati Ho Aur Uski Wajah Se Jo Hai Baki Sare Bahut Sare Logon Ko Bhi Ko Rojgar Ka Jariya Bhi Ko Company Ban Jati To Yeh Baat To Sahi Hai Lekin Modi Ji Ko Daure Karte Hain Videshon Ke Tu Hi Desh Ke Liye Hi Karte Hain Usamen Jo Hai Desh Ka Fayda Kyonki Agar Wah Kisi Bade Desh Ko Jaakar Visit Karte Jaise Ke Rakhe Ho Gaya Phir Hume Record Room Ki Sajavat Bharat Ke Sambandh Acche Ho Jaate Hain To Wahan Ke Jo Financial Institute Ho Chuke Wahan Ke Jo Bade Bade Pani Se Request Hai Aur Wahan Ke Jo Acche Hain Wah Bharat Mein Paise Invest Karte Hain To Uski Wajah Se Company Ki God Bahut Jyada Ho Sakti Hai Aur Uska Jo Poore Ho Roz Desh Ka Uska Sab Kuch To Pushkar Waise Poore Desh Ke Group Jyada Ho Sakti Hain Jaakar Aao Hum Mujhko Bade Level Par Agar Socha Jaye To Wah Jo Kar Rahe Ho Wah Long Term Ke Hisab Se Kar Rahe Hain Aur Uska Jo Hai Aane Wale Time Mein Desh Ke Poore Logon Ko Uska Fayda Hone Wala Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी दो अलग-अलग देश के दौरे कर रहे हैं इससे जो है मैं क्या बोलूं यह कहूंगा कि इनडायरेक्ट लिए जो है कंपनी स्कोर छोटी कंपनी इस को रोजगार मिलेगा क्योंकि जो है मेरे हिसाब से तो अगर मैं फॉरेन इन्वेस्टमे...
जवाब पढ़िये
मोदी जी दो अलग-अलग देश के दौरे कर रहे हैं इससे जो है मैं क्या बोलूं यह कहूंगा कि इनडायरेक्ट लिए जो है कंपनी स्कोर छोटी कंपनी इस को रोजगार मिलेगा क्योंकि जो है मेरे हिसाब से तो अगर मैं फॉरेन इन्वेस्टमेंट होगा तो बड़ी-बड़ी बाहर बाहर देशों में जो बड़ी कंपनियां है वह यहां पर आएंगे अपना काम जमाएंगे अपने स्टेटस बनाएंगे लेकिन उनका मैन्युफैक्चरिंग थे वह लोग बाहर से कर ख़रीद कर नहीं सकते अगर वह करेंगे भी तो टैक्स लगेगा तो भूल का प्रोडक्ट है पर महंगा बिकेगा तुम अपना पेट नहीं कमा पाएंगे तू मेरे हिसाब से तो वह जो है इन्वेस्टमेंट है जो बाहर की कंपनियां है वह अपना सामान का जो प्रोडक्शन का कॉन्ट्रैक्ट है वह यही के छोटे-मोटे कंपनियां को ही देंगे लेकिन उन बड़ी कंपनियों के नाम पर वह बिकेगा तो वह थोड़ा बहुत तो नुकसान जरूर होगा इसमें लेकिन अगर सरकार ने उन्हें बड़ी-बड़ी कंपनियों पर यह टेक्स इस लगाएंगे तो वह तो वह तो जरूर संभव होगा कि कि जो रवि न्यूज़ हो है जो कमाई जो है वह हर देश से बाहर जा रही है उसमें से थोड़ी बहुत तो टैक्स इसके द्वारा भारत में ही रह रिटर्न हो जाएModi Ji Do Alag Alag Desh Ke Daure Kar Rahe Hain Isse Jo Hai Main Kya Bolun Yeh Kahunga Ki Indirect Liye Jo Hai Company Score Choti Company Is Ko Rojgar Milega Kyonki Jo Hai Mere Hisab Se To Agar Main Foreign Investment Hoga To Badi Badi Bahar Bahar Deshon Mein Jo Badi Companiyan Hai Wah Yahan Par Aayenge Apna Kaam Jamaenge Apne Status Banayenge Lekin Unka Manufacturing The Wah Log Bahar Se Kar Kharid Kar Nahi Sakte Agar Wah Karenge Bhi To Tax Lagega To Bhul Ka Product Hai Par Mehnga Bikega Tum Apna Pet Nahi Kama Paenge Tu Mere Hisab Se To Wah Jo Hai Investment Hai Jo Bahar Ki Companiyan Hai Wah Apna Saamaan Ka Jo Production Ka Contracts Hai Wah Yahi Ke Chote Mote Companiyan Ko Hi Denge Lekin Un Badi Companion Ke Naam Par Wah Bikega To Wah Thoda Bahut To Nuksan Jarur Hoga Isme Lekin Agar Sarkar Ne Unhen Badi Badi Companion Par Yeh Tax Is Lgaenge To Wah To Wah To Jarur Sambhav Hoga Ki Ki Jo Ravi News Ho Hai Jo Kamai Jo Hai Wah Har Desh Se Bahar Ja Rahi Hai Usamen Se Thodi Bahut To Tax Iske Dwara Bharat Mein Hi Rah Return Ho Jaye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Modi Ji Agar Videsh Daure Ke Paise Bharat Ki Choti Moti Companiyo Mein Invest Karte Rojgar Badhte, If Modi Ji Increases The Foreign Travel Money Investing In Small Companies Of India, Increasing Employment?

vokalandroid