search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

बेंगलुरू को ऑफिशियल लोगो मिला है, क्या सभी प्रमुख शहरों को भी लोगो मिलना चाहिए? क्यों? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन पहले ही बता चुकी हूं हमारा डिस्कशन हुआ है जब भारत के बारे में तुम्हारा जो है कलर संदेश है और बहुत ज्यादा यहां पर रिचार्ज कस्टमर को फॉलो करते हैं और मनाते हैं बहुत सारी चीजें भारत में होते हैं तुझे ऑफिस इन लोगों मिला है यह बहुत हेल्पफुल है और बहुत पॉजिटिव साइट है मेरे हिसाब से दूसरे सेट को भी लोगों मिलना चाहिए यह कैच मेट्रो प्राइस उनकी उनकी जो डाइवर्सिटी हमारे देश में उस को रिप्रेजेंट करता है कि हमारे अलग-अलग सेट को अलग अलग लोगों मिले हुए हैं और इंस्टेंट ली लोगों के हिसाब से लोग उसकी कंट्री कि उसकी स्टेट के बारे में बताया जा सकता है इसलिए हम डिटेल कर सकते हैं और लोगों जो होता है यह ब्रांड एंबेसडर आइडेंटिटी बन जाता है सतीश का क्योंकि क्रिएट करता है पॉजिटिव पर एक्सक्लूसिव लहसुन के लोगों में विद्या सतीश और आसन से बिलॉन्ग करता है उनकी आंखों में वर्ल्ड के सामने तो मुझे लगता है कि होना चाहिए दूसरे को भी
Romanized Version
लेकिन पहले ही बता चुकी हूं हमारा डिस्कशन हुआ है जब भारत के बारे में तुम्हारा जो है कलर संदेश है और बहुत ज्यादा यहां पर रिचार्ज कस्टमर को फॉलो करते हैं और मनाते हैं बहुत सारी चीजें भारत में होते हैं तुझे ऑफिस इन लोगों मिला है यह बहुत हेल्पफुल है और बहुत पॉजिटिव साइट है मेरे हिसाब से दूसरे सेट को भी लोगों मिलना चाहिए यह कैच मेट्रो प्राइस उनकी उनकी जो डाइवर्सिटी हमारे देश में उस को रिप्रेजेंट करता है कि हमारे अलग-अलग सेट को अलग अलग लोगों मिले हुए हैं और इंस्टेंट ली लोगों के हिसाब से लोग उसकी कंट्री कि उसकी स्टेट के बारे में बताया जा सकता है इसलिए हम डिटेल कर सकते हैं और लोगों जो होता है यह ब्रांड एंबेसडर आइडेंटिटी बन जाता है सतीश का क्योंकि क्रिएट करता है पॉजिटिव पर एक्सक्लूसिव लहसुन के लोगों में विद्या सतीश और आसन से बिलॉन्ग करता है उनकी आंखों में वर्ल्ड के सामने तो मुझे लगता है कि होना चाहिए दूसरे को भीLekin Pehle Hi Bata Chuki Hoon Hamara Discussion Hua Hai Jab Bharat Ke Baare Mein Tumhara Jo Hai Color Sandesh Hai Aur Bahut Jyada Yahan Par Recharge Customer Ko Follow Karte Hain Aur Manate Hain Bahut Saree Cheezen Bharat Mein Hote Hain Tujhe Office In Logon Mila Hai Yeh Bahut Helpaful Hai Aur Bahut Positive Site Hai Mere Hisab Se Dusre Set Ko Bhi Logon Milna Chahiye Yeh Catch Metro Price Unki Unki Jo Diversity Hamare Desh Mein Us Ko Represent Karta Hai Ki Hamare Alag Alag Set Ko Alag Alag Logon Mile Hue Hain Aur Instant Lee Logon Ke Hisab Se Log Uski Country Ki Uski State Ke Baare Mein Bataya Ja Sakta Hai Isliye Hum Detail Kar Sakte Hain Aur Logon Jo Hota Hai Yeh Brand Ambassador Identity Ban Jata Hai Satish Ka Kyonki Create Karta Hai Positive Par Eksaklusiv Lahsun Ke Logon Mein Vidya Satish Aur Aasan Se Bilang Karta Hai Unki Aakhon Mein World Ke Samane To Mujhe Lagta Hai Ki Hona Chahiye Dusre Ko Bhi
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

ques_icon

ques_icon

अधिक जवाब


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह एक बहुत अच्छी पहल है लेकिन यहां यह बताना जरुरी है कि बंगलुरु को लोगों किसी से गिला नहीं बल्कि कर्नाटक सरकार का अपनाया प्रयास था सर कुछ समय पहले बेंगलुरु की सड़कों के गड्ढों और प्रदूषण को लेकर काफी बदनामी हुई थी इसी बदनामी से निजात पाने के लिए कर्नाटक सरकार ने अपनी राजधानी को एक फ्रेंड के रुप में लॉन्च करने का मन बनाया और इस मकसद से लोगों प्रतियोगिता का आयोजन किया गया इस प्रतियोगिता में जीता मोड नाम की एक स्टार्टअप कंपनी को हासिल इसके लिए पांचला का पुरस्कार भी दिया गया पर्यटन विभाग ने इस लोगों को लॉन्च किया इस तरह बंगलुरु भारत का पहला और एम्स्टर्डम और न्यू ईयर के बाद दुनिया का तीसरा शहर बना जिसका अपनी पहचान के लिए एक लोको है संभव है अगले कुछ समय में दूसरे कई राज्य भी अपना लो को विकसित कर
Romanized Version
यह एक बहुत अच्छी पहल है लेकिन यहां यह बताना जरुरी है कि बंगलुरु को लोगों किसी से गिला नहीं बल्कि कर्नाटक सरकार का अपनाया प्रयास था सर कुछ समय पहले बेंगलुरु की सड़कों के गड्ढों और प्रदूषण को लेकर काफी बदनामी हुई थी इसी बदनामी से निजात पाने के लिए कर्नाटक सरकार ने अपनी राजधानी को एक फ्रेंड के रुप में लॉन्च करने का मन बनाया और इस मकसद से लोगों प्रतियोगिता का आयोजन किया गया इस प्रतियोगिता में जीता मोड नाम की एक स्टार्टअप कंपनी को हासिल इसके लिए पांचला का पुरस्कार भी दिया गया पर्यटन विभाग ने इस लोगों को लॉन्च किया इस तरह बंगलुरु भारत का पहला और एम्स्टर्डम और न्यू ईयर के बाद दुनिया का तीसरा शहर बना जिसका अपनी पहचान के लिए एक लोको है संभव है अगले कुछ समय में दूसरे कई राज्य भी अपना लो को विकसित करYeh Ek Bahut Acchi Pahal Hai Lekin Yahan Yeh Batana Zaroori Hai Ki Bengaluru Ko Logon Kisi Se Gila Nahi Balki Karnataka Sarkar Ka Apnaya Prayas Tha Sar Kuch Samay Pehle Bengaluru Ki Sadkon Ke Gaddhon Aur Pradushan Ko Lekar Kafi Badnami Hui Thi Isi Badnami Se Nijat Pane Ke Liye Karnataka Sarkar Ne Apni Rajdhani Ko Ek Friend Ke Roop Mein Launch Karne Ka Man Banaya Aur Is Maksad Se Logon Pratiyogita Ka Aayojan Kiya Gaya Is Pratiyogita Mein Jeeta Mode Naam Ki Ek Startup Company Ko Hasil Iske Liye Panchala Ka Puraskar Bhi Diya Gaya Paryatan Vibhag Ne Is Logon Ko Launch Kiya Is Tarah Bengaluru Bharat Ka Pehla Aur Emstardam Aur New Year Ke Baad Duniya Ka Teesra Sheher Bana Jiska Apni Pehchaan Ke Liye Ek Loco Hai Sambhav Hai Agle Kuch Samay Mein Dusre Kai Rajya Bhi Apna Lo Ko Viksit Kar
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेंगलुरु काजल लोगों मिला है उसे मुंबई को देखना चाहिए बड़े-बड़े शहरों को तो मिल बांचे रजिस्ट्रेशन मिलेगा कृष्ण भगवान से ज्यादा महत्वपूर्ण
Romanized Version
बेंगलुरु काजल लोगों मिला है उसे मुंबई को देखना चाहिए बड़े-बड़े शहरों को तो मिल बांचे रजिस्ट्रेशन मिलेगा कृष्ण भगवान से ज्यादा महत्वपूर्णBengaluru Kajal Logon Mila Hai Use Mumbai Ko Dekhna Chahiye Bade Bade Shaharon Ko To Mil Banche Registration Milega Krishan Bhagwan Se Jyada Mahatvapurna
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे बेंगलुरु का जो है वह ऑफिस वाले लोग हो आप ही मिला है तो मैं समझता के हाथ सभी प्रमुख शहरों को मिलना चाहिए क्योंकि कई लोग जो होते हैं वह पढ़ नहीं पाते हैं कि क्या लिखा हुआ है अगर जैसे बेंगलुरु लिखा है तो वह मंगल पांडे फाइनल के जो चीन होगा जो लोगों होगा उसका उसको देखकर लोग समझ जाएंगे कि हां भाई यही तो है वह बेंगलुरु शहर है तो हां मैं समझता हूं कि हर शहर जो है हर राज्य भारत के उसको मिलना चाहिए 1 लोगों ताकि जो लोग हैं वह उसकी पहचान आसानी से हो सके और वह अपने सेट को रिप्रेजेंट करें कि हां भाई यह लोग हैं हमारे सेट का हम इस स्टेट को प्रसन्न करते हैं हमेशा स्टेट को ब्लॉक करते हैं तो वह 1 लोगों जो है वह काली लोगों ने रहते हैं वह स्टेट का फ्रेंड बन जाता है और एक ID के तौर पर बन जाता है जैसे हर आदमी का एक ID होता है वैसे ही वह हर राज्य का एक ID बन जाता है हर पार्टी को लोगों उसका चुनाव चिन्ह देकर पहचानते हैं वह क्योंकि वह उसका लोगों होता है अगर लोग जो है वह नहीं पाते कि उसका नाम क्या है नहीं तो क्या लिखा है तो वह उसका लोगों देख कर समझ जाता यह हां भाई कमल मतलब जो है BJP होगा तो किसी भी राज्य का जो है वह लोगों को देखकर पहचान जाएगा कि वह उसका लोगों
Romanized Version
मुझे बेंगलुरु का जो है वह ऑफिस वाले लोग हो आप ही मिला है तो मैं समझता के हाथ सभी प्रमुख शहरों को मिलना चाहिए क्योंकि कई लोग जो होते हैं वह पढ़ नहीं पाते हैं कि क्या लिखा हुआ है अगर जैसे बेंगलुरु लिखा है तो वह मंगल पांडे फाइनल के जो चीन होगा जो लोगों होगा उसका उसको देखकर लोग समझ जाएंगे कि हां भाई यही तो है वह बेंगलुरु शहर है तो हां मैं समझता हूं कि हर शहर जो है हर राज्य भारत के उसको मिलना चाहिए 1 लोगों ताकि जो लोग हैं वह उसकी पहचान आसानी से हो सके और वह अपने सेट को रिप्रेजेंट करें कि हां भाई यह लोग हैं हमारे सेट का हम इस स्टेट को प्रसन्न करते हैं हमेशा स्टेट को ब्लॉक करते हैं तो वह 1 लोगों जो है वह काली लोगों ने रहते हैं वह स्टेट का फ्रेंड बन जाता है और एक ID के तौर पर बन जाता है जैसे हर आदमी का एक ID होता है वैसे ही वह हर राज्य का एक ID बन जाता है हर पार्टी को लोगों उसका चुनाव चिन्ह देकर पहचानते हैं वह क्योंकि वह उसका लोगों होता है अगर लोग जो है वह नहीं पाते कि उसका नाम क्या है नहीं तो क्या लिखा है तो वह उसका लोगों देख कर समझ जाता यह हां भाई कमल मतलब जो है BJP होगा तो किसी भी राज्य का जो है वह लोगों को देखकर पहचान जाएगा कि वह उसका लोगोंMujhe Bengaluru Ka Jo Hai Wah Office Wale Log Ho Aap Hi Mila Hai To Main Samajhata Ke Hath Sabhi Pramukh Shaharon Ko Milna Chahiye Kyonki Kai Log Jo Hote Hain Wah Padh Nahi Paate Hain Ki Kya Likha Hua Hai Agar Jaise Bengaluru Likha Hai To Wah Mangal Pandey Final Ke Jo Chin Hoga Jo Logon Hoga Uska Usko Dekhkar Log Samajh Jaenge Ki Haan Bhai Yahi To Hai Wah Bengaluru Sheher Hai To Haan Main Samajhata Hoon Ki Har Sheher Jo Hai Har Rajya Bharat Ke Usko Milna Chahiye 1 Logon Taki Jo Log Hain Wah Uski Pehchaan Aasani Se Ho Sake Aur Wah Apne Set Ko Represent Karen Ki Haan Bhai Yeh Log Hain Hamare Set Ka Hum Is State Ko Prasann Karte Hain Hamesha State Ko Block Karte Hain To Wah 1 Logon Jo Hai Wah Kali Logon Ne Rehte Hain Wah State Ka Friend Ban Jata Hai Aur Ek ID Ke Taur Par Ban Jata Hai Jaise Har Aadmi Ka Ek ID Hota Hai Waise Hi Wah Har Rajya Ka Ek ID Ban Jata Hai Har Party Ko Logon Uska Chunav Chinh Dekar Pehchante Hain Wah Kyonki Wah Uska Logon Hota Hai Agar Log Jo Hai Wah Nahi Paate Ki Uska Naam Kya Hai Nahi To Kya Likha Hai To Wah Uska Logon Dekh Kar Samajh Jata Yeh Haan Bhai Kamal Matlab Jo Hai BJP Hoga To Kisi Bhi Rajya Ka Jo Hai Wah Logon Ko Dekhkar Pehchaan Jayega Ki Wah Uska Logon
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक ही बेंगलुरु एक टेक्नोलॉजिकल एडवांस शहर है और यहां पर दूसरे देशों से टूरिस्ट बहुत ज्यादा मात्रा में बहुत ज्यादा संख्या में आते रहते हैं उस घर में सरकार को लगा कि जैसे जो टूरिस्ट आते हैं उनके पास कोई ऐसी चीज कुछ ऐसा उपहार होना चाहिए या कोई ऐसी याद होनी चाहिए जो ने बेंगलुरु में वापस आने को विवश करें तुझे से कर्नाटक के लिए एक नया झंडा बनाया गया है वैसे ही सदर में सरकार ने बेंगलुरु को 1 लोगों दिया जिसका शुरू हिंदी शब्द इंग्लिश में लिखा गया है और यू कर्नाटक लैंग्वेज में लिखा गया है तू जो वहां के टूरिस्ट मिनिस्टर ऑफ यंग गे उन्होंने बोला जैसे बाकी ग्लोबल जो शहर से कितनी यॉर्क सिटी मेलबोर्न सिंगापुर ऐसे सारे सुख ग्लोबल Year फिल्म सिटी है इन सब का एक अपना लोगो है तो बेंगलुरु का भी होना चाहिए और बताइए कि भाग्य से एक चेहरे को यह मिले या नहीं मुझे लगता है किस जरूर उन्हें मिलना चाहिए बातचीत को भी क्योंकि हर एक स्टेट की अपनी कोई ना कोई स्पेशालिटी ज़रूर होती है कोई न कोई खास दिन जरूर होती है तो अगर वह कुछ शब्दों के माध्यम से टूरिस्ट को क्या भारत में लोगों को डिफाइन कर सके उन उन को समझा सके बना सके शहर की विशेषताएं तो इस में कोई हर्ज नहीं है और वैसे भी आज के समय में सारे जो भी फटाफट का जमाना है जिस एकदम से होती है तो अगर एक कुछ शब्द को पूरे शहर का पूरे स्टेट का कोई रीजन की भूमिका समझा सके तो अच्छी ही बात हो गई और गेट ट्रुथ करेगा कि हम भी आगे बढ़ रहे हो और सिर्फ प्रगतिशील रहोगे हम फिर डेवलप्ड कंट्री भी धीरे-धीरे बन ही जाएंगे तो जरूर भाग्य से इसको भी ऐसे लोगों जरूर मिलना चाहिए और ऐसी पहल होनी चाहिए
Romanized Version
एक ही बेंगलुरु एक टेक्नोलॉजिकल एडवांस शहर है और यहां पर दूसरे देशों से टूरिस्ट बहुत ज्यादा मात्रा में बहुत ज्यादा संख्या में आते रहते हैं उस घर में सरकार को लगा कि जैसे जो टूरिस्ट आते हैं उनके पास कोई ऐसी चीज कुछ ऐसा उपहार होना चाहिए या कोई ऐसी याद होनी चाहिए जो ने बेंगलुरु में वापस आने को विवश करें तुझे से कर्नाटक के लिए एक नया झंडा बनाया गया है वैसे ही सदर में सरकार ने बेंगलुरु को 1 लोगों दिया जिसका शुरू हिंदी शब्द इंग्लिश में लिखा गया है और यू कर्नाटक लैंग्वेज में लिखा गया है तू जो वहां के टूरिस्ट मिनिस्टर ऑफ यंग गे उन्होंने बोला जैसे बाकी ग्लोबल जो शहर से कितनी यॉर्क सिटी मेलबोर्न सिंगापुर ऐसे सारे सुख ग्लोबल Year फिल्म सिटी है इन सब का एक अपना लोगो है तो बेंगलुरु का भी होना चाहिए और बताइए कि भाग्य से एक चेहरे को यह मिले या नहीं मुझे लगता है किस जरूर उन्हें मिलना चाहिए बातचीत को भी क्योंकि हर एक स्टेट की अपनी कोई ना कोई स्पेशालिटी ज़रूर होती है कोई न कोई खास दिन जरूर होती है तो अगर वह कुछ शब्दों के माध्यम से टूरिस्ट को क्या भारत में लोगों को डिफाइन कर सके उन उन को समझा सके बना सके शहर की विशेषताएं तो इस में कोई हर्ज नहीं है और वैसे भी आज के समय में सारे जो भी फटाफट का जमाना है जिस एकदम से होती है तो अगर एक कुछ शब्द को पूरे शहर का पूरे स्टेट का कोई रीजन की भूमिका समझा सके तो अच्छी ही बात हो गई और गेट ट्रुथ करेगा कि हम भी आगे बढ़ रहे हो और सिर्फ प्रगतिशील रहोगे हम फिर डेवलप्ड कंट्री भी धीरे-धीरे बन ही जाएंगे तो जरूर भाग्य से इसको भी ऐसे लोगों जरूर मिलना चाहिए और ऐसी पहल होनी चाहिएEk Hi Bengaluru Ek Teknolajikal Advance Sheher Hai Aur Yahan Par Dusre Deshon Se Tourist Bahut Jyada Matra Mein Bahut Jyada Sankhya Mein Aate Rehte Hain Us Ghar Mein Sarkar Ko Laga Ki Jaise Jo Tourist Aate Hain Unke Paas Koi Aisi Cheez Kuch Aisa Upahar Hona Chahiye Ya Koi Aisi Yaad Honi Chahiye Jo Ne Bengaluru Mein Wapas Aane Ko Vivash Karen Tujhe Se Karnataka Ke Liye Ek Naya Jhanda Banaya Gaya Hai Waise Hi Sadar Mein Sarkar Ne Bengaluru Ko 1 Logon Diya Jiska Shuru Hindi Shabdh English Mein Likha Gaya Hai Aur You Karnataka Language Mein Likha Gaya Hai Tu Jo Wahan Ke Tourist Minister Of Young Gay Unhone Bola Jaise Baki Global Jo Sheher Se Kitni York City Melborn Singapore Aise Sare Sukh Global Year Film City Hai In Sab Ka Ek Apna Logo Hai To Bengaluru Ka Bhi Hona Chahiye Aur Bataiye Ki Bhagya Se Ek Chehrey Ko Yeh Mile Ya Nahi Mujhe Lagta Hai Kis Jarur Unhen Milna Chahiye Batchit Ko Bhi Kyonki Har Ek State Ki Apni Koi Na Koi Specialty Jarur Hoti Hai Koi N Koi Khas Din Jarur Hoti Hai To Agar Wah Kuch Shabdon Ke Maadhyam Se Tourist Ko Kya Bharat Mein Logon Ko Define Kar Sake Un Un Ko Samjha Sake Bana Sake Sheher Ki Visheshtayen To Is Mein Koi Hirse Nahi Hai Aur Waise Bhi Aaj Ke Samay Mein Sare Jo Bhi Phataphat Ka Jamana Hai Jis Ekdam Se Hoti Hai To Agar Ek Kuch Shabdh Ko Poore Sheher Ka Poore State Ka Koi Reason Ki Bhumika Samjha Sake To Acchi Hi Baat Ho Gayi Aur Get Truth Karega Ki Hum Bhi Aage Badh Rahe Ho Aur Sirf Pragatisheel Rahoge Hum Phir Developed Country Bhi Dhire Dhire Ban Hi Jaenge To Jarur Bhagya Se Isko Bhi Aise Logon Jarur Milna Chahiye Aur Aisi Pahal Honi Chahiye
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर हम देखें कोई भी शहर का लोगों पर नहीं हम बात नहीं है अगर हम दुनिया भर के शहरों की बात करें तो न्यूयॉर्क सिंगापुर मेलबोर्न के बाद बेंगलुरु चौथा ऐसा शहर है जिसके पास अपना खुद का लोगो है अगर बेंगलुरु को लोगों देखकर तो किसके सबसे बी आर यू को हाइलाइट किया गया है लाल किला से पूरा बेंगलुरु में पीएम को लाल किले से हाईलैंड के बाकी सब वाइट कलर से और यह बहुत ही अच्छी बात है क्यों भारत की संस्कृति देखी तो हम कैसे अलग अलग हमारे मैं कल चेयर से अगर अलग-अलग सब बैकग्राउंड है तो इसे एक बात अच्छी और इससे एक यह भी चीज अच्छी है कि इसे जो भी लोग जो दूसरे देश से बेंगलुरु आ रहे हैं उन्हें पता चलेगा कि बेंगलुरु के बारे में उन्हीं लोगों को देख कर पता चलेगा हां यह बेंगलुरु 2019 घूमने में बड़ी आसानी होगी मेरे हिसाब से बाकी सारे प्रमुख शहरों को भी यह मिलना है कि उसकी कसम देकर भारत सरकार ने जो प्रशिक लॉन्च किया है स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट जिसके अंत बेंगलुरु भी आता है और ऐसे कई सारे शहर है जैसे पुणे है पटना अहमदाबाद है सूरत है तू मेरी सबसे धीरे धीरे यह सब शहरों में भी उनका 1 लोगों बनेगा जैसे स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट डेवलप होगा जिससे यह सब चीज लोगों है इससे एक बात साफ हो जाएगी तो किसी की तकलीफ हो रहा है और सब ठीक है और वह शहर के लोग भी एक जान से खुश होंगे कि हमारे शहर का लोगो आ चुका है इतने टाइम बाद आ चुका है जो की बहुत ही अच्छी बात है
Romanized Version
अगर हम देखें कोई भी शहर का लोगों पर नहीं हम बात नहीं है अगर हम दुनिया भर के शहरों की बात करें तो न्यूयॉर्क सिंगापुर मेलबोर्न के बाद बेंगलुरु चौथा ऐसा शहर है जिसके पास अपना खुद का लोगो है अगर बेंगलुरु को लोगों देखकर तो किसके सबसे बी आर यू को हाइलाइट किया गया है लाल किला से पूरा बेंगलुरु में पीएम को लाल किले से हाईलैंड के बाकी सब वाइट कलर से और यह बहुत ही अच्छी बात है क्यों भारत की संस्कृति देखी तो हम कैसे अलग अलग हमारे मैं कल चेयर से अगर अलग-अलग सब बैकग्राउंड है तो इसे एक बात अच्छी और इससे एक यह भी चीज अच्छी है कि इसे जो भी लोग जो दूसरे देश से बेंगलुरु आ रहे हैं उन्हें पता चलेगा कि बेंगलुरु के बारे में उन्हीं लोगों को देख कर पता चलेगा हां यह बेंगलुरु 2019 घूमने में बड़ी आसानी होगी मेरे हिसाब से बाकी सारे प्रमुख शहरों को भी यह मिलना है कि उसकी कसम देकर भारत सरकार ने जो प्रशिक लॉन्च किया है स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट जिसके अंत बेंगलुरु भी आता है और ऐसे कई सारे शहर है जैसे पुणे है पटना अहमदाबाद है सूरत है तू मेरी सबसे धीरे धीरे यह सब शहरों में भी उनका 1 लोगों बनेगा जैसे स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट डेवलप होगा जिससे यह सब चीज लोगों है इससे एक बात साफ हो जाएगी तो किसी की तकलीफ हो रहा है और सब ठीक है और वह शहर के लोग भी एक जान से खुश होंगे कि हमारे शहर का लोगो आ चुका है इतने टाइम बाद आ चुका है जो की बहुत ही अच्छी बात हैAgar Hum Dekhen Koi Bhi Sheher Ka Logon Par Nahi Hum Baat Nahi Hai Agar Hum Duniya Bhar Ke Shaharon Ki Baat Karen To Nyuyark Singapore Melborn Ke Baad Bengaluru Chautha Aisa Sheher Hai Jiske Paas Apna Khud Ka Logo Hai Agar Bengaluru Ko Logon Dekhkar To Kiske Sabse Be R You Ko Highlight Kiya Gaya Hai Lal Kila Se Pura Bengaluru Mein Pm Ko Lal Kile Se Hailaind Ke Baki Sab White Color Se Aur Yeh Bahut Hi Acchi Baat Hai Kyun Bharat Ki Sanskriti Dekhi To Hum Kaise Alag Alag Hamare Main Kal Chair Se Agar Alag Alag Sab Background Hai To Ise Ek Baat Acchi Aur Isse Ek Yeh Bhi Cheez Acchi Hai Ki Ise Jo Bhi Log Jo Dusre Desh Se Bengaluru Aa Rahe Hain Unhen Pata Chalega Ki Bengaluru Ke Baare Mein Unhin Logon Ko Dekh Kar Pata Chalega Haan Yeh Bengaluru 2019 Ghoomne Mein Badi Aasani Hogi Mere Hisab Se Baki Sare Pramukh Shaharon Ko Bhi Yeh Milna Hai Ki Uski Kasam Dekar Bharat Sarkar Ne Jo Prashik Launch Kiya Hai Smart City Project Jiske Ant Bengaluru Bhi Aata Hai Aur Aise Kai Sare Sheher Hai Jaise Pune Hai Patna Ahmedabad Hai Surat Hai Tu Meri Sabse Dhire Dhire Yeh Sab Shaharon Mein Bhi Unka 1 Logon Banega Jaise Smart City Project Develop Hoga Jisse Yeh Sab Cheez Logon Hai Isse Ek Baat Saaf Ho Jayegi To Kisi Ki Takleef Ho Raha Hai Aur Sab Theek Hai Aur Wah Sheher Ke Log Bhi Ek Jaan Se Khush Honge Ki Hamare Sheher Ka Logo Aa Chuka Hai Itne Time Baad Aa Chuka Hai Jo Ki Bahut Hi Acchi Baat Hai
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शाम को बेंगलुरु को जो ऑफिसर लोगों मिला है उससे उससे काफी ज्यादा फायदा होगा जो भी टूरिस्ट मैप होता है हमारा उसके अंदर बेंगलुरु का लोगो देखा है लिखा जाएगा तो लोगों को ध्यान में रहेगा कि हां यह भी एक घूमने की जगह है तो काफी ज्यादा प्रतिष्ठा और काफी ज्यादा सम्मान मिलेगा मिला है बेंगलुरु को इस लोगों से यह पहली कंट्री है भारत में जिसको यह लोग को दिया गया है लोगों की बहुत अच्छे तरीके से बनाया गया बेंगलुरु के अंदर पहले दो शादी और लास्ट का एक शब्द को हाईलाइट लाल में लिखा गया है डॉट s b u और बेंगलुरु को कैसे जानते ही हैं 450 इयर्स का हिस्टोरिक काफी अच्छा रहा है यहां पर काफी अच्छी पोस्ट है उसकी हिस्ट्री रही है अच्छी जगह है घूमने के लिए तो मेरे साथ बात की थी शहर हैं उनको भी ऐसे लोगों मिलना चाहिए जैसे कि दिल्ली हो गया गुड़गांव हो गया नीमराना हो गया ऐसी भी तो जगाए हैं तमिलनाडु बंगाली तो तेरी हो गई इसके अंदर जो जगह हैं इन सब शेरों को भी 1 लोगों मिलना चाहिए ताकि जब भी कोई सूरत घूमने के लिए आए इंडिया में तो उसे पता चले कि हां यह जगह है उसके पास हैं और हम जानते हैं कि इंडिया के अंदर घूमने की जगहों की तो कोई पाबंदी है ही नहीं जितना घूम उतना कम है तो ऐसे हम काफी ज्यादा अच्छे लोगों को काफी ज्यादा शहरों के लोगों से बना सकते हैं किसी टूरिस्ट को भी ऐसा नहीं हो कि उसको पता होगा कि उसको कहां कहां क्या क्या मिल सकता है कहां कहां से घूमना है पर एक बहुत अच्छी आइडेंटिटी है एक शहर के लिए
Romanized Version
शाम को बेंगलुरु को जो ऑफिसर लोगों मिला है उससे उससे काफी ज्यादा फायदा होगा जो भी टूरिस्ट मैप होता है हमारा उसके अंदर बेंगलुरु का लोगो देखा है लिखा जाएगा तो लोगों को ध्यान में रहेगा कि हां यह भी एक घूमने की जगह है तो काफी ज्यादा प्रतिष्ठा और काफी ज्यादा सम्मान मिलेगा मिला है बेंगलुरु को इस लोगों से यह पहली कंट्री है भारत में जिसको यह लोग को दिया गया है लोगों की बहुत अच्छे तरीके से बनाया गया बेंगलुरु के अंदर पहले दो शादी और लास्ट का एक शब्द को हाईलाइट लाल में लिखा गया है डॉट s b u और बेंगलुरु को कैसे जानते ही हैं 450 इयर्स का हिस्टोरिक काफी अच्छा रहा है यहां पर काफी अच्छी पोस्ट है उसकी हिस्ट्री रही है अच्छी जगह है घूमने के लिए तो मेरे साथ बात की थी शहर हैं उनको भी ऐसे लोगों मिलना चाहिए जैसे कि दिल्ली हो गया गुड़गांव हो गया नीमराना हो गया ऐसी भी तो जगाए हैं तमिलनाडु बंगाली तो तेरी हो गई इसके अंदर जो जगह हैं इन सब शेरों को भी 1 लोगों मिलना चाहिए ताकि जब भी कोई सूरत घूमने के लिए आए इंडिया में तो उसे पता चले कि हां यह जगह है उसके पास हैं और हम जानते हैं कि इंडिया के अंदर घूमने की जगहों की तो कोई पाबंदी है ही नहीं जितना घूम उतना कम है तो ऐसे हम काफी ज्यादा अच्छे लोगों को काफी ज्यादा शहरों के लोगों से बना सकते हैं किसी टूरिस्ट को भी ऐसा नहीं हो कि उसको पता होगा कि उसको कहां कहां क्या क्या मिल सकता है कहां कहां से घूमना है पर एक बहुत अच्छी आइडेंटिटी है एक शहर के लिएShaam Ko Bengaluru Ko Jo Officer Logon Mila Hai Usse Usse Kafi Jyada Fayda Hoga Jo Bhi Tourist Map Hota Hai Hamara Uske Andar Bengaluru Ka Logo Dekha Hai Likha Jayega To Logon Ko Dhyan Mein Rahega Ki Haan Yeh Bhi Ek Ghoomne Ki Jagah Hai To Kafi Jyada Prathishtha Aur Kafi Jyada Samman Milega Mila Hai Bengaluru Ko Is Logon Se Yeh Pehli Country Hai Bharat Mein Jisko Yeh Log Ko Diya Gaya Hai Logon Ki Bahut Acche Tarike Se Banaya Gaya Bengaluru Ke Andar Pehle Do Shadi Aur Last Ka Ek Shabdh Ko Highlight Lal Mein Likha Gaya Hai Dot S B U Aur Bengaluru Ko Kaise Jante Hi Hain 450 Years Ka Historic Kafi Accha Raha Hai Yahan Par Kafi Acchi Post Hai Uski History Rahi Hai Acchi Jagah Hai Ghoomne Ke Liye To Mere Saath Baat Ki Thi Sheher Hain Unko Bhi Aise Logon Milna Chahiye Jaise Ki Delhi Ho Gaya Gurgaon Ho Gaya Neemrana Ho Gaya Aisi Bhi To Jagae Hain Tamil Nadu Bengali To Teri Ho Gayi Iske Andar Jo Jagah Hain In Sab Sheroon Ko Bhi 1 Logon Milna Chahiye Taki Jab Bhi Koi Surat Ghoomne Ke Liye Aaye India Mein To Use Pata Chale Ki Haan Yeh Jagah Hai Uske Paas Hain Aur Hum Jante Hain Ki India Ke Andar Ghoomne Ki Jagho Ki To Koi Pabandi Hai Hi Nahi Jitna Ghum Utana Kum Hai To Aise Hum Kafi Jyada Acche Logon Ko Kafi Jyada Shaharon Ke Logon Se Bana Sakte Hain Kisi Tourist Ko Bhi Aisa Nahi Ho Ki Usko Pata Hoga Ki Usko Kahan Kahan Kya Kya Mil Sakta Hai Kahan Kahan Se Ghumana Hai Par Ek Bahut Acchi Identity Hai Ek Sheher Ke Liye
Likes  5  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेंगलुरु एक मल्टी कल्चरल और आईटी हब ऑफ इंडिया है इस शहर में अलग-अलग देशों से अलग-अलग शहरों से लोग आते हैं अपना करियर घूमने के लिए एक्स्प्लोरर करने के लिए पढ़ाई के लिए एडवांस है यह कुत्ता झंडा है तो इसी वजह से और एक ग्लोबल ग्लोबल पे कमीशन देने के लिए बेंगलुरु को अपना लोगो दिया गया है जिसमें की पहला लेटर इंग्लिश में पांच वाक्य लिखे गए वह कनाडा में लिखी गई है तो यह बहुत बहुत प्राउड की बात है और और भारत में पहली स्थिति है जिसको अपना लोगों मिला है तो यह बहुत गर्व की बात है और यहां तक कि टूरिज्म में भी बहुत सहायता करेगी जो दूसरे देशों से लोगों पर लोग कर्नाटका बेंगलुरु आते हैं तो कहना लोगों ने बहुत एडवांटेज देवी इंटर टूरिज्म के हिसाब से लोगों को कहना कि वह इनमें से किस जगह को जो लोगों मिलाएं कहीं ना फिर कुछ ना कुछ तो हमें तो क्या मस्त विजिट करना ही है यह जगह जाती है कि दूसरों को लोगों मिलने की तो हां बिल्कुल आज बहुत मुख्य शहर है इस देश के जो कि और बहुत अच्छा कर रहे हैं चाहे वह टूरिज्म हो यह दूसरी सेगमेंट में हो तो उन्हें भी अपना मिलना चाहिए चाहे वह दिल्ली हो मुंबई हो पुणे हो उन्हें भी अपना लोगो जरूर मिलना चाहिए
Romanized Version
बेंगलुरु एक मल्टी कल्चरल और आईटी हब ऑफ इंडिया है इस शहर में अलग-अलग देशों से अलग-अलग शहरों से लोग आते हैं अपना करियर घूमने के लिए एक्स्प्लोरर करने के लिए पढ़ाई के लिए एडवांस है यह कुत्ता झंडा है तो इसी वजह से और एक ग्लोबल ग्लोबल पे कमीशन देने के लिए बेंगलुरु को अपना लोगो दिया गया है जिसमें की पहला लेटर इंग्लिश में पांच वाक्य लिखे गए वह कनाडा में लिखी गई है तो यह बहुत बहुत प्राउड की बात है और और भारत में पहली स्थिति है जिसको अपना लोगों मिला है तो यह बहुत गर्व की बात है और यहां तक कि टूरिज्म में भी बहुत सहायता करेगी जो दूसरे देशों से लोगों पर लोग कर्नाटका बेंगलुरु आते हैं तो कहना लोगों ने बहुत एडवांटेज देवी इंटर टूरिज्म के हिसाब से लोगों को कहना कि वह इनमें से किस जगह को जो लोगों मिलाएं कहीं ना फिर कुछ ना कुछ तो हमें तो क्या मस्त विजिट करना ही है यह जगह जाती है कि दूसरों को लोगों मिलने की तो हां बिल्कुल आज बहुत मुख्य शहर है इस देश के जो कि और बहुत अच्छा कर रहे हैं चाहे वह टूरिज्म हो यह दूसरी सेगमेंट में हो तो उन्हें भी अपना मिलना चाहिए चाहे वह दिल्ली हो मुंबई हो पुणे हो उन्हें भी अपना लोगो जरूर मिलना चाहिएBengaluru Ek Multi Cultural Aur It Hub Of India Hai Is Sheher Mein Alag Alag Deshon Se Alag Alag Shaharon Se Log Aate Hain Apna Career Ghoomne Ke Liye Explorer Karne Ke Liye Padhai Ke Liye Advance Hai Yeh Kutta Jhanda Hai To Isi Wajah Se Aur Ek Global Global Pe Commision Dene Ke Liye Bengaluru Ko Apna Logo Diya Gaya Hai Jisme Ki Pehla Letter English Mein Paanch Vaakya Likhe Gaye Wah Canada Mein Likhi Gayi Hai To Yeh Bahut Bahut Proud Ki Baat Hai Aur Aur Bharat Mein Pehli Sthiti Hai Jisko Apna Logon Mila Hai To Yeh Bahut Garv Ki Baat Hai Aur Yahan Tak Ki Tourism Mein Bhi Bahut Sahaayata Karegi Jo Dusre Deshon Se Logon Par Log Karnataka Bengaluru Aate Hain To Kehna Logon Ne Bahut Advantage Devi Inter Tourism Ke Hisab Se Logon Ko Kehna Ki Wah Inme Se Kis Jagah Ko Jo Logon Milayain Kahin Na Phir Kuch Na Kuch To Hume To Kya Mast Visit Karna Hi Hai Yeh Jagah Jati Hai Ki Dusron Ko Logon Milne Ki To Haan Bilkul Aaj Bahut Mukhya Sheher Hai Is Desh Ke Jo Ki Aur Bahut Accha Kar Rahe Hain Chahe Wah Tourism Ho Yeh Dusri Segment Mein Ho To Unhen Bhi Apna Milna Chahiye Chahe Wah Delhi Ho Mumbai Ho Pune Ho Unhen Bhi Apna Logo Jarur Milna Chahiye
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे बेंगलुरु का ऑफिशियल लोगों मिला है यह अच्छी बात है जो कि एक इंडिया की पहली सिटी है जिसके पास खुद का लोगो है अभी बेंगलुरु सिटी का कॉस्मोपॉलिटन नहीं सर यह लोग ओशो करता है मेरे हिसाब से तो हां प्रमुख शहरों को भी यह लोगों मिलना चाहिए जैसे की धनि हो जयपुर हो या उड़ीसा का भुवनेश्वर हो सके कि यह सिटीज भी अपना कल्चर एजुकेशन के सारे पॉजिटिव पॉइंट्स ों करती है अगर इन शहरों को लोगों मिलने के बाद इशारों को अगर लोगों मिला तो उनको भी इंटरनेशनल लेवल पर एक पहचान मिलेगी जैसे कि अभी बेंगलुरु का देखा जाए तो यह लोग जो है वह रेड एंड वाइट में है लेकिन यह बात को संबोधित करता है कि यह सिटी को लोगों ने ऐसे टूरिस्ट डेस्टिनेशन देखना चाहिए ना की शिप आईटी हब या सिर्फ सिटी ऑफिस स्टार्ट अप और एक न्यूज़ के तहत यह भी कहा गया है यह लोगों इस सिटी की ब्रांडिंग करने में और उसका कल्चर शो करने में वाक्य ही 51 तो मेरे ख्याल से बाकी शहरों को भी मदर इंडिया के बाकी सब मुझे समझना चाहिए
Romanized Version
मुझे बेंगलुरु का ऑफिशियल लोगों मिला है यह अच्छी बात है जो कि एक इंडिया की पहली सिटी है जिसके पास खुद का लोगो है अभी बेंगलुरु सिटी का कॉस्मोपॉलिटन नहीं सर यह लोग ओशो करता है मेरे हिसाब से तो हां प्रमुख शहरों को भी यह लोगों मिलना चाहिए जैसे की धनि हो जयपुर हो या उड़ीसा का भुवनेश्वर हो सके कि यह सिटीज भी अपना कल्चर एजुकेशन के सारे पॉजिटिव पॉइंट्स ों करती है अगर इन शहरों को लोगों मिलने के बाद इशारों को अगर लोगों मिला तो उनको भी इंटरनेशनल लेवल पर एक पहचान मिलेगी जैसे कि अभी बेंगलुरु का देखा जाए तो यह लोग जो है वह रेड एंड वाइट में है लेकिन यह बात को संबोधित करता है कि यह सिटी को लोगों ने ऐसे टूरिस्ट डेस्टिनेशन देखना चाहिए ना की शिप आईटी हब या सिर्फ सिटी ऑफिस स्टार्ट अप और एक न्यूज़ के तहत यह भी कहा गया है यह लोगों इस सिटी की ब्रांडिंग करने में और उसका कल्चर शो करने में वाक्य ही 51 तो मेरे ख्याल से बाकी शहरों को भी मदर इंडिया के बाकी सब मुझे समझना चाहिएMujhe Bengaluru Ka Official Logon Mila Hai Yeh Acchi Baat Hai Jo Ki Ek India Ki Pehli City Hai Jiske Paas Khud Ka Logo Hai Abhi Bengaluru City Ka Cosmopolitan Nahi Sar Yeh Log Osho Karta Hai Mere Hisab Se To Haan Pramukh Shaharon Ko Bhi Yeh Logon Milna Chahiye Jaise Ki Dhani Ho Jaipur Ho Ya Oddisha Ka Bhubaneswar Ho Sake Ki Yeh Cities Bhi Apna Culture Education Ke Sare Positive Points On Karti Hai Agar In Shaharon Ko Logon Milne Ke Baad Ishaaron Ko Agar Logon Mila To Unko Bhi International Level Par Ek Pehchaan Milegi Jaise Ki Abhi Bengaluru Ka Dekha Jaye To Yeh Log Jo Hai Wah Red End White Mein Hai Lekin Yeh Baat Ko Sambodhit Karta Hai Ki Yeh City Ko Logon Ne Aise Tourist Destination Dekhna Chahiye Na Ki Ship It Hub Ya Sirf City Office Start Up Aur Ek News Ke Tahat Yeh Bhi Kaha Gaya Hai Yeh Logon Is City Ki Branding Karne Mein Aur Uska Culture Show Karne Mein Vaakya Hi 51 To Mere Khayal Se Baki Shaharon Ko Bhi Mother India Ke Baki Sab Mujhe Samajhna Chahiye
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Bengaluru Ko Official Logo Mila Hai Kya Sabhi Pramukh Shaharon Ko Bhi Logo Milna Chahiye Kyon,Bangalore Has Got An Official Logo, Should All The Major Cities Also Get The Logo? Why?,


vokalandroid