कर्नाटक को अलग झंडा की माँग उचित है अगर है तो क्यों ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कर्नाटक की सरकार है कांग्रेस की सरकार है कर्नाटक में सुधरा मैया जो है मां के चीफ मिनिस्टर है मुख्यमंत्री हैं तो उन्होंने अलग झंडे की मांग की है कर्नाटक के राज्य के लिए और एक कमेटी बनाई एक Grand यूज़ क...
जवाब पढ़िये
कर्नाटक की सरकार है कांग्रेस की सरकार है कर्नाटक में सुधरा मैया जो है मां के चीफ मिनिस्टर है मुख्यमंत्री हैं तो उन्होंने अलग झंडे की मांग की है कर्नाटक के राज्य के लिए और एक कमेटी बनाई एक Grand यूज़ कमेटी जोकि उस झंडे के जो नए झंडे की मांग है उसको देखेगी और नया झंडे का डिजाइन दे इस समय जो अलग झंडा है जिन राज्यों का मुख्य मत जम्मू और कश्मीर कब है जम्मू कश्मीर में अलग झंडा है उनके पास लेकिन क्योंकि वह स्पेशल एक राज्य है स्पेशल स्टेट है कॉन्स्टिट्यूशन के अकॉर्डिंग इसलिए उसको मिला हुआ है यदि कर्नाटक ऐसा हो जाता है तो वह सेकंड ग्रेड बन जाएगी यह है हमारे गांव में जितने भी कंटेस्टेंट्स हेमा कि उन सब को अलग अलग फ्लैग आऊंगा तो एक तो यही जो तुम सोच रहे हम भी क्यों ना करें हैं सब इनका जो रीजन है यही है क्योंकि उन्होंने कुछ काम नहीं किया वहां पर कुछ भी इस डेवलपमेंट नहीं किया है तो का स्टेशन कर रहे हैं और लाइक लोगों को ऐड कर रहे इसी से अपने आप को एक अलग रिप्रेजेंट करने के लिए की कर्नाटक के लोग अपने को फील करें हां वह सुपीरियर है लेकिन दर्शन से अपने को यूनिटी में यहां उन्होंने हमें अलग अलग झंडा दिलवाया यदि आप की बात करें तो कर्नाटक के पास ऑलरेडी इन का झंडा कुत्ता है एक अलग झंडा जो ऑफिशियल में देनी ऑफिशियल है जो करीब 50 सालों पहले बनाया गया था तो उसमें दो येलो कलर की लाइन है रेड कलर की लाइन की जो कर्नाटक गवर्नमेंट की वेबसाइट है इसमें भी झंडा होता है तो ऑलरेडी इन पर झंडा है लेकिन वह ऑफिशियल नहीं है उसके बावजूद यह नए झंडे की मांग हो रही है जिससे की ऑफिशियल वो बन सकेKarnataka Ki Sarkar Hai Congress Ki Sarkar Hai Karnataka Mein Sudhara Maiya Jo Hai Maa Ke Chief Minister Hai Mukhyamantri Hain To Unhone Alag Jhande Ki Maang Ki Hai Karnataka Ke Rajya Ke Liye Aur Ek Committee Banai Ek Grand Use Committee Joki Us Jhande Ke Jo Naye Jhande Ki Maang Hai Usko Dekhegi Aur Naya Jhande Ka Design De Is Samay Jo Alag Jhanda Hai Jin Rajyo Ka Mukhya Mat Jammu Aur Kashmir Kab Hai Jammu Kashmir Mein Alag Jhanda Hai Unke Paas Lekin Kyonki Wah Special Ek Rajya Hai Special State Hai Constitution Ke According Isliye Usko Mila Hua Hai Yadi Karnataka Aisa Ho Jata Hai To Wah Second Grade Ban Jayegi Yeh Hai Hamare Gav Mein Jitne Bhi Kantestents Hema Ki Un Sab Ko Alag Alag Flag Aaunga To Ek To Yahi Jo Tum Soch Rahe Hum Bhi Kyun Na Karen Hain Sab Inka Jo Reason Hai Yahi Hai Kyonki Unhone Kuch Kaam Nahi Kiya Wahan Par Kuch Bhi Is Development Nahi Kiya Hai To Ka Station Kar Rahe Hain Aur Like Logon Ko Aid Kar Rahe Isi Se Apne Aap Ko Ek Alag Represent Karne Ke Liye Ki Karnataka Ke Log Apne Ko Feel Karen Haan Wah Superior Hai Lekin Darshan Se Apne Ko Unity Mein Yahan Unhone Hume Alag Alag Jhanda Dilwaya Yadi Aap Ki Baat Karen To Karnataka Ke Paas Already In Ka Jhanda Kutta Hai Ek Alag Jhanda Jo Official Mein Deni Official Hai Jo Karib 50 Salon Pehle Banaya Gaya Tha To Usamen Do Yellow Color Ki Line Hai Red Color Ki Line Ki Jo Karnataka Government Ki Website Hai Isme Bhi Jhanda Hota Hai To Already In Par Jhanda Hai Lekin Wah Official Nahi Hai Uske Bawajud Yeh Naye Jhande Ki Maang Ho Rahi Hai Jisse Ki Official Vo Ban Sake
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी मुझे लगता है कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया जी ने जो अलग झंडे की मांग करी है वह उचित नहीं है क्योंकि भारत में सिर्फ एक ही राष्ट्रध्वज होना चाहिए भारत का संविधान है वहां पर एक देश एक झंडा ऐसा ...
जवाब पढ़िये
देखी मुझे लगता है कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया जी ने जो अलग झंडे की मांग करी है वह उचित नहीं है क्योंकि भारत में सिर्फ एक ही राष्ट्रध्वज होना चाहिए भारत का संविधान है वहां पर एक देश एक झंडा ऐसा ही सिद्धांत है तो अलग अलग राज्यों में अलग अलग झंडे यह उचित नहीं है मेरे ख्याल से अब जम्मू कश्मीर में जो अलग झंडा होने की सम्मति दी है वह धारा 370 के तहत दी गई है दिखा जाए तो जम्मू कश्मीर में कई ऐसे विशेष समित्या दी गई है तू कर्नाटक के जो मुख्यमंत्री है उन्होंने कन्नड़ भाषा कन्नड़ का अस्तित्व जतन करने के लिए कौन सी ऐसी मांग है तो अभी भी जो कर्नाटका स्वतंत्र दिवस होता है वह उस पर भी वह कन्नड़ झंडा लहराते हैं इसलिए उनको अलग जैन की मांग बहुत कर रहे हैं लेकिन यह बिल्कुल भी उचित नहीं है क्योंकि अगर उन्होंने अलग झंडे की मांग भरी तो मतलब हमने वह मांग पूरी कर दी सरकार ने तो फिर हर राज्य अपने अपने झंडे की मांग करेगा और यह भारत की एकता के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है वह राष्ट्रध्वज के कारण ही भारत एक हैDekhi Mujhe Lagta Hai Karnataka Ke Mukhyamantri Siddaramaiah Ji Ne Jo Alag Jhande Ki Maang Kari Hai Wah Uchit Nahi Hai Kyonki Bharat Mein Sirf Ek Hi Raashtradhvaj Hona Chahiye Bharat Ka Samvidhan Hai Wahan Par Ek Desh Ek Jhanda Aisa Hi Siddhant Hai To Alag Alag Rajyo Mein Alag Alag Jhande Yeh Uchit Nahi Hai Mere Khayal Se Ab Jammu Kashmir Mein Jo Alag Jhanda Hone Ki Sammati Di Hai Wah Dhara 370 Ke Tahat Di Gayi Hai Dikha Jaye To Jammu Kashmir Mein Kai Aise Vishesh Samitya Di Gayi Hai Tu Karnataka Ke Jo Mukhyamantri Hai Unhone Kannada Bhasha Kannada Ka Astitv Jatan Karne Ke Liye Kaun Si Aisi Maang Hai To Abhi Bhi Jo Karnataka Swatantra Divas Hota Hai Wah Us Par Bhi Wah Kannada Jhanda Laharaate Hain Isliye Unko Alag Jain Ki Maang Bahut Kar Rahe Hain Lekin Yeh Bilkul Bhi Uchit Nahi Hai Kyonki Agar Unhone Alag Jhande Ki Maang Bhari To Matlab Humne Wah Maang Puri Kar Di Sarkar Ne To Phir Har Rajya Apne Apne Jhande Ki Maang Karega Aur Yeh Bharat Ki Ekta Ke Liye Bilkul Bhi Sahi Nahi Hai Wah Raashtradhvaj Ke Kaaran Hi Bharat Ek Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां यह उचित है क्योंकि कर्नाटका में बहुत सारे डिस्ट्रिक्ट है और बहुत सारे लैंग्वेज इज भी बोलते हैं बोलते हैं माझी सखी मंगल और में कनीय तुलु बोलते हैं और पूर्व में डिफरेंट भाषा बोलते हैं और उत्तर कर्ना...
जवाब पढ़िये
हां यह उचित है क्योंकि कर्नाटका में बहुत सारे डिस्ट्रिक्ट है और बहुत सारे लैंग्वेज इज भी बोलते हैं बोलते हैं माझी सखी मंगल और में कनीय तुलु बोलते हैं और पूर्व में डिफरेंट भाषा बोलते हैं और उत्तर कर्नाटका में इनोवेशन डायलेक्ट है तो इन सारे लोगों को एक साथ था एक का आइडेंटिटी देने के लिए एक्सलेंडर अगर होगा तो सिंबॉलिक लिए यूनिटी बन जाएगी तो कर्नाटक का का अगर सफेद क्लॉक होगा तो अच्छा होगाHaan Yeh Uchit Hai Kyonki Karnataka Mein Bahut Sare District Hai Aur Bahut Sare Language Is Bhi Bolte Hain Bolte Hain Majhi Sakhi Mangal Aur Mein Kaniya Tulu Bolte Hain Aur Purv Mein Different Bhasha Bolte Hain Aur Uttar Karnataka Mein Innovation Dialect Hai To In Sare Logon Ko Ek Saath Tha Ek Ka Identity Dene Ke Liye Eksalendar Agar Hoga To Simbalik Liye Unity Ban Jayegi To Karnataka Ka Ka Agar Safed Clock Hoga To Accha Hoga
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Karnataka Ko Alag Jhanda Ki Maang Uchit Hai Agar Hai Toh Kyon, If The Demand For Separate Flag Is Suitable For Karnataka Then Why , Agar.io4

vokalandroid