UP सरकार ने बी.आर अम्बेडकर की मृत्यु बरसी पर पब्लिक हॉलिडे को रद्द क्यों किए हैं ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी राजनीतिक दल सत्ता में आने के बाद अपनी विचारधारा से जुड़े लोकप्रिय नेताओं के नाम पर सड़कों भवनों योजना व कार्यक्रम की शुरुआत करती है यह काम किसी रिवाज है जानी मानी शख्सियतों के जन्मदिन या पुण्यत...
जवाब पढ़िये
कोई भी राजनीतिक दल सत्ता में आने के बाद अपनी विचारधारा से जुड़े लोकप्रिय नेताओं के नाम पर सड़कों भवनों योजना व कार्यक्रम की शुरुआत करती है यह काम किसी रिवाज है जानी मानी शख्सियतों के जन्मदिन या पुण्यतिथि पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित करना भी इसी की एक कड़ी है ज्यादातर मामलों में इसके पीछे मंशा संबंधित शक्तियों शख्सियतों के प्रति सम्मान प्रकट करने से ज्यादा किसी खास सामाजिक वर्ग के बीच फैट बढ़ाने और चुनाव में इसका फायदा उठाने की अधिक होती है मायावती ने अंबेडकर की पुण्यतिथि पर अवकाश को समाप्त कर दिया था लेकिन दलित वर्गों के बीच अपनी पैठ बनाने के लिए अखिलेश यादव ने फिर से अवकाश घोषित कर दिया था पर अब जहां तक योगी जी का सवाल है तो उनकी छवि वैसे ही दलित विरोधी है और कसरत करने के मुद्दे पर हैरानी नहीं होनी चाहिएKoi Bhi Rajnitik Dal Satta Mein Aane Ke Baad Apni Vichardhara Se Jude Lokpriya Netaon Ke Naam Par Sadkon Bhavno Yojana V Karyakram Ki Shuruvat Karti Hai Yeh Kaam Kisi Rivaaj Hai Jani Maani Shakhsiyaton Ke Janamdin Ya Punyatithi Par Rashtriya Awakash Ghoshit Karna Bhi Isi Ki Ek Kadi Hai Jyadatar Mamlon Mein Iske Piche Mansha Sambandhit Shaktiyon Shakhsiyaton Ke Prati Samman Prakat Karne Se Jyada Kisi Khas Samajik Varg Ke Beech Fat Badhane Aur Chunav Mein Iska Fayda Uthane Ki Adhik Hoti Hai Mayawati Ne Ambedkar Ki Punyatithi Par Awakash Ko Samapt Kar Diya Tha Lekin Dalit Vargon Ke Beech Apni Paith Banane Ke Liye Akhilesh Yadav Ne Phir Se Awakash Ghoshit Kar Diya Tha Par Ab Jahan Tak Yogi Ji Ka Sawal Hai To Unki Chawi Waise Hi Dalit Virodhi Hai Aur Kasrat Karne Ke Mudde Par Hairanee Nahi Honi Chahiye
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदित्य योगी आदित्यनाथ जी जब तेज पर कमेंट में आई हे चीफ मिनिस्टर बंद कर सकते ऐसी को 15 छुट्टियों को कैंसिल कर चुके हैं जो कि एक गांव में समाजवादी पार्टी ने किया था उनके हिसाब से क्या होता है क्या मुझे ...
जवाब पढ़िये
आदित्य योगी आदित्यनाथ जी जब तेज पर कमेंट में आई हे चीफ मिनिस्टर बंद कर सकते ऐसी को 15 छुट्टियों को कैंसिल कर चुके हैं जो कि एक गांव में समाजवादी पार्टी ने किया था उनके हिसाब से क्या होता है क्या मुझे योगी को क्या मानना है कि जो एकेडमी स्टेशन है वह यूज़ हो गया था इन छुट्टियों की वजह से उनके साथ सिलेबस पूरा करने में बहुत प्रॉब्लम होती थी और बच्चों को ऐसे ही ऐसे पासवर्ड इसके बारे में कुछ नहीं पता नहीं भीमराव अंबेडकर किस जाति क्या थी उन्होंने हमारे देश के लिए क्या काम किया लोगों को नहीं पता चलता है हमारे जंभेश्वर को नहीं पता चला इसलिए और उनकी जिंदगी का प्रोग्राम रखो उनके बारे में पता चलेAditya Yogi Adityanath Ji Jab Tez Par Comment Mein Eye He Chief Minister Band Kar Sakte Aisi Ko 15 Chhuttiyon Ko Cancel Kar Chuke Hain Jo Ki Ek Gav Mein Samajwadi Party Ne Kiya Tha Unke Hisab Se Kya Hota Hai Kya Mujhe Yogi Ko Kya Manana Hai Ki Jo Academy Station Hai Wah Use Ho Gaya Tha In Chhuttiyon Ki Wajah Se Unke Saath Syllabus Pura Karne Mein Bahut Problem Hoti Thi Aur Bacchon Ko Aise Hi Aise Password Iske Baare Mein Kuch Nahi Pata Nahi Bhimrao Ambedkar Kis Jati Kya Thi Unhone Hamare Desh Ke Liye Kya Kaam Kiya Logon Ko Nahi Pata Chalta Hai Hamare Jambheshwar Ko Nahi Pata Chala Isliye Aur Unki Zindagi Ka Program Rakho Unke Baare Mein Pata Chale
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बदली डर लगता है क्या रे सरदार कितने का फायदा रिपब्लिक डे हॉलीडे होटल दिखाएं तो कुछ ना कुछ...
जवाब पढ़िये
बदली डर लगता है क्या रे सरदार कितने का फायदा रिपब्लिक डे हॉलीडे होटल दिखाएं तो कुछ ना कुछBadli Dar Lagta Hai Kya Ray Sardar Kitne Ka Fayda Republic Day Hollyday Hotel Dikhaen To Kuch Na Kuch
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी को ऐसा महसूस हुआ कि के बौद्ध एनिवर्सरी जो है या फिर डेथ एनिवर्सरी थी अंबेडकर साहब की इन दिनों में छुट्टियों की वजह से थैंक होता जा रहा था सि...
जवाब पढ़िये
ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी को ऐसा महसूस हुआ कि के बौद्ध एनिवर्सरी जो है या फिर डेथ एनिवर्सरी थी अंबेडकर साहब की इन दिनों में छुट्टियों की वजह से थैंक होता जा रहा था सिकुड़ता जा रहा था जो वह फैशन है एजुकेशन अल्सेशियन है वह तो उनके मन में ख्याल आया कि क्यों ना इन दिनों पर छुट्टियां जो है उन को रद्द कर के स्कूल और कॉलेज के बच्चों को उन दिनों इन महानुभावों के बारे में और ज्यादा बताया जाए उन से रूबरू करवाया जाए तो वह ख्याल था इसके पीछे कहीं ना कहीं और पूरी तरीके से इंग्लिश नहीं हुआ है अभी भी अगर आप एक गवर्नमेंट एंप्लोई है तो उन दिनों पर रिस्ट्रिक्टेड हॉलिडे ऑफ अपील कर सकते हैं ले सकते हैं तो पूरी तरीके से यह छुट्टियां खत्म नहीं होते अंबेडकर जयंती को ही खत्म करने की बात नहीं की गई है कर्पूरी ठाकुर का जो जन्म दिवस है उसको भी हटाया गया है उसके अलावा और भी हैं चौधरी चरण सिंह जयंती उसको हटा आ गया है आप महाराणा प्रताप जयंती उसको भी खत्म करने की बात कही गई तो यह इसके और भी पहलू हैं जिनको आप को ध्यान में रखना पड़ेगाAisa Isliye Kiya Gaya Kyonki Up Ke Mukhyamantri Adityanath Ji Ko Aisa Mahsus Hua Ki Ke Baudh Anniversary Jo Hai Ya Phir Death Anniversary Thi Ambedkar Sahab Ki In Dinon Mein Chhuttiyon Ki Wajah Se Thank Hota Ja Raha Tha Sikudata Ja Raha Tha Jo Wah Fashion Hai Education Alseshiyan Hai Wah To Unke Man Mein Khayal Aaya Ki Kyun Na In Dinon Par Chutiyan Jo Hai Un Ko Radd Kar Ke School Aur College Ke Bacchon Ko Un Dinon In Mahanubhavon Ke Baare Mein Aur Jyada Bataya Jaye Un Se Rubru Karvaya Jaye To Wah Khayal Tha Iske Piche Kahin Na Kahin Aur Puri Tarike Se English Nahi Hua Hai Abhi Bhi Agar Aap Ek Government Employee Hai To Un Dinon Par Ristrikted Holiday Of Appeal Kar Sakte Hain Le Sakte Hain To Puri Tarike Se Yeh Chutiyan Khatam Nahi Hote Ambedkar Jayanti Ko Hi Khatam Karne Ki Baat Nahi Ki Gayi Hai Karpuri Thakur Ka Jo Janm Divas Hai Usko Bhi Hataya Gaya Hai Uske Alava Aur Bhi Hain Choudhary Charan Singh Jayanti Usko Hata Aa Gaya Hai Aap Maharana Pratap Jayanti Usko Bhi Khatam Karne Ki Baat Kahi Gayi To Yeh Iske Aur Bhi Pahaloo Hain Jinako Aap Ko Dhyan Mein Rakhna Padega
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: UP Sarkar Ne B R Ambedkar Ki Mrityu Barsi Par Public Holiday Ko Radd Kyon Kiye Hain ?, Why Did The UP Government Cancel Ambedkar's Death To Public Holidays?

vokalandroid