करदाताओं के पैसों से एयर इंडिया जैसी संस्थाओं को ऋण मुक्त बनाना कहां तक जायज है? ...

Likes  0  Dislikes

2 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
रवि जी जो आपने क्वेश्चन डाला है कि करदाताओं के पैसों से एयर इंडिया जगह संस्थाओं का जो कर्ज है उनको मुक्त बनाना जरूरी है तो कुछ बात ऐसी है जो आपको बताया जो हमारे भारत में जो गवर्नमेंट की जमीन इनकम है जो सोर्स ऑफ इनकम है वह मन करता था तुमसे ही है जैसे इनकम टैक्स ज्यादा इनकम होती आपको तो पता ही है अगर आप सोचिए जब अगर एयर इंडिया पर जो कर्ज है अभी वह काफी ज्यादा है ठीक है नक्शा कैसा कर्ज है माउंट पर अगर हमारी जो गवर्नमेंट है अगर वह यहां से अगर पैसा उठाकर उधर जो कर दे उसको उसको लगा देगी उसमें लगा देगी तो जो पैसा डेवलपमेंट के लिए जो पहले ही डिसाइड हो चुका है क्या जो लगना चाहिए वह नहीं लग पाएगा तो मेरे साथ सेक्स करना उचित नहीं होगा क्योंकि हम एक अगर पैसा उठा कर दूसरी पेट में लगाएंगे तो इस बिल का काफी नुकसान होगा ऑलरेडी कभी-कभी जैसे जब बजट डिसाइड होता है तो कुछ बजट कितना किसको दिया जाता है उतना करो इस को दिया जाता है तो और भी हम लोग पहले ही बोलते हैं कि नहीं इस चीज में इतना करोड़पति थोड़ा काम है तो मुझे लगता है कि अगर हम 1:00 बजे उठा के दूध पीने पैसा लगाएंगे तो किसी ना किसी फिल्में कहीं ना कहीं दिक्कत आएगी तो यह करना उचित नहीं होगाRavi Ji Jo Aapne Question Dala Hai Ki Kardataon Ke Paison Se Air India Jagah Sasthaon Ka Jo Karj Hai Unko Mukt Banana Zaroori Hai To Kuch Baat Aisi Hai Jo Aapko Bataya Jo Hamare Bharat Mein Jo Government Ki Jameen Income Hai Jo Source Of Income Hai Wah Man Karta Tha Tumse Hi Hai Jaise Income Tax Jyada Income Hoti Aapko To Pata Hi Hai Agar Aap Sochie Jab Agar Air India Par Jo Karj Hai Abhi Wah Kafi Jyada Hai Theek Hai Naksha Kaisa Karj Hai Mount Par Agar Hamari Jo Government Hai Agar Wah Yahan Se Agar Paisa Uthaakar Udhar Jo Kar De Usko Usko Laga Degi Usamen Laga Degi To Jo Paisa Development Ke Liye Jo Pehle Hi Decide Ho Chuka Hai Kya Jo Lagna Chahiye Wah Nahi Lag Payega To Mere Saath Sex Karna Uchit Nahi Hoga Kyonki Hum Ek Agar Paisa Utha Kar Dusri Pet Mein Lgaenge To Is Bill Ka Kafi Nuksan Hoga Already Kabhi Kabhi Jaise Jab Budget Decide Hota Hai To Kuch Budget Kitna Kisko Diya Jata Hai Utana Karo Is Ko Diya Jata Hai To Aur Bhi Hum Log Pehle Hi Bolte Hain Ki Nahi Is Cheez Mein Itna Crorepati Thoda Kaam Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Agar Hum 1:00 Baje Utha Ke Dudh Peene Paisa Lgaenge To Kisi Na Kisi Filme Kahin Na Kahin Dikkat Aayegi To Yeh Karna Uchit Nahi Hoga
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
कुत्ते की उस इंसान की नजर से सोचिए जो बहुत मेहनत करने के बाद कुछ लाख रूपय जमा कर पाता है 3 4 लाख 5 लाख अपना बहुत मेहनत करने के बाद उसका छोटा सा कारोबार है उसने जब वह कुछ पैसे जमा कर लेता है अपने बैंक के अंदर और उसको बाद में पता चलता है कि वह पैसा तो उसको वापस मिलेगा ही नहीं उसका तो इस्तेमाल किया जा चुका है एयर इंडिया और ऐसी संस्थाओं के लोन को माफ करने के लिए तो आप सोचिए किस तरह का दहन होगा जब इतनी जिंदगी भर मेहनत करने के बाद चांद पैसा इकट्ठा किया और वही निकाल सकता वह बैंक से तो मेरे ख्याल से यह बिल्कुल गलत है और इससे जो बैंकिंग संस्था भी संस्थान है उससे जो हमारी जनता है उसका विश्वास ने लगेगा बिल्कुल उस पर कोई भी बैंक में पैसा रखना नहीं चाहेगा जिस से कि जब बैंक में पैसा नहीं होगा तो शेयर मार्केट भी नहीं चाहेगा और बहुत सारे कौनसे-कौनसे सोने वाले हैं मेरे ख्याल से यह बिल्कुल जायज नहीं लगता मुझेKutte Ki Us Insaan Ki Nazar Se Sochie Jo Bahut Mehnat Karne Ke Baad Kuch Lakh Rupay Jama Kar Pata Hai 3 4 Lakh 5 Lakh Apna Bahut Mehnat Karne Ke Baad Uska Chota Sa Karobaar Hai Usne Jab Wah Kuch Paise Jama Kar Leta Hai Apne Bank Ke Andar Aur Usko Baad Mein Pata Chalta Hai Ki Wah Paisa To Usko Wapas Milega Hi Nahi Uska To Istemal Kiya Ja Chuka Hai Air India Aur Aisi Sasthaon Ke Loan Ko Maaf Karne Ke Liye To Aap Sochie Kis Tarah Ka Dahan Hoga Jab Itni Zindagi Bhar Mehnat Karne Ke Baad Chand Paisa Ikattha Kiya Aur Wahi Nikal Sakta Wah Bank Se To Mere Khayal Se Yeh Bilkul Galat Hai Aur Isse Jo Banking Sanstha Bhi Sansthan Hai Usse Jo Hamari Janta Hai Uska Vishwas Ne Lagega Bilkul Us Par Koi Bhi Bank Mein Paisa Rakhna Nahi Chahega Jis Se Ki Jab Bank Mein Paisa Nahi Hoga To Share Market Bhi Nahi Chahega Aur Bahut Sare Kaunse Kaunse Sone Wale Hain Mere Khayal Se Yeh Bilkul Jayaj Nahi Lagta Mujhe
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kardataon Ke Paison Se Air India Jaisi Sasthaon Ko Rin Mukt Banana Kahan Tak Jayaj Hai





मन में है सवाल?