क्या आपको लगता है कि लोकसभा बिल दे रहे हैं कि आयुर्वेद और होमिओपैथी डॉक्टर एलोपैथी का अभ्यास कर सकते हैं एक अच्छी बात है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं ! मुझे नहीं लगता कि यह उचित चीज है, कि जो आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक की जो डॉक्टर एलोपेथिक का भी अभ्यास कर सकते हैं ;क्योंकि एलोपैथिक के जो ट्रीटमेंट है वह बहुत ही ज्यादा उसके लिए ट्रेनिंग की जरूर...जवाब पढ़िये
नहीं ! मुझे नहीं लगता कि यह उचित चीज है, कि जो आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक की जो डॉक्टर एलोपेथिक का भी अभ्यास कर सकते हैं ;क्योंकि एलोपैथिक के जो ट्रीटमेंट है वह बहुत ही ज्यादा उसके लिए ट्रेनिंग की जरूरत होती है और वह जो चार पांच साल एमबीबीएस करते हैं एलोपैथी में वह भी अपने को कंप्लीट डॉक्टर महसूस नहीं करते हैं l ज्यादातर लोग एमडी करते हैं, एमएस करते हैं और हायर एजुकेशन के लिए जाते हैं, तब जाकर के वह महसूस करते हैं की उनको, जो अपनी डॉक्टरी की अच्छी परख हो गई है, और जो लोग आयुर्वेद और होमियोपैथी के डॉक्टर हैं अगर वह लोग एलोपैथी की प्रेक्टिस करने लगेंगे, तो इस देश का क्या होगा ? तो मैं नहीं समझता कि एक बहुत ही अच्छी कोई योजना है और जब तक जो डॉक्टर से उनकी आलोपैथी में उनको सर्टिफाइड ना हो, तब तक उनको एलोपैथी का प्रेक्टिस करने की परमिशन नहीं मिलनी चाहिए lNahi ! Mujhe Nahi Lagta Ki Yeh Uchit Cheez Hai Ki Jo Ayurvedic Aur Homeopathic Ki Jo Doctor Elopethik Ka Bhi Abhyas Kar Sakte Hain Kyonki Allopathic Ke Jo Treatment Hai Wah Bahut Hi Jyada Uske Liye Training Ki Zaroorat Hoti Hai Aur Wah Jo Char Paanch Saal MBBS Karte Hain Allopathy Mein Wah Bhi Apne Ko Complete Doctor Mahsus Nahi Karte Hain L Jyadatar Log MD Karte Hain Ms Karte Hain Aur Hire Education Ke Liye Jaate Hain Tab Jaakar Ke Wah Mahsus Karte Hain Ki Unko Jo Apni Daktari Ki Acchi Parakh Ho Gayi Hai Aur Jo Log Ayurveda Aur Homeopathy Ke Doctor Hain Agar Wah Log Allopathy Ki Practice Karne Lagenge To Is Desh Ka Kya Hoga ? To Main Nahi Samajhata Ki Ek Bahut Hi Acchi Koi Yojana Hai Aur Jab Tak Jo Doctor Se Unki Alopaithi Mein Unko Certified Na Ho Tab Tak Unko Allopathy Ka Practice Karne Ki Permission Nahi Milani Chahiye L
Likes  39  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो बिल है जो अब लोकसभा पास करने के लिए सोच रहे हैं उसमें है क्या की आयुर्वेदिक जो डॉक्टर और जो होम्योपैथी डॉक्टर है वह अब हेलो एलोपैथी पर जा सकते हैं या नहीं जा सकते हैं l तो इसमें विचार चल रहा है ...जवाब पढ़िये
यह तो बिल है जो अब लोकसभा पास करने के लिए सोच रहे हैं उसमें है क्या की आयुर्वेदिक जो डॉक्टर और जो होम्योपैथी डॉक्टर है वह अब हेलो एलोपैथी पर जा सकते हैं या नहीं जा सकते हैं l तो इसमें विचार चल रहा है कि लोकसभा कह रही है कि उनको जाने की इजाजत दे देनी चाहिए और होता क्या जब आप एक होम्योपैथी डॉक्टर है या फिर एक आयुर्वेदिक डॉक्टर ने तो आपने उसी हिसाब से पढ़ाई करिए होती है, अपने उसी हिसाब से प्रैक्टिस कर ही होती है l और जो आपके एलोपैथी डॉक्टर से वह काफी उनको उनके पास इतना एक्सपीरियंस हो चुका होता है तो वह उस हिसाब से काम कर रहे होते हैं l वह एलोपैथिक डॉक्टर में कितना एक्सपीरियंस हो जाता तो अगर ऐसे ही अगर हमने बिल पास कर दे तो जितने भी होम्योपैथी डॉक्टर ने और जो आयुर्वेदिक डॉक्टर है वह काफी ज्यादा चेंज करके वह होम्योपैथी और आयुर्वेदिक को छोड के एलोपैथी में जाएंगे कि वहां पैसा ज्यादा है l तो अगर वह एलोपैथी के अंदर चले जाते हैं तो होगा यह के लोगों को भी समझ नहीं आ पाएगा कि यह अभी होम्योपैथी से आए हैं या फिर यह पहले से ही एलोपैथ करते हैं क्योंकि ओब्विऔस्लि में जो डॉक्टर पहले से एलोपैथी करते हुए आए हैं वह ज्यादा एक्सपीरियंस हो गए एस कोम्पर टू बाकी जो डॉक्टर है जो होम्योपैथी करते हो जो एलोपैथी में आए l तो मेरे हिसाब से ऐसा करना तो सही नहीं होगा क्योंकि जो डॉक्टर जिस में स्पेशलाइजेशन करता है वह जो इतने टाइम से प्रक्टिस करते हुए आ रहे हैं वह उसी के अंदर बहुत आगे होते हैं, बहुत ज्यादा सफल हो पाते हैं बाकी इस चीज में मेरे को नहीं लगता कि लोकसभा को रिस्क लेना चाहिए l और जहां तक की बात है क्या उनकी पेमेंट वगैरा इनक्रीस करने की क्योंकि हमने देखे क्यों होम्योपैथी जो है होम्योपैथिक डॉक्टर से इतना कमा नहीं पाते जब हम एलोपैथी डॉक्टर से केम्पर करते हैं l तो इनकी सोर्स ऑफ इनकम बढ़ाने का हमें सोचना चाहिए l जो भी ऐसे डॉक्टर से होते हैं उनको कॉलेज या कहीं और पर विजिटिंग लगानी चाहिए उनकी ताकि उनका सोर्स ऑफ इनकम बढे l पर हां मेरे हिसाब से यह कर देना कि वह एलोपैथी प्रेक्टिस कर सके यह थोड़ा गलत हो सकता है lYeh To Bill Hai Jo Ab Lok Sabha Paas Karne Ke Liye Soch Rahe Hain Usamen Hai Kya Ki Ayurvedic Jo Doctor Aur Jo Homoeopathy Doctor Hai Wah Ab Hello Allopathy Par Ja Sakte Hain Ya Nahi Ja Sakte Hain L To Isme Vichar Chal Raha Hai Ki Lok Sabha Keh Rahi Hai Ki Unko Jaane Ki Ijajat De Deni Chahiye Aur Hota Kya Jab Aap Ek Homoeopathy Doctor Hai Ya Phir Ek Ayurvedic Doctor Ne To Aapne Ussi Hisab Se Padhai Kariye Hoti Hai Apne Ussi Hisab Se Practice Kar Hi Hoti Hai L Aur Jo Aapke Allopathy Doctor Se Wah Kafi Unko Unke Paas Itna Experience Ho Chuka Hota Hai To Wah Us Hisab Se Kaam Kar Rahe Hote Hain L Wah Allopathic Doctor Mein Kitna Experience Ho Jata To Agar Aise Hi Agar Humne Bill Paas Kar De To Jitne Bhi Homoeopathy Doctor Ne Aur Jo Ayurvedic Doctor Hai Wah Kafi Jyada Change Karke Wah Homoeopathy Aur Ayurvedic Ko Chhod Ke Allopathy Mein Jaenge Ki Wahan Paisa Jyada Hai L To Agar Wah Allopathy Ke Andar Chale Jaate Hain To Hoga Yeh Ke Logon Ko Bhi Samajh Nahi Aa Payega Ki Yeh Abhi Homoeopathy Se Aaye Hain Ya Phir Yeh Pehle Se Hi Elopaith Karte Hain Kyonki Obwiausli Mein Jo Doctor Pehle Se Allopathy Karte Hue Aaye Hain Wah Jyada Experience Ho Gaye S Kompar To Baki Jo Doctor Hai Jo Homoeopathy Karte Ho Jo Allopathy Mein Aaye L To Mere Hisab Se Aisa Karna To Sahi Nahi Hoga Kyonki Jo Doctor Jis Mein Specialisation Karta Hai Wah Jo Itne Time Se Practice Karte Hue Aa Rahe Hain Wah Ussi Ke Andar Bahut Aage Hote Hain Bahut Jyada Safal Ho Paate Hain Baki Is Cheez Mein Mere Ko Nahi Lagta Ki Lok Sabha Ko Risk Lena Chahiye L Aur Jahan Tak Ki Baat Hai Kya Unki Payment Vagaira Increase Karne Ki Kyonki Humne Dekhe Kyun Homoeopathy Jo Hai Homeopathic Doctor Se Itna Kama Nahi Paate Jab Hum Allopathy Doctor Se Kempar Karte Hain L To Inki Source Of Income Badhane Ka Hume Sochna Chahiye L Jo Bhi Aise Doctor Se Hote Hain Unko College Ya Kahin Aur Par Visiting Lagaani Chahiye Unki Taki Unka Source Of Income Badhe L Par Haan Mere Hisab Se Yeh Kar Dena Ki Wah Allopathy Practice Kar Sake Yeh Thoda Galat Ho Sakta Hai L
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आ देखे मैं नहीं समझता कि मतलब मां कर रहा प्रेक्टिकल ही देखा जाए तो मैं नहीं समझता कि जो लोग जो डॉक्टर जो है वह आयुर्वेद आयुर्वेद और होम्योपैथी का अगर वह डॉक्टर से प्रैक्टिस कर रहे हैं तो उन्हें एलोपैथ...जवाब पढ़िये
आ देखे मैं नहीं समझता कि मतलब मां कर रहा प्रेक्टिकल ही देखा जाए तो मैं नहीं समझता कि जो लोग जो डॉक्टर जो है वह आयुर्वेद आयुर्वेद और होम्योपैथी का अगर वह डॉक्टर से प्रैक्टिस कर रहे हैं तो उन्हें एलोपैथिक लिपि अभ्यास करने की इजाजत देनी चाहिए क्योंकि अगर वह एक पल में जो है वह चले गए तो उनको उसी फिल्में रहना चाहिए या करो एलोपैथी में आ जाएंगे तो वह हो सकता है अपना जो फील है वह छोड़ देंगे हेलो आयुर्वेद छोड़ देंगे या होम्योपैथी हो सकते हैं वह छोड़ देंगे तो मैं सोचा क्यों नहीं करना चाहिए लेकिन अच्छी तरह से देखा जाए तो क्योंकि आयुर्वेद और होम्योपैथी डॉक्टर में जो डॉक्टर जो होते हैं उनको ज्यादा जो इनका में वह नहीं आ पाती है ज्यादा इनकम एलोपैथिक डॉक्टर को भी आ सकती है आती है आ सकती नहीं आती है अभी भी आती है तो मैं चलता है इसलिए हो सकता है कि सरकार ने डॉक्टरों की मदद करने के लिए डॉक्टर के हित में हो सकते हैं उनको प्रेक्टिस करने की इजाजत दी अगर देखा जाए तो इसमें दोनों प्रोस्पेक्टस से देखा जा सकता है जिसमें एक प्राकृतिक से देखा जाए तो यह सही नहीं है और दूसरे पूर्णांक डॉक्टरों के प्रोस्पेक्टस से देखा जाए तो यह अच्छी बातें तो देखते हैं यह पास होता है कि नहीं लोकसभा और राज्यसभा में बिलAa Dekhe Main Nahi Samajhata Ki Matlab Maa Kar Raha Prektikal Hi Dekha Jaye To Main Nahi Samajhata Ki Jo Log Jo Doctor Jo Hai Wah Ayurveda Ayurveda Aur Homoeopathy Ka Agar Wah Doctor Se Practice Kar Rahe Hain To Unhen Allopathic Lipi Abhyas Karne Ki Ijajat Deni Chahiye Kyonki Agar Wah Ek Pal Mein Jo Hai Wah Chale Gaye To Unko Ussi Filme Rehna Chahiye Ya Karo Allopathy Mein Aa Jaenge To Wah Ho Sakta Hai Apna Jo Feel Hai Wah Chod Denge Hello Ayurveda Chod Denge Ya Homoeopathy Ho Sakte Hain Wah Chod Denge To Main Socha Kyun Nahi Karna Chahiye Lekin Acchi Tarah Se Dekha Jaye To Kyonki Ayurveda Aur Homoeopathy Doctor Mein Jo Doctor Jo Hote Hain Unko Jyada Jo Inka Mein Wah Nahi Aa Pati Hai Jyada Income Allopathic Doctor Ko Bhi Aa Sakti Hai Aati Hai Aa Sakti Nahi Aati Hai Abhi Bhi Aati Hai To Main Chalta Hai Isliye Ho Sakta Hai Ki Sarkar Ne Daktaro Ki Madad Karne Ke Liye Doctor Ke Hit Mein Ho Sakte Hain Unko Practice Karne Ki Ijajat Di Agar Dekha Jaye To Isme Dono Prospektas Se Dekha Ja Sakta Hai Jisme Ek Prakritik Se Dekha Jaye To Yeh Sahi Nahi Hai Aur Dusre Purnank Daktaro Ke Prospektas Se Dekha Jaye To Yeh Acchi Batein To Dekhte Hain Yeh Paas Hota Hai Ki Nahi Lok Sabha Aur Rajya Sabha Mein Bill
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से यह बहुत ही गलत बात है कि लोकसभा विरोधी आयुर्वेद और होमियोपैथी डॉक्टर को एलोपैथी योग का अभ्यास कर सकते हैं कि क्या देखूं तो हर जुदाई का रहता है वह सब्जेक्ट अलग-अलग रहते उसका साइंस अलग रहत...जवाब पढ़िये
मेरे हिसाब से यह बहुत ही गलत बात है कि लोकसभा विरोधी आयुर्वेद और होमियोपैथी डॉक्टर को एलोपैथी योग का अभ्यास कर सकते हैं कि क्या देखूं तो हर जुदाई का रहता है वह सब्जेक्ट अलग-अलग रहते उसका साइंस अलग रहता है उसका फील्ड अलग रहता है तो आप कैसे वह दो दूसरे फील्ड को बोल सकते हो कि आप तीसरा फील्ड जो एक है जैसा हम सोचे कि आप अगर होम्योपैथी डॉक्टर है तो आप अगर बोलेंगे कि हां आप एलोपैथी भी कर सकते हो आप अभ्यास कर सकते हो तो यह गलत है उसको जानकारी नहीं रहेगी क्योंकि वह इतने साल से उसी की स्पीड में वह माहिर है उसी का स्टडी की है और उसी सीन में उनका डिग्री है तो अचानक से अब बोले तो तो कहां से उन लोग कर पाएंगे और यह भी बात है कि कोई कोई जो अगर कोई उल्लू बनाना रहेगा किसी को किसी डॉक्टर को तो वह कुछ भी किसी को भी क्या कैसा भी दवाई रिप्लेस कर कर सकता पैसा के लिए और वह करप्ट इंसान जैसा कोई भी कर सकता है तो वह बस आखरी हिंदी एंड लाइफ के लिए अनहेल्दी रहेगा बल्की बहुत अनुवाद रहेगा यह डिसीजनMere Hisab Se Yeh Bahut Hi Galat Baat Hai Ki Lok Sabha Virodhi Ayurveda Aur Homeopathy Doctor Ko Allopathy Yog Ka Abhyas Kar Sakte Hain Ki Kya Dekhu To Har Judaii Ka Rehta Hai Wah Subject Alag Alag Rehte Uska Science Alag Rehta Hai Uska Field Alag Rehta Hai To Aap Kaise Wah Do Dusre Field Ko Bol Sakte Ho Ki Aap Teesra Field Jo Ek Hai Jaisa Hum Soche Ki Aap Agar Homoeopathy Doctor Hai To Aap Agar Bolenge Ki Haan Aap Allopathy Bhi Kar Sakte Ho Aap Abhyas Kar Sakte Ho To Yeh Galat Hai Usko Jankari Nahi Rahegi Kyonki Wah Itne Saal Se Ussi Ki Speed Mein Wah Mahir Hai Ussi Ka Study Ki Hai Aur Ussi Seen Mein Unka Degree Hai To Achanak Se Ab Bole To To Kahan Se Un Log Kar Paenge Aur Yeh Bhi Baat Hai Ki Koi Koi Jo Agar Koi Ullu Banana Rahega Kisi Ko Kisi Doctor Ko To Wah Kuch Bhi Kisi Ko Bhi Kya Kaisa Bhi Dawai Replace Kar Kar Sakta Paisa Ke Liye Aur Wah Corrupt Insaan Jaisa Koi Bhi Kar Sakta Hai To Wah Bus Aakhri Hindi End Life Ke Liye Anaheldi Rahega Bulky Bahut Anuvad Rahega Yeh Decision
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए और लोकसभा में 1:00 बजे यूज़ किया गया है जिसके तहत डॉक्टर आयुर्वेद आया होम्योपैथी उन्होंने उनकी पढ़ाई की है उन्हें परमिशन मिल जाएगी एलोपैथिक में प्रेक्टिस करने की अगर वह एक ब्रिज कोर्स पास कर देत...जवाब पढ़िये
देखिए और लोकसभा में 1:00 बजे यूज़ किया गया है जिसके तहत डॉक्टर आयुर्वेद आया होम्योपैथी उन्होंने उनकी पढ़ाई की है उन्हें परमिशन मिल जाएगी एलोपैथिक में प्रेक्टिस करने की अगर वह एक ब्रिज कोर्स पास कर देते हैं तो जो नेशनल मेडिकल कमीशन मिले 2017का इसके अंदर कुछ ऐसे मतलब ही चाहता है कि एक जस्टिन जो अभी आलरेडी सिस्टम रूल्स है उनको थोड़ा चेंज कर कर एक नई पार्टी का गठन यूज़ करने के लिए इस फिल्म में जो प्रॉब्लम ऑफ फोर्टी नाइन है वह कहता है कि जो सेंट्रल काउंसिल ऑफ होम्योपैथी और सेंट्रल काउंसिल ऑफ इंडियन मेडिसिन है अगली सुबह सही है जो होती है यह चाहता है कि जो इंटरफेरेंस है होम्योपैथी और एलोपैथी उनके बीच में डिफेंस भाग जाए लेकिन मुझे लगता है कि एक पर्टिकुलर लेवल तक जो एलोपैथिक वाले भी और जो होम्योपैथिक वाले 20 इंच होते हैं वह सीन पढ़ाई ही करते हैं और आप थोड़ा आगे जाकर बदली बस एकदम चेंज हो जाता है उनकी जो प्रैक्टिस है वह चेंज हो जाती है तो उसे ब्रिज कोर्स है अगर कि इतना सक्षम है की एलोपैथिक पड़े हुए बच्चों को यह सूरज को उतनी अच्छी सी ट्रेन कर सके कि वह बेसिक लेवल पर हो वह एलोपैथी भी कर सके वह प्रैक्टिस चालू कर सके तो शादी ठीक है क्योंकि अभी मैं डॉक्टर की बहुत जरूरत है लेकिन अगर ये ब्रिज कोर्स में सक्षम नहीं है तो अलार्म नहीं करना चाहिए क्योंकि बहुत लोगों की जान होती है डॉक्टर के हाथ में तू इस ब्रिज कोर्स पर डिपेंड करेगा कि यह सही है या नहींDekhie Aur Lok Sabha Mein 1:00 Baje Use Kiya Gaya Hai Jiske Tahat Doctor Ayurveda Aaya Homoeopathy Unhone Unki Padhai Ki Hai Unhen Permission Mil Jayegi Allopathic Mein Practice Karne Ki Agar Wah Ek Bridge Course Paas Kar Dete Hain To Jo National Medical Commision Mile Ka Iske Andar Kuch Aise Matlab Hi Chahta Hai Ki Ek Justin Jo Abhi Already System Rules Hai Unko Thoda Change Kar Kar Ek Nayi Party Ka Gathan Use Karne Ke Liye Is Film Mein Jo Problem Of FORTE Nine Hai Wah Kahata Hai Ki Jo Central Council Of Homoeopathy Aur Central Council Of Indian Medicine Hai Agli Subah Sahi Hai Jo Hoti Hai Yeh Chahta Hai Ki Jo Interference Hai Homoeopathy Aur Allopathy Unke Beech Mein Defence Bhag Jaye Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Ek Particular Level Tak Jo Allopathic Wale Bhi Aur Jo Homeopathic Wale 20 Inch Hote Hain Wah Seen Padhai Hi Karte Hain Aur Aap Thoda Aage Jaakar Badli Bus Ekdam Change Ho Jata Hai Unki Jo Practice Hai Wah Change Ho Jati Hai To Use Bridge Course Hai Agar Ki Itna Saksham Hai Ki Allopathic Pade Hue Bacchon Ko Yeh Suraj Ko Utani Acchi Si Train Kar Sake Ki Wah Basic Level Par Ho Wah Allopathy Bhi Kar Sake Wah Practice Chalu Kar Sake To Shadi Theek Hai Kyonki Abhi Main Doctor Ki Bahut Zaroorat Hai Lekin Agar Ye Bridge Course Mein Saksham Nahi Hai To Alarm Nahi Karna Chahiye Kyonki Bahut Logon Ki Jaan Hoti Hai Doctor Ke Hath Mein Tu Is Bridge Course Par Depend Karega Ki Yeh Sahi Hai Ya Nahi
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों जिस प्रकार हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं ठीक उसी प्रकार इसके भी दो पहलू हो सकते हैं जो मुख्य रूप से डॉक्टरों पर निर्भर करता है क्योंकि जहां पर देखा जाए तो अगर हम किसी रोग का या कोई दिल...जवाब पढ़िये
नमस्कार दोस्तों जिस प्रकार हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं ठीक उसी प्रकार इसके भी दो पहलू हो सकते हैं जो मुख्य रूप से डॉक्टरों पर निर्भर करता है क्योंकि जहां पर देखा जाए तो अगर हम किसी रोग का या कोई दिल किसी भी बीमारी काजल इलाज कराते हैं तो वह एलोपैथिक से ठीक नहीं हो पाता है लेकिन आयुर्वेद से या होम्योपैथी से ठीक हो जाता है तो मेरे को लगता है कि सरकार को इस पर इस पर इसे कुछ लोगों को आजमाना चाहिए और अगर पॉजिटिव रिजल्ट है तो उसको लाइव करना चाहिए पाटेकर नेगेटिव रिजल्ट है तो उसे पसंद कर देना चाहिए क्योंकि यह मुख्य रूप से डॉक्टरों पर निर्भर करता है कि वह इसे कैसे यूज करते हैं पॉजिटिव जाने के लिए थैंक्सNamaskar Doston Jis Prakar Har Sikke Ke 2 Pahaloo Hote Hain Theek Ussi Prakar Iske Bhi Do Pahaloo Ho Sakte Hain Jo Mukhya Roop Se Daktaro Par Nirbhar Karta Hai Kyonki Jahan Par Dekha Jaye To Agar Hum Kisi Rog Ka Ya Koi Dil Kisi Bhi Bimari Kajal Ilaj Karate Hain To Wah Allopathic Se Theek Nahi Ho Pata Hai Lekin Ayurveda Se Ya Homoeopathy Se Theek Ho Jata Hai To Mere Ko Lagta Hai Ki Sarkar Ko Is Par Is Par Ise Kuch Logon Ko Ajamana Chahiye Aur Agar Positive Result Hai To Usko Live Karna Chahiye Patekar Negative Result Hai To Use Pasand Kar Dena Chahiye Kyonki Yeh Mukhya Roop Se Daktaro Par Nirbhar Karta Hai Ki Wah Ise Kaise Use Karte Hain Positive Jaane Ke Liye Thanks
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे ख्याल से तो यह गलत बात तो नहीं है लेकिन कितना अच्छा लगा और कितना बुरा होगा यह देखने के लिए तो हम इन स्कीम का रोज देखना पड़ेगा अभी तो जो जो नया विधि बना रहा है उसमें तो बस एक गया बताया है कि गवर्न...जवाब पढ़िये
मेरे ख्याल से तो यह गलत बात तो नहीं है लेकिन कितना अच्छा लगा और कितना बुरा होगा यह देखने के लिए तो हम इन स्कीम का रोज देखना पड़ेगा अभी तो जो जो नया विधि बना रहा है उसमें तो बस एक गया बताया है कि गवर्नमेंट चाहे तो शुरू कर सकते हैं लेकिन अभी तो हमें पता नहीं कि कौन सा कन्वर्जन कोर्स होगा कैसे करेंगे और कौन सा प्रैक्टिशनर उसको भी उपलब्ध होगा वैसे ही ऐसे ऐसे नहीं है कि हमारा देश में जो 5 साल में व्यस्त करें वह सब रूरल एरियाज में जगह काम कर रहा है मेरे ख्याल से तो यह प्राइमरी रूरल एरिया उसके लिए ही बना हुआ है इसकी और हमें यह जाना होगा कि यह तो सर्जरी वाला कॉन्प्लेक्स प्रोसीजर के लिए तो नहीं कनवर्जन होगा यह तो बस बेसिकली जो प्राइमरी हेल्थ केयर है जो छोटी मोटी दवाई देना पड़ेगा बस उसका ऐसे चिकित्सक के लिए ही कर रहा है तो देखना खेती कैसे करें करते हैं यह रूल्स और किन-किन लोगों को यह कन्वर्शन करने के लिए परमिशन देंगेMere Khayal Se To Yeh Galat Baat To Nahi Hai Lekin Kitna Accha Laga Aur Kitna Bura Hoga Yeh Dekhne Ke Liye To Hum In Scheme Ka Roj Dekhna Padega Abhi To Jo Jo Naya Vidhi Bana Raha Hai Usamen To Bus Ek Gaya Bataya Hai Ki Government Chahe To Shuru Kar Sakte Hain Lekin Abhi To Hume Pata Nahi Ki Kaun Sa Conversion Course Hoga Kaise Karenge Aur Kaun Sa Praiktishanar Usko Bhi Uplabdha Hoga Waise Hi Aise Aise Nahi Hai Ki Hamara Desh Mein Jo 5 Saal Mein Vyasta Karen Wah Sab Rural Areas Mein Jagah Kaam Kar Raha Hai Mere Khayal Se To Yeh Primary Rural Area Uske Liye Hi Bana Hua Hai Iski Aur Hume Yeh Jana Hoga Ki Yeh To Surgery Wala Conplex Procedure Ke Liye To Nahi Kanavarjan Hoga Yeh To Bus Basically Jo Primary Health Care Hai Jo Choti Moti Dawai Dena Padega Bus Uska Aise Chikitsak Ke Liye Hi Kar Raha Hai To Dekhna Kheti Kaise Karen Karte Hain Yeh Rules Aur Kin Kin Logon Ko Yeh Kanwarshan Karne Ke Liye Permission Denge
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Aapko Lagta Hai Ki Lok Sabha Bill De Rahe Hain Ki Ayurveda Aur Homeopathy Doctor Allopathy Ka Abhyas Kar Sakte Hain Ek Acchi Baat Hai, Do You Think People Are Giving Lok Sabha Bills That Ayurveda And Homeopathy Doctor Can Practice Allopathy Is A Good Thing? , Wah Ayurveda

vokalandroid