search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

मै अपने पापा से बात करने मे हिचकता हूँ, कैसे मै उनसे खुलकर बात कर सकता हूँ, ताकि मै कॉम्फर्टेबल रहूँ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी क्या वजह है कि आपको अपने पापा से डर लगता है या घबराहट होती है या फिर आप संकोच करते हैं और से बात करने में संकोच इसलिए क्या कि वह कोई या पेशेंट है किसी बीमारी के या फिर को गुस्सा आता है मारेंगे फिर से निकाल देंगे बेइज्जती करेंगे किस बात का आपको डर है संकोच किस बात का है अगर वह बचपन से आपकी बात नहीं सुनते आए हैं आप को नजरअंदाज करते आए हैं तो जख्मी आपका इको बहुत हॉट हुआ होगा अब काफी परेशान होंगे दुखी होंगे इसलिए शायद आप यह सवाल पूछ रहे हैं लेकिन आपको चाहिए कि अब आप इस बात को भुला दें और एक नया चैप्टर खुले अपने लाइफ में अपने पिताजी के पास जाएं और अपनी बात रखें लेकिन एक क्लियर टर्म से क्लियर कम्युनिकेशन इस मोर इंपॉर्टेंट देन इन इक्वेशन एग्जांपल अगर आप अपनी बात को घुमा फिरा कर कहेंगे तो किसी को भी इरिटेशन होगा आपको सबसे पहले अपनी बात को कम से कम शब्दों में क्लियर टर्म्स में अगर आप कह देते हैं तो सामने वाला भी आपकी बात समझ सकता है तो कुछ भी कहने से पहले आप उसको कंपार्टमेंटलाइज कीजिए टॉपिक मेड बॉडी एंड टेल जो भी आप कहना चाहते हैं उसको इन तीन भागों में डिवाइड कीजिए और अपनी बात कम से कम टाइम में पहले पापा से कह दीजिए उसके बाद आप यह मत सोचें कि आपको कुछ ऑर्डर धमकाया जाएगा या फिर मना कर दिया जाएगा जो भी आगे जो होगा वह होगा आप पहले से प्लान मत कीजिए कि पापा का रिएक्शन क्या होगा आप अपना काम कीजिए जैकसन जो होगा वह तो भुगत रही है आपको लेकिन कोशिश ही नहीं करेंगे तो फिर क्या फायदा हुआ अगर आप सोच सोच में ही पूरा टाइम निकाल देंगे तो क्या फायदा होगा तो आप हिम्मत जुटाई ए क्लियर कम्युनिकेशन में कम से कम शब्दों में उनसे जो आप कहना चाहते हैं वह क्लियर ले बता दीजिए और उसके बाद आई एम सॉरी विल अंडरस्टैंड आपकी बात आपके पापा जरुर समझेंगे और आप दोनों के बीच में कंफर्टेबल रिश्ता कायम हो जाएगा
Romanized Version
ऐसी क्या वजह है कि आपको अपने पापा से डर लगता है या घबराहट होती है या फिर आप संकोच करते हैं और से बात करने में संकोच इसलिए क्या कि वह कोई या पेशेंट है किसी बीमारी के या फिर को गुस्सा आता है मारेंगे फिर से निकाल देंगे बेइज्जती करेंगे किस बात का आपको डर है संकोच किस बात का है अगर वह बचपन से आपकी बात नहीं सुनते आए हैं आप को नजरअंदाज करते आए हैं तो जख्मी आपका इको बहुत हॉट हुआ होगा अब काफी परेशान होंगे दुखी होंगे इसलिए शायद आप यह सवाल पूछ रहे हैं लेकिन आपको चाहिए कि अब आप इस बात को भुला दें और एक नया चैप्टर खुले अपने लाइफ में अपने पिताजी के पास जाएं और अपनी बात रखें लेकिन एक क्लियर टर्म से क्लियर कम्युनिकेशन इस मोर इंपॉर्टेंट देन इन इक्वेशन एग्जांपल अगर आप अपनी बात को घुमा फिरा कर कहेंगे तो किसी को भी इरिटेशन होगा आपको सबसे पहले अपनी बात को कम से कम शब्दों में क्लियर टर्म्स में अगर आप कह देते हैं तो सामने वाला भी आपकी बात समझ सकता है तो कुछ भी कहने से पहले आप उसको कंपार्टमेंटलाइज कीजिए टॉपिक मेड बॉडी एंड टेल जो भी आप कहना चाहते हैं उसको इन तीन भागों में डिवाइड कीजिए और अपनी बात कम से कम टाइम में पहले पापा से कह दीजिए उसके बाद आप यह मत सोचें कि आपको कुछ ऑर्डर धमकाया जाएगा या फिर मना कर दिया जाएगा जो भी आगे जो होगा वह होगा आप पहले से प्लान मत कीजिए कि पापा का रिएक्शन क्या होगा आप अपना काम कीजिए जैकसन जो होगा वह तो भुगत रही है आपको लेकिन कोशिश ही नहीं करेंगे तो फिर क्या फायदा हुआ अगर आप सोच सोच में ही पूरा टाइम निकाल देंगे तो क्या फायदा होगा तो आप हिम्मत जुटाई ए क्लियर कम्युनिकेशन में कम से कम शब्दों में उनसे जो आप कहना चाहते हैं वह क्लियर ले बता दीजिए और उसके बाद आई एम सॉरी विल अंडरस्टैंड आपकी बात आपके पापा जरुर समझेंगे और आप दोनों के बीच में कंफर्टेबल रिश्ता कायम हो जाएगाAisi Kya Wajah Hai Ki Aapko Apne Papa Se Dar Lagta Hai Ya Ghabarahat Hoti Hai Ya Phir Aap Sankoch Karte Hain Aur Se Baat Karne Mein Sankoch Isliye Kya Ki Wah Koi Ya Patient Hai Kisi Bimari Ke Ya Phir Ko Gussa Aata Hai Marenge Phir Se Nikaal Denge Bejjati Karenge Kis Baat Ka Aapko Dar Hai Sankoch Kis Baat Ka Hai Agar Wah Bachpan Se Aapki Baat Nahi Sunte Aaye Hain Aap Ko Najarandaj Karte Aaye Hain Toh Jakhmi Aapka Iko Bahut Hot Hua Hoga Ab Kafi Pareshan Honge Dukhi Honge Isliye Shayad Aap Yeh Sawal Poochh Rahe Hain Lekin Aapko Chahiye Ki Ab Aap Is Baat Ko Bhula Dein Aur Ek Naya Chapter Khule Apne Life Mein Apne Pitaji Ke Paas Jayen Aur Apni Baat Rakhen Lekin Ek Clear Term Se Clear Communication Is Mor Important Then In Equation Example Agar Aap Apni Baat Ko Ghuma Fira Kar Kahenge Toh Kisi Ko Bhi Irritation Hoga Aapko Sabse Pehle Apni Baat Ko Kam Se Kam Shabdo Mein Clear Terms Mein Agar Aap Keh Dete Hain Toh Saamne Vala Bhi Aapki Baat Samajh Sakta Hai Toh Kuch Bhi Kehne Se Pehle Aap Usko Kampartamentalaij Kijiye Topic Made Body End Tell Jo Bhi Aap Kehna Chahte Hain Usko In Teen Bhaagon Mein Divide Kijiye Aur Apni Baat Kam Se Kam Time Mein Pehle Papa Se Keh Dijiye Uske Baad Aap Yeh Mat Sochen Ki Aapko Kuch Order Dhamkaya Jayega Ya Phir Mana Kar Diya Jayega Jo Bhi Aage Jo Hoga Wah Hoga Aap Pehle Se Plan Mat Kijiye Ki Papa Ka Reaction Kya Hoga Aap Apna Kaam Kijiye Jackson Jo Hoga Wah Toh Bhugat Rahi Hai Aapko Lekin Koshish Hi Nahi Karenge Toh Phir Kya Fayda Hua Agar Aap Soch Soch Mein Hi Pura Time Nikaal Denge Toh Kya Fayda Hoga Toh Aap Himmat Jutai A Clear Communication Mein Kam Se Kam Shabdo Mein Unse Jo Aap Kehna Chahte Hain Wah Clear Le Bata Dijiye Aur Uske Baad I M Sorry Will Understand Aapki Baat Aapke Papa Zaroor Samjhenge Aur Aap Dono Ke Beech Mein Comfortable Rishta Kayam Ho Jayega
Likes  59  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

ques_icon

ques_icon

ques_icon

ques_icon

अधिक जवाब


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों बचपन से ही हम कई बातें मां से शेयर कर पाते हैं लेकिन पिताजी से शेयर नहीं कर पाते और जैसे जैसे हम बड़े हो रहे होते हैं तो अनुशासन में डिसिप्लिन में लाना एक बाप का काम होता है उसी के वजह से वह गेम तैयार हो जाता है जिसकी वजह से हम खुलकर बात नहीं कर पाते लेकिन जब हम बड़े होने लगते हैं तो हमें ऐसा एहसास होता है कि यार मैं भी मेरे पापा के साथ बैठकर डिस्कस करो वह भी उनकी दिन की बात बताएं मैं भी बात बताऊं और इससे एक बहुत ही अच्छा रिलेशन तैयार होता है लेकिन इन चीजों की आदत हो जाती है कि वह भी हमसे बात नहीं करते हम भी उनसे बात नहीं करते तो इसके ऊपर में सलूशन देना चाहूंगा कि अगर आप जाग रहे हो कुछ हिचक रहे हो बात करने के लिए तो आप उनके साथ बैठिए और सवाल और जवाब से शुरुआत कीजिए क्योंकि कोई भी कन्वर्सेशन जब सवाल और जवाब के ऊपर आते हैं तो डिस्कशन लंबा चलता है अगर को लगता है कि कोई पर्टिकुलर टॉपिक पर बात नहीं करनी आपको उनको अगर कुछ कन्वर्सेशन में बात करनी है तो आप उनसे सवाल पूछे कोई भी टॉपिक पर उनसे उनका आंसर मांगी उनको बहुत अच्छा लगेगा कि मेरा बेटा मेरे से राय ले रहे हैं हालांकि हम उनसे कभी डिस्कस नहीं करते लेकिन यह डिस्कशन का सबसे अच्छा एक तरीका है कि जिससे टॉपिक कोई तीसरा रहेगा लेकिन डिस्कशन आप दोनों का चलेगा और धीरे-धीरे वह बातें करते-करते आपका रिलेशन आगे अच्छी तरह से बढ़ सकता है अगर यह भी आप नहीं कर सकते हो तो दूसरा एक रामबाण इलाज देता हूं मैं आपको कि आप अपने पापा को एक लेटर लिखो चिट्ठी देखो उसमें आपके दिल की जो भी बातें हैं जो भी भड़ास है उस सब लिख डालो कि पापा मैं आपको बहुत प्यार करता हूं या मैं आपसे बात करना चाहता हूं लेकिन कर नहीं पाता हूं जो भी आप चाहते हो सब लिख डालो रोलेट उनको दे दो फिर देखो क्या चमत्कार होता है
Romanized Version
दोस्तों बचपन से ही हम कई बातें मां से शेयर कर पाते हैं लेकिन पिताजी से शेयर नहीं कर पाते और जैसे जैसे हम बड़े हो रहे होते हैं तो अनुशासन में डिसिप्लिन में लाना एक बाप का काम होता है उसी के वजह से वह गेम तैयार हो जाता है जिसकी वजह से हम खुलकर बात नहीं कर पाते लेकिन जब हम बड़े होने लगते हैं तो हमें ऐसा एहसास होता है कि यार मैं भी मेरे पापा के साथ बैठकर डिस्कस करो वह भी उनकी दिन की बात बताएं मैं भी बात बताऊं और इससे एक बहुत ही अच्छा रिलेशन तैयार होता है लेकिन इन चीजों की आदत हो जाती है कि वह भी हमसे बात नहीं करते हम भी उनसे बात नहीं करते तो इसके ऊपर में सलूशन देना चाहूंगा कि अगर आप जाग रहे हो कुछ हिचक रहे हो बात करने के लिए तो आप उनके साथ बैठिए और सवाल और जवाब से शुरुआत कीजिए क्योंकि कोई भी कन्वर्सेशन जब सवाल और जवाब के ऊपर आते हैं तो डिस्कशन लंबा चलता है अगर को लगता है कि कोई पर्टिकुलर टॉपिक पर बात नहीं करनी आपको उनको अगर कुछ कन्वर्सेशन में बात करनी है तो आप उनसे सवाल पूछे कोई भी टॉपिक पर उनसे उनका आंसर मांगी उनको बहुत अच्छा लगेगा कि मेरा बेटा मेरे से राय ले रहे हैं हालांकि हम उनसे कभी डिस्कस नहीं करते लेकिन यह डिस्कशन का सबसे अच्छा एक तरीका है कि जिससे टॉपिक कोई तीसरा रहेगा लेकिन डिस्कशन आप दोनों का चलेगा और धीरे-धीरे वह बातें करते-करते आपका रिलेशन आगे अच्छी तरह से बढ़ सकता है अगर यह भी आप नहीं कर सकते हो तो दूसरा एक रामबाण इलाज देता हूं मैं आपको कि आप अपने पापा को एक लेटर लिखो चिट्ठी देखो उसमें आपके दिल की जो भी बातें हैं जो भी भड़ास है उस सब लिख डालो कि पापा मैं आपको बहुत प्यार करता हूं या मैं आपसे बात करना चाहता हूं लेकिन कर नहीं पाता हूं जो भी आप चाहते हो सब लिख डालो रोलेट उनको दे दो फिर देखो क्या चमत्कार होता हैDoston Bachpan Se Hi Hum Kai Batein Maa Se Share Kar Paate Hain Lekin Pitaji Se Share Nahi Kar Paate Aur Jaise Jaise Hum Bade Ho Rahe Hote Hain Toh Anushasan Mein Discipline Mein Lana Ek Baap Ka Kaam Hota Hai Usi Ke Wajah Se Wah Game Taiyaar Ho Jata Hai Jiski Wajah Se Hum Khulkar Baat Nahi Kar Paate Lekin Jab Hum Bade Hone Lagte Hain Toh Humein Aisa Ehsaas Hota Hai Ki Yaar Main Bhi Mere Papa Ke Saath Baithkar Disky Karo Wah Bhi Unki Din Ki Baat Bataye Main Bhi Baat Bataun Aur Isse Ek Bahut Hi Accha Relation Taiyaar Hota Hai Lekin In Chijon Ki Aadat Ho Jati Hai Ki Wah Bhi Humse Baat Nahi Karte Hum Bhi Unse Baat Nahi Karte Toh Iske Upar Mein Salution Dena Chahunga Ki Agar Aap Jag Rahe Ho Kuch Hichak Rahe Ho Baat Karne Ke Liye Toh Aap Unke Saath Baithie Aur Sawal Aur Jawab Se Shuruaat Kijiye Kyonki Koi Bhi Conversation Jab Sawal Aur Jawab Ke Upar Aate Hain Toh Discussion Lamba Chalta Hai Agar Ko Lagta Hai Ki Koi Particular Topic Par Baat Nahi Karni Aapko Unko Agar Kuch Conversation Mein Baat Karni Hai Toh Aap Unse Sawal Poochhe Koi Bhi Topic Par Unse Unka Answer Maangi Unko Bahut Accha Lagega Ki Mera Beta Mere Se Rai Le Rahe Hain Halanki Hum Unse Kabhi Disky Nahi Karte Lekin Yeh Discussion Ka Sabse Accha Ek Tarika Hai Ki Jisse Topic Koi Teesra Rahega Lekin Discussion Aap Dono Ka Chalega Aur Dhire Dhire Wah Batein Karte Karte Aapka Relation Aage Acchi Tarah Se Badh Sakta Hai Agar Yeh Bhi Aap Nahi Kar Sakte Ho Toh Doosra Ek Rambaan Ilaj Deta Hoon Main Aapko Ki Aap Apne Papa Ko Ek Letter Likho Chitthi Dekho Usmein Aapke Dil Ki Jo Bhi Batein Hain Jo Bhi Bhadaas Hai Us Sab Likh Dalo Ki Papa Main Aapko Bahut Pyar Karta Hoon Ya Main Aapse Baat Karna Chahta Hoon Lekin Kar Nahi Pata Hoon Jo Bhi Aap Chahte Ho Sab Likh Dalo Rolet Unko De Do Phir Dekho Kya Chamatkar Hota Hai
Likes  13  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आइए बहुत जरूरी है कि बच्चे अपने माता-पिता के साथ कंफर्टेबल रिलेशनशिप सेट करें अगर आप में हिचक है आप अपने पापा से खुलकर बात नहीं कर पा रहे हैं तो आप एक ही बार में जो बातें बहुत महत्वपूर्ण हो आपके जीवन में क्या बहुत इंपॉर्टेंट की बातें हैं उनसे मत स्टार्ट कीजिए छोटे-छोटे इधर-उधर की बातों को लेकर अपने पापा के साथ बैठे उनसे बातें कीजिए रोज कोशिश कीजिए कि अगर ज्यादा दे नहीं भी तो आप 10:20 मिनट आप लोग क्वालिटी टाइम एक दूसरे के साथ सेंड कर रहे हो वह तुम्हें कोई डिस्टर्ब नहीं हो मतलब कि आप लोग कोई मोबाइल पर नहीं देख रहे हैं कोई टीवी में नहीं देख रहा है आपस में बात कीजिए अगर कोई चीज जो मैं आपके पिता गुस्सा हो रहे हैं तो आप ही समझने की कोशिश कीजिए कि आपके पिता को इसमें क्या अच्छा नहीं लग रहा है ना कि उल्टा आप भी उनसे ज्यादा और गुस्सा हो जाए और वह दूरियां बढ़ती चली जाए और गुस्सा नहीं भी तो कि आपके मन में डर बैठ कर चला जाए ऐसा नहीं होना चाहिए समझने की कोशिश कीजिए धीरे धीरे आप जितना उनसे बात करेंगे उतना ही आप खुलेंगे उतना ही आकर रिलेशनशिप इंप्रूव होगा इस वेरी राइटली सैटलाइट कम्युनिकेशन इस दुख की कोई भी रिलेशनशिप है वह माता-पिता का हो जाए वह बच्चे के साथ हो जाए वह हस्बैंड वाइफ में हूं जहां कम्युनिकेशन नहीं होगा वहां रिलेशनशिप अच्छा नहीं होगा
Romanized Version
आइए बहुत जरूरी है कि बच्चे अपने माता-पिता के साथ कंफर्टेबल रिलेशनशिप सेट करें अगर आप में हिचक है आप अपने पापा से खुलकर बात नहीं कर पा रहे हैं तो आप एक ही बार में जो बातें बहुत महत्वपूर्ण हो आपके जीवन में क्या बहुत इंपॉर्टेंट की बातें हैं उनसे मत स्टार्ट कीजिए छोटे-छोटे इधर-उधर की बातों को लेकर अपने पापा के साथ बैठे उनसे बातें कीजिए रोज कोशिश कीजिए कि अगर ज्यादा दे नहीं भी तो आप 10:20 मिनट आप लोग क्वालिटी टाइम एक दूसरे के साथ सेंड कर रहे हो वह तुम्हें कोई डिस्टर्ब नहीं हो मतलब कि आप लोग कोई मोबाइल पर नहीं देख रहे हैं कोई टीवी में नहीं देख रहा है आपस में बात कीजिए अगर कोई चीज जो मैं आपके पिता गुस्सा हो रहे हैं तो आप ही समझने की कोशिश कीजिए कि आपके पिता को इसमें क्या अच्छा नहीं लग रहा है ना कि उल्टा आप भी उनसे ज्यादा और गुस्सा हो जाए और वह दूरियां बढ़ती चली जाए और गुस्सा नहीं भी तो कि आपके मन में डर बैठ कर चला जाए ऐसा नहीं होना चाहिए समझने की कोशिश कीजिए धीरे धीरे आप जितना उनसे बात करेंगे उतना ही आप खुलेंगे उतना ही आकर रिलेशनशिप इंप्रूव होगा इस वेरी राइटली सैटलाइट कम्युनिकेशन इस दुख की कोई भी रिलेशनशिप है वह माता-पिता का हो जाए वह बच्चे के साथ हो जाए वह हस्बैंड वाइफ में हूं जहां कम्युनिकेशन नहीं होगा वहां रिलेशनशिप अच्छा नहीं होगाAaiye Bahut Zaroori Hai Ki Bacche Apne Mata Pita Ke Saath Comfortable Relationship Set Karein Agar Aap Mein Hichak Hai Aap Apne Papa Se Khulkar Baat Nahi Kar Pa Rahe Hain Toh Aap Ek Hi Baar Mein Jo Batein Bahut Mahatvapurna Ho Aapke Jeevan Mein Kya Bahut Important Ki Batein Hain Unse Mat Start Kijiye Chhote Chhote Idhar Udhar Ki Baaton Ko Lekar Apne Papa Ke Saath Baithe Unse Batein Kijiye Roj Koshish Kijiye Ki Agar Zyada De Nahi Bhi Toh Aap 10:20 Minute Aap Log Quality Time Ek Dusre Ke Saath Send Kar Rahe Ho Wah Tumhe Koi Disturb Nahi Ho Matlab Ki Aap Log Koi Mobile Par Nahi Dekh Rahe Hain Koi TV Mein Nahi Dekh Raha Hai Aapas Mein Baat Kijiye Agar Koi Cheez Jo Main Aapke Pita Gussa Ho Rahe Hain Toh Aap Hi Samjhne Ki Koshish Kijiye Ki Aapke Pita Ko Ismein Kya Accha Nahi Lag Raha Hai Na Ki Ulta Aap Bhi Unse Zyada Aur Gussa Ho Jaye Aur Wah Duriyan Badhti Chali Jaye Aur Gussa Nahi Bhi Toh Ki Aapke Man Mein Dar Baith Kar Chala Jaye Aisa Nahi Hona Chahiye Samjhne Ki Koshish Kijiye Dhire Dhire Aap Jitna Unse Baat Karenge Utana Hi Aap Khulenge Utana Hi Aakar Relationship Improve Hoga Is Very Raitali Satellite Communication Is Dukh Ki Koi Bhi Relationship Hai Wah Mata Pita Ka Ho Jaye Wah Bacche Ke Saath Ho Jaye Wah Husband Wife Mein Hoon Jahan Communication Nahi Hoga Wahan Relationship Accha Nahi Hoga
Likes  58  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी माने भाई आपका सबसे नजदीकी रिश्ता आपका घरेलू सामाजिक संबंध है आपके पिता से आपकी मजबूरी आप जरूर आपकी आदत और आपकी दीदी से लेकर आपकी मनो मस्तिष्क में चल रही प्रतिक्रिया वह घटना और समस्याओं का सभी का एक ब्यौरा आपके पिता के पास होता है और आप सोचते हैं कि उन्हें पता नहीं है या आप उनसे बात करने में डरते हैं तो यह बहन अपने दिल से निकाल दीजिए क्योंकि वह आपके बाप है समझे तो समझ सके इस बात को रोशनी को काफी गहराई से वह अपने हैं जिनसे आप चाहते हैं वह आपको चाहते हैं उनका मकसद खुद की खुशी से लेकर आपकी खुशी तक है और आप मुझसे डरने में बोलना नहीं चाहते हैं या हमसे बात करने में निश्चित नहीं है तो मेरा मानना है कि आप अपने मन में चल रहे उन समस्याओं के निदान को लेकर अपने पिता से अपनी मां से या अपने परिवार के किसी भी सदस्य से किसी ऐसे विषय पर बात करें जिससे अपनी खुशी महसूस हो या ऐसे विषय पर बात करें जिससे वह गंभीर हो जाए उसके पश्चात उनके मन में एक की आत्मकथा का सर्जन जैसे कि कुछ बोलना है कुछ सुनना है जानना है कुछ करना है आदि अनादि कुछ बहुत बहुत बहुत कुछ ऐसा कर कर अपनी बात खुले दिल से खुले मन से सोच कर अपने पिताजी से बोल दो
Romanized Version
जी माने भाई आपका सबसे नजदीकी रिश्ता आपका घरेलू सामाजिक संबंध है आपके पिता से आपकी मजबूरी आप जरूर आपकी आदत और आपकी दीदी से लेकर आपकी मनो मस्तिष्क में चल रही प्रतिक्रिया वह घटना और समस्याओं का सभी का एक ब्यौरा आपके पिता के पास होता है और आप सोचते हैं कि उन्हें पता नहीं है या आप उनसे बात करने में डरते हैं तो यह बहन अपने दिल से निकाल दीजिए क्योंकि वह आपके बाप है समझे तो समझ सके इस बात को रोशनी को काफी गहराई से वह अपने हैं जिनसे आप चाहते हैं वह आपको चाहते हैं उनका मकसद खुद की खुशी से लेकर आपकी खुशी तक है और आप मुझसे डरने में बोलना नहीं चाहते हैं या हमसे बात करने में निश्चित नहीं है तो मेरा मानना है कि आप अपने मन में चल रहे उन समस्याओं के निदान को लेकर अपने पिता से अपनी मां से या अपने परिवार के किसी भी सदस्य से किसी ऐसे विषय पर बात करें जिससे अपनी खुशी महसूस हो या ऐसे विषय पर बात करें जिससे वह गंभीर हो जाए उसके पश्चात उनके मन में एक की आत्मकथा का सर्जन जैसे कि कुछ बोलना है कुछ सुनना है जानना है कुछ करना है आदि अनादि कुछ बहुत बहुत बहुत कुछ ऐसा कर कर अपनी बात खुले दिल से खुले मन से सोच कर अपने पिताजी से बोल दोJi Maane Bhai Aapka Sabse Najadiki Rishta Aapka Gharelu Samajik Sambandh Hai Aapke Pita Se Aapki Majburi Aap Zaroor Aapki Aadat Aur Aapki Didi Se Lekar Aapki Mano Mastishk Mein Chal Rahi Pratikriya Wah Ghatna Aur Samasyaon Ka Sabhi Ka Ek Byaura Aapke Pita Ke Paas Hota Hai Aur Aap Sochte Hain Ki Unhein Pata Nahi Hai Ya Aap Unse Baat Karne Mein Darte Hain Toh Yeh Behen Apne Dil Se Nikaal Dijiye Kyonki Wah Aapke Baap Hai Samjhe Toh Samajh Sake Is Baat Ko Roshni Ko Kafi Gehrai Se Wah Apne Hain Jinse Aap Chahte Hain Wah Aapko Chahte Hain Unka Maksad Khud Ki Khushi Se Lekar Aapki Khushi Tak Hai Aur Aap Mujhse Darane Mein Bolna Nahi Chahte Hain Ya Humse Baat Karne Mein Nishchit Nahi Hai Toh Mera Manana Hai Ki Aap Apne Man Mein Chal Rahe Un Samasyaon Ke Nidan Ko Lekar Apne Pita Se Apni Maa Se Ya Apne Parivar Ke Kisi Bhi Sadasya Se Kisi Aise Vishay Par Baat Karein Jisse Apni Khushi Mahsus Ho Ya Aise Vishay Par Baat Karein Jisse Wah Gambhir Ho Jaye Uske Pashchat Unke Man Mein Ek Ki Atmakatha Ka Surgeon Jaise Ki Kuch Bolna Hai Kuch Sunana Hai Janana Hai Kuch Karna Hai Aadi Anadi Kuch Bahut Bahut Bahut Kuch Aisa Kar Kar Apni Baat Khule Dil Se Khule Man Se Soch Kar Apne Pitaji Se Bol Do
Likes  11  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप किसी से भी बात करते समय हिचकी हिचकी चाहते हो तो सबसे पहले आप अगर किसी से बात करने जा रहे हो तो कभी भी सोचा नहीं कि मैं यह बात करो यह सही है या गलत है कोई भी नागरिक थिंकिंग नहीं लानी है
Romanized Version
अगर आप किसी से भी बात करते समय हिचकी हिचकी चाहते हो तो सबसे पहले आप अगर किसी से बात करने जा रहे हो तो कभी भी सोचा नहीं कि मैं यह बात करो यह सही है या गलत है कोई भी नागरिक थिंकिंग नहीं लानी हैAgar Aap Kisi Se Bhi Baat Karte Samay Hichki Hichki Chahte Ho Toh Sabse Pehle Aap Agar Kisi Se Baat Karne Ja Rahe Ho Toh Kabhi Bhi Socha Nahi Ki Main Yeh Baat Karo Yeh Sahi Hai Ya Galat Hai Koi Bhi Nagarik Thinking Nahi Lani Hai
Likes  11  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेके कोई भी पिता इतने भी बुरे नहीं होते कि आप कौन के बात करने में इतनी हिचक होनी चाहिए आपको सबसे पहले समझना होगा कि वह क्या चाहते हैं आप से और अपने उनके लिए क्या कर रहे हैं आप उनके साथ बैठी अच्छे से और के बातें कीजिए पहले थोड़ी थोड़ी नॉर्मल बातें कीजिए फिर उसे आपकी जो प्रॉब्लम है वह उन्हें अच्छे से समझाइए ताकि वह आपकी बात समझ सके अगर अभी भी तभी भी आपकी बात वह ना समझ पाए तो आप उन्हें कन्वींस कीजिए कि नहीं यह चीज हो सकता है अपने भरोसा दिलाया कि वह आपके पास मान सकते
Romanized Version
लेके कोई भी पिता इतने भी बुरे नहीं होते कि आप कौन के बात करने में इतनी हिचक होनी चाहिए आपको सबसे पहले समझना होगा कि वह क्या चाहते हैं आप से और अपने उनके लिए क्या कर रहे हैं आप उनके साथ बैठी अच्छे से और के बातें कीजिए पहले थोड़ी थोड़ी नॉर्मल बातें कीजिए फिर उसे आपकी जो प्रॉब्लम है वह उन्हें अच्छे से समझाइए ताकि वह आपकी बात समझ सके अगर अभी भी तभी भी आपकी बात वह ना समझ पाए तो आप उन्हें कन्वींस कीजिए कि नहीं यह चीज हो सकता है अपने भरोसा दिलाया कि वह आपके पास मान सकतेLeke Koi Bhi Pita Itne Bhi Bure Nahi Hote Ki Aap Kaun Ke Baat Karne Mein Itni Hichak Honi Chahiye Aapko Sabse Pehle Samajhna Hoga Ki Wah Kya Chahte Hain Aap Se Aur Apne Unke Liye Kya Kar Rahe Hain Aap Unke Saath Baithi Acche Se Aur Ke Batein Kijiye Pehle Thodi Thodi Normal Batein Kijiye Phir Use Aapki Jo Problem Hai Wah Unhein Acche Se Samjhaiye Taki Wah Aapki Baat Samajh Sake Agar Abhi Bhi Tabhi Bhi Aapki Baat Wah Na Samajh Paye Toh Aap Unhein Convince Kijiye Ki Nahi Yeh Cheez Ho Sakta Hai Apne Bharosa Dilaya Ki Wah Aapke Paas Maan Sakte
Likes  11  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Mai Apne Papa Se Baat Karne Mein Hichakta Hoon Kaise Mai Unse Khulkar Baat Kar Sakta Hoon Taki Mai Kamfartebal Rahun,I Am Reluctant To Talk To My Father, How Can I Speak Freely To Him, So That I Remain Communicable?,


vokalandroid