search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

कैरियर के चुनाव में असमंजस की स्थिति रहती है आपने भी कुछ ऐसा महसूस किया है| अपना तज़ुर्बा बताइए? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी आपने बिल्कुल सही कहा कि कैरियर के चुनाव में असमंजस की स्थिति रहती है कितने ही कारण हो सकते हैं जैसे कि एक कारण आपकी आर्थिक स्थिति यदि आपकी आर्थिक स्थिति खराब है और आप चाहते हैं कि कुछ बड़ी तैयारी करें या कुछ बड़ा काम करें तो आप नहीं कर सकते क्योंकि आपके पास इतने पैसे नहीं है तो आपकी इच्छा तो है लेकिन आप उसका चुनाव नहीं कर सकते और ऐसा भी होता है कि एक तरफ तो आप का चुनाव है कि आप यह करेंगे और दूसरा आपके परिवार वाले आपको खुशी दूसरी रास्ते पर जाना चाहते हैं जाने के लिए कहते हैं कि आप इसमें काम करने चाहिए तो भी आपको असमंजस की स्थिति बन जाती है कि अब क्या करना चाहिए इतने लोगों को रोस्ट करें कि अपने मन की करें तो ऐसे में आप को शांत मन से अपने मन की आवाज सुनना चाहिए मन इसके लिए जाना कह रहा है उसका ही चयन करना चाहिए मैंने अपनी लाइफ में ऐसा किया कि मैं किसी जीवन की किसी दोराहे पर खड़ा हूं जिसमें मुझे लगता है कि यह करना चाहिए कि एक आना चाहिए मैं मतलब कोई डिसीजन नहीं दे सकता उस वक्त मैं करता हूं मैं अपनी पूजनीय देवता मैं जैसे भगवान् श्रीकृष्ण को अधिक मानता हूं तो उनके पास जाता हूं और 2 पर्ची रखता हूं और एक पर्ची में उस पक्ष को जैसे मैं नहीं चाहता हूं और मतलब बराबर चाहता हूं और एक स्थिति में दूसरे को रखता हूं और फिर उस उन पक्षियों को घुमा कर उनमें से एक पर्ची उठा लेता हूं और उसे ही अंतिम निर्णय मानता हूं
Romanized Version
जी आपने बिल्कुल सही कहा कि कैरियर के चुनाव में असमंजस की स्थिति रहती है कितने ही कारण हो सकते हैं जैसे कि एक कारण आपकी आर्थिक स्थिति यदि आपकी आर्थिक स्थिति खराब है और आप चाहते हैं कि कुछ बड़ी तैयारी करें या कुछ बड़ा काम करें तो आप नहीं कर सकते क्योंकि आपके पास इतने पैसे नहीं है तो आपकी इच्छा तो है लेकिन आप उसका चुनाव नहीं कर सकते और ऐसा भी होता है कि एक तरफ तो आप का चुनाव है कि आप यह करेंगे और दूसरा आपके परिवार वाले आपको खुशी दूसरी रास्ते पर जाना चाहते हैं जाने के लिए कहते हैं कि आप इसमें काम करने चाहिए तो भी आपको असमंजस की स्थिति बन जाती है कि अब क्या करना चाहिए इतने लोगों को रोस्ट करें कि अपने मन की करें तो ऐसे में आप को शांत मन से अपने मन की आवाज सुनना चाहिए मन इसके लिए जाना कह रहा है उसका ही चयन करना चाहिए मैंने अपनी लाइफ में ऐसा किया कि मैं किसी जीवन की किसी दोराहे पर खड़ा हूं जिसमें मुझे लगता है कि यह करना चाहिए कि एक आना चाहिए मैं मतलब कोई डिसीजन नहीं दे सकता उस वक्त मैं करता हूं मैं अपनी पूजनीय देवता मैं जैसे भगवान् श्रीकृष्ण को अधिक मानता हूं तो उनके पास जाता हूं और 2 पर्ची रखता हूं और एक पर्ची में उस पक्ष को जैसे मैं नहीं चाहता हूं और मतलब बराबर चाहता हूं और एक स्थिति में दूसरे को रखता हूं और फिर उस उन पक्षियों को घुमा कर उनमें से एक पर्ची उठा लेता हूं और उसे ही अंतिम निर्णय मानता हूंJi Aapne Bilkul Sahi Kaha Ki Carrier Ke Chunav Mein Asamanjas Ki Sthiti Rehti Hai Kitne Hi Kaaran Ho Sakte Hain Jaise Ki Ek Kaaran Aapki Aarthik Sthiti Yadi Aapki Aarthik Sthiti Kharaab Hai Aur Aap Chahte Hain Ki Kuch Badi Taiyari Karein Ya Kuch Bada Kaam Karein Toh Aap Nahi Kar Sakte Kyonki Aapke Paas Itne Paise Nahi Hai Toh Aapki Iccha Toh Hai Lekin Aap Uska Chunav Nahi Kar Sakte Aur Aisa Bhi Hota Hai Ki Ek Taraf Toh Aap Ka Chunav Hai Ki Aap Yeh Karenge Aur Doosra Aapke Parivar Wale Aapko Khushi Dusri Raste Par Jana Chahte Hain Jaane Ke Liye Kehte Hain Ki Aap Ismein Kaam Karne Chahiye Toh Bhi Aapko Asamanjas Ki Sthiti Ban Jati Hai Ki Ab Kya Karna Chahiye Itne Logon Ko Roast Karein Ki Apne Man Ki Karein Toh Aise Mein Aap Ko Shaant Man Se Apne Man Ki Awaaz Sunana Chahiye Man Iske Liye Jana Keh Raha Hai Uska Hi Chayan Karna Chahiye Maine Apni Life Mein Aisa Kiya Ki Main Kisi Jeevan Ki Kisi Dorahe Par Khada Hoon Jisme Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Karna Chahiye Ki Ek Aana Chahiye Main Matlab Koi Decision Nahi De Sakta Us Waqt Main Karta Hoon Main Apni Pujaniya Devta Main Jaise Bhagwan Shrikrishna Ko Adhik Manata Hoon Toh Unke Paas Jata Hoon Aur 2 Parchi Rakhta Hoon Aur Ek Parchi Mein Us Paksh Ko Jaise Main Nahi Chahta Hoon Aur Matlab Barabar Chahta Hoon Aur Ek Sthiti Mein Dusre Ko Rakhta Hoon Aur Phir Us Un Pakshiyo Ko Ghuma Kar Unmen Se Ek Parchi Utha Leta Hoon Aur Use Hi Antim Nirnay Manata Hoon
Likes  14  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

ques_icon

ques_icon

ques_icon

ques_icon

अधिक जवाब


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज क्या कुछ बचने के कैरियर के चुनाव में असमंजस की स्थिति रहती है तो इसमें जो है हर कोई कंफ्यूज रहता है अगर उसको अच्छी गाइडेंस मिले तो वह अपने लक्ष्य तक जो है पहुंच सकता है इसलिए जो है आप जो है काउंसलिंग करवा सकते हैं या नहीं कि जो अच्छे कॉलेज कि जो प्रोफेसर होते हैं या लेक्चरर होते हैं उन से मदद ले सकते हैं इसके नहीं तो आपको एचडी काउंसलिंग जो है वह करवा सकते हैं जिसकी मदद से जो है आप अपने करियर के चुनाव को चुन चुन सकते हैं
Romanized Version
आज क्या कुछ बचने के कैरियर के चुनाव में असमंजस की स्थिति रहती है तो इसमें जो है हर कोई कंफ्यूज रहता है अगर उसको अच्छी गाइडेंस मिले तो वह अपने लक्ष्य तक जो है पहुंच सकता है इसलिए जो है आप जो है काउंसलिंग करवा सकते हैं या नहीं कि जो अच्छे कॉलेज कि जो प्रोफेसर होते हैं या लेक्चरर होते हैं उन से मदद ले सकते हैं इसके नहीं तो आपको एचडी काउंसलिंग जो है वह करवा सकते हैं जिसकी मदद से जो है आप अपने करियर के चुनाव को चुन चुन सकते हैंAaj Kya Kuch Bachne Ke Carrier Ke Chunav Mein Asamanjas Ki Sthiti Rehti Hai Toh Ismein Jo Hai Har Koi Confuse Rehta Hai Agar Usko Acchi Guidance Mile Toh Wah Apne Lakshya Tak Jo Hai Pahunch Sakta Hai Isliye Jo Hai Aap Jo Hai Counseling Karva Sakte Hain Ya Nahi Ki Jo Acche College Ki Jo Professor Hote Hain Ya Lecturer Hote Hain Un Se Madad Le Sakte Hain Iske Nahi Toh Aapko Hd Counseling Jo Hai Wah Karva Sakte Hain Jiski Madad Se Jo Hai Aap Apne Career Ke Chunav Ko Chun Chun Sakte Hain
Likes  13  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Carrier Ke Chunav Mein Asamanjas Ki Sthiti Rehti Hai Aapne Bhi Kuch Aisa Mahsus Kiya Hai Apna Tazurba Bataiye,There Is Confusion In The Choice Of Career. You Have Also Felt Something Like This. Tell Your Experience?,


vokalandroid