क्या दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए? और क्यों? ...

Likes  0  Dislikes

6 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
लेकिन मुझे लगता है कि आज दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए क्योंकि अगर हम बात करें पिछले कुछ सालों में हमने देखा है जिस तरह से राज्य सरकार और राज्यपाल के बीच में डबल होता रहता हर बात को लेकर तो वह मुझे नहीं लगता कि हमारे समाज के लिए हमारे देश के लिए और हमारे संविधान के लिए लाभप्रद होगा जिस तरह से 2014 इलेक्शन भारतीय जनता पार्टी ने वादा किया था कि अगर वह उनकी सरकार केंद्र में आती है तो दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देंगे उसके बाद दिल्ली में जब इलेक्शन हुआ जब भारतीय जनता पार्टी हार गई तो उन्होंने इस चीज के लिए टोटली ट्राई कर दिया तो मुझे लगता है कि कहीं ना कहीं भारतीय जनता पार्टी पीस के लिए जिम्मेदार है क्योंकि जिस तरह का कमिटमेंट उन्होंने किया था 2014 के इलेक्शन में उन्होंने पूरा नहीं किया और जिस तरह से राज्यपाल और मुख्यमंत्री के बीच में हर बात को लेकर टेंशन होता रहता है और ज्यादातर अधिकार राज्यपाल के हाथ में रहते हैं और मुख्यमंत्री एक नॉमिनल हो जाता है तो मुझे लगता है कि इस कंडीशन में पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना बहुत जरूरी है ताकि वहां के जो मुख्यमंत्री हैं वह अपने जो भी उनके विकास के प्लान है उसको प्रोफाइल एग्जिट कर सकेंLekin Mujhe Lagta Hai Ki Aaj Delhi Ko Poorn Rajya Ka Darja Milna Chahiye Kyonki Agar Hum Baat Karen Pichle Kuch Salon Mein Humne Dekha Hai Jis Tarah Se Rajya Sarkar Aur Rajyapal Ke Beech Mein Double Hota Rehta Har Baat Ko Lekar To Wah Mujhe Nahi Lagta Ki Hamare Samaaj Ke Liye Hamare Desh Ke Liye Aur Hamare Samvidhan Ke Liye Labhaprad Hoga Jis Tarah Se 2014 Election Bhartiya Janta Party Ne Vada Kiya Tha Ki Agar Wah Unki Sarkar Kendra Mein Aati Hai To Delhi Ko Poorn Rajya Ka Darja Denge Uske Baad Delhi Mein Jab Election Hua Jab Bhartiya Janta Party Haar Gayi To Unhone Is Cheez Ke Liye Totally Try Kar Diya To Mujhe Lagta Hai Ki Kahin Na Kahin Bhartiya Janta Party Pis Ke Liye Zimmedar Hai Kyonki Jis Tarah Ka Commitment Unhone Kiya Tha 2014 Ke Election Mein Unhone Pura Nahi Kiya Aur Jis Tarah Se Rajyapal Aur Mukhyamantri Ke Beech Mein Har Baat Ko Lekar Tension Hota Rehta Hai Aur Jyadatar Adhikaar Rajyapal Ke Hath Mein Rehte Hain Aur Mukhyamantri Ek Naminal Ho Jata Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Is Condition Mein Poorn Rajya Ka Darja Milna Bahut Zaroori Hai Taki Wahan Ke Jo Mukhyamantri Hain Wah Apne Jo Bhi Unke Vikash Ke Plan Hai Usko Profile Exit Kar Saken
Likes  5  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
नहीं मैं लगता है कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा बिल्कुल मिलना चाहिए जैसा कि सर आप सभी लोग जानते हैं कि दिल्ली एक मोस्ट पॉपुलर सीमेंट रेट रही है सभी इंटर में सबसे ज्यादा आबादी वाला अगर कोई राज्य है तो वह दिल्ली और दिल्ली को वर्क सूट आज का दर्जा मिल जाएगा तो वहां के जो CM अरविंद केजरीवाल पूरी तरह खुल कर बात कर सकते हैं अभी उनके वर्क ऑफ़ इंटरफेरेंस होती है lg कि जिससे दिल्ली का डेवलपमेंट और ज्यादा होगा थोड़ा ज्यादा हो गया थोड़ा सही होगा और स्टेट दिल्ली वासियों को भी खाना खाया था काफी फायदा होगा थैंक यूNahi Main Lagta Hai Ki Delhi Ko Poorn Rajya Ka Darja Bilkul Milna Chahiye Jaisa Ki Sar Aap Sabhi Log Jante Hain Ki Delhi Ek Most Popular Cement Rate Rahi Hai Sabhi Inter Mein Sabse Jyada Aabadi Wala Agar Koi Rajya Hai To Wah Delhi Aur Delhi Ko Work Suit Aaj Ka Darja Mil Jayega To Wahan Ke Jo CM Arvind Kejriwal Puri Tarah Khul Kar Baat Kar Sakte Hain Abhi Unke Work Of Interference Hoti Hai Lg Ki Jisse Delhi Ka Development Aur Jyada Hoga Thoda Jyada Ho Gaya Thoda Sahi Hoga Aur State Delhi Vasiyo Ko Bhi Khana Khaya Tha Kafi Fayda Hoga Thank You
Likes  5  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
आज देखें दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए कि नहीं तो मैं सोचा कि नहीं दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा बिल्कुल नहीं मिलना चाहिए क्योंकि अब यह अरविंद केजरीवाल जो है वह उसी का डिमांड कर रहे हैं ताकि जो दिल्ली पुलिस वह होली के अंडर में आ जाए अभी दिल्ली जो है वो यूनियन टेरिटरीज में आती है और जो है वह सेंट्रल गवर्नमेंट के अंडर में आती है और दिल्ली पुलिस चीफ मिनिस्टर के अंडर में नहीं होता स्टेट में होता है दिल्ली पुलिस जो है वह मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स के अंडर में आती है तो इसलिए है कि वहां पर सीएम की जो पावर है वह थोड़ी कम है और गवर्नर के पावर ज्यादा है बाकी चैट में क्या था कि गवर्नर के पावन थोड़ी कम रहती हो और और चीफ मिनिस्टर की पावन थोड़ी ज्यादा रहती है इसलिए अरविंद केजरीवाल को जो है थोड़ी तकलीफ होती है वहां पर और दिल्ली को इसलिए पूर्ण राज्य का दर्जा नहीं मिले चाहिए कि वहां पर पूरी सेंट्रल सरकारी सेंट्रल सेक्रेटरिएट ऑफिस है और जो जितने भी बड़े-बड़े ऑफिसर्स हैं और सुप्रीम कोर्ट वगैरह है अगर आप पार्लियामेंट है और जितने भी बड़े-बड़े कार्यालय केंद्र सरकार के वह सब जो है वह दिल्ली में स्थित है तो अगर उस को पूर्ण राज्य कर दे कर दिया जाए तो वहां पर सीएम का जो है वह कंट्रोल चलेगा जो cm अगर किसी पॉलिटिशन से पूछता है या वह पोलिटिकल गेम खेलना चाहता है तो वह जो आदमी कंट्री बैंड का पता चलती गाड़ी रोक सकता है पुलिस यूज़ करके अपनी पुलिस को भी उसका याद करता है तो मैं नहीं समझता है वहां पर केंद्र सरकार का ही जो है वह जो राज्य दिल्ली का राजा है उसमें केंद्र सरकार का ही कंट्रोल चलना चाहिए और उसको नहीं करना चाहिए पूर्ण राज्य का दर्जा बिल्कुल नहीं मिलना चाहिएAaj Dekhen Delhi Ko Poorn Rajya Ka Darja Milna Chahiye Ki Nahi To Main Socha Ki Nahi Delhi Ko Poorn Rajya Ka Darja Bilkul Nahi Milna Chahiye Kyonki Ab Yeh Arvind Kejriwal Jo Hai Wah Ussi Ka Demand Kar Rahe Hain Taki Jo Delhi Police Wah Holi Ke Under Mein Aa Jaye Abhi Delhi Jo Hai Vo Union Teritrij Mein Aati Hai Aur Jo Hai Wah Central Government Ke Under Mein Aati Hai Aur Delhi Police Chief Minister Ke Under Mein Nahi Hota State Mein Hota Hai Delhi Police Jo Hai Wah Ministry Of Home Affairs Ke Under Mein Aati Hai To Isliye Hai Ki Wahan Par Cm Ki Jo Power Hai Wah Thodi Kum Hai Aur Governor Ke Power Jyada Hai Baki Chat Mein Kya Tha Ki Governor Ke Paavan Thodi Kum Rehti Ho Aur Aur Chief Minister Ki Paavan Thodi Jyada Rehti Hai Isliye Arvind Kejriwal Ko Jo Hai Thodi Takleef Hoti Hai Wahan Par Aur Delhi Ko Isliye Poorn Rajya Ka Darja Nahi Mile Chahiye Ki Wahan Par Puri Central Sarkari Central Sekretariet Office Hai Aur Jo Jitne Bhi Bade Bade Officers Hain Aur Supreme Court Vagairah Hai Agar Aap Parliament Hai Aur Jitne Bhi Bade Bade Karyalaya Kendra Sarkar Ke Wah Sab Jo Hai Wah Delhi Mein Sthit Hai To Agar Us Ko Poorn Rajya Kar De Kar Diya Jaye To Wahan Par Cm Ka Jo Hai Wah Control Chalega Jo Cm Agar Kisi Politician Se Poochta Hai Ya Wah Political Game Khelna Chahta Hai To Wah Jo Aadmi Country Band Ka Pata Chalti Gaadi Rok Sakta Hai Police Use Karke Apni Police Ko Bhi Uska Yaad Karta Hai To Main Nahi Samajhata Hai Wahan Par Kendra Sarkar Ka Hi Jo Hai Wah Jo Rajya Delhi Ka Raja Hai Usamen Kendra Sarkar Ka Hi Control Chalna Chahiye Aur Usko Nahi Karna Chahiye Poorn Rajya Ka Darja Bilkul Nahi Milna Chahiye
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Delhi Ko Poorn Rajya Ka Darja Milna Chahiye Aur Kyun, Purn Rajya Ka Darja, Poorn





मन में है सवाल?